GLIBS
19-11-2020
नाश्ता सुबह का हो या शाम का उसे टेस्टी और हेल्दी बना देता है हर किसी की पसन्द पनीर पकोड़ा

रायपुर। सुबह का नाश्ता शरीर के लिए बहुत आवश्यक होता है। सुबह हो या शाम का नाश्ता पनीर के पकोड़े हैं सपके पसंद। पनीर के व्‍यजनों में पनीर के पकोड़े बेहद मशहूर हैं। ये टेस्‍टी तो होते ही हैं साथ ही बनाने में भी आसान हैं। इसे कभी भी ट्राई कर सकते हैं। पनीर पकोड़ा एक सरल और आसान स्नैक है

सामग्री :
500 ग्राम पनीर (बड़े-बड़े टुकड़ों में कटा हुआ)
आधा कप बेसन
1 टेबलस्पून अदरक-लहसुन का पेस्ट
1-1 टीस्पून हल्दी पाउडर, लाल मिर्च पाउडर, चाट मसाला व अमचूर पाउडर
आधा कप कॉर्नफ्लोर
तलने के लिए तेल
नमक स्वादानुसार
आवश्यकतानुसार पानी

विधि :
पनीर और चाट मसाला छोड़कर बाकी सारी सामग्री को मिलाकर गाढ़ा घोल बना लें। 
पनीर के टुकड़े बेसन के घोल में डुबोकर गरम तेल में डीप फ्राई कर लें। 
चाट मसाला छिड़ककर गरम-गरम सर्व करें।

06-11-2020
पौष्टिक भी फटाफट तैयार भी हो भरपूर ऊर्जा भी चाहिए तो फिर नाश्ते में सर्व कीजिए लजीज वेज सैंडविच

रायपुर। दौड-भाग में नाश्ता हमें ऊर्जा प्रदान करता है। अक्सर लोग ऐसा नाश्ता पसंद करते हैं जो जल्दी भी बने और पौष्टिक भी हो। इसके लिए आप बना सकते हैं वेज सैंडविच। वेज सैंडविच बहुत ही स्वादिष्ट और लाजवाब व्यंजन है। यह एक ऐसा व्यंजन है जिसे आप झट से कुछ ही मिनट में तैयार कर सकते हैं। जोर से भूक लगी हो तो सबसे आसान है वेज सैंडविच बनाना।

बनाने की विधि:
-वेज सैंडविच बनाने के लिए सबसे पहले ब्रेड के स्लाइस को ले और उनके कोनो को चाकू की मदद से अलग कर दे।
-अब प्याज़, टमाटर और खीरे को छीलकर गोल आकार में काट ले।
-ब्रेड के पीसेज को ले उसपर बटर लगाए ऊपर से प्याज़, टमाटर और खीरे का टुकड़ा रखे। थोड़ा सा नमक और काली मिर्च का पाउडर छिड़के।
-इन सब के ऊपर थोई सी सॉस लगाए और फिर दूसरा ब्रेड का स्लाइस उसके ऊपर रख दे।
-सभी ब्रेड के पीसेज का साथ ऐसा ही करे आपके स्वादिष्ट वेज सैंडविच तैयार है।

सुझाव :
-वेज सैंडविच में आपने कुछ कम सब्ज़ियों का इस्तेमाल किया है अगर आपके घर में सब्ज़ियाँ ज्यादा शौक से खायी जाती है तो आप इसमें शिमला मिर्च, गाजर, आलू आदि सब्ज़ियों का भी इस्तेमाल कर सकते हैं।
-वेज सैंडविच को और तीखा और चटपटा बनाने के लिए आप इसमें नमक लगाते समय थोड़ा लाल मिर्च का पाउडर भी डाल सकते हैं। इससे आपके सैंडविच और तीखे हो जाएंगे।
-अगर आपको बाजार की सॉस पसंद नहीं आती है तो आप वेज सैंडविच के लिए घर पर आसानी से हरी धनिया या पुदीने की चटनी बना सकते हैं।
-वेज सैंडविच में आप बटर की जगह घर की बनाई हुई क्रीम या मक्खन का भी इस्तेमाल कर सकते है इससे आपका सैंडविच स्वादिष्ट के साथ पौष्टिक भी होगा।
-कुछ लोग वाइट ब्रेड का इस्तेमाल पसंद नहीं करते हैं, इसीलिए आप चाहे तो वेज सैंडविच बनाने के लिए ब्राउन ब्रेड का भी इस्तेमाल कर सकते हैं।

05-11-2020
नाश्ते में बनाएं पालक पुरी, बेहद आसान है विधि...

रायपुर। सुबह-सुबह नाश्ते में पालक पुरी खाने का अलग ही मजा है। इसके लिए ज्यादा मेहनत करने की भी जरूरत नहीं है। पालक की पुरी बनाने के लिए सामग्री गेंहू का आटा- 2 कप, पानी, घी- 2 टी स्पून, नमक स्वादानुसार, पीसी हुई पालक, तेल की आवश्यकता है। इसकी विधि भी बेहद आसान है। पीसी हुई पालक को आटे में मिलाएं, आटे में घी डालकर अच्छी तरह मिलाएं।

इसमें नमक डालकर पानी के साथ गूंथ ले। गूंथे हुए आटे को ढ़ककर 30 मिनट के लिए एक तरफ रख दें। इसके बाद गूंथे हुए आंटे से पूरियां बेले। तेल गर्म कर लें और एक छोटी सी पूरी उसमें डालकर देखें अगर वह एक बार में फूलकर उपर आ जाती है तो आप अन्य पूरियां तल लें। यह एक बार में ऊपर आ जाएंगी। करछी से इसे बीच में से दबाएं ताकि वह फूली हुई निकलें। दोनों तरफ से हल्की ब्राउन होने दें। एक्स्ट्रा तेल निकालने के लिए इन्हें ऐब्सॉर्बन्ट पेपर पर रखें। इसके बाद इसे सर्विंग डिश में सर्व करें।

01-11-2020
नाश्ते का मूड नहीं है और प्रोटीनयुक्त विकल्प चाहिए तो ट्राई कीजिए बनाना शेक टेस्टी हेल्दी और बनाने में आसान

रायपुर। बनाना मिल्कशेक सेहत के लिए बहुत फायदेमंद है। स्वादिष्ट होने के साथ बनाना मिल्क शेक के स्वास्थ्य से जुड़े कई फायदे भी हैं। आपको सुबह में नाश्ता करने का मन नहीं है तो आप एक गिलास केले का शेक पीकर बाहर निकल सकते हैं और आप फुर्ती से काम भी कर पाएंगे। क्योंकि इसमें ढेर सारा प्रोटीन होता है। बनाना मिल्कशेक को झटपट तैयार किया जा सकता है।

विधि :
-सबसे पहले आप केले को छीलकर उसका छोटा छोटा पीस काट कर मिक्सी जार में डाल दें और उसमें चीनी और शहद को डालकर मिक्सी को चला दें। 
-फिर उसमें दूध डाल दें और मिक्सी को 2 मिनट तक चलाएं अगर इलायची पाउडर मिलाना है तो मिला सकते हैं। 
-अब हम इसे सर्व करने के लिए एक शीशे के गिलास में बनाना शेक को निकाल लेंगे। 
-तैयार शेक में आइस क्यूब डालकर ठंडा-ठंडा शेक भी बना सकते हैं। 
- फिर उसके ऊपर टूटी फ्रूटी और कटे हुए सूखे फल को डाल देंगे। 

महत्वपूर्ण सुझाव :
केला शेक में हमेशा कच्चे दूध का इस्तेमाल करें। 
अगर आपको शेख ज्यादा मीठा पसंद नहीं है तो आप उसमें चीनी का इस्तेमाल नहीं करें क्योंकि केला भी मीठा ही होता है। 
टूटी फ्रूटी और ड्राई फ्रूट हमारा ऑप्शनल है तो अगर आप चाहे तो बिना टूटी फ्रूटी और ड्राई फ्रूट्स के भी बना सकते हैं और आपकी शेक वैसे भी अच्छी बनेगी।

28-10-2020
ब्रेड बटर, दलिया, पोहा से बोर हो गए है, चेंज चाहते हैं तो ट्राई कीजिए देसी नाश्ता ब्रेड कचौरी

रायपुर। रोजाना का ब्रेड बटर और दलिया वाला नाश्ता करके बोर हो गए हैं और कुछ नया लेकिन देसी नाश्ता ट्राई करना चाहते हैं। तो ट्राई कीजिए ब्रेड से बनी कचौरी। ये बहुत ही आसान है और स्वादिष्ट वह। इसका आप सुबह और शाम दोनों ही वक्त चाय के साथ लुत्फ उठा सकते हैं।

ब्रेड कचौरी रेसिपी
-एक प्लेट लें और उसमें मटर, प्याज, धनिया, अमचूर पाउडर, चिली फ्लेक्स, काली मिर्च, चाट मसाला, गरम मसाला, मूंगफली, जीरा पाउडर, नमक मिलाएं, इसे अच्छी तरह मिलाएँ, स्टफिंग तैयार है। अगर चाहे तो उबला आलू मैश कर के मिला सकते हैं। तैयार स्टफिंग को एक तरफ रख दे।
-अब ब्रेड लें। स्लाइस और किनारों को ट्रिम कर दें। एक सेकंड के लिए पानी में डुबोकर रखें और ब्रेड स्लाइस से पानी को धीरे से निचोड़ें। केंद्र में स्टफिंग का 1 बड़ा चम्मच रखे। इसे धीरे से सील करें।
-गर्म तेल में कचौड़ी को डीप फ्राई करें। तब तक हिलाएं जब तक कि कचौड़ी चारों तरफ से गोल्डन ब्राउन न हो जाए। ब्रेड कचौड़ी तैयार है। इसे सॉस और चटनी के साथ खाएं।  आनंद लें
-ध्यान रहे कचौड़ी ने इसे मध्यम आंच पर पकाया ताकि सभी तरफ से सुनहरा भूरा हो जाए और इसे बाहरी और भीतरी तरफ से अच्छी तरह से पकाया जाए।

12-05-2020
रायगढ़ एसपी की सराहनीय पहल प्रवासी श्रमिकों को नाश्ता,भोजन,पानी के साथ वाहनों से बार्डर तक छुड़वा रहे

रायपुर/रायगढ़। लॉकडाउन में छूट के साथ प्रवासी श्रमिकों को प्रदेश में लाने का दौर जारी है। इसी कड़ी में रायगढ़ पुलिस ने कमर कस ली है। श्रमिकों के लिए शहर एवं जनपद पंचायत स्तर पर चिन्हांकित 1700 प्राथमिक शालाओं, पंचायत भवन, मंगल भवन आदि को क्वॉरेंटाइन सेंटर बनाया गया है। प्रत्येक क्वॉरेंटाइन सेंटर में सुरक्षा बल के रूप में आरक्षक एवं ग्राम कोटवार की ड्यूटी लगाई गई है। इसके अतिरिक्त गांव में स्वच्छ छवि के लोगों को भी विशेष पुलिस अधिकारी (SPO) के रूप में ड्यूटी लिया जाएगा। इन गांव के चुनिंदा लोग क्वॉरेंटाइन सेंटर में वॉलिंटियर का कार्य करेंगे। प्रधान आरक्षक से उप—निरीक्षक स्तर के अधिकारी सेक्टर प्रभारी, थाना प्रभारी जोनल अधिकारी एवं राजपत्रित अधिकारी को नोडल अधिकारी बनाया गया है। इससे क्वॉरेंटाइन सेंटर में रहने वाले लोगों के बीच अफरा-तफरी का माहौल व्याप्त ना हो। पहले से ही जिले के सभी मुख्य मार्गों से पैदल, दुपहिया, बस/ट्रक से प्रवासी मजदूरों एवं दूसरे राज्यों के लोगों के आवागमन का सिलसिला लगातार जारी है। जिला प्रशासन द्वारा प्रवासी मजदूरों को राहत दिए जाने का कार्य अपने स्तर पर किया जा रहा है। इसके अलावा पुलिस अधीक्षक रायगढ़ संतोष कुमार की पहल पर पिछले दिनों प्रवासी मजदूरों के आवागमन के दौरान उनके भोजन, पानी, दवाईयों की व्यवस्था सभी थाना, चौकी प्रभारियों द्वारा अपने जिम्मे लिया गया है। पैदल जा रहे प्रवासी मजूदरों को बार्डर तक छोड़ने के लिए वाहन की व्यवस्था पुलिस स्टाफ द्वारा परिवहन विभाग या किसी संस्थान से मदद लेकर की जा रही है। जिले के सभी थाना क्षेत्र अन्तर्गत ऐसे कर्मवीर सहायता केन्द्र बनाये गये है

 जिनमें पुलिस वालों द्वारा वर्तमान समय में कोरोना वायरस के संक्रमण को देखते हुए सावधानी बरतकर हमारे कर्मवीरों को भोजन, पानी, दवाईयां, ग्लूकोज, ओआरएस देकर उनकी मदद कर रहें हैं। आज जब आंध्र प्रदेश से बिहार, झारखंड पैदल जा रहे करीब 50 मजदूरों की समूह को कोतरा रोड पुलिस वालों ने पानी और भोजन के लिए थाने के पास रूकवाया तब उन्होंने बताया कि पिछले चेक पोस्ट में भी पुलिस वाले रूकवाकर पानी और नाश्ता दिए है। एक श्रमिक ने बताया कि कई जिलों को पार कर रायगढ़ पहुंचे। यहां पुलिस वालों ने पानी और नाश्ता देकर गाड़ी की व्यवस्था की। यह देखकर सुकून मिला है। इसी प्रकार रायगढ़ से कानपुर पैदल जा रहे 9 मजदूरों को भोजन कराकर थाना प्रभारी घरघोड़ा द्वारा कानपुर जा रही ट्रक में बिठाकर बार्डर तक छुड़ाया। ऐसे ही कई चेक पोस्ट और कर्मवीर सहायता केन्द्रों में पुलिस वालों द्वारा पैदल, वाहनों में जा रहे कर्मवीरों को आगे की यात्रा के लिए बिस्किट, मिक्चर, मुर्रा, इलेक्ट्राल पाउडर आदि देकर विदा किया।

 

28-04-2020
धमतरी में होटल संचालक बेच सकेंगे दूध से बने आइटम, नाश्ता पर प्रतिबंध

धमतरी। केंद्रीय गृह मंत्रालय के आदेश के बाद धमतरी में जरूरी सेवाओं को छोड़ अन्य दुकानें खुल गई है। लेकिन होटल व सैलून को बंद रखा गया था। अब राहत की खबर है कि होटलों को खोला जा सकेगा लेकिन वहां सिर्फ दूध से बने आइटम,जैसे मिठाई,लस्सी,पनीर,दही, खोवा ही बिक्री कर सकेंगे। होटल में बैठाकर खिलाने की सुविधा नहीं दी जाएगी, मास्क पहनकर काम करना होगा तथा सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करना अनिवार्य रहेगा। दूध से बने आइटम को छोड़ जलेबी, समोसा,बड़ा, भजिया आदि की बिक्री पर प्रतिबंध जारी रहेगा। इसकी पुष्टि कलेक्टर रजत बंसल ने की है। होटल बंद होने से दूध की खपत बेहद कम हो गई थी, जिसके कारण डेयरी व्यवसायियों व दुग्ध उत्पादक किसानों को नुकसान उठाना पड़ रहा था, इसलिए होटलों में नियम का पालन करते हुए दूध आइटम की बिक्री की छूट प्रदान की गई है।

 

15-02-2020
तेज रफ्तार कार की चपेट में आए 8 स्कूली बच्चे, 1 की मौत 

कोंडागांव। केशकाल ब्लॉक में अनियंत्रित कार की चपेट में आने से आठ स्कूली बच्चे सड़क हादसे में घायल हो गए, जबकि एक गंभीर रुप से घायल छात्र की मौत हो गई है। यह घटना सिदावण्ड गांव की है। मिली जानकारी के अनुसार बच्चे भोजन अवकाश के दौरान नाश्ता करने रोड़ के समीप एक होटल में बैठे थे, उसी दौरान केशकाल से विश्रामपूरी की ओर जाती एक तेज रफ्तार कार अनियंत्रित होकर होटल में घुस गई। वहीं कार की चपेट में आने से होटल में बैठे आठ बच्चे और एक युवक गंभीर रूप से घायल हो गए हैं। घायल बच्चों को इलाज के लिए स्वास्थ्य केंद्र केशकाल लाया गया, जहां एक छात्र जो गंभीर रूप से घायल था उसकी मौत हो गई है। फिलहाल मामले की जांच में केशकाल पुलिस जांच में जुट गई है। 

03-02-2020
पूर्व छात्रसंघ अध्यक्ष से चाकू की नोक पर दुष्कर्म, नाश्ता करने गई थी रेस्टोरेंट

नई दिल्ली। प्रयागराज में घूरपुर के सारंगापुर स्थित रेस्टोरेंट में नाश्ता करने पहुंची पूर्व छात्रसंघ अध्यक्ष से चाकू की नोक पर दुष्कर्म का सनसनीखेज मामला सामने आया है। किसी तरह वहां से निकलकर पीड़िता ने घूरपुर थाने पहुंचकर शिकायत की। इसके बाद पुलिस ने आरोपी समेत दो लोगों पर रिपोर्ट दर्ज कर ली है। रात में ही मुख्य आरोपी को हिरासत में भी ले लिया गया, लेकिन पुलिस इससे इंकार करती रही। नैनी में रहने वाली 22 वर्षीय युवती एक कॉलेज की पूर्व छात्रसंघ अध्यक्ष रह चुकी है, जो वर्तमान में प्रतियोगी परीक्षा की तैयारी कर रही है। उसका आरोप है कि पूर्व में वह कई बार घर लौटते वक्त घूरपुर के सारंगापुर स्थित जीवा रेस्टोरेंट में नाश्ता करने जा चुकी है।

रविवार को भी वह शाम चार बजे रेस्टोरेंट में पहुंची। इस दौरान कैश काउंटर पर बैठा रोहन उसे मिला, जिसने खुद को रेस्टोरेंट का मालिक बताया। इस दौरान वह उसे झांसा देकर रेस्टोरेंट के पीछे ले गया और फिर वहां चाकू निकाल लिया। साथ ही हत्या करने की धमकी देकर उसके साथ दुष्कर्म किया, साथ ही गालीगलौज की। यही नहीं दुष्कर्म के बाद आरोपी के साथ ही वहां आए एक अज्ञात व्यक्ति ने किसी से शिकायत करने पर उसे जान से मारने की धमकी दी। किसी तरह उनके चंगुल से छूटने के बाद पीड़िता घूरपुर थाने पहुंची और पुलिस से शिकायत की। जिसके बाद पुलिस ने रोहन को नामजद करते हुए एक अज्ञात के खिलाफ दुष्कर्म, गालीगलौज व धमकाने के आरोप में रिपोर्ट दर्ज की। सूत्रों का कहना है कि पुलिस ने घटना के कुछ देर बाद ही आरोपी को हिरासत में भी ले लिया, जिसके बाद उससे देर रात तक पूछताछ होती रही। वहीं धूरपुर एसओ वृंदावन राय यही कहते रहे कि आरोपी की तलाश की जा रही है।  

13-10-2019
नाश्ता पड़ा महंगा, होटल के बाहर से बाइक पार, मामला दर्ज

रायपुर। नाश्ता करने के लिए होटल के बाहर बाइक खड़ी कर के जाना एक युवक को महंगा पड़ गया। मामले की रिपोर्ट खमतराई थाने में दर्ज हुई है। मिली जानकारी के अनुसार विजय नगर भनुपरी निवासी गुलशन साहू ने रिपोर्ट दर्ज कराई है कि 12 अक्टूबर को अपनी मोटरसाइकिल होंडा शाइन सीजी 04 एनक्यू 2052 में राकेश कुमार शर्मा के साथ एक चाउमिन सेंटर भनपुरी में नाश्ता करने गया था। नाश्ता करते समय मोटरसाइकिल को होटल के बाहर खड़ा कर दिया था जब वापस जाकर देखा तो मोटरसाइकिल नहीं दिखा। पुलिस ने अज्ञात चोर के खिलाफ धारा 379 के तहत अपराध कायम कर मामला दर्ज कर लिया है।

13-10-2019
सुबह 8 बजे किया नाश्ता, 12 बजे तक समापन का इंतजार करते रहे भूखे खिलाड़ी

कवर्धा। जिले में राज्य स्तरीय खेल प्रतियोगिता का आयोजन किया गया। प्रदेश भर के 12 सौ से अधिक खिलाड़ियों ने प्रतियोगिता में हिस्सा लिया। 10 अक्टूबर से 13 अक्टूबर तक चले खेल प्रतियोगिता में खिलाड़ियों को कई प्रकार की परेशानी का सामना करना पड़ा। वहीं समापन समारोह में खिलाड़ियों को भी घंटो भर इंतजार करना पड़ा। दरअसल खिलाड़ियों को 10 बजे मैदान बुला लिया गया। कोंडागांव व जशपुर के खिलाड़ी तो 9 बजे ही मैदान पहुँच गए थे। इसके कारण खिलाड़ियों को वापस जाना पड़ा। सभी खिलाड़ियों ने सुबह 8 बजे नाश्ता किया था। समापन समारोह के अतिथि 11.30 बजे कार्यक्रम स्थल पहुंचे इसके कारण उन्हें भूखे ही रहना पड़ा। 

09-10-2019
पहला गार्बेज कैफे अंबिकापुर में स्थापित, प्लास्टिक लाने पर मिलेगा नाश्ता और खाना

अंबिकापुर। प्लास्टिक लाओ, खाना ले जाओ यह बात थोड़ा अजीब लगे लेकिन अंबिकापुर में इसकी शुरुआत हो गई है। इस भोजनालय का नाम गार्बेज कैफे दिया गया। योजना लागू होने से पहले देशभर में इसकी चर्चा शुरू हो गई थी। बुधवार को स्वास्थ्य मंत्री टीएस सिंहदेव ने गार्बेज कैफ का शुभारंभ किया। जहां सैकड़ों की संख्या में लोग मौजूद रहे। कई महिला व पुरुषों ने अपने साथ इकट्ठा किए हुए प्लास्टिक को लेकर कैफे पहुंचे और स्वादिष्ट भोजन का आनंद लिया। लोगों के  साथ स्वास्थ्य मंत्री टीएस सिंहदेव बैठ गए। उन्होंने भी भोजन का लुत्फ लिया और कहां स्वादिष्ट भोजन है। 
बता दें कि कैफै में 1 किलो प्लास्टिक लाने पर खाना दिया जाएगा। वहीं आधा किलो प्लास्टिक लाने पर नाश्ता कराया जाएगा। आधा किलो प्लास्टिक में समोसा, आलू चॉप, ब्रेड चॉप,इडली दी जाएगी। एक किलो प्लास्टिक में दो सब्जी, 4 रोटी, हॉफ चावल, दाल, सलाद, अचार, पापड़, मीठा दही दिया जाएगा। 

कम कीमत पर दिया जाएगा भोजन
सादा खाना – 40 रुपए में, जिसमें सादी सब्जी,1 प्लेट चावल, दाल, अचार, सलाद।
सादी थाली– 50 रुपए में, जिसमें 2 सादी सब्जी, 4 रोटी, हॉफ चावल, दाल, सलाद, अचार, पापड़।
सादी थाली- 70 रुपए में, जिसमें पनीर सब्जी, 2 सादा सब्जी, 4 रोटी, हॉफ चावल, दाल, अचार, सलाद।
स्पेशल थाली- 100 रुपए में, जिसमें 2 पनीर सब्जी, 1 सादा सब्जी, 4 घी रोटी, हॉफ जीरा राइस, दाल फ्राई, सलाद, अचार, पापड़, मीठा दही।
बता दें कि देश के सबसे साफ शहरों की लिस्ट में अंबिकापुर को इंदौर के बाद दूसरे नंबर पर रखा गया है।

 

Advertise, Call Now - +91 76111 07804