GLIBS
28-09-2020
Video: दिवाली तक शहर में कोई लॉक डाउन ना लगाया जाए: अजय भसीन

भिलाई। भिलाई चेंबर ऑफ कॉमर्स के अध्यक्ष अजय भसीन ने सोमवार को कलेक्टर के नाम ज्ञापन सौंपा। इसमें उन्होंने संगठन की ओर से मांग की है कि अब शहर में लॉक डाउन बढ़ाया न जाए। मीडिया को जानकारी देते हुए भसीन ने कहा कि शहर में बार-बार लॉक डाउन लगाने से व्यापारी वर्ग बहुत परेशान हो चुका है। लॉक डाउन की वजह से व्यापार करना मुश्किल होता जा रहा है। आर्थिक नुकसान भी उठाना पड़ रहा है। उन्होंने आगे कहा कि जब व्यापारी वर्ग थोड़ा सा उबरता है तब तक दोबारा लॉकडाउन लगा दिया जाता है। इससे हमारा संगठन मांग करता है कि आने वाले दिवाली त्यौहारों के मद्देनजर अब कोई लॉक डाउन न लगाया जाए और जैसे पहले पूरे समय व्यापार करने की छूट थी वैसे ही टाइमिंग अब दी जाए। उन्होंने कहा कि व्यापारी वर्ग पूरी सतर्कता व गाइड लाइन का पालन करते हुए व्यापार करेंगे। इस दौरान चैंबर के अन्य सदस्य उपस्थित थे।

 

30-06-2020
'सूर्यवंशी' दिवाली पर और '83' क्रिसमस पर सिनेमाहॉल में होगी रिलीज

मुंबई। सिनेमाहॉल्स खोलने की इजाजत नहीं मिली है। ऐसे में कई बड़ी फिल्में थियेटर की जगह सीधे ओटीटी प्लेटफॉर्म्स पर रिलीज हो रही है। इधर खुशखबरी है कि दो बड़ी फिल्में-  रोहित शेट्टी की सूर्यवंशी और कबीर खान की 83 सिनेमाघरों में रिलीज की जाएगी। पीवीआर ने ट्वीट करके इस खबर की पुष्टि की है। अक्षय कुमार और कटरीना कैफ की फिल्म सूर्यवंशी जहां सिनेमाघरों में दिवाली के मौके पर रिलीज होगी, वहीं रणवीर सिंह की फिल्म 83 क्रिसमस पर रिलीज होगी। पीवीआर ने ट्वीट करते हुए लिखा है- 'एक्साइटिंग समय आ रहा है... कमर कस लीजिए दीपावली पर रोहित शेट्टी की सूर्यवंशी और क्रिसमस पर कबीर ख़ान की 83 रिलीज होगी।' रोहित शेट्टी ने फिल्मों में कॉप यूनिवर्स की शुरुआत की है। पहले सिंघम सीरीज फिर सिंबा और अब सूर्यवंशी उसी कड़ी की अगली फिल्म है। इस फिल्म में आपको अक्षय के साथ अजय देवगन और रणवीर सिंह का कैमियो देखने को भी मिलेगा। अक्षय कुमार के साथ इस फिल्म में कटरीना कैफ लीड रोल में हैं। दिवाली पर फिल्म रिलीज हो रही है।

 

 

03-03-2020
धमतरी जिला के सेमरा (सी) में किया गया होलिका दहन, 4 मार्च को खेला जाएगा रंग गुलाल....

धमतरी। सदियों से छत्तीसगढ़ रहस्यों और अबूझ पहेलियों का पिटारा रहा है। धमतरी जिले का एक गांव भी इस धारणा को पूरी तरह चरितार्थ करता है। इस गांव का अनोखापन यह है कि यहां सभी प्रमुख त्योहार तय तिथि से लगभग एक सप्ताह पहले मना लिए जाते हैं। यह गांव है धमतरी जिले का सेमरा (सी)। इस गांव में काफी जमाने से चार प्रमुख त्योहार हफ्ते भर पहले ही मना लेते हैं। ये त्योहार हैं-होली, पोला, हरेली और दिवाली। प्रचलित लोक-संस्कृति और परंपरा के अनुसार यहां त्योहारों को हफ्ते भर पहले इसलिए मनाया जाता है, ताकि ग्राम देवता प्रसन्न रहे। यही कारण है कि इस साल सारा 9 मार्च को होलिका दहन व 10 मार्च को रंग खेला जाएगा। वही इस गांव में यह पर्व की शुरुआत आज होलिका दहन से प्रारंभ होगी और कल यानी 4 मार्च को रंग गुलाल खेला जाएगा। हजारों से अधिक आबादी वाले सेमरा गांव के ग्रामीण कईयों वर्षो से इस अनोखी परंपरा को निभा रहे हैं। ग्राम देवता का मान रखने के लिए इस गांव के निवासी होली का त्योहार तय तिथि से एक सप्ताह पूर्व ही मना लेते हैं। ग्राम सेमरी (सी) के ग्राम प्रमुख सुधीर बल्लाल बताया,'इस वर्ष भी हर वर्षों की तरह परंपरा के हिसाब से 3 मार्च को होलिका दहन किया जाएगा। 4 मार्च को परंपरा के अनुसार होली खेली जाएगी। रात्रि को ग्राम देवता के मंदिर में परंपरा अनुसार पूजा के बाद होलिका दहन किया गया। दूसरे दिन यानी 4 मार्च को सुबह पुन: ग्राम देवता की विधिविधान के साथ पूजा के बाद रंग-गुलाल खेला जाएगा।

कब शुरु हुई यह परंपरा किसी को नहीं पता
अब तक किसी ने भी अपने पूर्वजों के जमाने से चली आ रही इस परंपरा से मुंह नहीं मोड़ा है। चौंकाने वाली बात तो यह है कि इस पंरपरा की शुरुआत कब हुई, इससे ग्रामीण अनजान हैं। यहां ग्राम देवता सिरदार देव के स्वप्न को साकार करने प्रतिवर्ष त्योहार एक सप्ताह पूर्व ही मना लिए जाते हैं। सैकड़ों वर्ष पूर्व इस गांव में एक बुजुर्ग आकर रहने लगा। उनका नाम सिरदार था। उनकी चमत्कारिक शक्तियों एवं बातों से गांव के लोगों की परेशानियां दूर होने लगी। लोगों में उनके प्रति आस्था व श्रद्धा का विश्वास उमड़ने लगा। समय गुजरने के बाद सिरदार देव के मंदिर की स्थापना की गई। मान्यता है कि किसी किसान को स्वप्न देकर सिरदार देव ने कहा था कि प्रतिवर्ष दीपावली, होली, हरेली व पोला ये चार त्योहार हिंदी पंचाग में तय तिथि से एक सप्ताह पूर्व मनाए जाएं ताकि इस गांव में उनका मान बना रहे। तब से ये चार त्योहार प्रतिवर्ष ग्रामदेव के कथनानुसार मनाते आ रहे हैं।

 

04-11-2019
दिवाली के बाद शेयर बाजार में लौटी रौनक, 12 हजार के करीब पहुंची निफ्टी

मुंबई। सप्ताह के पहले कारोबारी दिन यानी सोमवार को शेयर बाजार हरे निशान पर खुला। बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज का प्रमुख इंडेक्स सेंसेक्स 150.62 अंक यानी 0.38 फीसदी की बढ़त के बाद 40,315.65 के स्तर पर खुला। वहीं नेशनल स्टॉक एक्सचेंज का निफ्टी 53.20 अंक यानी 0.45 फीसदी की बढ़त के बाद 11,943.80 के स्तर पर खुला।

ऐसा रहा दिग्गज शेयरों का हाल

दिग्गज शेयरों की बात करें, तो सोमवार को इंफ्राटेल, टाटा स्टील, वेदांता लिमिटेड, जेएसडब्ल्यू स्टील, भारती एयरटेल, ग्रासिम, गेल और बजाज फिन्सर्व के शेयर हरे निशान पर खुले। वहीं गिरावट वाले दिग्गज शेयरों की बात करें, तो इनमें आईओसी, यस बैंक, जी लिमिटेड, इंफोसिस, टाटा मोटर्स, इंडसइंड बैंक, हीरो मोटोकॉर्प, बजाज ऑटो, बीपीसीएल, मारुति के शेयर शामिल हैं।

सेक्टोरियल इंडेक्स पर नजर

सेक्टोरियल इंडेक्स पर नजर डालें, तो सोमवार को ऑटो, आईटी और मीडिया के अतिरिक्त सभी सेक्टर्स हरे निशान पर खुले। इनमें मेटल, पीएसयू बैंक, एफएमसीजी, फार्मा और रियल्टी शामिल हैं।

प्री ओपन के दौरान यह था शेयर मार्केट का हाल

प्री ओपन के दौरान सुबह 9:10 बजे शेयर मार्केट हरे निशान पर था। सेंसेक्स 128.82 अंक यानी 0.32 फीसदी की बढ़त के बाद 40,293.85 के स्तर पर था। वहीं निफ्टी 38.30 अंक यानी 0.32 फीसदी की बढ़त के बाद 11,928.90 के स्तर पर था।

70.55 के स्तर पर खुला रुपया

डॉलर के मुकाबले आज रुपया 26 पैसे की बढ़त के बाद 70.55 के स्तर पर खुला। वहीं पिछले कारोबारी दिन डॉलर के मुकाबले रुपया 70.81 के स्तर पर बंद हुआ था।

पिछले कारोबारी दिन सपाट स्तर पर खुला था बाजार

शुक्रवार को शेयर बाजार सपाट स्तर पर खुला था। सेंसेक्स 16.69 अंक यानी 0.04 फीसदी की बढ़त के बाद 40,145.74 के स्तर पर खुला था। वहीं निफ्टी 5.45 अंक यानी 0.05 फीसदी की गिरावट के बाद 11,872 के स्तर पर खुला था।

शुक्रवार को हरे निशान पर बंद हुआ था बाजार

पिछले कारोबारी दिन शेयर बाजार हरे निशान पर बंद हुआ था। सेंसेक्स 35.98 अंक यानी 0.09 फीसदी की बढ़त के बाद 40,165.03 के स्तर पर बंद हुआ था। वहीं निफ्टी 22.05 अंक यानी 0.19 फीसदी की बढ़त के बाद 11,899.50 के स्तर पर बंद हुआ था।

02-11-2019
मन्नत के बाहर फैंस ने किए शाहरुख को विश, किंग खान ने अपने अंदाज में कहा धन्यवाद

मुंबई। बॉलिवुड के बादशाह शाहरुख खान 2 नवंबर को अपना जन्मदिन मना रहे हैं। शाहरुख खान की दीवानगी भारत ही नहीं पूरी दुनिया के लोगों पर सिर चढ़कर बोलती है। उनकी दीवानगी का आलम यह है कि कई दिन पहले से ही फैन्स ट्विटर पर इस दिन के लिए काउंटडाउन कर रहे थे। आधी रात उनके बंगले मन्नत के बाहर उन्हें बर्थडे विश करने के लिए फैन्स का हुजूम उमड़ पड़ा।

हर खास मौके पर शाहरुख के फैन्स उन्हें बधाई देने के लिए मन्नत के बाहर इक्ट्ठा होते हैं। ईद, दिवाली या होली जैसे त्यौहारों पर शाहरुख अपने घर की बालकनी में आकर फैन्स को विश करते हैं। उनके जन्मदिन पर फैन्स का एक्साइटमेंट अलग था। देर रात से ही फैन्स उनके घर के सामने जमा हो गए। शाहरुख खान भी आधी रात को उनका अभिवादन करने अपनी बालकनी में आए। शाहरुख के आते ही फैन्स का उत्साह बढ़ गया। कई फैन्स ने शाहरुख की तरफ टी-शर्ट भी फेके। ये शाहरुख के लिए उनका बर्थडे गिफ्ट था। फैन्स का प्यार देखकर शाहरुख भी बेहद खुश नजर आए। उन्होंने इशारों से उन्हें आवाज धीमी करने के लिए कहा क्योंकि पड़ोसी सो रहे हैं।

31-10-2019
130 से अधिक अधजले शवों का मांस खा चूका था ये बाबा, जाने कैसे हुआ मामले का खुलासा

नई दिल्ली। यह सुनकर आपके रोंगटे खड़े हो सकते हैं कि श्मशान घाट पर रहने वाले एक बाबा ने 136 अधजले शवों को चिता से निकालकर उनका मांस खाया। यह पूरा मामला मुरादाबाद का है। दिवाली की रात बाबा और उसके चेले के कत्ल के बाद से ही श्मशान घाट पर शवों के साथ छेड़छाड़ की बातें सामने आ रहीं थीं, लेकिन शवों से मांस खाने का खुलासा बुधवार को तब हुआ, जब पुलिस ने हत्यारोपी और उसके साथी को गिरफ्तार कर लिया। आरोपी ने बताया कि कुछ दिन पहले बाबा ने चिता से उसकी बहन का अधजला शव निकालकर उसका मांस खाया था। इसीलिए उसने बाबा और उसके चेले का कत्ल कर दिया। इतना ही नहीं, बाबा द्वारा शव से मांस निकालकर खाने की बात फैलते ही थाने पर पहुंचे 26 दूसरे लोगों ने भी दावा किया कि बाबा ने उनके परिजनों के शवों से भी मांस खाया। यह सुनकर पुलिस के पैरों तले जमीन खिसक गई। पुलिस ने जब इसकी जांच की तो  पता चला कि बाबा शवों को पूरी तरह से जलने से पहले ही चिता बुझा देता था और उनका मांस निकाल लेता था। डबल मर्डर का खुलासा करते हुए एसपी देहात उदयशंकर सिंह ने बताया कि ठाकुरद्वारा के कौशल्या नगर निवासी अंकुश यादव की बहन अंशु की 12 अगस्त को मौत हो गई थी।

श्मशान घाट पर उसका अंतिम संस्कार किया गया था। विधि-विधान होने के बाद सभी लोग चले गए। शाम को पिता वीरेंद्र चिता देखने श्मशान घाट पहुंचे तो चिता पर अधजला शव पड़ा था और शरीर के कुछ हिस्सों का मांस गायब था। वीरेंद्र ने मोबाइल से इसकी  फोटो खींची और घर आकर अंकुश को दिखाई। इस पर जब अंकुश ने श्मशान पर रहने वाले बाबा राजेंद्र गिरी से पूछताछ की तो उसने नशे में मान लिया कि उसने ही तंत्र विद्या के लिए उसकी बहन के शव से मांस खाया है। इसके बाद से ही अंकुश बाबा के खून का प्यासा हो गया था।

बाबा और उसके चेले का सिर कुचलकर हत्या की

एसपी देहात ने बताया कि दिवाली वाली रात अंकुश ने दोस्त बंटी के साथ शराब पी। इसके बाद श्मशान में जाकर बाबा और उसके चेले नीतेश की की सिर कुचलकर हत्या कर दी। एसपी ने बताया कि पूछताछ में पता चला है कि बाबा अपने साथ नशा करने वालों से भी अक्सर अपनी तंत्र शक्ति के लिए चिता से मांस निकालकर खाने की बातें बताता था। उधर, मांस खाने के कारण बाबा की हत्या होने और हत्यारों के पकड़े जाने की जानकारी होने पर बुधवार को बारी-बारी 26 लोग थाने पहुंचे और अपनों के शव से मांस खाने का आरोप बाबा पर लगाया। एसपी देहात उदयशंकर्र सिंह के निर्देश पर जांच कराई गई तो साल भर के भीतर 136 शवों का मांस बाबा द्वारा खाए जाने का चौंकाने वाला खुलासा हुआ। पुलिस ने बाबा के श्मशान की तलाशी ली तो बर्तन में चिता से निकाला गया मांस भी बरामद हुआ है। 

 

30-10-2019
चिंता का विषय प्रदूषण होना चाहिए न कि क्रिकेट मैच : गौतम गंभीर

नई दिल्ली। पूर्वी दिल्ली के मौजूदा सांसद और पूर्व क्रिकेटर गौतम गंभीर ने कहा है कि दिल्ली वालों क्रिकेट मैच की मेजबानी से ज्यादा प्रदूषण की चिंता करनी चाहिए। दिवाली के बाद से दिल्ली का प्रदूषण का स्तर बढ़ गया है और 3 नवंबर को होने वाले भारत-बांग्लादेश पहले टी-20 मैच के आयोजन को लेकर सवाल खड़े होने लगे हैं। गंभीर ने इस बारे में कहा कि दिल्ली में होने वाला क्रिकेट मैच या कोई दूसरे खेल से ज्यादा बड़ी समस्या प्रदूषण है। हमारे लिए, दिल्ली में रहने वालों के लिए प्रदूषण चिंता का विषय होना चाहिए न कि कोई क्रिकेट मैच। यह सिर्फ खिलाडिय़ों की है नहीं बल्कि सभी दिल्ली वासियों के लिए भी चिंता का विषय है। कोई मैच इसके आगे बहुत छोटा है। क्रिकेटर से सांसद बने गंभीर ने कहा कि यह बहुत छोटी चीज है। अंत में यह पूरी दिल्ली है जो सह रही है। बच्चों से लेकर बुजुर्ग तक सब पर इसका असर हो रहा है। इसलिए यह हमारी जिम्मेदारी है। मुझे पता चला है कि प्रदूषण का स्तर पहले से बेहतर है। इसका श्रेय दिल्ली के लोगों को जाता है, लेकिन अभी हमें और मेहनत करनी है। उन्होंने आगे कहा कि इसलिए मैच होता है या नहीं, मुझे इस बात की चिंता नहीं है। मैं उम्मीद करता हूं कि हो और होना भी चाहिए, लेकिन प्रदूषण एक ऐसी चीज है, जिसका दुष्प्रभाव पूरी दिल्ली पूरे साल झेलती है। यह मैच से कहीं बड़ा मुद्दा है। बता दें कि बांग्लादेश अपने आगामी भारत दौरे का आगाज दिल्ली के अरुण जेटली स्टेडियम में टी-20 मैच के साथ करेगी।

30-10-2019
दिवाली पर ऐश्वर्या की मैनेजर के साथ हुआ हादसा, इस स्टार ने बचाया...

मुंबई। दिवाली के दिन अमिताभ बच्चन के घर पार्टी में एक हादसा हो गया। खबर के अनुसार ऐश्वर्या राय की मैनेजर अर्चना सदानंद के लहंगें में आग लग गई थी। इस पर अचानक शाहरुख खान की नजर पड़ी और उन्होंने अर्चना को बचा लिया। हादसे के बाद उनको मुंबई के नानावती अस्पताल में भर्ती कराया गया है। बता दें कि महानायक अमिताभ बच्चन के घर हुई दिवाली पार्टी में बॉलीवुड के तमाम सितारे पहुंचे थे। शाहरुख खान भी अपनी पत्नी गौरी के साथ इस पार्टी में गए थे। शाहरुख ने अपनी जैकेट की मदद से अर्चना की लहंगे की आग पर काबू पाया। अर्चना अब भी आईसीयू में हैं, वो 15 फीसदी तक जल गई हैं। वहीं आग बुझाने में शाहरुख को भी मामूली चोट आई है। बता दें कि अर्चना पिछले कई सालों से ऐश्वर्या राय के साथ काम कर रही हैं। 27 अक्टूबर को बॉलीवुड के महानायक अमिताभ बच्चन के घर भी दिवाली की पार्टी रखी गई। अमिताभ के लिए ये दिवाली बेहद खास थी, क्योंकि पिछले 2 सालों से उनके घर दिवाली की पार्टी नहीं हो रही थी, लेकिन इस साल दिवाली पर अमिताभ के घर पर पार्टी रखी गई थी।

30-10-2019
मुलायम सिंह यादव से मिले योगी आदित्यनाथ

नई दिल्ली। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने समाजवादी पार्टी के संरक्षक और पूर्व मुख्यमंत्री मुलायम सिंह यादव मुलाकात की। इस दौरान उनके साथ शिवपाल सिंह यादव भी मौजूद थे। सीएम योगी बुधवार को मुलायम सिंह के आवास पहुंचे। यहां उन्होंने मुलायम सिंह यादव को दिवाली की शुभकामनाएं दीं। इस दौरान नेताओंं ने इस बात पर जोर दिया कि राजनीति में उनके बीच जो प्रतिद्वंदिता है वह आपसी व्यवहार में नहीं आनी चाहिए।

सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव की गैरमौजूदगी पर सीएम योगी ने मुलायम सिंह से बात की। साथ ही सीएम ने उनके स्वास्थ्य के बारे में भी जानकारी ली। कुछ देर बाद सीएम योगी पूर्व राज्यपाल कल्याण सिंह के आवास पर उनसे मिलने पहुंचे। योगी आदित्यनाथ ने कहा कि राजनीति में इस मुलाकात के कई मायने निकाले जा रहे हैं। योगी ने कहा कि 15 दिनों के भीतर राम मंदिर पर फैसला आना है। उन्होंने कहा कि मुलाकात को लेकर राजनीतिक हलकों में चर्चाओं का बाजार गर्म हो गया है।

27-10-2019
मन की बात : नरेंद्र मोदी ने किया देश के पहले गृहमंत्री सरदार पटेल को याद

नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने दिवाली के मौके पर मन की बात कार्यक्रम में देश के पहले गृहमंत्री सरदार वल्लभ भाई पटेल को याद किया। उन्होंने कहा कि सरदार पटेल ने हैदराबाद और जूनागढ़ ही नहीं बल्कि लक्षद्वीप जैसे इलाकों के भी भारत में एकीकरण के प्रयास किए। उन्होंने लक्षद्वीप पर कब्जा करने के पड़ोसी के हर मंसूबे को नाकामयाब किया। उन्होंने कहा कि वह हर चीज को बारीकी से पढ़ते थे और बड़े इलाकों ही नहीं बल्कि लक्षद्वीप के लिए भी चिंतित थे। नरेंद्र मोदी ने कहा कि हमने सरदार पटेल की दुनिया की सबसे ऊंची प्रतिमा तैयार की है। आज यह पर्यटन का भी बड़ा केंद्र है। पीएम ने कहा कि हम इस बात के साक्षी हैं कि कैसे एक साल में ही कोई जगह टूरिज्म डेस्टिनेशन बन सकती है। उन्होंने कहा कि मैं आप लोगों से आग्रह करता हूं कि आपको भारत के कम से कम 15 डेस्टिनेशंस का दौरा करें।

इस दौरान मोदी ने अपील की कि आप सभी लोगों को 31 अक्टूबर को सरदार पटेल की जयंती पर आयोजित रन फॉर यूनिटी में हिस्सा लेना चाहिए। उन्होंने कहा कि यह दौड़ देश की एकता की दौड़ है, जो फिट इंडिया का भी संकेत है। नरेंद्र मोदी ने बताया कि रन फॉर यूनिटी की जानकारी के लिए एक पोर्टल भी लॉन्च किया गया है। नरेंद्र मोदी ने इस मौके पर पहले सिख गुरुनानक देव को भी याद करते हुए कहा कि उन्होंने अपने दौर में पानी के संरक्षण की बात कही थी। 'मन की बात' में नरेंद्र मोदी ने राम मंदिर को लेकर 2010 में आए इलाहाबाद हाईकोर्ट के फैसले का भी जिक्र किया। उन्होंने कहा कि इस फैसले से पहले कई तरह के बयान दिए गए और माहौल बनाया गया। नरेंद्र मोदी ने कहा कि कई बड़बोलों ने तरह-तरह के बयान दिए थे। देश के माहौल को बिगाड़ने की कोशिशें की गई थीं। लेकिन, जब फैसला आया तो सबने इसे स्वीकार किया। संतों ने बहुत संभलकर बयान दिए और माहौल में कोई समस्या नहीं हुई।

 

27-10-2019
दिवाली मनाने जा रहे चार लोगों की कार दुर्घटना में मौत

पिथौरागढ़। उत्तराखंड में शनिवार देर रात को चकराता और पिथौरागढ़ में दर्दनाक हादसा हो गया। दिवाली मनाने जा रहे लोगों की कार खाई में गिरने और बोलेरो पलटने से दोनों हादसों में चार लोगों की मौत हो गई। चकराता के लोखंडी-कोटी  सम्पर्क मार्ग पर एक बोलेरो अनियंत्रित होकर सड़क पर ही पलट गई जबकि इसमें सवार करीब आठ लोग छिटक कर खाई में जा गिरे। इनमें से एक युवक की मौके पर ही मौत हो गई। एक किशोर ने हायर सेंटर ले जाते समय दम तोड़ा। छह अन्य लोगों को गंभीर चोटें आई हैं। इनमें से एक की हालत नाजुक बताई जा रही है। उपचार के लिए उसे सीएचसी विकासनगर भर्ती कराया गया है। शेष घायलों का सीएचसी चकराता में उपचार चल रहा है। आठवां व्यक्ति लापता बताया जा रहा है। मौके पर पहुंची एसडीआरएफ की टीम ने स्थानीय लोगों की मदद से घायलों को मशक्कत के बाद बाहर निकाला। एसओ अनूप सिंह नयाल ने बताया कि हादसे में देवी सिंह जोशी (24) पुत्र राजू जोशी निवासी जगथान की मौके पर ही मौत हो गई है जबकि, यशपाल (13) पुत्र रायसू ने उपचार के लिए ले जाते समय दम तोड़ा। शेष घायलों की पहचान गोविंद (14) पुत्र रनू, रोहित (14) पुत्र जोहिया (15), संदीप (15) पुत्र जालम, गुलाब सिंह (26 ) पुत्र सलिया सभी निवासी जगथात और किशन पुत्र मोहर सिंह निवासी लोहारी के रूप में हुई है। इनमें से किशन की हालत नाजुक बनी हुई है। एसओ ने बताया कि वाहन में आठ लोगों की होने की आशंका है। आठवीं सवारी का पता नहीं चल पा रहा है। 

27-10-2019
नरेंद्र मोदी की इस बार भी मनेगी जवानों के साथ बॉर्डर पर दिवाली!

नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आज दिवाली के अवसर पर दुर्गम इलाकों में तैनात जवानों के साथ नजर आ सकते हैं। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के रविवार को अग्रिम इलाके का दौरा करने की संभावना है। यह जानकारी सूत्रों के हवाले से आ रही है। बता दें कि 2018 में प्रधानमंत्री ने उत्तराखंड में भारत-चीन सीमा के पास बर्फीली घाटी में सेना और आईटीबीपी कर्मियों के साथ त्योहार मनाया था। 2014 में प्रधानमंत्री बनने के बाद मोदी ने जवानों के साथ सियाचिन में दिवाली मनाई थी। 2015 में उन्होंने दिवाली के मौके पर पंजाब सीमा का दौरा किया था। संयोग से उनका दौरा 1965 के भारत-पाक युद्ध के 50 साल होने पर हुआ था। अगले साल मोदी हिमाचल प्रदेश गए थे, जहां उन्होंने अग्रिम चौकी पर भारत-तिब्बत सीमा पुलिस कर्मियों के साथ समय गुजारे थे। प्रधानमंत्री मोदी ने 2017 में जम्मू कश्मीर के गुरेज में सैनिकों के साथ दिवाली मनाई थी। इस बार वह अग्रिम इलाके में जवानों के दिवाली मनाते नजर आ सकते हैं।

Advertise, Call Now - +91 76111 07804