GLIBS
20-04-2020
किसी भी स्थिति में पेयजल व्यवस्था न हो प्रभावित :  गुरु रूद्रकुमार

रायपुर। लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी मंत्री गुरु रूद्रकुमार ने आज वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से विभागीय कार्यों की समीक्षा की। मंत्री गुरू रूद्रकुमार ने समीक्षा के दौरान तीनों परिक्षेत्र रायपुर, बिलासपुर और जगदलपुर के मुख्य अभियंता सहित सभी जिलों के कार्यपालन अभियंताओं से रू-ब-रू होकर विभागीय कामकाज की जानकारी ली। उन्होंने अधिकारियों से कहा कि वर्तमान परिस्थिति में राज्य के किसी भी क्षेत्र में पेयजल व्यवस्था प्रभावित न हो। मंत्री गुरू रूद्रकुमार ने कहा कि ऐसे नलकूप जो मृत अवस्था में जा चुके हैं आवश्यकतानुसार नया स्रोत निर्माण कर नलकूप स्थापित करें तथा नये नलकूप खनन का कार्य जल स्रोतों के पूर्व परीक्षण उपरांत पर्याप्त जल क्षमता प्राप्त होने की स्थिति में ही करें। जिसे नलजल योजना के स्रोत के रूप में उपयोग किया जा सके। उन्होंने अधिकारियों को सभी जिलों में पेयजल की निरंतर आपूर्ति बनाए रखने के लिए आवश्यक सामग्री की खरीदी आवश्यकतानुसार स्थानीय स्तर पर नियमानुसार करने के निर्देश दिए। 

मंत्री गुरू रूद्रकुमार ने कोविड-19 के परिप्रेक्ष्य में कहा कि पेयजल से संबंधित निर्माण कार्यों के लिए अनुबंधित ठेकेदारों के श्रमिकों के आवागमन के लिए सभी जिला प्रशासन से समन्वय कर कार्य प्रारंभ करें। इस अवसर पर विभाग के सचिव अविनाश चंपावत ने अधिकारियों को निर्देशित करते हुए कहा कि विधायकों के गृहग्राम और उनके क्षेत्र के 15-15 गांवों की नलजल योजना में से बचे हुए 310 योजनाओं को निविदा आमंत्रण की कार्रवाई तत्काल पूर्ण करें। राज्य और जिला स्तर पर पेयजल संबंधी समस्याओं के निराकरण के लिए टोल-फ्री नम्बर भी स्थापति किए गए हैं, जिन पर प्राप्त समस्याओं का त्वरित निराकरण किया जा रहा है। इस अवसर पर विभाग के प्रमुख अभियंता टी.जी. कोसरिया सहित अन्य अधिकारी उपस्थित थे।

07-02-2020
वर्षा जल संचयन के लिए होगा आधुनिक तकनीक का इस्तेमाल : मंत्री गुरु रूद्रकुमार

रायपुर। छत्तीसगढ़ में वर्षा जल को सहेजने के लिए वाटर हार्वेस्टिंग की उन्नत तकनीक का इस्तेमाल किया जाएगा। लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी मंत्री गुरु रूद्रकुमार ने आज विभागीय अधिकारियों के साथ 'व्ही वायर इंजेक्शन वेल' रेन वाटर हार्वेस्टिंग सिस्टम का अवलोकन किया। उन्होंने आरंग विकासखंड के ग्राम रींवा, दुर्ग जिले के निकुम और अंजोरा ढाबा गांव में इस सिस्टम को प्रायोगिक तौर पर लगाने के निर्देश दिए। इस तकनीक से 2.5 एकड़ क्षेत्र में होने वाली वर्षा जल से 10 एमएलडी अर्थात एक करोड़ लीटर वर्षा जल को रिचार्ज किया जा सकता है। मंत्री गुरू रूद्रकुमार ने कहा कि राज्य के ग्रीष्म काल में भू-जल स्तर गिरने से प्रभावित ग्रामों को चिन्हित कर प्राथमिकता के साथ आधुनिक तकनीक से रेन वाटर हार्वेस्टिंग सिस्टम लगाने के लिए जल्द कार्ययोजना बनाने कहा। उन्होंने अधिकारियों से कहा कि यह तकनीक उन क्षेत्रों के लिए अधिक कारगर और प्रभावी होगी जहां ग्रीष्म काल में भू-जल स्तर गिरने से पेयजल और निस्तार की गंभीर समस्या आती है। लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी मंत्री को कलकत्ता से आए निजी कंपनी के प्रतिनिधियों ने नीर भवन में व्ही वायर इंजेक्शन वेल रेन वाटर हार्वेस्टिंग तकनीक और कार्य प्रणाली के बारे में विस्तार से जानकारी दी।

उन्होंने बताया कि इस तकनीक से घरों के अलावा खेतों के पानी को भी जमीन के अंदर इंजेक्ट कराया जा सकता है। व्ही वायर इंजेक्शन वेल तकनीक विश्व स्तरीय है इसके अलावा यह किफायती और विश्वसनीय है। बैठक में जानकारी दी गई कि इस तकनीक से आरंग विकासखण्ड के ग्राम मोहंदी, नगर निगम भिलाई, नगर निगम बिलासपुर, हिदायतुल्लाह विश्वविद्यालय नया रायपुर सहित 30-35 स्थानों पर यह सिस्टम स्थापित किया गया है। जिसके माध्यम से वाटर रिचार्जिंग किया जा रहा है। इस अवसर पर रायपुर परिक्षेत्र के मुख्य अभियंता, अधीक्षण अभियंता, कार्यपालन अभियंता सहित अन्य वरिष्ठ अधिकारी उपस्थित थे।

31-01-2020
मंत्री गुरु रूद्रकुमार ने की विभागीय कार्यों की समीक्षा 
    

रायपुर। ग्रामोद्योग मंत्री गुरु रूद्रकुमार ने शुक्रवार को राजधानी स्थित नीर भवन में विभागीय योजनाओं और कार्यों की समीक्षा की। उल्लेखनीय है कि मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के साथ आगामी बजट के पूर्व तैयारियों से संबंधित ग्रामोद्योग मंत्री गुरु रूद्र कुमार द्वारा चर्चा की जानी है। इस परिप्रेक्ष्य में ग्रामोद्योग मंत्री द्वारा विभाग की प्रमुख सचिव डॉ. मनिंदर कौर द्विवेदी, सचिव हेमंत पहारे और संचालक सुधाकर खलको की उपस्थिति में ग्रामोद्योग के समस्त घटकों में संचालित गतिविधियों की अद्यतन जानकारी ली तथा प्रचार-प्रसार से संबंधित विस्तृत वित्तीय समीक्षा की गयी। इसके साथ ही साथ आगामी बजट वर्ष 2020-21 के लिए विभाग से संबंधित महत्वपूर्ण नवीन मद के कार्यों की प्रकल्पवार जानकारी ली गई। इस अवसर पर विभाग के समस्त घटकों के प्रबंधक सहित अन्य अधिकारी उपस्थित थे।

04-01-2020
फ्लोराइड, आर्सेनिक और खारे-पानी से प्रभावित क्षेत्रों में शुद्ध पेयजल की व्यवस्था

रायपुर। लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी विभाग द्वारा प्रदेश के फ्लोराइड, आर्सेनिक और खारे-पानी से प्रभावित क्षेत्रों में शुद्ध पेयजल उपलब्ध कराने के लिए कारगर प्रयास किए जा रहे हैं। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल की मंशानुरूप प्रदेश में सभी लोगों को शुद्ध पेयजल उपलब्ध कराने के लिए ढृढ़ संकल्पित होकर इस दिशा में बेहतर प्रयास किए जा रहे हैं। इसी कड़ी में सीएम बघेल के नेतृत्व में राज्य सरकार के गठन उपरांत अब तक राज्य की जल गुणवत्ता से प्रभावित क्षेत्रों में शुद्ध पेयजल उपलब्ध कराने के लिए बस्तर जिले के फ्लोराइड से प्रभावित 33 ग्रामों के लिए 49 करोड़ 69 लाख रुपए की कोसारटेडा समूह जलप्रदाय योजना स्वीकृत की गई है। जिसमें सम्मिलित 29 ग्रामों में योजना का कार्य पूर्ण कर शुद्ध पेयजल प्रदाय किया जा रहा है। इससे बस्तर क्षेत्र के 60 हजार अधिक लोग लाभान्वित हुए हैं। 

लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी मंत्री गुरु रूद्रकुमार ने बजट वर्ष 2019-20 के लिए विधानसभा में बजट भाषण के दौरान नल जल योजना के लिए 2000 की आबादी की बाध्यता को समाप्त कर प्रत्येक गांव में नल जल योजना पहुंचाने की घोषणा की है। साथ ही फ्लोराइड से प्रभावित ग्राम और बसाहटों में 573 फ्लोराइड रिमूवल प्लांट, आयरन से प्रभावित क्षेत्रों में तीन हजार 490 आयरन रिमूवल प्लांट और सेलेनिटी से प्रभावित बसाहटों में 121 आरओ प्लांट स्थापित किया गया है। इसके अलावा राज्य के खारे-पानी से प्रभावित क्षेत्र जिला बेमेतरा के विकासखंड नवागढ, बेमेतरा और साजा के 152 गांवों में 193 करोड 19 लाख रुपए की समूह जल प्रदाय योजना का कार्य पूर्ण कर पेयजल प्रदाय किया जा रहा है, इससे इस क्षेत्र के एक लाख 68 हजार 736 लोगों को शुद्ध पेयजल मिल रहा है।

14-12-2019
त्रिपुरा के मुख्यमंत्री राष्ट्रीय आदिवासी नृत्य महोत्सव में होंगे शामिल 

रायपुर।  छत्तीसगढ़ में पहली बार आयोजित किए जा रहे राष्ट्रीय आदिवासी नृत्य महोत्सव में सम्मिलित होने के लिए के त्रिपुरा के मुख्यमंत्री बिप्लब देब ने अपनी सहमति प्रदान कर दी है। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के निमंत्रण को लेकर लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी एवं ग्रामोद्योग मंत्री गुरु रूद्रकुमार शनिवार को त्रिपुरा की राजधानी अगरतला में वहां के मुख्यमंत्री बिप्लब देब से सौजन्य मुलाकात की और उन्हें राज्य में 27 से 29 दिसंबर तक रायपुर में आयोजित होने वाले राष्ट्रीय आदिवासी नृत्य महोत्सव में आने के लिए आमंत्रित किया। सीएम देब ने ने इस अनूठे और भव्य आयोजन की सफलता के लिए अग्रिम बधाई देते हुए आमंत्रण स्वीकार कर आने की सहमति दी है। उल्लेखनीय है कि 27 से 29 दिसंबर तक आयोजित होने वाले राष्ट्रीय आदिवासी नृत्य महोत्सव में भारत के विभिन्न राज्यों एवं केंद्र शासित प्रदेशों के जनजाति समूहों की भागीदारी और सहभागिता के लिए और पड़ोसी देशों के कलाकारों को राष्ट्रीय आदिवासी नृत्य महोत्सव में प्रस्तुति के लिए आमंत्रित किया गया है। इस अवसर पर मंत्री गुरु रूद्रकुमार ने मुख्यमंत्री बिप्लब देब को छत्तीसगढ़ राज्य की महत्वाकांक्षी योजनाओं और राज्य में संचालित लोक कल्याणकारी योजनाओं की जानकारी भी दी है। उन्होंने देब को बस्तर और सरगुजा वनांचल की जनजातीय संस्कृति, पर्यटन और वहां हो रहे विकास कार्यों से भी अवगत कराया।
 

23-11-2019
मिनीमाता अमृतधारा की बजट राशि का शत-प्रतिशत करें उपयोग: गुरू रूद्र कुमार 

रायपुर। लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी मंत्री गुरु रूद्रकुमार ने शनिवार को राजधानी स्थित नीर भवन में लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी विभाग की योजनाओं एवं कार्यक्रमों की समीक्षा की। मंत्री गुरु रूद्रकुमार ने विभाग की महत्वाकांक्षी योजना मिनीमाता अमृतधारा योजना में केन्द्र से मिले बजट राशि का शत-प्रतिशत उपयोग करने को कहा है। मिनीमाता अमृतधारा योजना से बीपीएल परिवार लाभान्वित होंगे। योजना के तहत सर्वोच्च प्राथमिकता के साथ इन वर्गों के हितग्राहियों को लाभान्वित किया जाए। समीक्षा बैठक के दौरान अधिकारियों को सभी कार्य को निर्धारित समय में पूर्ण करने को कहा गया है। विभाग में संचालित सभी पेयजल योजनाओं को समय-सीमा में पूर्ण करें। नगरीय क्षेत्रों में स्वीकृत पेयजल योजनाओं को आवश्यकतानुसार प्राथमिकता से पूर्ण कराया जाए।

इस अवसर पर अधिकारियों ने समीक्षा बैठक में मिनीमाता अमृत धारा योजना की अद्यतन प्रगति, विधायकों के प्रस्ताव अनुसार 15-15 नल-जल योजनाओं की डीपीआर बनाने, विधायकों के गृह ग्राम में नल जल योजना, एनआर डीडब्ल्यूपी के अंतर्गत अद्यतन व्यय की जिलेवार जानकारी, राजीव गांधी सर्वजल योजना के डीपीआर की स्थिति, मुख्यमंत्री चलित संयंत्र योजना के डीपीआर, सुपेबेड़ा समूह जल प्रदाय योजना, गिरौदपुरी धाम समूह योजना तथा चंदखुरी समूह जल प्रदाय योजना के अंतर्गत डीपीआर की स्थिति, विभाग में लगने वाली सामग्री जैसे केसिंग पाइप, हैंडपंप सेट, राइजर पाइप, सबमर्सिबल पंप सेट, केबल वायर, सर्विस वायर इत्यादि के खरीदी की जिलेवार जानकारी, सोडियम हाइपोक्लोराइट फील्ड टेस्ट किट तथा केमिकल की जिलेवार क्रय की पूर्ण जानकारी दी। बैठक के दौरान रायपुर, बिलासपुर और जगदलपुर तीनों परिक्षेत्र के अधिकारियों ने राजीव गांधी नल-जल योजना और मुख्यमंत्री नल-जल योजना की प्रगति की जानकारी दी। इस अवसर पर विभाग के सचिव डीडी सिंह, प्रमुख अभियंता टीजी कोसरिया, रायपुर, बिलासपुर और जगदलपुर परिक्षेत्र के मुख्य अभियंता सहित कार्यपालन अभियंता उपस्थित थे।

16-10-2019
समय-सीमा में कार्य न पूर्ण करने वाले अधिकारियों व कर्मचारियों पर होगी कठोर कार्रवाई: मंत्री गुरू रूद्र

रायपुर। लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी मंत्री गुरु रूद्रकुमार ने बुधवार को राजधानी स्थित नीर भवन में लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी विभाग की योजनाओं एवं कार्यक्रमों की समीक्षा की। उल्लेखनीय है कि मंत्री गुरु रूद्रकुमार ने विगत माह में लिए समीक्षा बैठक के दौरान विभाग द्वारा संचालित योजनाओं की जिलेवार अद्यतन जानकारी न मिल पाने के कारण अधिकारियों को पूर्ण जानकारी निश्चित समय-सीमा में उपलब्ध कराने के निर्देश दिए थे। गुरू रूद्रकुमार ने हर दो माह में सभी वरिष्ठ अभियंताओं को विभागीय कार्यों की समीक्षा करने के निर्देश भी दिए थे। मंत्री गुरु रूद्रकुमार ने अधिकारियों से प्राप्त अस्पष्ट जानकारी से नाराजगी व्यक्त करते हुए कहा कि रायपुर, बिलासपुर और जगदलपुर तीनों परिक्षेत्र के राजीव गांधी नल जल योजना और मुख्यमंत्री नल जल योजना की संपूर्ण जानकारी एक सप्ताह के अंदर प्रस्तुत करने को कहा। 

मंत्री गुरू रूद्र ने पूर्व में हुए बैठक में कहा था कि मिनीमाता अमृतधारा योजना से बीपीएल परिवार लाभान्वित होंगे। उन्होंने अधिकारियों को निर्देशित किया था कि योजना के तहत सर्वोच्च प्राथमिकता के साथ इन वर्गों के हितग्राहियों को लाभान्वित किया जाए। विभाग में संचालित सभी पेयजल योजनाओं को समय-सीमा में पूर्ण करें। विभाग को उपलब्ध आबंटन का शत्-प्रतिशत उपयोग किया जाए। नगरीय क्षेत्रों में स्वीकृत पेयजल योजनाओं को आवश्यकतानुसार प्राथमिकता क्रम से पूर्ण कराया जाए। मंत्री गुरू रूद्रकुमार ने राज्य स्तरीय समीक्षा बैठक में मिनीमाता अमृत धारा योजना की अद्यतन प्रगति, विधायकों के प्रस्ताव अनुसार 15-15 नल-जल योजनाओं की डीपीआर बनाने, विधायकों के गृह ग्राम में नल जल योजना, राजीव गांधी सर्वजल योजना के डीपीआर की स्थिति, मुख्यमंत्री चलित संयंत्र योजना के डीपीआर, सुपेबेड़ा समूह जल प्रदाय योजना के अंतर्गत डीपीआर बनाने की अद्यतन प्रगति तथा गिरौदपुरी धाम समूह योजना की डीपीआर बनाने की कार्रवाई, चंदखुरी समूह जल प्रदाय योजना के अंतर्गत डीपीआर की स्थिति, विभाग में लगने वाली सामग्री जैसे केसिंग पाइप, हैंडपंप सेट, राइजर पाइप, सबमर्सिबल पंप सेट, केबल वायर, सर्विस वायर इत्यादि के खरीदी की जिलेवार जानकारी, सोडियम हाइपोक्लोराइट फील्ड टेस्ट किट तथा केमिकल की जिलेवार क्रय की जानकारी चाही थी। उन्होंने अधिकारियों को अंतिम चेतावनी देते हुए कहा कि 31 अक्टूबर तक सभी कार्य को पूरा कर अपनी रिपोर्ट प्रस्तुत करें। अन्यथा संबंधित जिम्मेदार अधिकारी पर कठोर से कठोर कार्रवाई की जाएगी। उन्होंने सभी अधिकारियों को निर्देशित करते हुए कहा कि सभी अधिकारी जिम्मेदारी से कार्यों का समय-सीमा में सम्पादन करें। इस अवसर पर विभाग के प्रमुख अभियंता टीजी कोसरिया, रायपुर, बिलासपुर और जगदलपुर परिक्षेत्र के मुख्य अभियंता सहित कार्यपालन अभियंता उपस्थित थे।

20-08-2019
मंत्री गुरु रूद्रकुमार ने की मिनीमाता अमृत जलधारा योजना के क्रियान्वयन की समीक्षा 

रायपुर। लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी मंत्री गुरु रूद्रकुमार ने गरीबी रेखा श्रेणी के सभी परिवारों को मिनीमाता अमृत जलधारा योजना का लाभ दिलाने के निर्देश विभागीय अधिकारियों को दिए हैं। मंत्री गुरु रूद्रकुमार आज मंत्रालय (महानदी भवन) में वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से विभागीय कार्यों और मिनीमाता अमृत जलधारा योजना के क्रियान्वयन की समीक्षा कर रहे थे। उन्होंने बजट में स्वीकृत कार्यों के डीपीआर 15 सितंबर तक प्रस्तुत करने के निर्देश अधिकारियों को दिए। अमृत जलधारा योजना राज्य की महत्वाकांक्षी योजनाओं में शामिल है। इस योजना में प्रत्येक गरीब परिवार को नि:शुल्क नल कनेक्शन प्रदाय किया जाना है। उन्होंने अधिकारियों को समय-सीमा में योजना का लाभ दिलाने को कहा है। इस अवसर पर विभाग के सचिव  डीडी सिंह, प्रमुख अभियंता टीजी कोसरिया सहित विभाग के वरिष्ठ अधिकारी उपस्थित थे। 

 

Advertise, Call Now - +91 76111 07804