GLIBS
22-11-2019
कोरिया जिले को नशे के चंगुल से आजाद कराने कलेक्टर ने ठानी जिद

बैकुण्ठपुर। कोरिया जिला कलेक्टोरेट के सभाकक्ष में विभागीय अधिकारियों की बैठक लेकर डीएमएफ के अब तक स्वीकृत कार्यों के प्रगति की समीक्षा कोरिया कलेक्टर डोमन सिंह ने की। स्वीकृत कार्यों के प्रारंभ, अप्रारंभ एवं पूर्ण होने की स्थिति की विस्तारपूर्वक समीक्षा, संबंधित विभागों तथा निर्माण एजेंसियों के साथ की और सभी संबंधितों को गुणवत्तापूर्ण निर्माण, कार्य समयावधि में ही पूर्ण कर हितग्राहियों एवं आमजनों को अधिक से अधिक लाभ पहुंचाने की बात कही। बैठक में कलेक्टर ने कहा कि जिले को नशा मुक्त बनाने के लिए हम सभी को मिल कर प्रयास करना होगा और इसे जड़ से खत्म करने के लिए वचनबद्ध होकर काम करना होगा। पंचायत स्तर पर सभी सचिवों द्वारा ग्रामीण लोगों से समन्वय कर इस अभियान से जोड़ा जाए। कलेक्टर के निर्देश अनुसार नशा मुक्ति अभियान के संबंध में 10 दिसंबर को सभी ग्राम पंचायतों में ग्रामसभा आयोजित की जाएगी। कलेक्टर ने कहा कि हर पंचायत में पोस्टर, प्रदर्शनी, कला जत्था द्वारा कार्यक्रम, स्कूली बच्चों एवं ग्रामीणों द्वारा रैली, मानव श्रृंखला का आयोजन कर अभियान का उचित प्रचार-प्रसार किया जाए। इस संबंध में कलेक्टर ने सीईओ जिला पंचायत एवं समस्त सचिवों को भी आवश्यक निर्देश दिए। कलेक्टर ने समस्त अधिकारियों एवं सचिव को निर्देशित किया कि तीन चरण में नशा मुक्ति अभियान का क्रियान्वयन किया जाए। प्रथम चरण में नशा करने वाले का चिन्हांकन, द्वितीय चरण में काउंसिलिंग कर उन्हें नशा छोडऩे हेतु प्रेरित करने तथा तृतीय एवं अतिम चरण में उनके इलाज की प्रक्रिया पूर्ण करने के निर्देश दिये। उन्होंने उपस्थित अधिकारियों से कहा कि पंचायत सचिव के माध्यम से ग्रामीण क्षेत्र में लोगों से संपर्क कर नशे के दुष्परिणाम के बारे में जनजागरुकता लाएं। कलेक्टर डोमन सिंह ने आमजन से अपील की है कि इस नशा मुक्ति अभियान को सफल बनाने में सक्रिय रूप से सहभागी बनें। इस अवसर पर डीएमएफ के नोडल अधिकारी सहित सभी संबंधित अधिकारी उपस्थित थे।

Advertise, Call Now - +91 76111 07804