GLIBS
01-04-2020
गिरावट के साथ बंद हुआ शेयर बाजार, सेंसेक्स और निफ्टी फिसले

मुंबई। वित्त वर्ष के पहले कारोबारी दिन बुधवार को शेयर बाजार लाल निशान पर बंद हुआ।  बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज का प्रमुख इंडेक्स सेंसेक्स 1203.18 अंक यानी 4.08 फीसदी की गिरावट के साथ 28265.31 के स्तर पर बंद हुआ। वहीं नेशनल स्टॉक एक्सचेंज का निफ्टी 343.95 अंक यानी 4.00 फीसदी की गिरावट के साथ 8253.80 के स्तर पर बंद हुआ। आज के कारोबार में सभी सेक्टर इंडेक्स गिरावट के साथ बंद हुए हैं। सबसे ज्यादा नुकसान आईटी सेक्टर में देखने को मिला। सेक्टर इंडेक्स करीब 6 फीसदी टूट कर बंद हुआ है। बैंकिंग सेक्टर 5 फीसदी से ज्यादा गिरावट के साथ बंद हुआ है। एफएमसीजी सेक्टर में करीब 4 फीसदी, मेटल और फार्मा में 2-2 फीसदी से ज्यादा की गिरावट देखने को मिली है। बुधवार को शुरुआती कारोबार में सेंसेक्स 217.62 अंक यानी 0.74 फीसदी की गिरावट के साथ 29250.87 के स्तर पर खुला था। वहीं निफ्टी 69.60 अंक यानी 0.81 फीसदी की गिरावट के साथ 8528.15 के स्तर पर खुला था। कोरोना वायरस के चलते दुनिया भर के शेयर बाजारों में मंदी का सिलसिला देखने को मिल रहा है। निवेशक शेयर बाजार से दूर हो रहे हैं।

 

27-03-2020
शेयर बाजार में मायूसी, सेंसेक्स 131 अंक गिरकर बंद,निफ्टी में मामूली बढ़त

मुंबई। उछाल के साथ खुले शेयर बाजार ने शुक्रवार को रिजर्व बैंक की घोषणाओं के बाद बढ़त खो दी। बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज का 30 शेयरों वाला सूचकांक 131.18 अंक लुढ़कर 29,815.59 पर बंद हुआ। दिन के कारोबार के दौरान एक बार यह 31,126.03 तक पहुंच गया था। नेशनल स्टॉक एक्सचेंज का निफ्टी 19.80 अंकों की मामूली तेजी के साथ 8,660.25 पर बंद हुआ। सुबह सेंसेक्स 886.02 अंकों की तेजी के साथ 30,832.79 पर खुला तो निफ्टी ने 326 अंकों के उछाल के साथ 8967.85 पर कारोबार की शुरुआत की। सुबह करीब 10 बजे सेंसेक्स की बढ़त करीब 1000 अंकों की थी और निफ्टी 329 अंक ऊपर था। आरबीआई के गवर्नर शक्तिकांत दास ने महामारी के दौरान अर्थव्यवस्था को सहारा देने के लिए बीते 11 वर्षों से अधिक समय के दौरान ब्याज दर में सबसे अधिक कटौती का ऐलान किया है।

केद्रीय बैंक ने रेपो दर में 0.75 प्रतिशत की कटौती कर उसे 4.4 प्रतिशत कर दिया गया है, जो कम से कम पिछले 15 वर्षों में सबसे कम है। हालांकि आरबीआई की घोषणाओं के बाद शेयर बाजार लाल निशान में आ गया। गुरुवार को सेंसेक्स 1410.99 अंकों की तेजी के साथ 29,946.77 पर बंद हुआ तो निफ्टी 323.60 अंकों के उछाल के साथ 8641.45 पर रहा। इंडसइंड बैंक के शेयर तो सेंसेक्स पर 45.07 पर्सेंट उछले थे। इस बीच वैश्विक स्तर पर शंघाई, हांगकांग, टोक्यो और सियोल में शेयर बाजार बढ़त के साथ बंद हुए, जबकि यूरोपीय बाजारों में गिरावट देखी गई। स्वास्थ्य मंत्रालय के अनुसार शुक्रवार को देश में कोविड-19 की वजह से मरने वालों की संख्या बढ़कर 17 हो गई और 724 लोग इससे संक्रमित थे। कोरोना वायरस महामारी के चलते दुनिया भर में 24,000 से अधिक जानें जा चुकी हैं।

 

26-03-2020
शेयर बाजार में रौनक,बढ़त के साथ बंद हुए सेंसेक्स और निफ्टी

मुंबई। आर्थिक पैकेज के ऐलान के बाद गुरुवार को शेयर बाजार में रौनक रही और बाजार बढ़त के साथ बंद हुआ। आज बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज का प्रमुख इंडेक्स सेंसेक्स 1410.99 अंक यानी 4.94 फीसदी की बढ़त के साथ 29946.77 के स्तर पर बंद हुआ। वहीं नेशनल स्टॉक एक्सचेंज का निफ्टी 323.60 अंक यानी 3.89 फीसदी की बढ़त के साथ 8641.45 के स्तर पर बंद हुआ। बता दें कि आज लगातार तीसरे दिन बाजार बढ़त पर बंद हुआ। कोरोना वायरस के कहर के चलते वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने एक लाख 70 हजार करोड़ के आर्थिक पैकेज का ऐलान किया है। गुरुवार को शुरुआती कारोबार में सेंसेक्स 348.63 अंक यानी 1.22 फीसदी की बढ़त के साथ 28884.41 के स्तर पर खुला था। वहीं निफ्टी 120.65 अंक यानी 1.45 फीसदी की बढ़त के साथ 8438.50 के स्तर पर खुला था। इसके बाद बाजार में उतार-चढ़ाव जारी रहा।

 

23-03-2020
सेंसेक्स और निफ्टी टूट कर बंद, निवेशकों के डूबे 14 लाख करोड़ रुपए

मुंबई। सप्ताह के पहले कारोबारी दिन सेंसेक्स करीब 4 हजार अंक की गिरावट के साथ 26 हजार के स्तर से नीचे बंद हुआ है। वहीं निफ्टी में 11 सौ अंक से ज्यादा की गिरावट दर्ज हुई। दिनभर के कारोबार में सेंसेक्स ने 27,900.83 का ऊपरी स्तर तथा 25,880.83 का निचला स्तर छुआ। वहीं, निफ्टी ने 8,159.25 का उच्च स्तर और 7,583.60 का निम्न स्तर छुआ। बीएसई पर सभी 30 कंपनियों के शेयर लाल निशान पर बंद हुए, जबकि एनएसई पर भी सभी 50 कंपनियों के शेयरों में बिकवाली देखी गई। निफ्टी के मिड कैप तथा स्मॉल कैप शेयरों में ऐतिहासिक गिरावट दर्ज की गई है। आज के कारोबार में बाजार में चौतरफा बिकवाली देखने को मिली है। आईटी और फार्मा सेक्टर को छोड़कर बाकी सारे सेक्टर इंडेक्स 10 फीसदी से ज्यादा टूट कर बंद हुए। सबसे ज्यादा गिरावट बैंकिंग और ऑटो सेक्टर में दर्ज की गई। शेयर बाजार में सेंसेक्स और निफ्टी में गिरावट के चलते निवेशकों के 14 लाख करोड़ रुपए डूबने की संभावना शेयर बाजार के जानकारों जाहिर की है। 

 

18-03-2020
दुनिया भर में आर्थिक राहत पैकेज की खबर से एशियाई बाजारों में तेजी से बदली रुख, भारत में आफत

नई दिल्ली। कोरोना वारयस के प्रकोप के चलते अमेरिका सहित दुनिया की प्रमुख अर्थव्यवस्थाओं के आर्थिक राहत पैकेज देने की खबरों के चलते बुधवार को एशियाई बाजारों में तेजी का रुख देखा गया। वहीं भारतीय शेयर बाजार में कोरोना आफत बनकर टूटा है। सेंसेक्स करीब 1400 अंक टूट चुका है। अमेरिका 1,000 अरब डॉलर से अधिक के भारी भरकम राहत पैकेज का ऐलान कर सकता है। इस महामारी के चलते दुनिया के सभी देशों ने अपनी सीमाओं को बंद कर दिया है और ऐसा आशंका जताई जा रही है कि विश्व आर्थिक मंदी की चपेट में आने वाला है।

कारोबारी मांग पर बेहद नकारात्मक असर पड़ने के चलते उद्योग जगत सरकारों से राहत की मांग कर रहे है। ऐसे में अमेरिका के वित्त मंत्री स्टीवन म्नुचिन ने कहा कि सरकार एक राहत पैकेज तैयार कर रही है, जो 1,000 अरब डॉलर तक का हो सकता है। अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने व्हाइट हाउस में मीडिया से कहा, “हम नहीं चाहते कि लोगों की नौकरी छूटे और उनके पास गुजारे के लिए पैसे न हों।” विभिन्न सरकारों द्वारा राहत पैकेज देने की खबर के कारण एशियाई बाजार तेजी के साथ खुले। टोक्यो में सुबह 1.7 प्रतिशत की वृद्धि हुई, जबकि सिंगापुर और वेलिंगटन में दो प्रतिशत से अधिक की तेजी देखने को मिली। शंघाई में 0.8 प्रतिशत और हांगकांग में 0.2 प्रतिशत की वृद्धि हुई। दूसरी ओर सिडनी पांच प्रतिशत से अधिक और जकार्ता तीन प्रतिशत गिरा। ताइपे और सियोल में भी मंदी देखने को मिली।

फ्रांस में 45 अरब यूरो का राहत पैकेज

फ्रांस ने कोरोना वायरस के संक्रमण से अर्थव्यवस्था पर पड़ रहे असर को कम करने के लिये 45 अरब यूरो के राहत पैकेज की मंगलवार को घोषणा की। फ्रांस के वित्त मंत्री ब्रुनो ली मेयर ने पैकेज की घोषणा करते हुए कहा कि इस साल फ्रांस आर्थिक मंदी की चपेट में आ सकता है।

7.3 अरब अमेरिकी डॉलर के राहत पैकेज की घोषणा

न्यूजीलैंड ने कोरोना वायरस से फैली महामारी से अर्थव्यवस्था पर पड़ रहे असर को दूर करने के लिए मंगलवार को 12.1 अरब न्यूजीलैंड डॉलर यानी 7.3 अरब अमेरिकी डॉलर के राहत पैकेज की घोषणा की। न्यूजीलैंड के वित्त मंत्री ग्रांट रॉबर्टसन ने माना कि आर्थिक मंदी लगभग तय है। हालांकि उन्होंने कहा कि इस पैकेज में वेतन संबंधी सब्सिडी, कर राहत तथा स्वास्थ्य एवं चिकित्सा क्षेत्र को बढ़ावा देने पर जोर दिया गया है। यह अर्थव्यवस्था पर महामारी के असर का कुछ कम करेगा।

अमेरिकी केंद्रीय बैंक ने ब्याज दर घटाई

अर्थव्यवस्था को बचाने के लिए अमेरिकी केंद्रीय बैंक ने ब्याज दर में एक फीसदी की कटौती कर चुका है। फेड ने अमेरिकी अर्थव्यवस्था में 700 अरब डॉलर डालने का भी फैसला किया है। उसने 500 अरब डॉलर और 200 अरब डॉलर के सरकारी बांड खरीदने की घोषणा की है। वहीं, न्यूजीलैंड के केंद्रीय बैंक ने भी आपातकालीन बैठक के बाद सोमवार को ब्याज दरों में 75 बेसिस पॉइंट की कटौती की है। वहीं दुनिया भर के कई देशों के केंद्रीय बैंकों ने नीतिगत दरें कम की हैं।

 

17-03-2020
सेंसेक्स और निफ्टी में दिनभर रहा उतार चढ़ाव, गिरावट के साथ बंद हुआ शेयर बाजार

मुंबई। शेयर बाजार में मंगलवार को उतार चढ़ाव की स्थिति रही। आज सेंसेक्स 811 अंक की गिरावट के साथ 30579 के स्तर पर बंद हुआ। वहीं निफ्टी 230 अंक की गिरावट के बाद 8967 के स्तर पर बंद हुआ। आज बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज का प्रमुख इंडेक्स सेंसेक्स 313.10 अंक की गिरावट के बाद 31,076.97 पर खुला था। वहीं नेशनल स्टॉक एक्सचेंज का निफ्टी 42.85 अंक की गिरावट के साथ 9,154.55 के स्तर पर खुला था। मंगलवार को बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज का प्रमुख इंडेक्स सेंसेक्स 80.48 अंक यानी 0.26 फीसदी की बढ़त के साथ कारोबार कर रहा था। वहीं नेशनल स्टॉक एक्सचेंज का निफ्टी 18.95 अंक यानी 0.21 फीसदी की बढ़त के साथ कारोबार कर रहा था। इसके अलावा डॉलर के मुकाबले आज रुपया 14 पैसे की बढ़त के बाद 74.13 के स्तर पर खुला था।
बता दें बीते काफी दिनों से शेयर बाजार में ऐतिहासिक गिरावट देखी जा रही है। ये हाल केवल भारतीय शेयर बाजार का ही नहीं बल्कि दुनियाभर के बाजार का है। कोरोना वायरस के कारण पूरी दुनिया का कारोबार प्रभावित हो रहा है।
आज के कारोबार में सबसे ज्यादा गिरावट वित्तीय और बैंकिंग शेयरों में देखने को मिली। बैंकिंग इंडेक्स 4 फीसदी की गिरावट के साथ बंद हुआ है। इसमें से भी प्राइवेट सेक्टर का नुकसान का हिस्सा ज्यादा रहा है। सेक्टर में एफएमसीजी और फार्मा सेक्टर के स्टॉक्स आज बढ़त दर्ज कर बंद हुए हैं।

 

16-03-2020
शेयर बाजार में गिरावट, 2700 अंक से ज्यादा लुढ़का सेंसेक्स, निवेशकों के करोड़ों स्वाह

मुंबई। शेयर बाजार में सप्ताह के पहले कारोबारी दिन सोमवार को भारी गिरावट रही। सेंसेक्स 2713.41 अंक की गिरावट के बाद 31,390.07 के स्तर पर बंद हुआ। निफ्टी में 756.10 अंक की गिरावट आई और यह 9200 के नीचे लुढ़क गया। सप्ताह के पहले कारोबारी दिन शेयर बाजार में उतार-चढ़ाव रहा। बाजार में भारी गिरावट से निवेशकों को झटका लगा है। एक ही दिन में उनके लाखों करोड़ डूब गए। निवेशकों को 7.50 लाख करोड़ रुपए स्वाहा हो गए।
इधर बाजार मेंं उथल पुथल के बीच यस बैंक के शेयर बढ़त पर बंद हुआ। यह 11.50 अंक यानी 45.01 फीसदी बढ़कर 37.05 के स्तर पर बंद हुआ। आज शुरुआती कारोबार में यह 26.70 के स्तर पर खुला था और पिछले कारोबारी दिन 25.55 के स्तर पर बंद हुआ था। यस बैंक ने ट्वीट कर जानकारी दी कि 18 मार्च शाम 6 बजे के बाद ग्राहक अपने खाते से सामान्य लेन-देन कर सकेंगे। 

 

13-03-2020
सेंसेक्स में पहली बार निम्न स्तर पर हुआ गिरावट, निफ्टी का कारोबार 1 घंटे के लिए हुआ बंद

नई दिल्ली। भारतीय शेयर बाजार में बड़ी गिरावट देखी जा रही है। कोरोना वायरस के खौफ के चलते भारतीय शेयर बाजार कारोबारी सप्ताह के आखिरी दिन शुक्रवार को लाल निशान के साथ खुले। सेंसेक्स 3000 अंक लुढ़का, निफ्टी का कारोबार 1 घंटे के लिए बंद कर दिया गया है। बीएसई का 30 शेयरों वाला इंडेक्स सेंसेक्स 3090.62 से ज्यादा अंक लुढ़क गया। सेंसेक्स आज 31,214.13 अंक पर खुला। शुरुआती कारोबार में सेंसेक्स 31,221.47 अंक के उच्च स्तर पर गया जबकि 29,896.31 के निम्न स्तर पर गया। सेंसेक्स के सभी इंडेक्स में गिरावट देखी जा रही है। गौरतलब है कि 4 मार्च 2015 को सेंसेक्स पहली बार 30 हजार के स्तर को पार किया था। सेंसेक्स सुबह 9 बजकर 25 मिनट पर 9.43 प्रतिशत की गिरावट के साथ 29,687.52 अंक के स्तर पर कारोबार कर रहा है। शुक्रवार को नेशनल स्टॉक एक्सचेंज का 50 शेयरों वाला प्रमुख इंडेक्स निफ्टी 9107.60 अंक पर खुला। शुरुआती कारोबार में निफ्टी 9133.20 अंक के उच्च स्तर पर गया जबकि 8624.05 के निम्न स्तर पर गया। खबर लिखे जाने तक निफ्टी में 966.10 अंक यानी 10.07 प्रतिशत की गिरावट के साथ 8624.05 अंकों के स्तर पर कारोबार करता दिखाई दिया। अधिक गिरावट के कारण निफ्टी में कारोबार 1 घंटे के लिए बंद कर दिया गया है।
 

12-03-2020
कौन ज्यादा गिरा हुआ है, सेंसेक्स या भाजपा सरकार की नीयत : टीएस सिंहदेव

रायपुर। कैबिनेट मंत्री टीएस सिंहदेव ने देश की अर्थव्यवस्था और बाजार के हालात पर केन्द्र सरकार को निशाने पर लिया है। मंत्री टीएस सिंहदेव ने ट्वीट कर कहा कि अब तो यह भी समझ नहीं आ रहा कि कौन ज्यादा गिरा हुआ है, सेंसेक्स या भाजपा सरकार की नीयत। निवेशकों का लाखों करोड़ों रुपया डूबता जा रहा है, लेकिन केंद्रीय सरकार विफलता और नाकामी के नए बेंचमार्क सेट करती जा रही है। बता दें कि गुरुवार को सेंसेक्स में बड़ी गिरावट देखी गई। बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज का प्रमुख इंडेक्स सेंसेक्स 1,784.14 अंक यानी 5.03 फीसदी की गिरावट के बाद 33,903.26 के स्तर पर खुला। जबकि नेशनल स्टॉक एक्सचेंज का निफ्टी 532.65 अंक यानी 5.09 फीसदी की गिरावट के बाद 9,925.75 के स्तर पर खुला। सेक्टोरियल इंडेक्स पर नजर डालें, तो आज सभी सेक्टर्स की शुरूआत गिरावट पर हुई। डॉलर के मुकाबले आज रुपया 61 पैसे की गिरावट के बाद 74.25 के स्तर पर खुला। पिछले कारोबारी दिन डॉलर के मुकाबले रुपया 73.64 के स्तर पर बंद हुआ था।

11-03-2020
उतार-चढ़ाव के बाद बढ़त के साथ बंद हुआ शेयर बाजार

मुंबई। शेयर बाजार में बुधवार को भारी उतार-चढ़ाव भरे कारोबार में सेंसेक्स 62 अंक लाभ के साथ बंद हुआ। कारोबार के दौरान 30 शेयरों वाला सेंसेक्स एक समय 386 अंक तक चढ़ गया था। अंत में यह 62.45 अंक या 0.18 फीसदी की तेजी के साथ 35,697.40 पर बंद हुआ। नेशनल स्टॉक एक्सचेंज का एनएसई निफ्टी 6.95 अंक या 0.07 फीसदी की तेजी के साथ 10,458.40 पर बंद हुआ। सेंसेक्स में हीरो मोटोकॉर्प, रिलायंस इंडस्ट्रीज, आईसीआईसीआई बैंक और एलएंडटी लाभ में रहे। कारोबारियों के मुताबिक देश में कोरोना वायरस के मामलों में तेजी से बढ़ोतरी और विदेश से मिले-जुले रुझानों के चलते निवेशकों में घबराहट बढ़ गई थी ओर बाजार ने अपनी शुरुआती बढ़त खो दी। शंघाई, हांगकांग, सियोल और टोक्यो में शेयर बाजार नुकसान के साथ बंद हुए,जबकि यूरोप में शुरुआती कारोबार के दौरान दो प्रतिशत की तेजी देखने को मिली।

09-03-2020
शेयर बाजार में गिरावट,1131.15 अंक गिरकर 36,445.47 पर पहुंचा सेंसक्स

नई दिल्ली। शेयर बाजार में सोमवार सुबह एक बार फिर बड़ी गिरावट देखने को मिली। यहां सेंसक्स 1131.15 अंक गिरकर 36,445.47 पर आ गया है। गौरतलब है कि इससे पहले शुक्रवार को भी गिरावट के साथ के साथ खुले शेयर बाजार में सेंसेक्स 1407 टूटकर 38000 के नीचे आ गया था। रिजर्व बैंक के यस बैंक पर रोक लगाने और निदेशक मंडल को भंग कर देने का असर भी बाजार पर पड़ा है। विदेशी पोर्टफोलियो निवेशकों की लगातार निकासी और रुपये के डॉलर के मुकाबले कमजोर पड़ने का असर भी निवेशकों की धारणा पर पड़ा है।

शेयर बाजारों में उथल-पुथल के बीच निवेशक सुरक्षित विकल्प की तलाश में सोने एवं अन्य बहुमूल्य धातुओं का रुख कर रहे हैं। वहीं निफ्टी में भी गिरावट देखने को मिली। सोमवार को बाजार के खुलने पर निफ्टी 312 अंक गिरकर 10677 पर पहुंच गया। आगामी सप्ताह होली के अवकाश के चलते 10 अप्रैल को बाजार बंद रहेगा। अगले हफ्ते निवेशकों की नजर यस बैंक संकट और कोरोना वायरस पर रहेगी है।

06-03-2020
कारेबार में आई बड़ी गिरावट, सेंसेक्स 35011.09 अंक हुआ नीचे

मुंबई। देश में कोरोना वायरस के बढ़ते प्रकोप से शेयर बाजारों में शुक्रवार को शुरुआती कारोबार में बड़ी गिरावट देखी गई। सेंसेक्स 1000 अंक और निफ्टी 300 अंक से अधिक टूट गए। कारोबार की शुरुआत में सेंसेक्स गुरुवार के बंद 38470.61 की तुलना में 863 अंक नीचे 37613.96 पर खुला और बिकवाली के दबाव में टूटता हुआ 35011.09 अंक तक गिरा। इसके बाद मामूली सुधरकर फिलहाल 1054 अंक नीचे 37416.91 अंक पर कारोबार कर रहा है। निफ्टी 11000 अंक से नीचे उतर गया। निफ्टी फिलहाल 10954.80 पर 315 अंक नीचे है।

 

Advertise, Call Now - +91 76111 07804