GLIBS
23-02-2020
तृतीय वर्ग कर्मचारी संघ ने मुख्यमंत्री के नाम डिप्टी कलेक्टर को सौंपा ज्ञापन

रायगढ़। तृतीय वर्ग शासकीय कर्मचारी संघ ने कलेक्ट्रेट के बाहर प्रदेश सरकार को घोषणा पत्र याद दिलाते हुए नारेबाजी की। कर्मचारी संघ ने कांग्रेस के घोषणा पत्र में कर्मचारी हितैषी वादे, चार स्तरीय समयमान वेतनमान, केंद्र के समान महंगाई भत्ता और कर्मचारियों की वेतन विसंगति दूर करने संबंधी मांग को जल्द मूर्तरूप देने की मांग की है। कर्मचारी संघ ने डिप्टी कलेक्टर श्रवण कुमार टण्डन को मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के नाम ज्ञापन सौंपा। डिप्टी कलेक्टर ने कर्मचारी संगठन को आश्वस्त किया कि इसे सीएम हाउस प्रेषित करेंगे।

 

02-01-2020
महीनों से फरार ठग बाबू चढ़ा पुलिस के हत्थे, सरकारी विभागों में नौकरी लगाने के नाम पर लिए थे पैसे

रायगढ़। लगभग 3 महीने से भी अधिक समय से फरार चल रहे रायगढ़ कलेक्ट्रेट का ठगबाबू आखिरकार रायगढ़ पुलिस की गिरफ्त में आ ही गया। अलग अलग सरकारी विभागों में नौकरी लगाने के नाम से कलेक्ट्रेट रायगढ़ में पदस्थ सहायक ग्रेड 3 संदीप श्रृंगी ने 6 लोगों से 31लाख रु की ठगी की थी। इतना ही नही ठगबाज़ संदीप शृंगी ने सभी को फर्जी नियुक्तिपत्र भी दिया था, जब रायगढ़ के युवक अपना नियुक्ति पत्र लेकर विभिन्न विभागों में जोइनिंग के लिए पहुंचे तो उनके पांव के नीचे से जमीन खिसक गई। जब उन्हें पता लगा कि उनके हाथ मे जो नियुक्ति पत्र है वह पूर्णतः फर्जी है। खुद को ठगे जाने का एहसास होते ही आधा दर्जन युवकों ने पुलिस की शरण ली। पद्मनारायन पटेल, दीपक गिरी गोस्वामी, विकास सिंह ठाकुर, सौरव पटेल, पंकज यादव व प्रकाश पटेल सभी 6 युवकों की शिकायत के बाद सरकारी नौकरी में पदस्थ ठगबाज़ संदीप शृंगी को कलेक्टर यशवंत कुमार ने तत्काल निलम्बित कर दिया था। शिकायत पर पुलिस अधिक्षक की मॉनिटरिंग के साथ लम्बी जांच चली, जांच के बाद ठगी का आरोप सही पाया गया और कोतवाली थाने में ठगबाज़ संदीप के खिलाफ अपराध पंजीबद्ध किया। कोतवाली में एफआईआर दर्ज होने के बाद से ही धोखाधड़ी का आरोपी फरार था।

पुलिस ने स्पेशल टीम बनाकर उसपर नज़र बनाए रखी थी। अत्यंत शातिर ठगबाज़ संदीप भेष बदल कर छिपा हुआ था। आरोपी को भिलाई से गिरफ्तार किया गया है। संदीप की गिरफ्तारी में पुलिस ने मुखबीर की मदद के साथ ही अन्य हाईटेक तरीको का इस्तेमाल किया है। अपना भेष व फोन नम्बर लगातार बदलकर फरार चल रहा ठगबाज़ यह नही जानता था कि रायगढ़ पुलिस की पैनी निगाहों से वो बच नही पाएगा। उसकी सारी योजनाओ पर पानी फेरते हुए रायगढ़ पुलिस ने उसे भिलाई में धर दबोचा। बताना चाहेंगे कि पुलिस आधीक्षक सन्तोष कुमार के दिशानिर्देश पर नए साल के पहले ही दिन पुलिस ने रायगढ़ शहर के बेहद चर्चित धोखेबाज़ी के मामले में हाई प्रोफाइल लाइफ स्टाइल वाले ठग संदीप शृंगी को गिरफ्तार करने में कामयाबी हासिल की है। आरोपी को पुलिस जेल भेजने की तैयारी कर रही है।

 

19-11-2019
वार्ड वासियों ने जिला प्रशासन पर लगाया भेदभाव का आरोप, डिप्टी कलेक्टर को सौंपा ज्ञापन

रायगढ़। शासन द्वारा राजीव गांधी आश्रय पट्टा योजना के तहत सभी जगह जिला प्रशासन द्वारा सर्वे कराया जा रहा है। इसके तहत नजूल में रहने वाले लोगों को सरकार द्वारा पट्टा वितरण किया जाएगा। लेकिन कहीं ना कहीं इस सर्वे में भी जिला प्रशासन द्वारा भेदभाव का आरोप वार्ड नंबर 36 के रहवासियों ने लगाया। वार्ड नंबर 36 राजीव नगर से दर्जनों की संख्या में वहां के रहवासी महिला और पुरुष सभी एक साथ ज्ञापन लेकर रायगढ़ कलेक्ट्रेट पहुंचे और अभिषेक गुप्ता डिप्टी कलेक्टर को ज्ञापन सौंपते हुए बताया कि सभी वार्डों में निरंतर पट्टा के लिए सर्वे किया जा रहा है, लेकिन उनके वार्ड से भेदभाव कर रही है। उन्होंने बताया कि लगभग 30 से 35 वर्ष से वह सभी लोग राजीव गांधी नगर में निवास कर रहे हैं और बकायदा नगर निगम की सभी टैक्स अदा कर रहे हैं। जिन की रसीद भी उनके पास मौजूद है, लेकिन उनके जमीन का सर्वे सही तरीके से नहीं हुआ है। इससे वे पट्टे से वंचित रह जाएंगे। उन्होंने ज्ञापन के माध्यम से जिला प्रशासन से अनुरोध किया है कि सही सर्वे कराकर उनको भी राजीव गांधी आश्रय योजना का लाभ दिया जाए। ज्ञापन लेने पहुंचे डिप्टी कलेक्टर अभिषेक गुप्ता ने बताया कि वार्ड नंबर 36 के निवासियों द्वारा पट्टा सर्वे के लिए आवेदन दिया गया है। जल्दी सर्वे कराकर उनकी समस्या का निराकरण किया जाएगा।

 

14-11-2019
रविंद्र चौबे पहुंचे रायगढ़, कहा - किसी के साथ नहीं होगा अन्याय

रायगढ़। जिले के प्रभारी मंत्री एवं छत्तीसगढ़ के कृषि मंत्री रविंद्र चौबे का आगमन रायगढ़ रेलवे स्टेशन में साउथ बिहार ट्रेन से हुआ। उनके स्वागत के लिए पहले से ही स्टेशन में विधायक प्रकाश नायक, सारंगढ़ विधायक का उत्तरी जांगड़े, धरमजयगढ़ विधायक लालजीत राठिया एवं लैलूंगा विधायक चक्रधर सिंह सीदार के साथ-साथ जिला कलेक्टर यशवंत कुमार, जिला पंचायत सीईओ रिचा प्रकाश चौधरी और रायगढ़ एसडीएम समेत पुलिस के सभी अधिकारी मौजूद थे। सभी ने प्रभारी मंत्री का पुष्पगुच्छ और फूल माला स्वागत किया तत्पश्चात प्रभारी मंत्री रेलवे स्टेशन से ही सभी विधायक के साथ पैदल चलते हुए स्टेशन चौक स्थित जिला कांग्रेस कमेटी के कार्यालय पहुंचे जहां उन्होंने सभी कांग्रेस के कार्यकर्ताओं को संबोधित किया और अन्य कमरे में भी सभी कार्यकर्ताओं की बात एवं शिकायतों को गंभीरतापूर्वक सुना और आश्वासन दिया कि किसी भी कांग्रेसी कार्यकर्ता के साथ किसी प्रकार का भेदभाव और अन्याय नहीं होने दिया जाएगा।

प्रभारी मंत्री ने मीडिया से चर्चा करते हुए कहा कि आने वाले नगर निगम चुनाव में कांग्रेस पार्टी का वर्चस्व रहेगा पूरे प्रदेश भर में अधिक से अधिक निगम और निकाय चुनाव कांग्रेस पार्टी जीतेगी। अगर केंद्र सरकार छत्तीसगढ़ के किसानों के साथ छलावा करते हुए 25 सौ रुपए में धान नहीं खरीदती है तो हमारी छत्तीसगढ़ सरकार अपने वादे के मुताबिक 25 सौ में किसानों का धान खरीदेगी और मुख्यमंत्री के दिशा निर्देश पर डीएमएफ़ फंड का इस्तेमाल अब शिक्षा और स्वास्थ्य के लिए किया जाएगा। इसकी निगरानी के लिए एक निगरानी समिति का भी गठन किया जाएगा। कार्यक्रम के बाद मंत्री चौबे सभी विधायकों के साथ में रायगढ कलेक्ट्रेट की ओर बैठक के लिए रवाना हुए।

18-10-2019
यूपी में युवक की हत्या के विरोध में यादव समाज ने कलेक्टर को सौंपा ज्ञापन

रायगढ़। आज यादव समाज के आधा दर्जन पदाधिकारियों ने रायगढ़ कलेक्ट्रेट पहुंचकर कलेक्टर की व्यस्तता के कारण डिप्टी कलेक्टर को ज्ञापन सौंपा। राष्ट्रपति के नाम ज्ञापन में उन्होंने बताया कि बीते 5 अक्टूबर को झांसी (उत्तरप्रदेश) के एक गांव में एक यादव समाज के 23 वर्षीय नौजवान पुष्पेंद्र यादव की दरोगा धर्मेद्र चौहान ने गोली मारकर हत्या कर दी। वहां के प्रशासन द्वारा दरोगा पर कार्रवाई करने की बजाए नौजवान की हत्या को एनकाउंटर में बदल दिया, जबकि उस  युवक का किसी भी थाने में कोई भी क्रिमिनल रिकॉर्ड नहीं है।  परिवार वालों की बगैर इजाजत के रात को ही नौजवान युवक का अंतिम संस्कार भी कर दिया गया। इस घटना से छत्तीसगढ़ के पूरे यादव समाज में काफी रोष व्याप्त है और पूरा यादव समाज इस पर न्यायिक जांच चाहता है और दोषियों पर कार्रवाई की मांग करता है।

 

23-09-2019
गुरुश्री इंड्रस्टी के खिलाफ ग्रामीण लामबंद, बंद करने की मांग

रायगढ़। आज रायगढ़ कलेक्ट्रेट में ग्राम बिलारी से सैकड़ों की संख्या में ग्रामीण पहुंचे और ज्ञापन सौंपकर जिला प्रशासन से गुरुश्री इंडस्ट्री को बंद करवाने की मांग की। ज्ञापन देने आए ग्रामीणों ने बताया कि वर्ष 2012 से रायगढ़ जिले के ग्राम बिलारी में गुरुश्री इंडस्ट्रीज नाम की कंपनी पैरों वैनेडियम वैनेडियम पेंटोक्साइड अमोनियम एवं सभी प्रकार के फेरोएलॉयज नामक घातक केमिकल बनाती है। इसकी चिमनियों से खतरनाक धुआं निकलता है जो कि  सांसों में समाकर लोगों को बीमार कर रहा है।  फैक्ट्री से निकलने वाली दुर्गंध से भी ग्रामीणों का रहना दुश्वार हो गया है। यही नहीं फैक्ट्री के बाहर छोड़े जाने वाले पानी से पेड़-पौधे भी पूरी तरह जलकर नष्ट हो गए हैं। ग्रामीणों ने बताया कि छत्तीसगढ़ पर्यावरण संरक्षण मंडल रायगढ़ द्वारा 12 जून 2019 को फैक्ट्री बंद करने का आदेश जारी किया था पर अब तक यह फैक्ट्री बेधड़क चल रही है। पर्यावरण विभाग ने कभी यह जानने की कोशिश नहीं की कि वास्तव में फैक्ट्री बंद हुई है या चल रही है। फैक्ट्री प्रबंधन द्वारा ग्राम पंचायत दिलारी में 13-03- 2012 को पारित प्रस्ताव प्रतिलिपि पर्यावरण विभाग में जमा की गई थी जो कि पूर्ण फर्जी है पंचायत सचिव ने स्वयं लिख कर दिया है कि इस किस्म के किसी भी प्रस्ताव का रिकॉर्ड रजिस्टर में दर्ज नहीं है। ग्रामीणों द्वारा बार-बार पर्यावरण विभाग में शिकायत करने के बाद निरीक्षण के लिए एक टीम आई थी पर उस टीम में सही तत्वों का उल्लेख नहीं किया गया और जांच की भी वास्तविकता भी जिला प्रशासन को नहीं बताई गई। जिला प्रशासन की ओर से ज्ञापन डिप्टी कलेक्टर सीमा पात्रे ने ज्ञापन लिया और ग्रामीणों को आश्वासन दिया कि जल्द ही इस मामले में टीम गठित कर जांच करवाकर कार्रवाई की जाएगी।

20-09-2019
छत्तीसगढ़ क्रांति सेना ने मारपीट के विरोध में सौंपा ज्ञापन

रायगढ़। छत्तीसगढ़ क्रांति सेना के दर्जनों कार्यकर्ताओं ने आज रायगढ़ कलेक्ट्रेट पहुंचकर एक ज्ञापन जिला प्रशासन को सौंपा। ज्ञापन में बताया है कि कुछ दिन पहले मोनेट कंपनी में कार्यरत मेघनाथ सिदार के साथ मोनेट कंपनी के ही  अन्य प्रांत के कर्मचारी धर्मेंद्र यादव ने बेरहमी से मारपीट की जिसकी शिकायत उसने मोनेट कंपनी और भूपदेवपुर थाने में की पर आज तक धर्मेंद्र यादव पर कोई कार्रवाई न पुलिस ने की और न ही मोनेट कंपनी ने। उल्टे मोनेट कंपनी ने उसे रायपुर शिफ्ट कर दिया। इधर मेघनाथ सिदार पर दबाव बनाया जा रहा है कि अगर वह रिपोर्ट वापस नहीं लेगा तो उसे झूठे प्रकरण में फंसाकर जेल भेज दिया जाएगा। छत्तीसगढ़ क्रांति सेना ने कहा है कि बाहरी राज्य से आए लोगों द्वारा छत्तीसगढिय़ा भाइयों पर अत्याचार कतई बर्दाश्त नहीं करेगी। अगर इस ओर प्रशासन ध्यान नहीं देगा तो छत्तीसगढ़ क्रांति सेना छत्तीसगढ़ी भाइयों के हितों के लिए सड़क पर उतरकर आंदोलन करेगी। इस संबंध में डिप्टी कलेक्टर सरस्वती बंजारे ने बताया कि छत्तीसगढ़ क्रांति सेना ने मोनेट के एक कर्मचारी के खिलाफ  ज्ञापन दिया है जिस पर जिला प्रशासन जांच करवाएगा और नियमानुसार कार्रवाई की जाएगी।

Advertise, Call Now - +91 76111 07804