GLIBS
23-01-2021
पेट्रोल और डीजल के दामों में बढ़ोतरी जारी, आज फिर बढ़े दाम

रायपुर। पेट्रोल और डीजल कि कीमतों में लगातार बढ़ोतरी जारी है। गौर करने वाली बात ये है कि अभीतक किसी ने इसके खिलाफ आवाज नहीं उठाई। इनके रेट प्रतिदिन बढ़ते ही जा रहे हैं। शुक्रवार को भी रेट में इजाफा देखा गया था। उसके बाद शनिवार को फिर रेट में बढ़ोतरी हुई है। आम आदमी के लिए मुश्किलें बढ़ती ही जा रही है। राजधानी में पेट्रोल और डीजल के भाव अब गोल्ड जैसे महंगे हो रहे हैं। आज पेट्रोल में 24 पैसे वहीं डीजल में 27 पैसे की बढ़त दर्ज की गई है। इसी के साथ पेट्रोल 84.38 रुपए और डीजल 82.27 रुपए प्रति लीटर हो गया है।

23-10-2020
प्याज की अनियंत्रित कीमतों पर काबू करने केंद्र सरकार ने लागू किए नियम,विक्रेताओं के लिए की भंडारण सीमा तय

नई दिल्ली। केंद्र सरकार ने प्याज की जमाखोरी रोकने तथा इसके मूल्य को नियंत्रित करने के लिए तुरंत प्रभाव से भंडारण सीमा निर्धारित कर दी है। उपभोक्ता मामलों की सचिव लीमा नंदन ने शुक्रवार को संवाददाता सम्मेलन में कहा कि प्याज के थोक विक्रेताओं के लिए भंडारण सीमा 25 टन और खुदरा विक्रेताओं के लिए यह सीमा दो टन निर्धारित की गई है। उन्होंने कहा कि पिछले डेढ माह से प्याज की कीमतें बढ रही थी। भंडारण सीमा निर्धारित किये जाने से प्याज की जमाखोरी करने वाले के साथ आवश्यक कार्रवाई की जा सकेगी। उल्लेखनीय है कि कुछ स्थानों पर प्याज का खुदरा मूल्य करीब 70 रुपये प्रति किलो तक पहुंच गया है। उन्होंने कहा कि प्याज के मूल्य को नियंत्रित करने के लिए इसका निर्यात रोक दिया गया और इसका आयात करने का निर्णय लिया गया है। इसके साथ ही प्याज के एक लाख टन के बफर स्टाक से राज्यों को उनकी मांग के हिसाब से इसकी आपूर्ति की जा रही है। राज्यों को 25 रुपये प्रति किलो के हिसाब से प्याज दिया जा रहा है। बफर स्टाक में अब भी करीब 25 हजार टन प्याज बेचा है। केरल और असम को बफर स्टाक से प्याज की आपूर्ति की गई है। इसके अलावा तमिलनाडु, आन्ध्र प्रदेश और तेलंगना ने भी प्याज की मांग की है। उन्होंने बताया कि इस बार भारी वर्षा से कुछ स्थानों में प्याज की खरीफ फसल को नुकसान हुआ है जबकि महाराष्ट्र और मध्य प्रदेश में प्याज की पैदावार में कमी आयी है। महाराष्ट्र और मध्य प्रदेश में 43 लाख टन प्याज उत्पादन का अनुमान था जो घटकर 37 लाख टन हो गया है। उपभोक्ता मामलों की सचिव ने कहा कि पिछले दस साल के दौरान प्याज का उत्पादन 150 लाख टन से बढकर 261 लाख टन हो गया है। वर्ष 2019-20 के दौरान रिकार्ड 261 लाख टन प्याज का उत्पादन हुआ था। इस वर्ष करीब 15 लाख टन प्याज का निर्यात किया गया है । अब एमएमटीसी और कुछ निजी कम्पनियां प्याज आयात करने की प्रक्रिया में है।

26-06-2020
पेट्रोल और डीजल की कीमतों को लेकर कांग्रेस विधायकों ने की केंद्र की आलोचना

कोरबा। लगातार बढ़ रही पेट्रोल और डीजल की कीमतों को लेकर केंद्र सरकार की खिलाफत शुरू हो गई है। कोरबा के कांग्रेस विधायकों ने इस मसले को लेकर तीखी प्रतिक्रिया ब्यक्त की है। मोदी सरकार बेवजह पेट्रोलियम के दाम बढ़ा कर आम लोगों की जेब काट रही है,पहले ही लॉक डाउन के कारण लोग बेरोजगारी का दंश झेल रहे है ऐसे में सरकार का ये फैसला उन पर बोझ बन गया है। कोरोना काल गरीब और मध्यम वर्ग के लोगो के लिए अभिशाप से कम नहीं रहा। लोग बेरोजगार हो गए, गरीब और गरीब हो गया, इस नाजुक वक्त में जरूरतमंदों को राहत देने के बजाए पेट्रोल डीजल के दाम में बढ़ोत्तरी कर लोगों की परेशानी बढ़ाई जा रही है। कटघोरा विधायक पुरुषोत्तम कंवर ने मोदी सरकार के इस निर्णय को जनविरोधी बताया है। पाली तानाखार विधायक मोहित केरकेट्टा ने भी नाराजगी ब्यक्त करते हुए पेट्रोलियम के दाम बढ़ाये जाने को सरकार का षडयंत्र बताया हैं।

 

 

02-03-2020
सोना की कीमत में आया उछाल,चांदी के भाव में आई तेजी

नई दिल्‍ली। सोने की कीमतों में उछाल आया है। सकारात्‍मक वैश्विक संकेतों के चलते दिल्‍ली के सर्राफा बाजार में सोने का दाम 391 रुपए उछलकर 42,616 रुपए प्रति दस ग्राम के स्‍तर पर पहुंच गया। शनिवार को सोने का भाव 42,225 रुपए प्रति दस ग्राम पर बंद हुआ था। सोने की तरह चांदी का दाम भी सोमवार को 713 रुपए की तेजी के साथ 46,213 रुपए प्रति किलोग्राम हो गया। शनिवार को चांदी का भाव 45,500 रुपए प्रति किलोग्राम पर बंद हुआ था। 999 और 995 शुद्धता वाले सोने का भाव दिल्‍ली में 440 रुपए की तेजी के साथ क्रमश: 43,250 रुपए प्रति 10 ग्राम और 43,100 रुपए प्रति 10 ग्राम रहा।
वरिष्‍ठ विश्‍लेषक तपन पटेल ने कहा कि अंतरराष्‍ट्रीय बाजार में सोने में तेजी आने की वजह से दिल्‍ली में 24 कैरेट सोने के हाजिर भाव में 391 रुपए की तेजी दर्ज की गई। दुनियाभर के साथ ही भारत में भी कोरोनावायरस के बढ़ते मामलों की चिंता के बीच निवेशकों के सुरक्षित निवेश के लिए सोने की ओर रुख करने से भी कीमतों को बढ़ावा मिल रहा है। अंतरराष्‍ट्रीय बाजार में सोने का भाव 1604 डॉलर प्रति औंस पर चला रहा है, जबकि चांदी का भाव 17 डॉलर प्रति औंस पर था। पटेल ने कहा कि अंतरराष्‍ट्रीय हाजिर सोने के ऊंचे स्‍तर पर कारोबार करने के साथ सोमवार को सोने की कीमतों में रिकवरी देखने को मिली। पिछले हफ्ते सोना 1585 डॉलर प्रति औंस तक गिर गया था।

 

04-01-2020
अगले हफ्ते से लोगों को मिलेगी प्याज की कीमत से राहत, तेजी से घट रहे दाम

नई दिल्ली। कीमतों में तेज गिरावट से अगले सप्ताह से लोगों को प्याज के आसमान छूते दाम से राहत मिलने की उम्मीद है। देश की सबसे बड़ी प्याज मंडी लासलगांव में इसकी कीमत गिरकर 35 रुपये प्रति किलोग्राम पर आ गई है। एक महीने पहले वहां इसकी कीमत 86 रुपये प्रति किलो थी। दिल्ली की आजादपुर मंडी में भी इसकी कीमत कम होकर 57 रुपये प्रति किलो तक आ गई है। कारोबारियों का कहना है कि अगले सप्ताह यह 50 रुपये से नीचे आ जाएगी। केंद्रीय खाद्य एवं उपभोक्ता मामलों के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि महाराष्ट्र में नासिक के पास स्थित लासलगांव मंडी में बृहस्पतिवार को प्याज की औसत कीमत 3,500 रुपये प्रति क्विंटल पर आ गई, जो एक महीने पहले 8,600 रुपये प्रति क्विंटल थी। आजादपुर थोक मंडी में भी शुक्रवार सुबह नासिक वाले प्याज की कीमत 2,100 से 2,200 रुपये प्रति मन थी। अच्छे किस्म के अलवर वाले प्याज की कीमत 2,300 रुपये प्रति मन और आयातित प्याज 2,000 रुपये प्रति मन था।

खपत से ज्यादा पहुंच रहा है प्याज

आजादपुर मंडी में प्याज के थोक कारोबारी राजकुमार ने बताया कि प्याज महंगा होने के बाद से दिल्ली में इसकी खपत तेजी से घटी है। अब इसकी दैनिक खपत घटकर करीब 50 ट्रक रह गई है। दूसरी ओर, नासिक और अलवर से रोजाना 40 से 50 ट्रक और आयातित प्याज के 15 से 20 ट्रक आ रहे हैं। उन्होंने बताया कि भारतीय स्वाद नहीं होने, आसानी से नहीं गलने और बड़े आकार की वजह से आयातित प्याज के खरीदार मुश्किल से मिल रहे हैं। ऐसे में सिर्फ होटल से ही इसकी मांग निकल रही है।

तेजी से तैयार हो रही है नई फसल

अधिकारी का कहना है कि खरीफ सीजन में बोयी गई प्याज की फसल अब तेजी से तैयार होने लगी है। इसलिए आने वाले दिनों में इसकी उपलब्धता तेजी से बढ़ेगी। इसके अलावा, अभी करीब 50,000 टन प्याज के आयात का ऑर्डर या तो दे दिया गया है या फिर उसकी प्रक्रिया अंतिम चरण में है। विदेशी प्याज तेजी से भारतीय बंदरगाह पर पहुंचने भी लगा है।

 

Advertise, Call Now - +91 76111 07804