GLIBS
02-04-2020
प्रमुख सचिव ने कलेक्टरों को लिखा पत्र, कोविड-19 में ग्रामीणों की आजीविका सुरक्षित करना जरूरी

रायपुर। पंचायत एवं ग्रामीण विकास विभाग ने कोरोना संक्रमण से बचने और सोशल डिस्टेंसिंग के पालन के लिए मनरेगा (महात्मा गांधी राष्ट्रीय ग्रामीण रोजगार गारंटी योजना) के अंतर्गत व्यक्तिमूलक और आजीविका संवर्धन के कार्यों को प्रमुखता से स्वीकृत कर प्रारंभ करने के निर्देश दिए हैं। विभाग ने कम संख्या में श्रमिकों की जरूरत वाले अधिक से अधिक कार्यों को स्वीकृत कर काम शुरू करने कहा है। पंचायत एवं ग्रामीण विकास विभाग के प्रमुख सचिव गौरव द्विवेदी ने सभी कलेक्टरों को पत्र लिखकर कार्यस्थल पर कोरोना संक्रमण से बचने सभी सुरक्षात्मक उपायों और सोशल डिस्टेंसिंग का भी पालन सुनिश्चित करने के निर्देश दिए हैं। पत्र में उन्होंने कहा है कि मनरेगा ग्रामीण अर्थव्यवस्था के आधारभूत संघटकों में से एक महत्वपूर्ण संघटक है।

योजना के प्रावधानों के अनुसार पंजीकृत परिवारों के वयस्क सदस्यों द्वारा काम की मांग किए जाने पर अधिकतम 15 दिनों में रोजगार प्रदान किया जाना आवश्यक है। प्रमुख सचिव ने पत्र में कहा है कि कोविड-19 के कारण लॉक-डाउन के दौर में ग्रामीणों की आजीविका सुरक्षित करना जरूरी है। इसलिए इससे बचाव के सभी सुरक्षात्मक उपायों और दिशा-निर्देशों का पालन करते हुए मनरेगा कार्य शुरू किए जाएं। राज्य में योजना के तहत पंजीकृत 39 लाख 56 हजार परिवारों में 89 लाख 20 हजार श्रमिक हैं। इनमें से 32 लाख 82  हजार परिवारों के 66 लाख पांच हजार श्रमिकों को मनरेगा के माध्यम से सक्रिय रूप से रोजगार मिलता है।

 

29-02-2020
आयकर कार्रवाई के विरोध में कांग्रेस, बोले सुधांशु त्रिवेदी-क्या इंकम टैक्स से जुड़ी है सरकार की राजनीतिक अस्थिरता?

रायपुर। छत्तीसगढ़ में आयकर विभाग की दबिश के विरोध में कांग्रेस के घेराव और बयानबाजी पर भाजपा नेता और राज्यसभा सांसद सुधांशु त्रिवेदी ने पलटवार किया है। प्रदेश में आयकर की कार्रवाई पर मुख्यमंत्री, कैबिनेट मंत्री सहित अन्य नेताओं ने आयकर की कार्रवाई को राजनीतिक अस्थिरता से जोड़ा था। इस पर सुधांशु त्रिवेदी ने कहा कि इंकम टैक्स से राजनीतिक अस्थिरता कैसे आ सकती है। तो क्या उनकी राजनीतिक अस्थिरता इंकम से जुड़ी हुई है। सरकार के सभी विभाग अपनी क्षमता और स्वतंत्रता के आधार पर व्यावसायिक दक्षता के अनुसार कार्य कर रहे हैं। उसको लेकर किसी भी प्रकार का आक्षेप उठाना उचित नहीं है यदि किसी को आपत्ति है तो फोरम्स हैं। यह संवैधानिक व्यवस्थाएं हैं।

विश्व हिन्दू परिषद के कार्यक्रम में रायपुर पहुंचे सांसद सुधांशु त्रिवेदी ने सांस्कृतिक राष्ट्र एवं बदलते सामाजिक, राजनैतिक परिदृश्य पर वक्तव्य दिया। इस दौरान विभिन्न मुद्दों पर त्रिवेदी ने बेबाकी से अपनी राय रखी। दिल्ली में सीएए पर हो रहे आंदोलन पर सुधांशु त्रिवेदी ने कहा कि भारत में अनेक आंदोलन हुए लेकिन ये सबसे विचित्र है। हर आंदोलन में एक प्रतिनिधि होता है और एक मांग होती है। जब श्रीराम जन्मभूमि आंदोलन था तो श्रीराम जन्मभूमि न्यास की भी एक समिति थी, और तथाकथित बाबरी मस्जिद की भी एक एक्शन कमेटी थी। आपातकाल के दौरान आंदोलन हुआ तो जयप्रकाश उसके संयोजक थे। आजादी के पहले कांग्रेस की स्पष्ट मांग थी कि मुस्लिम लीग से ब्रिटिश सरकार बात ना करे। लेकिन यहां जो एनआरसी के नाम पर बवाल कर रहे हैं। भारत सरकार स्पष्ट रूप से सदन में कह चुकि है कि कोई ड्राफ्ट ही नहीं है यहां खत तो छोड़िए लिफाफा भी नहीं है। मजबून को लेकर बवाल किया जा रहा है। त्रिवेदी ने कहा कि संदेह उत्पन्न होता है कि शाहीन बाग का विषय जब समाधान की ओर जा रहा था तब अचानक वहीं विषय दूसरी ओर आकर हिंसात्मक रूप ले लेता है। संदेह और अधिक गहरा गया है कि यह संयोग नहीं प्रयोग था।

सुधांशु त्रिवेदी ने कहा कि कांग्रेस अध्यक्षा आज राजधर्म की बात कर रही हैं। जब उनका राज था तब असम और राजस्थान के मुख्यमंत्री, पूर्व प्रधानमंत्री हुबहु यही कह रहे थे तो सीएए एक्ट में कहा गया है। नवम्बर 1947 में जवाहर लाल नेहरु की अध्यक्षता में कांग्रेस का प्रस्ताव और सितम्बर 47 में महात्मा गांधी का वक्तव्य देख लीजिए। त्रिवेदी ने कहा कि हम अपनी बात पर कायम हैं लेकिन कांग्रेस का धर्म राज में कुछ और राज पाने के लिए कुछ और हो जाता है। राजकाज की बात छोड़कर यदि राष्ट्रधर्म की बात करें तो स्थितियां ज्यादा बेहतर हो सकती हैं। दुखद और दुर्भाग्यपूर्ण है कि इतने संवेदनशील माहौल में आज तक कांग्रेस के किसी भी वरिष्ठ नेता ने शांति बनाए रखने या संयम की अपील नहीं की है। लेकिन उकसाने वाले बयान दिए गए हैं। एक दौर में कांग्रेस कहती थी कि सरकार चलाना उन्हीं को आता है अब देश की जनता ने एक दशक में अच्छी तरह जवाब दे दिया है कि सरकार चलाना कितना आता है कितना नहीं।
त्रिवेदी ने कहा कि लम्बे समय तक सत्ता में रहने वाली कांग्रेस को विपक्ष की भूमिका निभाना नहीं आता है। परिपक्व विपक्ष का आचरण कांग्रेस को भारतीय जनता पार्टी के पुराने उदाहरणों से सीखना चाहिए।

त्रिवेदी ने कहा कि यह वही छत्तीसगढ़ है जहां कांग्रेस बड़े बहुमत से जीत कर आई है। कांग्रेस राजस्थान, छत्तीसगढ़ और मध्यप्रदेश की जीत के पहले कहती थी कि ईवीएम में गड़बड़ है। चुनाव आयोग तक पर उंगली उठा रहे थे। जीत गए तो ईवीएम भी ठीक है और चुनाव आयोग भी ठीक है। दिल्ली की आम आदमी पार्टी सरकार पर निशाना साधते हुए सुधांशु त्रिवेदी ने कहा कि दिल्ली में भाजपा की मात्र 8 सीटें आई लेकिन जिस पार्टी की 72 सीटें आई चुनाव परिणाम से 12 घंटे पहले वो चुनाव आयोग पर प्रश्न चिन्ह लगा रहे थे। सरकार की संवैधानिक संस्थाओं पर राजनैतिक कारणों से और राजनैतिक पूर्वाग्रह के आधार पर आक्षेप नहीं करना चाहिए।

 

25-02-2020
डिफेंस डील पर भारत-अमेरिका के बीच तीन अरब डॉलर का सौदा, जानें प्रेस वार्ता में मोदी-ट्रंप ने क्या कहा

नई दिल्ली। अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप की भारत यात्रा का मंगलवार को दूसरा दिन है। अपने दौरे के दूसरे दिन की शुरुआत डोनाल्ड ट्रंप ने राष्ट्रपिता महात्मा गांधी को राजघाट पर श्रद्धांजलि देकर की। इसके बाद हैदराबाद हाउस दिल्ली में ट्रंप और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने संयुक्त प्रेस वार्ता को संबोधित किया। ट्रंप ने ऐलान किया कि अमेरिका ने तीन अरब डॉलर के रक्षा समझौतों पर मुहर लगा दी है। वहीं प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि ट्रेड डील को लेकर भारत और अमेरिका के बीच बातचीत पर सहमति बनी है। इसके अलावा, दोनों देशों कट्टरपंथी इस्लामी आतंकवाद से निपटने में सहयोग करने को सहमत हुए। संयुक्त प्रेस वार्ता में पीएम मोदी ने कहा कि अहमदाबाद में सोमवार को राष्ट्रपति ट्रंप का जैसा स्वागत हुआ, उसे हमेशा याद रखा जाएगा। हमने भारत-अमेरिकी संबंधों को व्यापक वैश्विक साझेदारी के स्तर तक ले जाने का फैसला किया है। उन्होंने यह भी कहा कि दोनों देशों के बीच रक्षा सहयोग भारत और अमेरिका के बीच बढ़ती रणनीतिक साझेदारी का प्रतिबिंब है। पीएम मोदी ने कहा कि ट्रेड डील को लेकर बातचीत पर दोनों देशों के बीच समहति बनी है। साथ ही उन्होंने कहा कि हमने आतंकवाद के समर्थकों को जवाबदेह ठहराने की खातिर प्रयास बढ़ाने का फैसला किया है। हमारे बीच नशीले पदार्थों की तस्करी पर काबू करने के लिए नई प्रणाली पर सहमति बनी है। पीएम मोदी ने कहा कि तेल और गैस के लिए अमेरिका भारत का एक महत्वपूर्ण स्रोत बन गया है। उन्होंने आगे कहा कि इंडस्ट्री 4.0 और 21वीं सदी की अन्य उभरती टेक्नालजीज़ पर भी इंडिया-यूएस पार्टनरशिप, इनोवेशन और इंटरप्राइज के नए मुक़ाम स्थापित कर रही है। भारतीय प्रोफेशनल्स के टैलेंट ने अमरीकी कम्पनीज की टेक्नोलॉजी लीडरशिप को मजबूत किया है।

डोनाल्ड ट्रंप ने हैदराबाद हाउस में कहा, 'पिछले दो दिन, खासकर कल स्टेडियम में, यह मेरे लिए बहुत सम्मान की बात थी। वहां इतनी तादाद में लोग मौजूद थे शायद मेरे मुकाबले आपके (पीएम मोदी) लिए ज्यादा। 125 हजार लोग वहां मौजूद थे। हर बार जब मैंने आपका उल्लेख किया, तो उन्होंने खुशी जाहिर की। लोग आपको यहां बहुत प्यार करते हैं।' उन्होंने कहा कि हम कट्टरपंथी इस्लामी आतंकवाद से निपटने में सहयोग करने को सहमत हुए हैं। साथ ही उन्होंने बड़ा ऐलान करते हुए कहा कि हमने तीन अरब डॉलर के रक्षा समझौतों को अंतिम रूप दिया है। हमने 5जी दूरसंचार प्रौद्योगिकी, हिंद-प्रशांत में स्थिति पर चर्चा की। दोनों देशों के बीच यह बातचीत व्यापक व्यापार सौदा करने पर फोकस था।

25-02-2020
डोनाल्ड ट्रंप ने पत्नी मेलानिया के साथ राजघाट में महात्मा गांधी को दी श्रद्धांजलि

नई दिल्ली। राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप और पत्नी मेलानिया ट्रंप राजघाट पहुंच गए हैं। यहां उन्होंने महात्मा गांधी को श्रद्धांजलि दी। अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप को उनके भारत दौरे के दूसरे दिन मंगलवार की सुबह राष्ट्रपति भवन में 21 तोपों की सलामी दी गई और  गार्ड ऑफ ऑनर दिया गया। इस मौके पर डोनाल्ड ट्रंप के साथ उनकी बेटी इवांका भी मौजूद थी। राष्ट्रपति भवन में ट्रंप के आने पर पीएम मोदी और राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने उनका स्वागत किया। बता दें कि उसके बाद ट्रंप हैदराबाद हाउस दिल्ली जाएंगे। यहां ट्रंप प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से मुलाकात करेंगे। वहां दोनों देशों के बीच कई समझौते पर हस्ताक्षर होंगे। इसमें तीन अरब डॉलर का रक्षा समझौता भी शामिल है, जिसका एलान ट्रंप ने सोमवार को अहमदाबाद के मोटेरा स्टेडियम से किया था। 

25-02-2020
राष्ट्रपति भवन पहुंचे ट्रंप, आधिकारिक स्वागत के बाद दिया गया गार्ड ऑफ ऑनर

नई दिल्ली। अमेरिका राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप परिवार के साथ राष्ट्रपति भवन पहुंच चुके हैं। यहां उनका आधिकारिक स्वागत किया गया। राष्ट्रपति भवन में ट्रंप को गार्ड ऑफ ऑनर दिया गया। साथ ही ट्रंप को 21 तोपों की सलामी भी दी गई। बता दें कि ट्रंप की भारत यात्रा का मंगलवार को दूसरा दिन है। इसके बाद वह महात्मा गांधी को श्रद्धांजलि देने के लिए राजघाट जाएंगे। फिर हैदराबाद में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से ट्रंप मुलाकात करेंगे। जहां दोनों देशों के बीच कई समझौते पर हस्ताक्षर होंगे। इसमें तीन अरब डॉलर का रक्षा समझौता भी शामिल है जिसका एलान ट्रंप ने सोमवार को अहमदाबाद के मोटेरा स्टेडियम से किया था।

क्या है ट्रंप का आज का शेड्यूल
अमेरिका की प्रथम महिला मेलानिया ट्रंप दिल्ली के मोतीबाग में स्थित सरकारी स्कूल जाकर हैप्पीनेस क्लास की जानकारी लेंगी। वहीं हैदराबाद हाउस में ट्रंप और मोदी के बीच प्रतिनिधिमंडल स्तर की वार्ता होगी। इसके बाद प्रधानमंत्री मोदी अमेरिका के राष्ट्रपति के सम्मान में दोपहर का भोज देंगे। दोपहर में ट्रंप अमेरिकी दूतावास में उद्योग प्रतिनिधियों के साथ गोलमेज सम्मेलन में हिस्सा लेंगे। शाम को राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ट्रंप के सम्मान में रात्रि भोज देंगे। इसके रबाद राष्ट्रपति ट्रंप का भारत दौरा संपन्न हो जाएगा और वह अपने देश के लिए रवाना हो जाएंगे।

 

24-02-2020
जिला पंचायत के नवनिर्वाचित अध्यक्ष, उपाध्यक्ष और सदस्यों ने ली शपथ

धमतरी। जिला पंचायत की नवनिर्वाचित अध्यक्ष कांति सोनवानी, उपाध्यक्ष निशू चंद्राकर सहित 11 सदस्यों ने सोमवार को शपथ ली। कार्यक्रम जनपद सभागार में महात्मा गांधी के छाया चित्र पर दीप प्रज्वलन कर शुरू किया गया। जिला पंचायत के सीईओ नम्रता गांधी ने सबसे पहले अध्यक्ष कांति सुनवानी को शपथ दिलाई। इसके बाद उपाध्यक्ष निशू चंद्राकर समेत 11 सदस्य गोविंद साहू, सुमन संतोष साहू,तारिणी नीलम चंद्राकर,कविता बाबर,कुसुमलता साहू, कांति कवर, खूबलाल ध्रुव, अनीता ध्रुव, मीना बंजारे, मनोज साक्षी को शपथ दिलाई। इस अवसर पर क्षेत्र के नागरिक सहित कांग्रेस के पदाधिकारी व कार्यकर्ता उपस्थित थे।

 

22-02-2020
डॉनल्ड ट्रंप के सामने प्रस्तुति देंगे गायक कैलाश खेर, इस गाने से होगी कार्यक्रम की शुरआत

नई दिल्ली। अमेरिकी राष्ट्रपति डॉनल्ड ट्रंप पत्नी मेलानिया ट्रंप के साथ 24 फरवरी को दो दिवसीय भारत यात्रा पर आ रहे हैं। इस दौरान उनकी बेटी इवांका भी डोनाल्ड ट्रंप के साथ होंगी। डोनाल्ड ट्रंप अहमदाबाद में 'नमस्ते ट्रंप' में शिरकत करेंगे। वहीं इस दौरान भारतीय सिंगर कैलाश खेर, डोनाल्ड ट्रंप के सामने अपनी प्रस्तूती देंगे। बता दें कि गुजरात के अहमदाबाद में डॉनल्ड ट्रंप के स्वागत की तैयारियां पूरी हो चुकी हैं। एएनआई के साथ खास बातचीत के दौरान सिंगर कैलाश खेर ने बताया कि अहमदाबाद के मोटेरा स्टेडियम में वो अपनी परफॉर्मेंस देने जा रहे हैं।

कैलाश का कहना है कि 24 फरवरी को डोनाल्ड ट्रंप के सामने वह 'जय-जय कारा, जय-जय कारा स्वामी देना साथ हमारा' गाने से अपनी कार्यक्रम की शुरुआत करेंगे। वहीं, प्रोग्राम का समापन 'अगड़ बम-बम लहरी' गाने से किया जाएगा। कैलाश खेर इस खास मौके के लिए काफी ज्यादा उत्साहित हैं। उनका कहना है कि कार्यक्रम के दौरान वो अपने गानों पर अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप को नचाना भी चाहते हैं। बता दें कि अमेरिकी राष्ट्रपति डॉनल्ड ट्रंप अहमदाबाद के मोटेरा स्टेडियम का उद्घाटन करेंगे। इसके बाद वह साबरमती आश्रम भी जाएंगे। डॉनल्ड ट्रंप आगरा में ताजमहल का दीदार भी करेंगे। इसके बाद वह 25 फरवरी को ट्रंप राजघाट पर महात्मा गांधी को श्रद्धा सुमन अर्पित करने के साथ ही हैदराबाद हाउस में द्विपक्षीय वार्ता करेंगे।

08-02-2020
राष्ट्रीय सेवा योजना राष्ट्र निर्माण में सहायक : आलोक सिंह

कोरिया। प्राथमिक शाला नमना में कन्या उमा विद्यालय और बालक विद्यालय प्रेमनगर में राष्ट्रीय सेवा योजना का शिविर हुआ। इसमें 'राष्ट्र निर्माण में एनएसएस की भूमिका' पर बौद्धिक चर्चा हुई। शिविर में मुख्यअतिथि विकासखंड शिक्षा अधिकारी आलोक सिंह थे। उन्होंने कहा कि राष्ट्रीय सेवा योजना का ध्येय वाक्य है'मैं नहीं आप' जिसके माध्यम से स्वयंसेवक प्रजातांत्रिक ढंग से निःस्वार्थ सेवा की आवश्यकता का समर्थन करता है। उन्होंने कहा कि हमें सभी मनुष्यों के कल्याण के लिए कार्य करना चाहिए ताकि मानवता की सेवा की जा सके। उन्होंने कहा कि राष्ट्रीय सेवा योजना राष्ट्र निर्माण में सहायक है। बौद्धिक चर्चा में व्याख्याता विपिन पाण्डेय ने स्वयंसेवकों को जीवन कौशल प्रविधियों के माध्यम से समाज में सकारात्मक योगदान देने के तरीकों से बताया। बौद्धिक चर्चा को आगे व्याख्याता कृष्ण कुमार ध्रुव ने एनएसएस में अपना अनुभव को संबोधित करते हुए कहा की राष्ट्रीय सेवा योजना देश का एकमात्र ऐसा संगठन है, जो सामुदायिक सहभागिता के माध्यम से समाज कल्याण कार्यों को प्रोत्साहित करता है।

यह संगठन विद्यार्थियों के लिए महात्मा गाँधी व स्वामी विवेकानंद के विचारों से अनुप्रमाणित हो सामाजिक कल्याण की भावना को विकसित करता है। राष्ट्रीय सेवा योजना के प्रभारी आरबी सिंह और ललित रात्रे ने कहा की 24 सितम्बर 1969 को राष्ट्रपिता महात्मा गांधी की जन्मशताब्दी से राष्ट्रीय सेवा योजना का कारवां प्रारंभ हुआ है। वर्तमान में पूरे देश में 40 लाख से ज्यादा स्वयंसेवक सामुदायिक विकास के कार्यों में लगे हैं। उन्होंने स्वयंसेवकों को एनएसएस के अखिल भारतीय स्वरुप,स्थापना के इतिहास, स्वयंसेवकों के लिए आयोजित होने वाले कार्यक्रमों,पुरस्कार सहित उनके दायित्वों और कर्तव्यों आदि के विषय में भी विस्तार से अवगत कराया साथ ही उनसे राष्ट्र निर्माण में अपना योगदान देने का आह्वान किया। बौद्धिक चर्चा की अध्यक्षता करते हुए आई.अंसारी ने स्वयंसेवकों ने आह्वान किया की समाज की भलाई के लिए उनके द्वारा उठाया गया एक भी सकारात्मक कदम देश का रचनात्मक निर्माण करेगा। प्रेमनगर विकास खण्ड परियोजना अधिकारी रमेश जायसवाल ने स्वच्छता के लिए युवाओं को संदेश दिया। इस कार्यक्रम में शिविर प्रभारी रामबरन सिंह, ललित रात्रे,रमेश प्रसाद साहू,कार्यक्रम सहायक विनोद कुमार रावत,धर्मेन्द्र सिंह सिंगरौल, कुंती सिंह,एनएसएस के सभी छात्र छात्राएं एवं नमना ग्रामवासी उपस्थित थे।

 

31-01-2020
नरेंद्र मोदी का बयान, कहा-सीएए पर हमने कुछ गलत नहीं किया,रक्षात्मक होने की जरूरत नहीं

नई दिल्ली। संसद में हुई एनडीए की बैठक में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने नागरिकता कानून को लेकर बड़ा बयान दिया है। उन्होंने कहा कि नागरिकता कानून पर हमने कुछ गलत नहीं किया, हमें फ्रंट फुट पर रहना चाहिए। रक्षात्मक होने की कोई जरूरत नहीं है। इसके साथ ही पीएम मोदी ने कहा कि मुस्लिम भी इस देश के उतने ही नागरिक हैं, जितने बाक़ी लोग हैं। उनका भी उतना ही हक और कर्तव्य है जितना बाकी नागरिकों का है। एनडीए बैठक में सर्वसम्मति से एक प्रस्ताव पारित किया गया। प्रस्ताव में पीएम मोदी के नेतृत्व में फिर से विश्वास जताते हुए कहा गया कि एनडीए चट्टान की तरह उनके पीछे खड़ा है। प्रस्ताव में कहा गया कि नागरिकता कानून के ज़रिए महात्मा गांधी के सपने को साकार किया गया। इस प्रस्ताव को केंद्रीय मंत्री रामविलास पासवान ने पेश किया था। प्रस्ताव में बोडो समझौता, धारा 370, नागरिकता कानून और करतारपुर का ज़िक्र किया गया।

बता दें कि नागरिकता कानून को लेकर बीते दिनों में भाजपा ने जनसंपर्क अभियान चलाया। देशभर में बीजेपी के नेताओं ने जनता से संपर्क स्थापित किया और ये समझाने की कोशिश की कि सीएए नागरिकता देने का कानून है, इसमें किसी की भी नागरिकता लेने का प्रावधान नहीं है। खुद अमित शाह गृहमंत्री ने कई रैलियों को संबोधित किया। उन्होंने विपक्ष को इस कानून पर बहस करने की चुनौती दी। दिल्ली चुनाव में भी इस मुद्दे को भुनाने की कोशिश हो रही है।
वहीं विपक्ष इस कानून को संविधान के खिलाफ बताकर सरकार को घेर रही है। देश के कई हिस्सों में इसको लेकर अभी भी विरोध प्रदर्शन जारी है। खासकर दिल्ली का शाहीन बाग सुर्खियों में है जहां एक महीने ज्यादा समय से नागरिकता कानून के खिलाफ विरोध प्रदर्शन जारी है। जैसे जैसे समय बीत रहा है दिल्ली के शाहीन बाग का प्रदर्शन भी चुनाव का मुद्दा बनता जा रहा है। 

31-01-2020
दिल्ली का गोली कांड नफरत फैलाने की राजनीति का परिणाम : त्रिवेदी

रायपुर। महात्मा गांधी की समाधि राजघाट जा रहे प्रदर्शनकारियों पर गोली चलाने की प्रदेश कांग्रेस के महामंत्री एवं संचार विभाग के अध्यक्ष शैलेश नितिन त्रिवेदी ने निंदा की है। त्रिवेदी ने कहा कि 30 जनवरी के दिन नाथूराम गोड़से ने महात्मा गांधी की हत्या की थी। फिर से दिल्ली में निहत्थे प्रदर्शनकारियों पर गोड़से की ही विचारधारा से ताल्लुक रखने वालों ने गोली चलाई है। यह विचारधारा लगातार धर्म से धर्म को लड़ाने में ही लगी रही। आज भी देश में परस्पर सद्भाव और भाईचारे को नुकसान पहुंचाने में यही लोग लगे हैं। त्रिवेदी ने कहा कि नफरत फैलाने की राजनीति देशहित में नहीं है। बेरोजगारी मंहगाई आर्थिकमंदी से ध्यान हटाने के लिये जबरिया नागरिकता कानून लाकर भाजपा ने चाल चली है। दिल्ली पुलिस की उपस्थिति में शांतिपूर्ण तरीके से महात्मा गांधी की समाधि राजघाट जा रहे निहत्थे प्रदर्शनकारियों पर गोली चलाने की घटना से सब कुछ आइने की तरह साफ हो गया है। भाजपा के अनुराग ठाकुर पहले ही गोलीमारो ही कह चुके है। यह गोली कांड देश भर में फैलाई जा रही नफरत का नतीजा है। ऐसी नफरत भड़का कर और भाई को भाई से लड़ाकर राजनैतिक लाभ प्राप्त किया जा सकता है लेकिन ऐसी राजनीति देश हित में नहीं है।

 

30-01-2020
सीएए प्रदर्शनः जामिया में एक युवक ने प्रदर्शन के दौरान चलाई गोली, कहा- दूंगा आजादी

नई दिल्ली। जामिया से राजघाट तक नागरिकता संशोधन कानून के खिलाफ छात्रों ने महात्मा गांधी की पुण्यतिथि पर मार्च निकाला है। इस मार्च के दौरान उस वक्त हड़कंप मच गया जब एक युवक ने प्रदर्शन के दौरान गोली चला दी, जिससे एक प्रदर्शनकारी घायल हो गया है। वहीं पुलिस ने गोली चलाने वाले युवक को गिरफ्तार कर लिया। आरोपी की पहचान गोपाल के रूप में हुई है। पुलिस उससे पूछताछ कर रही है और इस बात की जानकारी कर रही है कि वह प्रदर्शन के दौरान हथियार लेकर क्यों आया था। वहीं जो छात्र हमले में घायल हुआ है उसकी पहचान जामिया के मास कॉम के छात्र शादाब आलम के रूप में हुई है। एक चश्मदीद ने घटना का ब्योरा देते हुए कहा कि हमारा मार्च चल रहा था कि एक युवक अचानक दूसरी दिशा से सामने आया और हवा में पिस्तौल लहराते हुए बोला कि आओ मैं तुम्हें आजादी देता हूं और फिर उसने गोली चला दी।

पुलिस ने आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है और उससे पूछताछ कर रही है। इससे पहले दिल्ली पुलिस ने जामिया से राजघाट तक मार्च करने की अनुमति नहीं दी थी। इसके बाद भी स्थानीय लोग प्रदर्शन करने के लिए सड़कों पर उतर गए।

30-01-2020
वायनाड रैली : राहुल गांधी का आपत्तिजनक बयान, गोडसे से की नरेंद्र मोदी की तुलना

नई दिल्ली। राहुल गांधी ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की तुलना महात्मा गांधी के हत्यारे नाथूराम गोडसे से की है। राहुल गांधी ने वायनाड रैली में कहा कि नाथूराम गोडसे और नरेन्द्र मोदी की विचारधारा एक ही है। राहुल गांधी ने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी पर हमला बोलते हुए कहा कि वह भारतीयों से भारतीय होने का सबूत मांग रहे हैं। बता दें कि राहुल गांधी गुरुवार को वायनाड में 'संविधान बचाओ' मार्च की अगुवाई करते हुए संबोधित कर रहे थे। इससे पहले राहुल इसी हफ्ते जयपुर में भी रैली को संबोधित कर चुके हैं।

राहुल गांधी ने केरल के कलपेट्टा में एक सभा को संबोधित करते हुए कहा कि नाथूराम गोडसे ने महात्मा कांगधी को सिर्फ इसलिए मारा क्योंकि उसे खुद पर ही विश्वास नहीं था। उसे किसी से प्यार नहीं था,उसे किसी से सरोकार नहीं था, उसे किसी में विश्वास नहीं था। अब यही हाल प्रधानमंत्री का है, वे सिर्फ खुद से प्यार करते हैं, केवल खुद पर ही विश्वास करते हैं। नरेंद्र मोदी में यह कहने की हिम्मत नहीं है कि वह गोडसे में विश्वास करते हैं।

Advertise, Call Now - +91 76111 07804