GLIBS
02-03-2021
छत्तीसगढ़ शासन ने घोषित किए तीन स्थानीय अवकाश, आदेश जारी 

रायपुर। राज्य शासन ने नवा रायपुर अटल नगर और रायपुर शहर में स्थित सभी सरकारी कार्यालयों और संस्थाओं के लिए कैलेंडर वर्ष 2021 में तीन स्थानीय अवकाश घोषित किए हैं। सामान्य प्रशासन विभाग की ओर से इस संबंध में आदेश जारी कर दिया गया है। आदेश के अनुसार गणेश चतुर्थी शुक्रवार 10 सितंबर, महानवमी गुरूवार 14 अक्टूबर और भाईदूज शनिवार 6 नवंबर को स्थानीय अवकाश घोषित किया गया है। घोषित ये तीनों स्थानीय अवकाश बैंक, कोषालय और उप कोषालय के लिए लागू नहीं होंगे।

20-02-2021
हाथी से प्रभावित क्षेत्र का विधायक ने लिया जायजा,शासन से सुरक्षा व मुआवजा राशि देने लिखा पत्र

धमतरी। क्षेत्र में चंदा हाथी के दल ने दहशत पूर्ण वातावरण में दस्तक देते हुए भीषण तबाही मचाना प्रारंभ कर दिया है। बीते 3 दिनों में एक व्यक्ति की मृत्यु के साथ ही लाखों रुपयों की क्षति ने तबाही का मंजर ढा दिया। क्षेत्र के विधायक रंजना साहू ने घटना को गंभीरता से लेते हुए शनिवार को सुबह से ही गंगरेल क्षेत्र के प्रभावित गांव विश्रामपुर, तुमराबहार, गंगरेल, डांगीमांचा, तुमाबुजर्ग के लोगों से मिलकर व क्षतिग्रस्त क्षेत्रों को नजदीक से देखा। उन्होंने ग्रामवासियों की सुरक्षा के लिए आश्वस्त करते हुए शासन प्रशासन स्तर पर इस प्राकृतिक आपदा से निपटने के लिए वे हरसंभव पहल करने आगे आने की बात कही है। उन्होंने ग्रामीणों को यहां भी सलाह दी है कि वे स्वयं अपनी सुरक्षा के साथ पूरी सतर्कता अपनाते हुए अपने दैनिक जीवन का निर्वहन करें।

साथ ही मुख्यमंत्री वन मंत्री तथा वन विभाग के जिम्मेदार अधिकारी कर्मचारियों को संपर्क एवं पत्र लिखकर मांग की है कि मृतक के परिवार को तत्काल राहत राशि प्रदान किया जाना चाहिए। गंगरेल के गार्डन तथा अन्य क्षेत्र में हाथियों द्वारा किए गए नुकसान को करीब से देखते हुए पार्क संचालक से भी वस्तुस्थिति की जानकारी प्राप्त की सिंचाई विभाग जिम्मेदार अधिकारी कर्मचारियों से भी विधायक ने जानकारी लेते हुए कहा है कि बांध क्षेत्र पहले ही संवेदनशील क्षेत्रों के रूप में राष्ट्रीय मानचित्र पर आता है, बड़ी संख्या में हाथियों का दल कहीं बांध के पानी निकासी क्षेत्र में प्रवेश न करें। इसके लिए ऐतिहात बरतना चाहिए नहीं तो गंभीर परिणाम पूरे छत्तीसगढ़ के लिए हो सकते हैं। हाथियों के दहशत पूर्ण स्थिति को विधानसभा के पटल पर रखने के बाद भी विधायक रंजना साहू द्वारा की गई। विधायक के साथ प्रभावित क्षेत्रो मे राजेन्द्र शर्मा पूर्व सभापति वर्तमान पार्षद,उमेश साहू सांसद प्रतिनिधि, डीपेंद्र साहू अनुविभागीय अधिकारी ए एल देवांगन,उप अभियंता जाधव, डेम प्रभारी नाग चौधरी पंहुचे थे।

 

17-02-2021
सभी वर्गों के आर्थिक उत्थान के लिए अनेक जनकल्याणकारी योजनाएं ला रही है भूपेश सरकार

महासमुंद/रायपुर। शासन की ओर से सभी वर्गों के हितों के लिए अनेक प्रकार की जनकल्याणकारी योजनाएं लाई जा रही है, ताकि वे योजनाओं का लाभ लेकर अपनी आर्थिक स्थिति को मजबूत कर सकें। जिले के हजारों नागरिक भी किसी न किसी प्रकार से लाभ उठानें में पीछे नहीं है। उन्हें जागरूक रहकर दृढ़ संकल्प के साथ मेहनत करने की जरूरत है। जिला मुख्यालय महामसुन्द के वार्ड क्रमांक 22, सुभाष नगर के 27 वर्षीय कान्हा निर्मलकर कच्चा नारियल पानी व जूस सेंटर का व्यवसाय करने वाले एक साधारण से व्यवसाई हैं। इसके माध्यम से अपने घर के चार सदस्यों का जीवन-यापन करते हैं। उन्हें कहीं से दीनदयाल अन्त्योदय योजना, राष्ट्रीय शहरी आजीविका मिशन के बारे में जानकारी मिली। तब वे नगर पालिका परिषद महामसुन्द पहुंचकर इस योजना के बारे में जानकारी ली। इस संबंध में वहां के अधिकारियों ने इस येाजना के बारे में उन्हें विस्तार पूर्वक बताया। इससे वे प्रेरित होकर अपने व्यवसाय में अधिक मुनाफा कमाने के लिए ऋण प्राप्त करने के लिए आवेदन फाॅर्म भरा। इससे उन्हें कुछ दिनों में इण्डियन बैंक महामसुन्द से 80 हजार रुपए का ऋण कम ब्याज की दर से मिला। इससे वे अपने ठेले में नारियल का व्यवसाय का विस्तार किया और अपने एक भाई के लिए भी अलग से ठेला लगाकर नारियल पानी के व्यवसाय में उसे जोड़ा। इसके अलावा वे छोटा सा गोदाम भी लिया है, जिसमें वे अपने नारियल के स्टाॅक माल को वहीं रखते हैं। ठेले के माध्यम से वे प्रतिदिन 2 हजार से 2.50 हजार रुपए प्रतिदिन नारियल पानी बेचते हैं, जिससे उन्हें 500 से 600 रुपए की आमदनी प्राप्त होती है। ठससे उनके जीवन में एक नया बदलाव आया है। उन्होंने बताया कि बैंक के माध्यम से जो ऋण दिया गया था। उसका 6 किस्त भी जमा बैंक में जमा हो चुका है। इसके अलावा वे नगद कैश लेनदेन के साथ-साथ डिजीटल भुगतान को बढ़ावा देने के लिए गूगल पे, फोन पे की सुविधा ग्राहकों को उपलब्ध करा रहे हैं।

04-02-2021
मुख्य सचिव ने ली बैठक, स्वास्थ्य, ऊर्जा और सहकारिता विभाग के कार्यों की समीक्षा कर दिए आवश्यक निर्देश  

रायपुर। मुख्य सचिव अमिताभ जैन ने गुरुवार को बैठक लेकर शासन की प्राथमिकता में शामिल योजनाओं के क्रियान्वयन की जानकारी ली। उन्होंने  स्वास्थ्य विभाग, ऊर्जा और सहकारिता विभाग के काम-काज की समीक्षा की। रायपुर स्थित सिरपुर भवन में हुई बैठकमें मुख्य रूप से हाटबाजार क्लिनिक, जेनेरिक मेडिसीन के उपयोग को बढ़ावा देने, राजस्व में बढ़ोत्तरी के लिए लंबित विद्युत शुल्क की वसूली और मार्कफेड के अनुपयोगी भूमि के व्यावसायिक विकास किए जाने के संबंध में चर्चा हुई। मुख्य सचिव जैन ने ग्रामीण क्षेत्रों में लगने वाले प्रत्येक हाटबाजार तक हाटबाजार क्लिनिक की सुुविधा पहुंचाने जरूरी कदम उठाने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि वाहनों की साज-सज्जा और ब्रांडिंग पर विशेष ध्यान दिया जाए, ताकि वाहनों को दूर से ही हाटबाजार क्लिनिक के रूप में पहचाना जा सके।

अंदरूनी ग्रामीण क्षेत्रों में हाटबाजार क्लिनिक के संचालन पर विशेष ध्यान दिए जाएं। जेनेरिक दवाइयों के उपयोग को बढ़ावा देने राज्य के सभी सरकारी मेडिकल कॉलेज और जिला अस्पतालों में अच्छे लोकेशन पर जन औषधी केन्द्र खोलने के निर्देश मुख्य सचिव ने दिए हैं। मुख्य सचिव ने राजस्व में बढ़ोत्तरी करने के लिए औद्योगिक व व्यावसायिक संस्थानों के लंबित विद्युत शुल्क की वसूली की प्रक्रिया शुरू करने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा है कि लंबित विद्युत शुल्क की वसूली के लिए कार्ययोजना बनाकर विभागीय मंत्री के समक्ष प्रस्तुत किया जाए। वसूली की कार्यवाही शुरू की जाए। मार्कफेड की विभिन्न संस्थाओं के अनुपयोगी भूमि का व्यावसायिक विकास करने और उसके माध्यम से राजस्व की बढ़ोत्तरी की कार्ययोजना बनाने के निर्देश मुख्य सचिव ने दिए। बैठक में स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण विभाग की अपर मुख्य सचिव रेणुजी पिल्लै और ऊर्जा विभाग के विशेष सचिव एवं मार्कफेड के प्रबंध संचालक अंकित आनंद उपस्थित थे।

 

02-02-2021
शैक्षिक संस्थानों में प्रत्यक्ष उपस्थिति के साथ अध्यापन शुुरू करें छत्तीसगढ़ शासन :अभाविप

कोरबा। कोविड-19 महामारी के चलते पिछले सत्र के अंतिम समय से ही शिक्षण संस्थान बंद पड़े हैं। लगभग सभी संस्थानों ने अपनी-अपनी क्षमता के अनुसार ऑनलाइन शिक्षण जारी रखा है।
ऑनलाइन माध्यमों से शिक्षण प्रभावकारी नहीं हो सकता, समय एवं परिस्थिति के कारण इसे अपनाना पड़ा और अब शासन द्वारा ऑफलाइन पारंपरिक परीक्षा आयोजित किए जाने के निर्णय किए जाने के बाद विद्यार्थियों की चिंता बढ़ना स्वाभाविक ही है। जिला संयोजक श्याम ध्रुव ने कहा की हमारे पड़ोसी राज्य मध्य प्रदेश की तरह हमारे प्रदेश में भी शैक्षणिक परिसरों में प्रत्यक्ष उपस्थिति के साथ शेष सत्रावधि के लिए अध्ययन—अध्यापन प्रारंभ किया जाना चाहिए। ज्ञापन देने वाले में भूपेन्द्र साहू, विवेक राजवाड़े,उमेश साहू,मनीष अग्रवाल,मोंटी पटेल,प्रशांत सिंह,घनश्याम चौहान, सागर पासी, रज्जब आलम उपस्थित थे ।

 

22-01-2021
विधायक की पहल पर धार्मिक स्थलों के लिए राज्य शासन ने स्वीकृत किए 13 लाख

कोरिया।  विधायक गुलाब कमरो धार्मिक स्थलों के सौंदर्यीकरण व जीर्णोद्धार कराने के लिए राशि स्वीकृत कराई है। गुलाब कमरो की पहल पर राज्य सरकार ने भरतपुर सोनहत विधानसभा क्षेत्र के विभिन्न ग्रामों के धार्मिक स्थलों के मंदिरों का जीर्णोद्धार कार्य के लिए 13 लाख की स्वीकृति प्रदान की है। राज्य शासन ने चनवारीडा॑ड सिद्ध बाबा धाम में मंदिर जीर्णोद्धार निर्माण कार्य के लिए 4 लाख, कर्मघोंघा में मंदिर जीर्णोद्धार निर्माण कार्य के लिए 3 लाख, चुटकी पानी हर्रा में मंदिर जीर्णोद्धार निर्माण कार्य के लिए 3 लाख  एवं हनुमान मंदिर नागपुर में जीर्णोद्धार निर्माण कार्य के लिए 3 लाख रुपए की स्वीकृति प्रदान की है। 

 

18-01-2021
 अवैध रेत उत्खनन से शासन को हो रही राजस्व की हानि

कांकेर। साल्हेभाट तारसगांव नदी से अंदर ही अंदर कोकड़ी ग्राम पंचायत के रास्ते ट्रैक्टरों से रेत की चोरी की जा रही हैं। इससे शासन को राजस्व की हानि हो रही है।  जानकारी के अनुसार पिछले कुछ दिनों से कोकड़ी ग्राम पंचायत के रास्ते अंदर ही अंदर साल्हेभाट व तारसगांव के बीच नदी से अवैध तरीके से रेत का परिवहन हो रहा है। खनिज विभाग द्वारा समय-समय में कार्यवाही के बाद फिर चुप्पी साधने के बाद रेत तस्कर फिर सक्रिय हो जाते है। इससे शासन को लाखों की क्षति हो रही है। 

 

15-01-2021
कला जत्था शासन की महत्वाकांक्षी योजनाएं पहुंचा रहे जन-जन तक, स्थानीय बोली में प्रचार जोरों पर 

बीजापुर। शासन की महत्वाकांक्षी विभिन्न योजनाओं का प्रचार-प्रसार क्षेत्रीय बोली में नृत्य और गीत का आयोजन कर कला-जत्था के माध्यम से किया जा रहा है। इसे लोग बड़े उत्साह से देख-सुन रहे हैं। बीजापुर जिले के प्रमुख हाट-बाजारों में गोंडी, हल्बी, हिन्दी, छत्तीसगढ़ी जैसे स्थानीय बोलीके गीतों एवं नृत्यों के माध्यम से लोग विभिन्न योजनाओं से रूबरू हो रहे है। इसमें नरवा-गरवा-घुरवा और बाड़ी, मुख्यमंत्री सुपोषण अभियान, तेन्दूपत्ता बोनस, हाट-बाजार क्लिनीक योजना, मुख्यमंत्री स्वास्थ्य बीमा योजना, गोधन न्याय योजना जैसे महत्वपूर्ण योजनाओं का प्रचार-प्रसार क्षेत्रीय भाषा में लोग बहुत उत्साह से देख-सुन रहे हैं। योजनाओं का लाभ लेने प्रेरित भी हो रहे हैं।

बीजापुर जिले में कला जत्था के 12 सदस्यीय टीम जिले के प्रमुख हाट-बाजार बीजापुर, नैमेड़, गंगालूर, तोयनार, धनोरा, चेरपाल, मद्देड़, भोपालपटनम, बेदरे, माटवाड़ा, गुदमा, कोडोली, बासागुड़ा, नेलसनार और भैरमगढ़ में शासकीय योजनाओं का प्रचार-प्रसार रोचक ढंग से गतिविधियों के माध्यम से कर रहे हैं। इनका लोगों में उत्साह का माहौल है। लोग गीत संगीत सुनकर नृत्य एवं नाट्य का आनंद ले रहे हैं। वहीं योजनाओं की जानकारी मिलने से लाभांवित भी हो रहे हैं। छत्तीसगढ़ जनसंपर्क विभाग की ओर से प्रकाशित विभिन्न योजनाओं से संबंधित लेखन सामग्री का वितरण भी किया जा रहा है।

11-01-2021
मदिरा दुकानों के समय में किया गया परिवर्तन

धमतरी। शासकीय राजस्व हित में शासन द्वारा देशी/विदेशी मदिरा दुकानों के खुलने का समय सुबह नौ बजे और बंद होने का समय रात 10 बजे तथा आंतरिक एवं दूरस्थ क्षेत्र में मदिरा दुकानों के बंद होने का समय रात 9 बजे निर्धारित किया गया है। इसके मद्देनजर कलेक्टर जयप्रकाश मौर्य ने जिले की देशी/विदेशी मदिरा दुकानों के समय में परिवर्तन किए हैं। इसके तहत नगरपालिक निगम धमतरी की सुन्दरगंज, धमतरी मेन, दानीटोला देशी/विदेशी मदिरा दुकान सहित विदेशी मदिरा दुकान प्रीमियम शाॅप धमतरी तथा नहरनाका, नवागांव वार्ड, हटकेशर व बठेना वार्ड देशी मदिरा दुकानें सुबह 9 से रात 10 बजे तक संचालित होंगी।

नगर पंचायत कुरूद, भखारा, मगरलोड, नगरी और आमदी स्थित देशी/विदेशी मदिरा दुकान भी सुबह 9 से रात 10 बजे तक संचालित होंगी। इसी तरह ग्राम पंचायत छाती की देशी/विदेशी मदिरा दुकान और ग्राम पंचायत सोरम, सिहावा, रांवा तथा ग्राम पंचायत बोरसी की देशी मदिरा दुकान सुबह 9 से रात 9 बजे तक संचालित होंगी। शासन के निर्देशानुसार मदिरा की आनलाइन डोर डिलीवरी की सुविधा पूर्ववत जारी रहेगी।

05-01-2021
भूपेश सरकार की किसान समृद्धि योजना लघु व सीमांत किसानों के जीवन में ला रही है खुशियां

रायपुर/राजनांदगांव। शासन की किसान समृद्धि योजना लघु व सीमांत किसानों के जीवन में खुशहाली ला रही है। राजनांदगांव के ग्राम धरमपुर के किसान सविता तिवारी ने बताया कि वे 12वीं पास है और उनके खेती-किसानी में विशेष रूचि है।  किसान सविता तिवारी ने कहा कि किसान समृद्वि योजना लघु व सीमांत किसानों के लिए छत्तीसगढ़ शासन की ओर से किया गया सराहनीय कार्य है। खेत में नलकूप खनन कराने एवं पंप लगाने के लिए लागत राशि को वहन कर पाना छोटे किसानों के लिए कठिन है। किसान सविता तिवारी के परिवार में 5 सदस्य हैं और खेती के लिए 1.288 हेक्टेयर भूमि है, जिससे प्राप्त होने वाले फसल उत्पादन का विक्रय कर ही अपनी आर्थिक आवश्यकताएं पूरा करते रहे, परन्तु खेत में सिंचाई का निश्चित साधन न होने कारण एक बार ही फसल लेते थे। वर्ष 2019 में कृषि विभाग के माध्यम से किसान समृद्धि योजना की जानकारी मिली और तिवारी ने अपने खेत में नलकूप के लिए आवेदन किया और खनन और पंप स्थापना के लिए 25 हजार रुपए का शासकीय अनुदान राशि प्राप्त हुआ। वर्तमान में महिला किसान तिवारी के खेत में सिंचाई जल की पर्याप्त मात्रा उपलब्ध है व इनके द्वारा धान के बाद रबी में चना फसल भी लिया जा रहा है, जिससे उन्हें अतिरिक्त आमदनी के साथ ही कृषि के क्षेत्र में आगेे बढ़ने का एक नया अवसर प्राप्त हुआ है।

28-12-2020
विकास फोटो प्रदर्शनी में युवा ले रहे जन कल्याणकारी योजनाओं की जानकारी

कोरबा। छत्तीसगढ़ सरकार के दो वर्ष पूरे होने के उपलक्ष्य में जनसंपर्क विभाग द्वारा शासन के जनकल्याणकारी योजनाओं की उपलब्धियों की विकास फोटो प्रदर्शनी विकासखण्डवार लगाई जा रही है। इसी कड़ी में सोमवार को विकासखण्ड करतला के ग्राम पंचायत तरदा के साप्ताहिक हाट-बाजार में एक दिवसीय विकास फोटो प्रदर्शनी लगाई गई। इस प्रदर्शनी के माध्यम से तरदा के ग्रामीण सहित आसपास के गांव में रहने वाले लोगों ने बड़ी संख्या में पहुंचकर विकास फोटो प्रदर्शनी का अवलोकन किया। प्रदर्शनी में ग्रामीण-युवाओं ने पहुंचकर शासन की विभिन्न योजनाओं की जानकारी ली तथा उनसे होने वाले लाभ के बारे में जाना। ग्राम पंचायत तरदा के सरपंच  सुनीता मांझी ने विकास फोटो प्रदर्शनी को बहुत ही लाभकारी बताया। उन्होंने कहा कि विकास प्रदर्शनी के आयोजन से हमारे गांव के लोगों सहित आसपास के गांव के लोग भी योजनाओं की जानकारी प्राप्त कर रहे हैं तथा योजनाओं का लाभ उठाने जागरूक भी हो रहे हैं।

ग्राम तरदा के रहने वाले ग्रामीण मनोहर ने महिलाओं के स्वावलंबन के लिए मुख्यमंत्री कन्यादान योजना के तहत दिए जाने वाले 25 हजार रूपए की सहायता की जानकारी ली। उन्होंने कहा कि यह योजना गरीब लोगों के लिए बहुत ही लाभकारी है तथा इनका लाभ जरूरतमंद सभी लोगों को मिलेगा। किसान नोहर साय ने किसानों के लिए शासन द्वारा लागू जनकल्याणकारी योजनाओं से संबंधित प्रकाशित पुस्तकों और पाम्प्लेटों को पूरी जानकारी हासिल करने के लिए उत्साह के साथ अपने पास रखे और कहा कि इसे घर ले जाकर विस्तार से पढुंगा और लोगों को भी योजनाओं के बारे में बताउंगा। 29 दिसंबर को विकास फोटो प्रदर्शनी विकासखण्ड पोड़ी-उपरोड़ा में लगाई जाएगी।

 

Advertise, Call Now - +91 76111 07804