GLIBS
04-07-2021
प्राकृतिक आपदा पीड़ितों को आर्थिक अनुदान सहायता देने 96.40 करोड़ रुपए आवंटित

रायपुर। राजस्व एवं आपदा प्रबंधन विभाग की ओर से प्रदेश के विभिन्न जिलो में प्राकृतिक आपदा पीड़ितो को आर्थिक अनुदान सहायता उपलब्ध कराने के लिए चालू वित्तीय वर्ष में 96 करोड़ 40 लाख रुपए की राशि कलेक्टरों को आवंटित की गई है। राजस्व एवं आपदा प्रबंधन विभाग ने रायपुर, महासमुंद, धमतरी, कबीरधाम, दंतेवाड़ा, बिलासपुर, कोरबा, बीजापुर, गरियाबंद, बालोद, बेमेतरा और कोंडागांव जिले के लिए प्राकृतिक आपदा पीड़ितों को अनुदान सहायता के लिए प्रति जिले 3.25 करोड़ रुपए की राशि का आवंटन किया है। 

इसी तरह से राजनांदगांव, जांजगीर-चांपा, जशपुर और रायगढ़ के लिए प्रति जिले 3.75 करोड़ रुपए की राशि आवंटित की गई है। इसी तरह से दुर्ग के लिए 3 करोड़ 20 लाख रुपए, बस्तर के लिए 3 करोड़ 85 लाख रुपए, कांकेर के लिए 3 करोड़ 80 लाख रुपए, सरगुजा के लिए 4 करोड़ 50 लाख रुपए, कोरिया 3 करोड़ 30 लाख रुपए, नारायणपुर 3 करोड़ पांच लाख रुपए, बलौदाबाजार 3 करोड़ 50 लाख रुपए की राशि आवंटित की गई है। इसी तरह से मुंगेली के लिए 3 करोड़ 15 लाख, सुकमा 3 करोड़ 15 लाख रुपए, बलरामपुर 3 करोड़ 85 लाख रुपए, गौरेला-पेंड्रा-मरवाही के लिए 3 करोड़ 20 लाख और सूरजपुर 3 करोड़ 85 लाख रुपए, मुंगेली 3 करोड़ 15 लाख और कोंडागांव के लिए 3 करोड़ 25 लाख रुपए आवंटित किए गए हंै।

23-03-2021
प्राकृतिक आपदा के 8 प्रकरणों में मृतकों के परिजनों को कुल 32 लाख रुपए की सहायता

रायपुर। छत्तीसगढ़ शासन के राजस्व एवं आपदा प्रबंधन विभाग ने प्राकृतिक आपदाओं के 8 प्रकरणों में जांजगीर-चांपा और जशपुर जिले में 16 लाख रुपए की आर्थिक सहायता स्वीकृत की है। जांजगीर-चांपा जिले की पामगढ़ तहसील के ग्राम सुकुलपारा के बीरेन्द्र और तहसील अकलतरा के ग्राम किरारी के विजय कुमार कश्यप की सर्पदंश से मृत्यु हुई थी। इनके परिजनों को चार-चार लाख रुपए स्वीकृत किए गए हैं। इसी तरह से तहसील मालखरौदा के ग्राम मोहतरा की ननकी बाई और फगुरम के तेजराम की मृत्यु सर्पदंश से हुई थी। इनके परिजनों को चार लाख रुपए की राशि स्वीकृत की गई है। जशपुर जिले के पत्थलगांव तहसील के ग्राम सुरेशपुर के मनोज तिर्की और ग्राम लुड़ेग के बेरतिला तिग्गा की आकाशीय बिजली गिरने से मृत्यु हुई थी। ग्राम जामुनपानी की रेशमा लकड़ा और ग्राम कुकुरगांव की सरिता नाग की मृत्यु सर्पदंश से हुई थी। इनके परिजनों को चार-चार लाख रुपए की आर्थिक सहायता स्वीकृत की गई है।

18-03-2021
वित्तीय वर्ष 2020-21 में आपदा प्रभावितों को 143 करोड़ रुपए की आर्थिक सहायता, देखिए जिलेवार आंकड़े 

रायपुर। छत्तीसगढ़ शासन के राजस्व एवं आपदा प्रबंधन विभाग ने प्रदेश के विभिन्न जिलों के प्राकृतिक आपदा प्रकरणों में आर्थिक सहायता राशि जारी की है। पीड़ितों को आर्थिक सहायता प्रदान करने के लिए वित्तीय वर्ष 2020-21 में 142 करोड़ 97 लाख 77 हजार रुपए की राशि जारी की गई। रायपुर जिले के लिए 5 करोड़ 1 लाख 26 हजार रुपए, महासमुंद के लिए 3 करोड़ 99 लाख 15 हजार रुपए, धमतरी के लिए 3 करोड़ 99 लाख 94 हजार रुपए, बलौदाबाजार 5 करोड़ 31 लाख 40 हजार रुपए और गरियाबंद जिले के लिए 3 करोड़ 43 लाख 60 हजार रुपए की राशि जारी की गई। 

इसी प्रकार से दुर्ग जिले के लिए 3 करोड़ 19 लाख 15 हजार रुपए, राजनांदगांव के लिए 4 करोड़ 88 लाख 95 हजार रुपए, कबीरधाम के लिए 3 करोड़ 39 लाख 19 हजार रुपए, बालोद के लिए 4 करोड़ 86 लाख 40 हजार रुपए और बेमेतरा के लिए 3 करोड़ 46 लाख 70 हजार रूपए की राशि जारी गई। बिलासपुर जिले में 4 करोड़ 91 लाख 11 हजार रुपए, मुंगेली जिले में 4 करोड़ 32 लाख रुपए, जांजगीर-चांपा में 17 करोड़ 11 लाख 27 हजार रुपए, कोरबा में 3 करोड़ 27 लाख 40 हजार रुपए, रायगढ़ में 13 करोड़ 19 लाख 15 हजार रुपए व गौरेला-पेण्ड्रा-मरवाही जिले में 3 करोड़ 2 लाख 40 हजार रुपए की राशि जारी की गई।

बस्तर जिले के लिए 9 करोड़ 52 लाख 20 हजार रुपए, दंतेवाड़ा के लिए 6 करोड़ 99 लाख 90 हजार रुपए, बीजापुर के लिए 5 करोड़ 8 लाख 84 हजार रुपए, सुकमा के लिए 4 करोड़ 28 लाख 40 हजार रुपए, कोंडागांव के लिए 4 करोड़ 10 लाख 40 हजार रुपए, कांकेर जिले के लिए 4 करोड़ 15 लाख 20 हजार रुपए व नारायणपुर जिले में 2 करोड़ 84 लाख 96 हजार रुपए की राशि वर्ष 2020-21 के लिए जारी की गई। इसी तरह से सरगुजा जिले के लिए 4 करोड़ 2 लाख 20 हजार रुपए आपदा पीड़ितों को सहायता के लिए जारी किए गए हैं। सूरजपुर जिले में 3 करोड़ 94 लाख 80 हजार रुपए, बलरामपुर में 3 करोड़ 94 लाख 80 हजार रुपए, जशपुर में 3 करोड़ 99 लाख 60 हजार रुपए व कोरिया जिले में 3 करोड़ 27 लाख 40 हजार रुपए की राशि वित्तीय वर्ष 2020-21 में जारी की गई।

27-02-2021
प्राकृतिक आपदा के 8 प्रकरणों में परिजनों को कुल 32 लाख रुपए की आर्थिक सहायता मंजूर 

रायपुर। छत्तीसगढ़ शासन के राजस्व एवं आपदा प्रबंधन विभाग की ओर से प्राकृतिक आपदा से पीड़ितों को आर्थिक अनुदान सहायता स्वीकृत की जाती है। विभाग ने बेमेतरा जिले में ऐसे 8 प्रकरणों में 32 लाख रुपए की आर्थिक सहायता स्वीकृत की है। इनमें बेमेतरा जिले की तहसील बेमेतरा के ग्राम करही की हेमलता और ग्राम मोहतरा की दुर्गा सेन की मृत्यु आग में जलने से और ग्राम मंड़ई की रामबाई निषाद की मृत्यु सर्पदंश से हुई थी। मृतकों के परिजनों को चार-चार लाख रुपए की आर्थिक सहायता स्वीकृत की गई है। इसी तरह तहसील बेरला के ग्राम रामपुर (भांड़) बुधारु ठाकुर की पानी मे डूबने से ग्राम रवेली की शशी मिर्झा की मृत्यु आग मे जलने से और नवागढ़ तहसील के ग्राम तरपोंगी की शांति निषाद और परसदा की सावित्री कुर्रे की मृत्यु आग मे जलने से और ग्राम झुलना के संजू यादव की मृत्यु सर्पदंश से होने के कारण मृतकों के परिजनों को चार-चार लाख रुपए की आर्थिक सहायता स्वीकृत की गई है।

15-02-2021
प्राकृतिक आपदा के 6 प्रकरणों में परिजनों को 24 लाख रुपए की आर्थिक सहायता मंजूर 

रायपुर। छत्तीसगढ़ शासन के राजस्व एवं आपदा प्रबंधन विभाग ने कोरिया जिले के 6 प्रकरणों में 24 लाख रुपए की आर्थिक सहायता स्वीकृत की है। प्राकृतिक आपदा से पीड़ितों को जिला कलेक्टर के माध्यम से आर्थिक सहायता स्वीकृत की जाती है। कोरिया जिले की बैकुंठपुर तहसील की संगीता की मौत जलने से हुई थी। ग्राम रटगा की फूलमति, डबरीपारा के रामजीत और ग्राम कटकोना के अजय कुमार की मृत्यु पानी में डूबने से हुई थी। इन प्रकरणों में पीड़ित परिजनों को चार-चार लाख रुपए की आर्थिक सहायता स्वीकृत की गई है। इसी तरह मनेन्द्रगढ़ के ग्राम पुरानी लेदरी के दिनेश की सर्पदंश से और ग्राम खोंगापानी के धनराज की मृत्यु पानी में डूबने से होने पर इनके परिजनों को चार-चार लाख रुपए की आर्थिक सहायता स्वीकृत की गई है।

26-10-2020
राज्य सरकार ने पीड़ित परिवार को दी 12 लाख रुपए की आर्थिक सहायता

रायपुर। छत्तीसगढ़ शासन के राजस्व एवं आपदा प्रबंधन विभाग ने तीन प्रकरणों में उत्तर बस्तर कांकेर जिले में 12 लाख रुपए की आर्थिक सहायता स्वीकृत की है। राजस्व पुस्तक परिपत्र 6-4 के तहत उत्तर बस्तर कांकेर जिले की अंतागढ़ तहसील के ग्राम तुमसनार के मिलन कुमार और करिश्मा मण्डावी की मृत्यु पानी में डूबने से और ग्राम मंगतासाल्हेमाट निवासी नमिता दर्रो की मृत्यु सांप के काटने से हुई है। तीनों मृतकों के परिजनों को चार-चार लाख रुपए की आर्थिक सहायता राशि स्वीकृत की गई है।

 

17-09-2020
आपदा पीड़ित परिवारों को 4-4 लाख रुपए की आर्थिक सहायता मंजूर 

रायपुर। छत्तीसगढ़ शासन के राजस्व एवं आपदा प्रबंधन विभाग ने प्राकृतिक आपदा से मृतकों के परिजनों को जिला कलेक्टर के माध्यम से आर्थिक अनुदान सहायता मंजूर की है। रायगढ़ जिले के तहसील लैलूंगा के ग्राम पोतरा निवासी संजय कुमार की मृत्यु पानी में डूबने से हो गई थी। इसी तरह तहसील बरमकेला के ग्राम बीजामाला के निवासी बेणुधर की मृत्यु दीवाल धसकने से हो गई थी। दोनों मृतकों के परिजनों को राजस्व पुस्तक परिपत्र 6-4 के प्रावधानों के तहत चार-चार लाख रुपए की आर्थिक सहायता स्वीकृत की गई है।

08-09-2020
आरपी मंडल ने ली बैठक, विभिन्न सड़कों के रख-रखाव और निर्माण के संबंध में हुई चर्चा

रायपुर। मुख्य सचिव आरपी मंडल की अध्यक्षता में छत्तीसगढ़ राज्य सड़क विकास निगम लिमिटेड की 21वीं बैठक हुई। मंगलवार को हुई इस बैठक में राज्य की विभिन्न सड़कों के रख-रखाव और निर्माण के संबंध में चर्चा हुई। बैठक में वित्त विभाग के अपर मुख्य सचिव अमिताभ जैन, लोक निर्माण विभाग के सचिव सिद्धार्थ कोमल परदेशी, राजस्व एवं आपदा प्रबंधन विभाग की सचिव रीता शांडिल्य, नगरीय प्रशासन एवं विकास विभाग की सचिव अलरमेलमंगई डी., मुख्य कार्यपालन अधिकारी सड़क विकास निगम भोसकर विलास संदिपन सहित वरिष्ठ अधिकारी उपस्थित थे।

25-08-2020
प्रदेश में अब तक 920.0 मिमी औसत वर्षा दर्ज, सबसे अधिक बीजापुर और सबसे कम सरगुजा में हुई बारिश

रायपुर। प्रदेश के राजस्व एवं आपदा प्रबंधन विभाग द्वारा बनाए गए राज्य स्तरीय बाढ़ नियंत्रण कक्ष में संकलित जानकारी के अनुसार प्रदेश में एक जून से अब तक कुल 920.0 मिमी औसत वर्षा दर्ज की जा चुकी है। प्रदेश में सर्वाधिक बीजापुर जिले में 1984.7 मिमी और सबसे न्यूनतम सरगुजा में 620.3 मिमी औसत वर्षा अब तक रिकार्ड की गई है। राज्य स्तरीय बाढ़ नियंत्रण कक्ष में संकलित की गई जानकारी के अनुसार एक जून से अब तक सूरजपुर में 1098.4 मिमी, बलरामपुर में 784.4 मिमी, जशपुर में 980.8 मिमी, कोरिया में 875.2 मिमी, रायपुर में 704.6 मिमी, बलौदाबाजार में 783.3 मिमी, गरियाबंद में 785.8 मिमी, महासमुन्द में 956.3 मिमी, धमतरी में 794.3 मिमी, बिलासपुर में 955.8 मिमी, मुंगेली में 688.3 मिमी, रायगढ़ में 800.6 मिमी, जांजगीर-चांपा में 813.2 मिमी तथा कोरबा में 1060.8 मिमी औसत वर्षा दर्ज की गई। इसी प्रकार गौरेला-पेन्ड्रा-मरवाही में 852.9 मिमी, दुर्ग में 689.8 मिमी, कबीरधाम में 642.0 मिमी,राजनांदगांव में 673.7 मिमी, बालोद में 766.0 मिमी, बेमेतरा में 762 मिमी, बस्तर में 1027 मिमी, कोण्डागांव में 1232.9 मिमी, कांकेर में 811.6 मिमी, नारायणपुर में 1124.1 मिमी, दंतेवाड़ा में 1328.4 मिमी तथा सुकमा में 1162.7 मिमी औसत दर्ज की गई है।
 राज्य स्तरीय बाढ़ नियंत्रण कक्ष द्वारा संकलित की गई जानकारी के अनुसार प्रदेश के विभिन्न जिलों में आज 25 अगस्त को सुबह रिकार्ड की गई वर्षा के अनुसार सरगुजा जिले में 2.0 मिमी, सूरजपुर में 2.9 मिमी, जशपुर में 1.5 मिमी तथा कोरिया में 1.6 मिमी औसत वर्षा रिकार्ड की गई। इसी तरह से बलौदाबाजार में 1.4 मिमी, गरियाबंद में 0.7 मिमी,महासमुन्द में 0.7 मिमी, बिलासपुर में 1.1 मिमी, रायगढ़ में 0.5 मिमी,जांजगीर-चांपा में 0.6 मिमी, बेमेतरा में 1.2 मिमी, सुकमा में 3.0 मिमी तथा बीजापुर में 0.1 मिमी, औसत वर्षा दर्ज की गई।

 

24-08-2020
प्रदेश में अब तक 919.4 मिमी औसत वर्षा दर्ज, सर्वाधिक बीजापुर और न्यूनतम सरगुजा में

रायपुर। प्रदेश के राजस्व एवं आपदा प्रबंधन विभाग द्वारा बनाए गए राज्य स्तरीय बाढ़ नियंत्रण कक्ष में संकलित जानकारी के अनुसार प्रदेश में एक जून से अब तक कुल 919.4 मि.मी. औसत वर्षा दर्ज की जा चुकी है। प्रदेश में सर्वाधिक बीजापुर जिले में 1984.6 मिमी. और सबसे न्यूनतम सरगुजा में 618.4 मिमी. औसत वर्षा अब तक रिकार्ड की गई है। राज्य स्तरीय बाढ़ नियंत्रण कक्ष में संकलित की गई जानकारी के अनुसार एक जून से अब तक सूरजपुर में 1095.5 मिमी, बलरामपुर में 784.4 मिमी, जशपुर में 979.3 मिमी, कोरिया में 873.6 मिमी, रायपुर में 704.6 मिमी, बलौदाबाजार में 782.0 मिमी, गरियाबंद में 785.1 मिमी, महासमुन्द में 955.6 मिमी, धमतरी में 794.3 मिमी, बिलासपुर में 954.7 मिमी, मुंगेली में 688.3 मिमी, रायगढ़ में 800.2 मिमी, जांजगीर-चांपा में 812.6 मिमी तथा कोरबा में 1060.8 मिमी औसत वर्षा दर्ज की गई। इसी प्रकार गौरेला-पेन्ड्रा-मरवाही में 852.9 मिमी, दुर्ग में 689.8 मिमी, कबीरधाम में 642.0 मिमी, राजनांदगांव में  673.7 मिमी, बालोद में 766.0 मिमी, बेमेतरा में 761.4 मिमी, बस्तर में 1027.6 मिमी, कोण्डागांव में 1232.9 मिमी, कांकेर में 811.6 मिमी, नारायणपुर में 1124.1 मिमी, दंतेवाड़ा में 1328.4 मिमी तथा सुकमा में 1159.7 औसत दर्ज की गई है।

राज्य स्तरीय बाढ़ नियंत्रण कक्ष द्वारा संकलित की गई जानकारी के अनुसार प्रदेश के विभिन्न जिलों में आज 24 अगस्त को सुबह रिकार्ड की गई वर्षा के अनुसार सरगुजा जिले में 1.3 मि.मी., सूरजपुर में 5.5 मि.मी., बलरामपुर में 13.3 मि.मी., जशपुर मंे 0.9 मि.मी. तथा कोरिया में 16.4 मि.मी. औसत वर्षा रिकार्ड की गयी। इसी तरह से रायपुर में 1.3 मि.मी., बलौदाबाजार में 16.1 मि.मी., गरियाबंद में 0.4 मि.मी., बिलासपुर में 9.0 मि.मी., मुंगेली में 1.7 मि.मी., रायगढ़ में 2.2 मि.मी., जांजगीर-चांपा में  13.7 मि.मी., कोरबा में 11.4 मि.मी., गौरेला-पेण्ड्रा-मरवाही में 2.1 मि.मी., कबीरधाम में 2.0 मि.मी., राजनांदगांव में 0.4 मि.मी., बालोद में 0.1 मि.मी., बेमेतरा में 9.6 मि.मी, बस्तर में 0.7 मि.मी., दंतेवाड़ा में 1.0 मिमी तथा सुकमा में 8.0 मि.मी. औसत वर्षा दर्ज की गई।

18-08-2020
आपदा पीड़ितों को मिली 48 लाख की सहायता

रायपुर। राज्य शासन के राजस्व एवं आपदा प्रबंधन विभाग की ओर से विभिन्न प्राकृतिक आपदा से पीड़ित व्यक्तियों को जिला कलेक्टर के माध्यम से राजस्व परिपत्र 6-4 के तहत आर्थिक सहायता स्वीकृत की जाती है। प्रदेश के कोण्डागांव जिले में 12 प्रकरणों में पीड़ितों को आर्थिक सहायता राशि स्वीकृत की गई है। इसमें 48 लाख रुपए की अर्थिक सहायता स्वीकृत की गई है।

07-08-2020
प्रदेश में अब तक 625.7 मि.मी. औसत वर्षा दर्ज

रायपुर। प्रदेश के राजस्व एवं आपदा प्रबंधन विभाग द्वारा बनाए गए राज्य स्तरीय बाढ़ नियंत्रण कक्ष में संकलित जानकारी के अनुसार प्रदेश में एक जून से अब तक कुल 625.7 मि.मी. औसत वर्षा दर्ज की जा चुकी है। प्रदेश में सर्वाधिक सूरजपुर जिले में 922.9 मिमी. और सबसे न्यूनतम कबीरधाम में 389.4 मिमी. औसत वर्षा अब तक रिकार्ड की गई है।

राज्य स्तरीय बाढ़ नियंत्रण कक्ष में संकलित की गई जानकारी के अनुसार एक जून से अब तक सरगुजा जिले में 459.6 मिमी, बलरामपुर में 627.2 मिमी, जशपुर में 782.6 मिमी, कोरिया में 649.3 मिमी, रायपुर में 563.3 मिमी, बलौदाबाजार में 574.5 मिमी, गरियाबंद में 603.1 मिमी, महासमुन्द में 738.5 मिमी, धमतरी में 563.7 मिमी, बिलासपुर में 673.7 मिमी, मुंगेली में 468.1 मिमी, रायगढ़ में 616.3 मिमी, जांजगीर-चांपा में 533.5 मिमी तथा कोरबा में 809.8 मिमी औसत वर्षा दर्ज की गई। इसी प्रकार गौरेला-पेन्ड्रा-मरवाही में 660.2 मिमी, दुर्ग में 566.6 मिमी, राजनांदगांव में 443.9 मिमी, बालोद में 513.4 मिमी, बेमेतरा में 556.3 मिमी, बस्तर में 599.2 मिमी, कोण्डागांव में 907.2 मिमी, कांकेर में 496.1 मिमी, नारायणपुर में 708.5 मिमी, दंतेवाड़ा में 723.5 मिमी, सुकमा में 614.9 मिमी तथा बीजापुर जिले में 754.0 मिमी औसत दर्ज की गई है।

राज्य स्तरीय बाढ़ नियंत्रण कक्ष द्वारा संकलित की गई जानकारी के अनुसार प्रदेश के विभिन्न जिलों में आज 07 अगस्त को सुबह रिकार्ड की गई वर्षा के अनुसार सरगुजा जिले में 15.9 मि.मी., सूरजपुर में 21.4 मि.मी., बलरामपुर में 5.0 मि.मी., जशपुर में 20.1 मि.मी. तथा कोरिया में 17.2 मि.मी. औसत वर्षा रिकार्ड की गयी। इसी तरह से रायपुर में 2.0 मिमी, बलौदाबाजार में 7.7 मिमी, गरियाबंद में 11.2 मिमी, महासमुन्द में 7.3 मिमी, धमतरी में 4.8 मिमी, बिलासपुर में 23.7 मि.मी., मुंगेली में 21.7 मिमी, रायगढ़ में 4.7 मिमी, जांजगीर-चांपा में 16.2 मिमी, कोरबा में 33.1 मिमी, गौरेला-पेन्ड्रा-मरवाही में 9.7 मिमी, कबीरधाम में 14.9 मिमी., राजनांदगांव में 2.7 मिमी, बालोद में 1.1 मिमी, बेमेतरा में 18.8 मिमी, बस्तर में 1.9 मिमी, कोण्डागांव में 8.8 मिमी, कांकेर में 4.2 मिमी, नारायणपुर में 5.9 मिमी, दंतेवाड़ा में 4.8 मिमी, सुकमा में 4.0 मिमी तथा बीजापुर में 4.9 मिमी औसत वर्षा आज रिकार्ड की गई।

Advertise, Call Now - +91 76111 07804