GLIBS
16-11-2020
मुख्यमंत्री ने अगासदिया के 86वें अंक का किया विमोचन 

रायपुर। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने रविवार को अपने निवास कार्यालय में त्रैमासिक पत्रिका ‘अगासदिया’ के 86वें अंक का विमोचन किया है। इस अवसर पर मुख्यमंत्री ने अगासदिया के संपादक डॉ. परदेशी राम वर्मा को शुभकामनाएं दी। अगासदिया के इस 86वें अंक में राष्ट्रपिता महात्मा गांधी को केन्द्रित किया गया है।

11-11-2020
भूपेश बघेल से विधायकों ने की मुलाकात,मुख्यमंत्री निवास पहुंचे मिलने

रायपुर। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल से बुधवार को उनके निवास कार्यालय में खुज्जी विधायक छन्नी साहू और पंडरिया विधायक ममता चंद्राकर ने सौजन्य मुलाकात की। उन्होंने मरवाही उपचुनाव में मिली सफलता और दीपावली की शुभकामनाएं व बधाई मुख्यमंत्री को दी। इस दौरान चंदू साहू और सौरव अग्रवाल भी उपस्थित थे।

 

 

11-11-2020
जिले की पांचवी तहसील के रूप में अस्तित्व में आया भखारा...

धमतरी। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने आज प्रदेश भर में 23 नवीन तहसीलों की सौगात दी। उन्होंने इन तहसीलों का वर्चुअल शुभारम्भ मुख्यमंत्री निवास से किया। नवगठित तहसीलों में जिले की भखारा तहसील भी शामिल है। उक्त तहसील का प्रतीकात्मक शुभारम्भ जिला पंचायत की अध्यक्ष कांति सोनवानी, कलेक्टर जयप्रकाश मौर्य सहित वरिष्ठ जनप्रतिनिधियों के द्वारा किया गया। उन्होंने उप तहसील कार्यालय भखारा जाकर भूमिपूजन किया तथा तहसील स्थापना से संबंधित औपचारिकताएं पूरी की।इस अवसर पर जिला पंचायत अध्यक्ष कांति सोनवानी ने मौजूद लोगों को संबोधित करते हुए कहा कि भखारा को तहसील का दर्जा मिलने से स्थानीय ग्रामीणों को अब छोटे छोटे काम के लिए 30-40 किलोमीटर दूर जाना नहीं पड़ेगा। प्रशासनिक रूप से राजस्व मामलों का निराकरण में भी सुविधा होगी। जिला पंचायत के उपाध्यक्ष नीशू चंद्राकर ने अपने उद्बोधन में कहा कि मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने क्षेत्रवासियों को बड़ी सौगात दी है। आय, जाति, निवास प्रमाण पत्र अब स्थानीय स्तर पर बनेंगे, साथ ही राजस्व विभाग से संबंधित प्रकरणों का शीघ्रता से निबटारा होगा।

कलेक्टर जयप्रकाश मौर्य ने ग्रामीणों को संबोधित करते हुए कहा कि प्रशासनिक विकेंद्रीकरण के तहत भखारा के तहसील बनने से निश्चित तौर पर शासकीय सुविधाएं विकसित होगी। नवीन तहसील गठित होने के बाद प्रशासनिक कसावट आयेगी तथा इसे और बेहतर बनाने के प्रयास किए जाएंगे। उन्होंने बताया कि भखारा को तहसील का दर्जा मिलने से पटवारी हल्का, राजस्व निरीक्षक मंडल में वृद्धि होगी तथा नयी नियुक्तियां होंगी। उन्होंने स्थानीय नागरिकों को नई तहसील बनने व आगामी त्योहारों को सुरक्षित व सतर्कता पूर्वक मनाने की बात कहते हुए अपनी शुभकामनाएं दीं। इसके अलावा वरिष्ठ जनप्रतिनिधियों ने भी संबोधित किया।उल्लेखनीय है कि कुरूद तहसील के अंतर्गत आने वाली उपतहसील भखारा को अब तहसील का दर्जा प्रदान किया गया है। नवगठित तहसील भखारा के अंतर्गत 28 पटवारी हल्के तथा 73 गांव शामिल हैं। भखारा के तहसील बनने के साथ ही धमतरी जिले में तहसीलों की संख्या पांच हो गई है। इस अवसर पर वरिष्ठ नागरिक शरद लोहाणा, मोहन लालवानी, पूर्व विधायक धमतरी हर्षद मेहता, पूर्व विधायक कुरूद लेखराम साहू, जनपद पंचायत कुरूद की अध्यक्ष शारदा साहू, नगर पंचायत भखारा की अध्यक्ष पुष्पलता देवांगन सहित स्थानीय जनप्रतिनधि, एसडीएम कुरूद योगिता देवांगन सहित स्थानीय नागरिक मौजूद थे ।  

01-11-2020
Live : छत्तीसगढ़ राज्य अलंकरण सम्मान समारोह, पहले चरण में शामिल हुए राहुल गांधी

रायपुर। छत्तीसगढ़ राज्योत्सव 2020 का शुभारंभ रविवार को मुख्यमंत्री निवास में हुआ। राज्य स्थापना दिवस के कार्यक्रम दो चरणों में होंगे। कार्यक्रम के पहला चरण की शुरुआत मुख्यमंत्री के संदेश से हुई। पहले चरण में राहुल गांधी ऑनलाइन शामिल हुए। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल और राहुल गांधी ने कार्यक्रम को संबोधित किया। कार्यक्रम के दूसरे चरण की शुरुआत हो चुकी है।  दूसरे चरण का कार्यक्रम राज्यपाल अनुसुईया उइके के मुख्य आतिथ्य में हो रहा है। राज्य अलंकरण सम्मान से राज्योत्सव में इस वर्ष 30 विभूतियों और तीन संस्थाओं को सम्मानित किया जा रहा है। लाइव देखने के लिए यहां क्लिक करें...

 

31-10-2020
1 नवंबर को मुख्यमंत्री निवास में दो चरणों में होंगे कार्यक्रम,पहले चरण में शामिल होंगे राहुल गांधी

रायपुर। छत्तीसगढ़ राज्य स्थापना दिवस पर 1 नवंबर को मुख्यमंत्री निवास में राज्योत्सव का कार्यक्रम दो चरणों में होगा। प्रथम चरण के कार्यक्रम में लोकसभा सांसद राहुल गांधी और द्वितीय चरण के कार्यक्रम में छत्तीसगढ़ की राज्यपाल अनुसुइया उइके वर्चुअल रूप से शामिल होंगी। दोपहर 12 बजे से आयोजित राज्योत्सव के प्रथम चरण के कार्यक्रम में मुख्यमंत्री भूपेश बघेल प्रदेश के 18.38 लाख किसानों के खाते में राजीव गांधी किसान न्याय योजना की तीसरी किश्त का अंतरण करेंगे। इस कार्यक्रम में स्वामी आत्मानंद इंग्लिश मीडियम स्कूल योजना और मुख्यमंत्री शहरी स्लम स्वास्थ्य योजना के अंतर्गत राज्य के 30 नगरीय स्लम एरिया में मोबाइल हॉस्पिटल सह लैबोरेटरी का शुभारंभ भी किया जाएगा।राज्योत्सव कार्यक्रम के द्वितीय चरण में दोपहर 1:30 बजे से राज्यपाल अनुसुईया उइके के मुख्य आतिथ्य में राज्य अलंकरण सम्मान समारोह आयोजित किया जाएगा। इस कार्यक्रम में राज्यपाल अनुसुईया उइके वर्चुअल रूप से शामिल होंगी। छत्तीसगढ़ राजगीत से राज्य अलंकरण सम्मान समारोह की शुरुआत होगी।

विधानसभा अध्यक्ष डॉ. चरणदास महंत, नेता प्रतिपक्ष धरमलाल कौशिक, मंत्री, संसदीय सचिव और विधायक कार्यक्रम में शामिल होंगे। इस कार्यक्रम में जनसंपर्क विभाग की ओर से प्रकाशित छत्तीसगढ़ विचार माला के विमोचन के साथ ही टूरिज्म रिसार्ट का लोकार्पण और राम वन गमन पथ टूरिज्म सर्किट का शिलान्यास किया जाएगा। इस दौरान फोर्टिफाईड राइस वितरण योजना का शुभारंभ और राजधानी रायपुर के ऐतिहासिक बूढ़ातालाब के सौंदर्यीकरण कार्य सहित बीजापुर में 132/33 के.व्ही. विद्युत उपकेन्द्र तथा 87.5 किलोमीटर 132 के.व्ही. बारसूर-बीजापुर विद्युत लाइन का लोकार्पण भी होगा।

 

29-10-2020
सात पुलिसकर्मियों को उत्कृष्ट कार्यों के लिए राज्य स्थापना दिवस पर शौर्य पदक से किया जाएगा सम्मानित

रायपुर। छत्तीसगढ़ राज्य स्थापना दिवस पर आगामी एक नवम्बर को उत्कृष्ट कार्य के लिए प्रदेश के सात पुलिस जवानों को शौर्य पदक से सम्मानित किया जाएगा। गृह मंत्री ताम्रध्वज साहू ने पुरस्कार प्राप्त करने वाले सभी पुलिस जवानों को शुभकामनाएं दी। उन्होंने कहा है कि कानून व्यवस्था और जनसेवा के लिए पुरस्कार मिलना गौरव की बात है। इससे प्रेरणा भी मिलती है। छत्तीसगढ़ पुलिस शौर्य पदक 2020 के लिए चयनित पुलिस जवानों में निरीक्षक  मोहसिन खान जशपुर, उपनिरीक्षक जितेंद्र एसैया सुकमा, सहायक उपनिरीक्षक गणेश करमरका बीजापुर, प्रधान आरक्षक रामलाल कश्यप दंतेवाड़ा, प्रधान आरक्षक कुटुमथ राव दंतेवाड़ा, आरक्षक  देवा आनंबम बीजापुर व आरक्षक गोपी इस्ताम दंतेवाड़ा शामिल है। यह पुरस्कार मुख्यमंत्री निवास में राज्योत्सव कार्यक्रम के दौरान दिया जाएगा।

26-10-2020
Breaking : मुख्यमंत्री निवास में होगी कांग्रेस विधायक दल की बैठक,विशेष सत्र के संबंध में होगी अहम प्लानिंग

रायपुर। मुख्यमंत्री निवास में सोमवार शाम 7 बजे कांग्रेस विधायक दल की बैठक होगी। मुख्यमंत्री की अध्यक्षता में होने वाली इस बैठक में विधानसभा के दो दिवसीय सत्र के संबंध में महत्पूर्ण रूपरेखा तैयार की जाएगी। सदन में विपक्ष के सवालों और आक्रमकता  का जवाब देने रणनीति बनाई जाएगी। प्रदेश में किसानों के लिए अलग से कानून बनाए जाने के संबंध में बुलाए गए विशेष सत्र में कौन-कौन से विधायक बोलेंगे इस पर भी रणनीति बनाई जाएगी। आज कैबिनेट की बैठक के बाद कृषि मंत्री रविन्द्र चौबे ने भी स्पष्ट कहा था कि विपक्ष यदि विधानसभा के विशेष सत्र की तैयारी कर रही है तो हम भी पूरी तरह से विपक्ष का सामना करने के लिए तैयार हैं। बता दें कि विधानसभा का दो दिवसीय विशेष सत्र मंगलवार 27 अक्टूबर से शुरू हो रहा है।

 

25-10-2020
दशहरा पर मुख्यमंत्री निवास और राजभवन में हुए कार्यक्रम,सीएम-राज्यपाल ने की शस्त्र पूजा

रायपुर। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने रविवार को अपने निवास में विजयादशमी पर शस्त्र पूजा की। मुख्यमंत्री ने उपस्थित अधिकारियों-कर्मचारियों सहित प्रदेशवासियों को विजयादशमी पर्व की शुभकामनाएं दीं। इसी तरह राज्यपाल अनुसुइया उइके राजभवन में विजयादशमी पर आयोजित शस्त्र पूजा में शामिल हुईं।

 

18-10-2020
राजधानी पुलिस ने शनिवार देर रात चलाया विशेष अभियान, सीएम हाउस सहित 80 स्थानों पर पहुंची 10 टीमें

रायपुर। वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक अजय यादव के आदेश अनुसार 17-18 अक्टूबर की दरमियानी रात 10 टीमों ने 80 स्थानों पर सुरक्षा व्यवस्था की जांच की। अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक शहर लखन पटेल व अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक ग्रामीण तारकेश्वर पटेल के निर्देशन में उप पुलिस अधीक्षक लाइन मणिशंकर चंद्रा के नेतृत्व में 10 टीम जांच के लिए पहुंची। रक्षित केंद्र रायपुर से रक्षित निरीक्षक चंद्रप्रकाश तिवारी, सूबेदार अभिजीत भदौरिया,सूबेदार गोविंद वर्मा और अन्य अधिकारी टीम में शामिल थे। टीमों ने जिले के विभिन्न स्थानों मुख्यमंत्री निवास,गृह मंत्री, स्वास्थ्य मंत्री आदि के निवास पर सुरक्षा व्यवस्था को परखा। साथ ही विभिन्न शासकीय बैंकों,महत्वपूर्ण प्रतिष्ठानों इत्यादि 80 स्थानों में लगे लगभग 250 सुरक्षा गार्डों को चेक किया। चेकिंग के दौरान संत्री की पोजीशन और गार्ड ऑफ फायर , गॉड स्टैंड टू और हथियारों के  सुरक्षित रखे जाने से संबंधित आवश्यक दिशा निर्देश दिए। साथ ही सतर्कता पूर्वक और ईमानदारी पूर्वक ड्यूटी करने, ड्यूटी के दौरान नशा का सेवन नहीं करने, समय पर ड्यूटी पर उपस्थित होने संबंधित आवश्यक निर्देश भी दिए गए। इसके अतिरिक्त डीजीपी के स्पंदन अभियान के तहत सभी कर्मचारियों से किसी भी व्यक्तिगत या अन्य समस्या होने पर तत्काल सूचित करने और निराकरण करने के लिए संबंधित सक्षम अधिकारी को सूचित करने का आश्वासन दिया गया। राजधानी में इस तरह के अभियान आगामी समय में भी लगातार जारी रहेगा।

08-10-2020
छत्तीसगढ़ में अभी नहीं खुलेंगे स्कूल, वन विभाग का नाम बदलेगा,राज्य स्थापना दिवस पर नहीं होंगे बड़े कार्यक्रम

रायपुर। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल की अध्यक्षता में गुरुवार को मुख्यमंत्री निवास में कैबिनेट की बैठक हुई। बैठक में कई महत्वपूर्ण फैसले लिए गए। कैबिनेट ने निर्णय लिया है कि राज्य में कोरोना संक्रमण की स्थिति को देखते हुए स्कूल अभी पूर्ववत बंद रहेंगे।  छत्तीसगढ़ शासन कार्य (आबंटन) नियम में संशोधन - वन विभाग का नाम संशोधित कर वन एवं जलवायु परिवर्तन विभाग किए जाने के प्रस्ताव का अनुमोदन किया गया। अनुसूचित जाति विकास प्राधिकरण निधि- नियम 2020 के प्रारूप का अनुमोदन किया गया। छत्तीसगढ़ राज्य स्थापना दिवस के अवसर पर कोरोना संकट काल को देखते हुए वृहद कार्यक्रम का आयोजन नहीं होगा, सिर्फ राज्य अलंकरण समारोह मुख्यमंत्री निवास कार्यालय में आयोजित होगा। कैबिनेट ने निर्णय लिया है कि छत्तीसगढ राज्य औषधि पादप बोर्ड को पुनर्भाषित कर छत्तीसगढ़ आदिवासी स्थानीय स्वास्थ्य परंपरा और औषधि पादप बोर्ड के नाम से पुर्नगठित करने का निर्णय लिया गया। छत्तीसगढ़ राज्य में शासकीय अथवा नैसर्गिक स्त्रोत से औद्योगिक प्रायोजन, ताप विद्युत तथा जल विद्युत परियोजनाओं के लिए जल उपयोग के लिए 16 जनवरी 2020 से प्रचलित जल दरों में संशोधन प्रस्ताव का अनुमोदन किया गया। इसके अनुसार भू-जल के औद्योगिक उपयोग के लिए निर्धारित जल दरों में 20 से 33 प्रतिशत तक की कमी किए जाने और भू-जल दरों पर प्राप्त जल कर की राशि पृथक से निर्मित किए जाने वाले भू-जल संरक्षण कोष में जमा की जाएगी। इस कोष का उपयोग भू-जल संवर्धन (रिचार्जिंग ) में किया जाएगा। स्वनिर्मित स्त्रोत की श्रेणी जिसे औद्योगिक जल दर निर्धारण संबंधी अधिसूचना में विलोपित कर दिया गया था,को मंत्री परिषद ने पुन:स्थापित किए जाने का निर्णय लिया है। इसके साथ ही स्वनिर्मित स्त्रोत की श्रेणी के लिए प्रचलित दर, जो कि नैसर्गिक स्त्रोत जलदर 5 रूपए प्रति घन मीटर है को कम कर 3.50 रूपए प्रति घन मीटर किया गया।

मुख्यमंत्री अधोसंरचना संधारण एवं उन्नयन प्राधिकरण का गठन एवं निधि नियम 2020 के प्रारूप का अनुमोदन किया गया। इस प्राधिकरण के गठन का उद्देश्य शिक्षा स्वास्थ्य एवं आवागमन से संबंधित संरचनाओं के रख रखाव एवं उन्नययन संबंधी कार्यों के वित्त पोषण की पूर्ति है। प्रधिकरण संबंधित विभाग एवं जिला प्रशासन को आवश्यक सलाह भी देगा। मुख्यमंत्री इस प्राधिकरण के अध्यक्ष होंगे। प्राधिकरण के दो उपाध्यक्ष होंगे जो विधायकों में से नामांकित होंगे।  राज्य मंत्रीमंडल के समस्त मंत्री, मुख्य सचिव, सचिव वित्त, सामान्य प्रशासन विभाग इसके सदस्य और मुख्यमंत्री के प्रमुख सचिव /सचिव प्राधिकरण के सदस्य सचिव होंगे। राज्य शासन की ओर से इस प्राधिकरण में पांच सदस्य,  विधायक /समाज सेवी व विशेषज्ञ वर्ग से लिए जाएंगे। खरीफ विपणन वर्ष 2020-21 में समर्थन मूल्य पर धान उपार्जन के लिए छत्तीसगढ़ राज्य सहकारी विपणन संघ मर्यादित को बैंकों और वित्तीय संस्थाओं से ऋणों पर शासकीय प्रत्याभूमि के पुर्नवैधानिकरण का अनुमोदन किया गया। सभी सामाजों की सामाजिक संस्थाओं को रियायती दर पर अधिकतम 5000 वर्ग फुट भूमि के आवंटन  के प्रावधान को संशोधित कर  अब 7500 वर्ग फुट तक कर दिया गया है। जिला कलेक्टर के स्तर पर ही भूमि आबंटन की कार्रवाई की जाएगी।  छत्तीसगढ़ राज्य के निर्माण कार्यों के ठेकों में एकीकृत पंजीयन व्यवस्था के अंतर्गत नवीन ई श्रेणी का समावेश किए जाने का निर्णय लिया गया। छत्तीसगढ़ राज्य खाद्य प्रसंस्करण मिशन योजना की सभी चार योजनाएं 31 अक्टूबर 2024 तक लागू करने, राज्य स्तरीय अपीलीय फोरम के गठन के प्रस्ताव का अनुमोदन किया गया। कृषि आधारित ग्रामीण उद्योगों को बढ़ावा देने के लिए छत्तीसगढ़ राज्य प्रसंस्करण मिशन में वन अधिकार अधिनियम पट्टाधारी एवं सामुदायिक तथा वन संसाधन अधिकार प्राप्त ग्रामों को विशेष प्राथमिकता दिए जाने का निर्णय लिया गया। स्पंज आयरन एवं स्टील सेक्टर के उद्योगों के लिए विशेष पैकेज घोषित। क्षेत्रवार छूट 60 प्रतिशत से 150 प्रतिशत तक देय होगी।

 

 

08-10-2020
Breaking : छत्तीसगढ़ में किसानों के लिए बनेगा अलग से कानून, बुलाया जाएगा विधानसभा सत्र

रायपुर। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल की अध्यक्षता में गुरुवार को मुख्यमंत्री निवास में कैबिनेट की बैठक हुई। बैठक में कई महत्वपूर्ण फैसले लिए गए। बैठक के बाद मंत्री रविन्द्र चौबे ने पूरी जानकारी दी। उन्होंने कहा कि कैबिनेट ने निर्णय लिया है कि प्रदेश में किसानों के लिए अलग से कानून बनेगा। कानून बनाने अलग से छत्तीसगढ़ विधानसभा का सत्र बुलाया जाएगा। उन्होंने कहा कि कोरोना वायरस कोविड-19 के कारण इस बार छत्तीसगढ़ स्थापना दिवस में बड़ा कार्यक्रम नहीं होगा। केवल राज्य अलंकरण समारोह संक्षिप्त रूप से किया जाएगा। धान खरीदी के बारे में विस्तृत चर्चा हुई।

धान खरीदी का लक्ष्य निर्धारण और प्रक्रिया के संबंध में चर्चा हुई। इसी तरह कई महत्वपूर्ण विषयों पर कैबिनेट की बैठक में चर्चा हुई है। बैठक में महिला एवं बाल विकास मंत्री अनिला भेंडिया के पति स्व. रविन्द्र भेंडिया को दो मिनट का मौन रखकर श्रद्धाजंलि अर्पित की गई। रविन्द्र भेंडिया का 4 और 5 अक्टूबर की दरमियानी रात को निधन हो गया था।

09-09-2020
मुख्यमंत्री निवास में हुई कैंपा शासी निकाय की प्रथम बैठक

रायपुर। प्रदेश के मुखिया मुख्यमंत्री भूपेश बघेल की अध्यक्षता में बुधवार को उनके निवास कार्यालय में कैम्पा शासी निकाय की प्रथम बैठक आयोजित की गई। इस बैठक में वनमंत्री मोहम्मद अकबर, मुख्य सचिव आर.पी. मण्डल, अपर मुख्य सचिव सुब्रत साहू, प्रधान मुख्य वन संरक्षक राकेश चतुर्वेदी, वन विभाग के प्रमुख सचिव मनोज पिंगुआ बैठक में उपस्थित थे । अपर मुख्य सचिव अमिताभ जैन और प्रमुख सचिव पंचायत गौरव द्विवेदी वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग से बैठक में जुड़े।

Advertise, Call Now - +91 76111 07804