GLIBS
20-02-2020
इन्द्रावती भवन में सेवानिवृत्त अधिकारी-कर्मचारियों का हुआ सम्मान

रायपुर। नवा रायपुर में राजपत्रित अधिकारी संघ एवं छग शासकीय संयुक्त कर्मचारी संघ के संयुक्त तत्वाधान में इन्द्रावती भवन में नववर्ष एवं सम्मान समारोह का योजन किया गया। संगठन के द्वारा यह आयोजन पिछले 4 वर्षो से किया जा रहा है। कार्यक्रम मेें अनेक जनप्रतिनिधि व नवा रायपुर स्थित मंत्रालय,विभागाध्यक्ष व अन्य कार्यालयोें के साथ-साथ आस- पास के ग्रामीण भी भारी संख्या में सम्मिलित हुए। छग राजपत्रित अधिकारी संघ के अध्यक्ष एवं कर्मचारी अधिकारी फेडरेशन के संयोजक कमल वर्मा ने बताया कि कार्यक्रम में प्रतिवर्ष की भांति इस वर्ष भी मंत्रालय एवं संचालनालय से वर्ष-2019 में लगभग 70 सेवानिवृत्त अधिकारी-कर्मचारियों का सम्मान शाल एवं श्रीफल व प्रमाणपत्र देकर किया गया। साथ ही नवा रायपुर स्थित विभिन्न स्कूलों के प्रतिभावान छात्र-छात्राओं का सम्मान अतिथियों के द्वारा कियागया।

समारोह में नवा रायपुर प्रीमियर लीग (एनपीएल) क्रिकेट टूर्नामेंट के विजेता अरपा पैरी रायल चैलेजंर्स सुरक्षा मंत्रालय एवं उपविजेता शिवनाथ सीआईडी डेयर डेविल्स पुलिस मुख्यालय को शील्ड व नगद पुरस्कार देकर सम्मानित किया गया है। इसी तरह महिला क्रिकेट टीम के विजेता इन्द्रा इलेवन इन्द्रावती भवन एवं उप विजेता अरपा पैरी फाईटर्स , इन्द्रावती भवन को भी शील्ड व नगद पुरस्कार देकर सम्मानित किया गया। बैडमिंटन विजेता  पुरूष डबल का खिताब वन विभाग एवं उप विजेता कोष लेखा एवं पेंशन को ट्राफी व नगद राशि देकर सम्मानित किया गया। कार्यक्रम का संचालन सचिन शर्मा एवं आभार प्रदर्शन देवलाल भारती ने किया। इस अवसर पर संगठन के अमोद श्रीवास्तव, अनिल मालेकर, संतोष वर्मा, सत्येन्द्र देवागंन, जेपी मिश्रा, जीएल मावलंकर, नंदलाल चौधरी, अविनाश तिवारी, भोलाराम कीर, विद्या दुबे,मीनाक्षी राव,नेहा शुक्ला आदि उपस्थित थीं।

 

18-02-2020
ताम्रध्वज साहू ने नवा रायपुर में मंत्रियों के आवास निर्माण की प्रगति का लिया जायजा

रायपुर। लोक निर्माण एवं गृह मंत्री ताम्रध्वज साहू ने नवा रायपुर के सेक्टर-24 में निर्माणाधीन मुख्यमंत्री निवास, विधानसभा अध्यक्ष निवास और मंत्रियों के आवास निर्माण की प्रगति का जायजा लिया। मंत्री साहू ने विभागीय अधिकारियों को गुणवत्ता के साथ आवास निर्माण में तेजी लाने के निर्देश दिए। उन्होने आवास के साथ-साथ सड़क निर्माण और बाउंड्री वाल का कार्य भी शीघ्र प्रारंभ करने के निर्देश दिए। सेक्टर 24 में आवासो के प्लिंथ एरिया का कार्य पूर्ण हो चुका है। इस अवसर पर प्रमुख अभियंता डीके अग्रवाल एवं मुख्य अभियंता एसके शर्मा सहित अन्य विभागीय अधिकारी उपस्थित थे।

 

 

14-02-2020
आबकारी आयुक्त ने कहा, अधिक दर पर मदिरा विक्रय पर होगी कड़ी कार्रवाई

रायपुर। आबकारी आयुक्त निरंजन दास ने वाणिज्यिक कर (जीएसटी) भवन नवा रायपुर में प्रदेश के समस्त आबकारी अधिकारियों की विभागीय समीक्षा बैठक ली। उन्होंने समस्त आबकारी अधिकारियों को प्रदेश में अन्य प्रांतों की मदिरा विक्रय पर नियंत्रण करने तथा अवैध मदिरा विक्रय के विरूद्ध सख्त अभियान चलाने के निर्देश दिए।

आबकारी आयुक्त दास ने प्रदेश में अधिक दर पर मदिरा के विक्रय की प्राप्त हो रही शिकायतों को गंभीरता से लेते हुए उस पर कड़ाई से कार्रवाई करने के निर्देश भी दिए। इसके साथ ही जिलों से संबद्ध मैनपावर एजेंसी को भी कड़े शब्दों में निर्देशित किया गया कि उनके कर्मचारी अधिक दर पर मदिरा विक्रय में संलिप्तता पाये जाने पर उन्हें तत्काल हटाने की कार्यवाही करें। समीक्षा बैठक में आबकारी आयुक्त ने प्रदेश में संचालित बार-क्लबों में निर्धारित प्रत्याभूत मात्रा का उठाव किए जाने तथा बार-क्लबों में अवैध मदिरा के विक्रय की रोकथाम के लिए अधिक प्रयास करने के निर्देश दिए। उन्होंने प्रदेश में देशी एवं विदेशी मदिरा की बिक्री की जानकारी ली तथा समस्त जिला अधिकारियों को निर्देशित किया कि वे मांग के अनुरूप मदिरा का पर्याप्त स्टाक रखे।

30-01-2020
जनसंपर्क संचालनालय में राष्ट्रपिता महात्मा गांधी और शहीदों को दी गई श्रद्धांजलि

रायपुर। जनसंपर्क संचालनालय इन्द्रावती भवन नवा रायपुर के अधिकारियों एवं कर्मचारियों द्वारा गुरुवार को राष्ट्रपिता महात्मा गांधी के शहादत दिवस पर दो मिनट का मौन धारण कर उन्हें तथा अन्य शहीदों को श्रद्धांजलि दी गई। स्वतंत्रता आंदोलन में शहीदों के योगदान का स्मरण किया गया। इस अवसर पर संचालनालय के सभी अधिकारी एवं कर्मचारी उपस्थित थे।

 

29-01-2020
केन्द्रीय गृह मंत्री की अध्यक्षता में मध्य क्षेत्रीय परिषद की 22वीं बैठक हुईं

रायपुर। छत्तीसगढ़ के नवा रायपुर में मध्य क्षेत्रीय परिषद की 22वीं बैठक आयोजित की गई। बैठक की अध्यक्षता केन्द्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने की। बैठक को संबोधित करते हुए केन्द्रीय गृह मंत्री ने कहा कि संघीय ढ़ाँचे के लिए यह बैठक अत्यंत महत्वपूर्ण है। इस बैठक का उद्देश्य सदस्य राज्यों के छोटे-बड़े मुद्दों को आपसी समन्वय से बेहतर बनाया जाना है। मुझे विश्वास है इसके अच्छे नतीजे सामने आएंगे। केन्द्र सरकार, राज्यों के साथ बेहतर समन्वय बनाकर विकास की नई दिशा तय करना चाहती हैं। शाह ने कहा कि  बैठक में विभिन्न मुद्दों पर चर्चा हुई तथा जो सुझाव तथा आंकड़े प्राप्त हुये है उन पर विचार किया जायेगा तथा इसके सकारात्मक और अच्छे परिणाम सामने आयेगें। केन्द्रीय गृह मंत्री ने प्रत्येक पांच किलोमीटर कि परिधि, विशेषकर नक्सल प्रभावित क्षेत्रों में बैंकिंग सेवायें उपलब्ध कराने, पॉस्को अधिनियम के तहत किये गये जघन्य अपराधों को 2 माह की समय सीमा में निपटाने का आवाह्न किया।

उन्होंने मुख्यमंत्रियों से कहा कि सीआरपीसी और भारतीय दंड संहिता (आईपीसी) में संशोधन के लिए सुझाव दें। शाह ने किसानों को उनकी उपज का भुगतान समय सीमा में करने के बारे में बताया कि इसके लिए एक उच्च स्तरीय समिति बनायी गई है जोकि उपज की खरीद और उसके वितरण की समीक्षा कर रही हैं। इस बैठक में छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री और मध्य क्षेत्रीय परिषद के उपाध्यक्ष भूपेश बघेल, उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ, उत्तराखण्ड के मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत और मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री कमलनाथ सहित राज्यों के मंत्री, मुख्य सचिव, केन्द्रीय मंत्रालय और राज्यों के विभागीय अधिकारी शामिल हुए। बैठक में जिन अन्य मुद्दों पर चर्चा की गई उनमें छत्तीसगढ़ के बिलासपुर के हवाई अड्डे के विकास के लिए भूमि का अधिकरण, रेलवे परियोजनाओं के लिए भूमि अधिग्रहण और पेड़ों की कटाई की अनुमति, प्रतिपूरक वनीकरण हेतु केन्द्र और राज्य की एजेंसियों के लिए एक समान मापदण्ड निर्धारित करना, निजी सुरक्षा एजेंसी (नियामक) अधिनियम 2005 के लिए नियंत्रक प्राधिकारी की नियुक्ति, पब्लिक फाइनेंन्शियल मेनेजमेंट सिस्टम (पीएफएमएस) का अधिकाधिक प्रयोग है। केन्द्रीय गृह सचिव अजय भल्ला, राज्यों के मुख्य सचिव और केन्द्र तथा राज्य सरकार के वरिष्ठ अधिकारियों ने बैठक के दौरान विभिन्न मुद्दों पर विस्तार से चर्चा की।

26-12-2019
पुलिया निर्माण के लिए 20 लाख की मिली प्रशासकीय स्वीकृति

बलरामपुर। छत्तीसगढ़ शासन, सामान्य प्रशासन विभाग, मंत्रालय, महानदी भवन, नवा रायपुर के अधिसूचना द्वारा प्रदत्त शक्तियों का प्रयोग करते हुए कार्यालय संभागीय आयुक्त सरगुजा संभाग अम्बिकापुर द्वारा दी गई स्वीकृति के आधार पर 2 कार्यों के लिए 20 लाख रूपये की प्रशासकीय स्वीकृति कलेक्टर संजीव कुमार झा द्वारा प्रदान की गई है। कार्यों में जनपद पंचायत वाड्रफगनर अन्तर्गत ग्राम पंचायत बड़कागांव के मझारपारा से जाबरपार के डुमरढ़ोंड़ में पुलिया निर्माण एवं ग्राम पंचायत रजखेता के रामनाथ के घर के पास नाला में पुलिया निर्माण कार्य के लिए 10-10 लाख रूपये की प्रशासकीय स्वीकृति प्रदान की गई है। कार्य निम्नलिखित शर्तों के अधीन किया जाएगा जैसे स्वीकृत कार्य तीन माह के भीतर अनिवार्य रूप से पूर्ण करना, गुणवत्ता उच्च कोटी का होना,कार्य पूर्णता पश्चात पूर्णता एवं उपयोगिता प्रमाण पत्र कार्यालय में जमा करना, कार्य निर्माण निजी भूमि पर न होना, निर्माण कार्य स्वीकृत राशि के सीमा में पूर्ण किया जाना आदि है।

10-12-2019
पोलेण्ड के राजदूत एडम बुराकोवस्की ने देखा जंगल सफारी और पुरखौती मुक्तांगन

रायपुर। पोलेण्ड के राजदूत एडम बुराकोवस्की ने मंगलवार को नवा रायपुर स्थित जंगल सफारी और पुरखौती मुक्तांगन का भ्रमण किया। बुराकोवस्की ने जंगल सफारी के विजिटर बुक में लिखा कि ‘मैंने अपने जीवन में सफेद टाइगर को पहली बार करीब से देखा‘। राजदूत एडम बुराकोवस्की ने जंगल सफारी का पूरा भ्रमण किया और वहां के जू को पैदल घूमकर देखा और जंगल सफारी की प्रशंसा की। पोलेण्ड के राजदूत ने पुरखौती मुक्तांगन में छत्तीसगढ़ की संस्कृति की झलक देखकर बस्तर जाने की इच्छा जाहिर की। उन्होंने पुरखौती मुक्तांगन में भोरमदेव मंदिर का मॉडल, बस्तर दशहरा का रथ, घोटूल, पंथी नृत्य, सुवा नृत्य और राउत नाचा के प्रतिकृतियों को देखकर प्रसन्नता जाहिर की और उसके बारे में जानकारी ली। एडम बुराकोवस्की ने बताया कि छत्तीसगढ़ आकर उन्हें बहुत अच्छा लगा और वे पुनः छत्तीसगढ़ आएंगे।

05-12-2019
​​​​​​​मुख्य सचिव ने नवा रायपुर में किया निर्माण कार्यों का निरीक्षण

रायपुर। प्रदेश के मुख्य सचिव आरपी मंडल ने गुयवार को नवा रायपुर में हो रहे निर्माण कार्यों का निरीक्षण किया। जिसमें नवा रायपुर के सेक्टर 24 में निर्माणाधीन राजभवन, मुख्यमंत्री निवास एवं मंत्री गणों हेतु आवास तथा सेक्टर 18 में वरिष्ठ अधिकारियों हेतु निर्माणाधीन आवास का निरीक्षण लोक निर्माण विभाग के अधिकारियों के साथ किया गया। मंडल ने निर्माण के नक्शे का निरीक्षण किया तथा अधिकारियों को निर्माण पूरी गुणवत्ता के साथ, एक वर्ष के भीतर पूर्ण करने हेतु निर्देशित किया। इस अवसर पर विशेष सचिव अनिल राय, प्रमुख अभियंता डीके अग्रवाल, मुख्य अभियंता एस के शर्मा सहित विभाग के अन्य अधिकारी उपस्थित थे।

26-11-2019
पुलिस मुख्यालय में मनाया गया संविधान दिवस

रायपुर। संपूर्ण भारत में संविधान दिवस के रूप में मनाए जाने के निर्देश के क्रम में मंगलवार को पुलिस मुख्यालय, अटल नगर, नवा रायपुर में सुबह 11 बजे भारतीय संविधान के प्रस्तावना का पठन किया गया। अतिरिक्त पुलिस महानिदेशक (प्रशासन) अशोक जुनेजा ने पुलिस मुख्यालय के अधिकारियों, कर्मचारियों को भारतीय संविधान के प्रस्तावना का सामुहिक रूप से पठन कराया। इस अवसर पर पुलिस मुख्यालय के समस्त अधिकारी-कर्मचारी सम्मिलित रहे।

18-11-2019
छत्तीसगढ़ में शोध के क्षेत्र में बड़ी संभावनाएं विद्यमान : भूपेश बघेल

रायपुर। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने विद्यार्थियों से अपने तकनीकी ज्ञान का उपयोग कर छत्तीसगढ़ के विकास में सहभागी बनने का आव्हान किया है। उन्होंने कहा कि कृषि उपजों और वनोपजों से तकनीकी के बेहतर उपयोग से अधिक से अधिक रोजगार के अवसर कैसे पैदा किये जा सकते हैं। किसानों के लिए इसे कैसे लाभप्रद बनाया जा सकता है। इस दिशा में शोध किया जाना चाहिए। बघेल ने कहा कि आने वाले समय में भिलाई के इस्पात संयंत्र और एनटीपीसी की तरह ही नवा रायपुर का यह ट्रिपल आईटी संस्थान देश की प्रगति में योगदान देने वाले एक प्रमुख संस्थान के रूप में पहचान बनाएगा। उन्होंने कहा कि पिछले 200 वर्षों में विज्ञान ने हर क्षेत्र में तरक्की की है, लेकिन इस तरक्की के साथ-साथ अनेक चुनौतियां भी हमारे सामने आ खड़ी हुई है, शुद्ध वायु और शुद्ध पेयजल उपलब्ध कराना एक बड़ी चुनौती है। उन्होंने विद्यार्थियों से शोध के क्षेत्र में कार्य करने का आव्हान करते हुए कहा कि छत्तीसगढ़ में शोध के क्षेत्र में बड़ी संभावनाएं विद्यमान हैं। यहां 44 प्रतिशत भूभाग पर वन है। बड़ी मात्रा में लघु वनोपजों का उत्पादन होता है। कृषि क्षेत्र भी काफी समृद्ध है, इन क्षेत्रों को बढ़ावा देने के लिए तकनीकी का किस तरह बेहतर उपयोग किया जा सकता है और रोजगार के अवसर पैदा किये जा सकते हैं इस पर शोध किया जाना चाहिए।

मुख्यमंत्री ने कहा कि छत्तीसगढ़ बिजली उत्पादन की दृष्टि से देश का एक प्रमुख राज्य है, लेकिन यहां फ्लाई ऐश के डिस्पोजल की समस्या है। फ्लाई एश के कारण पानी हेवी मेटल से कितना प्रदूषित हुआ है, इस पर कोई शोध नहीं हुआ है, इस पर भी शोध होना चाहिए। उन्होंने धान की फसल के बाद पराली जलाने से होने वाले प्रदूषण की समस्या का उल्लेख करते हुए कहा कि पराली को सस्ते तरीके से तकनीकी का उपयोग कर कैसे वर्मी और कंपोस्ट खाद में परिवर्तित किया जा सकता है, इस पर भी शोध किया जाना चाहिए। मुख्यमंत्री ने कहा कि आज दिल्ली से आए अतिथियों के सामने बोतल बंद पानी रखा है, बहुत संभव है कि आने वाले समय में मुख्य अतिथियों के सामने पानी की बोतल के साथ ऑक्सीजन की बोतल भी रखी हो। विज्ञान की प्रगति से कृषि के क्षेत्र में हम आत्मनिर्भर हुए, यातायात के तेज और सुविधाजनक साधन विकसित हुए, चिकित्सा के क्षेत्र में भी क्रांतिकारी परिवर्तन संभव हो सके हैं। घुटने बदलने के बाद अब दिल भी बदल रहे हैं। मुख्यमंत्री ने  दीक्षांत समारोह में स्नातक की डिग्री प्राप्त करने वाले विद्यार्थियों को बधाई और शुभकामनाएं देते हुए कहा कि आपके सामने खुला आकाश है, बड़ी संभावनाएं हैं और छत्तीसगढ़ सरकार भी आपके साथ है। इस समारोह के विशिष्ट अतिथि उच्च शिक्षा एवं तकनीकी शिक्षा मंत्री उमेश पटेल ने कहा कि छत्तीसगढ़ के इंजीनियरिंग कॉलेजों सहित तकनीकी संस्थानों में शोध को बढ़ावा दिया जाना चाहिए। प्रोफेसर सुरेंद्र प्रसाद ने तकनीकी संस्थानों में व्यावसायिक कौशल के साथ-साथ बुद्धिमत्ता (विजडम) के विकास पर भी ध्यान देने की आवश्यकता व्यक्त की। ट्रिपल आईटी बोर्ड के चेयरमैन अजय चौधरी ने विद्यार्थियों को अपने सपनों को पूरा करने के लिए कड़ी मेहनत करने, अपने लक्ष्य पर ध्यान केंद्रित रखने और अपने क्षेत्र में नई-नई चीजें सीखने तथा पढ़ने की आदत विकसित करने की आवश्यकता पर जोर दिया। डॉ.श्यामा प्रसाद मुखर्जी अंतर्राष्ट्रीय सूचना प्रौद्योगिकी संस्थान नवा रायपुर के कुलपति और निदेशक डॉ.प्रदीप कुमार सिन्हा ने संस्थान की प्रगति प्रतिवेदन प्रस्तुत किया। इस अवसर पर तकनीकी शिक्षा की प्रमुख सचिव रेणु जी. पिल्ले, विभिन्न विश्वविद्यालयों के कुलपतिगण तथा ट्रिपल आई.टी. के विद्यार्थी उपस्थित थे।

 

21-10-2019
असामयिक वर्षा से फसल क्षति के आकलन के लिए मैदानी स्तर पर करें तत्काल कार्यवाही: रविन्द्र चौबे 

रायपुर। कृषि मंत्री रविन्द्र चौबे ने सोमवार को नवा रायपुर स्थित मंत्रालय में बैठक लेकर प्रदेश में पिछले दो दिनों से हो रही असामयिक वर्षा से फसल क्षति के आकलन करने के लिए कृषि एवं उद्यानिकी विभाग के अधिकारियों को मैदानी स्तर पर तत्काल कार्यवाही करने निर्देशित किया है। उन्होंने कहा कि जहां कटाई उपरांत खेत में फसल सूखने के लिए रखा गया था वहां फसल क्षति होेने की संभावना अधिक है। कृषि मंत्री द्वारा सोयाबीन फसल एवं अन्य फसलों जैसे धान एवं शाक-सब्जी इत्यादि की क्षति का आकलन करने के निर्देश दिए गए हैं। उन्होंने प्रधानमंत्री फसल बीमा योजनांतर्गत कृषकों को नियमानुसार लाभान्वित करने के लिए आवश्यक कार्यवाही करने अधिकारियों को निर्देशित किया। चौबे ने विशेष सचिव कृषि को फसल क्षति के आकलन के लिए जिले के कलेक्टरों से चर्चा करने निर्देशित भी किया।  चौबे ने रबी वर्ष 2019-20 के क्रियान्वयन के लिए कार्ययोजना तैयार करने तथा कार्ययोजना अनुरूप प्रमाणित बीज, उर्वरक आदि की व्यवस्था करने तथा फसल ऋण भी उपलब्ध कराने संबंधित अधिकारियों को निर्देश दिए। कृषि मंत्री ने कहा कि वर्तमान में हुई वर्षा के फलस्वरूप फसल कटाई उपरांत भूमि में नमी उपलब्ध रहने की संभावना है। उन्होंने कहा कि रबी वर्ष 2019-20 अंतर्गत उतेरा फसल के रूप में लाखड़ी, अलसी, सरसों इत्यादि फसलों के पर्याप्त मात्रा में बीज उपलब्ध कराकर रबी क्षेत्र का विस्तार करें। उन्होंने कहा कि जिन सिंचाई परियोजनाओं से रबी वर्ष 2019-20 में फसल के लिए पानी दिया जाना है, उन सिंचाई परियोजनाओं के निचले क्षेत्रों में प्रदेश के 3-4 विकासखण्डों का चयन कर पायलेट बेसिस पर गेंहू फसल लेने के लिए कार्ययोजना तैयार करें। उन्होंने इस संबंध में बीज, उर्वरक इत्यादि की समुचित व्यवस्था करने हेतु विभाग के अधिकारियों को निर्देशित भी किया।
अपर मुख्य सचिव कृषि केडीपी राव द्वारा बैठक में रबी वर्ष 2019-20 में अभियान चलाकर गेंहू फसल का क्षेत्र विस्तार करने के लिए अधिकारियों को निर्देशित किया गया। बैठक में अपर मुख्य सचिव केडीपी राव, विशेष सचिव मुकेश बंसल सहित बीज निगम, मार्कफेड, अपेक्स बैंक, उद्यानिकी एवं कृषि विभाग के अन्य अधिकारीगण उपस्थित थे।

19-10-2019
धनतेरस के दिन नवा रायपुर में राज्यपाल, सीएम और मंत्रियों के निवास का होगा भूमिपूजन : भूपेश बघेल 

रायपुर। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने कहा है कि धनतेरस के दिन नवा रायपुर में राज्यपाल, सीएम भवन का भूमिपूजन किया जाएगा। इसी तरह मंत्रियों के निवास का भी भूमिपूजन होगा। सीएम बघेल शनिवार को चित्रकोट उपचुनाव प्रचार के लिए रवाना होने से पहले पत्रकारों से चर्चा कर रहे थे। उन्होंने कहा कि पिछली सरकार छह हजार करोड़ रुपए खर्च कर चुकी है। जनता की गाढ़ी कमाई का ये पैसा बेकार न जाए, इसलिए नया रायपुर को बसाना जरुरी है। जब तक राज्यपाल और मंत्रिमंडल के लोग रहना नहीं शुरू करेंगे तब तक नवा रायपुर आबाद नहीं हो पाएगा। सीएम बघेल ने एक सवाल के जवाब में कहा कि दीपावली का त्यौहार है, मिलावट के खिलाफ सख्त कार्यवाही होगी। उन्होंने कहा कि छत्तीसगढ़ राज्य जब से बना है, लोग महसूस नहीं कर पा रहे हैं कि ये हमारा राज्य है, लेकिन पिछले 10 माह से लोग महसूस कर रहे हैं कि ये हमारा राज्य है। हमारे तीज त्यौहार है उसे भी प्रमुखता मिलनी चाहिए, ये काम छत्तीसगढ़ सरकार कर रही है।  

राज्यपाल अनुसुईया उइके द्वारा सुपेबेड़ा को लेकर दिए बयान पर सीएम बघेल ने कहा कि हम लोग भी सुपेबेड़ा को लेकर चिंतित हैं, मैं तो हतप्रभ हूं कि राज्यपाल ने कहा कि यदि हेलीकॉप्टर नहीं देंगे तो सड़क मार्ग से ही सुपेबेड़ा जाएंगी। सीएम ने कहा कि राज्यपाल की चिंता बहुत वाजिब है और हम भी चिंतित है। बताना चाहूंगा कि जिस दिन घटना घटी, 2 अक्टूबर को विधानसभा के विशेष सत्र के दौरान वहां एक मौत की सूचना मिली, स्वास्थ्य मंत्री सुपेबेड़ा गए भी थे। हम तो चाहते हैं कि सुपेबेड़ा में फैली बीमारी के कारणों का पता चले। सीएम ने कहा कि राज्यपाल जा रही हैं तो भारत सरकार से भी निवेदन करें और पता लगाए, बहुत अच्छी बात है उस समस्या को दूर किया जा सके।

Advertise, Call Now - +91 76111 07804