GLIBS
24-05-2020
आगरा से लौटा था कोरोना संक्रमित,स्वास्थ्य और जिला प्रशासन सचेत

मुंगेली। जिला मुख्यालय से 6 किलोमीटर दूर  बाघामुडा में एक और कोरोना पॉजिटिव संक्रमित मिला। संक्रमित व्यक्ति 16 मई को आगरा से आया था। गांव के ही क्वारेंटाइन सेंटर में रह रहा था। स्वास्थ्य विभाग और जिला प्रशासन के अधिकारी कर्मचारी बाघामुडा के लिए रवाना हो गए हैं। अब जिले में कुल संक्रमितों की संख्या 13 हो गई है। कलेक्टर डॉ.एसएन भुरे ने मामले की पुष्टि की है। स्वास्थ्य अमला और जिला प्रशासन अलर्ट हो गया है। प्रशासन ने लोगों से लॉक डाउन के नियमों का पालन करने की अपील की।

 

20-05-2020
महिला के साथ छेड़छाड़ करने वाला आरोपी पुलिस की गिरफ्त में

बेमेतरा। जिला मुख्यालय से 15 किलोमीटर दूर ग्राम बहेरघट में बकरिया चराने गई महिला के साथ छेड़छाड़ करने वाले आरोपी को पुलिस ने गिरफ्तार किया। जानकारी अनुसार प्रार्थीया ने थाना सिटी कोतवाली बेमेतरा में लिखित आवेदन पेश कर रिपोर्ट दर्ज कराई कि सोमवार को बकरी चराने खेत तरफ गई थी। उसी समय गांव के बुधारू यादव उम्र 45 वर्ष के द्वारा प्रार्थीया को बेइज्जती करने के नियत से छेड़छाड़ की।  रिपोर्ट पर धारा 354 भादवि कायम कर विवेचना में लिया गया। थाना प्रभारी सिटी कोतवाली एवं थाना स्टाफ द्वारा तत्काल कार्यवाही करते हुए आरोपी पतासाजी विवेचना के दौरान मंगलवार को आरोपी बुधारू यादव को पकडा। आरोपी को गिरफ्तार कर न्यायालय बेमेतरा में पेश किया गया। 

14-05-2020
अंग्रेजी माध्यम में पढ़ाई के लिए शाला चिन्हांकित, सुधार कार्यों के लिए अधिकारियों को सौंपा गया दायित्व

कोरिया। जिला मुख्यालय बैकुण्ठपुर में अंग्रेजी माध्यम के उत्कृष्ट शाला की स्थापना के लिए शा.उ.मा.वि. महलपारा, बैकुण्ठपुर का चिन्हांकन किया गया है। इसे शैक्षणिक सत्र 2020-21 से कक्षा पहली से 12 वीं तक प्रारंभ किये जाने के निर्देश हैं।  
चिन्हांकित शाला में शाला भवन व परिसर में सुधार, रंग-रोगन, कक्षा में कमरों व छत की मरम्मत, शौचालय एवं मूत्रालय का निर्माण व मरम्मत, पेयजल आदि कार्य व आवश्यक संसाधनों की तैयारी 30 मई 2020 तक पूर्ण किया जाना है। साथ ही शिक्षकों की व्यवस्था कक्षावार प्रवेश के लिए सर्वे कर विद्यार्थियों का चिन्हांकन का कार्य समय-सीमा में पूर्ण किया जाना आवश्यक है। इसके लिए समस्त कार्यों को समन्वय कर समय पूर्व पूर्ण कराने के लिए दल गठित कर अधिकारियों एवं कर्मचारियों को दायित्व सौंपा गया है।इसके तहत सहायक संचालक अगस्टिना खलखो, कार्यालय जिला शिक्षा अधिकारी को नोडल अधिकारी बनाया गया है। सहायक परियोजना अधिकारी जयनाथ बाजपेयी, कार्यालय जिला शिक्षा अधिकारी को सहायक नियुक्त किया गया है। इसी तरह विकास खण्ड शिक्षा शिक्षा अधिकारी  देवेश जायसवाल, कार्यालय विकासखण्ड शिक्षा अधिकारी एवं सहायक शिक्षक नगरीय निकाय शशि भूषण पाण्डेय को सहायक नियुक्त किया गया है।  

 

13-05-2020
21 मई से राजीव गांधी किसान न्याय योजना का शुभारंभ, उत्कृष्ट स्कूलों का संचालन, पढ़िए भूपेश कैबिनेट के फैसले..

रायपुर। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल की अध्यक्षता में बुधवार को उनके निवास कार्यालय में मंत्रिपरिषद की बैठक हुई। बैठक में कई महत्वपूर्ण निर्णय लिए गए।

-राज्य में फसल उत्पादन को प्रोत्साहित करने और कृषि आदान सहायता के लिए राजीव गांधी किसान न्याय योजना प्रारंभ करने का अनुमोदन किया गया। इस योजना का शुभारंभ आगामी 21 मई को पूर्व प्रधानमंत्री स्व. राजीव गांधी की पुण्यतिथि से किया जाएगा। खरीफ 2019 में पंजीकृत एवं उपार्जित रकबे के आधार पर धान, मक्का एवं गन्ना (रबी) फसल के लिए 10 हजार प्रति एकड़ की दर से डीबीटी के माध्यम से किसानों को आदान सहायता अनुदान की राशि उनके खातों में हस्तांतरित की जाएगी।

- खरीफ 2020 से आगामी वर्षों के लिए धान, मक्का, गन्ना, दलहन-तिलहन फसल के पंजीकृत /अधिसूचित रकबे के आधार पर निर्धारित राशि प्रति एकड़ की दर से किसानों को कृषि आदान सहायता अनुदान दिया जाएगा। अनुदान लेने वाला किसान यदि गत वर्ष धान की फसल लगाया था और इस साल धान के स्थान पर योजना के तहत शामिल अन्य फसल लगाता है तो उस स्थिति में किसानों को प्रति एकड़ अतिरिक्त सहायता अनुदान देने का निर्णय लिया गया।

- उत्कृष्ठ हिन्दी और अंग्रेजी माध्यम के शालाओं का संचालन पंजीकृत सोसायटी के माध्यम से करने का निर्णय लिया है। उत्कृष्ट शालाएं सभी जिला मुख्यालय, नगर पालिका और नगर निगम क्षेत्र में न्यूनतम एक-एक होगी। लगभग 40 उत्कृष्ट  शालाएं प्रारंभ की जाएंगी। विकासखंड मुख्यालयों में 10वीं के बाद 11वीं और 12वीं की पढ़ाई के साथ-साथ विद्यार्थियों के लिए आईटीआई का रोजगारपरक सर्टिफिकेट कोर्स आरंभ करने का निर्णय लिया गया।

- औद्योगिक नीति 2019-24 में के तहत छत्तीसगढ़ राज्य में बायो-एथेनाल उत्पाद इकाईयों की स्थापना के लिए विशेष प्रोत्साहन पैकेज का अनुमोदन किया गया।

- छत्तीसगढ़ राज्य के लिए पिछड़ा वर्ग की समेकित सूची अधिसूचित करने का निर्णय लिया गया।
- खरीफ विपणन वर्ष 2019-20 में समर्थन मूल्य पर उपार्जित धान के निराकरण के लिए गठित राज्य स्तरीय समिति की ओर से प्रस्तुत सुझावों पर विचार-विमर्श किया गया।

- छत्तीसगढ़ खाद्य सुरक्षा अधिनियम के कार्डो पर चना/चना दाल वितरण का अनुमोदन किया गया।

- राज्य में कोविड-19 संक्रमण की रोकथाम के उपायों के तहत चने का उपार्जन तत्काल किए जाने की आवश्यकता को देखते हुए माह अप्रैल से जून 2020 तक आवश्यक चने का उपार्जन नाफेड की ओर से प्रस्तावित दरों पर किए जाने का अनुमोदन किया गया।

- सार्वजनिक वितरण प्रणाली के तहत हितग्राहियों को एक माह से अधिक का खाद्यान्न वितरण एक साथ करने का अनुमोदन किया गया।

- खरीफ विपणन वर्ष 2019-20 के लिए धान उठाव के लिए लोडिंग एवं अनलोडिंग दर पृथक से स्वीकृत करने का अनुमोदन किया गया।

- कोरोना वायरस (कोविड-19) से बचाव के उपायों के तहत छग राज्य में संपूर्ण लॉकडाउन के फलस्वरूप यात्री वाहनों, माल वाहनों, स्कूल व सिटी बसों और प्राईवेट सेवायान बसों के देय मासिक/त्रैमासिक कर में आंशिक छूट के साथ जमा करने की छूट अवधि को 30 जून तक बढ़ाने और बसों के दो माह और ट्रकों के एक माह के टैक्स की राशि माफ करने का निर्णय लिया गया।

- नजूल के स्थायी पट्टों की भूमि को फ्री-होल्ड किए जाने का शर्तों सहित अनुमोदन किया गया।
बोधघाट बहुउद्देशीय परियोजना के सर्वेक्षण इन्वेस्टिगेशन और डीपीआर तैयार करने के प्रस्ताव का अनुमोदन किया गया।

- छत्तीसगढ़ राज्य में कोविड-19 महामारी को दृष्टिगत रखते हुए देशी और विदेशी मदिरा के विक्रय पर विशेष कोरोना शुल्क अधिरोपित करने का निर्णय लिया गया। इसके तहत देशी मदिरा पर 10 रुपए प्रति बोतल और समस्त प्रकार की विदेशी मदिरा (स्प्रिट/माल्ट) के फुटकर विक्रय दर की 10 प्रतिशत की दर से विशेष कोरोना शुल्क अधिरोपित किया जाएगा।

-छत्तीसगढ़ सरकार सभी शहरी परिवारों को दो कमरों का पक्का आवास दिलवाने के लिए प्रतिबद्ध है। इसी कड़ी में मोर जमीन-मोर मकान योजना के तहत 40 हजार अतिरिक्त आवास बनाने का निर्णय लिया गया। इसके साथ ही मोर आवास-मोर चिन्हारी योजना के तहत अब किराएदारों को भी समाहित करते हुए न्यूनतम दर पर आवास उपलब्ध कराने का निर्णय लिया गया।

- प्रदेश के विभिन्न नगरीय निकायों में स्वयं की निधि अथवा अन्य किसी भी मद से शासकीय भूमि पर निर्मित दुकानों के आबंटन के लिए एक बार में एकमुश्त निबटान का निर्णय लिया गया। जिस शासकीय भूमि पर दुकान निर्मित है उस भूमि का आबंटन के लिए आयुक्त/मुख्य नगर पालिका अधिकारी की ओर से मांग किए जाने पर एक रुपए प्रति वर्गफूट की दर पर कलेक्टर द्वारा आबंटित की जाएगी।
 
बैठक में दी गई अन्य प्रशासकीय निर्णय

लॉक डाउन की वर्तमान परिस्थितियों को देखते हुए प्रदेश के सामान्य परिवारों एपीएल को भी रिफाइन्ड आयोडाईज्ड नमक सार्वजनिक वितरण प्रणाली के तहत वितरित करने का निर्णय लिया गया। एपीएल राशनकार्ड पर 10 रुपए प्रति किलो की दर से अधिकतम दो किलों नमक प्रति राशनकार्ड प्रति माह एक जून से प्रदान किया जाएगा। इस योजना को लागू करने से राज्य के लगभग 9.04 लाख परिवार लाभांवित होंगे। छत्तीसगढ़ सरकार की ओर से वर्तमान में सार्वजनिक वितरण प्रणाली के तहत राज्य के 56 लाख राशनकार्डधारकों को पात्रतानुसार रिफाइन्ड आयोडाईज्ड नमक का नि:शुल्क वितरण किया जा रहा है। राज्य सरकार की ओर से जमीनों की खरीदी-बिक्री की शासकीय गाइडलाईन की दरों में 30 प्रतिशत की छूट, जो 30 जून 2020 तक दी गई थी, जिसे अब पूरे वर्ष के लिए बढ़ा दिया गया है।

 

05-05-2020
कोरोना वायरस: आपात स्थिति में चुनौतियों का सामना करने किया गया माॅकड्रिल

मुंगेली। नोवेल कोरोना वायरस (कोविड-19) केे संक्रमण के मद्देनजर आपात स्थिति में चुनौतियों का सामना करने में हम कितने सक्षम है, इसे देखते हुए जिला प्रशासन मुंगेली  द्वारा कठोर अनुशासनात्मक रूप से मंगलवार को माॅकड्रिल किया गया। माॅकड्रिल जिला मुख्यालय स्थित नगर पालिका परिषद मुंगेली के वार्ड क्रमांक 12 ठक्कर बापा वार्ड नवापारा में प्रातः 11 बजे से गोपनीय रूप से किया गया। वार्ड क्रमांक 12 के एक व्यक्ति का आरडी टेस्ट में काल्पनिक कोरोना पाॅजिटिव के आधार पर कोरोना फाइटर्स टीम से जुडे़ आधिकारी-कर्मचारियों ने तत्परता पूर्वक कार्यवाही करते हुए उस व्यक्ति को स्वास्थ्य विभाग एवं पुलिस विभाग के विशेष सुरक्षा घेरे मे लेकर डेडिकेटेड संजीवनी 108 एम्बुलेंस द्वारा कोविड-19 हाॅस्पिटल (एक्सक्यूलसिव ट्रीटमेंट केयर हाॅस्पिटल- ETCH) रवाना किया गया। जिला पंचायत के मुख्यकार्य पालन अधिकारी नुपूर राशि पन्ना ने बताया कि कोविड-19 के संक्रमण से बचाव एवं रोकथाम के लिए जिला प्रशासन कितना संजीदा, सतर्क व सचेत है, इसकी जमीनी हकीकत का पता लगाने के लिए आज माॅकड्रिल किया गया। 

 

25-04-2020
कोटा से आने वाले बच्चों को रखा जाएगा क्वारेंटाइन सेंटर में,छात्रावास भवन को बनाया गया सेंटर

कांकेर। जिला मुख्यालय कांकेर के शासकीय कन्या उच्चतर माध्यमिक विद्यालय परिसर में स्थित छात्रावास और ईमलीपारा में नवनिर्मित छात्रावास भवन को राजस्थान के कोटा से आने वाले बस्तर संभाग के 163 विद्यार्थियों के लिए क्वारेंटाइन सेंटर बनाया गया है। कोटा से आने वाले 88 बालिकाओं को कन्या उच्चतर माध्यमिक विद्यालय परिसर के छात्रावास में और 75 बालकों को ईमलीपारा में नवनिर्मित छात्रावास भवन में रखा जाएगा,जिसमें अन्य व्यक्तियों के आने-जाने पर मनाही होगी।विधायक कांकेर शिशुपाल शोरी, मुख्यमंत्री के संसदीय सलाहकार राजेश तिवारी, कलेक्टर केएल चौहान, पुलिस अधीक्षक एमआर अहीरे, आदिवासी विकास विभाग के उपायुक्त विवेक दलेला, नगर पालिका परिषद के पूर्व अध्यक्ष जितेन्द्र सिंह ठाकुर और चमन साहू ने उक्त दोनों परिसर का निरीक्षण किया एवं छात्र-छात्राओं के लिए समुचित व्यवस्था करने के निर्देश विभागीय अधिकारियों को दिये। उनके द्वारा बीएड कॉलेज के लिए पुराने बीटीआई भवन और छात्रावास का भी निरीक्षण किया गया। बीटीआई भवन में संचालित छात्रावास के बच्चों को डाइट के पास स्थित बीटीआई के पुराने छात्रावास भवन में शिफ्ट करने के लिए आदिवासी विभाग के उपायुक्त को निर्देशित किया गया।

 

24-04-2020
कलेक्टर ने होटलों का किया निरीक्षण क्वारेंटाइन सेंटर के लिए जिला मुख्यालय के तीन हॉटल चिन्हांकित

कांकेर। नोवल कोरोना वायरस के संक्रमण से बचाव एवं नियंत्रण के लिए आपात स्थिति में क्वारेंटाइन सेंटर बनाने के लिए जिला मुख्यालय कांकेर के तीन हॉटल-बाफना लॉन, होटल आनंदम और ग्रीनपॉम को चिन्हांकित किया गया है। जिले के कलेक्टर केएल चौहान ने शुक्रवार को मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. जेएल उईके, सिविल सर्जन डॉ. आरसी ठाकुर और डीपीएम डॉ.निशा मौर्य के साथ उक्त तीनों स्थलों का निरीक्षण कर सुविधाओं की जानकारी ली, तीनों होटलों में पर्याप्त मात्रा में कमरा और संपूर्ण सुविधायें उपलब्ध हैं। कलेक्टर ने सभी होटलों को स्वच्छ रखने के लिए होटल संचालकों को निर्देशित किया है।कलेक्टर चौहान ने स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों के साथ जंगलवार कॉलेज स्थित अस्पताल और अलबेलापारा स्थित मॉडल कॉलेज में बनाये गये ‘कोविड-19’ अस्पताल का भी आकस्मिक निरीक्षण किया और अब तक की व्यवस्थाओं की जानकारी ली एवं अधिकारियों को आवश्यक दिशा निर्देश दिए।

 

23-04-2020
सायकल रैली निकालकर पुलिस ने जनता से की निर्देशों का पालन करने की अपील

बेमेतरा। जिला मुख्यालय में बुधवार की शाम कोरोना वायरस के संक्रमण को लेकर बेमेतरा पुलिस ने शहर में सायकल रैली निकालते हुए शासन के निर्देशों का कड़ाई से पालन करने नागरिकों से अपील की। पुलिस अधीक्षक दिव्यांग कुमार पटेल के निर्देशन में अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक विमल कुमार बैस के नेतृत्व में एसडीओपी बेमेतरा राजीव शर्मा, एसडीएम बेरला दुर्गेश वर्मा, प्रशिक्षु उप. पुलिस अधीक्षक तोमेश वर्मा व थाना सिटी कोतवाली प्रभारी निरीक्षक राजेश मिश्रा, यातायात प्रभारी सउनि संतोष ध्रुर्वे एवं थाना सिटी कोतवाली स्टॉफ के द्वारा सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करते हुए कोरोना वायरस के संक्रमण को लेकर कोबिया चौक से पुराना बस स्डैण्ड, प्रताप चौक, नया बस स्टैण्ड, सदर बाजार, बाजारपारा, माता शीतला मंदिर सिंघौरी, गस्ती चौक होते हुए वापस कोबिया चौक में सायकल रैली का समापन हुआ।

पुलिस ने नोवल कोरोना वायरस से बचने के लिए सतर्कता बरतने की अपील करते हुए नागरिकों से कहा कि कोरोना वायरस विश्व में एक गंभीर बीमारी के रुप में उभर कर सामने आया है, इसलिए हमें कोरोना वायरस से सतर्क रहने के साथ-साथ अफवाहों से भी बचना है। रैली के दौरान पुलिस ने लोगों को अनावश्यक रूप से घरों से नहीं निकलने, भीड़-भाड़ वाले जगहों में जाने से बचने, समय-समय पर साबुन से हाथ धोने व सैनेटाइजर का इस्तेमाल करने, आवश्यक होने पर केवल एक ही व्यक्ति घर से मास्क लगाकर निकले व सोशल डिस्टेंसिंग में रहे तथा शासन के निर्देशों व लॉक डाउन का पूरी तरह पालन करने नागरिकों से अपील की।

16-04-2020
मॉक ड्रिल के लिए 2 वार्डों को पूरी तरीके से किया जाएगा लॉक डाउन

कोरिया। कलेक्टर डोमन सिंह ने जिले में कोरोना वायरस के चलते यदि किसी क्षेत्र को सील करना पड़े तो उसके पहले ही पूर्वाभ्यास कर लेने के निर्देश दिए हैं। ताकि किसी भी प्रकार की समस्या का सामना लोगों को ना करना पड़े। इस निर्देश के परिपालन के लिए गुरुवार को जिला मुख्यालय बैकुण्ठपुर में मॉक ड्रिल किया जाएगा। इस मॉक ड्रिल के तहत जिला मुख्यालय बैकुण्ठपुर के वार्ड नंबर 10 और वार्ड नंबर 14 डबरी पारा मोहल्ला को पूरी तरीके से लॉक डाउन किया जाएगा। इस संबंध में आज सुबह 10 बजे से रात 10 बजे तक मॉक ड्रिल किया जाएगा। इन क्षेत्रों में मॉक ड्रिल के लिए व्यापक प्रचार प्रसार किया गया है। प्रत्येक घरों में पंपलेट भी बांटे गये हैं। यदि लोगों को आवश्यक सामग्री जैसे राशन, दवाई, सब्जी, दूध आदि की आवश्यकता हो तो एसडीएम कार्यालय के कंट्रोल रूम में संपर्क कर सकते हैं।

कंट्रोल रूम के प्रभारी अधिकारी का दायित्व जनपद पंचायत बैकुंठपुर के मुख्य कार्यपालन अधिकारी चंद्रशेखर शर्मा को सौंपा गया हैं, जिनका मोबाइल नंबर 9399969869 है। अपर कलेक्टर सुखनाथ अहिरवार ने पुलिस टीम के साथ बैरिकेड, स्टॉपर सहित अन्य सभी स्थलों का एवं पूरे वार्ड का अवलोकन कर लिया है। ग्राम सलका की ओर से आने वाली गाड़ियों को महल पारा रोड में डाइवर्ट करते हुए घड़ी चैक से मेन रोड तक भेजा जाएगा। गाड़ियां केवल आवश्यक वस्तुओं के परिवहन से संबंधित होनी चाहिए। मॉक ड्रिल के दौरान डोर-टू-डोर सर्वे किया जाएगा। आवश्यक वस्तुओं को घर तक पहुंचाया जाएगा। दोनों वार्डों को सेनीटाइज किया जाएगा। दोनों ही वार्डों के लिए कार्यपालक दंडाधिकारी को दायित्व भी सौंपा गया है। वार्ड नंबर 10 के लिए कार्यपालक दंडाधिकारी बैकुंठपुर के तहसीलदार तथा वार्ड क्रमांक 14 के लिए कार्यपालक दंडाधिकारी नायब तहसीलदार होंगे।

13-04-2020
सुभियामुड़पार के ग्रामीणों ने बाहरी व्यापारियों के प्रवेश पर रोक लगाने की मांग

कांकेर। जिला मुख्यालय के ग्राम सुभियामुड़पार के ग्रामीणों ने बाहर से आने जाने वाले व्यापारी के प्रवेश पर रोक लगाने के लिए थाना प्रभारी को ज्ञापन सौंपा है। उनका कहना है कि एक ओर जहाँ पूरे देश में लॉक डाउन के चलते बाहर से आने जाने वालों पर प्रशासन सख्त है वहीं ग्रामीण क्षेत्रों में बाहर से कुछ व्यक्ति आकर सामान बेच रहे हैं। ग्राम सुभियामुड़पार में किराना सामान बेचने वाले बाहरी व्यापारियों का आना जाना पिछले कुछ दिनों से लगा हुआ है। व्यापारी 8 से 10 ग्राम से घूम कर आ रहे हैं। वर्तमान में कोरोना महामारी के चलते संक्रमण का खतरा बना हुआ है,जिससे ग्रामीण भयभीत हैं। मना करने के बावजूद व्यापारी लगातार आ रहे है। इससे परेशान ग्रामीणों ने थाना प्रभारी को शिकायत करते हुए उचित कदम उठाते हुए इस समस्या से निजाद दिलाने के लिए आवेदन सौंपा है।

 

10-04-2020
आकाशीय बिजली गिरने से 6 मवेशियों की मौत, मुआवजे के निर्देश

नारायणपुर। जिला मुख्यालय से तकरीबन 12 किलोमीटर दूरी पर स्थित गाँव भरंडा में कल रात आकाशीय बिजली (गाज ) गिरने से दो किसानों के 6 मवेशियों की मृत्यु हो गई। कलेक्टर पीएस एल्मा ने जानकारी मिलते ही प्रकरण बना कर तुरंत मुआवजा देने के निर्देश दिए। तहसीलदार आशुतोष शर्मा ने गाँव में पटवारी को प्रतिवेदन तैयार करने भेजा है। शर्मा ने बताया कि गाज गिरने से मरे पशुओं में चार बैल और दो बछड़े है। ये गाँव के दो किसानो मंगतू और मंगडू के थे। गाँव वालों ने बताया कि गुरुवार रात को तेज आवाज के साथ गिरी आकाशीय बिजली के बाद पूरे गांव में उजाला हो गया था। कुछ ही मिनट बाद देखा तो 6 मवेशियों की मौत हो गई थी।

21-03-2020
दंतैल हाथियों ने वृद्ध को उतारा मौत के घाट, गांव में अफरा तफरी का माहौल

कोरबा। केंदई वन परिक्षेत्र के ग्राम बनिया में रात को दो हाथियों ने जम कर उत्पात मचाया। बस्ती में घुस आए हाथियों में एक दंतैल हाथी ने एक बुजुर्ग को  पैर से रौंद दिया। घटना स्थल पर ही उसकी दर्दनाक मौत हो गई। जिला मुख्यालय से लगभग 70 किमी दूर ग्राम बनिया में रात लगभग 9 बजे जंगल मे विचरण कर रहे दो हाथी आ धमके। बस्ती के अंदर हाथियों के घुस आने से ग्रामीणों के बीच अफरा तफरी मच गई और सभी जान बचाकर भागने लगे। एक कच्चे मकान को तोड़ कर हाथी ने रामसिंह उम्र 60 वर्ष को अपनी चपेट में ले लिया। बताया जा रहा है की वह भाग नही सका और उसे हाथी ने कुचल दिया। इस घटना के बाद  हाथी गांव के एक मकान के आगे जमे रहे। इस वजह से एक वृद्ध महिला व दो बच्चे घर के अंदर फंसे रहे। ग्रामीणों ने हाथियों को खदेड़ने मसाल जलाए, टॉर्च की रौशनी भी दिखाई पर कामयाब नही हुए। वन विभाग को इसकी सूचना दी गई है पर समय पर वन विभाग के कोई भी अधिकारी कर्मचारी उपस्थित नही हैं।

Advertise, Call Now - +91 76111 07804