GLIBS
27-05-2021
जिले में 159 कोविड संक्रमित मरीज हुए कोरोना से मुक्त

जांजगीर-चांपा। जिले में 26  मई को कोविड केयर अस्पतालों और होम आइसोलेशन के 159 मरीज कोरोना वायरस को हराकर संक्रमण से मुक्त हुए। बेहतर इलाज के बाद स्वस्थ होने पर इन सभी को डिस्चार्ज कर दिया गया। जिला अस्पताल ईसीटीसी, कोविड केयर सेंटर्स और निजी अस्पतालों में 19 अप्रेल से 27 मई तक कोविड संक्रमित 981 मरीज समुचित इलाज के फलस्वरूप स्वस्थ होने पर डिस्चार्ज किए गए। कलेक्टर यशवंत कुमार के मार्गदर्शन में कोविड जिला अस्पताल ईसीटीसी और 16 कोविड केयर सेंटर्स में कुल 1488 बेड और निजी अस्पतालों में 203 बेड की व्यवस्था की गई है। कोविड केयर सेंटर्स में 1179 बेड और 17 निजी अस्पतालों में 153 बेड रिक्त है। आनलाइन उपलब्ध जानकारी के अनुसार 27 मई सायं 4 बजे की स्थिति में जिला अस्पताल परिसर के ईसीटीसी में 80 बेड हैं। इनमें से आईसीयू के 7 बेड में और ऑक्सीजन युक्त 60 बेड में मरीज भर्ती हैं। यहां आईसीयू में 3 बेड और आक्सीजनयुक्त 10 बेड रिक्त है। जिले में संचालित- 16 कोविड केयर सेंटर्स में सामान्य वार्ड के 868 बेड और आक्सीजन युक्त 308 बेड रिक्त है।

 

20-05-2021
जिले में 714 कोविड संक्रमित मरीज हुए कोरोना वायरस से मुक्त,किए गए डिस्चार्ज    

जांजगीर-चांपा। जिले में 19  मई को कोविड केयर अस्पतालों और होम आईसोलेशन के 714  मरीज कोरोना वायरस को हराकर संक्रमण से मुक्त हुए। बेहतर इलाज के बाद स्वस्थ होने पर इन सभी को डिस्चार्ज कर दिया गया। जिला अस्पताल ईसीटीसी, कोविड केयर सेंटर्स और निजी अस्पतालों में 19 अप्रैल से 20 मई तक कोविड संक्रमित 958 मरीज समुचित इलाज के फलस्वरूप स्वस्थ होने पर डिस्चार्ज किए गए। कलेक्टर यशवंत कुमार के मार्गदर्शन में कोविड जिला अस्पताल ईसीटीसी और 16 कोविड केयर सेंटर्स में कुल- 1488 बेड और निजी अस्पतालों में -203 बेड की व्यवस्था की गई है। कोविड केयर सेंटर्स में 1157 बेड और 17 निजी अस्पतालों में 124 बेड रिक्त है। आनलाइन उपलब्ध जानकारी के अनुसार 20 मई  दोपहर 03 बजे की स्थिति में जिला अस्पताल परिसर के ईसीटीसी में 80 बेड हैं। इनमें से आईसीयू के 8 बेड में और ऑक्सीजन युक्त 59 बेड में मरीज भर्ती हैं। यहां आईसीयू में 2 बेड और आक्सीजन वाले 11 बेड रिक्त है। 

 

17-04-2021
सरकार को कोरोना से निपटने के लिए चिकित्सा उपकरणों और दवाओं को जीएसटी से मुक्त करना चाहिए : सोनिया गांधी

नई दिल्ली। कांग्रेस अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी ने सीडब्ल्यूसी की बैठक में कहा कि कांग्रेस ने हमेशा से यह माना है कि कोविड-19 के खिलाफ लड़ाई एक राष्ट्रीय चुनौती है, जिसे पार्टी की राजनीति से दूर रखा जाना चाहिए। कोविड-19 का टीका 25 साल तक के लोगों को लगाया जाए। सोनिया गांधी ने कहा कि कोविड-19 की दूसरी लहर ने देश को बुरी तरह प्रभावित किया है, हमारे पास इससे निपटने की तैयारी के लिए एक साल का समय था, लेकिन हम बिना तैयारी के फिर इसकी चपेट में आ गए हैं। कोविड-19 संकट संबंधी पूर्वानुमान, आकलन और प्रबंधन के संदर्भ में मोदी सरकार ने कोई तैयारी नहीं की है। टीकाकरण के लिए आयु सीमा को घटाकर 25 साल किया जाए तथा अस्थमा, मधुमेह और कुछ अन्य बीमारियों से पीड़ित युवाओं को प्राथमिकता के आधार पर टीका लगाया जाए। उन्होंने कांग्रेस कार्य समिति (सीडब्ल्यूसी) की बैठक में यह भी कहा कि सरकार को कोरोना से निपटने के लिए जरूरी चिकित्सा उपकरणों और दवाओं को जीएसटी से मुक्त करना चाहिए तथा कोरोना वायरस संक्रमण के प्रसार पर अंकुश लगाने के लिए सख्त कदम उठाने पर गरीबों को प्रति माह छह हजार रुपये की मदद देनी चाहिए।

सोनिया ने बड़ी संख्या में लोगों के कोरोना वायरस संक्रमण के चपेट में आने और रोजाना सैकड़ों लोगों की मौत होने पर दुख जताते हुए कहा कि इस संकट की घड़ी में अपना कर्तव्य निभा रहे स्वास्थ्यकर्मियों एवं दूसरे कर्मचारियों को कांग्रेस सलाम करती है। सोनिया गांधी ने सीडब्ल्यूसी की बैठक में सवाल किया कि क्या टीकों के निर्यात को रोककर अपने नागरिकों की रक्षा को प्राथमिकता नहीं दी जानी चाहिए। हर पात्र नागरिक के खाते में छह-छह हजार रुपए जमा कराना और उसे मासिक आय सहायता मुहैया कराना अत्यावश्यक है। उन्होंने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को लिखे पत्र का उल्लेख किया और आरोप लगाया कि कई जगहों पर टीकों, ऑक्सीजन और वेंटिलेंटर की कमी हो रही है, लेकिन सरकार चुप्पी साधे है। कांग्रेस अध्यक्ष ने कहा,‘सरकार को टीकाकरण के लिए अपनी प्राथमिकता पर पुनर्विचार करना चाहिए और आयु सीमा को घटाकर 25 साल करना चाहिए। अस्थमा, मधुमेह, किडनी और लीवर संबंधी बीमारियों से पीड़ित सभी युवाओं को टीका लगाया जाना चाहिए।’ उल्लेखनीय है कि टीकाकरण के लिए अभी न्यूतम आयु सीमा 45 साल निर्धारित है।

09-04-2021
भूपेश बघेल आज मिलेंगे नक्सल चंगुल से मुक्त हुए जवान राकेश्वर सिंह से 

रायपुर। तर्रेम में हुए मुठभेड़ के बाद नक्सलियों ने जवान राकेश्वर सिंह का अपहरण कर लिया था। गुरुवार को नक्सलियों ने बंधक जवान को रिहा किया है। जवान शुक्रवार को बीजापुर से रायपुर पहुंचेगा। वहीं सीएम बघेल आज जवान की रिहाई कराने वाले समाजसेवियों से मिलेंगे। मुख्यमंत्री ने कहा कि सबके साथ मिलकर चर्चा करूंगा। बता दें कि​ जवान राकेश्वर की पत्नी और बेटी ने भी नक्सलियों से उन्हें सुरक्षित छोड़ने की अपील की थी। उन्होंने अपील की थी कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने जिस तरह पाकिस्तान से अभिनंदन को छुड़ाया था, उसी तरह उनके पति को भी नक्सलियों के कब्जे से छुड़ाकर लाएं।

03-02-2021
जोन आयुक्त महेंद्र पाठक स्थानांतरण होने पर भिलाई निगम से हुए भार मुक्त

भिलाई। जोन आयुक्त महेंद्र पाठक जोन क्रमांक 5 में कार्यरत थे। इनका स्थानांतरण रायपुर निगम में होने पर उन्हें 2 फरवरी दिन मंगलवार को भिलाई निगम से भार मुक्त कर दिया गया है। वही उप अभियंता वसीम खान को जोन क्रमांक 3 मदर टैरेसा नगर में प्रभारी सहायक अभियंता की अतिरिक्त जिम्मेदारी दी गई है। उल्लेखनीय है कि छत्तीसगढ़ शासन नगरीय प्रशासन एवं विकास विभाग, मंत्रालय महानदी भवन नवा रायपुर अटल नगर के आदेश 23 जनवरी 2021 के द्वारा महेंद्र पाठक जोन आयुक्त नगर पालिक निगम, भिलाई को प्रशासनिक दृष्टिकोण से समान सामर्थ्य सेवा शर्तों एवं निबंधनों के अधीन अस्थाई रूप से आगामी आदेश पर्यंत जोन आयुक्त नगर पालिक निगम रायपुर में तत्काल प्रभाव से पदस्थ किया गया है। शासन के आदेश के परिपालन में महेंद्र पाठक को भिलाई निगम से भार मुक्त कर दिया गया है। इसका आदेश निगमायुक्त ऋतुराज रघुवंशी ने जारी कर दिया है। वही निगमायुक्त ने एक आदेश और जारी किया गया है, जिसके मुताबिक मो. वसीम खान उप अभियंता जोन क्रमांक 5 को उनके वर्तमान दायित्व के साथ-साथ प्रशासकीय व्यवस्था के अंतर्गत जोन क्रमांक 3 मदर टैरेसा नगर में प्रभारी सहायक अभियंता का प्रभार सौंपा गया है।

 

05-01-2021
एजाज ढेबर ने गिनाई उपलब्धियां, कहा- इसी कार्यकाल में शहर को टैंकर मुक्त करेंगे, पिंक टॉयलेट बनाएंगे

रायपुर। नगर निगम रायपुर के महापौर एजाज ढेबर ने बतौर महापौर अपना 1 साल पूरा होने पर अपनी उपलब्धियां गिनाई। उन्होंने मंगलवार को पत्रकारवार्ता में कहा कि हम अपने इसी कार्यकाल में रायपुर शहर को टैंकर मुक्त करेंगे। साथ ही महिलाओं के लिए शहर के प्रमुख बाजारों व स्थानों में पिंक टॉयलेट बनाए जाएंगे। उन्होंने कहा कि हमने रायपुर को शहर नहीं राजधानी मानकर काम किया। चुनाव जीतने के बाद कहा था कि हम रायपुर की तस्वीर बदलेंगे। इस पर पूरी टीम ने अच्छा काम किया। हमने 1 साल जो भी काम किए उस पर जनता ने मुहर लगाई है। महापौर ने कहा कि जिस बूढ़ातालाब के सौंदर्यीकरण की विरोध हुआ और जिन्होंने विरोध किया वही लोग आज वहां जाकर सेल्फी लेते देखे जा सकते हैं। पूर्व सरकार के समय बूढ़ातालाब के सौंदर्यीकरण में 30 करोड़ रुपए खर्च किए गए, जिसका कोई नतीजा नहीं निकला। हमने 25 दिन में बूढ़ातालाब की सफाई करवाकर दिखाई। महापौर ने कहा कि जो लोग पेंशन के लिए भटकते हैं, ऐसे 24970 लोगो के पेंशन के लिए एटीएम की व्यवस्था का कार्य किया। अभी हमने अतिरिक्त 900 कर्मचारियों की व्यवस्था बढ़ाई है। महापौर ने कहा कि 2020 के लक्ष्य को हमने पूरा किया। अब 2021 के लक्ष्य की बारी है। सभी बिजली कनेक्शन अंडरग्राउंड,पानी टैंकर से शहरवासियों को मुक्ति, शारदा चौक और तात्यापारा चौक का चौड़ीकरण भी इसी वर्ष होगा। इसके साथ ही गोल बाजार के व्यपरियों को दुकान का मालिकाना हक देंगे। राजधानी में अब नया गोल बाजार देखने को मिलेगा, यहां तमाम मूलभूत सुविधाएं उपलब्ध कराई जाएगी। हिन्द स्पोर्टिंग मैदान भी तैयार होगा। मालवीय रोड में ट्रैफिक समस्या को खत्म करेंगे। गोल बाजार में पाथवे, नाली, लाइट की सुविधा होगी। 20 जनवरी के बाद मल्टीलेवल पार्किंग और नए बस स्टैंड का उद्घाटन होगा। महापौर ने कहा कि चुनाव जीतने के बाद जब हम दिल्ली गए,वहां शिक्षा और स्वास्थ्य की स्थिति देखा।  रायपुर में 3 अंग्रेजी मीडियम स्कूल खोले गए। आज 10 हजार आवेदन आ चुके हैं। हमने स्वास्थ्य की दिशा में भी काम किया। महापौर ने कहा कि एक वर्ष का कार्यकाल कोरोना के साये में गुजरा। कोरोना काल में नगर निगम कभी अपनी जिम्मेदारियों से पीछे नहीं हटा। कोरोना काल में निगम के प्रयासों के कारण कोई भी भूखा नहीं सोया। होम आइसोलेशन की व्यवस्था में घर-घर दवाएं पहुंचाने का काम किया गया।

12-08-2020
शिक्षक नगर कंटेनमेंट जोन से मुक्त, नहीं मिला नया कोरोना पॉजिटिव केस

रायपुर। जिला प्रशासन की ओर से थाना अभनपुर अंतर्गत शिक्षक नगर को कंटेनमेंट जोन से मुक्त कर दिया गया है। जिला रायपुर अंतर्गत नगर पंचायत अभनपुर के शिक्षक नगर थाना अभनपुर में 1 कोरोना पॉजिटिव केस पाए जाने के कारण क्षेत्र को कंटेनमेंट जोन घोषित किया गया था। कंटेनमेंट जोन की परिसीमाएं उत्तर में नहर नाली,दक्षिण में डॉक्टर चंद्राकर का मकान, पूर्व में परमजीत सचदेवा का मकान और पश्चिम में राकेश साहू का मकान तक निर्धारित की गई थी। बताया गया है कि, मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी रायपुर से प्राप्त प्रतिवेदन के अनुसार कंटेनमेंट जोन में 2 जुलाई के बाद कोई भी नया कोरोना मरीज नहीं मिला। इसके बाद कंटेनमेंट जोन के लिए भारत सरकार एवं आईसीएमआर की ओर से जारी की गई गाइडलाइन के अनुसार जिला प्रशासन ने क्षेत्र को कंटेनमेंट जोन से मुक्त कर दिया है।

 

11-08-2020
थाना अकलाडोंगरी-माटेगहन पहुंचे एएसपी, जवानों से रुबरु होकर सुनी समस्याएं, दिए निराकरण के निर्देश

धमतरी। पुलिस जवानों की समस्या को जानने और उन्हें कर्तव्य के साथ-साथ पारिवारिक दायित्व निर्वहन करने के दौरान मानसिक तनाव से मुक्त रहकर उत्कृष्ठ कार्य करने के लिए प्रोत्साहित करने के लिए पुलिस महानिदेशक डीएम अवस्थी द्वारा स्पंदन अभियान की शुरुआत की गई है। पुलिस अधीक्षक धमतरी बीपी राजभानू द्वारा स्पंदन अभियान के तहत इकाई में पदस्थ जवानों से व्यक्तिगत रूप से मिलकर उनसे चर्चा कर उनकी समस्याओं को सुनते हुए यथोचित निराकरण किया जा रहा है।

इसी क्रम में अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक मनीषा ठाकुर रावटे द्वारा थाना अकलाडोंगरी-माटेगहन का भ्रमण कर थाना का आकस्मिक निरीक्षण करते हुए उपस्थित अधिकारी एवं जवानों से चर्चा कर उन्हें तनाव में रहकर कोई कार्य नहीं करने, अपना मनोबल ऊंचा रखने समझाइश देते हुए परिवार से दूर रहने की स्थिति में उनसे मोबाइल से संपर्क बनाए रखने, शारीरिक स्वस्थता के लिए नित्य खेलकूद, योग आदि करने तथा बारिश के मौसम को देखते हुए थाना परिसर एवं उसके आसपास स्वच्छ वातावरण बनाए रखने साफ-सफाई पर विशेष ध्यान देने निर्देशित किया गया। इस दौरान थाना प्रभारी अकलाडोंगरी-माटेगहन मथुरा सिंह ठाकुर एवं अधिकारी कर्मचारी उपस्थित रहे।

 

 

Advertise, Call Now - +91 76111 07804