GLIBS
01-08-2020
एक सदस्य के कोरोना संक्रमित पाए जाने पर जांजगीर जा रहे परिवार को बोड़ला में रोका

कवर्धा। भोपाल से जांजगीर वापस हो रहे एक ही परिवार के 11 सदस्यों को बोड़ला में रोका गया। परिवार शादी के लिए जांजगीर से भोपाल गया हुआ था,जहाँ एक सदस्य की हार्टअटैक से मृत्यु हो गई। इसके बाद परिवार अपने गृह निवास जांजगीर वापस हो रहे थे,जिनमें से एक सदस्य कोरोना से संक्रमित पाया गया है। इसके चलते शव और परिवार को बोड़ला प्रशासन ने बोड़ला सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में रोक दिया।यहां परिवारवाले जिला प्रशासन कबीरधाम और जांजगीर कलेक्टर से मदद की गुहार लगा रहे हैं। मगर परिवार के एक सदस्य की रिपोर्ट पॉजिटिव आने के चलते जांजगीर जाने से उन्हें रोका जा रहा है।बोड़ला थाना प्रभारी संतराम सोनी का कहना है कि कोरोना के चपेट में आने के चलते इन्हे यहीं रोका गया है। जिला प्रशासन कबीरधाम और जांजगीर कलेक्टर के बीच जो भी निर्णय लिए जाएंगे उस हिसाब ही पुलिस कार्रवाई करेगी।

अभी फिलहाल इन्हें यहीं बोड़ला सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में रखा गया है।पूरे मामले में जांजगीर कलेक्टर यशवंत कुमार का कहना है उनको जांजगीर आने की अनुमति नहीं दी जा सकती। अगर उनको दाह संस्कार का कार्यक्रम करना है तो परिवार वाले कवर्धा या भोपाल जहाँ परिवार वाले गए हुए थे वहां जाकर मृत शव का दाह संस्कार कर सकते हैं। कलेक्टर का यह भी कहना है कि कोरोना पॉजिटिव होने कि जानकारी के बावजूद इन्होंने लापरवाही कि है और पॉजिटिव मरीज को साथ लेकर चल रहे हैं। पॉजिटिव मरीज के प्राइमरी कांटेक्ट में परिवार के अन्य सभी सदस्य भी आए हुए। इससे कि जांजगीर में दाह संस्कार करेंगे तो स्वाभाविक बात यहाँ पॉजिटिव सदस्यों के प्राइमरी कांटेक्ट में आये हुए लोगों से अन्य लोगों को भी खतरा होने कि संभावनाएं है। इससे उन्हें जहाँ है वहीँ दाह संस्कार कर देनी चाहिए।

05-07-2020
सोशल मीडिया पर दोस्ती पड़ी महंगी,शादी से पहले मेकअप कराने ब्यूटी पार्लर गई दुल्हन की सिरफिरे युवक ने की हत्या

भोपाल। मध्यप्रदेश के रतलाम जिले के जावरा कस्बे में शादी से पहले मेकअप कराने पहुंची दुल्हन की एक सिरफिरे ने धारदार हथियार से गर्दन पर प्रहार कर हत्या कर दी। हत्यारा युवती का सोशल मीडिया फ्रेंड बताया जा रहा है। पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार शाजापुर निवासी युवती की नागदा निवासी युवक के साथ रविवार को विवाह होने वाला था। युवती का परिवार जावरा पहुंचा था और शादी की तैयारियों में लगा था। दुल्हन वैवाहिक रस्म से पहले तैयार होने ब्यूटी पार्लर पहुंची। वहां एक युवक भी पहुंचा। उसने युवती को पार्लर के बाहर से फोन लगाया और सीधे अंदर जा पहुंचा।

उसके बाद कोई कुछ समझ पाता कि उससे पहले युवक ने युवती की गर्दन पर धारदार हथियार से प्रहार कर दिया। गंभीर रूप से घायल युवती की कुछ देर बाद मौत हो गई।जावरा क्षेत्र के नगर पुलिस अधीक्षक पीएस राणावत ने बताया कि युवती एक ब्यूटी पार्लर में मेकअप कराने आई थी, तभी एक युवक ने गला रेतकर हत्या कर दी। पुलिस आरोपी की तलाश कर रही है। पुलिस केा आशंका है कि यह मामला प्रेम-प्रसंग से जुड़ा हुआ है।वहीं सूत्रों का कहना है कि युवती की किसी युवक से सोशल मीडिया पर दोस्ती हुई थी और उसके बाद दोनों की प्रगाढ़ता बढ़ी। जब युवती शादी करने जा रही थी तभी उस सिरफिरे आशिक ने उसकी जान ले ली।

02-07-2020
भोपाल में शिवराज कैबिनेट का हुआ विस्तार, 28 नए मंत्री शामिल

भोपाल। मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने गुरुवार को अपने मंत्रिमंडल का विस्तार किया है। शिवराज मंत्रिमंडल का पहला विस्तार है। मंत्रिमंडल में 28 नए मंत्री शामिल हैं, जिनमें 20 कैबिनेट मंत्री और आठ राज्यमंत्री हैं।  कांग्रेस की कमलनाथ सरकार गिरने के बाद जब शिवराज ने जब मुख्यमंत्री पद की शपथ ली थी, तब कुछ मंत्रियों को शामिल किया गया था। बुधवार को शिवराज ने कहा था कि मंथन से अमृत ही निकलता है। विष तो शिव पी जाते हैं।
भोपाल में आज गोपाल भार्गव, यशोधरा राजे सिंधिया, जगदीश देवड़ा, बिसाहूलाल सिंह, विश्वास सारंग, महेंद्र सिंह सिसोदिया, प्रभुराम चौधरी, प्रद्युम्न सिंह तोमर, प्रेमसिंह पटेल, ओमप्रकाश सकलेचा, उषा ठाकुर, अरविंद भदौरिया, मोहन यादव, हरदीप सिंह डंग, राज्यवर्धन सिंह दत्तीगांव, भारत सिंह कुशवाहा, रामकिशोर कांवरे, इंदर सिंह परमार, रामखेलावन पटेल, रामकिशोर कांवरे, बृजेंद्र सिंह यादव, रामकिशोर कांवरे, बृजेंद्र सिंह यादव, गिरिराज दंडोतिया, सुरेश राठखेड़ा, ओपीएस भदौरिया, विजय शाह, एंदल सिंह कसाना ने शपथ ली है।

25-06-2020
दिग्विजय सिंह पर सोशल डिस्टेसिंग का पालन नहीं करने पर एफआईआर दर्ज

भोपाल। मध्यप्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह पर एफआईआर दर्ज हुई है। उनके खिलाफ बुधवार को पेट्रोल-डीजल की कीमतों को लेकर किए प्रदर्शन के दौरान सोशल डिस्टेसिंग का पालन न किए जाने को लेकर एफआईआर दर्ज की गई है। इसके पहले शिवराज सिंह चौहान के एक वीडियो को ट्वीट किए जाने को लेकर उनके खिलाफ एफआईआर दर्ज कराई जा चुकी है। बुधवार को कांग्रेस द्वारा पेट्रोल डीजल की बढ़ी कीमतों के विरोध में किए गए प्रदर्शन  बगैर अनुमति के साइकिल रैली निकालने पर पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह और कांग्रेस विधायक आरिफ मसूद समेत 150 कांग्रेस कार्यकर्ताओं के खिलाफ मामला दर्ज किया गया है। भोपाल के टीटीनगर थाने में धारा 188, 341, 269, 270 और 143 के तहत मामला दर्ज किया गया है।पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह पर आरोप है कि उन्होंने साइकिल रैली के दौरान सोशल डिस्टेंसिंग के नियमों का पालन नहीं किया। दिग्विजय सिंह ने एफआईआर को लेकर कहा है कि अगर जनता की मांग को उठाने पर मुझ पर एफआईआर होती है तो मैं उसका स्वागत करता हूं। आज फिर पेट्रोल और डीजल के दाम बढ़ा दिए गए। बढ़ती पेट्रोल डीजल की कीमतों का लाभ किसको हो रहा है? पेट्रोल पंप मालिक, पेट्रोलियम उत्पादक कम्पनियाँ या केन्द्र सरकार। दिग्विजय सिंह और आरिफ मसूद के अलावा आज ही राजधानी के एक एमपी नगर थाने में भाजपा विधायक कृष्णा गौर पर उनके समर्थकों के साथ पूर्व मंत्री जीतू पटवारी का पुतला जलाने पर मुकदमा दर्ज किया गया है।

 

22-06-2020
चाय की गुमटी लगाने वाले की बेटी बनी एयर फोर्स में फ्लाइंग ऑफिसर, कहा-देशसेवा के लिए हमेशा तैयार हूं

भोपाल। मध्यप्रदेश के नीमच में चाय की गुमटी लगाने वाले सुरेश गंगवाल की 23 साल की बेटी आंचल जब हैदराबाद में एयरफोर्स ट्रेनिंग एकेडमी में एयर चीफ मार्शल आरकेएस भदौरिया के सामने मार्च पास्ट कर रही थीं तो उनकी आंखों में आंसू आ गए। इसकी वजह है उनके पिता व उनका संघर्ष, जिन्होंने तमाम मुश्किलों के बीच बेटी का साथ दिया। शनिवार को 123 कैडेट्स के साथ आंचल गंगवाल की भारतीय वायुसेना में कमिश्निंग हो गई।आंचल के पिता सुरेश गर्व से भरी मुस्कुराहट के साथ कहते हैं, ‘एक पिता के लिए इससे अच्छा तोहफा क्या हो सकता है। मेरी जिंदगी में खुशी के अवसर कम आए हैं। लेकिन कभी हार न मानने वाली बेटी ने यह साबित कर दिया कि मेरे हर संघर्ष के पसीने की बूंदें किसी मोती से कम नहीं हैं।’वहीं आंचल ने कहा, ‘मुसीबतों से न घबराने का सबक उन्होंने अपने पिता से सीखा है। जीवन में आर्थिक परेशानियां आती हैं लेकिन मुश्किलों का मुकाबला करने का हौसला होना जरूरी है।’ आंचल को वायुसेना में लड़ाकू पायलट के तौर पर चुना गया है। इसपर उन्होंने कहा कि वायुसेना में फ्लाइंग ऑफिसर बनने के लिए मैंने पुलिस सब इंस्पेक्टर और लेबर इंस्पेक्टर की नौकरी छोड़ दी थी।उन्होंने कहा, ‘मेरा केवल एक लक्ष्य था। हर हाल में वायुसेना में जाना है। आखिरकार छठवीं कोशिश में मुझे सफलता मिली।’ आंचल के पिता ने बताया कि मेरे तीनों बच्चे शुरू से ही अनुशासन में रहे। मैं पत्नी के साथ बस स्टैंड पर चाय-नाश्ते का ठेला लगाता हूं। जब मैं काम करता तो तीनों बच्चे हमें देखते रहते थे। कभी कोई फरमाइश नहीं की। जो मिल जाता उसमें खुश रहते। कभी भी दूसरों की देखा-देखी नहीं की।’


उन्होंने कहा कि रविवार को बेटी आंचल ने हैदराबाद में वायुसेना के सेंटर पर फ्लाइंग ऑफिसर के पद पर ज्वाइनिंग की है। यही अब तक की मेरी पूंजी और बचत है। बेटी शुरू से ही पढ़ाई में टॉपर रही है। बोर्ड की परीक्षा में उसने 92 प्रतिशत से ज्यादा अंक हासिल किए थे। 2013 में उत्तराखंड में आई त्रासदी और वायुसेना ने जिस तरह वहां काम किया। उसे देखकर बेटी ने अपना मन बदला और वायुसेना में जाने की तैयारी की। आज बेटी इस मुकाम पर पहुंच गई है तो यह मेरे लिए गर्व की बात है।
आंचल ने अपनी कामयाबी का श्रेय मां बबीता और पिता सुरेश गंगवाल को दिया। उन्होंने कहा, ‘जब मैंने माता-पिता से कहा कि मैं रक्षा क्षेत्र में जाना चाहती हूं तो वे थोड़े परेशान थे। हालांकि उन्होंने मुझे कभी रोकने की कोशिश नहीं की। असल में, वे मेरे जीवन के आधार स्तंभ हैं। मैं अपनी देशसेवा के लिए हमेशा तैयार हूं।’

21-06-2020
मध्यप्रदेश में 5 विधायकों की कोरोना रिपोर्ट आई निगेटिव

भोपाल। शिवराज सरकार ने रविवार को उस वक्त राहत की सांस ली, जब भाजपा विधायक ओमप्रकाश सकलेचा के संपर्क में आए 5 विधायकों की कोरोना वायरस की प्राथमिक रिपोर्ट निगेटिव आई है। बता दें कि कोरोना वायरस संकट से जूझ रहे मध्यप्रदेश में भाजपा विधायक सकलेचा कोरोना पॉजिटिव मिलने के बाद हड़कंप मच गया था। मालवा क्षेत्र से आने भाजपा विधायक और उनकी पत्नी जांच में कोरोना संक्रमित मिली थीं। भाजपा विधायक सकलेचा की जांच रिपोर्ट कोरोना पॉजिटिव आने के बाद उनके संपर्क में आने वाले पार्टी के कई विधायक 20 जून को अपनी जांच कराने के लिए राजधानी के जेपी हॉस्पिटल पहुंचे थे।21 जून को अस्पताल द्वारा जारी रिपोर्ट में बताया गया है कि सभी पांचों विधायकों की कोरोना जांच रिपोर्ट निगेटिव आई है। जिन विधायकों की रिपोर्ट निगेटिव आई है, उनमें देवीलाल धाकड़ (66), दिलीप मकवाना (48), अनिरुद्ध (56), दिलीप सिंह (34) और यशपाल सिंह सिसोदिया (61)। शुक्रवार को सकलेचा समेत सभी विधायकों ने राज्यसभा चुनाव के लिए हुए मतदान में हिस्सा लिया था।

 

13-06-2020
मिट्टी के टीले के नीचे दबकर 5 मजदूरों की मौत, 3 घायल

भोपाल। शहडोल जिले में शनिवार को एक खदान में दर्दनाक हादसा हो गया। हादसे में कम से कम पांच मजदूरों की जान चली गई है। जबकि तीन मजदूर जख्मी हुए है। बताया जा रहा है कि पपरेड़ी गांव में हादसे की सूचना मिलते ही पुलिस और स्थानीय प्रशासन मौके पर पहुंचा और मजदूरों को मलबे से निकाला।रिपोर्ट के मुताबिक शहडोल जिले के बेओहारी इलाके में मिट्टी के एक टीले के गिरने से पांच लोगों की जान चली गई और कम से कम तीन अन्य घायल हो गए।. घटनास्थल पर रेस्क्यू ऑपरेशन चल रहा है। हादसे में तीन गंभीर रूप से घायल मजदूरों को नजदीकी अस्पताल ले जाया गया हैं। फिलहाल हादसे की पीछे का कारण पता नहीं चल सका है।

 

12-06-2020
सप्ताह में पांच दिन खुलेंगे बाजार, दो दिन रहेंगे बंद

भोपाल। मध्यप्रदेश की राजधानी में कोरोना के संक्रमण को रोकने के लिए सरकार ने एहतियाती कदम उठाते हुए तय किया है कि सप्ताह में दो दिन बाजार बंद रहेंगे। सप्ताह में पांच दिन सभी बाजार खुलेंगे। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कोरोना की स्थिति की समीक्षा की। समीक्षा बैठक के दौरान तय किया गया है कि राजधानी में बाजार सप्ताह में दो दिन शनिवार और रविवार को बंद रखे जाएं। इस तरह सप्ताह में पांच दिन सभी बाजार खुलेंगे।राज्य के गृह एवं स्वास्थ्य मंत्री नरोत्तम मिश्रा के अनुसार कोरोना मरीजों का रिकवरी रेट 69 हो गया है। वहीं मरीजों के दोगुने होने की दर 31 दिन हो गई है। देश में कोरोना की वृद्धि दर 4.7 है तो मध्यप्रदेश में यह दर 2.3 है। प्रदेश में पूरी तरह कोरोना काबू में है। कोरोना से डरने की जरुरत नहीं है मगर सावधानी आवश्यक है।

30-05-2020
इंदौर में संक्रमितों की संख्या 3400 के पार, अब तक 129 मरीजों की मौत 

भोपाल। देश भर में कोरोना वायरस का कहर जारी है। नोवेल कोरोना वायरस से मरने वालों की संख्या लगातार बढ़ती जा रही है। देश में इस वायरस से मरने वालों की संख्या 4706 हो गई हैं। वहीं देश में कोरोना वायरस से सबसे ज्यादा प्रभावित जिलों में शामिल इंदौर में इस महामारी का प्रकोप कायम है। जिले में पिछले 24 घंटे के दौरान कोविड-19 के 87 नए मामलों की पुष्टि के साथ ही इस संक्रमित मरीजों की तादाद 3,344 से बढ़कर 3,431 हो गई है। मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी (सीएमएचओ) प्रवीण जड़िया ने शनिवार को यह जानकारी दी। उन्होंने यह भी बताया कि कोरोना वायरस से संक्रमित 54 वर्षीय महिला समेत तीन मरीजों की अलग-अलग अस्पतालों में इलाज के दौरान मौत हो गई। इसके बाद जिले में इस महामारी की चपेट में आकर दम तोड़ने वाले मरीजों की तादाद बढ़कर 129 पर पहुंच गई है।

40 दिनों के बाद मौत का खुलासा : 

अधिकारियों के मुताबिक इनमें शामिल 50 वर्षीय पुरुष ने शहर के एक निजी अस्पताल में 19 अप्रैल को दम तोड़ा था। लेकिन उसकी मौत की जानकारी स्वास्थ्य विभाग के शुक्रवार (29 मई) को देर रात जारी मेडिकल बुलेटिन में दी गई यानी इस मौत का खुलासा 40 दिन बाद किया गया। कोविड-19 का प्रकोप कायम रहने के कारण मद्देनजर इंदौर जिला रेड जोन में बना हुआ है। जिले में इस प्रकोप की शुरुआत 24 मार्च से हुई, जब पहले चार मरीजों में इस महामारी की पुष्टि हुई थी।

Advertise, Call Now - +91 76111 07804