GLIBS
11-08-2021
युवाओं की टोली ने प्रकृति संरक्षण की दिशा में जिले की बदली तस्वीर

मुंगेली। पर्यावरण संरक्षण के उद्देश्य से स्टार्स ऑफ टुमॉरो वेलफेयर सोसाइटी मुंगेली के चलाए जा रहे अभियान “हरियर मुंगेली-सुग्घर मुंगेली” के बुधवार को 5 वर्ष पूरे हुए। इस पर संस्था ने वीर शहीद धनंजय सिंह स्टेडियम बीआर साव स्कूल मैदान में पीपल, बरगद, नीम, आंवला, कदम, बाकुल, स्पेथोडीयम आदि के 50 पौधों का रोपण कर सुरक्षा के दृष्टिकोण से ट्री गार्ड लगाया। पौधारोपण के पांच वर्ष पूरे होने पर केक काट कर लोगों को पौधरोपण के लिए प्रेरित किया।
पौधरोपण में उपस्थित कलेक्टर ने स्टार्स ऑफ टुमॉरो के युवाओं की तारीफ करते हुए कहा कि एक वृक्ष लगाना कई संतानों के बराबर होता है। इसलिए पौधों का संरक्षण करना हम सब का नैतिक दायित्व है। हम सभी जब इस कार्य में लगेंगे तो सरकार की मंशा के अनुरूप पौधारोपण के परिणाम मिलेंगे।


जिला पंचायत सीईओ रोहित व्यास ने कहा कि हमें पूरी निष्ठा और इमानदारी के साथ पौधारोपण कर उन्हें वृक्ष बनाने तक ध्यान रखना होगा। जिला शिक्षा अधिकारी सतीश पांडेय ने कहा कि पेड़ पौधों की महत्ता को हर किसी को समझना होगा। पौधरोपण अभियान के विशेष सहयोगी हेमेंद्र गोस्वामी ने कहा कि पर्यावरण को बचाए रखना हम सब लोगों का परम कर्तव्य है। वृक्ष से ही समय पर वर्षा होती है, जो कृषि कार्यों में सहायक होती है। आज की बिगड़ते हालत के लिए मुख्य रूप से हम सभी जिम्मेदार हैं।


इस अवसर पर मुंगेली कलेक्टर अजीत वसंत, जिला सीईओ रोहित व्यास, जिला पुलिस अधीक्षक डीआर आंचला, जिला शिक्षा अधिकारी सतीश पांडेय, हेमेंद्र गोस्वामी, प्रेस क्लब अध्यक्ष अनिल सोनी, व्यापार मेला आयोजन समिति के संरक्षक प्रवीण वैष्णव, आंनद देवांगन, स्वप्निल साहू, अशोक सोनी, मत्स्य आयोग के सदस्य प्रभु मल्लाह, पार्षद संजय सिंह साधु, रोहित शुक्ला, श्रीनिवास सिंह, राजशेखर यादव जिले के सभी इलेक्ट्रॉनिक एवं प्रिंट मीडिया के साथी के साथ संस्था के संयोजक रामपाल सिंह, सहसंयोजक रामशरण यादव, अध्यक्ष महावीर सिंह, सचिव विनोद यादव, कोषाध्यक्ष धनराज परिहार, आकाश परिहार, सतपाल मक्कड़, दिनेश गोयल, गोखलेश सिंह, आशीष सोनी, गौरव जैन, दीपक जैन, मुकेश पांडेय, श्रेणिक पारख, कोमल चौबे, सूरज मंगलानी, अनीश जैन, विकास जैन, देवशंकर श्रीवास्तव, हरिओम सिंह, आशीष सिंह, राहुल साहू, अंकित सिंह, टीपू खान, नागेश साहू, राहुल मल्लाह, चित्रकान्त सिंह, वैभव ताम्रकार, पवन यादव, सुनील वाधवानी, पप्पू शर्मा, रवि साहू, संतोष जांगड़े सहित पर्यावरण प्रेमी और संस्था के सभी सदस्य उपस्थित रहे।

 

20-07-2021
सरकार की कल्याणकारी योजनाओं का लाभ जनता को मिले इस दिशा में अफसर काम करे कहा बेमेतरा कलेक्टर विलास भोसकर संदीपान ने

बेमेतरा/रायपुर। कलेक्टर विलास भोसकर संदीपान ने संयुक्त जिला कार्यालय के दिशा-सभाकक्ष में समय सीमा की बैठक लेकर विभागीय काम काज की समीक्षा की। जिलाधीश ने कहा कि शासन की विभिन्न कल्याणकारी योजनाओं का लाभ आम जनता को मिले इस दिशा मे अधिकारी परस्पर समन्वय से कार्य करें। इस दौरान विभागवार लंबित आवेदनों के बारे में भी जानकारी ली। उन्होंने सभी विभागों के प्रमुखों से कहा कि आप सभी आवेदन जो आम जनता की ओर से मुख्यमंत्री जन चैपाल, कलेक्टर शिकायत शाखा, जन शिकायत पीजीएन एवं लोक सेवा गारंटी आदि के माध्यम से प्राप्त हुए हैं।

उनका निराकरण कर जिला कार्यालय को शीघ्र सूचित करें। सभी आवेदनों का निराकरण निर्धारित समय सीमा के भीतर ही हो जाना चाहिए। जिलाधीश ने अधिकारियों से लंबित आवेदन पत्रों के निराकरण की वस्तुस्थिति के संबंध में आवेदक, हितग्राही/शिकायत कर्ता को भी सूचित करने के निर्देश दिए। इससे आवेदक को उनके आवेदन पर की गई कार्यवाही की जानकारी मिल सके। बैठक के दौरान उन्होंने राज्य सरकार की सर्वोच्च प्राथमिकता वाले कार्यक्रमों एवं योजनाओं पर विशेष ध्यान देने कहा हैं। उन्होंने बैठक के दौरान आत्मानंद इंग्लिश मीडियम स्कूल, कोविड टीकाकरण, गौधन न्याय योजना, वर्मी कंपोस्ट उत्पादन एवं विक्रय, चारागाह विकास, धान उठाव, पौधरोपण, रसायनिक खाद की उपलब्धता, धान उठाव, जल जीवन मिशन के अंतर्गत स्कूलों एवं आंगनबाड़ी केंद्रों में रनिंग जल कनेक्शन स्थिति की समीक्षा की। उन्होंने आत्मानंद इंग्लिश मीडियम स्कूल के संचालन के लिए अतिरिक्त कक्षो के निर्माण, सभी गौठनों में चारागाह निर्माण, चारागाह में नेपियर घास का रोपण करने के निर्देश सम्बंधित विभाग के अधिकारियों को दिए हैं। कलेक्टर ने आज समय सीमा बैठक में अन्य विभागों के साथ होने वाले कार्य समन्वय की जानकारी लिया।

19-03-2021
स्वदेशी संस्करण गाइडेड मिसाइल तैयार, लांचिंग के बाद भी बदली जा सकती है दिशा

कानपुर। उत्तर प्रदेश के कानपुर आयुध फैक्ट्री में पिनाका मार्क 1 गाइडेड मिसाइल का स्वदेशी संस्करण सफलतापूर्वक तैयार कर लिया है। इस मिसाइल की खास बात यह है कि लांचिंग के बाद भी इसकी दिशा बदली जा सकती है। यह मिसाइल किसी भी बड़ी गाड़ी, बंकर, तोप पर सटीक निशाना लगा सकती है।

09-03-2021
एसोचैम के वेबीनार में शामिल हुईं राजयपाल, बोलीं- कुशल नेतृत्व से किसी देश या संस्था को मिलती है दिशा

रायपुर। कुशल नेतृत्व से किसी देश, संस्था या किसी कार्य को दिशा मिलती है। इसके कारण ही किसी देश को स्वतंत्रता मिली, कोई देश प्रगति की शिखर में पहुंचा। किसी संस्था को आगे बढ़ने की राह दिखी। बिना नेतृत्व के कोई भी संस्था दिशाविहीन हो जाती है। सार्थक नेतृत्व ही एक उत्कृष्ट रचना को जन्म देता है। यह बात राज्यपाल अनुसुईया उइके ने आज एसोचैम द्वारा आयोजित वेबीनार को संबोधित करते हुए कही। साथ ही उन्होंने अवार्डस ऑफ लीडरशीप एक्सीलेंस-2021 के आयोजन के लिए एसोचैम को बधाई दी। राज्यपाल ने कहा कि हम अपने देश की बात करें तो हमारे देश में अनेक महान नेतृत्व पैदा हुए है। हम यदि राष्ट्रपिता महात्मा गांधी की बात करें, तो उन्होंने अपने नेतृत्व के दम पर वह कर दिखाया, जो पूरी दुनिया के लिए एक तस्वीर बन गई। उस समय जब पूरा देश गुलाम था, तब भारतीयों को सत्याग्रह और अहिंसा का उपयोग करना सिखाया। उसी की बदौलत हमारे देश को आजादी मिली। मैं पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी बाजपेयी की बात करूं, जिनके नेतृत्व में काम करने का मौका मिला। मैंने उनके नेतृत्व में राष्ट्रीय महिला आयोग के काम को बखूबी निर्वहन किया। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व में हमारा देश तेजी से आगे बढ़ रहा है और उन्होंने ऐसे क्रांतिकारी निर्णय लिए, जिसने पूरी देश की दिशा बदल दी। उनके नेतृत्व में कोरोना काल में एकजुट होकर मुकाबला किया और आज इस बीमारी की वैक्सीन आ गई है और हमारे देश में टीकाकरण प्रारंभ हो गया है। उन्होंने दुनिया के कुछ देशों को वैक्सीन प्रदान कर हमारे देश को पूरे विश्व में स्थापित किया है। आज पूरा विश्व उन्हें सम्मान की नजरों से देखते हुए धन्यवाद दे रहा है।

राज्यपाल उइके ने कहा कि लेकिन हमें यह जानना चाहिए कि नेतृत्व का गुण एक दिन में नहीं बनता है। उसके लिए समर्पण, लंबा संघर्ष और त्याग की भावना की आवश्यकता होती है। वहीं नेतृत्व सफल होता है जो दूसरों के लिए बिना किसी अपेक्षा की मदद करता है। राज्यपाल ने कहा कि मेरे सामने कई चुनौतियां आई पर मैं हिम्मत नहीं हारी और वरिष्ठ जनों के मार्गदर्शन और अपनी दृढ़ इच्छाशक्ति से सामना करती रही। विभिन्न दायित्वों के अलावा राष्ट्रीय महिला आयोग की सदस्य, राज्यसभा सांसद, राष्ट्रीय जनजाति आयोग की उपाध्यक्ष और छत्तीसगढ़ की राज्यपाल बनने का अवसर प्राप्त हुआ। उइके ने कहा कि राज्यपाल के रूप में आज करीब एक साल 7 महीने हो रहे हैं। इस दौरान मैंने प्रयास किया कि मैं एक राज्यपाल नहीं एक पालक के रूप में कार्य करूं और हर जरूरतमंद की समस्या को समझने और समाधान करने की कोशिश की। राज्यपाल ने कहा कि एसोचैम पूरे भारत वर्ष में उद्योग समूह के संगठन के रूप में कार्य कर रहा है। साथ ही यह समय-समय पर देश के व्यापार और वाणिज्यिक, उद्योग समूह को अपने सुझाव के द्वारा उचित दिशा प्रदान करने का कार्य कर रहा है। इस अवसर पर विभिन्न संस्थाओं के प्रमुखों को उनके नेतृत्व के लिए एसोचैम नेशनल लीडरशिप एक्सीलेंस अवार्ड्स 2021 से सम्मानित किया गया। इसके अतंर्गत हेल्थ केयर के लिए ओके लाईफ केयर प्राईवेट लिमिटेड, आउटस्टैंडिंग स्टार्टअप के लिए वेरी लाईफ प्रोडक्ट्स प्राईवेट लिमिटेड, स्कील डेव्हलपमेंट एवं वोकेशनल ट्रेनिंग के लिए प्रोस्कीलस, बेस्ट बी-स्कूल्स के लिए इंटरनेशनल स्कूल ऑफ बिजनेस एवं मीडिया, बेस्ट एविएशन इंस्टीट्यूट का अवार्ड फ्रेंकफिन इंस्टीट्यूट ऑफ एयरहॉस्टेज ट्रेनिंग संस्था, लाईफ साइंसेस स्कीलिंग एंड वोकेशनल ट्रेनिंग प्रोग्राम्स के लिए क्लिनिमाइंड्स टेनेट हेल्थ एडुटेक प्राईवेट लिमिटेड, फार्मासेटिकल के लिए फाइनकेयर फार्मासेटीकल्स लिमिटेड एवं बेस्ट यूनिवर्सिटी ऑफ द ईयर का अवार्ड गनपत यूनिवर्सिटी को प्रदान किया गया। इस अवसर पर राज्यसभा सांसद महेश पोद्दार, पूर्व क्रिकेटर कीर्ति आजाद और एसोचैम संस्था के पदाधिकारीगण उपस्थित थे।

 

Attachments area

05-12-2020
सांसद विजय बघेल ने कहा, सभी योजनाओं में लक्ष्य प्राप्त करने की दिशा में लगाएं पूरा जोर

दुर्ग। दिशा की बैठक में दुर्ग जिले में चलाई जा रही अहम योजनाओं के क्रियान्वयन पर विस्तार से चर्चा हुई। बैठक में अध्यक्षता कर रहे सांसद विजय बघेल ने कहा कि शासन की योजनाओं का लक्ष्य लोगों को बुनियादी सुविधाएं प्रदान करना हैं। इसमें जनप्रतिनिधि और अधिकारी समन्वय के साथ कार्य करते हुए नागरिकों के लिए जरूरी बुनियादी लक्ष्यों को प्राप्त करने की दिशा में कार्य करें। बैठक में कलेक्टर डाॅ.सर्वेश्वर नरेंद्र भुरे ने कहा कि अध्यक्ष ने जिन विषयों को रखा है उस पर अगली बैठक तक पूरी कार्रवाई कर लें ताकि दिशा की अगली बैठक में पालन प्रतिवेदन में इसे रखा जा सके। बैठक में विधायक विद्यारतन भसीन, महापौर दुर्ग भिलाई चंद्रकांता मांडले, जिला पंचायत अध्यक्ष शालिनी यादव एवं अन्य सदस्य उपस्थित थे। बैठक में कलेक्टर डाॅ. सर्वेश्वर नरेंद्र भुरे, नगर निगम कमिश्नर भिलाई ऋतुराज रघुवंशी, रिसाली कमिश्नर प्रकाश सर्वे, जिला पंचायत सीईओ सच्चिदानंद आलोक सहित अन्य अधिकारी उपस्थित थे। बैठक में मूलतः इन विषयों पर चर्चा हुई। बैठक में अमृत मिशन के क्रियान्वयन पर चर्चा हुई। बैठक में सदस्यों ने यह विषय रखा कि अमृत मिशन के कार्यान्वयन से काफी हद तक पेयजल की समस्या दूर होगी। फिर भी इसमें यह देखना जरूरी है कि नगरीय क्षेत्र पूरी तरह टैंकर मुक्त हों। यह भी देखना जरूरी है कि सभी को पेयजल मिले और ऐसा न हो कि किसी को पेयजल की अनुपलब्धता हो और कहीं जरूरत से अधिक उपलब्ध हो जाए। सांसद ने प्रधानमंत्री आवास की प्रगति के संबंध में जानकारी ली। सदस्यों ने योजनाओं के क्रियान्वयन से जुड़े तकनीकी विषयों को रखा। सांसद ने कहा कि बैठक में जनप्रतिनिधियों से और अधिकारियों से योजना को लेकर अच्छे फीडबैक मिले हैं, यह फीडबैक प्रेषित किये जाएंगे।

 

 

20-11-2020
कांग्रेस मौत पर कर रही राजनीति, पीड़ित परिवार को आर्थिक मदद के साथ ही न्याय की दिशा में ठोस पहल की जाए : कौशिक

रायपुर। भारतीय जनता पार्टी के वरिष्ठ नेता व प्रदेश विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष धरमलाल कौशिक ने प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष मोहन मरकाम के बयान पर पलटवार किया है। उन्होंने कहा कि लोकतंत्र में हर किसी को अपनी बातें कहने का अधिकार है लेकिन तथ्य अलोकतांत्रिक नहीं होने चाहिए। कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष और ज़िम्मेदार जनप्रतिनिधि के नाते मरकाम को कोई बात भी बोलने से पहले मन में मंथन जरूर करना चाहिए। कौशिक ने सवाल किया कि एक परिवार के लोगों की प्रतिकूल परिस्थितियों संदिग्ध मौत हो जाती है और उस पर प्रतिपक्ष कुछ बोले तो वह कार्य घृणित कैसे हो सकता है? नेता प्रतिपक्ष कौशिक ने कहा कि सत्तापक्ष को आइना दिखाने का काम ही प्रतिपक्ष का दायित्व है। ऐसे में केन्द्री में पीड़ित परिवार का दुख जानने भाजपा का प्रतिनिधिमंडल जाता है तो उन्हें किस बात की पीड़ा होती है? यदि उनको पीड़ा होती, तो वे पीड़ित परिवार का हाल-चाल जानने ज़रूर जाते। लेकिन इसकी ज़रूरत न समझकर वे केवल सियासी बयानबाजी में व्यस्त हैं। कौशिक ने कहा कि पीड़ित परिवार से मिलने का समय भी सरकार के पास नहीं है। इस सरकार के पास संवेदना के नाम पर कुछ भी नहीं बचा है। और, जब प्रतिपक्ष के दबाव के चलते प्रदेश सरकार को जवाब देना होता है तो कांग्रेस के नेता इस तरह की अतार्किक बातें कहकर भ्रम फैलाने का काम करते हैं। कौशिक ने कहा कि क्या किसी के दुख के पल में शामिल होना घृणित कार्य है, कांग्रेस को यह स्पष्ट करना चाहिये। इस तरह किसी एक ही परिवार के पांच सदस्यों की मौत पर तो कांग्रेस ही राजनीति कर रही है, साथ ही अपनी ज़िम्मेदारी से भागकर बचना चाहती है। कौशिक ने मांग की है कि पीड़ित परिवार को तत्काल आर्थिक मदद के साथ ही न्याय दिलाने की दिशा में ठोस पहल की जाए।

 

 

07-09-2020
ओडिशा तट पर एचएसटीडीवी का सफल परीक्षण,राजनाथ ने कहा- आत्मनिर्भर भारत के सपने को साकार करने की दिशा में बड़ा कदम

नई दिल्ली। हाइपरसोनिक टेक्नोलॉजी डिमॉन्स्ट्रेटर व्हीकल(एचएसटीडीवी) का भारत ने सोमवार को सफलतापूर्वक परीक्षण किया। यह परीक्षण ओडिशा तट पर कलाम द्वीप से किया गया। स्वदेशी तौर पर विकसित स्क्रैमजेट प्रोपल्शन सिस्टम का उपयोग करना सभी महत्वपूर्ण प्रौद्योगिकियां अगले चरण में प्रगति के लिए मान्य हैं। रक्षा अनुसंधान एवं विकास संगठन (डीआरडीओ) के अध्यक्ष डॉ.जी.सतीश रेड्डी ने राष्ट्र की रक्षा क्षमताओं को मजबूत करने के लिए अपने दृढ़ और अटूट प्रयासों के लिए सभी वैज्ञानिकों, शोधकर्ताओं और इस मिशन से जुड़े अन्य कर्मियों को बधाई दी। उन्होंने कहा कि इस मिशन के साथ डीआरडीओ ने अत्यधिक जटिल प्रौद्योगिकी के लिए क्षमताओं का प्रदर्शन किया है,जो उद्योग के साथ साझेदारी में नेक्स्टजेन हाइपरसोनिक वाहनों के लिए बिल्डिंग ब्लॉक के रूप में काम करेगा। रक्षामंत्री राजनाथ सिंह ने डीआरडीओ को बधाई देते हुए कहा कि आज स्वदेशी रूप से विकसित स्क्रैमजेट प्रोपल्शन प्रणाली का उपयोग कर हाइपरसोनिक टेक्नोलॉजी डेमोंट्रेटर वाहन का सफलतापूर्वक परीक्षण किया गया है। इस सफलता के साथ, सभी महत्वपूर्ण प्रौद्योगिकियां अब अगले चरण की प्रगति के लिए स्थापित हो गई हैं। मैं इस महान उपलब्धि के लिए बधाई देता हूं,जो पीएम के 'आत्मनिर्भर भारत' के सपने को साकार करने की दिशा में है। मैंने परियोजना से जुड़े वैज्ञानिकों से बात की और उन्हें इस महान उपलब्धि पर बधाई दी। भारत को उन पर गर्व है।

 

 

03-06-2020
रंगीन लाईटों से जगमग हो रहा है फोरलेन,सौंदर्यीकरण की दिशा में निगम की पहल

भिलाई। निगम क्षेत्र में सौंदर्यीकरण को लेकर फोरलेन की सड़कों मे रंगीन लाईटें लगाई गई हैं। इससे रात्रि में चलने वाले मुसाफिरों को एक सुंदर नजारा मिल रहा है। विद्युत पोलों की पेंटिंग व जगमगाती रोशनी की लाइट लगने से नेहरू नगर से टोल प्लाजा तक रंगीन नजारा बिखरने लगा है। महापौर देवेंद्र यादव व निगम आयुक्त ऋतुराज रघुवंशी के प्रयासों से फोरलेन के बीचोबीच रंगीन लाईटे लगाई गई है। भिलाई निगम क्षेत्र कुछ हिस्सों में चौक-चौराहों सहित सड़कों को सुंदर बनाने के लिए नेशनल हाइवे के किनारे बिजली पोल को भी रंगीन किया जा रहा है। नेहरू नगर चौक से टोल प्लाजा तक सड़कों के बीचों बीच लग रहे लाईट से हाईवे की सड़क पर राहगीरों को रंगीन दृश्य दिख रहा है। जोन क्रमांक 01 के सहायक अभियंता सुनील दुबे ने बताया कि अभी पहले चरण में नेहरू नगर चौक से टोल प्लाजा तक कार्य किया जा रहा है, जिसकी लागत तकरीबन तीन लाख होगी। फोरलेन में सुंदरता बढ़ाने पुराने विद्युत पोल का रंग रोगन किया जा रहा है, रंगीन लाईट सुव्यस्थित रूप जलती रहे इसके लिए पोल पर लगे पुराने एवं खराब एमसीबी बाॅक्स को बदलकर नया लगाया गया है ताकि लाईटों के जलने में कोई व्यवधान उत्पन्न न हो। भिलाई निगम प्रशासन द्वारा फोरलेन पर रंगीन लाईट नेहरू नगर चौक से टोल प्लाजा तक लगाया जाना है, चूंकि पाॅवर हाउस से सुपेला चौक तक ओवरब्रिज निर्माण जारी होने की वजह से कुछ कार्यों को देर से शुरू किया जा सकता है या फिर नेहरू नगर क्षेत्र के अन्य प्रमुख स्थानों के लिए ऐसी योजना बनाई जा सकती है। नेहरू नगर चौक, भिलाई से दुर्ग की ओर एवं राजनांदगांव की ओर जाने वाले रास्ते पर स्थित एक प्रमुख चौराहा है, इस चौक से फ्लाईओवर भी गुजरा हुआ है जो बीएसपी क्षेत्र की ओर जाता है, फ्लाई ओवर में स्वच्छता संबंधी संदेश देने के लिए वॉल पेंटिंग की गई है, यहां से गुजरने वाले लोगों को यह पेंटिंग आकर्षित करता है और स्वच्छता अपनाने प्रेरित करता है।

30-05-2020
पत्रकार लोकतंत्र के मजबूत स्तम्भ, विकास को देते हैं सही दिशा : डॉ. चरणदास महंत

रायपुर। विधानसभा अध्यक्ष डॉ. चरणदास महंत ने हिन्दी पत्रकारिता दिवस 30 मई की शुभकामनाएं दी हैं। उन्होंने कहा कि पत्रकार लोकतंत्र के वो मजबूत स्तम्भ हैं जो देश के विकास को सही दिशा देते हैं। कोरोना काल में भी आमजन तक खबरें पहुंचाने में सराहनीय भूमिका निभाने वाले सभी कोरोना वॉरियर पत्रकारों का धन्यवाद।

18-05-2020
राज्य नहीं कर सकते लॉक डाउन 4.0 के लिए जारी दिशा-निर्देशों कम : केंद्रीय गृह मंत्रालय

नई दिल्ली। केंद्र सरकार ने 31 मई तक देश में लॉक डाउन को बढ़ा दिया है। इसी बीच, गृह मंत्रालय ने कहा है कि कोई भी राज्य या केंद्र शासित प्रदेश देशव्यापी लॉक डाउन 4.0 के लिए जारी दिशा-निर्देशों को कम नहीं करेगा। राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों के मुख्य सचिवों को दिए एक संवाद में केंद्रीय गृह सचिव अजय भल्ला ने कहा कि राज्यों के विचार के बाद लॉक डाउन के चौथे चरण के लिए दिशानिर्देश जारी किए गए हैं। उन्होंने कहा,'जैसा कि मेरे पहले के पत्रों में जोर दिया गया था, मैं फिर से दोहराना चाहूंगा कि राज्य और केंद्र शासित प्रदेश एमएचए द्वारा जारी किए गए पूर्वोक्त दिशानिर्देशों के तहत प्रतिबंधों को कम नहीं कर सकते। राज्य और केंद्र शासित प्रदेश स्थिति के आकलन के आधार पर, विभिन्न क्षेत्रों में कुछ अन्य गतिविधियों को प्रतिबंधित कर सकते हैं या आवश्यक समझे जाने पर इस तरह के प्रतिबंध में थोड़ी छूट दे सकते हैं।

'भल्ला ने मुख्य सचिवों को लिखे अपने पत्र में कहा, 'मैं आपसे आग्रह करूंगा कि नए दिशानिर्देशों का अनुपालन सुनिश्चित करें और सभी संबंधित अधिकारियों को उनके सख्त कार्यान्वयन के लिए निर्देशित करें।' उन्होंने कहा कि सोमवार से प्रभावी नए दिशानिर्देशों के तहत, राज्य और केंद्र शासित प्रदेश रविवार को स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्रालय द्वारा जारी किए गए संशोधित दिशानिर्देशों को ध्यान में रखते हुए 'लाल', 'ऑरेंज' और 'ग्रीन' जोन को वर्गीकृत करेंगे।'रेड' और 'ऑरेंज' जोन के अंदर, जिला प्रशासन और स्थानीय शहरी निकायों द्वारा स्थानीय स्तर पर तकनीकी आदानों के साथ और स्वास्थ्य मंत्रालय के दिशा-निर्देशों को ध्यान में रखते हुए बफर जोन की पहचान की जाएगी। पत्र में कहा गया है कि नियंत्रण क्षेत्रों के भीतर, कठोर परिधि नियंत्रण बनाए रखा जाएगा और चिकित्सा आपात स्थिति और आवश्यक वस्तुओं और सेवाओं की आपूर्ति को बनाए रखने के अलावा, पूरे क्षेत्र में व्यक्तियों की आवाजाही की अनुमति नहीं दी जाएगी।

 

13-05-2020
आत्मनिर्भरता के संकल्प से देश एक मजबूत अर्थव्यवस्था वाला देश बनने की दिशा में आगे बढ़ेगा : डॉ.सिंह

रायपुर। भाजपा की छत्तीसगढ़ इकाई ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की ओर से आत्मनिर्भर भारत अभियान के मद्देनजर घोषित 20 लाख करोड़ रुपए के आर्थिक पैकेज को एक नए भारत की रचना की नई ऊर्जा से सराबोर बताया है। भाजपा के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष व पूर्व मुख्यमंत्री डॉ.रमन सिंह ने कहा कि सूक्ष्म-मध्यम लघु व कुटीर तथा गृह उद्योगों को प्रोत्साहित करने की दृष्टि से यह पैकेज प्रधानमंत्री मोदी के व्यापक दृष्टिकोण का परिचय देने वाला है। भारत को आत्मनिर्भर बनाने के संकल्प ने देश को एक मजबूत अर्थ व्यवस्था वाला देश बनने की दिशा में आगे बढ़ाने का काम किया है।डॉ. रमन सिंह ने कहा कि केंद्र सरकार ने निजी व सरकारी क्षेत्र के कर्मचारियों के भविष्य निधि खातों में 24 प्रतिशत के अंशदान को अगले तीन माह के लिए बढ़ाकर कर्मचारियों के साथ ही नियोक्ताओं को भी राहत प्रदान की है। इससे 3.66 संस्थानों के 72 लाख कर्मचारी लाभान्वित होंगे। एमएसएमई सेक्टर के लिए किए गए प्रावधान स्वतंत्र भारत के इतिहास की बड़ी उपलब्धि हैं। सन 1991 के बाद अब लेबर लैंड सेक्टर में इससे सुधार नजर आएगा। केंद्रीय वित्त मंत्री सीतारमण ने उन बैंकों को भी फायदा पहुँचाने के लिए 30 हजार करोड़ रुपए के प्रावधान की घोषणा की है जो ऋण वितरण के कारण तनाव में थे और नकदी की समस्या से जूझ रहे थे।

 

Advertise, Call Now - +91 76111 07804