GLIBS
07-12-2019
Breaking : राजीव भवन में नगरीय निकाय चुनाव के संबंध में बैठक जारी, प्रत्याशी मौजूद

रायपुर। राजीव भवन में नगर निगम के प्रत्याशियों के साथ बैठक हो रही है। बैठक प्रभारी मंत्री रविंद्र चौबे ले रहे हैं। बैठक में विधायक सत्यनारायण शर्मा, कुलदीप जुनेजा, विकास उपाध्याय मौजूद है। साथ ही प्रदेश पदाधिकारी, शहर के वरिष्ठ  कांग्रेस नेता सहित रायपुर नगर निगम के लिए घोषित पार्षद प्रत्याशी मौजूद हैं। 70 वार्डों के पार्षद प्रत्याशी का इंट्रोडक्शन और मार्गदर्शन कार्यक्रम रखा गया है। रायपुर शहर के नगरी निकाय चुनाव के संबंध में इस बैठक में बड़ी संख्या में  कांग्रेसी उपस्थित हैं।  कांग्रेस के वार्ड व ब्लॉक अध्यक्ष भी बैठक में मौजूद है। 

07-12-2019
टिकट कटने से नाराज दावेदार ने प्रत्याशी के खिलाफ किया खुलासा

रायपुर। दुर्ग के वार्ड क्रमांक 20 से नाम फाइनल होने के बाद टिकट कटने से नाराज दावेदार शनिवार को अपने परिवार व मोहल्लेवासियों के साथ यहां राजीव भवन पहुंचा। दावेदार का कहना है कि वार्ड से उसका नाम फाइनल हो चुका था, विधायक अरूण वोरा ने स्वयं इसकी जानकारी दी और वार्ड में काम शुरू करने कहा था। सुबह पता चला कि दूसरे को टिकट दिया गया। दावेदार ने कांग्रेस की ओर से घोषित पार्षद प्रत्याशी के द्वारा सोशल मीडिया में जारी किए गए कुछ पोस्ट की कॉपी पीसीसी प्रभारी महामंत्री गिरीश देवांगन को सौंपी है।  दावेदार का आरोप है कि घोषित प्रत्याशी ने पार्टी के खिलाफ पोस्ट किया और अन्य अश्लील पोस्ट जारी करता रहा है, ऐसे में उसका नाम फाइनल होना सरासर अन्याय है। 

दुर्ग जिले के वार्ड क्रमांक 20 से दावेदारी करने वाले हरीश कुमार साहू ने चर्चा के दौरान कहा कि विधायक अरूण वोरा के द्वारा फोन पर सूचना दी गई थी कि टिकट फाइनल हो गया है वार्ड में काम चालू कर दो। अचानक अमित देवांगन का नाम सामने आया जो सरासर अन्याय है। अमित देवांगन वार्ड नंबर 21 का निवासी है और उसको वार्ड नंबर 20 से टिकट दिया गया है। अमित देवांगन के लिए हमारे मोहल्ले, वार्ड में विरोध है। सभी चाहते हैं कि बाहरी वार्ड से कोई हमारे वार्ड में चुनाव नहीं लड़े।  हम चाहते हैं कि स्थानीय निवासी को टिकट दिया जाए। हरीश ने स्वयं कबूल किया है कि छात्र राजनीति में अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद से काम किया है लेकिन 2015 में कांग्रेस की सदस्यता लेकर कांग्रेस की विचारधारा के साथ चला।  पूर्व में दूसरे संगठन से राजनीतिक गतिविधियों में सक्रिय रहने से यदि टिकट काटा गया तो यह गलत है जबकि सभी जानते हैं कि मैंने कांग्रेस प्रवेश के बाद पार्टी की विचारधारा और समर्पण के साथ कार्य किया।हरीश का कहना है कि कांग्रेस की विचारधारा अच्छी लगी और कांग्रेस प्रवेश किया तो इसमें गलत क्या है। हरीश ने अमित देवांगन के खिलाफ पोस्टर दिखाकर कहा कि यह बहुत गंभीर बात है कि जिसने पार्टी के दिग्गजों के खिलाफ पोस्ट डाला और अन्य अश्लील पोस्ट डाला उस पर कार्रवाई होनी चाहिए । फिलहाल हमने बात पीसीसी के प्रभारी महामंत्री गिरीश देवांगन के समक्ष अपनी बात रखी है। मुझे उम्मीद है कि मेरे साथ न्याया होगा और टिकट मिलेगा। 

हरीश साहू की पत्नी किरण साहू का कहना है कि हमारे वार्ड में कोई बाहर से आकर चुनाव लड़े ये हम नहीं चाहते।  जिसने पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह, सोनिया गांधी की पोस्ट डाली है।  ऐसे अश्लील पोस्ट डाली है और उन्हें टिकट दिया जा रहा है, यह कहां का न्याय है।  इसकी शिकायत राष्ट्रीय स्तर पर राहुल गांधी से की जाएगी।  प्रदेश स्तर पर बड़े पदाधिकारियों से मुलाकात कर शिकायत की जाएगी और  पीएल पुनिया से भी मुलाकात कर शिकायत की जाएगी। 
इस संबंध में पीसीसी के प्रभारी महामंत्री गिरीश देवांगन का कहना है कि प्रदेश चुनाव समिति की बैठक में उस समय जो परिस्थितियां रहती है उसको लेकर निर्णय किए जाते हैं और कुछ बातों की जानकारी बाद में आती है। कुछ  उम्मीदवारों के बारे में जो जानकारियां आ रही है उसे एकत्र कर रहे हैं। अभी मुख्यमंत्री भूपेश बघेल और प्रदेश अध्यक्ष मोहन मरकाम बाहर हैं, जैसे ही लौटेंगे इनकी बातें उनके समक्ष रखी जाएगी। प्रदेश प्रभारी पीएल पुनिया के निर्देश पर निर्णय लिया जाएगा। विभिन्न जानकारियां जब उम्मीदवार घोषित होता है, इसके बाद ही फीडबैक या अन्य माध्यमों से प्राप्त होती है। जो घोषित होने से पहले पता नहीं चलती है। जो बात सामने आई है और यदि इस प्रकार की कोई गंभीर जानकारी प्रत्याशी जो चयनित हो गए हैं, उनके बारे में प्राप्त होती है तो  उस पर जरूर विचार किया जाएगा।

04-12-2019
Breaking : कांग्रेस ने की जगदलपुर नगर निगम के प्रत्याशियों की घोषणा, देखिए सूची...

रायपुर। छत्तीसगढ़ प्रदेश कांग्रेस कमेटी ने नगरी निकाय चुनाव 2019 के लिए नगरीय निकायों की सूची जारी की है। कांग्रेस ने नगर पालिक निगम जगदलपुर के प्रत्याशियों का ऐलान किया है। जगदलपुर के साथ ही कांग्रेस की ओर से धमतरी और चिरमिरी नगर निगम के लिए प्रत्याशियों की घोषणा की गई है। राजीव भवन में सुबह 11 बजे से जारी चुनाव समिति की बैठक में आज नगर निगमों के लिए प्रत्याशियों के नाम फाइनल करने के लिए मंथन किया जा रहा है। अभी तक जगदलपुर, धमतरी और चिरमिरी नगर निगम के लिए प्रत्याशियों की घोषणा के साथ कांग्रेस ने नगर निगम के लिए अपने पत्ते खोलें हैं। अब इंतजार शेष नगर निगमों की सूची का है। 

 

 

 

04-12-2019
Breaking : कांग्रेस में नगर निगमों के प्रत्याशी तय करने मंथन जारी, दो जगह के नाम तय

रायपुर। राजीव भवन में सुबह 11 बजे से जारी चुनाव समिति की बैठक में बुधवार को नगर निगमों के लिए प्रत्याशियों के नाम फाइनल करने के लिए मंथन किया जा रहा है। मंत्री जयसिंह अग्रवाल ने बताया कि अभी जगदलपुर और चिरमिरी नगर निगम के लिए प्रत्याशियों के नाम फाइनल हुए हैं। जल्द ही शेष नगर निगमों के लिए तय कर लिए जाएंगे। विचार विमर्श जारी है और देर शाम तक घोषणा होगी। धमतरी नगर निगम के लिए चर्चा जारी है।

 

03-12-2019
Breaking : कांग्रेस ने नगर पंचायतों, पालिकाओं के नाम तय किए, नगर निगम के लिए बैठक कल

रायपुर। राजीव भवन में दोपहर 3 बजे से जारी प्रदेश चुनाव समिति की बैठक में सबसे पहले नगर पंचायतों और पालिकाओं को प्राथमिकता दी गई है। नगर निगमों के लिए बैठक कल 4 दिसम्बर को होगी। यह जानकारी राजस्व मंत्री जयसिंह अग्रवाल ने दी। मीडिया से चर्चा के दौरान उन्होंने कहा कि बहुत ही शालीनता के साथ सभी सूचियां क्लियर हो रही है। आज की बैठक में नगर पंचायतों और नगर पालिकाओं के लिए नाम फाइनल किए जा रहे हैं। बहुत ही सोच समझकर नाम तय किए जा रहे हैं, जल्द ही घोषणा की जाएगी। बस्तर, सरगुजा, मुंगेली, महासमुंद सहित कई जिलों के नाम तय हो चुके हैं। बैठक अभी भी जारी है, देर रात तक फाइनल हो जाएगा। उन्होंने कहा कि नगर निगम के लिए नाम फाइनल करने बैठक कल बुधवार को होगी। चुनाव समिति के सदस्य रमेश वल्यानी ने मीडिया से चर्चा के दौरान बताया कि नगर पंचायतों व नगर पालिकाओं के नाम लगभग  फाइनल कर लिए गए हैं। सबसे पहले प्राथमिकता बस्तर को दी गई है । बस्तर से सभी नाम तय कर लिए गए हैं । इसी तरह सरगुजा के 70 प्रतिशत नाम फाइनल हो चुके हैं। हमारा प्रयास सबसे पहले सुदूर अंचलों के नाम तय करने के लिए था। सबकी सहमति से लिस्ट बनाई गई है।

03-12-2019
राजीव भवन में चुनाव समिति की बैठक जारी, सीएम मौजूद

रायपुर। प्रदेश कांग्रेस मुख्यालय राजीव भवन रायपुर में चुनाव समिति की बैठक जारी है। बैठक में मुख्यमंत्री भूपेश बघेल, प्रदेश अध्यक्ष मोहन मरकाम सहित मंत्री रविन्द्र चौबे, डॉ. शिवकुमार डहरिया, ताम्रध्वज साहू, अनिला भेडिय़ा, कवासी लखमा और डॉ. प्रेमसहाय सिंह टेकाम मौजूद हैं। बैठक में शामिल होने एआईसीसी के प्रदेश प्रभारी पीएल पुनिया एवं प्रभारी सचिव डॉ. चंदन यादव दो दिवसीय प्रवास पर रायपुर पहुंचे हैं। अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी के प्रदेश प्रभारी पीएल पुनिया की अध्यक्षता में जारी प्रदेश चुनाव समिति की बैठक में दावेदारों की लिस्ट पर चर्चा जारी है। बड़ी संख्या में टिकट के दावेदार अपने समर्थकों के साथ राजीव भवन पहुंचे हैं। पीएल पुनिया ने बैठक में शामिल होने से पहले मीडिया से चर्चा में कहा कि सभी जिलों से पैनल प्राप्त हो चुके हैं। 2 दिन में अंतिम रूप देकर निर्णय ले लिया जाएगा। हर वार्ड का आंकलन कर जीतने वाले दावेदार को ही टिकट दिया जाएगा। सिंगल नाम भी आए हैं लेकिन जीतने की क्षमता होगी, टिकट उसी को दिया जाएगा। 

 

02-12-2019
राजीव भवन में प्रदेश चुनाव समिति की बैठक 3-4 दिसंबर को

रायपुर। अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी के प्रदेश प्रभारी पीएल पुनिया और प्रभारी सचिव डॉ. चंदन यादव 3 दिसंबर मंगलवार को इंडिगो के नियमित विमान सेवा द्वारा दोपहर 2:20 बजे माना विमानतल रायपुर पहुंचेंगे। शैलेश नितिन त्रिवेदी महामंत्री एवं अध्यक्ष संचार विभाग पीसीसी ने कहा कि दो दिवसीय दौरे पर आ रहे पुनिया और डॉ. यादव दोपहर 3 बजे प्रदेश कांग्रेस के मुख्यालय राजीव भवन रायपुर में आयोजित प्रदेश चुनाव समिति की बैठक में भाग लेंगे। इसी तरह दोनों 4 दिसंबर बुधवार को सुबह 11 बजे राजीव भवन रायपुर में प्रदेश चुनाव समिति की बैठक में भाग लेंगे और रात्रि 7:40 बजे इंडिगो के नियमित विमान सेवा द्वारा रायपुर से नई दिल्ली के लिए रवाना होंगे।

30-11-2019
नगरीय निकाय चुनाव में कांग्रेस करेगी क्लीन स्वीप, जीतने वालों को ही मिलेगा टिकट : पीएल पुनिया

रायपुर। नगरीय निकाय चुनाव को लेकर शनिवार सुबह से शाम तक राजीव भवन में चली मैराथन बैठकों के बाद एआईसीसी के छत्तीसगढ़ प्रभारी पीएल पुनिया ने प्रेसवार्ता ली। उन्होंने कहा कि नगरीय निकाय चुनाव 2019 में कांग्रेस क्लीन स्वीप करेगी, भाजपा का कहीं अता-पता नहीं रहेगा। कांग्रेस जीतने वाले लोगों को ही टिकट देगी। पुनिया ने कहा कि तीन दिसंबर से प्रदेश समिति की बैठक होगी और प्रत्याशियों के नामों की घोषणा शुरू की जाएगी। पीएल पुनिया ने कहा कि सुबह से बैठकों का दौर चला, मुख्य रूप से नगरीय निकाय चुनाव की तैयारी और रणनीति पर चर्चा हुई। साथ ही भारत बचाओ महारैली दिल्ली में 16 दिसंबर को आयोजित है, इसके संबंध में भी चर्चा की गई। आज सुबह से प्रदेश कार्यकारिणी के साथ में जिला कांग्रेस कमेटी के सभी अध्यक्ष मौजूद रहे, जिसमें सभी ने अवगत कराया है कि जिला कमेटी, ब्लॉक कमेटी से प्रस्ताव आ चुके है। हर जगह से एक-एक नाम आएं, यह कोशिश होगी। जिला चयन समिति की दूसरी बैठक होनी बाकी है, जो कल रविवार को होगी।  प्रयास किया जा रहा है कि कार्यकर्ता जिसको चाहते हैं, कार्यकर्ताओं की पसंद के अनुसार जो जीतने वाले कैंडिडेट हैं उनका चयन किया जाएगा। आपसी सामंजस्य से 1-1 कैंडिडेट ही प्रस्तावित होंगे। कुछ  जगह जहां पर नहीं है वहां भी आपस में बैठकर सहमति से कैंडिडेट आए। पुनिया ने कहा कि चुनाव प्रचार के संबंध में और घोषणा पत्र के संबंध में दो कमेटियों का गठन किया गया है। 

पुनिया ने कहा कि आज हुई बैठकों और विस्तार पूर्वक चर्चा के बाद पूरी तरीके से आश्वस्त हूं कि 2019 के परिणाम 2014 के परिणाम से कई बेहतर आएंगे। पिछली बार जब चुनाव हुए थे तो हम सत्ता में नहीं थे, आज कांग्रेस पार्टी की सरकार है। कांग्रेस पार्टी के द्वारा अत्यंत महत्वपूर्ण ऐतिहासिक काम किए गए हैं। नगरीय क्षेत्रों के लिए भी और ग्रामीण क्षेत्रों के लिए भी, किसानों के लिए भी और आदिवासियों के लिए भी, छोटे व्यापारी, मजदूर, आम आदमी, गरीब आदमी और छात्र इन सब के लिए जो काम किए गए हैं जिससे मैं पूरी तरीके से आश्वस्त हूं कि नगरीय निकाय चुनाव में कांग्रेस पूर्ण रूप से स्वीप करेगी और भाजपा का कहीं अता पता नहीं रहेगा।

पीसीसी अध्यक्ष मोहन मरकाम ने कहा कि महत्वपूर्ण बैठकों का दौर सुबह से शुरू हुआ था। प्रदेश कार्यकारिणी की बैठक, उसके बाद मोर्चा संगठनों की बैठक, उसके बाद प्रदेश चुनाव समिति की बैठक हुई। जिला कांग्रेस कमेटी, ब्लॉक कांग्रेस कमेटी और वार्ड कमेटियों को रविवार तक नाम प्रदेश समिति को भेजने का निर्देश दिया गया है। 3 दिसंबर से प्रदेश चुनाव समिति की बैठक होगी और नामों की घोषणा शुरू हो जाएगी। आज की बैठक में कांग्रेस पार्टी को विजय बनाने की रणनीति बनी है। महत्वपूर्ण सुझाव प्राप्त हुए हैं, उन सुझावों पर भी हम काम करेंगे। 

23-11-2019
रायगढ़ से 1 लाख किसानों के पत्र राजीव भवन में किए गए जमा

रायपुर। रायगढ़ जिला कांग्रेस कमेटी ने आज प्रदेश कांग्रेस मुख्यालय राजीव भवन में 1लाख से अधिक किसानों द्वारा हस्ताक्षर किये पत्र जमा किए। रायगढ़ जिला कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष अरुण भालाकार ने प्रदेश कांग्रेस के प्रभारी महामंत्री गिरीश देवागन, प्रदेश महामंत्री शैलेश नितिन त्रिवेदी व प्रदेश महामंत्री एवं अल्पसंख्यक आयोग के अध्यक्ष महेन्द्र छाबडा, प्रदेश कांग्रेस के मुख्य प्रवक्ता सुशील आनंद शुक्ला व शिवसिंह ठाकुर के समक्ष पत्रों को सौंपा। रायगढ़ से आये अरुण भालाकार जिला कांग्रेस कमेटी अध्यक्षस, विकास शर्मा जिला महामंत्री रायगढ़, महेन्द्र गुप्ता युवा कांग्रेस विधानसभा अध्यक्ष सारंगढ, पिताम्बर पटेल ब्लाक महामंत्री सारंगढ, तरुण शोणी शहर कांग्रेस सारंगढ, सर्वजीत सिंह ठाकुर प्रदेश सचिव, शिव सिंह ठाकुर, किरण सिन्हा, चन्द्रवती साह,साक्षी सिमौर,पूजा देवांगन इस दौरान उपस्थित थे। 
 

16-11-2019
मंत्री मो. अकबर 18 नवंबर को राजीव भवन में सुनेंगे समस्याएं

रायपुर। मिलिये मंत्री से कार्यक्रम में परिवहन, वन, आवास, पर्यावरण एवं विधि विभाग मंत्री मोहम्मद अकबर दोपहर 12:30 बजे से राजीव भवन में बैठेंगे। यह जानकारी देते हुए प्रदेश कांग्रेस के मुख्य प्रवक्ता सुशील आनंद शुक्ला ने कहा कि इस दौरान मंत्री मो.अकबर कांग्रेस के कार्यकताओं, पदाधिकारियों और जनसामान्य से मुलाकात कर अपने विभाग से संबंधित समस्याओं, शिकायत और सुझाव पर आवश्यक कार्यवाही करेंगे। मुलाकात कार्यक्रम का समन्वय महामंत्री महेन्द्र छाबड़ा करेंगे।

 

14-11-2019
आंदोलन में एनर्जी वेस्ट न कर भाजपा केन्द्र से बात करें : जयसिंह अग्रवाल

रायपुर। मिलिये मंत्री से कार्यक्रम में आज राजीव भवन पहुंचे राजस्व एवं आपदा प्रबंधन, पुनर्वास, पंजीयन एवं स्टाम्प विभाग मंत्री जयसिंह अग्रवाल ने कहा कि आंदोलन करके बीजेपी अपनी एनर्जी वेस्ट कर रही है। भाजपा को दिल्ली जाकर प्रधानमंत्री मोदी और केंद्र के मंत्रियों से मिलना चाहिए।  राज्य का चावल खरीदने के लिए बात करनी चाहिए, बेवजह एनर्जी वेस्ट करने से अच्छा अपना ध्यान चुनाव में लगाना चाहिए। मंत्री अग्रवाल ने कहा कि आज राजीव भवन आना हुआ। कार्यकर्ता  व आम जनता अपनी समस्याएं व सुझाव लेकर पहुंचे थे। जो भी समस्या आ रही है, उस पर त्वरित कार्यवाही कर टेलीफोन के द्वारा ही अधिकारियों को निर्देशित किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि अब आवेदनों की संख्या कम हो गई है, दो-चार लोग ही पहुंच रहे हैं। लगातार जिस प्रकार हम लोगों ने संभाग स्तर पर बैठकर आवेदनों का निराकरण किया है। पहले राजीव भवन 100 से 150 की संख्या में लोग पहुंचते थे, अब वह एक दो ही रह गए हैं। इससे पता लगता है कि कितने लोगों की समस्याओं का निराकरण हो रहा है। मैं रोजाना लोगों से मिलता हूं और हर दिन लोगों की समस्याओं को दूर करता हूं। उन्होंने कहा कि आगे नगरीय निकाय चुनाव है तो टिकट के भी दावेदार पहुंच रहे हैं। कमेटियां गठित की गई हैं, प्रभारी भी नियुक्त किए गए हैं अब धीरे-धीरे प्रक्रिया बढ़ेगी। योग्य प्रत्याशी को ही टिकट दिया जाए। जमीन की गड़बडिय़ों के सवाल के जवाब में उन्होंने कहा कि पिछली सरकार के समय ऑनलाइन डाटा में गड़बडिय़ां हुई है। इस कारण ही थोड़ी समस्याएं हैं लेकिन जो भी समस्याएं आ रही है उनको प्राथमिकता से निराकरण कर रहे हैं।

14-11-2019
केन्द्र सरकार अर्थव्यवस्था संभालने में नाकाम, बगैर संकोच देशहित में छत्तीसगढ़ का करें अनुशरण : भूपेश बघेल

रायपुर। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल गुरूवार को यहां राजीव भवन में पंडित जवाहर लाल नेहरू की 130वीं जयंती पर आयोजित व्याख्यान कार्यक्रम में बतौर मुख्य अतिथि शामिल हुए। कार्यक्रम को संबोधित करते हुए उन्होंने मंच से केन्द्र की भाजपा सरकार और आरएसएस पर जमकर निशाना साधा। उन्होंने कहा कि भारत सरकार अर्थव्यवस्था संभालने में नाकाम हुई है, जब बात देशहित की हो तो केन्द्र सरकार को बगैर किसी संकोच के हमारी अर्थव्यवस्था नीति का अनुशरण करें। उन्होंने आरएसएस पर निशाना साधते हुए कहा कि ये जो काली टोपी और खाकी पेंट पहनते हैं और ड्रम बजाते हैं,यह भारत की ना वेशभूषा है और ना ही हमारा वाद्य यंत्र है।

मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने कहा कि अन्नदाताओं को बढ़ावा देने के लिए जो काम पंडित जवाहरलाल नेहरू और इंदिरा गांधी ने किया, बैंकों के दरवाजे खोले ताकि आम जनता तक बैंक की पहुंच हो सके। आज बिल्कुल उलट हो रहा है, बैंक बंद किए जा रहे हैं। आज छत्तीसगढ़ में जो स्थिति निर्मित है वो केन्द्र सरकार के चावल नहीं खरीदने के निर्णय से बनी है। केन्द्र से जवाब जो हमें मिला था कि आप यदि 25 सौ में चावल खरीदेंगे तो इससे बाजार की स्थिति गड़बड़ा जाएगी और संतुलन बिगड़ेगा। मुख्यमंत्री ने कहा कि जबकि आज छत्तीसगढ़ में ऋण माफी, 25 सौ में धान खरीदी और 4 हजार रुपए मानक बोरा तेंदूपत्ता खरीदी के बाद, 35 किलो चावल देने के बाद, बिजली बिल आधा करने के बाद जो छत्तीसगढ़वासी की क्रय शक्ति बढ़ी है और बाजार में मंदी नहीं है।

मुख्यमंत्री ने कहा कि भारत सरकार अर्थव्यवस्था नहीं संभाल पा रही है तो छत्तीसगढ़ का अनुसरण कर ले। पैसा आरबीआई से निकाल कर उन्होंने 1 लाख 74 हजार करोड़ रुपए कॉरपोरेट सेक्टर में दे दिया, हमने छत्तीसगढ़ के खजाने से निकालकर आदिवासियों को किसानों को दे दिया और आज बाजार में रौनक है। उद्योग फल-फूल रहे हैं, यह कांग्रेस की अर्थव्यवस्था है। हमारे नेताओं ने हमें जो बात सिखाई है हम उस पर चल रहे है। इनको कोई संकोच नहीं करना चाहिए, देश हित में इसको स्वीकार करना चाहिए। मैंने पहले भी कहा है कि असहमति का सम्मान महात्मा गांधी ने और पंडित जवाहरलाल नेहरू ने हमेशा किया है।

मुख्यमंत्री ने आरएसएस पर निशाना साधते हुए कहा कि जिस हिटलर और मुसोलिनी को आरएसएस के लोग अपना आदर्श मानते हैं, उनसे प्रेरणा लेकर ये  काली टोपी और खाकी पेंट पहनते हैं और ड्रम बजाते हैं, ये भारत की ना वेशभूषा है और ना यह हमारा वाद्य यंत्र है, उसे लेकर ये लोग चलते हैं। मुख्यमंत्री ने कहा कि मुसोलिनी जिसे मिलने के लिए दुनिया भर के नेता तरसते थे, सम्मान में उसके सामने खड़े नहीं होते थे, उससे नजर मिला कर बात नहीं करते थे वह मुसोलिनी पंडित नेहरू से मिलना चाहा तो उन्होंने उससे मिलने से इनकार कर दिया। प्लेन में बैठे रहे लेकिन उससे मिलना स्वीकार नहीं किया, ऐसे हमारे नेता जो अपने विचारों पर दृढ़ रहे। अंग्रेजी शासन काल में भी उन्होंने अपनी कांग्रेस की नीतियों के हिसाब से चलते हुए जेल जाना पसंद किया। अंग्रेजों से हमेशा कहा कि यदि आपके कानून में इससे भी कठोर दंड है तो हमें दीजिए क्योंकि हमने अपराध किया है और स्वीकार करते हैं।
 

मुख्यमंत्री बघेल ने कहा कि अभी अयोध्या मामले में फैसला आया, इसे केन्द्र ने नहीं सुप्रीम कोर्ट ने लिया। लालकृष्ण आडवाणी देशभर में राम रथ को लेकर चले थे, जब उनसे पूछा गया कि बाबरी मस्जिद डहाने के बारे में तो उन्होंने साफ कहा कि मैंने नहीं गिरायी है। इनमें सच कहने का साहस नहीं है। जिस राम मंदिर पर भाजपा के लोग आंदोलन कर रहे थे, ये अपने स्वार्थ के लिए देश में आग लगाने का काम कर सकते हैं, हमारे नेता देश में सर्वोच्च कुर्बान करने के लिए तैयार थे, हम उन नेताओं के वंशज है। मुख्यमंत्री बघेल ने इशारों में कहा कि आज जो लोग पंडित नेहरू का कद कम करना चाहते हैं, दरअसल वे लोकतंत्र को कमजोर करना चाहते हैं। पंडित नेहरू ने जो लकीर खींची थी उस लकीर तक पहुंचना बहुत दूर की बात है। फिलहाल वे कद कम करने की कोशिश करते हैं। जो प्रधानमंत्री देश में कौन सी ऐतिहासिक नगरी थी उनको पता नहीं, जो पाकिस्तान का हिस्सा है उसे बिहार में जाकर कहते हैं बिहार में स्थित है। उनका इतिहास का इतना ज्ञान और पंडित जवाहरलाल नेहरू का कद कम करने की ओर चले हैं, इसलिए आज सभी को पंडित जवाहरलाल नेहरू के बारे में जानना बहुत जरूरी है।

 

Advertise, Call Now - +91 76111 07804