GLIBS
25-11-2020
केंद्रीय ट्रेड यूनियनों की देशव्यापी हड़ताल को कांग्रेस ने दिया समर्थन

रायपुर। केंद्रीय ट्रेड यूनियनों की देशव्यापी हड़ताड़ को कांग्रेस ने समर्थन दिया है। छत्तीसगढ़ प्रदेश कांग्रेस कमेटी के प्रवक्ता एमए इकबाल ने बताया कि केंद्रीय ट्रेड यूनियनों के आव्हान पर 26 नवंबर को देशव्यापी हड़ताल की जाएगी। कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी की सहमति से कांग्रेस पार्टी ने अपना समर्थन दिया है। केन्द्र की भाजपा सरकार मजदूर विरोधी जो 5 काले कानून लाने जा रही है, उसमें प्रमुख रूप से (1) विद्युत वितरण संशोधन अधिनियम 2020, (2) लेबर कोड बिल न्यूनतम वेतन भुगतान अधिनियम 2019, (3) सामाजिक सुरक्षा अधिनियम 2020, (4) औद्योगिक संबंध अधिनियम 2020, (5) मजदूरों की कार्यदशा पर बिल 2020 शामिल है जो पूरी तरह से मजदूर किसान विरोधी है।

कांग्रेस प्रवक्ता ने भाजपा सरकार पर आरोप लगाया कि इन नए कानूनों से ‘गरीबों को और गरीब करों, अमीर को और अमीर बनाओं’ वाला कार्य सरकार कर रही है। वर्तमान की केन्द्र सरकार 70 साल के बने हुए ढांचे को ढहाने का प्रयास कर रही है। जैसे रेलवे का निजीकरण, एयरपोर्ट, बैंक, बीएसएनएल, ओएनजीसी, एलआईसी आदि कई सरकारी संस्थानों को बंद करके उनका निजीकरण करके सरकार पूंजीपतियों को लाभ पहुंचाना चाहती है। इसी प्रकार नए कृषि कानून बनाए गए हैं।

16-11-2020
कपिल सिब्बल ने कहा, देश के लोग कांग्रेस पार्टी को प्रभावी विकल्प नहीं मान रहे हैं

नई दिल्ली। कांग्रेस नेता कपिल सिब्बल ने एक बार फिर से कांग्रेस आलाकमान पर हमला बोला है। सिब्बल ने कहा कि लगता है कांग्रेस लीडरशिप ने पराजय को ही अपनी नियति मान ली है। सिब्बल ने एक साक्षात्कार में कहा है कि ऐसा लगता है कि पार्टी नेतृत्व ने शायद हर चुनाव में पराजय को ही अपनी नियति मान ली है। उन्होंने यह भी कहा कि बिहार ही नहीं, उपचुनावों के नतीजों से भी ऐसा लग रहा है कि देश के लोग कांग्रेस पार्टी को प्रभावी विकल्प नहीं मान रहे हैं। सिब्बल ने कहा,'बिहार (चुनाव) और उपचुनावों में हालिया प्रदर्शन पर कांग्रेस पार्टी (के शीर्ष नेतृत्व) के विचार अब तक सामने नहीं आए हैं।

शायद उन्हें लगता हो कि सब ठीक है और इसे सामान्य घटना ही माना जाना चाहिए।' सिब्बल से सवाल था कि क्या आपको लगता है कि कांग्रेस लीडरशिप एक और हार को सामान्य घटना मान रही है? उन्होंने कहा,'मुझे नहीं पता। मैं सिर्फ अपनी बात कर रहा हूं। मैंने लीडरशिप को कुछ कहते नहीं सुना। इसलिए मुझे नहीं पता। मुझ तक सिर्फ नेतृत्व के ईर्द-गीर्द के लोगों की आवाज पहुंचती है। मुझे सिर्फ इतना ही पता होता है।' सिब्बल ने सोमवार को अपने इस साक्षात्कार का लिंक साझा करते हुए ट्वीट किया तो इसे रिट्वीट करते हुए कार्ति चिदंबरम ने कहा,‘यह आत्मविश्लेषण, चिंतन और विचार-विमर्श करने का समय है।’ उल्लेखनीय है कि बिहार के हालिया विधानसभा चुनाव में महागठबंधन की घटक कांग्रेस सिर्फ 19 सीटों पर सिमट गई, जबकि उसने 70 सीटों पर चुनाव लड़ा था। तेजस्वी यादव के नेतृत्व में महागठबंधन के सत्ता से दूर रह जाने का एक प्रमुख कारण कांग्रेस के इस निराशाजनक प्रदर्शन को भी माना जा रहा है।

01-11-2020
कांग्रेस के भीतर धर्मनिरपेक्षता की भावना निहित और जीवंत है : शशि थरूर

नई दिल्ली। भारतीय जनता पार्टी से मुकाबले के लिए कांग्रेस पार्टी और राहुल गांधी की ओर से नरमवादी हिंदुत्व की राह पर चलने के आरोपों के बीच पार्टी के वरिष्ठ नेता शशि थरूर ने चेताया है। उन्होंने कहा है कि भाजपा लाइट बनने के चक्कर में कांग्रेस पार्टी खत्म हो जाएगी। उन्होंने यह भी कहा कि भारत में धर्मनिरपेक्षता एक सिद्धांत और परिपाटी के रूप में खतरे में है और सत्तारूढ़ दल इस शब्द को संविधान से हटाने के प्रयास कर सकता है। हालांकि उन्होंने जोर देकर कहा कि 'घृणा फैलाने वाली ताकतें देश के धर्मनिरपेक्ष चरित्र को बदल नहीं सकती हैं।'थरूर ने अपनी नई किताब 'द बैटल ऑफ बिलांगिंग' को लेकर इंटरव्यू में कहा कि कांग्रेस पार्टी 'भाजपा लाइट (भाजपा का दूसरा रूप) बनने का जोखिम नहीं उठा सकती है क्योंकि इससे उसके ''कांग्रेस जीरो (कांग्रेस के खत्म होने का) खतरा है। उन्होंने कहा कि उनकी पार्टी भाजपा के राजनीतिक संदेश का कमजोर रूप पेश नहीं करती है और कांग्रेस के भीतर भारतीय धर्मनिरपेक्षता की भावना अच्छी तरह से निहित और जीवंत है।''कांग्रेस पर नरमवादी हिंदुत्व का सहारा लेने के आरोपों के बारे में थरूर ने कहा कि वह समझते हैं कि यह मुद्दा कई उदार भारतीयों के बीच चिंता का वास्तविक और ठोस विषय है लेकिन उन्होंने जोर देकर कहा कि ''कांग्रेस पार्टी में हमारे बीच यह बिलकुल स्पष्ट है कि हम अपने को भाजपा का दूसरा रूप नहीं बनने दे सकते।'' पूर्व केंद्रीय मंत्री ने कहा, ''मैं लंबे समय से यह कहता आया हूं कि 'पेप्सी लाइट का अनुसरण करते हुए 'भाजपा लाइट बनाने के किसी भी प्रयास का परिणाम 'कोक जीरो की तरह 'कांग्रेस जीरो' होगा।'

'उन्होंने कहा, ''कांग्रेस किसी भी रूप और आकार में भाजपा की तरह नहीं है और हमें ऐसे किसी का भी कमजोर रूप बनने का प्रयास नहीं करना चाहिए जो कि हम नहीं हैं। मेरे विचार से हम ऐसा कर भी नहीं रहे हैं। थरूर ने कहा, ''कांग्रेस हिंदूवाद और हिंदुत्व के बीच अंतर करती है। हिंदूवाद जिसका हम सम्मान करते हैं, वह समावेशी है और आलोचनात्मक नहीं है जबकि हिंदुत्व राजनीतिक सिद्धांत है जो अलग-थलग करने पर आधारित है।''तिरुवनंतपुरम से सांसद ने कहा, ''इसलिए हम भाजपा के राजनीतिक संदेश का कमजोर रूप पेश नहीं कर रहे। राहुल गांधी ने यह एकदम स्पष्ट कर दिया है कि मंदिर जाना उनका निजी हिंदुत्व है, वह हिंदुत्व के नरम या कट्टर किसी भी रूप का समर्थन नहीं करते हैं।'' यह पूछने पर कि क्या 'धर्मनिरपेक्ष शब्द खतरे में है, उन्होंने कहा, 'यह महज एक शब्द है; अगर सरकार इस शब्द को संविधान से हटा भी देती है तो भी संविधान धर्मनिरपेक्ष बना रहेगा।''उन्होंने कहा कि पूजा-अर्चना की स्वतंत्रता, धर्म का पालन करने की स्वतंत्रता, अभिव्यक्ति की स्वतंत्रता, अल्पसंख्यक अधिकार, सभी नागरिकों के लिए समानता, ये सभी संविधान के मूल ताने-बाने का हिस्सा हैं और एक शब्द को हटा देने से ये गायब नहीं होने वाले। उन्होंने कहा, ''सत्तारूढ़ दल ऐसा करने का प्रयास कर सकता है। यहां धर्मनिरपेक्षता को खत्म करने और इसके स्थान पर सांप्रदायिकता को स्थापित करने के सम्मिलित प्रयास निश्चित ही हो रहे हैं जिसके तहत भारतीय समाज में धार्मिक अल्पसंख्यकों के लिए कोई स्थान नहीं है।'

16-10-2020
मरवाही उपचुनाव के पूर्व जेसीसीजे को बड़ा झटका,पार्टी के कद्दावर नेता ने थामा कांग्रेस का हाथ

रायपुर। जनता कांग्रेस छत्तीसगढ़ (जे) के एक और कद्दावर नेता 6 ग्रामपंचायत और 17 बूथ प्रभारी प्रशांत गुप्ता ने शुक्रवार को प्रभारी मंत्री गौरेला-पेंड्रा- मरवाही जयसिंह अग्रवाल के नेतृत्व में कांग्रेस का हाथ थामा है। छत्तीसगढ़ कांग्रेस सरकार के विकास कार्यों से प्रभावित होकर कांग्रेस पार्टी में प्रवेश किया है। इस दौरान शंकर कंवर, अर्चना पोर्ते,आरपी सिंह प्रवक्ता प्रदेश कांग्रेस कमेटी, बिलासपुर जिला कांग्रेस अध्यक्ष विजय केशरवानी उपस्थित थे। सभी ने 3 नंवबर को होने वाले गौरेला-पेंड्रा-मरवाही विधानसभा उपचुनाव में कांग्रेस को प्रचंड बहुमत से जीत हासिल कराने का संकल्प लिया है।

05-10-2020
विधायक विकास उपाध्याय ने अर्णव गोस्वामी के खिलाफ थाने में दर्ज कराई एफआईआर

रायपुर। संसदीय सचिव विकास उपाध्याय ने पत्रकार अर्णव गोस्वामी के खिलाफ सोमवार को रायपुर के सिविल लाईन थाने में शिकायत दर्ज कराई है। उन्होंने आरोप लगाया है कि पत्रकार यूपी के हाथरस प्रकरण में कांग्रेस पार्टी को बदनाम करने के नियत से अपने चैनल में फर्जी आडियो प्रसारित कर भाजपा के एजेंट की तरह काम कर रहा है। विकास उपाध्याय ने इतना ही नहीं  पत्रकार की शिकायत भारतीय प्रेस परिषद (Press Council of India ; PCI) से भी कर उच्चस्तरीय जाँच की माँग की है। विकास उपाध्याय ने आज टीवी पत्रकार अर्णव गोस्वामी पर आरोप लगाया कि वह स्वयं के द्वारा गलत नियत से बनाई गई ऑडियो टेप को अपने न्यूज चैनल में प्रसारित कर जोर जबरन कांग्रेस का नाम जोड़ कर बदनाम कर रही है। अर्णव गोस्वामी की नियत भाजपा के एजेंट के रूप में प्रतीत होती है।

26-09-2020
कांकेर की घटना पर कांग्रेस का बयान,शैलेश ने कहा-आरोपियों का पार्टी से कोई संबंध नहीं 

रायपुर। कांकेर जिले में पत्रकारों पर हुए हमले के मामले में लग रहे गंभीर आरोपों से कांग्रेस पार्टी का बचाव करने प्रदेश कांग्रेस संचार विभाग के प्रमुख शैलेश नितिन त्रिवेदी सामने आए हैं। शैलेश ने एक वीडियो संदेश जारी कर कहा है कि, आरोपियों का कांग्रेस से कोई संबंध नहीं है। उन्होंने कहा है कि, कांकेर की मारपीट की घटना का वीडियो सामने आया है। वीडियो में अपशब्दों का प्रयोग भी हो रहा है। मारपीट करने वालों में कांग्रेस से किसी का संबंध नहीं है। जो व्यक्ति गाली-गलौज कर रहा है, वो कांग्रेस से निष्कासित है। निर्दलीय पार्षद है, उसने कांग्रेस के खिलाफ चुनाव लड़ा है। इसे लेकर पुलिस की ओर से कड़ी से कड़ी कार्रवाई की जानी चाहिए, यह कांग्रेस का स्पष्ट मत है। जो भी दोषी है उस पर कार्रवाई होनी चाहिए।

18-09-2020
भूपेश सरकार ने ना केवल एल्डरमैन नियुक्त किए, 22 लोगों को बदला भी, देखिए सूची 

रायपुर। कांग्रेस पार्टी से जुड़े कार्यकर्ताओं का लंबे समय का इंतजार आखिरकार गुरुवार को समाप्त हुआ। देर शाम भूपेश सरकार की ओर से एल्डरमैनों की नियुक्तियों की घोषणा की गई। नगरीय प्रशासन एवं विकास विभाग की ओर से 200 से अधिक एल्डरमैनों की नियुक्तियों के संबंध में आदेश जारी किए गए। आदेश की कॉपी में राज्य सरकार की ओर से मनोनीत पार्षदों के नाम जारी किए गए। तीन में एक सूची ऐसी भी थी, जिसमें 22 पूर्व मनोनीत एल्डरमैनों के स्थान पर 22 नए लोगों को मनोनीत किया गया। प्रदेश कांग्रेस प्रवक्ता सुशील आनंद शुक्ला का कहना है कि, इन 22 लोगों के नाम पार्टी ने पूर्व में ही तय कर लिए थे। निकाय चुनाव में इन्हें टिकट भी दी गई। चुनाव जीतकर जब ये पार्षद बन गए तो फिर इन्हें मनोनीत पार्षद (एल्डरमैन) रखने का मतलब ही नहीं। इसलिए इनकी जगह पर दूसरों का मनोनयन किया गया है।

11-09-2020
कांग्रेस संगठन में फेरबदल,मोतीलाल वोरा, अंबिका सोनी,गुलाम नबी आजाद को महासचिव पद से हटाया

नई दिल्ली। कांग्रेस पार्टी ने अखिल भारतीय स्तर पर फेरबदल किया है। इसके साथ ही कई राज्यों में प्रभारी भी बदले गए हैं। कांग्रेस के संगठन महासचिव केसी वेणुगोपाल की ओर से जारी लिस्ट के अनुसार, गुलाम नबी आजाद, मोतीलाल वोरा, अंबिका सोनी और मल्लिकार्जुन खड़गे को महासचिव पद से हटाया गया है। आजाद को सीडब्ल्यूसी में स्थान दिया गया है। पार्टी ने छह सदस्यीय एक विशेष समिति का गठन किया है। यह समिति पार्टी के संगठन एवं कामकाज से जुड़े मामलों में सोनिया गांधी का सहयोग करेगी। इस विशेष समिति में एके एंटनी, अहमद पटेल, अंबिका सोनी, केसी वेणुगोपाल, मुकुल वासनिक और रणदीप सिंह सुरजेवाला शामिल हैं। रणदीपसिंह सुरजेवाला को कांग्रेस का महासचिव बनाया गया है। उन्हें कर्नाटक का प्रभारी बनाया गया है। कांग्रेस महासचिवों में मुकुल वासनिक को मध्य प्रदेश की, हरीश रावत को पंजाब की, ओमान चांडी को आंध्रप्रदेश की, तारीक अनवर को केरल और लक्षद्वीप की, जितेंद्र सिंह को असम की, अजय माकन को राजस्थान की जिम्मेदारी दी गई है। इसके अलावा जितिन प्रसाद को पश्चिम बंगाल, अंडमान और निकोबार द्वीप समूह का प्रभारी बनाया है। मधुसूदन मिस्त्री को केंद्रीय चुनाव समिति का अध्यक्ष बनाया गया है।

 

04-09-2020
दिवंगत कांग्रेसी पार्षद की अंतिम यात्रा में शामिल होकर मोहन मरकाम ने दिया कंधा

रायपुर। छत्तीसगढ़ प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष एवं कोंडागांव विधायक मोहन मरकाम ने कोंडागांव के भेलवापदर वार्ड से दिवंगत पार्षद मंगल साहू को कांग्रेस के झंडे के साथ अंतिम विदाई दी। अंतिम यात्रा में भावुक होकर मरकाम ने कहा कि स्वर्गीय मंगल साहू हमेशा कांग्रेस पार्टी की सेवा की। आज हमारे लिए यह कठिन समय है।

06-08-2020
श्रीराम मंदिर के भूमिपूजन पर कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने प्रज्ज्वलित किए 1001 दीए

कवर्धा। एनएसयूआइ एवं कांग्रेस पार्टी के पदाधिकारियों ने अयोध्या में श्रीराम मंदिर के भूमिपूजन के अवसर पर कवर्धा के कांग्रेस कार्यालय के सामने भगवान राम के छायाचित्र पर पुष्प अर्पण कर 1001 दीए जलाए। नगर पालिका अध्यक्ष ऋषि कुमार शर्मा ने कहा कि भूमिपूजन अवसर को पूरे कवर्धा शहर में महोत्सव के रूप में आपसी भाईचारा से मनाया गया। छत्तीसगढ़ से भगवान रामजी का गहरा नाता है। छत्तीसगढ़ भगवान श्रीराम का ननिहाल है, इसलिए यहां के लोग बहुत उत्सुक हैं। इस अवसर पर भगवान श्रीराम के ननिहाल छत्तीसगढ़ में हर्षोल्लास से दीप प्रज्ज्वलित किया गया। विकास केशरी ने बताया कि इस आयोजन का नाम 'श्रीराम के नाम एक दीया ननिहाल में' रखा गया है। इस अवसर पर मुकुंद माधव कश्यप, मोहित माहेष्वरी, अशोक सिंह, सुधीर केशरवानी, नीरज चंद्रवंशी, कन्नू आमदे, दीपक ठाकुर, मनीष चन्द्रवंशी, आकाश यदु,केतुल नाग,अभिषेक आमदे,लोकेश जैसवाल सहित एनएसयूआई कार्यकर्ता, कांग्रेस के पदाधिकारी, जनप्रतिनिधि उपस्थित थे।

Advertise, Call Now - +91 76111 07804