GLIBS
22-01-2021
किसानों के मुद्दों पर भाजपा ने किया प्रदर्शन

कांकेर। किसानों से वादा खिलाफी, धान खरीदी में अव्यवस्था, बारदानों की समस्या सहित किसानों जुड़े मुद्दों को लेकर भाजपा कार्यकर्ताओं ने प्रदर्शन किया। भाजपा ने सरकार पर निशाना साधते किसानों से छलावा और निरंकुश सरकार होने का आरोप लगाया। धरना प्रदर्शन के उपरांत पूर्व भाजपा प्रदेश अध्यक्ष विक्रम उसेंडी के नेतृत्व में रैली निकाल कलेक्ट्रेट कार्यालय का घेराव करने निकले भाजपाईयों से पुलिस की झुमाझपटी भी हुई। अंत में भाजपाईयों ने अपनी गिरफ्तार देकर प्रदर्शन समाप्त किया।

 

20-10-2020
Breaking : लॉ एंड आर्डर सहित कई मुद्दों को लेकर भाजपा करेगी गृहमंत्री के बंगले का घेराव

रायपुर। प्रदेश में लॉ एंड ऑर्डर एवं शराबबंदी की मांग को लेकर भाजपा गृहमंत्री के बंगले का घेराव करेगी। वहीं एक दिवसीय धरना भी देगी। धरना प्रदर्शन में पार्टी के प्रदेशाध्यक्ष विष्णुदेव साय, पूर्व मंत्री बृजमोहन अग्रवाल सहित भाजपा के कई दिग्गज नेता शामिल होंगे।

28-04-2020
मंत्री टेकाम ने केन्द्रीय मंत्री से किया अनुरोध, सुरक्षा को ध्यान में रखते हुए स्कूल खोलने का निर्णय राज्यों को दे


रायपुर। छत्तीसगढ़ के स्कूल शिक्षा मंत्री डॉ. प्रेमसाय सिंह टेकाम ने केन्द्रीय मानव संसाधन विकास मंत्री डॉ. रमेश पोखरियाल निशंक से अनुरोध किया है कि कोरोना के संक्रमण से बचाव से निपटने और आगे आने वाले समय इस समस्या के निदान के लिए सुरक्षागत मुद्दों को ध्यान में रखते हुए स्कूल खोलने का निर्णय राज्यों को दिया जाए। केन्द्रीय मानव संसाधन विकास मंत्री आज राज्य के शिक्षामंत्रियों और स्कूल शिक्षा सचिवों की ऑनलाइन बैठक लेकर स्कूल शिक्षा विभाग के काम-काज की समीक्षा कर रहे थे।छत्तीसगढ़ के स्कूल शिक्षा मंत्री डॉ.प्रेमसाय सिंह टेकाम ने उन्हें बताया कि प्रदेश के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल द्वारा प्रारंभ की गई योजना ’पढ़ई तुंहर दुआर’ में रिकार्ड समय में 16 लाख बच्चों और एक लाख 60 हजार शिक्षकों द्वारा इस वेबसाइट में पंजीयन कराकर नियमित कक्षाओं का आयोजन किया जा रहा है। डॉ. टेकाम ने राज्य में परीक्षाओं के आयोजन और उत्तरपुस्तिओं की जांच के संबंध में जानकारी दी। ऑनलाइन चर्चा के दौरान शैक्षणिक गतिविधियों की समस्या के निदान के लिए विभिन्न नवाचारी तरीकों जैसे अवकाश के दिनों को कम करने, शाला लगने की अवधि में वृद्धि, स्थानीय समुदाय के अध्यापन, घरों में छोटे-छोटे समूहों में ट्यूशन, रेडियो एवं दूरदर्शन का अधिक से अधिक उपयोग आदि के सुझाव दिए। डॉ. टेकाम ने केन्द्रीय मानव संसाधन विकास मंत्री को इस महत्वपूर्ण बैठक के आयोजन के लिए धन्यवाद देते हुए बैठक में प्राप्त सुझावों पर विचार कर निर्णय लेने का अनुरोध किया।

केन्द्रीय मानव संसाधन विकास मंत्री डॉ.रमेश पोखरियाल निशंक द्वारा ऑनलाइन बैठक में कक्षा 10वीं एवं 12वीं को छोड़कर सभी कक्षाओं में जनरल प्रमोशन, सीबीएसई की परीक्षाओं का बाद में निर्धारण, बच्चों की उत्तरपुस्तिकाओं के मूल्यांकन की व्यवस्था, मध्यान्ह भोजन को अवकाश के दौरान भी वितरित कराए जाने के लिए आवश्यक व्यवस्थाएं, 4 सप्ताह के वैकल्पिक पाठ्यक्रम संबंधी अकादमिक कैलेण्डर को लागू करना, कोविड-19 के दौरान बेस्ट प्रेक्टीसेस को साझा करने जैसे बिन्दुओं पर अपने विचार व्यक्त किए। उन्होंने बैठक में डिजिटल, ऑनलाइन शिक्षा में राज्यों द्वारा की जा रही कार्रवाई की जानकारी ली। लॉकडाउन के कारण बच्चों की पढ़ाई में हुए नुकसान को ध्यान में रखकर अकादमिक कैलेण्डर में परिवर्तन, मध्यान्ह भोजन को जारी रखने के संबंध में मध्यान्ह भोजन की वार्षिक कार्ययोजना को अपलोड करने, केन्द्रीय एवं नवोदय विद्यालय के लिए जमीन एवं अन्य मुद्दों, समग्र शिक्षा अंतर्गत राज्य क्रियान्वयन इकाई को केन्द्र के हिस्से की राशि एवं राज्यांश की शेष राशि के उपयोग और समग्र शिक्षा की वार्षिक कार्ययोजना को ऑनलाइन अपलोड करने के संबंध में चर्चा कर समीक्षा की। बैठक में छत्तीसगढ़ स्कूल शिक्षा विभाग के प्रमुख सचिव डॉ. आलोक शुक्ला, संचालक लोक शिक्षण जीतेन्द्र शुक्ला, सचिव माध्यमिक शिक्षा मण्डल प्रो.व्हीके गोयल उपस्थित थे।

 

31-01-2020
संसद का बजट सत्र आज से शुरू, सरकार और विपक्ष के बीच सदन में होगी चर्चा

नई दिल्ली। संसद के बजट सत्र का पहला चरण आज शुक्रवार से शुरू हो गया। राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद अभिभाषण से सत्र की शुरुआत किये। शुक्रवार को ही सरकार दोनों सदनों में आर्थिक सर्वेक्षण पेश करेगी और शनिवार को आम बजट पेश करेगी। आर्थिक सर्वे की प्रतियां संसद पहुंच गईं हैं। वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण आज आर्थिक सर्वेक्षण 2019-20 पेश करेंगी। दिल्ली विधानसभा चुनाव के बीच हो रहे बजट सत्र में नागरिकता संशोधन कानून, जेएनयू-जामिया में हिंसा, जम्मू-कश्मीर में नेताओं की नजरबंदी और आर्थिक सुस्ती के मसले पर हंगामा होना तय है। शुक्रवार को राष्ट्रपति के अभिभाषण के जरिये मोदी सरकार अगले एक साल की अपनी योजनाओं का खाका पेश करेगी।

पीएम ने सर्वदलीय बैठक में कहा कि सरकार विपक्ष के सभी मुद्दों पर सार्थक चर्चा के लिए तैयार है। अर्थव्यवस्था सहित सभी मुद्दों पर सार्थक बहस होनी चाहिए। अर्थव्यवस्था को वैश्विक संदर्भ में देखा जाना चाहिए और यह भी देखना चाहिए कि भारत इस स्थिति का कैसे लाभ उठा सकता है। विपक्ष ने भी तीखे तेवर दिखाए। विपक्ष ने किसानों के मसले, सीएए के खिलाफ जारी आंदोलन, जेएनयू-जामिया विश्वविद्यालयों में हुई हिंसा और जम्मू कश्मीर में नेताओं की नजरबंदी जारी रहने पर सवाल उठाए। इसके अलावा राज्यसभा में नेता प्रतिपक्ष गुलाम नबी आजाद ने सरकार पर अहंकारी रवैया अपनाने का आरोप लगाते हुए इन मुद्दों को संसद में उठाने की घोषणा की।

सत्ताधारी राजग में शामिल दल शुक्रवार को दोपहर बाद सत्र की रणनीति बनाएंगे। इस बैठक में विपक्ष की ओर से उठाए जाने वाले मुद्दों का जवाब देने की रणनीति बनेगी। सूत्रों का कहना है कि सरकार ने विपक्ष की ओर से उठाए जाने वाले सभी मुद्दों का आक्रामक जवाब देने का फैसला किया है। इसके बाद दो मार्च को दोबारा दोनों सदन बजट सत्र के लिए आयोजित होंगे, जो तीन अप्रैल को संपन्न होगा। इस तरह 64 दिनों के बजट सत्र के दौरान कुल 31 दिन तक संसद बैठेगी। इनमें 9 बैठक पहले भाग में और 22 दूसरे भाग में रखी गई हैं। बजट सत्र के दोनों हिस्सों में रखे गए अंतराल के दौरान संसद की स्थायी समितियां विभिन्न मंत्रालयों व विभागों की तरफ से की गई अनुदान की मांग का परीक्षण करेंगी।



 

26-06-2019
पीएम मोदी से मिले अमेरिकी विदेश मंत्री माइक पोम्पियो, इन मुद्दों पर की चर्चा

 नई दिल्ली। अमेरिका के विदेश मंत्री माइक पोम्पिओ के साथ बुधवार को यहां हुई मुलाकात के दौरान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अपने दूसरे कार्यकाल में भारत-अमेरिका रणनीतिक साझेदारी के लिए अपने दृष्टिकोण को रेखांकित किया। प्रधानमंत्री मोदी ने अर्थव्यवस्था, ऊर्जा, रक्षा, आतंकवाद का मुकाबला और दोनों देशों के लोगों के बीच संपर्क के क्षेत्र में द्विपक्षीय संबंधों की पूर्ण संभावना हासिल करने के लिए अपनी मजबूत प्रतिबद्धता जाहिर की। पोम्पिओ ने प्रधानमंत्री मोदी के साथ भारत और अमेरिका के बीच रणनीतिक साझेदारी को प्रगाढ़ करने के लिए द्विपक्षीय संबंधों के विभिन्न पहलुओं पर चर्चा की। प्रधानमंत्री कार्यालय ने एक बयान में कहा है कि प्रधानमंत्री ने अमेरिका के साथ संबंधों में अपनी प्राथमिकता को दोहराया और अपनी सरकार के नए कार्यकाल में विश्वास की मजबूत बुनियाद और साझा हितों से आगे के अपने दृष्टिकोण को रेखांकित किया। इसमें कहा गया है कि पोम्पिओ ने भारत के साथ संबंधों को प्रगाढ़ बनाने में और साझा दृष्टि व लक्ष्यों को साकार करने के लिए साथ मिल कर काम करने में अमेरिकी सरकार की दिलचस्पी जाहिर की। पोम्पिओ ने अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप द्वारा प्रधानमंत्री मोदी को भेजा गया अभिवादन भी उन्हें दिया और चुनावी जीत पर उन्हें बधाई दी। विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता रवीश कुमार ने बताया कि रणनीतिक साझेदारी को और प्रगाढ़ करने के लिए मिल कर काम कर रहे हैं। पोम्पिओ ने भारत-अमेरिका संबंधों के विभिन्न पहलुओं पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से चर्चा करने के लिए उनसे मुलाकात की। रवीश कुमार ने बताया कि प्रधानमंत्री मोदी ओसाका में होने जा रहे जी-20 शिखर सम्मेलन से इतर अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप से मुलाकात करेंगे।

 

21-04-2019
विदेश सचिव विजय गोखले पहुंचेे चीन, जरूरी मुद्दों पर होंगी बातें

नई दिल्ली। भारत सरकार के विदेश सचिव विजय गोखले रविवार को दो दिवसीय चीन यात्रा पर पहुंचे हैं। गोखले चीन के उच्चाधिकारियों और विदेश मंत्री वांग यी के साथ भारत-चीन से जुड़े जरूरी मुद्दों पर बातचीत करेंगे।  इस बातचीत में जैश-ए-मोहम्मद के प्रमुख मसूद अजहर को वैश्विक आतंकवादी घोषित करने की कोशिश में चीन की ओर बाधा डालने सहित कई मुद्दे शामिल होंगे। भारतीय दूतावास ने शनिवार कोजानकारी दी थी कि गोखले बीतचीत करने के लिए चीन का दौरा करेंगे और इस दौरे के लिए कार्यक्रम को अंतिम रूप दिया जा रहा है। गोखले चीन के उप विदेश मंत्री कोंग शुनयू के साथ 22 अप्रैल को द्विपक्षीय वार्ता करेंगे और इस दौरान वे विदेश मंत्री वांग यी से मुकालात करेंगे, जो स्टेट काउंसलर हैं। गौरतलब है कि चीन की कम्युनिस्ट पार्टी में स्टेट काउंसलर का पद ऊंचे स्तर का माना जाता है। बता दें कि पिछले साल विदेश सचिव का पदभार संभालने से पहले विजय गोखले चीन की राजधानी बीजिंग में भारत के राजदूत थे। 14 फरवरी के पुलवामा में हुए आतंकी हमले के बाद भारत और चीन के बीच रिश्ते को लेकर बातचीत के लिए उनकी यह यात्रा है।

 

Advertise, Call Now - +91 76111 07804