GLIBS
01-11-2020
मध्य प्रदेश, छत्तीसगढ और हरियाणा आदि राज्यों के स्थापना दिवस पर प्रधानमंत्री मोदी ने दी शुभकामनाएं

नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने मध्य प्रदेश, छत्तीसगढ , हरियाणा , आन्ध्र प्रदेश, कर्नाटक और केरल के लोगों को राज्य स्थापना दिवस के मौके पर शुभकामनाएं दी है। पीएम मोदी ने इन राज्यों के लोगों के नाम अलग अलग टि्वट कर उन्हें शुभकामनाएं दी। उन्होंने कहा , “ मध्य प्रदेश के निवासियों को राज्य के स्थापना दिवस की बहुत-बहुत बधाई। मध्य प्रदेश अनेक महत्वपूर्ण क्षेत्रों में शानदार प्रगति कर रहा है और आत्मनिर्भर भारत के सपने को साकार करने में जबरदस्त योगदान दे रहा है।” एक अन्य टि्वट में उन्होंने कहा , “ छत्तीसगढ़ के लोगों को राज्य के स्थापना दिवस की हार्दिक शुभकामनाएं। मेरी कामना है कि प्राचीन काल से विभिन्न संस्कृतियों का केंद्र रहा यह प्रदेश उन्नति और समृद्धि की राह पर आगे बढ़ता रहे।”

20-09-2020
कौशिक ने कहा, प्रधानमंत्री मोदी का जीवन समाज में अंत्योदय की स्थापना को समर्पित 

रायपुर। नेता प्रतिपक्ष धरमलाल कौशिक ने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के जन्मदिन पर आयोजित सेवा सप्ताह पर बिल्हा विधानसभा क्षेत्र के कार्यकर्ताओं को प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के व्यक्तिव एवं कृतत्व वेबिनार के माध्यम से संबोधित किया। उन्होंन कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी देश की प्रगति के लिए सदैव प्रत्यनशील हैं। अपने अथक परिश्रम से सबके उत्थान के लिये प्रतिसाद की पूर्ति में समर्पित रहते हैं। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री मोदी का समूचा जीवन समाज में अंत्योदय की स्थापना को समर्पित है। वह सबके जीवन में समग्रता की भावना के साथ ही राष्ट्र को प्रगति की दिशा में ले जाना चाहते हैं।

उन्होंने कहा कि उनका संपूर्ण जीवन त्याग की भावना के साथ राष्ट्र निर्माण के लिये प्रेरित रहा है। संगठन और समाज के बीच सेतु के रूप में कार्य करते हुए मुख्यमंत्री से लेकर प्रधानमंत्री के पद को सुशोभित किये हैं। उनकी सोच हम साधनविहीन को सामर्थ्यवान बनान की रही है। नेता प्रतिपक्ष कौशिक ने कहा कि 14 से 20 सिंतबर तक आयोजित सेवा सप्ताह में विविध कार्यक्रमों का आयोजन कर हम उनके कर्मयोग और उनके जीवन के संकल्पों को समाज के अंतिम व्यक्ति तक पहुंचाने में सफल हुए हैं। इस सफल आयोजन के लिये उन्होंने कार्यकर्ताओं व सभी पदाधिकारियों के प्रति आभार माना है। इस मौके पर जिलाध्यक्ष रामदेव कुमावत, जिला महामंत्री घनश्याम कौशिक मौजूद थे।

31-08-2020
महिलाओं को प्रधानमंत्री से बड़ी उम्मीद,लेकिन हर बार निराशा ही हाथ लगती है : वंदना राजपूत

रायपुर। वंदना राजपूत प्रदेश प्रवक्ता एवं महिला कांग्रेस ने कहा है कि, बेलगाम महंगाई चिंताजनक है। वंदना ने आरोप लगाया है कि, प्रधानमंत्री ने ना कभी इस पर चिंता की और ना बढ़ती हुई महगांई को रोकने आवश्यक कदम उठाए। प्रधानमंत्री मोदी ने अपने मन की बात की 68वीं कड़ी में एक बार भी बढ़ती महगांई के मुद्दे का जिक्र नहीं किया।वंदना ने कहा है कि, प्रधानमंत्री के मन की बात का आयोजन जब-जब होता है, तब-तब महिलाओं को लगता है कि अब शायद प्रधानमंत्री महगांई के मुद्दे पर चर्चा करेंगे। महगांई से थोड़ा बहुत निजात दिलाएंगे, लेकिन हर बार महिलाओं के हाथ निराशा लगती है। बढ़ती महगांई के कारण रसोई का बजट बिगड़ गया है। वंदना ने कहा है कि, बेशक भारत की जनता बहुत सहनशील और भावनात्मक है, लेकिन 80-90 रुपए लीटर के भाव का डीजल- पेट्रोल बेचकर कब तक प्रधानमंत्री जनता के भावनाओं से खिलवाड़ करेंगे।

वंदना ने कहा है कि, कोरोना काल में लोगों की आमदनी कम हो गई है। जिसके पास रोजगार था वह भी छिन गया। आमदनी चव्वनी और खर्चा रुपया हो गया है। केन्द्र सरकार प्रमुख मुद्दे को छोड़ बाकी सभी विषयों पर बात करती है, लेकिन अपनी जिम्मेदारियों से भाग रही है।पिछले 6 साल में मंदी ने भारत की अर्थव्यवस्था की हालत खराब कर दी है। मंदी के इस दौर में पहले नरेन्द्र मोदी ने नोटबंदी की और फिर जीएसटी। रही-सही असर कोरोना ने पूरी कर दी। बेहतर होगा कि, केंद्र सरकार संघीय ढांचे और उसमें मुखिया की अपनी भूमिका को समझें।  कोरोना ने आज पूरे भारत में पांव पसार लिया है।  प्रधानमंत्री यदि समय रहते आवश्यक कदम उठाते तो कोरोना के मरीजों की संख्या 35 लाख के पार नहीं होती।

15-08-2020
स्वतंत्रता दिवस पर प्रधानमंत्री मोदी ने कोरोना से आजादी का बताया प्लान

नई दिल्ली। देश के 74वें स्वतंत्रता दिवस पर शनिवार को प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने लालकिले की प्रचीर से राहत भरा ऐलान किया है। उन्होंने कोरोना से देशवासियों को आजादी दिलाने का प्लान बताया है। अपने संबोधन में प्रधानमंत्री मोदी ने कहा है कि, कोरोना वायरस की रोकथाम के तेजी से काम हो रहा है। भारत में एक नहीं, दो नहीं बल्कि तीन कोरोना वैक्सीन पर तेजी से काम हो रहा है। तीनों वैक्सींस के टेस्टिंग का काम अलग-अलग चरण में हैं। वैज्ञानिकों से हरी झंडी मिलते ही हर भारतीय तक वैक्सीन पहुंचाने की रूप-रेखा तैयार है।

प्रधानमंत्री ने अपने संबोधन के दौरान कहा कि, हमारे वैज्ञानिक ऋषि-मुनियों की तरह जी-जान से जुटे हुए हैं। वे कड़ी मेहनत कर रहे हैं। वैज्ञानिकों से हरीझंडी मिलते ही बड़े पैमाने पर उत्पादन होगा। इसकी पूरी तैयारियां हैं। प्रधानमंत्री ने कहा कि,जब देश में कोरोना के मरीज मिलना शुरू हुए थे, तब हमारे देश में कोरोना टेस्टिंग के लिए सिर्फ एक लैब थी। आज देश में 1,400 से ज्यादा लैब हैं। प्रधानमंत्री ने कोरोना से जंग लड़ रहे योद्धाओं को नमन किया। प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि, देश एक कठिन समय से गुजर रहा है। कोरोना योद्धाओं ने देश में सभी लोगों को एक मंत्र दिया 'सेवा परमो धर्म:'। इसी मंत्र के साथ कोरोना योद्धा देशवासियों की दिन-रात सेवा कर रहे हैं। प्रधानमंत्री ने कोरोना योद्धाओं काआभार व्यक्त किया। उन्होंने कोरोना पीड़ित परिवारों के प्रति संवेदना व्यक्त की।

13-08-2020
प्रधानमंत्री की ओर से करारोपण में पारदर्शी की घोषणा का कैट ने किया स्वागत,लाइसेंस प्रणाली लागू करने का किया आग्रह

रायपुर। कन्फेडरेशन ऑफ आल इंड़िया ट्रेडर्स (कैट) के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष अमर पारवानी, प्रदेश कार्यकारी अध्यक्ष मगेलाल मालू, प्रदेश कार्यकारी अध्यक्ष विक्रम सिंहदेव, प्रदेश महामंत्री जितेन्द्र दोशी, प्रदेश कार्यकारी महामंत्री परमानंद जैन, प्रदेश कोषाध्यक्ष अजय अग्रवाल एवं प्रदेश प्रवक्ता राजकुमार राठी ने बताया कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा पारदर्शी कर निर्धारण प्रणाली के लिए आज की गई घोषणा का कॉन्फेडरेशन ऑफ आल इंडिया ट्रेडर्स (कैट) ने स्वागत करते हुए कहा की फेसलेस मूल्यांकन और फेसलेस अपील के मूल सिद्धांत को कर प्रणाली से जोड़ना देश के व्यापार के लिए सरकार का एक बड़ा कदम है।कैट ने कहा की देश में करदाताओं को आम तौर पर नौकरशाही के निचले स्तर से परेशान और पीड़ित किया जाता है,जो लोगों को कराधान प्रणाली से दूर रहने के लिए प्रेरित करता है।

इस दृष्टि से प्रधानमंत्री मोदी की आज की घोषणा से देश का व्यापारिक समुदाय आशवस्त है की पारदर्शी प्रणाली के जरिये अब व्यापारियों को अधिकारियों के रहमो करम पर नहीं रहना पड़ेगा। कैट ने यह भी कहा की व्यापारियों को देश के लिए कर संग्रहकर्ता के रूप में मान्यता मिलनी चाहिए और कर विभाग को उसी के अनुसार व्यापारियों को उचित सम्मान देना चाहिए। कैट ने यह भी कहा की वो सरकार के साथ हाथ मिलाकर काम करते हुए व्यापारियों की समस्याओं को हल कराने तथा गैर उत्तरदायी नौकरशाही से निकालने और कर दायरे को विकसित करने में सरकार की सहायता करने का इच्छुक है,जिससे सरकार को अधिक राजस्व मिल सके ।


कैट के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष अमर पारवानी ने प्रधानमंत्री मोदी की आज की घोषणाओं को देश में सुगम व्यापार के लिए एक क्रांतिकारी कदम बताते हुए कहा की प्रधानमंत्री की आज की गई घोषणा एक लम्बे समय से व्यापार करने में आने वाले कर के रोड़ों को हटाने तथा देश में व्यापार करने में आसानी और बेहतर अवसर सुनिश्चित करेगी। उन्होंने कहा की हम प्रधानमंत्री से अनुरोध करते हैं व्यापार पर लागू सभी प्रकार के लाइसेंस को समाप्त कर आधार कार्ड के पैटर्न पर एक लाइसेंस की व्यवस्था करने बहुत जरूरी है। इसके साथ ही उन्होंने प्रधान मंत्री से केंद्रीय कर नियमों के मामले में सर्वोच्च न्यायालय के सेवानिवृत न्यायाधीश के रूप में एक 'कर लोकपाल' की नियुक्ति करने और राज्य कराधान नियमों के लिए राज्यों में एक उच्च न्यायालय के सेवानिवृत न्यायाधीश के रूप में कर लोकपाल नियुक्त करने का अनुरोध किया। पारवानी ने कहा कि व्यापारियों की मुख्य समस्या कि उन्हें व्यापार करने के लिए बहुत सीमित समय मिलता है जबकि अधिकांश समय वैधानिक दायित्वों का पालन करने में खपत होता है को खत्म करने की दिशा में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की घोषणा बेहद महत्वपूर्ण है। प्रस्तावित सुधार कारोबारी समुदाय को इस विभिन्न वैधानिक पालना के अनावश्यक बोझ से राहत देंगे। फेसलेस सिस्टम से भ्रष्टाचार को काफी हद तक खत्म किया जा सकता है। हालांकि, सरकार को यह सुनिश्चित करना है कि किसी भी बहाने से कोई कर अधिकारी व्यापारियों को व्यक्तिगत पेशी के लिए मजबूर न करे जैसा की अब तक हो रहा है।

10-08-2020
कांग्रेस सरकार ने किसानों से कदम-कदम पर धोखाधड़ी कर आत्म-सम्मान को किया लहूलुहान : साय

रायपुर। भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष विष्णुदेव साय ने कहा कि केद्र सरकार द्वारा कृषि क्षेत्र में किए गए सुधार छोटे किसानों के सशक्तिकरण पर केंद्रित हैं और किसानों के कल्याण और बेहतर जीवन की पूरी चिंता केंद्र सरकार कर रही है। साय ने कहा कि कोरोना संकट काल में भी केंद्र सरकार ने किसानों की पूरी चिंता करते हुए उनके कल्याण और बेहतर आर्थिक स्थिति के लिए प्रयास किए हैं। कोरोना काल में देश के गरीब-मजदूर और किसानों की चिंता करके केंद्र सरकार ने 20 लाख करोड़ रुपए का आर्थिक पैकेज घोषित करके कृषि क्षेत्र में सुधार और किसानों के सशक्तिकरण से ही आत्मनिर्भर भारत का संकल्प संजोया है।साय ने कहा कि किसानों के साथ वादाखिलाफी करके दगाबाजी करने वाली छत्तीसगढ़ की सरकार है,जिसने किसानों के साथ कदम-कदम पर न केवल धोखाधड़ी की अपितु किसानों के आत्मसम्मान को लहूलुहान किया।

न्याय के नाम पर योजना घोषित करके किसानों के साथ अन्याय और छलावा करने वाली प्रदेश सरकार जन-विश्वास खो चुकी है।साय ने कहा कि एक लोक-कल्याणकारी सरकार जनता के कल्याण, उसके बेहतर व सुरक्षित जीवनयापन और विकास के काम में अपनी प्रामाणिकता के कारण जन-विश्वास अर्जित करती है और इंडिया टुडे-आजतक के हाल ही हुए सर्वे इस बात की साक्षी दे रहे हैं,जिसमें प्रधानमंत्री मोदी के कामकाज पर देश की 76 प्रतिशत जनता ने भरोसा जताया जबकि कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी को महज 24 फीसदी लोगों ने भरोसे के काबिल माना है।

 

27-06-2020
भूपेश बघेल के बयान का सरोज पाण्डेय ने दिया जवाब,जैसे राहुल गांधी वैसी ही पूरी की पूरी पार्टी...

रायपुर। चीन के मसले पर जारी सियासत के बीच मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के प्रधानमंत्री मोदी की चुप्पी पर उठाए गए सवालों का बीजेपी की राष्ट्रीय महासचिव सरोज पांडेय ने पलटवार किया है। उन्होंने कांग्रेस पर निशाना साधते हुए कहा कि सीमा विवाद पर हमने कभी राजनीति नहीं की है। हमसे प्रश्न करने का नैतिक साहस कांग्रेस के पास नहीं है। सरोज पांडेय ने कहा कि जैसे कांग्रेस के नेता राहुल गांधी हैं, वैसी ही पूरी की पूरी पार्टी बन रही है। नेताओं को चिंतन करना चाहिए, मंथन करना चाहिए। इससे उनका भविष्य उज्जवल होगा। यदि ऐसा नहीं करेंगे, तो कांग्रेस आज जहां खड़ी हैं, उससे भी नीचे चली जाएगीमुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने शुक्रवार को एक बयान जारी कर कहा था कि हमले पर मोदी सरकार आखिर मौन क्यों है? चीन को कब्जा करने क्यों दे दिया गया? आखिर क्यों जवानों को निहत्थे भेजा गया? इन सवालों पर प्रतिक्रिया देते हुए सरोज पांडेय ने कहा कि बीजेपी के उठाए सवालों के बीच कांग्रेस का ऐसा बयान बताता है कि पूरे मामले को किसी दूसरे विषय की ओर मोड़ना चाहते हैं।दरअसल भारत-चीन सीमा पर विवाद के हालातों के बीच बीजेपी कांग्रेस पार्टी पर हमलावर हो गई है। बीजेपी के केंद्रीय नेतृत्व ने कांग्रेस के चीन की कम्युनिस्ट पार्टी के साथ हुए एक एमओयू पर सवाल उठाते हुए पूछा है कि यह एमओयू किस लिए किया गया था? आखिर कांग्रेस पार्टी का चीन की कम्युनिस्ट पार्टी से यह रिश्ता क्या है? एमओयू में ऐसा क्या है, जिसमें राहुल गांधी खुद साइन कर रहे थे और पीछे सोनिया गांधी और चीन के अभी के राष्ट्रपति शी जिनपिंग खड़े थे। कांग्रेस ने ये नहीं बताया कि पार्टी-से-पार्टी का ये रिश्ता क्यों बना?

 

25-06-2020
प्रधानमंत्री के दूसरे कार्यकाल का पहला वर्ष देश की वर्षों संजोई आशा और आकांक्षाओं की पूर्ति का रहा : डॉ. रमन


रायपुर। पूर्व मुख्यमंत्री डॉ.रमन सिंह ने कहा है कि प्रधानमंत्री मोदी के नेतृत्व में केंद्र सरकार ने अपने पहले कार्यकाल में अपने कार्यों व फैसलों की जो बुनियाद रखी थी, दूसरे कार्यकाल में उस बुनियाद पर एक भव्य,समृद्ध, शक्तिशाली और स्वाभिमानी भारत की इमारत के निर्माण का काम प्रधानमंत्री मोदी के दूसरे कार्यकाल के पहले वर्ष की ऐतिहासिक, साहसिक व क्रांतिकारी उपलब्धि है। डॉ. सिंह गुरुवार को  कुशाभाऊ ठाकरे स्मृति परिसर में भाजपा के जिला जनसंवाद कार्यक्रम के तहत बलौदाबाजार जिÞला की वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग सभा को संबोधित कर रहे थे। यह सभा गुरुवार की पहली सभा थी।भाजपा राष्ट्रीय उपाध्यक्ष व पूर्व मुख्यमंत्री डॉ. सिंह ने कहा कि प्रधानमंत्री मोदी के दूसरे कार्यकाल का पहला वर्ष देश की वर्षों की संजोई हुई आशा व आकांक्षाओं की पूर्ति का रहा है। केंद्र सरकार ने कोरोना संक्रमण काल में चौपट हो रही अर्थ व्यवस्था के दौर में भी देश को एकजुट रखते हुए गरीब कल्याण योजना के तहत 1.70 लाख करोड़ रुपए का प्रावधान कर प्रभावित गरीब परिवारों, श्रमिकों और जरूरतमंदों को हरसंभव सहायता सामग्री व आवश्यक राशि मुहैया कराई, देश की अर्थ व्यवस्था को पटरी पर लाने के लिए स्थायी आर्थिक उपायों पर काम करते हुए आत्मनिर्भर भारत की दिशा में कदम बढ़ाकर 20 लाख करोड़ रुपए का आर्थिक पैकेज घोषित किया। दूरदर्शितापूर्ण निर्णय लेकर उन पर त्वरित अमल करके प्रधानमंत्री मोदी ने कोरोना संकट को काबू में रखा। केंद्र सरकार ने 45 सौ ट्रेनों से देशभर में फंसे लगभग 56 लाख और बसों से 45 लाख प्रवासी श्रमिकों को उनके घरों तक पहुंचाने का काम किया।डॉ. सिंह ने प्रदेश सरकार के डेढ़ वर्ष के कार्यकाल की आलोचना करते हुए कहा कि छत्तीसगढ़ को संभालने की जिम्मेदारी निभाने में कांग्रेस की प्रदेश सरकार विफल रही है। प्रदेश सरकार को बेरहम बताते हुए डॉ. सिंह ने कहा कि वह प्रदेश के लोगों की वेदना को महसूस नहीं करती। देश के दीगर राज्यों ने अपने प्रवासी श्रमिकों के खातों में आर्थिक सहायता के रूप में पर्याप्त राशि जमा कराई लेकिन छत्तीसगढ़ की कांग्रेस सरकार ने अपने ढाई लाख प्रवासी श्रमिकों के खाते में ढाई रुपए तक जमा नहीं कराए।

उनकी वापसी के लिए ट्रेनों को अनुमति तक देने में प्रदेश सरकार आनाकानी करती रही। प्रदेश के किसानों के साथ छल-कपट किया, शराबबंदी के वादे से मुकर रही है। शराब के धंधे में करोड़ों की हेराफेरी हो रही है और 30 फीसदी शराब अवैध रूप से बिक रही है और वह पैसा सरकारी खजाने में नहीं जा रहा है। शराब की तस्करी में पुलिस के लोग पकड़े जा रहे हैं। किसानों के दो साल के बकाया बोनस भुगतान के वादे की याद दिलाते हुए डॉ. सिंह ने तेंदूपत्ता संग्राहकों को भी दो साल का बोनस नहीं मिलने की बात कही।कोरोना के मोर्चे पर प्रदेश सरकार को विफल बताते हुए डॉ. सिंह ने कहा कि विभिन्न मदों में 18 सौ करोड़ रुपए होने के बावजूद प्रदेश सरकार कोरोना संकट की रोकथाम और लॉकडाउन से प्रभावितों की सहायता में खर्च नहीं कर रही है। टेस्टिंग सुविधा नहीं बढ़ाए जाने के कारण जाँच रिपोर्ट का काम पेंडिंग पड़ा है और क्वारेंटाइन सेंटर्स यातना गृह बनकर रह गए हैं। केंद्र की राशि से संचालित मनरेगा को छोड़कर प्रदेश में कहीं कोई काम यह सरकार नहीं कर रही है। प्रदेश में माफिया आतंक बढ़ता जा रहा है और माफिया अपने खिलाफ आवाज उठा रहे जनप्रतिनिधियों और लोगों पर जानलेवा हमले कर रहे हैं।

प्रदेश सरकार बदलापुर की राजनीति कर भाजपा कार्यकर्ताओं को प्रताड़ित कर रही है।प्रदेश में भाजपा के 15 वर्षों के शासनकाल की चर्चा कर डॉ. सिंह ने कहा कि भाजपा कार्यकर्ता केंद्र सरकार के साथ ही प्रदेश के भाजपा शासनकाल की उपलब्धियों को भी बताएं और मौजूदा प्रदेश की कांग्रेस सरकार की विफलताओं से भी प्रदेश को अवगत कराएं।सभा की शुरुआत जिला भाजपा अध्यक्ष सनम जांगड़े के संबोधन से हुई। भाजपा प्रदेश उपाध्यक्ष मोतीलाल साहू ने सभा की कार्यवाही संचालित की। पूर्व विधानसभा अध्यक्ष गौरीशंकर अग्रवाल ने सबको आत्म निर्भर भारत की संरचना की शपथ दिलाई। जिला महामंत्री राकेश तिवारी ने अंत में सबका आभार माना। इस मौके पर भाजपा वर्चुअल रैली के प्रदेश संयोजक व पूर्व मंत्री राजेश मूणत, संसद सदस्य द्वय सुनील सोनी व गुहाराम अजगले, प्रदेश प्रवक्ता व विधायक शिवरतन शर्मा, पूर्व विधायक द्वय लक्ष्मी बघेल व मनाराम धृतलहरे, जिला महामंत्री सुभाष जालान, डॉ. अजय राव, पूर्व जिला भाजपा अध्यक्ष सुरेंद्र टिकरिहा, पूर्व जिपं सदस्य पूनम माकंर्डेय सहित काफी संख्या में पदाधिकारी व कार्यकर्ता वर्चुअली जुड़े थे।

 

22-06-2020
प्रधानमंत्री मोदी के कार्यकाल की उपलब्धियां स्वर्णाक्षरों में लिखी जाएंगी : रामविचार नेताम

रायपुर। भारतीय जनता पार्टी अनुसूचित जनजाति मोर्चा के राष्ट्रीय अध्यक्ष व राज्यसभा सांसद रामविचार नेताम ने कहा है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व वाली केंद्र सरकार के दूसरे कार्यकाल के एक वर्ष में जितने ऐतिहासिक और क्रांतिकारी काम हुए हैं, उतने 60 साल में नहीं हुए। नए भारत का जब भी इतिहास लिखा जाएगा, प्रधानमंत्री मोदी के कार्यकाल की उपलब्धियां स्वर्णाक्षरों में लिखी जाएंगी। आज देश को एक सशक्त नेतृत्व मिला है, जो देश के विकास के लिए लगातार कार्य कर रहे हैं।  नेताम ने कहा कि एक ओर जब दुनिया के सभी विकसित और बड़े देश कोरोना संक्रमण के आगे घुटने टेके नजर आ रहे हैं। वहां संक्रमितों की मौतों का आंकड़ा दुनिया को दहशत में डाल रहा है, तब भारत एक ऐसा सौभाग्यशाली देश है, जहां संक्रमण और संक्रमितों की मृत्यु दर सबसे कम है। यह इसलिए संभव हुआ क्योंकि प्रधानमंत्री मोदी ने सही समय पर सही कदम उठाते हुए तेज गति से इस महामारी की रोकथाम के रणनीतिक उपायों पर काम किया। देश में लॉक डाउन की घोषणा कर देश को इस महामारी के व्यापक और भयावह मंजर से बचाने का काम किया। नेताम ने देश व प्रदेश की जनता का आभार माना कि उन्होंने प्रधानमंत्री की हर अपील का पूरे मनोयोग के साथ पालन किया। विश्व में भारत की स्थिति को बेहतर बनाए रखने में सहयोग किया।नेताम ने कोरोना और लॉक डाउन से उत्पन्न विषम परिस्थितियों में फंसे प्रभावित परिवारों की पूर्ण समर्पण भाव से सेवा करने के लिए प्रदेश की तमाम स्वयंसेवी संस्थाओं और भाजपा के कार्यकतार्ओं की स्वस्फूर्त सेवा भावना के प्रति भी कृतज्ञता ज्ञापित की। केंद्र सरकार की ओर से गरीब कल्याण योजना के तहत 1.70 लाख करोड़ रुपए का पैकेज जारी करने और फिर 20 लाख करोड़ रुपए के आर्थिक पैकेज के माध्यम से देश व कोरोना-लॉक डाउन प्रभावितों की आर्थिक दशा के स्थायी सुधार व उसे सम्हालने के केंद्र सरकार के निर्णय को भी सराहा।

 

उन्होंने कहा कि  प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व और कोरोना की रोकथाम के लिए किए गए प्रयासों को विश्व ने भी सराहा है। नेताम ने प्रदेश की कांग्रेस सरकार के कामकाज की आलोचना करते हुए कहा कि प्रदेश सरकार अपने हर मोर्चे पर बुरी तरह विफल रही है। प्रदेश की कांग्रेस सरकार अपना एक कदम आगे बढ़ा भी नहीं पाता है। वह तीन कदम पीछे  हट जाता है। किसानों की कर्जमाफी, पूर्ण शराबबंदी, बेरोजगारी भत्ता आदि वादों पर पूरा अमल नहीं किया। उन्होंने कहा कि अगर प्रदेश सरकार के खिलाफ कोई कुछ बोलता है तो उसके खिलाफ एफआईआर दर्ज की जाती है। नेताम ने भाजपा कार्यकर्ताओं से अपील की है कि वे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की केंद्र सरकार की उपलब्धियों और प्रदेश की कांग्रेस सरकार की नाकामियों को प्रदेश के घर-घर तक सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करते हुए, मास्क धारण कर और सेनिटाइजर का इस्तेमाल करते हुए पहुंचाए।वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग की शुरूआत भाजपा प्रदेश प्रवक्ता सच्चिदानंद उपासने ने की। दिनेश कश्यप (पूर्व सांसद) ने प्रस्तावना प्रस्तुत किया।  बड़ी संख्या में बस्तर के पदाधिकारी और कार्यकर्ता जिला जन संवाद में शामिल हुए। नेताम ने जिला जनसंवाद कार्यक्रम के तहत कोंडागांव, नारायणपुर, दंतेवाड़ा, सुकमा, बीजापुर और कांकेर जिला की वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग सभा को संबोधित किया। नेताम ने कहा कि बस्तर में प्राकृतिक संसाधनों का भंडार है। यहां विभिन्न प्रकार के वनोपज पाया जाता है। यहां का लौह अयस्क विश्व प्रसिद्ध है।

21-06-2020
प्रधानमंत्री मोदी के कार्यकाल में भारत का विश्व मंच पर मान-सम्मान और स्वाभिमान बढ़ा : कौशिक

रायपुर। विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष धरमलाल कौशिक ने कहा है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के पिछले 6 वर्षों के कार्यकाल में भारत का विश्व मंच पर मान-सम्मान बढ़ा है। प्रधानमंत्री मोदी के नेतृत्व में भारतीय अखंडता और संप्रभुता को चुनौती देने वालों को पहले सर्जिकल और एयर स्ट्राइक करके क़रारा ज़वाब दिया गया और अब चीन को भी भारत की पराक्रमी सेना ने यह बता दिया है कि यह 1962 वाला भारत नहीं है। कौशिक रविवार को कुशाभाऊ ठाकरे स्मृति परिसर में जनसंवाद कार्यक्रम के तहत बलरामपुर जिला को वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से सभा को संबोधित कर रहे थे। विदित रहे, प्रदेश भाजपा द्वारा केंद्र सरकार के दूसरे कार्यकाल के एक वर्ष पूर्ण होने पर जिला स्तर पर इन सभाओं का आयोजन रखा जा रहा है और यह सभा इस क्रम में रविवार की पहली सभा थी।नेता प्रतिपक्ष कौशिक ने कहा कि श्रद्धेय पं. दीनदयाल उपाध्याय ने जिस अंत्योदय की कल्पना की, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में केंद्र सरकार उस परिकल्पना को साकार कर भारतीय स्वातंत्र्य की 75वीं वर्षगाँठ के मौके पर 2022 तक स्वर्णिम भारत के निर्माण की ओर अग्रसर है।  कौशिक ने केंद्र सरकार की उपलब्धियाँ गिनाईं और दूसरे कार्यकाल के एक वर्ष में लिए गए बड़े निर्णयों पर विस्तार से चर्चा की। कोरोना संकट से निपटने में प्रधानमंत्री मोदी के दूरदर्शितापूर्ण निर्णयों और आर्थिक प्रावधानों की सराहना करते हुए नेता प्रतिपक्ष कौशिक ने कहा कि प्रधानमंत्री ने देश के सभी मुख्यमंत्रियों से चर्चा कर कोरोना की रोकथाम के उपायों को गति दी लेकिन छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने प्रदेश में कोरोना के बढ़ते संक्रमण के बाद भी प्रदेश के अन्य राजनीतिक दलों के साथ चर्चा तक करना ज़रूरी नहीं समझा है। प्रदेश सरकार को हर मोर्चे पर विफल बताते हुए कौशिक ने कहा कि प्रदेश सरकार के पास सिर्फ़ दो ही काम रह गए हैं, एक रोज़ केंद्र को चिठ्ठी लिखना और दूसरा रोज़ केंद्र सरकार पर बेसिर पैर के आरोप लगाकर प्रलाप करना।भाजपा वर्चुअल रैली के प्रदेश के सह संयोजक व प्रदेश प्रवक्ता भूपेंद्र सवन्नी ने सभा की कार्यवाही संचालित करते हुए सबको आत्मनिर्भर भारत की संरचना की शपथ दिलाई। इस मौके पर काफी संख्या में भाजपा के प्रदेश व ज़िला पदाधिकारी, कार्यकर्ता और पूर्व व मौज़ूदा जनप्रतिनिधि वर्चुअली जुड़े थे।

 

17-06-2020
भारत उकसाने पर यथोचित जवाब देने में सक्षम है : मोदी

नई दिल्ली। प्रधानमंत्री मोदी ने बुधवार को मुख्यमंत्री की बैठक के पहले कल हुए एलएसी में शहीद हुए सैनिकों को श्रद्धांजलि दी। उन्होंने इसके दो मिनट का मौन रखा। उन्होंने कहा हमारे जवानों का बलिदान व्यर्थ नहीं जाएगा। भारत अपनी अखंडता और समप्रभुता से समझौता नहीं करेगा।  भारत उकसाने पर यथोचित जवाब देने में सक्षम है। किसी को भी भ्रम संदेह नहीं होना चाहिए। भारत शांति चाहता है लेकिन जवाब देना भी जानता है।

 

 

Advertise, Call Now - +91 76111 07804