GLIBS
15-02-2020
लापता हुए मासूम की लाश मिली कुएं में,परिजनों ने जताया हत्या का संदेह

कोरबा। आरा मशीन पारा से लापता हुए 8 वर्षीय बालक का शव कुएं में मिलने से आस-पास के इलाके में सनसनी फैल गई। मामला रामपुर चौकी क्षेत्र के आरा मशीन का है जहां 12 फरवरी से अभिषेक नामक बालक के गुमशुदगी की शिकायत परिजनों ने दर्ज कराई थी, जिसकी तलाश की जा रही थी। शनिवार सुबह आरा मशीन के एक कुएं में एक बालक का शव मिला जिसकी सूचना पुलिस को दी गई। बच्चे की पहचान अभिषेक साहू के रूप में हुई जिसका पंचनामा कर शव को पोस्टमार्टम के लिए जिला अस्पताल भेजा गया। परिजनों ने हत्या का संदेह जताया है। पुलिस पी एम रिपोर्ट के आधार पर आगे की करवाई की बात कह रही है।

 

14-02-2020
बाइक सवार तीन लोगों को ट्रक ने मारी टक्कर,1 की मौत 2 लोग घायल

जांजगीर चाम्पा। मालखरौदा थाना क्षेत्र अंतरगत ग्राम भेडिकोना में तेज रफ्तार ट्रक ने पीछे से बाइक सवार दंपत्ति को ठोकर मार दी। बाइक में तीन लोग सवार थे। हादसे में महिला की मौके परमौत हो गयी और 2 लोग घायल हो गए है। जिन्हे अस्पताल भर्ती कराया गया है। वहीं गुस्साए ग्रामीणों ने चक्काजाम कर दिया है। दरसअल पूरा पूरा मामला मालखरौदा थाना क्षेत्र के ग्राम भेड़ीकोना की है। जहां मुड़पार निवासी अजय धुर्वे, बहरतीन बाई साहू, पार्वती साहू अपनी  बाइक से लगभग 9:30 बजे हसौद की ओर जा रहे थे कि अचानक से पीछे से आ रही ट्रक ने ठोकर मार दी। वहीं ठोकर लगने से बहरतीन बाई की मौके पर ही मौत हो गई। वहीं दो लोग घायल हो गए जिन्हें अस्पताल में भर्ती कराया गया है। वहीं गुस्साए ग्रामीणों ने लगभग घंटों चक्काजाम कर दिया जिसके बाद मौके पर पुलिस ने पहुंच ग्रामीणों को समझाइश देते हुए चक्काजाम को हटाकर शव को पंचनामा कर पोस्टमार्टम के लिए भेजा गया है और पुलिस जांच में जुट गई है।

 

30-01-2020
भाई, बहू, भतीजे की हत्या का मामला, आरोपियों ने किया आत्मसमर्पण

रायपुर। प्रदेश के बेमेतरा जिले के नवागढ़ के रनबोड गांव में एक किसान ने अपने बेटे के साथ मिलकर अपने ही भाई,बहू और भतीजे की कुल्हाड़ी से हत्या कर दी थी। गुरुवार को हत्यारे भाई ने थाने में आत्मसमर्पण कर दिया। बता दें कि हत्या के पीेछे का कारण बेर का पेड़ था,जो कि दूसरे भाई के खेत के मेड़ पर था और इसके काटे जाने के कारण विवाद हुआ। फिलहाल पुलिस आरोपियों से पूछताछ कर रही है। घटना बीते दिन की है। जब नवागढ़ थाना क्षेत्र के रनबोड़ में संतराम साहू अपनी पत्नी निर्मला, बेटे कोमल, खूबन के साथ खेत में कचरा साफ कर रहे थे। तभी संतराम के भाई केजूराम अपने दोनों बेटों मोहन और जोहन के साथ खेत में पहुंचा। जोहन खेत की मेड़ पर लगे बेर के पेड़ को काटने लगा,जिसका संतराम ने विरोध किया।

इस बात को लेकर दोनों ही परिवारों में विवाद हो गया और आवेश में आकर जोहन ने संतराम की गर्दन पर टंगिया से वार कर दिया। संतराम गिरकर छटपटाता रहा और थोड़ी देर में उसकी मौत हो गई। वारदात के बाद चचेरा भाई विक्रम ने कुल्हाड़ी से हमला कर संतराम की पत्नी निर्मला की हत्या कर दी। जोहन ने छोटे बेटे खूबन की कुल्हाड़ी से वार कर हत्या कर दी, वहीं आरोपियों के हमले में जैसे-तैसे कोमल जान बचाकर किसी तरह गांव की ओर भागा, जिसके कारण उसकी जान बच गई। मौके पर पहुंची बेमेतरा नवागढ़ पुलिस ने शव का पंचनामा कर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया,जिसके बाद तीनों आरोपियों ने थाने में आत्मसमर्पण कर दिया है।

 

24-01-2020
चार दिन पहले गुम हुए व्यक्ति का तालाब में तैरते मिला शव

बेमेतरा। जिला मुख्यालय से 12 किमी दूर ग्राम बहेरा के बड़े तालाब में 41 वर्षीय व्यक्ति का शव तैरते हुए मिला। मामले की सुचना पर पहुंची पुलिस ने हत्या की आशंका जताई है। व्यक्ति के सिर पर संघातिक चोट का निशान है। युवक 21 जनवरी की शाम से लापता था। पुलिस ने शव का पंचनामा कर पोस्टमार्टम के लिए जिला चिकित्सालय भिजवाया है। साथ ही पुलिस ने घटना स्थल पर फैले खून का सैम्पल कलेक्ट किया है। वहीं मामले में पुलिस ने अज्ञात आरोपी के खिलाफ धारा 302 पंजीबद्ध कर आरोपी की सरगर्मी से तलाश कर रही है। जानकारी अनुसार बीते 21 जनवरी की शाम 4 बजे से हुलास राम साहू घर से कह कर निकला था कि खेत जा रहा हुं फसल को देखने। जिसके बाद से परिजनों ने हुलास के सुबह तक घर नही आने पर सम्बंधित सभी स्थानों पर पतासाजी की। नही मिलने पर परिजनों ने सिटी कोतवाली में गुमसुदगी की रिपोर्ट दर्ज करवाई थी। जहाँ 24 जनवरी को सुबह लगभग 11 बजे ग्रामीणों ने देखा कि तालाब में झुके हुए पेड़ की टहनियों के बीच शव तैरते हुए फंसा है, जिसकी सूचना कोटवार व पुलिस को दी गई। सूचना मिलते ही एसडीओपी राजीव शर्मा, थाना प्रभारी राजेश मिश्रा अपने पुलिस टीम के साथ  घटना स्थल पहुचे और जांच कार्यवाही कर साक्ष्य एकत्र किवे तथा शव को तालाब से बाहर निकाला। शव का पंचनामा कर पोस्टमार्टम के लिए जिला अस्पताल भिजवाया। 

 

18-01-2020
पुलिस ने सुलझाई सावित्री हत्याकांड की गुत्थी, आरोपी को किया गिरफ्तार

कोरिया। गोदरीपारा घटना के संबंध में पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार बीते शुक्रवार की सुबह चिरमिरी पुलिस को गोदरीपारा के फेकू दफाई के पास सावित्री सिंह गौड़ नामक महिला की नग्न अवस्था में फेकू दफाई के सामने पहाड़ के झाड़ियों के अंदर शव होने की जानकारी मिली थी। जिस पर चिरमिरी पुलिस द्वारा मर्ग कायम कर जांच पंचनामा कार्यवाही किया गया वहीं डॉक्टर के पोस्टमार्टम रिपोर्ट में भी प्रथम दृष्टया में महिला की हत्या होने की जानकारी मिली थी। उक्त घटना के तत्काल बाद कोरिया पुलिस अधीक्षक चंद्र मोहन सिंह ने कार्यवाही के निर्देश देते हुए आरोपी हत्यारी की पता शादगी हेतु नगर पुलिस अधीक्षक वीपी सिंह के मार्गदर्शन में टीम गठित कर मामले को गंभीरता पूर्वक पुलिस ने जब मामले की जांच की तब पता चला कि गोदरीपारा निवासी गुन्नू दास 20 वर्ष को संदेह हैं उसीआधार पर हिरासत में लेकर कड़ी पूछताछ की गई तब आरोपी युवक द्वारा हत्या करना कबूल कर लिया।

आरोपी युवक ने बताया कि गुरुवार की देर रात 10:10 बजे लगभग मृतिका को नाले के पास की सड़क से पैदल जाते हुए दिखी उसके बाद आरोपी को गाली गलौज करने लगी तब आक्रोश में आकर आरोपी के द्वारा उसे पकड़कर पास के ही गड्ढे में पटक दिया जिससे मृतिका को गंभीर चोट आई। आरोपी युवक यही नहीं किया बल्कि उसने मृतिका को पत्थर से कुचल दिया उसके बाद मृतिका को घसीटते हुए पहाड़ के ऊपर ले गया। आरोपी ने जब देखा कि मृतिका मर चुकी है, तो उसे झाड़ियों में फेंक कर वहां से भाग निकला। घटना के वक्त आरोपी के द्वारा पहने हुए कपड़े को भी पानी में भीगा कर बगल की झाड़ी में ही फेंक दिए। मामले में पुलिस ने तत्परता दिखाते हुए महज कुछ ही घंटे के भीतर आरोपी युवक की पतासाजी कर धारा 302 भादवि के तहत गिरफ्तार कर आरोपी को न्यायिक रिमांड पर भेज दिया है। 

 

15-01-2020
भटक कर गांव आ पहुंचे चीतल को मिला नया जीवन,वन विभाग ने जंगल ले जाकर छोड़ा

बलौदाबाजार। जंगल से भटक कर गांव आ पहुंचे एक चीतल को वन विभाग की टीम ने सुरक्षित रूप से बचाया है। लगभग 4 साल के नर चीतल को अपने कब्जे में लेकर विभाग की उड़नदस्ता दल ने नजदीक के जंगल में विचरण के लिए मुक्त कऱ दिया है। वन मण्डलाधिकारी अरविन्द व्यास ने बताया कि बलौदाबाजार वन परिक्षेत्र में जंगल से भटक कर एक चीतल ग्राम कोहरौद आ पहुंचा। लगभग 4 बरस का नर चीतल गांव के आदिवासी किसान रूपचंद पैकरा के निवास पर शरण लिये हुए था। पैकरा ने जंगली जानवर को सुरक्षित रखकर वन विभाग तक इसकी सूचना दी। वन विभाग ने तत्काल हरकत में आते हुए रेंजर राकेश चौबे के नेतृत्व में टीम कोहरौद के लिए रवाना किया। टीम ने गांव पहुंचकर रूपचंद के कब्जे से चीतल अपने सुपुर्द में लिया। चीतल के स्वास्थ्य की जांच की गई। कहीं पर भी चोट के निशान नहीं पाये गये। बाकायदा इसका पंचनामा एवं फोटोग्राफी भी कराई गई। चीतल के पूर्ण स्वस्थ होने का यकीन हो जाने के बाद इसे शासकीय वाहन से ले जाकर धाराशिव के जंगल में सुरक्षित छोड़ दिया गया। वन मण्डलाधिकारी ने वन्य पाणी की सुरक्षा में किसान रूपचंद पैकरा के योगदान की सराहना की है और उन्हें सार्वजनिक कार्यक्रम में सम्मानित किये जाने की घोषणा की है।

 

29-12-2019
दमाद ने सास का गला दबा कर की हत्या, घर में ताला लगाकर हो गया फरार, पुलिस ने कोरिया से किया गिरफ्तार

सूरजपुर। बीते दिनों एक महिला का शव घर के बन्द कमरे में मिला था। पुलिस ने घर के ताला तोड़ कर बिस्तर में लेटे एक महिला का शव बरामद किया था। पुलिस ने मामले की जांच कर एक आरोपी दमाद को गिरफ्तार किया है। आरोपी दामाद ने शराब के नशे में अपने बुआ सास का गला दबाकर हत्या कर दी थी। पुलिस ने आरोपी को गिरफ्तार कर न्यायालय में पेश कर जेल भेज दिया है। मामला गत् 26 दिसम्बर 2019 का है। ग्राम मसंकी निवासी भगवान दास सोनी ने थाना ओड़गी में सूचना दी थी कि इसकी 65 वर्षीय बहन मानमती सोनी पति स्व. शिवराम सोनी के घर का ताला बंद है जो प्रतिदिन सुबह बाहर निकल जाती है। सूचना पाकर थाना प्रभारी ओड़गी पुलिस स्टाफ के साथ तत्काल मौके पर पहुंचे और पंचनामा कार्यवाही के बाद ताला को तोड़वाया। घर के अंदर प्रवेश करने पर बिस्तर में मानमती की लाश कंबल में ढकी हुई मिलने पर पुलिस ने मर्ग कायम कर शव पंचनामा की कार्यवाही किया। पंचनामा कार्यवाही के दौरान मृतिका के शरीर पर किसी प्रकार के चोट का निशान नहीं पाया गया। इसके उपरान्त शव को पोस्टमार्टम के लिए सीएचसी ओड़गी भेजा गया जो डाॅक्टर के द्वारा शार्ट पीएम रिपोर्ट में मृतिका की मृत्यु हत्यात्मक प्रकृति का होना बताया गया। जिस पर ओड़गी पुलिस ने अज्ञात व्यक्ति के विरूद्व धारा 302, 201 पंजीबद्व विवेचना में लिया।
         
मामले की जांच के दौरान ओड़गी पुलिस को सूचना मिली कि बीते 25 दिसम्बर की रात मृतिका का दामाद विजय सोनी मृतिका के घर आया था। जिस आधार पर पुलिस ने बरतुंगा-चिरमिरी निवासी विजय सोनी को तलब कर पूछताछ करने पर उसने बताया कि 25 दिसम्बर को ग्राम मसंकी बुआ सास मानमती के घर  आया था। इसके बाद वहां से शराब पीने चला गया और शराब पीकर वापस बुआ सास के घर रूका, मानमती अपने दमांद को शराब पीने की बात को लेकर र डंडे से मारने लगी। इस पर आरोपी ने डण्डा छिनकर मानमती को तखत पर पटककर उसका गला दबाकर हत्या कर दी और हाथ पैर सीधा कर कंबल से ढक कर बाहर से ताला बंद कर चाबी को छुपा कर अपने घर बरतुंगा चला गया। पुलिस ने आरोपी के निशानदेही पर ताले की चाबी को बरामद कर आरोपी विजय सोनी पिता सरयू प्रसाद सोनी उम्र 38 वर्ष निवासी बरतुंगा, थाना चिरमिरी, जिला कोरिया को विधिवत् गिरफ्तार कर न्यायालय में पेश किया गया जहां से उसे जेल भेज दिया गया है। 

16-12-2019
महिला की हत्या कर शव को जलाया, जांच में जुटी पुलिस

 

पेंड्रा। गौरेला क्षेत्र के ग्राम बेलगहना टोला के पास महिला की हत्या कर शव को जला दिया गया। आशंका जताई जा रही है कि हत्यारों ने साक्ष्य मिटाने के लिए ऐसी क्रूरता की है। पुलिस इस मामले में हत्या का अपराध दर्ज कर जांच कर रही है। गौरेला पुलिस के अनुसार घटना बेलगहना टोला-अहिरन टोला की है। यहां रहने वाला प्रकाश भारिया पंच है। वह रविवार की सुबह करीब 10 बजे तलवा टोला से बेलगहना टोला जाने के लिए निकला था। इस बीच रास्ते में उसे अहिरन टोला निवासी शांति यादव आवाज लगाने लगी। उसने प्रकाश से अल्ताफ के खेत में घुसे अपनी गाय व बैल को खदेड़कर लाने के लिए कहा। मवेशी फसल को नुकसान पहुंचा रहे थे। इस पर वह खेत से गाय-बैल को खदेड़ने गया। वहां पर झोपड़ी थी, जिसमें करीब दो साल से सरिता भरिया अकेली रहती थी। वह मजदूरी कर गुजारा करती थी। तभी प्रकाश की नजर झोपड़ी के पास पैरावट में क्षत-विक्षत लाश पर पड़ी।

उसने इसकी जानकारी शांतिबाई सहित आसपास के लोगों को दी। पुलिस ने रविवार को पंचनामा करने के बाद धारा 302, 201 के तहत अपराध दर्ज कर लिया है। पुलिस हत्यारों की जानकारी जुटाने की कोशिश कर रही है। महिला का शव पैरावट के पास पड़ा था। वहीं, शव के टुकड़े-टुकड़े कर दिए थे। मृतका की पहचान छिपाने के लिए आरोपितों ने उसे जलाने की कोशिश की थी। महिला के शव को देखकर लग रहा है कि बेरहमी से उसकी हत्या कर साक्ष्य मिटाने के लिए शव के टुकड़े-टुकड़े कर दिए थे। जली हुई लाश व टुकड़ों की पहचान झोपड़ी में रहने वाली सरिता उर्फ चिरील भरिया के रूप में की गई है। इस घटना की सूचना व मौका मुआयना करने के बाद पुलिस धारा 302, 201 के तहत हत्या का अपराध दर्ज कर जांच कर रही है।

13-12-2019
प्रतिबंधित पानी पाउच बेचने पर निगम आयुक्त ने राजेन्द्र होटल पर की कार्रवाही

दुर्ग। नगर निगम सीमा अंतर्गत पुलगांव भट्टी स्थित राजेन्द्र भोजनालय एव नाश्ता सेंटर में शंभु जायसवाल द्वारा 50 माइकों से कम के पानी पाउच जिनका बेचना प्रतिबंधित है, उसे बेचने पर कार्यवाही की गई। प्रतिबंधित के बाद भी राजेन्द्र भोजनालय में पानी पाउच की बिक्री की जा रही थी, आयुक्त इंद्रजीत बर्मन के शहर भ्रमण के दौरान राजेन्द्र भोजनालय में पानी पाउच बिक्री करते पाया गया जिसमें  7 बड़ी बोरी पानी पाउच एव पानी पाउच की खुली बोरी 39 रखी गई थी। पानी पाउच को निकालकर फ्रिज में बिक्री के लिए रखा गया था। जिसको आयुक्त इंद्रजीत बर्मन ने पानी पाउच की बोरी एव फ्रिज में रखे पानी पाउच को जप्त एव 2 हज़ार जुर्माना वसूल करने का निर्देश दिया। इसके अलावा संचालक द्वारा होटल के आस पास गंदगी न फैलाने की चेतावनी दी गई, उक्त पानी पाउचों का पंचनामा संचालक शम्भु प्रसाद के नाम से दो गवाहों के बीच बनाया गया, कार्रवाही के दौरान मुख्य स्वस्थ्य निरीक्षक उमेश मिश्रा, दरोगा प्रताप सोनी एव स्वास्थ्य विभाग टीम उपस्थित थी।

 

07-12-2019
ट्रैक्टर ने साइकिल सवार 8 साल के मासूम को रौंदा, मौके पर मौत 

धमतरी। भानपुरी गांव में एक ट्रैक्टर चालक ने साइकिल सवार 8 साल के मासूम बच्चे को अपनी चपेट में ले लिया। बताया जा रहा है कि गंभीर चोट आने से मासूम की मौके पर ही मौत हो गई। सूचना मिलते ही अर्जुनी पुलिस घटनास्थल पर पहुंची और पंचनामा के बाद शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। बता दें कि भानपुरी गांव का रहने वाला मृतक उमेश साहू गांव में साइकिल चला रहा था। उसी दौरान वहां से गुजर रहे एक ट्रैक्टर चालक ने बालक को अपनी चपेट में ले लिया। ट्रैक्टर की ठोकर लगने से बच्चा ट्रैक्टर के पहिए के नीचे आ गया, जिससे पहिए में दबने से उसकी मौत हो गई। घटना के बाद आरोपी ट्रैक्टर चालक मौके से फरार हो गया। फिलहाल अर्जुनी पुलिस आरोपी के खिलाफ मामला दर्ज कर तलाश में जुट गई है।

06-12-2019
पुलिस ने चंद घंटो में सुलझाया मासूम की मौत का मामला, पिता ही निकला हत्यारा

तिल्दा-नेवरा। तिल्दा थाना अंतर्गत ग्राम कोटा में एक बालक की लाश मिलने से सनसनी फ़ैल गई थी। मिली जानकारी अनुसार ग्राम कोटा निवासी गुलशन निषाद के चार वर्षीय पुत्र महेंद्र निषाद की लाश संदिग्ध अवस्था में उसके घर पर मिली। मामले की सुचना मिलते ही नेवरा पुलिस मौके पर पहुंची और शव का पंचनामा कर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है। मामले की जांच कर रही नेवरा पुलिस उस वक्त हैरान रह गई जब मासूम का हत्यारा कोई और नहीं बल्कि उसका ही पिता निकला। जांच के दौरान पुलिस को पता चला कि आरोपी गुलशन निषाद पिछले कुछ दिनों से मानसिक रूप से कमजोर था और उसकी पत्नी भी कुछ दिनों पहले उस छोड़कर चले गई थी। इससे परेशान होकर आरोपी ने बीती शाम अपने पुत्र का गला और मुँह दबाकर उसे मौत के घाट उतार दिया। फिलहाल पुलिस आरोपी को गिरफ्तार कर आगे की कार्यवाही में जुट गई है।  

करण नेपाली की रिपोर्ट 

Advertise, Call Now - +91 76111 07804