GLIBS
30-11-2020
कोरोना और बेरोजगारी झेल रहे देश पर महंगाई की मार बर्दाश्त से बाहर: मोहन मरकाम

रायपुर। पूरे देश में पेट्रोल-डीजल के बढ़ते दामों के विरोध में मोदी सरकार की आर्थिक लूट पर प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष मोहन मरकाम ने तंज कसा है। उन्होंने कहा है कि बिहार विधानसभा चुनाव तक पेट्रोल-डीजल के दाम नहीं बढ़ायें गये और अब पेट्रोल-डीजल के दामों में रोज मोदी सरकार वृद्धि कर रही है,जिससे महंगाई भी बढ़ रही है। बिहार चुनाव खत्म होते ही मोदी सरकार एक सप्ताह से रोज पेट्रोल-डीजल के दाम बढ़ते जा रही है। उन्होंने कहा कि भाजपा सरकार देशवासियों से मुनाफाखोरी व जबरन वसूली की हर रोज नई मिसाल पेश कर रही है। पहले तो मोदी सरकार ने कहा था कि पेट्रोल-डीजल के दाम अंतर्राष्ट्रीय बाजार से जोड़ें जायेंगे लेकिन यह दावा भी मोदी सरकार के अन्य दावों की तरह झूठ निकला। पेट्रोल-डीजल के महंगे दामों की मार गरीब आदमी और मध्यम वर्ग झेल रहा है। डीजल महंगा होने के कारण खेती की लागत बढ़ गयी है। किसान के धान का दाम केन्द्र सरकार ठीक से बढ़ाती नहीं और महंगाई बढ़ाती जा रही है। डीजल महंगा होने से परिवहन की लागत बढ़ गयी है। अनाज सब्जी हर वस्तु के दाम बढ़े है। आम उपभोक्ता महंगाई से त्रस्त है। गृहणियों के घर का बजट बिगड़ गया है। रसोई गैस सिलेंडर भी लगातार महंगे होते जा रहे है।

मोहन मरकाम ने कहा है कि 130 करोड़ भारतीय कोरोना से जंग लड़ रहे हैं। बेरोजगारी के समय में रोजी-रोटी की मार झेल रहे हैं। आर्थिक संकट से जूझ रहे हैं और संकट के इस समय में भी जनविरोधी केंद्र की भाजपा सरकार देशवासियों की खून पसीने की कमाई डीजल-पेट्रोल का दाम बढ़ाकर लूटने में लगी है। आज कच्चे तेल की कीमतें पूरी दुनिया में अपने न्यूनतम स्तर पर हैं। उनका लाभ 130 करोड़ देशवासियों को देने की बजाए मोदी सरकार पेट्रोल और डीज़ल पर निर्दयी तरीके से टैक्स लगाकर मुनाफाखोरी कर रही है। विपदा के समय इस प्रकार पेट्रोल-डीज़ल पर टैक्स लगाकर देशवासियों की गाढ़ी कमाई को लूटना ‘आर्थिक अराजकता’ है। कोरोना महामारी व गंभीर संकट के इस काल में पूरी दुनिया की सरकारें जनता की जेब में पैसा डाल रही हैं, पर मोदी सरकार इसके ठीक विपरीत काम कर रही है। मोहन मरकाम ने मांग की है कि घटे हुए अंतर्राष्ट्रीय कच्चे तेल की कीमतों का लाभ आम लोगों को मिलना चाहिए और पेट्रोल-डीजल-एलपीजी गैस की कीमतों को 2004 के स्तर पर लाना चाहिए। मोहन मरकाम ने कहा है कि आज देश का हर एक व्यक्ति कोरोना की महामारी से लड़ रहा है। साथ-साथ बेरोजगारी से लड़ रहा है। 

 

30-11-2020
देश में 38772 नए कोरोना संक्रमित मिले, संक्रमितों का आंकड़ा 94 लाख से अधिक

नई दिल्ली। देश में कोरोना संक्रमण का प्रकोप थमने का नाम नहीं ले रहा है। लेकिन सक्रिय मामलों में कमी आई हैं। पिछले 24 घंटों में कोविड-19 के 38,772 नए मामले सामने आए और 443 लोगों की मौत हुई। केन्द्रीय स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय के अनुसार पिछले 24 घंटे में 38,772 नए मामले सामने आए और संक्रमितों का आंकड़ा 94.31 लाख हो गया। इस दौरान 45,333 मरीज स्वस्थ हुए और इसी के साथ काेरोनामुक्त होने वालों की तादाद 88.47 लाख हो गई। सक्रिय मामलों में 7004 की गिरावट के साथ यह संख्या 4.46 लाख पर आ गई। इसी अवधि में 443 और मरीजों की मौत होने से मृतकों का आंकड़ा बढ़कर 1,37,139 हो गया है। देश में रिकवरी दर बढ़कर अब 93.81 प्रतिशत और सक्रिय मामलों की दर कम होकर 4.74 तथा मृत्यु दर 1.45 प्रतिशत हो गए हैं।

29-11-2020
देश में 41 हजार से ज्यादा नए मरीज मिले, 496 की मौत

नई दिल्ली। देश में कोरोना संक्रमण का प्रकोप थमने का नाम नहीं ले रहा है। लेकिन सक्रिय मामलों में कमी आई हैं। पिछले 24 घंटों में कोविड-19 के 41,810 नए मामले सामने आए और 496 लोगों की मौत हुई। केन्द्रीय स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय के अनुसार पिछले 24 घंटे में 41,810 नए मामले सामने आए और संक्रमितों का आंकड़ा 93.92 लाख हो गया। इस दौरान 42,298 मरीज स्वस्थ हुए और इसी के साथ काेरोना को शिकस्त देने वालों की तादाद 88 लाख हो गई। सक्रिय मामलों में 984 की गिरावट के साथ यह संख्या 4.53 लाख पर आ गई। इसी अवधि में 496 और मरीजों की मौत होने से मृतकों का आंकड़ा बढ़कर 1,36,696 हो गया है। देश में रिकवरी दर बढ़कर अब 93.71 प्रतिशत हो गई है जबकि मृत्यु दर अभी 1.46 प्रतिशत है।

28-11-2020
देश में पिछले 24 घंटों में मिले 41,322 नए कोरोना पाॅजिटिव, सक्रिय मामलों में आई कमी

नई दिल्ली। देश में कोरोना संक्रमण का प्रकोप थमने का नाम नहीं ले रहा है। लेकिन सक्रिय मामलों में  कमी आई हैं। पिछले 24 घंटों में कोविड-19 के 41,322 नए मामले सामने आए और 485 लोगों की मौत हुई। केन्द्रीय स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय के अनुसार पिछले 24 घंटे में कोरोना के 41,322 नए मामले सामने आए और संक्रमितों का आंकड़ा 93.51 लाख हो गया। नए मामलों की तुलना में स्वस्थ होने वाले लोगों की संख्या अधिक होने से सक्रिय मामलों में 615 की कमी दर्ज की गई और यह संख्या 4,54,940 रह गई। इस दौरान 41,452 मरीज स्वस्थ हुए जिसे मिलाकर अब तक 87.59 लाख लोग कोरोना को मात दे चुके हैं। इसी अवधि में 485 और मरीजों की मौत होने से मृतकों का आंकड़ा बढ़कर 1,36,200 हो गया है। देश में सक्रिय मामलों की दर घटकर 4.87 प्रतिशत और रिकवरी दर बढ़कर 93.68 हो गई है जबकि मृत्यु दर अभी 1.46 प्रतिशत है।

27-11-2020
देश में 93 लाख के पार पहुंचा संक्रमितों का आंकड़ा, अब तक 135715 की मौत

नई दिल्ली। देश में कोरोना संक्रमण का प्रकोप थमने का नाम नहीं ले रहा है। फिर सक्रिय मामले बढ़ गए हैं। पिछले 24 घंटों में कोविड-19 के 43,082 नए मामले सामने आए और 492 लोगों की मौत हुई। केन्द्रीय स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय के अनुसार पिछले 24 घंटे में 43,082 नए मामले सामने आए और संक्रमितों का आंकड़ा 93.09 लाख हो गया। नए मामलों के साथ सक्रिय मामले 3211 बढ़े और यह संख्या 4.55 लाख हो गई। इस दौरान 39,379 मरीज स्वस्थ हुए जिसे मिलाकर अब तक 87.18 लाख लोग कोरोना को मात दे चुके हैं। इसी अवधि में 492 और मरीजों की मौत होने से मृतकों का आंकड़ा बढ़कर 1,35,715 हो गया है। देश में सक्रिय मामलों की दर बढ़कर 4.89 प्रतिशत और रिकवरी दर 93.65 हो गई है जबकि मृत्यु दर अभी 1.46 प्रतिशत है।

26-11-2020
व्यापारी एकता पैनल ने 26/11 के शहीदों को दी श्रद्धांजलि

रायपुर। देश की आर्थिक राजधानी मुंबई में 26 नवंबर 2008 को आतंकवादियों से मुकाबला करते हुए शहीद हुए वीर जवानों को आज व्यापारी एकता पैनल ने श्रद्धांजलि अर्पित की। व्यापारी एकता पैनल के अध्यक्ष पद के प्रत्याशी योगेश अग्रवाल और उनके साथियों ने जयस्तंभ चौक में मोमबत्ती जलाकर 26/11 के शहीदों को श्रदांजलि दी । यह जानकारी व्यापारी एकता पैनल के मुख्य प्रवक्ता ललित जैसिंघ ने दी। श्रदांजलि सभा में प्रमोद जैन, दिनेश अठवानी, कार्यक्रम प्रभारी राजकुमार राठी, राधाकिशन सुंदरानी, पार्षद अमर बंसल, राजेश वासवानी, निकेश बरडिया, अमरदास खट्टर, सुदेश मध्यान, संजय क़ानूगा एवं अन्य पदाधिकारी गण उपस्थित थे। 

 

26-11-2020
देश में 44489 नए मरीज मिले, 524 की मौत 

नई दिल्ली। देश में कोरोना संक्रमण का प्रकोप थमने का नाम नहीं ले रहा है। फिर सक्रिय मामले बढ़ गए हैं। पिछले 24 घंटों में कोविड-19 के 44,489 नए मामले सामने आए और 524  लोगों की मौत हुई। केन्द्रीय स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय के अनुसार पिछले 24 घंटे में 44,489 नए मामले सामने आए और संक्रमितों का आंकड़ा 92.66 लाख हो गया है। नए मामलों के साथ सक्रिय मामले 7598 बढ़े और यह संख्या 4.52 लाख हो गई। इस दौरान 36,367 मरीज स्वस्थ हुए जिसे मिलाकर कोरोना को मात देने वालों की संख्या अब 86.79 लाख हो गई है। इसी अवधि में 524 और मरीजों की मौत होने से मृतकों का आंकड़ा बढ़कर 1,35,223 हो गया है। देश में सक्रिय मामलों की दर बढ़कर 4.88 प्रतिशत और रिकवरी दर 93.66 हो गई है जबकि मृत्यु दर अभी 1.46 प्रतिशत है।

25-11-2020
स्वच्छता सर्वेक्षण के 6 हजार अंक लेने जुटा निगम, रात में सफाई कर उठाया जा रहा कचरा

भिलाई। पूरे देश में स्वच्छता पर फोकस किया गया है। स्वच्छता सर्वेक्षण कर अंको के आधार पर पुरस्कार भी दिया जाएगा। 6 हजार अंक में अधिक से अधिक अंक हासिल करने रिसाली नगर पालिक निगम बीट चार्ट तैयार कर सफाई कार्य को अभियान के तर्ज पर पूरा कर रहे हैं। इस कार्य का अवलोकन करने अपर कलेक्टर व रिसाली निगम के आयुक्त प्रकाश कुमार सर्वे पहुंचे। निगम आयुक्त सबसे पहले सांई मंदिर रोड पहुंचे। इसके बाद रिसाली निगम क्षेत्र के आशीष नगर, रूआबांधा, प्रगतिनगर क्षेत्र में चल रहे बीट चार्ट कार्य का अवलोकन किया। सड़क की व बाजार क्षेत्र में अपनी उपस्थिति में सफाई कार्य कराया और कचरा उठाने के निर्देश दिए। स्वास्थ्य विभाग के निरीक्षक बृजेन्द्र परिहार ने बताया कि सड़क की सफाई गैंग द्वारा कराया जा रहा है। वही नाली सफाई के लिए वे हर दिन  500-1000 मीटर नाली को चिन्हित करते है। इसके बाद उस नाली की सफाई की जाती है। नाली से निकाले गीला कचरा को नाली तट पर छोड़ा जाता है। दूसरे दिन नाली से निकले कचरे को उठाने के बाद नाली के आगे की सफाई शुरू की जाती है। सफाई कार्य में किसी तरह की चूक न हो इस पर विशेष नजर रखा जा रही है। निगम के नोडल अधिकारी रमाकांत साहू रात्रिकालीन सफाई व्यवस्था की मानिटरिंग कर रहे हैं। उल्लेखनीय है कि रात्रिकालीन सफाई निगम क्षेत्र के मैत्री नगर, प्रगति नजर, बाजार क्षेत्र के अलावा कृष्णा टाॅकिज रोड व रिसाली बस्ती मार्केट क्षेत्र में चल रहा है। उल्लेखनीय है कि रिसाली नगर पालिक निगम क्षेत्र में कुल 29 सार्वजनिक शौचालय है। इसमें से  26 शौचालय का मरम्मत कार्य और विशेष साफ-सफाई कराई जा रही है।

 

25-11-2020
देश में 24 घंटों में 44 हजार से ज्यादा नए कोरोना संक्रमित मिले, संक्रमितों ​का आंकड़ा 92 लाख के पार

नई दिल्ली। देश में कोरोना संक्रमण का प्रकोप थमने का नाम नहीं ले रहा है। फिर सक्रिय मामले बढ़ गए है। पिछले 24 घंटों में कोविड-19 के 44,376 नए मामले सामने आए और 481 लोगों की मौत हुई। केन्द्रीय स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय के अनुसार पिछले 24 घंटे में 44,376 नए मामले सामने आए और संक्रमितों का आंकड़ा 92.22 लाख हो गया है। नए मामलों के साथ सक्रिय मामले 6079 बढ़े और यह संख्या 4.44 लाख हो गई। इस दौरान 37,816 मरीज स्वस्थ हुए जिसे मिलाकर कोरोना को मात देने वालों की संख्या अब 8.64 लाख हो गई है। इसी अवधि में 481 और मरीजों की मौत होने से मृतकों का आंकड़ा बढ़कर 1,34,699 हो गया है। देश में सक्रिय मामलों की दर 4.82 प्रतिशत हो गई है जबकि मृत्यु दर अभी 1.46 प्रतिशत है।

24-11-2020
देश में कोरोना की रफ्तार हुई धीमी, सक्रिय मामले भी घटे

नई दिल्ली। देश में कोरोना संक्रमण का प्रकोप थमने का नाम नहीं ले रहा है। लेकिन सक्रिय मामलों में कमी आई है। पिछले 24 घंटों में कोविड-19 के 37,975 नए मामले सामने आए और 480 लोगों की मौत हुई। केन्द्रीय स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय के अनुसार पिछले 24 घंटे में 37,975 नए मामले सामने आए और संक्रमितों का आंकड़ा 91.77 लाख हो गया है। इस दौरान 42,314 मरीज स्वस्थ हुए जिससे सक्रिय मामलों में 4819 की कमी आई और इसकी संख्या 4.38 लाख हो गई हैं। इसी अवधि में 480 और मरीजों की मौत होने से मृतकों का आंकड़ा बढ़कर 1,34,218 हो गया है। देश में सक्रिय मामलों की दर 4.78 और रिकवरी दर 93.76 प्रतिशत पर आ गई है जबकि मृत्यु दर अभी 1.46 प्रतिशत है।

23-11-2020
छत्तीसगढ़ देश का पहला राज्य जहां मितानिन कार्यक्रम की शुरुआत हुई : विकास उपाध्याय

रायपुर। विधायक व संसदीय सचिव विकास उपाध्याय सोमवार को मितानिन दिवस पर अपने पश्चिम विधानसभा के विभिन्न क्षेत्रों में सम्मान समारोह में शामिल हुए। उन्होंने मितानिनों को श्रीफल, साड़ी और कंबल देकर सम्मानित किया। विकास उपाध्याय ने कहा कि छत्तीसगढ़ राज्य देश का ऐसा पहला राज्य है, जहां मितानिन कार्यक्रम शुरू किया गया। भारत सरकार ने उसी तर्ज पर अमल करते हुए आशा की नियुक्ति की। इसके कारण मितानिन कार्यक्रम को देश भर में आशा के नाम से भी जाना जाता है। विधायक विकास उपाध्याय ने सम्मान समारोह में अपने संबोधन में कहा कि प्रदेश में स्वास्थ्य के क्षेत्र में अब तक जितनी भी उपलब्धियां रही हैं, उनके पीछे महत्वपूर्ण श्रेय मितानिन कार्यक्रम को जाता है। मितानिनों के नि:स्वार्थ सेवा और मेहनत के फलस्वरूप ही मितानिन कार्यक्रम महिला सशक्तिकरण का पूरे देश एवं प्रदेश में सबसे शानदार उदाहरण है।

मितानिन ही बच्चों को टीका लगाने से लेकर गर्भवती महिलाओं की देखरेख करना, अस्पताल ले जाना, जच्चा-बच्चा को स्वस्थ रखने के लिए पोषण आहार संबंधी जानकारी देने का काम जिम्मेदारी से करती हैं।  ऐसी ही छोटी से छोटी जरुरतों को पूरा करने का काम मितानिनों की ओर किया जाता है। विधायक उपाध्याय पश्चिम विधानसभा के ठक्कर बापा वार्ड गुढ़ियारी, शिवानंद नगर खमतराई, कोटा, रामनगर, डंगनिया, मंगल बाजार सामुदायिक भवन सहित विभिन्न आयोजनों में सम्मिलित हुए। उन्होंने भरोसा दिलाया कि भविष्य में भी इस तरह के मितानिनों के कार्यक्रमों में वे लगातार आते रहेंगे। शासन की ओर से समय-समय पर मितानिनों के लिए आवश्यक योजना लाने वे प्रयास करेंगे। विधायक ने कहा लोगों के स्वास्थ्य को लेकर जो बहनें अपना पूरा समय न्यौछावर कर रहीं हैं, उनके हर समस्या के लिए उनका द्वार हमेशा खुला रहेगा।

 

 

 

 

Advertise, Call Now - +91 76111 07804