GLIBS
19-09-2020
Video: एनएचएम के संविदा स्वास्थ्य कर्मचारी गए अनिश्चितकालीन हड़ताल पर

अंबिकापुर। विकासखंड उदयपुर में राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन (एनएचएम) में संविदा स्वास्थ्य कर्मचारियों के पद पर पदस्थ लोग शनिवार से अनिश्चितकालीन हड़ताल पर चले गए हैं। इनकी एक सूत्रीय मांग है नियमितीकरण है। एनएचएम में विकासखंड उदयपुर में कुल 32 संविदा स्वास्थ्य कर्मचारी पदस्थ हैं। इनके हड़ताल में चले जाने से कोविड-19 के सैंपल कलेक्शन, कांटेक्ट ट्रेसिंग कार्य,सर्वे कार्य तथा इसके संचालन से संबंधित कार्य प्रभावित होने की आशंका है। कर्मचारियों का आरोप है कि कोरोना काल में सभी कर्मचारी निष्ठा पूर्वक 10 से 12 घंटे कार्य कर रहे हैं तथा द्वितीय एएनएम के पद पर पदस्थ लोग 24 घंटे सेवाएं दे रहे हैं फिर भी इन्हें ना तो भत्ता मिलता है और बीमा सुरक्षा प्रोत्साहन राशि भी नहीं मिलता है। सप्ताह में सातों दिन इनके द्वारा कार्य किया जा रहा है। सत्ताधारी दल के द्वारा चुनाव के समय इसे अपने चुनावी घोषणाओं में शामिल किया गया था परंतु 2 साल बीत जाने के बाद भी घोषणा पूरी नहीं होने पर संविदा स्वास्थ्य कर्मचारी हड़ताल पर जाने को मजबूर हैं। इस संबंध मे श्रवण कुमार ब्लाक अध्यक्ष एनएचएम कर्मचारी संघ  का कहना है कि वे विगत 15 वर्षों से अपनी सेवाएं अल्प मानदेय में दे रहे हैं। कोरोना माहामारी के समय में वे निरंतर सप्ताह के सातों दिन 10 से 12 घंटे अपनी सेवाएं दे रहे हैं परन्तु शासन स्तर से इनके मांगो पर कोई कार्यवाही नहीं हो रही है। उल्टे नौकरी से बर्खास्त करने की धमकी दी जाती है।उन्होंने कहा कि कर्मचारियों का केवल एक ही मांग है कि तत्काल नियमितिकरण किया जाए।

 

19-09-2020
पुरानी पेंशन बहाली के लिए पोस्टकार्ड अभियान चलाएंगे कर्मचारी

रायपुर/कांकेर। पुरानी पेंशन बहाली के​ लिए छत्तीसगढ़ राज्य के कर्मचारियों द्वारा वृहद स्तर पर पोस्टकार्ड अभियान चलकर प्रदेश 21 सितम्बर से 24 सितम्बर तक पोस्टकार्ड अभियान चलाकर प्रधानमंत्री राज्यपाल तथा मुख्यमंत्री के नाम पर पुरानी पेंशन बहाली के लिए पोस्टकार्ड भेजा जाएगा। एनएमओपीएस के राष्ट्रीय अध्यक्ष विजय बंधु ने कहा कि देश के साथ साथ छत्तीसगढ़ में भी पुरानी पेंशन बहाली के लिए युद्ध स्तर पर काम किया जा रहा है। प्रदेश अध्यक्ष राकेश सिंह ने कहा कि सभी पेंशन विहीन साथी तन मन के साथ पुरानी पेंशन बहाली के लिए प्रयास करें ताकि हम जल्द से जल्द पुरानी पेंशन लागू कराने में सफल हो।

उन्होंने कहा कि प्रदेश स्तर पर तैयारियां पूरी कर रहे हैं। प्रदेश सोशल मीडिया प्रभारी हरिश सन्नाट द्वारा पोस्टकार्ड का प्रारुप तैयार कर सभी सोशल मीडिया प्लेटफार्म पर भेजा जा रहा है ताकि अधिक से अधिक कर्मचारी इस अभियान से जुड़े। कांग्रेस के चुनाव घोषणा पत्र के वादे के अनुसार 2004 में नियुक्त सरकारी कर्मचारियों के लिए पुरानी पेंशन व्यवस्था लागू करने हेतु आश्वासन दिया गया है। उस वायदे को पूर्ण करते हुए पुरानी पेंशन शीघ्र बहाल कर कर्मचारी हितैषी सरकार के रूप में आपकी प्रतिष्ठा सदा बढ़ती रहे। प्रदेश अध्यक्ष ने सभी कर्मचारियों को अधिक से अधिक संख्या में पोस्टकार्ड अभियान में भाग लेने के लिए प्रोत्साहित किया ताकि लाखों की संख्या में पोस्टकार्ड पहुंचे।

18-09-2020
सभी कारखानों में कहा, महिला व पुरुष कर्मचारी काम करते हो शौचालय की व्यवस्था करना होगा प्रबंधन को

रायपुर। अब सभी कारखानों में जहां महिला व पुरूष कर्मकार नियोजित हो वहां शौचालय की व्यवस्था होगी। राज्य शासन की ओर से छत्तीसगढ़ कारखाना नियम 1962 के नियम 46 में संशोधन किया गया है। संशोधन की अधिसूचना श्रम विभाग से मंत्रालय, महानदी भवन से जारी किया गया है। इसके अनुसार जिन कारखानों में महिला कर्मकार नियोजित हों वहां प्रत्येक 25 पच्चीस स्त्रियों के लिए कम से कम एक शौचालय की व्यवस्था अनिवार्य रूप से करना होगा। इसी प्रकार प्रत्येक 25 पुरूषों के लिए एक शौचालय की व्यवस्था करना जरूरी है । जहां पर पुरूषों की संख्या 100 से ज्यादा हो तो वहां प्रथम 100 तक प्रति 25 पुरूषों के लिए एक शौचालय और पश्चात प्रति 50 पुरूषों के लिए एक शौचालय की व्यवस्था करना होगा। महिला शौचालयों में भारतीय मानकों के अनुरूप पर्याप्त मात्रा में सैनेटरी नैपकिन उपल्ब्ध कराना होगा और दैनिक आधार पर फिर से उसकी आपूर्ति करना होगा। उपयोग किए गए नेपकिन का निपटारा निरिक्षक से अनुमोदित प्रक्रिया के अनुसार किया जाएगा। शौचालय में डिस्पोजेबल डिब्बे ढक्कन के साथ रखना होगा।

 

17-09-2020
Video: कर्मचारी निकले थे कार का ट्रायल लेने, अचानक लगी आग

गुंडरदेही। कार में अचानक आग लगने से क्षेत्र में सनसनी फैल गई। घटना ब्लॉक मुख्यालय गुंडरदेही के ग्राम डंगनिया के पास हुई। यहां कंपनी की ट्रायल के लिए ले जाई जा रही कार में अचानक आग लग गई। दरअसल कंपनी के चार लोग हरियाणा से चेन्नई कंपनी की कार को ट्रायल के लिए निकले थे। ग्राम डंगनिया के पास पहुंचते ही अचानक कार से धुआं उठा और देखते ही देखते गाड़ी में आग लग गई। कार में आ रहे हरियाणा की कंपनी के कर्मचारियों ने बताया कि ट्रायल वाली गाड़ी थी,जिसका रजिस्ट्रेशन नंबर एचआर 55 टीसी 2008/96 था। शार्ट सर्किट की वजह से आग लगने का अंदेशा कंपनी के कर्मचारियों ने जताया है। घटना गुंडरदेही थाना क्षेत्र की है।
 

......शब्बीर रिजवी की रिपोर्ट

 

 

09-09-2020
रोस्टर के मुताबिक मंत्रालय और इंद्रावती भवन में कर्मचारी करेंगे काम, स्वास्थ्य परीक्षण सहित होगी विशेष व्यवस्थाएं

रायपुर। कोरोना संक्रमण के कारण मंत्रालय महानदी भवन और इंद्रावती भवन विभागाध्यक्ष कार्यालयों के अधिकारियों और कर्मचारियों में कतिपय असमंजस की स्थिति के निवारण के लिए  मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने शीघ्र समाधान के निर्देश दिए हैं। मुख्यसचिव आरपी मंडल के मार्गदर्शन को ध्यान में रखते हुए जीएडी के सचिव द्वय ने बुधवार को कर्मचारी संघों के प्रतिनिधियों से चर्चा कर अनेक निर्णय लिए हैं। मुख्य सचिव ने इस संबंध में विस्तृत दिशा-निर्देश जारी किए हैं। इसके अनुसार इन कार्यालयों के उच्चाधिकारियों को कार्यालयों में सैनेटाइजेशन, स्वास्थ्य परीक्षण और उपस्थिति के लिए रोस्टर तैयार करने के निर्देश दिए गए हैं। आगामी शुक्रवार से रविवार तक मंत्रालय और विभागाध्यक्ष कार्यालयों को पूर्ण रूप से सैनेटाइज करने और अनुभाग अधिकारी और उससे नीचे के कर्मचारियों की उपस्थिति के लिए सप्ताहिक रोस्टर बनाने के लिए कहा गया है।

सप्ताहिक रोस्टर में अधिकतम एक तिहाई अधिकारी और कर्मचारी की ड्यूटी लगाई जा सकेगी। मंत्रालयों में संयुक्त सचिव, उप सचिव और अवर सचिव में से कोई एक इसी प्रकार विभागाध्यक्ष कार्यालयों में अतिरिक्त संचालक, अपर संचालक, उप संचालक में से कोई एक अधिकारी कार्यालयीन समय में उपस्थित रहेंगे। मंत्रालय और विभागाध्यक्ष कार्यालयों में हर सप्ताह तीन दिन सोमवार, मंगलवार और बुधवार को स्वास्थ्य परीक्षण शिविर भी लगाया जाएगा। इसके अलावा मंत्रालय और विभागाध्यक्ष कार्यालयों में आने-जाने के लिए बसों की संख्या में भी वृद्धि की जाएगी।

 

02-09-2020
कलेक्टर का स्टेनो पाया गया कोरोना संक्रमित, अब तक कलेक्ट्रेट के 4 कर्मचारी मिले पॉजिटिव

कांकेर। कलेक्ट्रेट कार्यालय में बुधवार को एक और कर्मचारी की कोरोना संक्रमित होने की पुष्टि हुई है। बता दें कि इसके साथ अब तक कलेक्ट्रेट के कुल चार कर्मचारी कोरोना संक्रमित हो चुके हैं। सीएचएमओ डॉ.जेएल उयके ने कलेक्टर के स्टेनो की रिपोर्ट कोरोना पॉजिटिव आने की पुष्टि की है। ज्ञात हो कि पूर्व में कलेक्टोरेट से तीन कर्मचारियों की टेस्ट कोरोना पॉजिटिव आने के बाद से कलेक्टोरेट दफ्तर को सील कर दिया गया है। वहीं यहां का चौथा कर्मचारी भी कोरोना पॉजिटिव मिला है। बता दें कि बुधवार को यहां के जिस कर्मचारी की रिपोर्ट पॉजिटिव आयी है वह कलेक्टर का स्टेनो बताया जा रहा है। पूर्व में कलेक्टर के रीडर सहित स्टाफ के तीन कर्मचारियों को कोरोना पॉजिटिव पाया गया था। वहीं जिला पंचायत अध्यक्ष की रिपोर्ट पॉजिटिव आने के बाद जिला पंचायत दफ्तर को भी सील किया गया है। 

 

 

02-09-2020
जिम्मेदारियों से भाग रहे हैं अफसर और कर्मचारी, जवाब देने के लिए 3 दिन का नोटिस, नहीं दिया तो होगी कार्यवाही

रायपुर। शासन की ओर से कोरोना वायरस (कोविड-19) महामारी से बचाव एवं रोकथाम के संबंध में विस्तृत दिशा निर्देश जारी किए गए हैं। जिला प्रशासन की ओर से समय-समय पर कांटेक्ट ट्रेसिंग, एक्टिव सर्विलॉस, कोरोना पॉजिटिव मरीजों को अस्पताल ले जाने, कंटेनमेंट जोन बनाने और अन्य दायित्व सौंपे गए हैं। कई अधिकारियों और कर्मचारियों की ड्यूटी इन कार्यों के लिए लगाई गई है। कुछ अधिकारी- कर्मचारी उन्हें सौपे गए दायित्वों के निर्वहन में रूचि नहीं ले रहे हैं। इस लापरवाही के साथ-साथ इंसिडेंट कमांडर के निर्देशों की अवहेलना करते हुए अनुशासनहीनता और आपदा प्रबंधन कार्य में बाधा कारित कर रहे हैं। कलेक्टर डॉ. भारतीदासन ने निर्देश दिए हैं कि, आपदा प्रबंधन कार्य में बाधा उत्पन्न करने वाले लापरवाह,अनुशासनहीन अधिकारियों-कर्मचारी को तत्काल 3 दिन का समय देते हुए कारण बताओ नोटिस जारी किया जाए।

 नोटिस अनिवार्यत: तामिल कराने के निर्देश दिए कलेक्टर ने दिए हैं। संबंधित अधिकारी-कर्मचारी के जवाब प्रस्तुत नहीं करने या उनके प्रस्तुत जवाब संतोषप्रद नहीं प्रतीत होने पर उनके विरुद्ध लघु दीर्घ शास्ति अधिरोपित करने के लिए अनुशासनात्मक कार्यवाही के लिए स्पष्ट प्रस्ताव वित्त शाखा को प्रेषित करने कहा गया है। कलेक्टर ने कहा है कि, यदि किसी अधिकारी-कर्मचारी की गंभीर लापरवाही और अनुशासनहीनता के कारण आपदा प्रबंधन कार्य में गंभीर वाधा उत्पन्न हुई हो तो ऐसे प्रकरणों में संबंधित अधिकारी कर्मचारी को उनके विरुद्ध एफआईआर दर्ज करने विषयक तथ्यों का उल्लेख करते हुए कारण बताओ नोटिस जारी किया जाए। संबंधित की ओर से प्रस्तुत जवाब समाधनकारक नहीं होने या समय-सीमा में जवाब प्रस्तुत नहीं करने पर, ऐसे अधिकारी-कर्मचारी के विरुद्ध संबंधित पुलिस थाना में भारतीय दण्ड संहिता, 1860 की धारा 188, आपदा प्रबंधन अधिनियम, 2005 की धारा 51-60, एपिडेमिक डिसीजेज एक्ट 1897 यथासंशोधित 2020 की सुसंगत धाराओं एवं राज्य शासन की ओर सेजारी रेगुलेशन 2020 के अधीन एफआईआर दर्ज कराई जाए। इसी प्रकार आपदा प्रबंधन कार्य में बाधा पहुंचाने, वांछित जानकारी देने से इंकार करने, गलत जानकारी देने या आपदा प्रबंधन कार्य में संलग्न अधिकारी-कर्मचारी से दुर्व्यवहार करने वाले व्यक्तियों के विरुद्ध भी उपरोक्तानुसार कार्यवाही तय की जाए।

 

01-09-2020
डॉ. चरणदास महंत सहित स्टॉफ 7 दिनों तक बरतेंगे सावधानी, विधानसभा सचिवालय रहेगा बंद

रायपुर। छत्तीसगढ़ विधानसभा अध्यक्ष डॉ. चरणदास महंत और उनके निवास कार्यलय के स्टॉफ होम क्वारेंटाइन हो गए हैं। मीडिया प्रभारी घनश्याम राजू तिवारी ने कहा है कि, निवास कार्यालय में संलग्न कर्मचारी कोरोना पॉजिटिव मिलने के बाद एहतियातन यह निर्णय लिया गया है। विधानसभा के मानसून सत्र में भी कर्मचारी विधानसभा अध्यक्ष के साथ था। इस कारण विधानसभा सचिवालय भी 3 सितंबर तक बंद रखा गया है। संक्रमित हुए कर्मचारी का निवास कार्यलय भी आना-जाना था। विधानसभा अध्यक्ष डॉ.महंत ने अपील की है कि, संपर्क में आने वाले सभी लोग सावधानी बरतें और आइसोलेशन में रहे।

26-08-2020
पति का शव रेलवे ट्रैक पर मिला था, पत्नी ने जताई हत्या की आशंका, एसपी से की जांच की मांग

सूरजपुर। नगर पालिका के एक कर्मचारी का शव बीते माह ग्राम गोपीपुर समीप रेलवे ट्रैक में मिला था। 25 दिन हो जाने के बाद भी पुलिस जांच नही कर पाई है। मृतक कर्मचारी हेमंत साहू की पत्नी बीते दिनों पुलिस अधीक्षक कार्यालय में आवेदन देकर हत्या की बात कही थी। उन्होंने  एसपी कार्यालय में आवेदन सौंपकर निष्पक्ष जांच की मांग की है।

मृतक हेमंत साहू की पत्नी व उसके परिजनों ने बताया कि बीते 31 तारीख के 4-5 बजे अपने दफ्तर के कर्मचारी के साथ घर से गया था,जिनके साथ कुछ और कमर्चारी भी मौजूद थे। रिपोर्ट के मुताबिक शाम अपनी दो पहिया वाहन को पानी टंकी परिसर में खड़ी करके कहीं जाने के लिए निकला था। सुबह उसकी लाश ग्राम बिशुनपुर के पास रेल लाइन के किनारे कटी हुई हालत में मिली थी। इसकी सूचना पुलिस को दी गई थी। पुलिस को जांच में मृतक का मोबाइल नहीं मिला था। इस संबंध में सूरजपुर कोतवाली थाना प्रभारी धर्मानंद शुक्ला ने कहा कि सभी बिंदुओं पर जांच की जा रही है। इसके लिए हमने स्पेशल टीम से भी सुझाव लिए है।

19-08-2020
कर्मचारी की रिपोर्ट आई कोरोना पॉजिटिव,तहसील कार्यालय को किया गया सैनिटाइज

गुंडरदेही। तहसील कार्यालय गुंडरदेही में पदस्थ एक कर्मचारी की रिपोर्ट कोरोना पॉजिटिव आई है। नगर पंचायत की ओर से तत्काल तहसील कार्यालय के सभी कक्षों तथा आसपास सैनिटाइज कराया। उक्त कर्मचारी के प्राथमिक संपर्क में लगभग 13 लोगों के होने की जानकारी तहसीलदार गुंडरदेही अश्विन पूशाम द्वारा दी गई है,जिनको ट्रेस कर तत्काल कोरोना टेस्ट  कराया गया। इनमें से लगभग 8 से 9 लोगों की रिपोर्ट खबर लिखे जाने तक निगेटिव आई है।वही बाकी लोगों की रिपोर्ट आने का इंतजार है।

 

19-08-2020
संक्रमण की रोकथाम के लिए सैनिटाइजर का छिड़काव

भिलाई। कोविड-19 नोवल कोरोना वायरस के संक्रमण को फैलने से रोकने के लिए भिलाई निगम प्रशासन का अमला लगातार सेनेटाइजिंग कार्य में जुटा हुआ है। निगम के कर्मचारी विभिन्न वार्डों में सफाई कार्य के साथ सैनिटाइज का कार्य कर रहे हैं। किसी भी क्षेत्र में कोरोना के मरीज पाए जाने पर निगम का अमला तत्काल मरीज के घर व आस पास के क्षेत्र को सोडियम हाइपोक्लाराइड के घोल का छिड़काव कर संक्रमण मुक्त करने का प्रयास कर रहे हैं। वार्डों की गलियों में हैन्ड स्प्रे से सेनेटाइज किया जा रहा है।

भारत सरकार की ओर से जारी एडवाइजरी के अनुसार बने पाम्प्लेट को बांटकर प्रचार प्रसार किया जा रहा है ताकि लोगों को संक्रामक बीमारियों से बचाया जा सके। नगर पालिक निगम भिलाई क्षेत्रांतर्गत वार्डों में जोन की स्वास्थ्य विभाग की टीम कोरोना वायरस के संक्रमण को फैलने से रोकने रहवासी क्षेत्रों में सघन रूप से अलग-अलग क्षेत्रों प्रतिदिन सोडियम हाइपोक्लोराइड के घोल का छिड़काव कर ही हैं। स्वास्थ्य विभाग का अमला जहां भी कोरोना पॉजीटीव मरीज पाया जाता है, उस मरीज के घर के आसपास को सेनेटाइज करने का कार्य कर रहे हैं।

16-08-2020
15 अगस्त को अनियमित कर्मचारियों के लिए किसी प्रकार घोषणा नहीं,फिर छले गए : गोपाल साहू

रायपुर। छत्तीसगढ़ संयुक्त अनियमित कर्मचारी महासंघ अपनी 5 सूत्रीय मांगों जैसे नियमितीकरण, विगत 4-5 वर्षों से निकाले गए अनियमित कर्मचारियों को बहाल करने, छंटनी न किये जाने,शासकीय सेवाओं में आउटसोर्सिंग/ठेका प्रथा को पूर्णत: समाप्त कर कर्मचारियों का समायोजन करने, अंशकालिक कर्मचारियों को पूर्णकालीन करने और 15 अनियमित कर्मचारियों पर न्यायालय में चल रहे मुकदमे को वापस लेने को लेकर निरंतर संघर्षरत है। प्रांतीय संयोजक गोपाल प्रसाद साहू ने कहा कि मुख्यमंत्री और कांग्रेस वरिष्ठ जनप्रतिनिधि हमारे संघर्ष के दिनों में हमारे मंच में आये और उनकी सरकार बनाने पर 10 दिवस में हमें नियमित करने का वादा किया। वादे के अनुरूप कांग्रेस के जन-घोषणा (वचन) पत्र दूर दृष्टि, पक्का इरादा, कांग्रेस करेगी पूरा वादा के बिंदु क्रमांक 11 और 30 में  अनियमित कर्मचारियों के नियमितीकरण करने, छंटनी न करने और आउट सोर्सिंग बंद करने वादा किया है, और 14 फरवरी 2019 को अनियमित कर्मचारियों के मंच से पुन: इस वर्ष किसानों के लिए, आगामी वर्ष कर्मचारियों के लिए बात कही  परन्तु आज भी हम अनियमित हैं। उपाध्यक्ष तारकेश्वर साहू उपाध्यक्ष बताया कि सरकार का ध्यान एक बार फिर आकृष्ट करने के लिए प्रदेश के अनियमित कर्मचारियों द्वारा 23 जुलाई को फेसबुक के माध्यम से वर्चुअल रैली हुई। इसमें 50000 से अधिक साथी प्रत्यक्ष/अप्रत्यक्ष रूप से सम्मिलत हुए। रक्षाबंधन पर्व पर 3 अगस्त के पूर्व 3000 से अधिक अनियमित बहनों ने राखी भेजी। 12 अगस्त को ट्वीटर के माध्यम से 10000 से अधिक ट्विट किया गया। महासंघ ने कहा कि मुख्यमंत्री से अपील है कि प्रदेश के अनियमित कर्मचारी/अधिकारियों की मांगों को शीघ्र पूर्ण करने के लिए घोषणा करें अन्यथा लाखों अनियमित कर्मचारी सड़क पर उतरने बाध्य होंगे।

Advertise, Call Now - +91 76111 07804