GLIBS
02-06-2020
गुरदासपुर से स्पेशल ट्रेन में 1618 श्रमिक पहुंचे चांपा

रायपुर। पंजाब के गुरदासपुर से 1618 श्रमिक यात्री एक जून की रात्रि मेें जांजगीर-चांपा पहुंचे। इनमें 1519 श्रमिक जांजगीर चांपा जिले के और 99 श्रमिक यात्री रायगढ़ जिले के शामिल हैं। विगत तीन माह से लाक डाऊन में फंसे श्रमिकों ने अपने गृह जिला पहुंचने पर मुख्यमंत्री भूपेश बघेल को धन्यवाद दिया है। श्रमिक स्पेशल ट्रेन के चांपा स्टेशन पहुंचने पर उपस्थित अधिकारियों-कर्मचारियों ने श्रमिक यात्रियों का स्वागत किया और उनका मनोबल बढ़ाया। कलेक्टर के मार्गनिर्देशन में सभी श्रमिकों को सोशल, फिजिकल डिस्टेंस का पालन करवाते हुए विकासखंडवार बनाए गए स्टाल पर ले जाया गया। श्रमिक यात्रियों का मेडिकल टीम द्वारा थर्मल स्कैनिंग कर स्वास्थ्य परीक्षण किया गया। जिला प्रशासन की पहल पर बाजोरिया फाउंडेशन और चांपा सेवा संस्थान द्वारा श्रमिकों को भोजन के पैकेट वितरित किए गए। श्रमिकों को उनके गृह ग्राम के समीप बनाए गए क्वॉरेंटाइन सेंटर के लिए बस से रवाना किया गया। स्वच्छता कर्मचारियों ने ट्रेन आने से पूर्व प्लेटफॉर्म का सैनिटराइज किया और श्रमिकों के द्वारा साथ में लाए गए सामानों पर भी स्प्रे कर सैनिटराइज किया गया।

01-06-2020
राहौद में चौबीस घंटे में 10 नार्मल डिलीवरी का रिकार्ड,पढ़े पूरी खबर..

रायपुर/जांजगीर-चांपा। आयुष्‍मान भारत योजना के तहत हेल्‍थ एवं वेलनेस सेंटर के रुप में विकसित प्राथमिक स्‍वास्‍थ्‍य केंद्र, राहौद क्षेत्र के लोगों को स्‍वास्‍थ्‍य सुविधाएं पहुंचाने में नए-नए कीर्तिमान गढ़ रहा है।यहां के मेडिकल स्‍टॉफ की टीम की आपसी तालमेल की वजह से अस्‍पताल में गर्भवती महिलाओं के लिए 24 घंटे प्रसव की सुविधाएं प्रदान करती है। लॉक डाउन के दौरान 12 मई को 24 घंटे में 10 नार्मल डिलीवरी के साथ स्‍वस्‍थ्‍य जच्‍चा बच्‍चा की सुरक्षा प्रदान करने का रिकार्ड प्राथमिक स्‍वास्‍थ्‍य केंद्र ने बनाया है। स्‍वास्‍थ्‍य केंद्र के बेहतर चिकित्‍सकीय सेवा के लिए जिला स्तर पर वर्ष 2015 में और राज्य स्‍तर पर वर्ष 2016 में कार्याकल्‍प सम्‍मान से पुरस्‍कृत भी किया जा चुका है।बीएमओ पामगढ डॉ.सौरभ यादव ने बताया सामुदायिक स्‍वास्‍थ्‍य केंद्र के अंतर्गत आने वाला यह प्राथमिक स्‍वास्‍थ्‍य केंद्र कुल 15 स्‍टॉफ और सीमित संसाधनों के बावजूद मात्र 5 सालों से गर्भवती महिलाओं के सुरक्षित प्रसव कराने के लिए क्षेत्र में पहचान बना ली है। यहां महीने में औसत 50 से अधिक नार्मल डिलीवरी होने के साथ ही जनवरी से दिसंबर तक वर्ष 2019 में कुल 608 संस्‍थागत प्रसव कराया गया है। लॉक डाउन के दौरान भी यहां के मेडिकल स्‍टॉफ ने एक जनवरी 2020 से 31 मई 2020 तक 227 गर्भवती महिलाओं का सुरक्षित प्रसव कराया है जबकि पामगढ सीएचसी में महिने में औसत 70 डिलवरी और अन्‍य प्राथमिक स्‍वास्‍थ्‍य केंद्र में औसतन 15 से 20 नार्मल डिलीवरी कराने का रिकार्ड है।प्राथमिक स्‍वास्‍थ्‍य केंद्र, राहौद के प्रभारी चिकित्‍सा अधिकारी दिनेश दिनकर (आरएमओ) ने बताया, 6 बिस्‍तरों वाला अस्‍पताल के अंतर्गत 4 उपस्‍वास्‍थ्‍य केंद्र राहौद, महका, बुंदेला व धरदेई के अंतर्गत आने वाले 12 ग्राम पंचायतों के लगभग 27,000 की ग्रामीण आबादी को शासन के मंशानुरुप स्‍वास्‍थ्‍य सुविधाएं उपलब्‍ध करा रहा है। अस्‍पताल में सालभर आने वाले ओपीडी मरीज की संख्‍या 25000 तो आईपीडी में 900 से अधिक मरीजों का भर्ती होने पर इलाज किया गया। राहौद क्षेत्र के अलावा भी ग्राम मेंऊ,रसौटा,डोंगाकोहरौद,कोसीर व सिल्‍ली से भी गर्भवती महिलाओं को लेकर परिजन अस्‍पताल में स्‍वास्‍थ्‍य सुविधाओं का लाभ लेते हैं।प्रभारी चिकित्‍सक आरएमओ दिनकर ने बताया,अस्‍पताल में दो एएमओ,3 स्‍टॉफ नर्स, एक एएनएम, एक फार्मासिस्‍ट,एक लैब असिस्‍टैंट,कम्‍प्‍यूटर ऑपरेटर,योग प्रशिक्षक,वार्ड व्‍याय, आया बाई, सफाई कर्मी,चौकीदार सहित अन्‍य अस्‍पताल के स्‍टॉफ यहां आने वाले मरीजों की सेवा करने में कोई कसर नहीं छोड़ते हैं। दिनकर ने बताया क्षेत्र के जनप्रतिनिधियों के द्वारा भी एम्‍बुलेंस, आरओ वॉटर दान में प्राप्‍त हुआ है। राहौद नगर पंचायत के अध्‍यक्ष द्वारा एक्‍सरे मशीन दान स्‍वरुप अस्‍पताल में आने वाले मरीजों के लिए दिया गया है जिसका लाभ क्षेत्र के मरीजों को मिलेगा। इससे निजी अस्‍पतालों में लगने वाले खर्च से बचत होगी। वहीं शासन द्वारा अस्‍पताल परिसर में स्‍टॉफ क्‍वाटर का निर्माण कार्य भी शासन द्वारा स्‍वीकृत हो गया है।

16-05-2020
Breaking:  छत्तीसगढ़ में फिर पैर पसारते कोरोना के बीच राहत की खबर, दो रोगी डिस्चार्ज

रायपुर। छत्तीसगढ़ में पिछले 48 घंटे में 8 कोरोना वायरस से संक्रमित लोग सामने आए हैं। प्रदेश में कोरोना की स्थिति को लेकर उतार चढ़ाव बना हुआ है। कोरोना मुक्त होने की तरफ बढ़ते प्रदेश पर ब्रेक लगा और नए कोरोना रोगी सामने आए। कुछ देर पहले प्रदेश में कोरोना के एक्टिव केस की संख्या 11 पहुंच चुकी थी, लेकिन इस बीच एम्स रायपुर से राहत की खबर सामने आई है। एम्स ने कोरोना के दो रोगियों को स्वस्थ कर डिस्चार्ज कर दिया है। इसकी पुष्टि एम्स ने अपने ट्वीटर हैंडल पर की है। एम्स से स्वस्थ होकर घर लौटे दो लोगों में से एक सूरजपुर और दूसरा दुर्ग का मरीज शामिल है। वर्तमान में रायपुर एम्स में दो कोरोना रोगियों का इलाज जारी है। दोनों की स्थिति स्थिर बनी हुई है।
बता दें कि शनिवार को बालोद जिले में मिले दूसरे कोरोना रोगी के बाद प्रदेश में एक्टिव मरीजों की संख्या 11 हो गई थी। एम्स से दो मरीजों के ठीक होकर डिस्चार्ज होने के बाद अब एक्टिव मरीजों की संख्या 9 हो गई है। इनमें एम्स में दो लोगों का उपचार जारी है और एक बालोद से शनिवार को 20 वर्षीय युवक के कोरोना संक्रमित होने की पुष्टि हुई है। युवक को एम्स रायपुर लाने की प्रक्रिया जारी है। शेष 6 लोगों की शुक्रवार को कोरोना संक्रमित होने की पुष्टि हुई थी। इनमें 5 जांजगीर-चांपा जिले से और 1 कोरिया जिले से हैं। बालोद, जांजगीर-चांपा और कोरिया से पिछले 48 घंटे में सामने आए कुल 8 कोरोना संक्रमित रोगी में 7 प्रवासी मजदूर है,वहीं  कोरिया का संक्रमित रोगी अपनी पत्नी को लेने गया था। अब प्रदेश के डॉक्टर्स इन 9 कोरोना रोगियों को जल्द स्वस्थ करने के लिए संकल्पित हैं।

 

15-05-2020
कोटवार समेत चार के खिलाफ मामला दर्ज, क्वारेंटीन सेंटर में पिलाई शराब

रायपुर/जांजगीर-चांपा। कोटवार समेत पांच लोगों के खिलाफ महामारी अधिनियम के तहत मामला दर्ज किया गया है। बता दें कि क्वारेंटाइन सेंटर में पहुंचे मजदूरों को 14 दिन के लिए क्वारेंटाइन किया गया है। सारागांव थाना क्षेत्र के ग्राम परसापाली के शासकीय उच्चतर माध्यमिक विद्यालय में बाहर से आए श्रमिकों को 14 दिनों के लिए क्वारेंटीन किया गया है। ड्यूटी में लगे कोटवार नरोत्तम दास और उसके चार साथियों ने क्वारेंटीन सेंटर में शराब पीने के साथ सभी मजदूरों को शराब उपलब्ध कराया। मामले की शिकायत ग्रामीणों ने पुलिस से की। सारगांव पुलिस ने मामले की जांच में शिकायत सही पाया। इस पर कोटवार नरोत्तम दास एवं उसके चार साथ ओमप्रकाश,हीरालाल, श्रीकान्त और रमेश के खिलाफ महामारी अधिनियम के तहत अपराध दर्ज किया है।

 

14-05-2020
जांजगीर-चांपा कलेक्टर ने कोर कमेटी की बैठक में कहा,सभी क्वारेंटीन सेंटर में भोजन, पेयजल, स्वच्छता पर दे विशेष ध्यान

रायपुर/जांजगीर-चांपा। कलेक्टर जनकप्रसाद पाठक की अध्यक्षता मे कलेक्टर कार्यालय में जिला स्तरीय कोविड-19 कोर कमेटी की बैठक आयोजित की। बैठक में कलेक्टर ने वाहन प्रभारी अधिकारी से कहा कि वे अन्य प्रांतों से विशेष श्रमिक रेल से जांजगीर-चांपा जिला आने पर बसों मे श्रमिकों को सुव्यवस्थित रूप से शारीरिक दूरी का पालन कराते हुए बैठाए। कलेक्टर ने कहा कि बस की सीट केवल बैठने के लिए उपयोग हों और समान बस के ऊपर रखवाए। बैठक में चांपा रेलवे स्टेशन पर पठानकोट चांपा विशेष श्रमिक रेल के आगमन पर स्वच्छता कर्मियों की ओर से किए गये सैनिटाइजेशन और प्लेटफार्म सहित स्टेस्टिव परिसर की प्रशंसा की । बैठक में स्वास्थ्य जांच टीम को सक्रिय रखने के निर्देश दिए। ताकि आगन्तुक श्रमिकों यात्रियों की स्वास्थ्य जांच की कार्यवाही शीघ्र हो सकें और श्रमिकों को गंतव्य के लिए यथाशीघ्र रवाना किया जा सकें।

कलेक्टर ने कहा कि सभी क्वारेंटीन सेंटर में भोजन, पेयजल, स्वच्छता पर विशेष ध्यान दें। क्वारेंटीन किए गये सभी श्रमिकों से शपथ पत्र अनिवार्य रूप से भरवायें। इस कार्य के लिए संबंधित एसडीएम व्यक्तिगत रूप से जवाबदार होंगे। कलेक्टर ने कहा कि क्वारेंटीन सेंटर मे प्रवेश पूर्णतः प्रतिबंधित है। इसका कड़ाई से पालन सुनिश्चित करवायें। बैठक में पुलिस अधीक्षक पारूल माथुर, जिला पंचायत सीईओ तीर्थराज अग्रवाल, अपर कलेक्टर, संयुक्त कलेक्टर सचिन भूतड़ा, मुख्य चिकित्सा और स्वास्थ्य अधिकारी डाॅ बंजारे सहित कोर कमेटी के सदस्य उपस्थित थे।

02-05-2020
सिंहदेव ने जांजगीर-चांपा के अधिकारियों को समन्वय बनाकर कार्य करने कहा, डॉ.महंत ने दिया महत्वपूर्ण सुझाव

रायपुर। जांजगीर-चांपा जिले के प्रभारी मंत्री टीएस सिंहदेव ने शनिवार को वीडियो कॉन्फ्रेंस के जरिए वहां शासकीय योजनाओं के क्रियान्यवन और विकास कार्यों के प्रगति की समीक्षा की। बैठक में विधानसभा अध्यक्ष डॉ.चरणदास महंत और जिले के सभी विधायक भी शामिल हुए। प्रभारी मंत्री सिंहदेव ने जिले में लौटकर आने वाले श्रमिकों को सुरक्षित क्वारेंटाइन में रखने और उनके आवास, भोजन और स्वास्थ्य परीक्षण की पुख्ता व्यवस्था के निर्देश दिए। उन्होंने जिले के अधिकारियों को इसके लिए राज्य स्तरीय नोडल अधिकारियों से सतत संपर्क में रहकर समन्वय बनाकर कार्य करने कहा।विधानसभा अध्यक्ष डॉ.चरणदास महंत और सभी विधायकों ने प्रदेश में कोविड-19 के नियंत्रण और रोकथाम के लिए राज्य शासन की ओर से तत्परता से लिए गए फैसलों की सराहना की। उन्होंने कहा कि सभी विभागों के सम्मिलित प्रयास और लॉक-डाउन का कड़ाई से पालन होने से प्रदेश में कोरोना वायरस नियंत्रण की अच्छी स्थिति है।

डॉ.महंत ने जरुरतमंदों को समय पर चावल वितरण तय करने कहा। डॉ. महंत ने आगामी खरीफ सीजन को देखते हुए मवेशी बाजार खोलने और जिन ग्राम पंचायतों में अभी मनरेगा कार्य शुरू नहीं हुए हैं, वहां इसे यथाशीघ्र प्रारंभ करने का सुझाव दिया। बैठक में शामिल विधायकों नारायण चंदेल, केशव चंद्रा,सौरभ सिंह, राम कुमार यादव और इंदु बंजारे ने दूसरे राज्यों में फंसे छत्तीसगढ़ के छात्रों, मजदूरों, पर्यटकों, तीर्थयात्रियों और अन्य लोगों की प्रदेश वापसी के लिए सरकार की पहल को सराहा। उन्होंने लॉक डाउन अवधि में आवश्यक सुविधाओं और सेवाओं के निर्बाध संचालन के लिए तत्परता से की गई व्यवस्थाओं के लिए सरकार को धन्यवाद दिया।जांजगीर-चांपा के प्रभारी मंत्री सिंहदेव ने वीडियो कॉन्फ्रेंस में जिले में कोविड-19 अस्पताल की तैयारी, टीकाकरण कार्यक्रम, आवश्यक चिकित्सा सुविधाओं और सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्रों में मरीजों को लाने-ले जाने के लिए वाहन व्यवस्था की समीक्षा की।

 

उन्होंने कहा कि जिन गांवों में अन्य राज्यों से ज्यादा मजदूर आ रहे हैं, वहां उसी के अनुरूप पर्याप्त संख्या में अधिकारियों-कर्मचारियों की ड्यूटी लगाएं। सभी जगह सोशल और फिजिकल डिस्टेंसिंग का कड़ाई से पालन तय करें।  सिंहदेव ने बैठक में प्रधानमंत्री आवास योजना, प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना, मनरेगा, खाद्यान्न वितरण, नरवा गरवा घुरवा बारी, बीज व खाद भंडारण, तेंदूपत्ता संग्रहण की तैयारी और कानून-व्यवस्था की स्थिति की समीक्षा की। उन्होंने कृषि, जल संसाधन, लोक निर्माण, लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी, वन और समाज कल्याण विभाग के कार्यों की भी समीक्षा कर अधिकारियों को आवश्यक निर्देश दिए। वीडियो कॉन्फ्रेंस में कलेक्टर जनकप्रसाद पाठक, पुलिस अधीक्षक पारूल माथुर और जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी तीर्थराज अग्रवाल सहित विभिन्न विभागों के जिला स्तरीय अधिकारी शामिल हुए।

 

 

15-04-2020
बिना अनुमति मुख्यालय से बाहर निकले तो होगी कार्रवाई : कलेक्टर

रायपुर। जांजगीर-चांपा जिले के कलेक्टर जनक प्रसाद पाठक ने जिले में कार्यरत सभी जिला स्तरीय अधिकारियों एवं कर्मचारियों को निर्देशित कर कहा है कि वे अपने पदस्थापना स्थल पर ही सतत रूप से उपस्थित रहते हुए अपने दायित्वों का निर्वहन करें। कलेक्टर ने कहा है कि अधिकारी-कर्मचारी मुख्यालय में नहीं रह कर आना-जाना कर रहे हैं, जिसके कारण अति आवश्यक कार्य प्रभावित होता है। कलेक्टर ने कहा है कि यदि किसी अधिकारी-कर्मचारी को मुख्यालय से बाहर जाना अतिआवश्यक हो तो वे पहले अनुमति प्राप्त करे उसके बाद ही प्रस्थान करें। कलेक्टर ने कहा है कि बिना अनुमति के कोई अधिकारी-कर्मचारी मुख्यालय से बाहर जाएंगें तो संबंधित के विरुद्ध अनुशासनात्मक कार्यवाही की जाएगी। उन्होंने कहा है कि कोविड-19 के संक्रमण से निपटने केंद्र, राज्य सरकार से जारी आदेशों, निर्देशों के पालन के लिए सभी जिला स्तरीय अधिकारियों और कर्मचारियों का अपने मुख्यालय में उपस्थित रहना आवश्यक है

21-03-2020
आशिकी के चक्कर में पहुंचा जेल, जानिए क्या है मामला...

रायपुर। प्रदेश के जांजगीर-चांपा में एकतरफा प्यार का बुखार ऐसा कि युवती की शादी तय होते ही युवक ने उसके परिवार के सदस्यों एवं रिश्तेदारों को मोबाइल पर अश्लील मेसेज भेज दिया। बता दें कि पहली मुलाकात में युवती से एकतरफा प्यार होने के कारण युवक ने विवाह करने की इच्छा जताई। लेकिन युवती की तरफ से कोई रिस्पांस नहीं मिला। युवती के घरवालों ने जब उसकी शादी दूसरी जगह तय की, तब नाराज युवक ने युवती और उसके रिश्तेदार व अन्य लोगों के मोबाइल पर अश्लील मैसेज भेजे। मामले की शिकायत के बाद बिर्रा थाना पुलिस ने आरोपी युवक को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया।

 

19-03-2020
शराब, गांजा, और जुआ से परेशान ग्रामीण महिलाओं ने किया प्रदर्शन

जांजगीर-चांपा। जैजैपुर क्षेत्र के ग्राम पंचायत मलनी में बेचे जा रहे शराब और गांजे एवं लोगों द्वारा खेले जा रहे जुआ से परेशान महिला समूह की सदस्यों ने ग्रामीणों के साथ मिलकर प्रदर्शन किया। इस दौरान उनके साथ सरपंच एवं जनपद उपाध्यक्ष व सदस्य उपस्थित थे। महिलाओं ने बुरे कार्यों के विरुद्ध सभी को एकत्रित किया और पुरे गाँव में भ्रमण कर ग्रामवासियों को नशे से दूर रहने की बात कही। 

14-03-2020
VIDEO: महिला एवं बाल विकास विभाग की सजगता से रुका दो नाबालिगों का बाल विवाह

जांजगीर-चांपा। डभरा थाना क्षेत्र के ग्राम डोभनपुर व कोतवाली थाना क्षेत्र के ग्राम जोबी में नाबालिग लड़की की विवाह का मामला सामने आया है। वहीं नाबालिग की शादी होने कि सूचना महिला एवं बाल विकास विभाग के अधिकारियों को मिलने के बाद मौके पर पहुंच विभाग के अधिकारियों टीम व पुलिस टीम ने शादी को समझाइस देकर रुकवाया गया। वहीं दोनों नाबालिग के परिजनों को भी बाल विवाह न करने की सलाह दी गयी है।

 

04-03-2020
अज्ञात कारणों से युवक ने की खुदकुशी, पुलिस जुटी जांच में...

जांजगीर-चांपा। चांपा थाना क्षेत्र के ग्राम कुर्दा में सुन्दर लाल बरेठ ने पेड़ में फांसी लगाकर खुदकुशी कर ली। बता दें कि घटना की सूचना मिलते ही पुलिस पहुंची और शव को पंचनामा कर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया है। फिलहाल खुदकुशी के कारण का पता नहीं चल पाया है। पुलिस ने परिजनों का बयान लिया और मामले में मर्ग कायम कर जांच की जा रही है। 

02-03-2020
Video : प्रधान पाठक कक्ष भवन का निर्माण 9 वर्षों बाद भी अधूरा, स्वीकृति के बाद भी नही हो पाया काम पूरा                          

जांजगीर-चांपा। राजीव गांधी शिक्षा मिशन के तहत शासकीय पूर्व माध्यमिक विद्यालय लटेसरा एवं शासकीय जनपद प्राथमिक शाला लटेसरा के लिए शासन द्वारा सर्व शिक्षा अभियान के तहत सन 2010-11 मे प्रधान पाठक कक्ष भवन की स्वीकृति दी गई थी जो भ्रष्टाचार की भेंट चढ़ गया है। 9 वर्षों के बाद भी आज तक प्रधान पाठक कक्ष भवन का निर्माण कार्य अधूरा पड़ा है। जबकि विद्यालय के प्रधान पाठकों के रहने के लिए भवन निर्माण की मंजूरी दी गई थी जो आज तक निर्माण कार्य अधूरा है भवन निर्माण के नाम पर मात्र दीवाल का निर्माण हुआ है और दरवाजे लगे थे। लेकिन भवन निर्माण के लिए पहली किस्त की राशि जारी की गई। इसके बाद जिम्मेदारों ने राशि ही जारी नहीं की। निर्माण के अभाव में भवन खंडहर में तब्दील हो रहा है। प्राथमिक एवं पूर्व माध्यमिक विद्यालय के लिए कुल 6 लाख 20 हजार रुपए की राशि मंजूर की गई थी। वहीं निर्माण के लिए शासकीय जनपद प्राथमिक शाला के लिए क़िस्त में  2 लाख 18 हजार 400 रुपए जारी किए जा चुके है एवं पूर्व माध्यमिक शाला प्रधान पाठक कक्ष के लिए भी किस्त जारी हो चुकी थी। इसके बाद भी निर्माण कार्य अधूरा पड़ा हुआ है।

 

Advertise, Call Now - +91 76111 07804