GLIBS
17-09-2020
Video: स्कूल शिक्षा विभाग के प्रमुख सचिव पहुंचे कोरबा, इंग्लिश मीडियम स्कूलों की तैयारियों को देखा

कोरबा। स्कूल शिक्षा विभाग के प्रमुख सचिव डॉ. अलोक शुक्ला प्रस्तावित तीन इंग्लिश मीडियम स्कूलों को शुरू करने की तैयारियों की समीक्षा ​की। उन्होंने कलेक्टर किरण कौशल से तीनों स्कूलों के लिए आधारभूत संरचनाओं, टिचिंग स्टॉफ़ और अन्य ज़रूरतों की जानकारी ली। पम्प हाउस के स्कूल का निरीक्षण किया और इस स्कूल में विकसित की गई सुविधाओं और उनसे पढ़ाई के लिए बने सकारात्मक माहौल की प्रमुख सचिव ने प्रशंसा की। सचिव ने स्कूलों की सुविधाओं और आधारभूत संरचनाओं के साथ-साथ विद्यार्थियों की पढ़ाई के लिए अब तक किए गए इंतज़ामों का पावर पाइंट प्रेजेनटेशन भी देखा।

12-09-2020
महापौर और विधायक की पहल : 14 सितंबर से ऑनलाइन कक्षा का वादा,पालकों पर फीस का दबाव नहीं डालेंगे स्कूल प्रबंधक

रायपुर। महापौर एजाज ढेबर ने रायपुर ग्रामीण विधायक सत्यनारायण शर्मा के साथ शनिवार को सभी निजी स्कूलों के प्राचार्यों, शाला विकास समिति के अध्यक्षों की बैठक ली। बैठक में रायपुर जिला शिक्षा अधिकारी जीआर चन्द्राकर भी मौजूद थे। बैठक में महापौर और ग्रामीण विधायक शर्मा की पहल और प्रयासों पर निजी स्कूलों के प्राचार्यों ने बंद ऑनलाइन कक्षाओं को सोमवार 14 सितंबर से शुरू करने का वादा किया।महापौर और विधायक शर्मा के अनुरोध पर निजी स्कूलों के प्राचार्यों ने पालकों पर स्कूल की फीस देने दबाव नहीं डालने पर अपनी सहमति व्यक्त की। उन्होंने कहा कि जो पालक स्कूल आकर अपनी आर्थिक समस्या बताएंगे उन पर स्कूल की ओर से फीस देने के लिए किसी भी प्रकार से कोई दबाव नहीं डाला जाएगा। महापौर और ग्रामीण विधायक शर्मा से बैठक में निजी स्कूलों के प्राचार्यों ने कहा कि चूंकि प्रकरण न्यायालय में चल रहा है, इसलिए जो पालक अपनी आर्थिक समस्या के कारण स्कूल फीस नहीं दे पा रहे हैँ, उन्हें अपनी इस समस्या स्कूल आकर स्कूल प्रबंधन को बताना होगा। महापौर और विधायक शर्मा ने बैठक में लिए गए निर्णय और सहमति पर तत्काल आवश्यक कार्यवाही स्कूल शिक्षा विभाग की ओर से करने के निर्देश जिला शिक्षा अधिकारी चन्द्राकर दिए।

 

08-09-2020
सुकमा की स्नेहा चंद्राकर राज्य स्तरीय ऑनलाइन चित्रकला स्पर्धा में तृतीय स्थान प्राप्त करने पर सम्मानित

रायपुर/सुकमा। शिक्षा ज्योति पीएलसी समूह महासमुन्द की ओर से राज्य स्तरीय ऑनलाइन चित्रकला प्रतियोगिता का आयोजन शिक्षक दिवस के अवसर पर 5 सितम्बर को किया गया था। इसमें सुकमा निवासी स्नेहा चन्द्राकर ने पूरे प्रदेश में तीसरा स्थान प्राप्त कर सुकमा का मान बढ़ाया है। स्नेहा केन्द्रीय विद्यालय सुकमा में कक्षा सातवीं में अध्यनरत है। इसके साथ ही स्नेहा की माता व शिक्षिका चंचला चन्द्राकर को कोरोना महामारी के समय बच्चों की अनवरत पढ़ाईं जारी रखने में स्वैच्छिक रूप से भागीदारी निभाने और नियमित ऑनलाइन कक्षाएं लेने स्कूल शिक्षा विभाग छत्तीसगढ़ शासन द्वारा ससम्मान प्रशस्ति पत्र प्रदान किया गया है।

चंचला चन्द्राकर सुकमा जिले के शासकीय प्राथमिक शाला जामपारा झलियारास में सहायक शिक्षक है। इसके पहले चंचला चन्द्राकर को मुख्यमंत्री शिक्षा गौरव अलंकरण पुरस्कार के अन्तर्गत शिक्षा दूत पुरस्कार, इनोवेटिव पाठशाला और विभागीय कार्य योजना के सम्पादन में उत्कृष्ट कार्य करने के फलस्वरूप प्रशस्ति पत्र से भी सम्मानित किया जा चुका है। कलेक्टर चन्दन कुमार ने स्नेहा व उनकी माता चंचला चन्द्राकर को बधाई व शुभकामनाएं देते हुए उनके उज्ज्वल भविष्य की कामना की है।

07-09-2020
भूपेश बघेल ने कहा- जल्द पूरी करें भर्ती प्रक्रिया,स्कूल शिक्षा विभाग के अधिकारियों को रिपोर्ट देने 1 सप्ताह का समय

रायपुर। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने कोरोना संकट काल में बेरोजगार युवाओं को राहत देने के लिए उनके हित में एक और बड़ा कदम उठाया है। उन्होंने स्कूल शिक्षा विभाग के अधिकारियों को 14 हजार 580 पदों पर भर्ती की प्रक्रिया पर एक सप्ताह के भीतर रिपोर्ट प्रस्तुत करने के निर्देश दिए हैं। मुख्यमंत्री ने शिक्षा विभाग की ओर से विज्ञापित पदों की भर्ती में हो रहे विलंब को गंभीरता से लिया है। उन्होंने विभाग के वरिष्ठ अधिकारियों को तलब कर कड़ी अप्रसन्नता जाहिर की है। उन्होंने कहा है कि, छत्तीसगढ़ के युवाओं को रोजगार देना सरकार की प्राथमिकता में शामिल है। उन्होंने शिक्षा विभाग के अधिकारियों से कहा है कि, विज्ञापित पदों पर भर्ती के संबंध में पूरी रिपोर्ट एक सप्ताह के भीतर उनके समक्ष प्रस्तुत की जाए।


मुख्यमंत्री ने कहा है कि, शिक्षा विभाग के विज्ञापित पदों पर शीघ्र भर्ती प्रक्रिया पूर्ण की जाए। उन्होंने अधिकारियों से कहा है कि भर्ती की प्रक्रिया में अनावश्यक विलंब और लापरवाही बर्दाश्त नहीं की जाएगी। शिक्षा विभाग के अधिकारियों ने बताया कि इन पदों के लिए व्यापम द्वारा ली गई परीक्षा के रिजल्ट की वैधता में एक वर्ष की अतिरिक्त वृद्धि की गई है। इस सबंध में मंत्रालय से आदेश जारी कर किए जा चुके हैं। उल्लेखनीय है कि, लोक शिक्षण संचालनालय ने 9 मार्च 2019 को 14 हजार 580 पदों पर सीधी भर्ती के लिए विज्ञापन जारी किया गया था। इस विज्ञापन की कण्डिका में यह उल्लेख था कि, व्यापम से प्राप्त परीक्षाफल सूची, परीक्षाफल जारी होने के दिनांक से एक वर्ष तक वैद्य होगी। कोरोना महामारी से उत्पन्न स्थिति के कारण वर्तमान में भर्ती की कार्रवाई पूर्ण नहीं हो सकी है, इसलिए विशेष परिस्थिति को ध्यान में रखते हुए राज्य शासन की ओर से व्यापम से प्राप्त परीक्षाफल की सूची की वैधता को एक वर्ष और बढ़ा दिया गया है।

 

06-09-2020
प्रमुख सचिव ने किया जिले में पढ़ई तुंहर दुआर के शैक्षिक मॉडलों का निरीक्षण  

रायपुर/रायगढ़। स्कूल शिक्षा विभाग के प्रमुख सचिव डॉ.आलोक शुक्ला रविवार को रायगढ़ जिले में संचालित हो रहे छत्तीसगढ़ स्कूल शिक्षा विभाग की अभिनव पहल पढ़ई तुंहर दुआर अंतर्गत ऑनलाइन व ऑफलाइन सहित अन्य शैक्षिक मॉडलों के क्रियान्वयन का जायजा लिया। इस मौके पर कलेक्टर भीम सिंह, जिला पंचायत सीईओ ऋचा प्रकाश चौधरी, जिला शिक्षा अधिकारी आरपी आदित्य, मिशन समन्वयक रमेश देवांगन उपस्थित रहे।शासन की महती योजना पढ़ई तुंहर दुआर योजना अंतर्गत ऑनलाइन कक्षाओं के संचालन, वर्क कल्चर, अनुशासन एवं बेहतर क्रियान्वयन में रायगढ़ जिला समूचे प्रदेश में पहले स्थान पर है।

जिले में ऑनलाइन शिक्षा सहित अन्य शैक्षिक मॉडल्स की गतिविधियों से स्वयं रूबरू होते प्रमुख सचिव डॉ आलोक शुक्ला सारंगढ़ के प्राथमिक शाला शांति नगर कनकबीरा में शिक्षिका कमला श्याम सहा.शि.एल.बी. एवं पुष्पा बरिहा सहा.शि.पंचा.प्राथमिक शा.मलदा ब की कुमारी संगीता सिदार सहा.शि.की कक्षा टॉपिक शरीर के अंग, माध्यमिक शा.मलदा ब के मुन्नालाल सिदार की कक्षा टॉपिक कार्बोहाइड्रेट का परीक्षण एवं बरमकेला के डोगीपानी की ऑफलाइन कक्षाओं के अध्ययन-अध्यापन गतिविधियों का अवलोकन किया। तत्पश्चात रायगढ़ के शासकीय नटवर स्कूल में संचालित हो रहे सरदार वल्लभभाई पटेल आदर्श अंग्रेजी माध्यम स्कूल के शिक्षकों के अध्ययन-अध्यापन व अन्य व्यवस्थाओं का निरीक्षण किया।सर्किट हाउस रायगढ़ में समीक्षा के दौरान ऑफलाइन शिक्षा में बेहतर प्रयास के लिए शासकीय प्राथमिक शाला धनागर के दिव्यांग शिक्षक अंजय सूर्यवंशी, यूट्यूब में बेहतर कंटेंट अपलोड केे लिए आरएस प्रसाद प्राचार्य लोइंग, स्टाफ के बेहतर संयोजन व कक्षाओं के संचालन के लिए एसके कर्ण प्राचार्य रायकेरा, बच्चों के बेहतर ऑनलाइन टेस्ट संचालन के लिए घई व्याख्याता टारपाली, तराई माल की निशा सिंग, ऑनलाइन कक्षा में सबसे ज्यादा बच्चों को जोडऩे के लिए कन्या उच्च. विद्यालय घरघोड़ा के विजय पंडा व जिले में सबसे अधिक ऑनलाइन क्लास लेने व दूसरे नंबर पर सबसे अधिक बच्चों को जोडऩे वाले प्राथमिक शाला प्रधान पाठक निरंजनलाल पटेल से मुलाकात व चर्चा कर सभी को उनके उत्कृष्ट प्रयास के लिए शुभकामनाएं दी।

सीईओ जिला पंचायत  ऋचा प्रकाश ने प्रमुख सचिव के समक्ष रायगढ़ जिले की ऑनलाइन नेटवर्क व डेटा के बेहतर संचालन, संकलन व मेहनत के लिए एपीसी भुवनेश्वर पटेल की सराहना की। प्रमुख सचिव डॉ.आलोक शुक्ला ने रायगढ़ जिले में पढ़ई तुंहर दुआर के संचालन, वर्क कल्चर की तरीफ करते हुए कहा कि जिले में पढ़ई तुंहर दुआर के क्रियान्वयन व बेहतर संचालन से संतुष्ट हूँ। ऑनलाइन क्लासेस के मामले में जिले अन्य जिलों से बेहतर है, इसे और बेहतर करते जाएं, जिले में इसके संचालन के तरीके की समीक्षा कर रायगढ़ जिले को मॉडल के रूप में अन्य जिलों में दिखाया जाएगा।

 

02-09-2020
सच्चिदानंद ने कहा- प्रदेश सरकार का निर्णय बेरोजगार युवाओं की आशा पर वज्राघात

रायपुर। भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश प्रवक्ता सच्चिदानंद उपासने ने प्रदेश सरकार के निर्णय को बेरोजगार युवाओं की आशा पर वज्राघात बताया है। प्रदेश सरकार ने स्कूल शिक्षा विभाग में 14,580 पदों पर भर्ती के लिए व्यापमं से प्राप्त परीक्षाफल सूची की वैधता में एक वर्ष की वृद्धि कर दी है। उपासने ने कहा है कि प्रदेश सरकार का यह फैसला बेरोजगारों के साथ की गई एक और शर्मनाक दगाबाजी का जीता-जागता नमूना है। कोरोना की आड़ लेकर प्रदेश सरकार जनकल्याण के कामों में अपनी जिम्मेदारी से मुंह चुराने पर आमादा है। बेरोजगारी खत्म करने और बेरोजगारी भत्ता देने का वादा करके सत्ता में आई कांग्रेस सरकार अब छलावों की नित-नई पटकथा लिख रही है। प्रदेश में विभिन्न विभागों में भर्ती की प्रक्रियाएं इस सरकार ने लटकाकर रख दी है,जिससे एक ओर प्रदेश में बेरोजगारी बढ़ती जा रही है, वहीं दूसरी ओर प्रशासनिक कार्यों में भी इसका प्रतिकूल असर पड़ रहा है। उपासने ने आरोप लगाया है कि, जब भी जनकल्याण का कार्य हो या सरकार के वादा निभाने का विषय हो, प्रदेश के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल कोरोना संकट की आड़ लेकर वादाखिलाफी पर उतर आते हैं। जिस सरकार को कोरोना काल में संसदीय सचिवों की नियुक्ति करने में कोई बाधा नहीं हुई, जन्मदिन मनाते और तीज-त्योहारों का कांग्रेसीकरण करते कोरोना का ख़्याल तक नहीं रहा, विधायकों की तनख़्वाह और भत्ते बढ़ाने में कोरोना ने कोई रोड़ा नहीं अटकाया, उस सरकार को अब शिक्षकों की भर्ती में कोरोना की बहानेबाजी करते शर्म महसूस होनी चाहिए।

01-09-2020
स्कूल शिक्षा विभाग के सीधी भर्ती में व्यापमं से प्राप्त परीक्षाफल सूची की वैधता में एक वर्ष की वृद्धि

रायपुर। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के निर्देश पर स्कूल शिक्षा विभाग में 14 हजार 580 पदों पर भर्ती के लिए व्यापमं से प्राप्त परीक्षाफल सूची की वैधता में एक वर्ष की वृद्धि कर दी है। राज्य शासन के स्कूल शिक्षा विभाग द्वारा इस संबंध में आज मंत्रालय से आदेश जारी कर दिया है। जारी आदेश में उल्लेख किया गया है लोक शिक्षण संचालनालय ने 9 मार्च 2019 को 14 हजार 580 पदों पर सीधी भर्ती के लिए विज्ञापन जारी किया गया था। इस विज्ञापन की कण्डिका में यह उल्लेख था कि व्यापम से प्राप्त परीक्षाफल सूची, परीक्षाफल जारी होने के दिनांक से एक वर्ष तक वैध होगी। कोरोना महामारी से उत्पन्न स्थिति के कारण वर्तमान में भर्ती की कार्रवाई पूर्ण नहीं हो सकी है, इसलिए विशेष परिस्थिति को ध्यान में रखते हुए राज्य शासन द्वारा व्यापम से प्राप्त परीक्षाफल की सूची में एक वर्ष की वृद्धि की है।

 

 

22-08-2020
बीजापुर के छात्र-छात्राओं को पढ़ाई में एंड्रायड एप मिल रही मदद

बीजापुर। जिले में स्कूल शिक्षा विभाग द्वारा पढ़ई तुंहर दुआर के तहत कक्षा पहली से 12वीं तक के छात्र-छात्राओं हेतु एंड्रायड एप्प लांच किया गया है। इस एप्प के माध्यम से छात्र-छात्राएं अपनी कक्षा के पाठ्य पुस्तकों का विडियो-आॅडियो डाउनलोड कर सकते हैं। इस एप्प की खासियत यह है कि जब इंटरनेट उपलब्ध हो तब कंटेंट डाउनलोड कर सकते हैं और डाउनलोड किये गये विडियो और कन्टेंट इंटरनेट मौजूद नहीं रहने की स्थिति में आॅफ लाईन देखी जा सकती है। यह एप्प जिले के दूरस्थ ईलाके के लिये बहुत उपयोगी है। कलेक्टर रितेश कुमार अग्रवाल ने जिले के सभी शिक्षक-शिक्षिकाओं को निर्देशित किया है कि वे अपने मोबाईल पर सीजी डॉट स्कूल एप्प डाउनलोड करें और छात्र-छात्राओं से भी उक्त एप्प को डाउनलोड करवा कर अधिकाधिक छात्र-छात्राओं को लाभान्वित …

16-08-2020
'पढ़ई तुंहर दुवार' कार्यक्रम के अंतर्गत स्कूली बच्चों की मदद करने राज्य शासन ने तैयार किया cgschool एप

कोरिया। 'पढ़ई तुंहर दुवार' कार्यक्रम के अंतर्गत छत्‍तीसगढ़ शासन के स्‍कूल श‍िक्षा व‍िभाग एवं एनआईसी द्वारा म‍िलकर एक एन्‍ड्रायड एप तैयार क‍िया गया है। इस एप का नाम cgschool रखा गया है। इसका लाभ यह है क‍ि जब आपके पास इंटरनेट हो तब आप पढ़ाई संबंधी कंटेंट डाउनलोड कर सकते हैं और डाउनलोड किये गए वीड‍ियो और अन्‍य कंटेंट को, जब इंटरनेट उपलब्‍ध ना हो तब ऑफ लाइन भी देखे जा सकते हैं। यह एप दूरस्‍थ अंचलों में रहने वाले बच्चों के ल‍िये बहुत उपयोगी है।कलेक्टर एसएन राठौर ने सभी बच्चों एवं परिजनों से अपील की है कि इस एप को ज़रूर डाउनलोड करें एवं इसका लाभ उठाएं। कोरोना काल में बच्चों की शिक्षा में कोई बाधा ना हो, इसके लिए राज्य सरकार एवं जिला प्रशासन सतत प्रयासरत है।
गूगल प्‍ले स्‍टोर के इस ल‍िंक से एप डाउनलोड कर सकते हैं -
https://play.google.com/store/apps/details?id=in.cgschools.learningapp

 

16-08-2020
पढ़ई तुंहर दुवार कार्यक्रम : विद्यार्थियों की सुविधा के लिए एन्ड्राइड एप तैयार

रायपुर। कोरोना संकट काल में आनलाईन शिक्षा को आसान बनाने के लिए पढ़ई तुंहर दुवार कार्यक्रम के अंतर्गत छत्तीसगढ़ शासन के स्कूल शिक्षा विभाग और एनआईसी ने मिलकर एक एन्ड्राइड एप तैयार किया है। इस एप के माध्यम से विद्यार्थी इंटरनेट उपलब्ध होने पर अपने पाठ्यक्रम से संबंधित कन्टेंट डाउनलोड कर सकेंगे और डाउनलोड किए गए वीडियो और अन्य कन्टेंट जब इंटरनेट उपलब्ध नहीं हो, तब भी आफलाइन देखे जा सकेंगे। यह एप दूरस्थ अंचलों के विद्यार्थियों के लिए काफी उपयोगी है।

इस एप को गुगल प्ले स्टोर से नीचे दिए गए लिंक से डाउनलोड किया जा सकता है। https://play.google.com/store/apps/details?id=in.cgschools.learningapp  उल्लेखनीय है कि मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने स्कूलों के विद्यार्थियों को घर बैठे पढ़ाई के लिए आनलाईन सुविधा उपलब्ध कराने लॉकडाउन के दौरान माह अप्रैल में पढ़ई तुंहर दुवार की वेबसाइट लॉन्च की थी। आनलाइन शिक्षा की योजना पढ़ई तुंहर दुआर का लाभ लगभग 22 लाख बच्चों को मिल रहा है तथा 2 लाख शिक्षक-शिक्षिकाएं इस व्यवस्था से जुड़े हैं।

Advertise, Call Now - +91 76111 07804