GLIBS
20-02-2020
गौरव पथ पर साफ-सफाई,लाइट की व्यवस्था का पालिका अध्यक्ष और पार्षदों ने किया निरीक्षण

गरियाबंद। महाशिवरात्रि के अवसर पर हजारों श्रद्धालु गरियाबंद गौरव पथ से होकर भुकुरराम महादेव शिवलिंग स्थल पर पूजा अर्चना करने पहुंचते हैं।  गुरुवार को नगर पालिका अध्यक्ष गफ्फू मेमन के नेतृत्व में पार्षदों का दल गौरव पथ में साफ सफाई का निरीक्षण करने पहुंचे। नगरपालिका के सफाई कर्मचारियों को लेकर साफ सफाई का दिशा निर्देश देते रहे।

दरसल शुक्रवार को महाशिवरात्रि पर गरियाबंद जिला के साथ ही महासमुंद, धमतरी, रायपुर, मैनपुर, देवभोग से हजारों की संख्या में विश्व के विशालत्म प्राकृतिक शिवलिंग भूतेश्वरनाथ के दर्शन करने पहुंचते हैं। इस अवसर पर लोगों का गौरव पथ के रास्ते ही आना जाना होता है। ऐसे में उक्त गौरव पथ की साफ-सफाई व कमियों को दूर करने के लिए आज नगर पालिका की ओर से अध्यक्ष एवं पार्षद दौरा कर समुचित व्यवस्थाओं को दुरुस्त करने का निर्देश दिया। इस अवसर पर विशेष रूप से सफाई कर्मचारी एवं बिजली कर्मचारियों को निर्देशित किया गया कि स्ट्रीट लाइट की व्यवस्था समुचित तथा सड़क के दोनों ओर वाहनों के आवागमन व पैदल आवागमन में दिक्कत ना हो आने जाने वाले श्रद्धालुओं के लिए पेयजल की समुचित पूर्ति हेतु दो नल कनेक्शन की भी व्यवस्था तत्काल कराई गई। अध्यक्ष सहित पार्षदों ने निर्देशित किया कि श्रद्धालुओं का विशेष ध्यान रखा जाए क्योंकि लोग दूर-दूर से पहुंचते हैं,जिससे गरियाबंद नगर पालिका की छवि खराब न हो। नगरपालिका की इस पहल का जहां शिवभक्त प्रशसाँ कर रहे हैं। वहीं  गरियाबंद के निवासी भी उनकी तत्परता और धार्मिक कार्यों में सजगता के लिए प्रशंसा कर रहे हैं।

इस अवसर पर नगर पालिका अध्यक्ष गफ्फू मेमन से चर्चा करने पर वह कहते हैं कि गरियाबंद जिले के लिए सौभाग्य की बात है कि यहां भगवान भूतेश्वर महादेव प्राकृतिक रूप से विराजे हुए हैं। इसलिए हमें चाहिए कि हम इस रास्ते से होकर जो श्रद्धालु गुजरते हैं उनके दिक्कत व परेशानियों को ध्यान में रखने के लिए आज हम सब पार्षद दौरा कर निरीक्षण कर साफ सफाई व पेयजल की व्यवस्था के साथ ही विद्युत व्यवस्था समुचित रहे इसलिए निरीक्षण कर रहे हैं।  किसी भी श्रद्धालुओं को दिक्कत ना हो यह हम गरियाबंद निवासियों का पहला दायित्व बनता है।


 

 

19-01-2020
Breaking : अज्ञात वाहन ने भालू को कुचला, मौत

गरियाबंद। नवागढ़ सीआरपीएफ कैंप से 1 किलोमीटर आगे भालू का शव मिलने का मामला सामने आया है। भालू का शव नेशनल हाईवे पर मिला है। अज्ञात वाहन की टक्कर से भालू की मौत बताई गई है। सूचना मिलने पर वन विभाग मौके पर पहुंचा है। वन विभाग के अधिकारियों ने घटना की पुष्टि की है। घटनास्थल से अनुमान लगता है कि मैनपुर से गरियाबंद राजिम की ओर जाने वाली ट्रक से यह हादसा हुआ है। आशंका है कि जिस ट्रक ने भालू को कुचला है उसे भारी मात्रा में सामान लोड था। वन अधिकारी मयंक अग्रवाल ने तत्काल 1 टीम को गरियाबंद राजिम और मैनपुर क्षेत्रों में रात को गुजरने वाले वाहनों की जांच करने के निर्देश दिए हैं। सीसीटीवी कैमरे खंगाले जा रहे हैं। साथ ही सीआरपीएफ कैंप नवागढ़ के सीसीटीवी का भी अध्ययन किया जा रहा है।

17-01-2020
Breaking: अतिक्रमण हटाने पहुंचे सरकारी अमले को ग्रामीणों ने बनाया बंधक

गरियाबंद।  जिले से इस वक्त बड़ी खबर आ रही है। अतिक्रमण हटाने गए वन और पुलिस विभाग के कर्मचारियों को ग्रामीणों ने बंधक बना लिया है। सरकारी वाहन पर तोड़- फोड़ कर रेंजर से भी धक्का मुक्की की गई है।  मामला देवभोग वन परिक्षेत्र के छैला गांव  के 1288 कक्ष क्रमांक का है, जहां 10 कर्मचारियों को बंधक बनाया गया है। अतिरिक्त पुलिस फोर्स गरियाबंद मैनपुर और देवभोग से भेजी गई है।

29-11-2019
गरियाबंद जिले में मवेशियों में फैली अज्ञात बीमारी, पशुपालक दहशत में

गरियाबंद। गरियाबंद जिले में बीते एक महीने से पशुओं में अज्ञात बीमारी फैली हुई है और यह पशु मालिकों में भारी दहशत का कारण बनी हुई है। बीमारी की शुरुआत पशुओं के शरीर में सूजन से होती है जो धीरे धीरे घाव में तब्दील हो जाती है। फिर कुछ दिन बाद पशु चारा खाना छोड़ देता है। किसानों के मुताबिक इस बीमारी से अब तक कई जानवरों की मौत  हो गई है। सरकारी आंकड़ों के मुताबिक ओडि़शा सीमा से लगे 20 गांवों में 100 से अधिक जानवर इस बीमारी से पीडि़त हैं, हालांकि जमीनी हकीकत इससे कहीं अलग है। ग्रामीणों की मानें तो देवभोग और मैनपुर इलाके के अधिकांश गांवों में ये बीमारी अपनी दस्तक दे चुकी है। पशु चिकित्सक भी बीमारी को लेकर फिलहाल असमंजस की स्थिति में है, अभी तक वे बीमारी का नाम भी पता नहीं लगा पाए हैं। पशु चिकित्सकों ने बीमार पशुओं के सैंपल जांच के लिए भेजे हैं और जांच रिपोर्ट आने के बाद ही सही इलाज होने की बात कह रहे है। फिलहाल डॉक्टर मक्खियों और मच्छरों से ये बीमारी फैलने का दावा कर रहे हैं और इसकी रोकथाम के लिए बीमार पशुओं को एंटीबायटिक दवाइयां दे रहे है।


 

30-10-2019
गांधी और गोडसे के बीच तय करें कि कौन सी पार्टी कर सकती है देश का विकास : कवासी लखमा

गरियाबंद। गरियाबंद जिले के मैनपुर (दो ) पहुंचे आबकारी मंत्री कवासी लखमा और प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष मोहन मरकाम ने मातर उत्सव एवं सामुदायिक भवन का लोकार्पण किया। कवासी लखमा ने इस अवसर पर पिछली भाजपा सरकार को आड़े हाथों लेते हुए कहा कि एक तरफ हमारी कांग्रेस पार्टी महात्मा गांधी को मानने वाली है तो दूसरी तरफ नाथूराम गोडसे को मानने वाले लोगों की पार्टी है। अब तय आपको करना है कि कौन सी पार्टी ठीक है? उन्होंने कहा कि भूपेश बघेल की सरकार हरेली तेहार, गोवर्धन पूजा मनाती है। पिछली सरकार बिजली तिहार, बोनस तिहार मनाते थे। हेलीकॉप्टर में आते थे। 5 करोड़ के डोम में मंच पर बैठकर त्यौहार होता था। अब गली कूचे में गरीबों के साथ मुख्यमंत्री तथा अन्य मंत्री भी त्यौहार में शामिल होते हैं। आबकारी मंत्री कवासी लखमा ने सुपेबेड़ा में हो रही मौतों पर ओडि़शा की नकली शराब को भी जिम्मेदार ठहराया। उन्होंने जिलाधीश एवं पुलिस अधीक्षक को इस पर कड़ाई से पाबंदी लगाने के निर्देश दिए। मंत्री ने कहा कि प्रदेश में धान का समर्थन मूल्य 2500 है और पड़ोसी राज्य ओडि़शा में 15 सौ रुपए भी नहीं है। इसलिए ओडि़शा से यहां धान लाने का खूब प्रयास होगा  कलेक्टर इसे रोकने का पूरा प्रबंध करें।  मंत्री कवासी लखमा ने बताया कि मैंने अपने जीवन में रोजी-मजदूरी भी की है। मुर्गा लड़ाकर कमाया है। ऐसे कार्यकर्ता को कांग्रेस पार्टी ने मंत्री बना दिया आप समझ सकते हैं कि कांग्रेस में जमीनी कार्यकर्ताओं का कितना महत्व है। उन्होंने प्रधानमंत्री मोदी पर भी कटाक्ष करते हुए कहा कि वे कभी नोटबंदी करके  तो कभी जीएसटी लगाकर परेशान कर रहे हैं। बड़े-बड़े प्राचीन  राष्ट्रीय धरोहरों को किराए पर दे रहे हैं।  प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष मोहन मरकाम ने कहा कि पूरे प्रदेश में कांग्रेस का वर्चस्व रहा मगर अफसोस कि बिंद्रानवागढ़ में जीत नहीं हो पाई, फिर भी किसी क्षेत्र के साथ भेदभाव नहीं होगा, विकास के पूरे अवसर यहां भी दिए जाएंगे। इस क्षेत्र के विकास में कोई कमी नहीं आएगी। मंत्री लखमा ने शिक्षा मंत्री से मिलकर गांव में हाईस्कूल तथा आदिवासी विभाग से हॉस्टल स्वीकृत करवाने का आश्वासन दिया।

नारियल पानी का लिया मजा
मंच पर मंत्री कवासी लखमा अतिथियों के साथ नारियल पानी का मजा लेते नजर आए। इसके पहले मंत्री को गांव की शुरुआत में स्वागत द्वार पर रोक लिया गया। यहां स्वागत के बाद मंत्री को लगभग 2 किलोमीटर पैदल स्वागत करते हुए ले जाया गया जिस पर प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष और मंत्री लखमा पसीने से तरबतर हो गए और कहा कि कुछ दिन पहले हुई गांधी यात्रा आप लोगों ने फिर से याद दिला दी।

कार्यक्रम में ये रहे उपस्थित
कार्यक्रम में संजय नेताम, वीरू यादव ब्लॉक अध्यक्ष गरियाबंद, संदीप सरकार जिला युवा कांग्रेस अध्यक्ष, अमित मेरी बिंद्रानवागढ़ विधानसभा अध्यक्ष, पार्षद रितिक सिन्हा, केसु सिन्हा एनएसयूआई जिला अध्यक्ष, हरमेश चावड़ा अध्यक्ष महाविद्यालय समिति, आबिद ढेबर, रमिज रजा, सफीक खान  ओम राठौर, ममता राठौर, मनोज मिश्रा ब्लॉक अध्यक्ष मैनपुर, तपेश्वर राजपूत ब्लॉक अध्यक्ष अमलीपदर, नीरज ठाकुर मैनपुर, सुरेश मानिकपुरी गरियाबंद, नजीब बेग उपाध्यक्ष मैनपुर, रहीम खान गरियाबंद, नरेंद्र यादव जिलाध्यक्ष युवा प्रभाग यादव समाज, अल्तमस खान उपाध्यक्ष युवा कांग्रेस गरियाबंद, उमाशंकर पांडेय सचिव युवा कांग्रेस गरियाबंद, पप्पू साहू आदि मौजूद थे

 

30-10-2019
आबकारी मंत्री और प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष पहुंचे गरियाबंद

गरियाबंद। प्रदेश के आबकारी एवं वाणिज्यककर मंत्री कवासी लखमा एवं प्रदेश कांग्रेस के अध्यक्ष मोहन मरकाम हेलीकॉप्टर से गरियाबंद पहुंचे। वे गरियाबंद के मैनपुर द्वितीय में आयोजित मतार उत्सव एवं भवन लोकार्पण कार्यक्रम में होंगे शामिल होंगे। कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने उनका फूल मालाओं से स्वागत किया। इस अवसर पर विशेष रूप से जिला कांग्रेस अध्यक्ष बैसाखूराम साहू एवं ओम राठौर, संदीप सरकार, अमित मेरी, वीरू यादव, केसू सिन्हा, रमेश मेश्राम, ममता राठौर, रितिक सिन्हा, आबादी ढेबरा, हेमन्त साग, शफीक खान के साथ ही सैकड़ों कांग्रेसी उपस्थित थे।लखमा और मरकाम ने गरियाबंद के विश्रामगृह में कार्यकर्ताओं से चर्चा की। कार्यकर्ताओं ने क्षेत्रीय समस्याओं से अवगत कराते हुए उनसे समस्याओं के निराकरण की मांग की। कवासी लखमा एवं मोहन मरकाम ने आश्वस्त किया कि वे यथासंभव इन समस्याओं का निराकरण जल्द से जल्द करवाएंगे। इसके बाद लखमा और मरकाम मैनपुर के लिए रवाना हुए।

21-09-2019
कलेक्टर ने ग्राम बड़ेओड़ागांव और मैनपुर की महिलाओं को बताया सुपोषण मिशन की महत्ता

कोंडागांव। कलेक्टर नीलकंठ टेकाम द्वारा विगत् दिवस फरसगांव एवं केशकाल विकासखण्ड के सुदूर स्थित मैनपुर, बड़ेओड़ागांव, कानागांव, चिंगनार जैसे गांव के आंगनबाड़ी एवं स्वास्थ्य केन्द्रों का निरीक्षण किया। इस मौके पर सदस्य जिला पंचायत लद्दू राम उईके, सीएमएचओ डाॅ.एसके कनवर, महिला बाल विकास अधिकारी वरुण नागेश, सहायक संचालक उद्यान बीएल दर्रो, सीईओ जनपद पंचायत फरसगांव आरके वट्टी एवं केशकाल एलएन नाग सहित क्षेत्र के जनप्रतिनिधिगण एवं अन्य अधिकारी उपस्थित थे। जिला कलेक्टर ने स्वास्थ्य केन्द्रो में जाकर जहां दवाईयों की उपलब्धता, संस्थागत प्रसव, एवं स्वच्छता जैसी जानकारी चाही, वहीं आंगनबाड़ी केन्द्रो में उन्होंने कार्यकर्ताओं से बच्चों की उपस्थिति उनके भोजन इत्यादि के संबंध में भी निर्देश दिए। मैनपुर के प्लाटपारा स्थित स्वास्थ्य केन्द्र में महिलाओं का हीमोग्लोबिन जांच शिविर को भी उन्होंने अवलोकन किया। मौके पर उन्होंने महिलाओं से चर्चा करते हुए बताया कि 11 ग्राम से कम रक्त वाली महिलाऐं एनीमिक श्रेणी में आती है। इस प्रकार जिले की लगभग 56 हजार महिलाऐं एनीमिया से ग्रस्त है, जो कि एक शोचनीय स्थिति है। इसे देखते हुए संपूर्ण जिले में मुख्यमंत्री सुपोषण मिशन प्रारंभ किया जा रहा है, जिसके तहत एनीमिया से ग्रस्त महिलाओं को आंगनबाड़ी केन्द्र, पंचायत भवन, अस्पताल में पौष्टिक भोजन यथा अंकुरित अनाज गुड़, चना, पौष्टिक भाजियाँ प्रतिदिन निःशुल्क सेवन कराया जायेगा और इसमें सभी महिलाओं की सहभागिता होनी चाहिए और इस मिशन के व्यापक प्रचार-प्रसार करने के लिए सुपोषण रथ, पदयात्रा, रैली, कठपुतली संदेश, कला जत्था के शिक्षाप्रद कार्यक्रम प्रस्तुत किए जाएंगे। इसका उद्देश्य प्रत्येक ग्राम पंचायत और प्रत्येक गांव में कुपोषण एवं एनीमिया के खिलाफ सकारात्मक माहौल बनाना है। इस दौरान चिंगनार सेक्टर की स्वास्थ्य पर्यवेक्षिका ने बताया की महिलाओं के हीमोग्लोबिन परीक्षण के तहत 2250 महिलाओं के लक्ष्य के विरुद्ध 1 हजार 345 महिलाओं का परीक्षण कर चिन्हांकित किया जा चुका है। इसी प्रकार ग्राम बड़ेओड़ागांव में भी जिला कलेक्टर द्वारा महिलाओं को मुख्यमंत्री सुपोषण मिशन में उत्साहपूर्वक भाग लेने की अपील करते हुए कहा कि महिला शक्ति की एकजुटता से मुख्यमंत्री सुपोषण मिशन को हरहाल में सफल बनाया जायेगा।

 

Advertise, Call Now - +91 76111 07804