GLIBS
19-06-2021
जन औषधि में मोदी सरकार की असफलता का ठीकरा प्रदेश सरकार के मत्थे मढ़ना चाह रहे डॉ. रमन : विकास तिवारी

रायपुर। कांग्रेस प्रदेश प्रवक्ता एवं सचिव विकास तिवारी ने कहा कि राज्य सरकार का जन औषधि केंद्रों (जेएके) के माध्यम से सस्ती दवाओं के वितरण में बाधा डालने का पूर्व मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह का आरोप हास्यास्पद है। उनका आरोप तथ्यों पर आधारित नहीं है। राज्य सरकार ने जन औषधि केंद्र चलाने के लिए राज्य सरकार के परिसर (जैसे मेडिकल कॉलेज, जिला अस्पताल, सीएचसी आदि) के भीतर 122 प्रमुख स्थानों में जगह, निर्मित क्षेत्र और संबंधित सुविधाएं मुफ्त उपलब्ध कराई हैं। कांग्रेस प्रवक्ता ने कहा कि भाजपा के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष और पूर्व मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह ने तथ्यहीन आरोप प्रदेश की भूपेश सरकार पर लगाएं हैं। सरकार सस्ती और मुफ्त दवा नहीं दे रही है, जबकि रमन राज में जहां तक जन औषधि योजना का सवाल है। राज्य सरकार ने इसके लिए राज्य के अस्पतालों में सबसे अच्छी जगह पर 122 दुकानों को स्थान दिया है। जन औषधि के लिए केंद्र सरकार की संस्था ब्यूरो ऑफ फार्म की ओर से प्रदाय की जानी है। लेकिन उन्होंने 600 दवाओं में से केवल 250 दवाएं ही प्रदाय की हैं। यह केंद्र सरकर की विफलता है।

 

16-06-2021
Video: भाजपा ने राज्य सरकार के वादाखिलाफी के विरुद्ध किया प्रदर्शन 

रायपुर। राज्य सरकार के ढाई साल पूरे होने पर राजधानी में भाजपा ने प्रदेश सरकार के खिलाफ मोर्चा खोल दिया है। प्रदेश सरकार के ढाई साल के कार्यकाल की विफलता और वादाखिलाफी को आम जनता तक पहुंचाने भाजपा पिछड़ा वर्ग मोर्चा ने रायपुर जिला अध्यक्ष सुनील चौधरी के नेतृत्व में पंडरी बस स्टैंड में जनसम्पर्क और प्रदर्शन किया। सुनील चौधरी ने बताया कि इस जनसम्पर्क के माध्यम से लोगों को यह बताया जा रहा है कि कांग्रेस झूठ बोलकर सत्ता में आई और छत्तीसगढ़ की भोली भाली जनता को ठगने का काम कर रही है। इस कार्यक्रम में भाजपा जिला अध्यक्ष श्रीचंद सुंदरानी सहित सभी प्रमुख नेता उपस्थित थे।

16-06-2021
भाजयुमो आज मंत्री और विधायक बंगले के बाहर देगी धरना, पूछेगी ढ़ाई साल का हिसाब

रायपुर। कांग्रेस सरकार के खिलाफ भाजयुमो बुधवार को प्रदर्शन करेगी। बता दें कि पदाधिकारी मंत्रियों और विधायकों के बंगले के बाहर धरना देंगे। साथ ही सरकार के ढाई साल पूरे होने पर हिसाब मांगेगे। वहीं आम जनता को प्रदेश सरकार की नाकामियों को भी बताएंगे।

15-06-2021
Video: भूपेश सरकार की वादा खिलाफी के विरोध में मोदी आर्मी के सदस्य बैठे भूख हड़ताल पर

दुर्ग। युवाओं से किए गए वादों को भूपेश बघेल सरकार की ओर पूरा नहीं करने पर मोदी आर्मी संगठन चरणबद्ध आंदोलन कर रहा है। इसी क्रम में मंगलवार को मोदी आर्मी के सदस्य सिटी कोतवाली थाने के समक्ष भूख हड़ताल पर बैठकर विरोध दर्ज कराया। प्रदेश मोदी आर्मी के अध्यक्ष वरुण जोशी ने कहा कि प्रदेश सरकार के ढाई वर्ष 17 जून को पूरे होने जा रहे हैं। किंतु युवाओं के हित के लिए सरकार ने कोई कदम नहीं उठाया,प्रदेश सरकार की निद्रा को जगाने ही दुर्ग में मोदी आर्मी संगठन पुरजोर विरोध कर रही है। सांकेतिक भूख हड़ताल में अनेंद् ताम्रकार,शुभम यादव,यश कसार,उमेश शाश्वत,विधान मिश्रा,आकाश यादव,धीरज यादव,संदीप रावत,इशू यादव,संस्कार,सागर शर्मा,कपिल,शैलेष आदि उपस्थित रहे।

14-06-2021
भैंस को प्रतीकात्मक बनाकर मोदी आर्मी ने बजाई बीन, प्रदेश सरकार को जगाने का किया प्रयास

दुर्ग। मोदी आर्मी ने भूपेश सरकार के खिलाफ वादा निभाओ अभियान छेड़ रखा है। इसके तहत सोमवार को भैंस को प्रदेश सरकार बनाकर कार्यकर्ताओं ने बीन बजाकर जगाने का प्रयास किया। ज्ञात हो की 17 जून को भूपेश बघेल सरकार के ढाई वर्ष पूरे होने जा रहे हैं और सत्ता में आने से पूर्व प्रदेश के युवाओं से वादा किया गया था हम बेरोजगारी भत्ता देंगे,किंतु आज तक इस विषय में ना ही कैबिनेट की कोई बैठक की गई है ना ही बजट सत्र में कोई चर्चा,जिसे लेकर मोदी आर्मी ने सात दिनों तक भिन्न भिन्न रूप से अपना विरोध दर्ज कर रही है। प्रदेश के युवा वर्ग स्वयं को छला महसूस कर रहे हैं। मोदी आर्मी के प्रदेश अध्यक्ष वरुण जोशी ने कहा राज्य सरकार  युवाओं को नज़र अंदाज़ कर रही है। दुर्ग जिला बेरोजगार पंजीकृत युवाओं में प्रदेश में प्रथम स्थान पर है,जबकि दुर्ग जिले से ही प्रदेश के मुख्यमंत्री सहित गृह मंत्री और कई मंत्री आते हैं। प्रदर्शन के दौरान अनेंद ताम्रकार,शुभम यादव,उमेश शाश्वत,इशू यादव, कपिल,संस्कार,सागर आदि उपस्थित रहे।

 

10-06-2021
अब यदि छत्तीसगढ़ में कोरोना की तीसरी लहर का तांडव मचा तो प्रदेश सरकार होगी ज़िम्मेदार : कौशिक

रायपुर। भारतीय जनता पार्टी के वरिष्ठ नेता और प्रदेश विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष धरमलाल कौशिक ने प्रदेश सरकार पर कोरोना संक्रमण के प्रति फिर लापरवाह होने का आरोप लगाते हुए कहा है कि अब यदि प्रदेश में कोरोना की तीसरी लहर का तांडव मचा तो केवल प्रदेश की कांग्रेस सरकार ही इसके लिए सीधे-सीधे ज़िम्मेदार होगी। कौशिक ने कहा कि कोरोना संक्रमण की रोकथाम के मोर्चे पर विफल प्रदेश सरकार वैक्सीनेशन के काम में पूरी तरह नाकारा साबित हो रही है। एक तो वैक्सीनेशन की गति धीमी है, वहीं प्रदेश के लाखों लोग वैक्सीनेशन के प्रमाण से महीनों बीत जाने के बाद भी वंचित हैं।


नेता प्रतिपक्ष कौशिक ने कहा कि कोरोना संक्रमण के लगातार बढ़ रहे आँकड़ों में कमी आना राहत की बात है, लेकिन प्रदेश सरकार को यह ध्यान में रखना चाहिए कि कोरोना की दूसरी लहर कमज़ोर पड़ी है, ख़त्म नहीं हुई है और अब किसी भी स्तर पर लापरवाही छत्तीसगढ़ में तीसरी लहर की आशंका को घनीभूत कर सकती है। कोरोना की दूसरी लहर के कमज़ोर पड़ते ही लोगों ने कोरोना गाइडलाइन को भुला दिया है, मास्क पहने बिना और सोशल डिस्टेंसिंग की ज़रा भी परवाह नहीं करते हुए भीड़भाड़ वाली ज़गहों में लोगों की उपस्थिति बेहद चिंताजनक है। कौशिक ने कहा कि कोरोना संक्रमण से हुईं और हो रही मौतों के बाद भी प्रदेश सरकार कोरोना महामारी को गंभीरता से लेती नज़र नहीं आ रही है और अपने दायित्वों को भूल गई है, जबकि कोरोना के कमज़ोर होने के बाद प्रदेश सरकार को कोविड जाँच व उपचार केंद्रों के इंतज़ाम दुरुस्त करने, ऑक्सीज़न, वेंटीलेटर, दवाइयों, पीपीई किट आदि की व्यवस्था पर ध्यान देना चाहिए ताकि दुर्भाग्य से कहीं कोरोना की तीसरी लहर की आशंका नज़र आए तो तत्काल लोगों को सहूलियत व पर्याप्त इलाज मुहैया हो सके। लेकिन अपने इन दायित्वों की चिंता छोड़ प्रदेश सरकार सियासी नौटंकियों में मशगूल है।


नेता प्रतिपक्ष कौशिक ने कहा कि प्रदेश सरकार न तो कोरोना गाइडलाइन के पालन के प्रति लोगों को जागरूक और प्रेरित कर रही है, न ही वैक्सीनेशन को लेकर फैली अफ़वाहों व भ्रांतियों को दूर करने में रुचि ले रही है। वैक्सीनेशन का काम भी प्रदेश सरकार ठीक ढंग से संचालित नहीं कर पा रही है। टीकाकरण केंद्रों में एडवर्स इफ़ेक्ट के ऑब्ज़र्वेशन की व्यवस्था ध्वस्त हो चली है, वहीं स्वास्थ्य विभाग के अमले ने वैक्सीन की खुराक ले चुके लाखों लोगों को अब तक टीकाकरण को प्रमाणित करने वाला मैसेज़ तक नहीं भेजा है। कौशिक ने हैरत जताई कि प्रदेशभर में 18-44 वर्ष आयुवर्ग के लगभग 06 लाख लोगों के पास वैक्सीनेशन का कोई प्रमाण ही नहीं है, जबकि अभी उनकी दूसरी खुराक ड्यू है। इसी प्रकार 45+ आयुवर्ग के लोग भी महीनों से वैक्सीनेशन के मैसेज़ का इंतज़ार कर रहे हैं। कौशिक ने कहा कि प्रदेश सरकार को कोरोना के साथ-साथ लगातार सामने आ रहे ब्लैक फ़ंगस के मामलों पर भी काबू पाने की रणनीत बनाने की चिंता करनी चाहिए। सियासत करने के बजाय प्रदेश सरकार पीड़ित मानवता की सेवा को अपना प्रथम लक्ष्य निर्धारित कर जनस्वास्थ्य के प्रति अपनी ज़वाबदेही साबित करे, यह आज सर्वाधिक आवश्यक है।

 

19-05-2021
अनुकंपा नियुक्ति में प्रतिबंध को शिथिल कर प्रदेश सरकार ने लिया कल्याणकारी निर्णय: फेडरेशन

कोरिया। छत्तीसगढ़ प्रदेश शिक्षक फेडरेशन के प्रांताध्यक्ष राजेश चटर्जी,वरिष्ठ उप प्रांताध्यक्ष राजेन्द्र सिंह एवं कोरिया जिला अध्यक्ष रवींद्रनाथ तिवारी का कहना है कि तृतीय श्रेणी के पदों पर अनुकंपा नियुक्ति में प्रतिबंध को 31 मई 2022 तक के लिए शिथिल करने का निर्णय लेकर छत्तीसगढ़ सरकार ने दिवंगत शिक्षकों के परिवार को विपत्ति के समय अपेक्षित सहारा दिया है।फेडरेशन ने कहा कि मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने दिवंगत शासकीय सेवकों के परिवार के लिए कल्याणकारी निर्णय लिया है। 

 

Advertise, Call Now - +91 76111 07804