GLIBS
24-10-2020
पंडित मेघावाले ने जंगल सत्याग्रह में उल्लेखनीय योगदान दिया : अनुसुईया उइके

रायपुर। राज्यपाल अनुसुईया उइके ने स्वतंत्रता संग्राम सेनानी पंडित नारायण राव मेघावाले की जयंती पर उन्हें नमन किया है। राज्यपाल ने कहा है कि पंडित मेघावाले ने स्वदेशी आंदोलन में भाग लिया और राष्ट्रीय जनजागरण में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई। साथ ही उन्होंने जंगल सत्याग्रह में भी उल्लेखनीय योगदान दिया। वे सामाजिक और राष्ट्रीय एकता के लिए किए गए कार्यों के लिए हमेशा याद किए जाएंगे।

27-09-2020
छत्तीसगढ़ को पर्यटन केन्द्र के रूप में स्थापित करने सुझाव दें, हरसंभव मदद मिलेगी : अनुसुईया उइके

रायपुर। छत्तीसगढ़ पर्यटन की दृष्टि से विविधताओं वाला प्रदेश है। कृषि उत्पादन की दृष्टि से यहां अनेकों विविधताएं हैं। यहां पर धान की अनेकों प्रजातियां संग्रहित हैं। कुछ विशेष प्रकार की फसल जैसे चाय, अमरूद, लीची, काजू, आलू, अनानास, नाशपति, सीताफल आदि की खेती भी हो रही है। इस तरह छत्तीसगढ़ को कृषि पर्यटन राज्य के रूप में भी स्थापित किया जा सकता है, इस क्षेत्र में अनेकों संभावनाएं हैं। यह बातें राज्यपाल अनुसुईया उइके ने कही। वे आज एक न्यूज पोर्टल की स्मारिका घुमक्कड़ जंक्शन का ऑनलाइन विमोचन कर रही थीं। उन्होंने इस स्मारिका के संपादक ललित शर्मा को शुभकामनाएं दी। प्रोत्साहन के रूप में एक लाख रुपए देने की घोषणा की। यह स्मारिका छत्तीसगढ़ पर्यटन पर आधारित है। राज्यपाल ने सभी को विश्व पर्यटन दिवस की बधाई भी दी। राज्यपाल ने कहा कि छत्तीसगढ़ में पर्यटन को बढ़ावा मिलने से यहां के लोगों को रोजगार मिलेगा,उनकी आय बढ़ेगी और यहां की ज्वलंत समस्या नक्सलवाद पर अंकुश लगाने में भी मदद मिलेगी। मेरी पर्यटन में विशेष रूचि है और जब मुझे अवसर मिलता है तो पर्यटन स्थलों का भ्रमण करती हूं। अपने जीवन काल में देश-विदेश के अनेक स्थलों का भ्रमण किया है और आनंद लिया है। राज्यपाल ने कहा कि छत्तीसगढ़ को पर्यटन केन्द्र के रूप में स्थापित करने के लिए सुझाव दें,वे केन्द्र सरकार और राज्य सरकार को पत्र लिखकर और हरसंभव मदद करेंगी।

उन्होंने कहा कि यहां पर अथाह प्राकृतिक संपदा है। उत्तर छत्तीसगढ़ की ओर देखें तो सरगुजा अंचल के कोरिया जिले में सीतामढ़ी हरचौका और सरगुजा जिले के रामगढ़ में सीता बेंगरा व लक्ष्मण बेंगरा गुफा है, जहां पर वनवास काल में राम-सीता आने के चिन्ह मिलते हैं। तो वहीं दक्षिण बस्तर में चित्रकोट सहित अनेकों जलप्रपात हैं, जिन्हें देखते हुए आंखे नहीं थकती, जहां जाते ही मन को शांति मिलती है। राज्यपाल ने कहा कि छत्तीसगढ़ के 32 प्रतिशत हिस्सा आदिवासी समुदाय का है, जिनकी परंपराएं अनोखी और मनमोहने वाली है। सबसे अच्छी बात है कि वे अपनी परंपराओं को संजोए हुए हैं। इन परंपराओं को राजधानी के पुरखौती मुक्तांगन में प्रदर्शित किया गया है। राज्य सरकार द्वारा छत्तीसगढ़ को पर्यटन राज्य के रूप में उभारने और सुविधाएं उपलब्ध कराने का प्रयास किया जा रहा है। राज्यपाल ने इस क्षेत्र में काम करने वाले गैर सरकारी संस्थाओं और सामाजिक संगठनों से आग्रह किया है कि छत्तीसगढ़ के अनछुए पहलुओं को सामने लाएं, इसे संग्रहित करें और उन्हें राष्ट्रीय अंतर्राष्ट्रीय मंचों में प्रस्तुत करें, इसमें युवाओं की प्रमुख भूमिका रहेगी। उन्होंने कहा कि,आवश्यकता है  ऐसी पहल सिर्फ सरकार की तरफ से न हों, आम जनता भी सहभागी बनें और छत्तीसगढ़ के बाहर और देश-विदेश के लोगों के प्रदेश के पर्यटन की जानकारी दें, उनके बारे में बताएं। हम सबके प्रयास से छत्तीसगढ़ निश्चित ही एक प्रमुख पर्यटन केन्द्र के रूप में स्थापित होगा। इस दौरान सीएसएचडी छत्तीसगढ़ के सचिव विवेक सक्सेना सहित अन्य नागरिक उपस्थित थे।

 

05-09-2020
मन्दिरहसौद बस हादसे पर दुःख व्यक्त किया अनुसुईया उइके ने घायलों की शीघ्र स्वस्थ होने की कामना

रायपुर। राज्यपाल अनुसुईया उइके ने रायपुर के मंदिर हसौद के पास हुए सड़क हादसे में श्रमिकों के निधन पर शोक व्यक्त किया है। उन्होंने उनकी आत्मा की शान्ति के लिए ईश्वर से प्रार्थना करते हुए उनके परिजनों के प्रति संवेदना व्यक्त की है। राज्यपाल ने घायलों की शीघ्र स्वस्थ होने की भी कामना की है।

17-08-2020
अच्छी फसल की कामना का संदेश लेकर आता है पोला पर्व : अनुसुईया उइके

रायपुर। राज्यपाल अनुसुईया उइके ने छत्तीसगढ़ के परंपरागत पोला पर्व के अवलर पर प्रदेशवासियों को बधाई और शुभकामनाएं दी हैं। राज्यपाल ने अपने शुभकामना संदेश में कहा है कि, पोला का यह पर्व छत्तीसगढ़ के लोक जीवन में कृषि संस्कृति से गहराई से जुड़ा है। कृषि कर्म और श्रम पर आधारित यह पर्व हम सभी के लिए अच्छी फसल की कामना का संदेश लेकर आता है। राज्यपाल ने इस अवसर पर नागरिकों के सुख-समृद्धि और खुशहाली की कामना की है।

 

21-07-2020
मध्यप्रदेश के राज्यपाल लालजी टंडन के निधन पर दुख व्यक्त किया अनुसुईया उइके ने

रायपुर। राज्यपाल अनुसुईया उइके ने मध्यप्रदेश के राज्यपाल लालजी टंडन के निधन पर दुख व्यक्त किया है। राज्यपाल ने उनकी आत्मा की शांति के लिए ईश्वर से प्रार्थना की है और उनके शोक संतप्त परिजनों के प्रति संवेदना व्यक्त की है।

19-07-2020
छत्तीसगढ़ में हरेली त्यौहार का विशेष महत्व है : अनुसुईया उइके

रायपुर। राज्यपाल अनुसुईया उइके ने हरेली पर्व पर छत्तीसगढ़वासियों को बधाई और शुभकामनाएं दी हैं। राज्यपाल उइके ने अपने शुभकामना संदेश में कहा है कि छत्तीसगढ़ में हरेली त्यौहार का विशेष महत्व है। इस पर्व पर किसान अपने कृषि उपकरणों और कृषि कार्य में सहयोग करने वाले पशुओं की पूजा-अर्चना कर अच्छे फसल की कामना करते हैं। राज्यपाल ने इस अवसर पर किसानों सहित प्रदेश के सभी नागरिकों की सुख-समृद्धि और खुशहाली की कामना की है।

 

24-05-2020
नेकी और भलाई का संदेश देता है ईद-उल-फितर : अनुसुईया उइके 

रायपुर। राज्यपाल अनुसुईया उइके ने ईद-उल-फितर के अवसर पर प्रदेशवासियों को मुबारकबाद देते हुए राज्य के सभी नागरिकों के सुख, शांति एवं खुशहाली की कामना की है। राज्यपाल ने कहा कि ईद-उल-फितर का पर्व पवित्र महीना रमजान के माह भर के कठिन उपवास के बाद आता है और नेकी एवं भलाई करने का संदेश देता है। उन्होंने कामना की है कि ईद का पर्व सभी के जीवन में खुशियां एवं भाई-चारे लेकर आएगा और अमन-चैन, सौहार्द्र और एकता का संदेश देगा। राज्यपाल ने कहा कि इस अवसर पर मैं इबादत करती हूं कि देश और प्रदेश को जल्द कोरोना संक्रमण से मुक्ति मिले।

08-05-2020
राज्यपाल ने औरंगाबाद ट्रेन हादसे पर दु:ख व्यक्त किया

रायपुर। राज्यपाल अनुसुईया उइके ने औरंगाबाद के ट्रेन हादसे में हुए मजदूरों की मृत्यु पर दु:ख व्यक्त किया है। राज्यपाल ने श्रद्धांजलि अर्पित करते हुए उनके परिजनों के प्रति गहरी संवेदना व्यक्त की है। उन्होंने इस हादसे में घायल हुए लोगों के शीघ्र स्वास्थ्य लाभ की कामना की है।

07-05-2020
राज्यपाल ने विशाखापट्नम गैस लीक हादसे पर दुख व्यक्त किया

रायपुर। राज्यपाल अनुसुईया उइके ने विशाखापट्नम के केमिकल प्लांट में हुए गैस लीक हादसे में लोगों की मृत्यु पर  दुख व्यक्त किया है। राज्यपाल ने कहा है कि यह बहुत दुखद घटना है। राज्यपाल ने उन्हें श्रद्धांजलि अर्पित करते हुए उनके परिजनों के प्रति गहरी संवेदना व्यक्त की है। उन्होंने इस घटना में घायल हुए लोगों के शीघ्र स्वास्थ्य लाभ की भी कामना की है।

14-02-2020
राज्यपाल उइके आज से नागपुर और छिंदवाड़ा दौरे पर

रायपुर। राज्यपाल अनुसुईया उइके 14 फरवरी से 17 फरवरी तक नागपुर और छिन्दवाड़ा प्रवास पर रहेंगी। उइके 14 फरवरी को दोपहर 3ः00 बजे पुलिस परेड ग्राउंड हेलीपेड रायपुर से हेलीकॉप्टर से रवाना होंगी और शाम 4ः00 बजे नागपुर पहुंचेंगी। वहां शाम 5 बजे सीनियर भोंसले पैलेस में आयोजित ‘राजरत्न अवार्ड-2020’ कार्यक्रम में शामिल होंगी। उइके नागपुर से रात 7ः00 बजे प्रस्थान कर रात 9ः00 बजे छिन्दवाड़ा पहुंचेंगी। राज्यपाल छिंदवाड़ा में 15 फरवरी को दोपहर 12ः00 बजे राजमाता सिंधिया शासकीय कन्या महाविद्यालय में आयोजित अभिनंदन समारोह में शामिल होंगी। वे 16 फरवरी को अपरान्ह 3ः00 बजे छिंदवाड़ा जिले के चौरई में आयोजित सर्व आदिवासी जन जागृति महा सम्मेलन में शामिल होंगी। उइके 17 फरवरी को दोपहर 11:00 बजे एडिफाई स्कूल लहगडुआ के उत्कृष्ट विद्यार्थियों को पुरस्कार वितरण कार्यक्रम में शामिल होंगी। इसके बाद दोपहर 2ः00 बजे बालक छात्रावास मैदान तामिया में आयोजित महिलाओं को सेनेटरी नेपकिन वितरण कार्यक्रम में शामिल होंगी। 

 

 

Advertise, Call Now - +91 76111 07804