GLIBS
06-07-2020
रमन सिंह शिक्षक भर्ती और शिक्षाकर्मी संविलियन पर नौजवानों को गुमराह करने की कोशिश न करें : कांग्रेस

रायपुर। शिक्षक भर्ती पर पूर्व मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह के बयान पर कांग्रेस ने प्रतिक्रिया व्यक्त की है। प्रदेश कांग्रेस के संचार विभाग के अध्यक्ष शैलेश नितिन त्रिवेदी ने कहा है कि रमन सिंह और भाजपा के नेता शिक्षा के बारे में कुछ भी बोलने के अधिकारी नहीं है। छत्तीसगढ़ के लोग अभी भूले नहीं है कि विश्वविद्यालयों के कुलपतियों की बैठक आरएसएस के दफ्तर और सरस्वती शिशु मंदिर की प्राथमिक शालाओं में हुआ करती थी। विश्वविद्यालयों के कुलपतियों की बैठकें आरएसएस और सरस्वती शिशु मंदिर के कार्यालयों में लेने वाले कांग्रेस को शुचिता और शिक्षा का पाठ न पढ़ायें। त्रिवेदी ने कहा है कि कांग्रेस सरकार ने शिक्षकों की भर्ती की प्रक्रिया आरंभ भी की है। वर्तमान में छत्तीसगढ़ सरकार विपरीत आर्थिक परिस्थितियों का सामना कर रही है। लॉक डाउन पीरियड में राज्य की आय बिल्कुल नहीं रही। कोरोना आ जाने के कारण आर्थिक गतिविधियां शून्य हो गयी। स्कूल भी 12 फरवरी से ही कोरोना संक्रमण का फैलाव रोकने के लिये बंद है। स्कूल खुलते साथ समुचित व्यवस्था करके शिक्षकों की भर्ती भी की जायेगी। भाजपा को कम से कम शिक्षक भर्ती को लेकर बयान देने और राजनीति करने का कोई नैतिक अधिकार नहीं है। रमन सिंह सरकार में 42 हजार शिक्षकों के पद 15 साल तक 2003 से 2013 तक रिक्त रहे। एक भी शिक्षक की भर्ती भाजपा सरकार में नहीं की गयी। शिक्षकों की भर्ती प्रक्रिया तक भाजपा सरकार ने आरंभ नहीं की। रमन सिंह जी किस मुंह से कांग्रेस के खिलाफ शिक्षक भर्ती के मामले में बयान देते है।

त्रिवेदी ने कहा है कि 2003 के चुनाव के पहले रमन सिंह जी ने, भाजपा के नेताओं ने शिक्षाकर्मियों की संविलियन की घोषणा की थी। भाजपा सरकार ने शिक्षाकर्मियों के संविलियन के लिये 15 साल तक 1 पैसा 1 फुटी कौड़ी नहीं दी। राशि का प्रावधान तक नहीं किया। कांग्रेस की सरकार ने सत्ता में आने के बाद शिक्षाकर्मियों के संविलियन की प्रक्रिया आरंभ की है। हजारों शिक्षाकर्मियों का संविलियन भी हुआ है। जो बचे हुए हैं उनका भी संविलियन जल्दी से जल्द किया जायेगा। प्रदेश कांग्रेस संचार विभाग के अध्यक्ष शैलेश नितिन त्रिवेदी ने कहा है कि मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने स्पष्ट ऐलान किया है कि स्कूल खुलते ही शिक्षाकर्मियों का संविलियन एवं शिक्षकों की भर्ती कर ली जाएगी। जब मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने स्पष्ट ऐलान कर दिया है तो डॉ. रमन सिंह द्वारा प्रदेश के नौजवानों को गुमराह करने की कोशिश निंदनीय है।

Advertise, Call Now - +91 76111 07804