GLIBS
03-07-2020
10 लाख की नाली है तोड़कर बनायें, अन्यथा सभी भुगतान रोक दिया जावेगा : आयुक्त  

दुर्ग। वार्ड पार्षद खिलावन मटियारा ने निगम आयुक्त इंद्रजीत बर्मन को शिकायत कर बताया कि उसके वार्ड में 10 लाख की लागत से किये जा रहे नाली का निर्माण घटिया है। ठेकेदार द्वारा बेस आदि को ठीक से नहीं किया गया है गुणवत्त के साथ नहीं बनया जा रहा है। आयुक्त बर्मन द्वारा सिकोला बस्ती मौके पर जाकर नाली निर्माण का कार्य मुआयना किया गया। निरीक्षण के दौरान पाया गया कि कार्य घटिया और गुणवत्ता के साथ नहीं किया जा रहा है। निरीक्षण के दौरान कार्यपालन अभियंता राजेश पाण्डेय, सहा.अभियंता जगदीश केशरवानी तथा उपअभियंता आसमा डहरिया व पार्षद मौजूद थे । आयुक्त ने ठेकेदार मेसर्स जेकेवाय इंजिनियर एवं कान्टेंक्टर दुर्ग को निर्देशित कर कहा नाली में बेस का निर्माण सही ढलान के साथ और गुणवत्त के साथ बनायें, अन्यथा निगम में आपका कोई भी कार्य का भुगतान नहीं किया जावेगा। आपको विश्वास के साथ कार्य करने की जिम्मेदारी दी गई हैं कार्य को पूरी ईमानदारी से करें । इस दौरान कार्य के संबंध में ठेकेदार की उपस्थिति में पंचनामा तैयार किया गया । आयुक्त ने निगम के समस्त ठेकेदारों से अपील कर कहा कि शहर विकास के अंतर्गत योजनाओं एवं जनता की मूलभूत सुविधाओं के कार्यो का निर्माण नगर पालिक निगम दुर्ग द्वारा कराया जा रहा है। कार्य के प्रति लापरवाही बर्दाश्त नहीं किया जावेगा। उन्होनें आम जनता से भी अपील कर कहा आपके वार्ड मोहल्ले में होने वाले विकास कार्यो पर नजर रखें ठेकेदार द्वारा किसी भी प्रकार की गड़बड़ी करने की स्थिति में पार्षद को सूचित करें अथवा निगम कार्यालय में सूचना अवश्य देवें।

 

30-06-2020
Video: महापौर आयुक्त की उपस्थिति में दिखी सफाई अभियान की सार्थकता

रायगढ़। नगर निगम द्वारा महासफाई अभियान अंतर्गत मंगलवार को वार्ड क्रमांक 17 एवं 18 का महापौर और आयुक्त के द्वारा सघन निरीक्षण किया गया। इसमें एमआईसी मेम्बर के साथ नगर निगम के कर्मचारी भी शामिल रहे। ज्ञात हो कि शहर को साफ और स्वच्छ बनाने के लिये नगर निगम के द्वारा क्लीनअप महासफाई का अभियान चलाया जा रहा है, जिसमें प्रतिदिन जनप्रतिनिधि एवं प्रशासन सघन निरीक्षण कर शहर को स्वच्छ और बीमारीरहित बनाने के लिए सक्रिय रूप से शामिल हो रहे है। वार्ड क्रमांक 17 एवं 18 के निरीक्षण में महापौर जानकी काटजू आयुक्त अविनाश पांडेय एवं एमआईसी मेम्बर स्वास्थ्य प्रभारी कमल पटेल एवम नगर निगम के ईई अजित तिग्गा, स्वास्थ्य अधिकारी ईश्वर राव, सहा.स्वास्थ्य अधिकारी भूपेंद्र सिंह, सफाई दरोगा गुरुदेव दास उपस्थित रहे। महापौर जानकी काटजू ने वार्ड के समस्याओं से रूबरू होकर सफाई के लिए स्वयं खड़े होकर नगर निगम सफाई गैंग को निर्देशित किया। वार्ड क्रमांक 18 के पार्षद पति दीपेश सोलंकी ने पूरी सक्रियता के साथ अपने क्षेत्रवासियों की समस्याओं को ध्यान में रखकर वार्ड की सबसे गंभीर समस्या पेठु डबरी से अवगत कराया।

जिस को गंभीरता से लेते हुए आयुक्त और महापौर ने समाधान का आश्वासन दिया। तो वही वार्ड 17 में रोड पर जाम हुए नाली को गैंग द्वारा सफाई कराया गया। महापौर ने बताया कि पूरे गैंग और जेसीबी, ट्रेक्टर के साथ सफाई करा उसे निकाल कर फिंकवाया जा रहा है ताकि डेंगू जैसी बीमारी दस्तक ना दे सके। स्वास्थ्य प्रभारी कमल पटेल ने कहा जेसीबी गैंग ट्रेक्टर के साथ हम रोज वार्ड निरीक्षण कर रहे हैं। आम जनता से भी अपील है कि कचरा डस्टबिन में डालकर रिक्शा में ही डाले। नगर निगम के अधिकारियों ने बताया कि आयुक्त के निर्देशानुसार सुबह वार्डों में कर्मचारियों को अपनी टीम के साथ ड्यूटी पर लगा दिया जाता है, जिसके कारण महासफाई अभियान पूरी गति से सार्थक हो रहा है।

23-06-2020
जर्जर भवनों की सूची तैयार करेंगे जोन कमिश्नर,कार्यवाही की रिपोर्ट भेजनी होगी मुख्यालय

रायपुर। नगर निगम आयुक्त सौरभ कुमार ने जोन कमिश्नरों को जर्जर भवनों के खिलाफ कार्यवाही करने के निर्देश दिए हैं। आयुक्त ने जोन कमिश्नरों को कहा है कि अतिवृष्टि से जर्जर भवनों के गिरने से जन धन की हानि की संभावनाएं बढ़ जाती है। सभी जोन कमिश्नर अपने-अपने जोन के तहत ऐसे भवनों, जो मानव आवास के लिए अनुपयुक्त हो,भयप्रद और अस्वच्छ स्थिति में हो, सभी की सूची तैयार करें। उन्होंने नगर पालिक निगम अधिनियम 1956 की धारा 309 एवं 310 के तहत ऐसे भवन स्वामियों को नोटिस जारी करने और भयप्रद भवनों को तत्काल हटाने की कार्यवाही करने कहा हैं। उन्होंने कहा है कि जिन व्यवसायिक परिसरों और आवासीय फ्लैट परिसर में बेसमेंट बनाया गया है।  जहां-जहां पानी भरता है, ऐसे सभी भवन मालिकों को पानी की निकासी के लिए समुचित व्यवस्था करने कहा जाए। आयुक्त ने कहा है कि कार्यवाही का प्रतिवेदन शीघ्र प्रमाणीकरण करके रायपुर नगर निगम मुख्यालय के नगर निवेश विभाग को भेजे जाएं।

 

15-06-2020
जोन आयुक्तों के कार्य क्षेत्र में हुआ बदलाव, आयुक्त ऋतुराज रघुवंशी ने जारी किया आदेश

भिलाई। नगर पालिक निगम भिलाई क्षेत्र अंतर्गत विभिन्न जोन कार्यालय में कार्यरत जोन आयुक्त के कार्य क्षेत्र में निगम आयुक्त ऋतुराज रघुवंशी ने बदलाव किया है। इसका आदेश निगम आयुक्त ने आज जारी कर दिया है। शासन द्वारा जारी आदेश के तहत नवनियुक्त जोन आयुक्त पूजा पिल्ले की निगम भिलाई में पदस्थापना किए जाने के बाद इन्हें निगमायुक्त ने जोन क्रमांक एक नेहरू नगर क्षेत्र में जोन आयुक्त का प्रभार दिया है। जोन आयुक्त प्रीति सिंह को जोन क्रमांक 4 शिवाजी नगर से हटाकर जोन क्रमांक 3 मदर टैरेसा नगर में पुनः पदस्थ किया गया है। अमिताभ शर्मा जोन आयुक्त को जोन क्रमांक 1 नेहरू नगर से हटाकर जोन क्रमांक 4 शिवाजी नगर में पदस्थ किया गया है, महेंद्र पाठक जोन आयुक्त को जोन क्रमांक 3 मदर टैरेसा नगर से जोन क्रमांक 5 सेक्टर 6 में कार्य करने के लिए नियुक्त किया गया है। प्रशासनिक दृष्टिकोण एवं निगम के कार्यों को सुचारू रूप से संचालन करने के लिए जोन आयुक्त के कार्य क्षेत्र में बदलाव किया गया है।

12-06-2020
 अब गरज चमक के साथ भारी बारिश के आसार, राहत आयुक्त को चेतावनी जारी

रायपुर। छत्तीसगढ़ में बस्तर के बाद रायपुर में भी मानसून पहुंच चुका है। अब प्रदेश के अन्य स्थानों को भी बेसबरी से इंतजार है। इस बीच मौसम विभाग ने प्रदेश के कई जिलों के लिए आगामी 24 और 72 घण्टे के लिए यलो और ऑरेंज अलर्ट जारी कर दिया है। गरज चमक के साथ भारी बारिश की चेतावनी दी गई है। मौसम विभाग ने अगले 24 घंटे में प्रदेश के बस्तर,कोंडागांव,सुकमा, दंतेवाड़ा, बीजापुर, कांकेर ,नारायणपुर, धमतरी, रायपुर,बालोद, गरियाबंद और महासमुंद जिलों के लिए यलो अलर्ट जारी किया है। एक-दो स्थानों पर गरज-चमक के साथ मध्यम से भारी वर्षा होने की संभावना जताई गई है। इसी तरह अगले 48 घंटे में सुकमा, दंतेवाड़ा, बीजापुर,कांकेर ,नारायणपुर, राजनांदगांव, दुर्ग ,बालोद, धमतरी जिलों के लिए ऑरेंज अलर्ट जारी किया गया है। एक-दो स्थानों पर गरज-चमक के साथ मध्यम से भारी वर्षा होने की संभावना जताई गई है। इस संबंध में मौसम विज्ञानी आरके वैश्य ने छत्तीसगढ़ शासन के राहत आयुक्त को गरज-चमक के साथ भारी बारिश की चेतावनी जारी की है। 

01-06-2020
स्ट्रीट फूड वेंडरों को होगी केवल पार्सल सुविधा की दुकान लगाने की अनुमति

रायपुर। स्ट्रीट फूड वेंडर (पथ विक्रेताओं, खान-पान केन्द्र) केवल पार्सल की सुविधा के साथ दुकान लगाने की अनुमति होगी। कोरोना संक्रमण के फैलाव की रोकथाम के उद्देश्य से नगरीय प्रशासन एवं विकास विभाग ने सोमवार को आदेश जारी किया है। नगरीय प्रशासन एवं विकास विभाग ने सभी कलेक्टरों, नगर निगमों के आयुक्त और नगरीय निकायों के मुख्य नगर पालिका अधिकारियों को उक्त निर्देश का कड़ाई से पालन करने के निर्देश दिए हैं।

29-05-2020
  नव पदस्थ आयुक्त जयवर्धन ने किया पदभार ग्रहण, पूर्व आयुक्त राहुल देव हुए रिलीव

कोरबा। नगर पालिक निगम कोरबा में नव पदस्थ हुए आयुक्त एस.जयवर्धन ने शु्क्रवार को साकेत भवन पहुंच कर पदभार ग्रहण किया। पूर्व आयुक्त राहुल देव ने उन्हें कार्यभार सौपा तथा निगम से रिलीव हुए।
राज्य शासन द्वारा नगर पालिक निगम कोरबा के आयुक्त पद पर भारतीय प्रशासनिक सेवा के अधिकारी एस.जयवर्धन की पदस्थापना की गई है। निगम में आयुक्त रहे आईएएस अधिकारी राहुल देव को जिला पंचायत नारायणपुर के मुख्य कार्यपालन अधिकारी के पद पर पदस्थ किया गया है। नव पदस्थ आयुक्त एस.जयवर्धन ने निगम के मुख्य प्रशासनिक भवन साकेत  भवन पहुंचकर पदभार ग्रहण किया। आयुक्त जयवर्धन ने कार्यभार ग्रहण करने के पश्चात पूर्व आयुक्त राहुल देव एवं अपर आयुक्त अशोक शर्मा के साथ प्रशासनिक भवन साकेत स्थित विभिन्न कार्यालयों, शाखाओं का निरीक्षण किया तथा अधिकारी कर्मचारियों का परिचय प्राप्त करने के साथ-साथ कार्यालयों, शाखाओं की व्यवस्थाओं का जायजा लेते हुए आवश्यक दिशा निर्देश दिए।

03-05-2020
सार्वजनिक परिवहन सेवाएं लॉक डाउन अवधि में स्थगित

कोरिया। राज्य शासन के अंतर्गत परिवहन आयुक्त द्वारा सार्वजनिक परिवहन सेवा को स्थगित रखने के संबंध में आवश्यक दिशा-निर्देश दिए गए हैं। शासन द्वारा निर्देशों की जानकारी देते हुए कलेक्टर डोमन सिंह ने बताया कि “कोरोना वायरस” (कोविड-19) के संक्रमण की रोकथाम तथा आपातकालीन परिस्थितियों के मद्देनजर लोकहित में अंतर्राज्यीय तथा छत्तीसगढ़ राज्य में संचालित होने वाली समस्त प्रकार के सार्वजनिक परिवहन यान, यात्री बस, सिटी बस, टैक्सी, ऑटो, ई-रिक्शा के संचालन को पृथक-पृथक तिथियों तक स्थगित किया गया है। वर्तमान में “कोरोना वायरस” (कोविड-19) के संक्रमण की रोकथाम के लिए भारत सरकार द्वारा छत्तीसगढ़ राज्य सहित पूरे देश में 4 मई से दो सप्ताह की प्रभावी अवधि तक लॉकडाउन घोषित किया गया है। कलेक्टर सिंह ने बताया कि आम जन के हितों को ध्यान में रखते हुए अंतर्राज्यीय तथा छत्तीसगढ़ राज्य में संचालित होने वाली समस्त प्रकार के सार्वजनिक परिवहन यान को स्थगित किया जाता है। विशेष एवं आपातिक परिस्थितियों में राज्य के भीतर एवं बाहर आवागमन के लिए सार्वजनिक परिवहन यानों के संचालन के लिए राज्य शासन की निर्धारित प्रक्रिया अनुसार अनुमति की आवश्यकता होगी।

 

23-04-2020
शुरू हुआ अमृत मिशन पाइप लाइन का कार्य

दुर्ग। लॉक डाउन में अमृत मिशन का काम प्रभावित न हो, शहर के सभी विकास कार्य फौरन शुरू कराए नगर निगम उक्त बातें दुर्ग शहर विधायक अरुण वोरा दुर्ग नगर निगम की अमृत मिशन योजना के अंतर्गत पाइपलाइन और पानी टंकी के निर्माण कार्य शुरू करने के दौरान कही। उन्होंने कहा कि लॉक डाउन के कारण 22 मार्च से सारे विकास कार्य बंद कर दिए गए थे। इसके कारण श्रमिक वर्ग की रोजी-रोटी बंद हो गई थी। 152 करोड़ की लागत से अमृत मिशन योजना का काम भी ठप हो गया।विधायक अरुण वोरा व महापौर धीरज बाकलीवाल ने निगम आयुक्त इंद्रजीत बर्मन समेत विभागीय अफसरों की बैठक लेकर अमृत मिशन के काम दोबारा शुरू करने का निर्णय लिया। अब कई वार्डों में पाइप लाइन बिछाने का काम शुरू कर दिया गया है। विधायक अरूण वोरा और महापौर धीरज बाकलीवाल ने आज जीई रोड में पाइप बिछाने के कार्य का निरीक्षण किया। सड़कों पर वाहनों का आवागमन कम होने के कारण कार्यों में तेजी लाने और विकास कार्य को तत्काल पूरा करने के निर्देश दिए।

 

23-04-2020
पानी टंकियों के सैंपल में मिला था ई कोलाई बैक्टेरिया, आयुक्त के एक्शन पर पीएचई की लैब में पास

रायपुर। कोरोना संकट के बीच पीलिया राजधानी में फैला। अब तक करीब साढ़े 400 से लोग पीलिया की चपेट में आ चुके हैं। इसका कारण दूषित जल और भोजन को माना जा रहा है। इस बीच यदि नगर निगम स्वयं बता रहा है कि 6 पानी टंकियों में क्लोरीन की मात्रा बढ़ाकर दूषित जल की समस्या को दूर किया गया, तो चौकाने वाली बात यह है कि उस दौरान पानी पीने योग्य नहीं था, जब टंकियों से पानी के नमूने लिए गए। यह जिम्मेदार अधिकारियों की लापरवाही तो नहीं, क्या इसी कारण पीलिया फैला? खैर इसे तो महापौर और आयुक्त ही तय करेंगे। दरअसल नगर निगम के मुताबिक मेडिकल कॉलेज ने विगत 13 अप्रैल को नगर निगम जोन -8 के 6 पानी टंकियों के पानी के नमूने की जांच की। तब इनमें ई कोलाई बैक्टीरिया मिलने की पुष्टि हुई। रिपोर्ट को आयुक्त सौरभ कुमार ने गंभीरता से लेते हुए जोन -8 आयुक्त प्रवीण सिंह गहलोत को नोटिस जारी किया। 3 दिनों में सुधार करने के साथ प्रतिवेदन देने के आदेश दिए।

आयुक्त कुमार के निर्देश पर जोन -8 की टीम ने सम्बंधित 6 पानी टंकियों जरवाय, सरोना, कोटा, टाटीबंध, गोगांव में सोडियम हाईपो क्लोराइट की मिक्सिंग कर पानी में क्लोरीन की मात्रा बढ़ाई। इसके बाद सभी 6 पानी टंकियों के पानी के नमूने को पीएचई के लैब ने पास किया। इधर मेडिकल कॉलेज लेब में गोगांव की टंकी के पानी के नमूने की जाँच रिपोर्ट आनी बाकी है। बाकी 5 पानी टंकियों के पानी नमूने को मेडिकल कॉलेज लेब ने पास कर दिया है। पीने योग्य पानी बताया गया है। बताया गया कि मेडिकल कॉलेज की रिपोर्ट नगर निगम को 22 अप्रैल को मिली है। पीलिया मरीज के घर के नल से लिए गए पानी के नमूने को भी जांच में मेडिकल कॉलेज लेब और पीएचई लेब ने पास कर दिया है। इनमें 10 में से 9 नमूने पास हो चुके हैं और 1 नमूने में जांच रिपोर्ट अभी नहीं आई है।

Advertise, Call Now - +91 76111 07804