GLIBS
19-10-2020
मास्क और सोशल डिस्टेंस की अपील के साथ ही दुर्गा पंडाल परिसर में रोज किया जा रहा सैनिटाइज

भिलाई। महापौर व भिलाई नगर विधायक देवेन्द्र यादव और आयुक्त ऋतुराज रघुवंशी के निर्देशानुदसार नगर पालिक निगम प्रशासन की टीम कोरोना के संक्रमण को रोकथाम के लिए जन जागरूकता अभियान चला रही है। शहर के दुर्गा पांडालों की साफ-सफाई और नियमित रूप से सैनिटाइज किया जा रहा है। दुर्गा पंडाल और धार्मिक स्थल पर श्रद्धालुओं की आवाजाही को ध्यान में रखते हुए निगम प्रशासन ने मानिटरिंग के लिए जोन स्तर पर विशेष टीम बनाई गई है। यह टीम शहर के सभी दुर्गा पंडालों की सफाई व्यवस्था के साथ ही सोडियम हाइपो क्लोराइड के घोल का छिड़काव कर रही है। पूजा स्थल पर माता के दर्शन के दौरान सोशल डिस्टेसिंग का पालन हो रहा है या नहीं इस पर ध्यान रख रही है। वहीं टीम द्वारा श्रद्धालुओं को सोशल डिस्टेसिंग का पालन करते हुए माता का दर्शन करने के लिए कहा जा रहा है। एक-दूसरे से निर्धारित दूरी बनाकर खड़े होने की अपील कर रही है।

सैनिटाइज करने लिए कर्मचारियों की टीम

जोन आयुक्त ने नगर पालिक निगम और जिला प्रशासन से अनुमति प्राप्त धार्मिक स्थल और दुर्गा पंडाल स्थल को सैनिटाइज करने के लिए वार्ड स्तर पर टीम बनाई है। प्रत्येक टीम में पांच कर्मचारी सहित वार्ड प्रभारी उप अभियंता को शामिल किया गया है। कर्मचारी सुबह दुर्गा पंडाल की साफ-सफाई व्यवस्था के साथ ही परिसर को सैनिटाइज कर रहे हैं। वहीं दुर्गा पंडाल पहुंचने वाले श्रद्धालु मास्क पहनकर आ रहे हैं या नहीं इसकी मानिटरिंग कर रही है। श्रद्धालुओं को सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करते हुए माता के दर्शन करने के लिए अपील किया जा रहा है।

 

03-10-2020
श्रीराम सेना ने की दुर्गा पंडालों के लिए जारी निर्देशों को वापस लेने की मांग

धमतरी। कोविड 19 बढ़ते संक्रमण को देखते हुए नवरात्रि पर्व को लेकर शासन द्वारा जारी किए गाइडलाइन को लेकर विरोध शुरू हो गया है। श्रीराम हिंदू संगठन ने इसे हिंदू विरोधी निर्देश बताते हुए तत्काल प्रभाव से निरस्त करने की बात कही है। श्रीराम हिंदू संगठन का कहना है कि इससे धार्मिक आस्था को क्षति पहुंच रही है ऐसे में इस दिशा निर्देश को परिवर्तन कर दुर्गा पंडाल पूर्व की भांति छूट दिया जाना चाहिए। इसके साथ ही इस दौरान जिले की सभी मदिरा दुकानें भी पूर्ण रूप से बंद करने की मांग सदस्यों ने की है।बता दें कि आगामी 17 अक्टूबर से दुर्गा नवरात्र उत्सव शुरू हो रहा है। वर्तमान में वैश्विक स्तर पर फैले कोरोना वायरस के संक्रमण की रोकथाम के लिए अनेक प्रयास किए जा रहे है। इसी के तहत कलेक्टर एवं जिला दण्डाधिकारी जयप्रकाश मौर्य ने कोविड-19 के संक्रमण के फैलाव एवं रोकथाम को ध्यान में रख नवरात्र पर्व के संबंध में आवश्यक दिशा-निर्देश जारी किए है। इस आदेश के तहत मूर्ति की ऊंचाई एवं चौड़ाई 6×5 फीट से अधिक नहीं होगी। वही मूर्ति स्थापना वाले पंडाल का आकार 15×15 फीट से अधिक नही बनाया जा सकेगा।

इसी तरह किसी भी एक समय में मंडप एवं सामने मिलाकर 20 व्यक्ति होने की निर्देश दिए गए है। साथ ही पंडालों में चार सीसीटीवी कैमरा लगाने के निर्देश दिए गए है। मूर्ति स्थापना के दौरान, विसर्जन के समय अथवा विसर्जन के बाद किसी भी प्रकार के भोज,भंडारा, जगराता अथवा सांस्कृतिक कार्यक्रम करने की भी अनुमति नहीं दी गई है।इस मामले में श्रीराम हिन्दू संगठन का कहना है कि शासन के इस आदेश के तहत कोई भी समिति नवरात्रि में मूर्ति स्थापना नही कर सकती है क्योंकि जो आदेश दिए गए है उससे कई सारी अड़चने होगी। पंडाल छोटा बड़ा करने से कोरोना संक्रमण का कोई लेना देना नहीं है। पंडालों में 4 सीसीटीवी कैमरा लगाया जाना संभव नही है। साथ ही इससे कई रोजगार प्रभावित भी होंगे, जिनमें किराया भंडार,साउंड सहित अन्य कार्य प्रभावित होंगे।श्रीराम हिन्दू संगठन के सदस्यों ने हिंदू आस्था को ध्यान में रखते हुए आदेश निरस्त करने की मांग जिला प्रशासन से की है। ज्ञापन देने वालों में प्रमुख रूप से मोनू साहू,प्रतीक सोनी सहित अन्य सदस्य उपस्थित थे।

 

20-09-2019
कसौटी पर सबसे अच्छा दुर्गा पंडाल,

कोरिया। नगर पालिक निगम चिरमिरी द्वारा आमजन में स्वच्छता के प्रति जागरूकता के तहत कसौटी पर सर्वश्रेष्ठ दुर्गा पंडाल को चिरमिरी स्टार्स में शामिल कर "स्वच्छ सर्वेक्षण 2020" स्वच्छता प्रतियोगिता का आयोजन कर प्रथम, द्वितीय एवं तृतीय पुरस्कार दिया जाएगा, इन्हें निगम प्रशासन द्वारा सम्मानित किया जावेगा। बता दें कि "स्वच्छ सर्वेक्षण 2020" स्वच्छता प्रतियोगिता के तहत दुर्गा पूजा के दौरान स्वच्छता का ध्यान रखना अति आवश्यक है। इसके लिए दुर्गा पूजा आयोजन समिति को उनके द्वारा तैयार दुर्गा पंडाल में स्वच्छता का खास ख्याल रखना होगा। निगम प्रशासन ने इसके लिए खास बिंदुओं को शामिल कर एक नियमावली भी तैयार की हैं जिसमें…..

1-दुर्गा पंडाल में स्थापित की गयी दुर्गा की प्रतिमा किस चीज की बनी हुई है।
2-पंडाल मे सजावट हेतु उपयोग की गयी सामग्री कागज/कपड़े की है अथवा प्लास्टिक की।
3-क्या दुर्गा पंडाल में गीले व सूखे कचरे के लिए अलग-अलग डस्टबिन की व्यवस्था की गयी है।
4-क्या पंडाल में स्वच्छता संदेश प्रदर्शित किए जाने हेतु किसी तरह के संदेश का प्रदर्शित किया गया है।
5-दुर्गा पंडाल में प्रसाद/भंडारे में उपयोग होने के बाद बचे हुए सामग्रियों/अपशिष्ट का सही तरीके से निष्पादन किया जा रहा है?
6-दर्शनार्थियों के पानी, प्रसाद आदि के लिए कागज/दोने आदि का इस्तेमाल किया जा रहा है या प्लास्टिक का?
7-पंडाल के आस-पास स्वच्छता का ध्यान रखा गया है अथवा नही।
8-स्वच्छता के प्रति जागरूकता हेतु समिति प्रबंधन द्वारा कोई नवाचार किया गया है।
उल्लेखनीय है कि चिरमिरी को स्वच्छ व सुन्दर चिरमिरी बनाए जाने हेतु आमजन में स्वच्छता के प्रति जागरूकता के तहत कसौटी पर सबसे अच्छा दुर्गा पंडाल "स्वच्छ सर्वेक्षण 2020" स्वच्छता प्रतियोगिता का आयोजन "चिरमिरी स्टार्स" के रूप में किया जा रहा हैं। इसके लिए निगम आयुक्त सुमन राज ने स्वच्छता के इस जन जागरण अभियान को सफल बनाने लोगों से अपील की है।

Advertise, Call Now - +91 76111 07804