GLIBS
27-04-2020
 50 पुलिस जवानों का लिय गया कोरोना सैंपल, 72 घंटे में आएगी रिपोर्ट

गरियाबंद। जिले में 50 से अधिक पुलिस जवान व अधिकारियों के कोरोना वायरस के सैंपल लिए गए हैं। एसपी भोजराम पटेल के निर्देश के बाद एडिशनल एसपी सुखनंदन राठौर,एसडीओपी संजय ध्रुव,आरआई उमेश राय,थाना प्रभारी आरके साहू समेत 50 से अधिक जवानों ने कोरोना वायरस से जुड़ा सैंपल दिया। यह वरिष्ठ अधिकारी तथा जवान सार्वजनिक स्थानों पर ड्यूटी कर रहे थे। इसमें 30 सैंपल गरियाबंद जिला अस्पताल में कलेक्ट की गए। बाकी सैंपल मैनपुर तथा अन्य थाना क्षेत्र में लिए जाएंगे। इस संबंध में एडिशनल एसपी सुखनंदन राठौर का कहना है कि फ्रंट लाइन पर रहकर हमारे जवानों ने कोरोना संघर्ष में पूरा योगदान दिया है। अब उनकी जांच करवाई जा रही है।

02-04-2020
पुलिस जवान और उनके परिवार को कोरोना वायरस से बचाने एसपी ने शुरू की सुग्घर योजना 

गरियाबंद। कोरोना वायरस के डर से जहां एक ओर पूरा भारत घरों में कैद हो गया है। वहीं अपने कर्तव्य को निभाने पुलिस जवान जोखिम भरी ड्यूटी कर रहे हैं। रोज सैकड़ों लोगों से मिल रहे हैं। इसलिए इन्हें कोरोना संक्रमित होने का खतरा और अधिक बना हुआ है। वहीं इनके परिवार में अब राशन भी महिलाओं को लाक डाउन के बीच जाकर लाना पड़ रहा था जिस पर गरियाबंद एसपी भोजराम पटेल ने पुलिस परिवारों को राहत पहुंचाने के लिए सुग्घर योजना का निर्माण मात्र 1 दिन में किया है। इसके तहत अब पुलिस लाइन के दो अलग-अलग कॉलोनियों में मौजूद 400 से अधिक परिवारों में से किसी को भी सामान खरीदने दुकानों तक जाने की जरूरत नहीं पड़ेगी। दो वाहनों में चार चार जवानों की ड्यूटी पुलिस परिवारों तक राशन पहुंचाने के लिए लगाई गई है।

यह जवान सुबह सामान की पर्ची लेकर जाएंगे और 2 घंटे के भीतर सामान लाकर सोशल डिस्टेंसिंग के नियमों का पालन करते हुए एक एक परिवार को अलग-अलग बुलाकर उनके द्वारा मंगाया गया राशन का सामान लाकर देंगे। पुलिस अधीक्षक भोज राम पटेल तथा एडिशनल एस पी सुखनंदन राठोर ने इस योजना का शुभारंभ न्यू पुलिस लाइन कालोनी से किया। अधिकारियों ने सोशल डिस्टेंस के नियमों का पालन करते हुए कालोनी के सभी रह वासियों को एकत्र कर बताया कि आज से ही इस योजना का पालन शुरू हो जाएगा। इसमे सुबह आपको सामान की पर्ची देना है और दो घंटे बाद सामान आपके घर के सामने आपको मिलेगा। इस अवसर पर पुलिस अधीक्षक भोज राम पटेल ने 400 से अधिक आरक्षक तथा उनके परिवारों को रोना वायरस के प्रति जागरुक करते हुए उससे बचाव के समस्त नियमों को बताते हुए पालन करने को कहा।

17-12-2019
सोच,समझ व सहानुभूति व्यक्तित्व विकास के आरंभिक तत्व: भोजराम पटेल

कांकेर। भानुप्रतापदेव शासकीय स्नातकोत्तर महाविद्यालय, कांकेर के राष्ट्रीय सेवा योजना की पुरुष व महिला दोनों इकाइयों की संयुक्त सात दिवसीय विशेष शिविर के तृतीय दिवस स्वयंसेवकों ने प्रभात फेरी के पश्चात् परियोजना कार्य के अंतर्गत शिविर स्थल बागोड़ ग्राम के सरार तालाब व विद्यालय के आस-पास विस्तृत सफाई अभियान चलाया। भोजन के पश्चात् बौद्धिक चर्चा में कांकेर जिले के एसपी भोजराम पटेल विशिष्ट वक्ता के रूप में उपस्थित हुए। उन्होंने व्यक्तित्व विकास व कैरियर निर्माण विषय पर अपना वक्तव्य देते हुए कहा कि मैंने पुलिस सेवा के पहले लगभग 6 वर्ष अध्यापन किया है। लेकिन मैं शिक्षक नहीं विद्यार्थी हूँ और जीवन भर विद्यार्थी रहूँगा। उन्होंने विद्यार्थियों को बताया कि यदि आप को पहले से अपने कार्य योजना के बारे में पता होगा तो कार्य आसानी से और तय समय में संपन्न होगा। साथ ही उन्होंने ‘मै’ के बजाय ‘हम’ को व्यक्तित्व विकास का मूल बताया,इसके लिए स्वामी विवेकानंद के कथन ‘वसुधैव कुटुम्बकम’ की अवधारणा को आत्मसात करने पर जोर दिया।

उन्होंने कैरियर निर्माण के लिए समय को सबसे महत्त्वपूर्ण व मूल्यवान पूंजी बताते हुए इसे संरक्षित करने के लिए प्रेरित किया और सोच,समझ व सहानुभूति को व्यक्तित्व विकास का आरंभिक तत्व बताया। कांकेर के सहायक उपनिरीक्षक केजूराम रावत भी इस सत्र के वक्ता रहे। उन्होंने यातायात जागरूकता पर विस्तृत व्याख्यान प्रस्तुत किया। रावत ने सड़क दुर्घटना के विभिन्न पहलुओं की चर्चा करते हुए आंकड़ों के साथ बताया कि हमारी लापरवाही वास्तव में बेहद खतरनाक है। अतः हमें सावधानी, संयम व समझ से गाड़ी चलाना चाहिए। बस्तर विवि के रा.से.यो. कार्यक्रम समन्वयक डॉ.डीएल पटेल ने सत्र का अध्यक्षीय उद्बोधन देते हुए विद्यार्थियों को ईमानदारी व मेहनत से शिविर में सीखने व कार्य करने हेतु प्रेरित किया। साथ ही उन्होंने सायंकाल खेल सत्र में विभिन्न खेलों में शामिल होकर विद्यार्थियों को प्रोत्साहित किया। धन्यवाद ज्ञापन कार्यक्रम अधिकारी डॉ.मनोज राव व संचालन कार्यक्रम अधिकारी डॉ.जय सिंह ने किया। शिविर संचालन में ग्राम सरपंच, उपसरपंच, वरिष्ठ ग्रामीणजनों के साथ प्रो.विजय साहू, महादलनायक गुरुदास बिस्वास, तिलेश्वर साहू, महादलनायिका, शिल्पा साहू, आदुरी मिस्त्री, तनूजा यादव व सभी स्वयंसेवक छात्र-छात्राएं महत्वपूर्ण भूमिका निभा रहे हैं।

Advertise, Call Now - +91 76111 07804