GLIBS
13-09-2020
लोकवाणी में बोले भूपेश-महान विभूतियों के न्याय की अवधारणा में मिला विकास का ’छत्तीसगढ़ी मॉडल’

रायपुर। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने रविवार को प्रसारित अपनी रेडियो वार्ता लोकवाणी की दसवीं कड़ी में ‘समावेशी विकास-आपकी आस’ विषय पर श्रोताओं के साथ अपने विचार साझा किए। उन्होंने कहा कि, महात्मा गांधी, पंडित नेहरू, सरदार पटेल, डॉ. अम्बेडकर, शास्त्री, आजाद, मौलाना जैसे हमारे नेता जिस न्याय की बात करते थे, उसी साझी विरासत से हमें विकास का छत्तीसगढ़ी मॉडल मिला है। समावेश का सरल अर्थ होता है- समाज के सभी वर्गों को साथ लेकर चलना, सभी की भागीदारी, सबके विकास की व्यवस्था। उन्होंने कहा कि, किसान को जब हम अर्थव्यवस्था की धुरी मान लेंगे तो समझ लीजिए कि समावेशी विकास की धुरी तक पहुंच गए हैं। छत्तीसगढ़ सरकार ने किसानों को अर्थव्यवस्था के केन्द्र में रखा है। इसके साथ ही अर्थव्यवस्था में किसान, ग्रामीण, अनुसूचित जाति- अनुसूचित जनजाति, पिछड़ा वर्ग, महिलाओं की भागीदारी बढ़ाने के गंभीर प्रयास करते हुए राज्य सरकार सबसे विकास की व्यवस्था कर रही है। 

‘सर्वे भवन्तु सुखिनः’ के वेदवाक्य में है समावेशी विकास की भावना

मुख्यमंत्री ने आज के विषय पर आपने विचार व्यक्त कर कहा कि, मेरा दृढ़ विश्वास है कि देश और प्रदेश की आर्थिक- सामाजिक समस्याओं का समाधान, समावेशी विकास से ही संभव है। हम अपने राज्य में समावेशी विकास की अलख जगा रहे हैं और इस दिशा में आगे बढ़ेंगे। ‘सर्वे भवन्तु सुखिनः’ के वेदवाक्य में भी यही भावना है, जो हमारी सांस्कृतिक विरासत है। सवाल उठता है कि प्रचलित व्यवस्था में किसका समावेश नहीं है? कौन छूटा है? तो सीधा जवाब है कि जिसे संसाधनों पर अधिकार नहीं मिला, जिसके पास गरिमापूर्ण आजीविका का साधन नहीं है, विकास के अवसर नहीं हैं या जो गरीब है।

वही वर्ग तो छूटा है। हमारी प्रचलित अर्थव्यवस्था में किसान, ग्रामीण, अनुसूचित जाति- अनुसूचित जनजाति, पिछड़ा वर्ग, महिलाओं की भागीदारी बहुत कम रही है। ऐसा नहीं है कि प्रयास शुरू ही नहीं हुए बल्कि यह कहना उचित होगा कि वह मुहिम कहीं भटक गई, कहीं जाकर ठहर गई। थोड़ा पीछे जाकर देखें तो महात्मा गांधी, पंडित नेहरू, सरदार पटेल, डॉ. अम्बेडकर, शास्त्री, आजाद, मौलाना जैसे हमारे नेता जिस न्याय की बात करते थे, उसी साझी विरासत से हमें छत्तीसगढ़ी मॉडल मिला है। नेहरू जी ने देश के प्रथम प्रधानमंत्री के रूप में पंचवर्षीय योजनाओं का सिलसिला शुरू किया था। उसी की बदौलत भारत की बुनियाद हर क्षेत्र में, विशेष तौर पर आर्थिक और सामाजिक क्षेत्र में मजबूत हुई थी। उन्होंने कहा कि 11वीं पंचवर्षीय योजना काल (2007 से 2012) में भारत की अर्थव्यवस्था में ‘समावेशी विकास’ की अवधारणा को काफी मजबूती के साथ रखा गया था। उस समय यूपीए की सरकार थी और प्रधानमंत्री थे मनमोहन सिंह अर्थात देश की बागडोर कुशल अर्थशास्त्री के हाथों में थी। लक्ष्य था कि देश की जीडीपी अर्थात सकल घरेलू उत्पाद की विकास दर को 8 प्रतिशत से बढ़ाकर 10 प्रतिशत तक लाना है।

यह भी तय हुआ था कि विकास दर को लगातार 10 प्रतिशत तक बनाए रखना है ताकि वर्ष 2016-17 तक प्रति व्यक्ति आय को दोगुना किया जा सके। 12वीं पंचवर्षीय योजना काल 2012 से 2017 के लिए भी जीडीपी को 9 से 10 प्रतिशत के बीच टिकाए रखने का लक्ष्य रखा गया था। आज भारत की विकास दर 3 प्रतिशत के आसपास है। वर्ष 2020-21 की पहली तिमाही में देश की विकास दर में लगभग 24 प्रतिशत की गिरावट दर्ज की गई है, जो दुनिया में सर्वाधिक गिरावट है। कोरोना की समस्या तो पूरी दुनिया में है। अमेरिका के सर्वाधिक कोरोना प्रभावित होने के बावजूद वहां की जीडीपी मात्र 10 प्रतिशत गिरी है। जबकि भारत की जीडीपी दुनिया में सर्वाधिक 24 प्रतिशत गिरी है। इस हालात को समझना होगा।

11-09-2020
भूपेश करेंगे इस बार 'समावेशी विकास, आपकी आस' विषय पर बात

रायपुर। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल की मासिक रेडियोवार्ता लोकवाणी की 10वीं कड़ी का प्रसारण 13 सितंबर रविवार को होगा। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल लोकवाणी में इस बार समावेशी विकास, आपकी आस विषय पर प्रदेशवासियों से बात करेंगे। लोकवाणी का प्रसारण छत्तीसगढ़ स्थित आकाशवाणी के सभी केन्द्रों, एफएम रेडियो और क्षेत्रीय समाचार चैनलों से सुबह 10.30 से 11 बजे तक होगा।

10-09-2020
मुख्यमंत्री की मासिक रेडियो वार्ता लोकवाणी की 10वीं कड़ी का प्रसारण 13 सितंबर को

रायपुर/जगदलपुर। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल की मासिक रेडियो वार्ता लोकवाणी की 10वीं कड़ी का प्रसारण 13 सितंबर रविवार को होगा। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल लोकवाणी में इस बार समावेशी विकास आपकी आस विषय पर प्रदेशवासियों से बात करेंगे। लोकवाणी का प्रसारण छत्तीसगढ़ स्थित आकाशवाणी के सभी केन्द्रों, एफएम रेडियो और क्षेत्रीय समाचार चैनलों से सुबह 10.30 से 11 बजे तक होगा।

 

24-08-2020
लोकवाणी में समावेशी विकास, आपकी आस विषय पर होगी बात... 

रायपुर। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल लोकवाणी में इस बार "समावेशी विकास, आपकी आस" विषय पर प्रदेशवासियों से बात करेंगे। इस संबंध में कोई भी व्यक्ति आकाशवाणी रायपुर के दूरभाष नंबर 0771-2430501, 2430502, 2430503 पर 25, 26 एवं 27 अगस्त को अपरान्ह 3 से 4 बजे के बीच फोन करके अपने सवाल रिकाॅर्ड करा सकते हैं। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल की मासिक रेडियो वार्ता लोकवाणी की 10 वीं कड़ी का प्रसारण 13 सितंबर को होगा। लोकवाणी का प्रसारण छत्तीसगढ़ स्थित आकाशवाणी के सभी केंद्रों, एफएम रेडियो और क्षेत्रीय समाचार चैनलों से सुबह 10.30 से 11 बजे तक होगा।

09-08-2020
मुख्यमंत्री की मासिक रेडियो वार्ता लोकवाणी सुनने के बाद जनप्रतिनिधियों ने दी प्रतिक्रिया

धमतरी। मुख्यमंत्री  भूपेश बघेल की मासिक रेडियो वार्ता लोकवाणी की 9वीं कड़ी का प्रसारण आज आकाशवाणी सहित विभिन्न क्षेत्रीय समाचार चैनलों व एफएम रेडियो में किया गया। इसे सुनने के बाद नगर निगम धमतरी के महापौर विजय देवांगन ने कहा कि प्रदेश की जनता को सही मायने में राहत सरकार की न्याय योजनाओं के क्रियान्वयन के बाद मिली। मुख्यमंत्री के नेतृत्व में सरकार एक सच्ची हितैषी की भूमिका निभा रही है। पहले किसान न्याय योजना के तहत 2500 रुपए में किसानों की मेहनत का प्रतिफल दिया जा रहा है, फिर उसके बाद गोधन न्याय योजना से ग्राम एवं नगर स्तर पर रोजगार का ऐतिहासिक नवाचार का मुख्यमंत्री ने आगाज किया, जिसकी चहुंओर सराहना हो रही है। इसके लिए मौजूदा सरकार निश्चित तौर पर बधाई की पात्र है। निगम के सभापति अनुराग मसीह ने लोकवाणी सुनने के बाद सबको विश्व आदिवासी दिवस की शुभकामनाएं देते हुए कहा कि मुख्यमंत्री बघेल ने अपने संक्षिप्त कार्यकाल में लोकहित के लिए अनेक ऐतिहासिक निर्णय लिए हैं और योजनाओं का भी उसी गति से क्रियान्वयन हो रहा है। उन्होंने आगे कहा कि 20 जुलाई को शुरू हुई गोधन न्याय योजना सबसे बेहतर योजना है जिससे गोबर से आय अर्जित करने व स्वरोजगार अपनाया जा सकता है। इस योजना से एक साथ बहुद्देशीय लक्ष्यों की पूर्ति संभव है।

09-08-2020
न्याय दिलाने की विरासत से जुड़ी है राजीव गांधी किसान न्याय योजना : भूपेश बघेल

रायपुर। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल रेडियो वार्ता लोकवाणी की 9वीं कड़ी के माध्यम से आम जनता से रूबरू हुए। उन्होंने 9 अगस्त को अगस्त क्रांति दिवस और विश्व आदिवासी दिवस का विशेषरूप से उल्लेख करते हुए इनके महत्व की चर्चा की। बघेल ने कहा कि राष्ट्रपिता महात्मा गांधी ने आज के ही दिन वर्ष 1942 में भारत छोड़ो आंदोलन शुरू करने की घोषणा की और करो या मरो का नारा दिया। यह घटना भारतीय स्वतंत्रता संग्राम का निर्णायक मोड़ साबित हुई। मुख्यमंत्री ने कहा कि उनका मानना है कि हमारी आजादी की लड़ाई का हर दौर न्याय की लड़ाई का दौर था। भारत की आजादी ने न सिर्फ भारतीयों की जीवन में न्याय की शुरूआत की, बल्कि दुनिया के कई देशों में लोकतंत्र की स्थापना और जन-जन के न्याय का रास्ता बनाया। भारत माता को फिरंगियों की गुलामी से मुक्त कराना ही न्याय की दिशा में सबसे बड़ी सोच और सबसे बड़ा प्रयास था। दुनिया ने देखा है कि किस प्रकार हमारा संविधान समाज के हर समुदाय को न्याय देने का आधार बना। आम जनता को समानता के अधिकार, अवसर और गरिमापूर्ण जीवन उपलब्ध कराने के सिद्धांत के आधार पर अन्याय की जंजीरों से मुक्ति दिलाई गई।

हमारी न्याय दिलाने की विरासत से जुड़ी है राजीव गांधी किसान न्याय योजना :

बघेल ने कहा कि राजीव गांधी कहा करते थे, यदि किसान कमजोर हो जायेगा तो देश अपनी आत्मनिर्भरता खो देगा। किसानों के मजबूत होने से ही देश की स्वतंत्रता भी मजबूत होती है। इस तरह से देखिए तो एक बार फिर स्वतंत्रता, स्वावलंबन और न्याय के बीच एक सीधा रिश्ता बनता है। निश्चित तौर पर यह एक बड़ी योजना है, जिसके माध्यम से धान, मक्का और गन्ना के 21 लाख से अधिक किसानों को 5700 करोड़ रुपए का भुगतान उनके बैंक खातों में डीबीटी के माध्यम से किया जाना है। हमने तय किया 5700 करोड़ रुपए की राशि का भुगतान 4 किस्तों में करेंगे जिसकी पहली किस्त 1500 करोड़ रुपए 21 मई को किसानों की खाते में डाल दी गई है। 20 अगस्त को राजीव जी के जन्म दिन के अवसर पर दूसरी किस्त की राशि भी किसानों के खाते में डाल दी जायेगी। इस तरह राजीव गांधी किसान न्याय योजना हमारी न्याय दिलाने की विरासत से सीधी तौर पर जुड़ जाती है। उन्होंने कहा कि हमने भूमिहीन कृषि मजदूर न्याय योजना की घोषणा की है ताकि ऐसे ग्रामीण परिवारों को भी कोई निश्चित, नियमित आय हो सके, जिनके पास खेती के लिए अपनी जमीन नहीं है।

किसानों को अन्याय से बचाने राजीव गांधी किसान न्याय योजना की शुरूआत :

मुख्यमंत्री ने रेडियोवार्ता में कहा कि पहले साल धान के किसानों को 2500 रुपए प्रति क्ंिवटल का दाम देने के बाद जब दूसरा साल आया तो एक बड़ी बाधा सामने आ गई। हमने करीब 83 लाख मीट्रिक टन धान खरीद कर एक नया कीर्तिमान बनाया, इन किसानों को 2500 रुपए की दर से भुगतान किया जाना था लेकिन केन्द्र सरकार ने इस प्रक्रिया पर रोक लगा दी। ऊपर से यह कहा गया कि यदि हमने केन्द्र की ओर से घोषित समर्थन मूल्य से अधिक दर दी तो सेन्ट्रल पूल के लिए खरीदी बंद कर दी जायेगी। इस तरह फिर एक बार हमारे किसान अन्याय की चपेट में आ जाते। ऐसी समस्या के निदान के लिए हमने राजीव गांधी किसान न्याय योजना शुरू करने की घोषणा की। हमारी मंशा थी कि किसानों को कर्ज से नहीं लादा जाये बल्कि उनकी जेब में नगद राशि डाली जाए। इस तरह समग्र परिस्थितियों पर विचार करते हुए हमने सिर्फ धान ही नहीं बल्कि मक्का और गन्ना के किसानों को भी बेहतर दाम दिलाने की बड़ी सोच के साथ राजीव गांधी किसान न्याय योजना शुरू की।

06-08-2020
लोकवाणी में 'न्याय योजनाएं, नयी दिशाएं' पर बात करेंगे मुख्यमंत्री

रायपुर। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल की मासिक रेडियोवार्ता लोकवाणी की 9वीं कड़ी का प्रसारण आगामी 9 अगस्त, रविवार को होगा। मुख्यमंत्री लोकवाणी में इस बार 'न्याय योजनाएं, नयी दिशाएं' विषय पर प्रदेशवासियों से बात करेंगे।

 

04-08-2020
Breaking:

रायपुर।  मुख्यमंत्री भूपेश बघेल की मासिक रेडियोवार्ता लोकवाणी की 9वीं कड़ी का प्रसारण आगामी 9 अगस्त रविवार को होगा। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल  लोकवाणी में इस बार न्याय योजनाएं, नई दिशाएं विषय पर प्रदेशवासियों से बात करेंगे। लोकवाणी का प्रसारण छत्तीसगढ़ स्थित आकाशवाणी के सभी केन्द्रों, एफएम रेडियो और क्षेत्रीय समाचार चैनलों से सुबह 10.30 से 11 बजे तक होगा।

 

17-07-2020
लोकवाणी में इस बार “न्याय योजनाएं नयी दिशाएं“ विषय पर होगी बात

रायपुर/बेमेतरा। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल लोकवाणी में इस बार “न्याय योजनाएं नयी दिशाएं“ विषय पर प्रदेशवासियों से बात करेंगे। इस संबंध में कोई भी व्यक्ति आकाशवाणी रायपुर के दूरभाष नंबर 0771-2430501, 2430502, 2430503 पर 22, 23 एवं 24 जुलाई को अपरान्ह 3 से 4 बजे के बीच फोन करके अपने सवाल रिकॉर्ड करा सकते हैं। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल की मासिक रेडियो वार्ता लोकवाणी की 9वीं कड़ी का प्रसारण 9 अगस्त को होगा। लोकवाणी का प्रसारण छत्तीसगढ़ स्थित आकाशवाणी के सभी केंद्रों, एफएम रेडियो और क्षेत्रीय समाचार चौनलों से सुबह 10.30 से 10.55 बजे तक होगा।

16-07-2020
'न्याय योजनाएं नयी दिशाएं' विषय पर बोलेंगे भूपेश बघेल इस बार लोकवाणी में

रायपुर।  मुख्यमंत्री भूपेश बघेल लोकवाणी में इस बार "न्याय योजनाएं, नयी दिशाएं" विषय पर प्रदेशवासियों से बात करेंगे। इस संबंध में कोई भी व्यक्ति आकाशवाणी रायपुर के दूरभाष नंबर 0771-2430501, 2430502, 2430503 पर 22, 23 एवं 24 जुलाई को अपरान्ह 3 से 4 बजे के बीच फोन करके अपने सवाल रिकाॅर्ड करा सकते हैं। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल की मासिक रेडियो वार्ता लोकवाणी की 9वीं कड़ी का प्रसारण 9 अगस्त को होगा। लोकवाणी का प्रसारण छत्तीसगढ़ स्थित आकाशवाणी के सभी केंद्रों,एफएम रेडियो और क्षेत्रीय समाचार चैनलों से सुबह 10.30 से 10.55 बजे तक होगा। 

 

11-03-2020
भूपेश बघेल लोकवाणी में इस बार पानी की परवाह विषय पर करेंगे बात, रिकार्ड कराएं अपने सवाल

रायपुर। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल लोकवाणी में इस बार पानी की परवाह' विषय पर  प्रदेशवासियों से बात करेंगे। इस संबंध में कोई भी व्यक्ति आकाशवाणी रायपुर के दूरभाष नंबर 0771-2430501, 2430502, 2430503 पर  25, 26 और27 मार्च को अपरान्ह 3 से 4 बजे के बीच फोन करके अपने सवाल रिकार्ड करा सकते हैं। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल की मासिक रेडियोवार्ता लोकवाणी की 9वीं कड़ी का प्रसारण आगामी 12 अप्रैल को होगा।  लोकवाणी का प्रसारण छत्तीसगढ़ स्थित आकाशवाणी के सभी केन्द्रों, एफ.एम. रेडियो और क्षेत्रीय न्यूज चैनलों से सुबह 10.30 से 10.55 बजे तक होगा।

 

08-03-2020
कांग्रेसजनों के साथ शहर की जनता ने सुनी लोकवाणी: गिरीश दुबे

रायपुर। लोकवाणी आपकी बात मुख्यमंत्री के साथ कार्यक्रम की आठवी कड़ी का प्रसारण किया गया। इसमें विषय महिलाओं को बराबरी का अवसर पर था। शहर जिला कांग्रेस कमेटी के प्रवक्ता बंशी कन्नौजे ने जानकारी दी की शहर के सभी ब्लाको में लोकवाणी सुनने का कार्यक्रम रखा गया था। इसमे कांग्रेसजनों के साथ शहर की जनता ने भी लोकवाणी कार्यक्रम सुना। महापौर एजाज ढेबर की उपस्थिति में नगर निगम के सामने गार्डन में, सभापति प्रमोद दुबे एवं शहर कांग्रेस अध्यक्ष गिरीश दुबे, ब्लाक अध्यक्ष सुनीता शर्मा की उपस्थिति में पुरानी बस्ती थाना, फ़ोकट पारा फाफाडीह में ब्लाक अध्यक्ष अरुण जंघेल,टिकरापार में सुमित दास,सदर बाजार में नवीन चंद्राकर,चंगोराभांटा में प्रशांत ठेंगड़ी, मंडी रोड चित्रंरंगा होटल के पास सुनील भुवाल, राजातालाब में कामरान अंसारी, आमापारा में देवकुमार साहू, खमतराई में दाउलाल साहू,मोवा सड्डू में माधव साहू, सरोना में अशोक ठाकुर की उपस्थिति में लोकवाणी कार्यक्रम रखा गया था।

 

Advertise, Call Now - +91 76111 07804