GLIBS
27-07-2020
कौशिक ने तखतपुर के मेड़पार में ग्रामीणों से की मुलाकात,कहा जिम्मेदार लोगों पर नहीं हो रही कार्यवाही

रायपुर। नेता प्रतिपक्ष धरमलाल कौशिक ने तखतपुर के मेड़पार गांव जाकर गायों की मौत को लेकर स्थानीय लोगों से भेंट कर उचित कार्यवाही का भरोसा दिलाया है। उन्होंने कहा कि पूरे मामले में निर्दोष लोगों पर कार्यवाही करके प्रदेश सरकार दोषियों को बचाना चाहती है। घटना के जिम्मेदार लोगों पर कार्रवाई नहीं होने से सब में असंतोष है। पूरे मामले की उच्च स्तरीय जांच होनी चाहिए और दोषियों पर सख्त कार्रवाई की जानी चाहिए। इस मामले में कार्यवाही को लेकर जो औपचारिकता की जा रही है,जिसकी हम निंदा करते हैं। उन्होंने कहा कि पूरे मसले में कुछ लोगों को जांच के नाम पर परेशान नहीं किया जाना चाहिए। प्रदेश सरकार को पूरे मामले की सूक्ष्मता से एक स्वतंत्र कमेटी गठित करके जांच करानी चाहिये ताकी वस्तुस्थिति स्पष्ट हो पाये। इस मौके पर सांसद अरुण साव, विधायक व पूर्व मंत्री डॉ. कृष्णमूर्ति बांधी, विधायक रजनीश सिंह,भाजपा जिला अध्यक्ष रामदेव कुमावत,प्रदेश प्रवक्ता भूपेंद्र सवन्नी,राज्य महिला आयोग की पूर्व अध्यक्ष हर्षिता पांडेय, जिला उपाध्यक्ष घनश्याम कौशिक, कृष्ण कुमार कौशिक सहित स्थानीय नागरिक,पार्टी कार्यकर्ता व पदाधिकारी मौजूद थे।

 

26-07-2020
तय समय के बाद सामान बेचना दुकानदार को पड़ा भारी,लगाया गया जुर्माना

दुर्ग। निगम आयुक्त इंद्रजीत बर्मन के निर्देशानुसार रविवार को स्वास्थ्य अधिकारी दुर्गेश गुप्ता द्वारा एसडीएम खेमलाल वर्मा की उपस्थिति में इंदिरा मार्केट में स्थित एक स्वीट्स एवं रेस्टोरेंट को 3000 का जुर्माना लगाया गया। रेस्टोरेंट में दूध की बिक्री और अन्य सामानों का विक्रय 12 बजे के बाद भी किया जा रहा था, जो लॉक डाउन के नियमों का स्पष्ट उल्लंघन था। कार्यवाही के दौरान स्वास्थ्य विभाग की पूरी टीम मौजूद थी। उल्लेखनीय है कि राज्य शासन के निर्देशानुसार दुर्ग शहर में 23 जुलाई से लॉकडाउन जारी है। इस दौरान सब्जी,फल वालों को 12 बजे तक और दूध दही विक्रय करने वालों को सुबह 7 से 9 बजे तक ही अपनी दुकान संचालित करना है। इंदिरा मार्केट स्थित शांति स्वीट्स एवं रेस्टोरेंट में दूध दही के साथ मिठाई आदि सामान का विक्रय दोपहर 12 बजे के बाद भी किया जा रहा था। इसकी शिकायत मिलने के बाद आयुक्त इंद्रजीत बर्मन द्वारा संबंधित दुकान संचालक के खिलाफ कार्यवाही करने के निर्देश दिए गए। आयुक्त के निर्देश पर एसडीएम खेमलाल वर्मा तथा स्वास्थ्य विभाग की टीम के साथ स्वास्थ्य अधिकारी रेस्टोरेंट पहुंचे और उनके खिलाफ जुर्माने की कार्यवाही कर 3000 रुपए जुर्माना काटा। उन्हें हिदायत दिया गया दोबारा दूध दही का विक्रय सुबह 7 से 9 बजे तक ही करें अन्यथा दोबारा नियमों का उल्लंघन करते पाए जाने पर दुकान में सीलबंद की कार्यवाही की जाएगी। इस दौरान इंदिरा मार्केट क्षेत्र में बिना मास्क के बाजार क्षेत्र में घूमने वाले 17 नागरिकों को जुर्माना लगाकर 1050 रुपए वसूल किया गया।

24-07-2020
लाॅक डाउन के दूसरे दिन 42 लोगों पर निगम ने की कार्यवाही,बेवजह घूमने वालों पर लगाया  जुर्माना

दुर्ग। नगर पालिक निगम दुर्ग के बाजार विभाग और स्वास्थ्य विभाग ने दीपक नगर क्षेत्र, गंजपारा, शंकर नगर, सहित इंदिरा मार्केट, हटरी बाजार,चण्डी चौक एरिया में भ्रमण किया।
 इस दौरान लाॅक डाउन में किराना दुकानें खोलने वालों, बेवजह घर से बाहर घूमने वालों और मास्क नहीं लगाने वालों कुल 42 लोगों पर कार्यवाही कर 8850/ रुपए जुर्माना वसूला। सभी को हिदायत दी गई कि लाॅक डाउन में कोई भी दुकानें न खोलें, अन्यथा लायसेंस निरस्त किया जाएगा साथ ही कड़ी कानूनी कार्यवाही की जाएगी। निगम के अमले ने आयुक्त इंद्रजीत बर्मन के निर्देश पर स्वास्थ्य अधिकारी दुर्गेश गुप्ता, स्वच्छता निरीक्षक जसवीर सिंह भुवाल, मेनसिंग मंडावी, राजेन्द्र सराटे, दरोगा राजू सिंह, सुरेश भारती, थान सिंह यादव, ईश्वर वर्मा, शशी यादव सहित अन्य कर्मचारियों ने अलग-अलग दल बनाकर कार्यवाही की।

18-07-2020
बापू नगर में निगम ने की बेदखली की कार्यवाही

भिलाई। नगर पालिक निगम के जोन क्रमांक-4 की टीम ने वार्ड-29 बापू नगर में अतिक्रमण के खिलाफ कार्यवाही की। लक्ष्मी नारायण विद्यापीठ उडिय़ा माध्यम स्कूल के समीप किए गए अतिक्रमण को तोडफ़ोड़ कर बेदखल किया गया। वार्डवासियों ने बापू नगर में शासकीय जमीन पर कब्जा के खिलाफ शिकायत की थी। आयुक्त ऋतुराज रघुवंशी ने मामले की जांच करवाकर उचित कार्यवाही के लिए अधिकारियों को निर्देशित किया था। आयुक्त के आदेश के अनुसार मामले की जांच किया गया। जांच में शिकायत सही पाई। जोन-4 के आयुक्त ने कब्जेधारी को नोटिस जारी कर अतिक्रमण हटा लेने की चेतावनी दी थी। इसके बावजूद उन्होंने कब्जा नहीं हटाया। इसके बाद ही निगम की तोडफ़ोड़ दस्ता ने बेदखली की कार्यवाही किया।

 

13-07-2020
नर्सरी के बीच से नाले का निर्माण, सागौन के पेड़ों को नुकसान

राजनांदगांव। वनांचल क्षेत्र के मानपुर विकासखण्ड में कई एकड़ जमीन में फारेस्ट विभाग ने सागौन के पौधों की नर्सरी तैयार की थी। पौधों ने पेड़ का रूप ले लिया, वहीं ग्राम पंचायत ने बिना फारेस्ट विभाग की अनुमति के नर्सरी के बीच से ही नाले का निर्माण कर डाला। इस निर्माण में सैकड़ों पेड़ धराशायी हो गए और जो नाले के किनारे लगे पेड़ किसी भी समय गिरने की कगार पर है। ग्राम पंचायत के सरपंच ने बताया कि तालाब के पानी निकासी के लिए नाले का निर्माण किया गया है, इसके लिए क्षेत्रीय विधायक और जिला कलेक्टर से बात की गई थी। सरपंच की माने तो केवल मौखिक स्वीकृति मात्र से ही नाले के निर्माण के लिए खुदाई मशीन के माध्यम से करा डाला। लेकिन फारेस्ट की नर्सरी के बीच से नाले के निर्माण के लिए विभाग से अनुमति ग्राम पंचायत ने जरूरी नही समझा। इधर नाले के निर्माण में फारेस्ट विभाग ने कार्यवाही तो दूर नाले के निर्माण के समय सागौन के वृक्ष गिरे पड़े थे और जो गिरने की कगार पर है उन्हें उठाने की जहमत भी नहीं उठाई। इस पूरे मामले में जिले के वन मण्डलाधिकारी से बात करनी चाही तो उन्होंने साफ तौर पर मना कर दिया।

 

12-07-2020
अब मुख्यमंत्री से सरपंच और जनपद सीईओ की शिकायत, कार्यवाही का मिला आश्वासन  

कोरबा। जिले के रामपुर विधानसभा क्षेत्र के 41 जनप्रतिनिधियों का दल जनपद पंचायत कोरबा के मुख्य कार्यपालन अधिकारी एसएस रात्रे और तिलकेजा ग्राम पंचायत के सरपंच की शिकायत लेकर 10 जुलाई को मुख्यमंत्री से मिला। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने जल्द ही कार्यवाही का आश्वासन जनप्रतिनिधियों को दिया है। कोरबा जनपद पंचायत अध्यक्ष हरेश कंवर ने मुख्यमंत्री को बताया है कि कोरबा जनपद के सीईओ एसएस रात्रे व तिलकेजा सरपंच प्रायोजित कार्यक्रम के तहत कार्य कर रहे हैं। आए दिन कांग्रेसी जनप्रतिनिधियों से दुर्व्यवहार किया जा रहा है। इससे चुने जनप्रतिनिधियों को उपेक्षा का शिकार होना पड़ रहा है। कोरबा सीईओ की भूमिका संदिग्ध बताते हुए उन्होंने कहा है कि प्रत्येक कार्यों में लापरवाही बरती जा रही है। कुछ भी पूछने पर दुर्व्यवहार का सामना करना पड़ता है, जोकि एक चुनी हुई महिला जनप्रतिनिधि और पद प्रतिष्ठा का अपमान है। कोरबा जनपद अध्यक्ष हरेश कंवर ने जनपद में उपजे विवाद की वजह को स्पष्ट किया है कि कुछ दिन पूर्व कोविड-19 के दौरान पहाड़ी कोरवा और बिहोर जनजाति के राशन संबंधी जनप्रतिनिधियों से जानकारी लेने पर अमर्यादित शब्दों का उपयोग किया गया।

इसकी शिकायत कोरबा कलेक्टर व जिला पंचायत सीईओ से की गई थी। तब से यह विवाद बढ़ता चला जा रहा है। शिकायत के बावजूद भी कार्यवाही नहीं हुई ,जिससे जन प्रतिनिधियों में आक्रोश बढ़ता जा रहा है। जनप्रतिनिधियों ने मुख्यमंत्री को दिए पत्र में जनपद पंचायत कोरबा सीईओ और ग्राम पंचायत तिलकेजा सरपंच को भाजपा समर्पित होने का आरोप लगाते हुए सीईओ को तत्काल निलंबित करने और तिलकेजा सरपंच के ग्राम पंचायत में हुए कार्यों की जांच कर इनके खिलाफ अनुशंसात्मक कार्यवाही करने का आग्रह किया है। ताकि शासन की योजनाओं का सही तरीके से आदिवासी बाहुल्य क्षेत्र के लोगों को लाभ मिल सके । बता दें कि कोरबा जनपद पंचायत का विवाद जनप्रतिनिधियों के चुनाव के कुछ दिन बाद ही शुरू हो गया था। इसका हल आज कई माह बीत जाने के बावजूद भी नहीं निकल सका है। इसके कारण शासन की ओर से चलाई जा रही योजनाओं के क्रियान्वयन में कहीं ना कहीं कमी देखी जा रही है। इसे जल्द से जल्द सुलझाने की आवश्यकता है। इससे हितग्राहियों को शासन की योजनाओं का लाभ समय पर मिल सके। इसके पूर्व भी प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष मोहन मरकाम से भी जनप्रतिनिधियों ने शिकायत की थी। 20 मई को छत्तीसगढ़ शासन पंचायत एवं ग्रामीण विकास की ओर से मुख्य कार्यपालन अधिकारी जनपद पंचायत कोरबा को तत्काल हटाने पत्र प्रेषित किया जा चुका है। आदिवासी सेवा सहकारी समिति मर्यादित भैसमा के प्रभारी प्रबंधक की ओर से प्रभार नहीं दिए जाने की भी शिकायत हुई।

12-07-2020
अधूरे निर्माणकार्यों पर सीईओ ने जताई नाराजगी, कार्यवाही की दी चेतावनी 

कवर्धा। जिला पंचायत सीईओ ने विकासखंड बोड़ला के अंतर्गत गौठान विकास कार्य और धान चबूतरा के निर्माणकार्यों का निरीक्षण किया। छत्तीसगढ़ शासन की महत्वकांक्षी योजना सुराजी गांव अभियान के तहत गौठान विकास के कार्य में अपेक्षाकृत प्रगति नहीं मिलने के कारण उन्होंने नराजगी जताई। साथ ही चेतावनी दी गई कि निर्धारित समय में कार्य पूर्ण नहीं होने पर अनुशासनात्मक कार्यवाही की जाएगी। उन्होंने क्षेत्र के इंजीनियर और सीईओ जनपद पंचायत को कड़े निर्देश दिए हैं कि, आगामी एक सप्ताह के भीतर धान चबूतरा केन्द्र और गौठान विकास कार्य को पूरी गुणवत्ता के साथ पूर्ण किया जाए। बता दें कि राजानवागांव के सचिव घनश्याम तिलकवार और ग्राम रोजगार सहायक को मुख्य कार्यपालन अधिकारी जिला पंचायत कबीरधाम विजय दयाराम के. साथ निरीक्षण करने पहुंचे थे। 

उन्होंने बोड़ला क्षेत्र में सघन निरीक्षण के दौरान ग्राम राजनवागांव, तारो, खैरबनाकला, महराजपूर, छपरी जैसे मैदानी क्षेत्र से लेकर रेंगाखार उसरवाही, जामुनपानी, पंडरीपानी, लोहारीडीह और बोदा 47 जैसे विभिन्न ग्रामों में कराए जा रहे कार्यों का अवलोकन किया। रेंगाखारकला में निमार्णाधीन धान चबूतरा कि गुणवत्ता के संबंध में सरपंच, सचिव से चर्चा की गई। उन्हें बताया गया कि महात्मा गांधी राष्ट्रीय ग्रामीण रोजगार गारंटी योजना से स्वीकृत इन कार्यो को समयावधि में पूरा किया जाना है। गुणवत्ता का विशेष ध्यान रखते हुए कार्य कराया जाए ताकि धान चबूतरा में बरसात का पानी रूकने जैसी समस्या न हो। बोदा 47 के गौठान में विकास कार्य का निरीक्षण किया गया। वर्मी शेड और नाडेफ टैंक को यथाशीघ्र पूर्ण करने के निर्देश दिए गए। सभी मैदानी कर्मचारियों को कड़े निर्देश देते हुए कहा गया है कि, सभी गौठान को आजीवन के कार्यों से जोड़ा जाए। उन्होंने कहा है कि मूलभूत सुविधाएं उपलब्ध हो और महिला स्व सहयता समहू की सक्रिय भागीदारी तय करने के निर्देश दिए हैं

08-07-2020
सरप्राइस चेकिंग में तीसरे दिन फंसे 700 से अधिक वाहन चालक, भरना पड़ा जुर्माना

रायपुर। लगातार तीसरे दिन भी शहर के आठ स्थानों पर सरप्राइस चेकिंग कर कोरना गाइडलाइन का उल्लंघन करने वाले 700 से भी अधिक वाहन चालकों के खिलाफ रायपुर पुलिस और नगर निगम ने कार्यवाही की। निगम जोन 2 की टीम ने पुलिस बल की उपस्थिति में फाफाडीह चौक में बिना मास्क पहने 58 लोगों से 5750 रुपए जुर्माना वसूला। 48 लोगों को नि:शुल्क मास्क देकर अनिवार्य रूप से पहनने की हिदायत दी। जोन 3 की टीम ने तेलीबांधा चौक, अनुपम नगर चौक, पंडरी कपड़ा बाजार चौक में बगैर मास्क पहने 205 लोगों से कुल 17860 रुपए जुर्माना वसूला। जोन 7 की टीम ने तेलघानी नाका चौक में मास्क नहीं पहनने पर 91 लोगों से 8790 रुपए और एक नागरिक से सामाजिक दूरी का सिद्धांत तोड़ने पर 200 रुपए, कुल 8990 रुपए जुर्माना वसूला। साथ ही 56 लोगों को नि:शुल्क मास्क देकर अनिवार्य रूप से मास्क पहनने की कड़ी हिदायत दी। जोन 5 ने 76 लोगों से मास्क न पहनने के कारण 7250 रुपए जुर्माना वसूला। जोन 1 ने खमतराई बाजार के पास मास्क न लगाने पर 70 लोगों से 6550 रुपए जुर्माना वसूला।  जोन 10 ने न्यू राजेन्द्र नगर चौक में अभियान चलाकर पुलिस बल की उपस्थिति में 74 लोगों से मास्क न पहनने के कारण 5690 रुपए  और पचपेड़ी नाका चौक में बगैर मास्क मिले 34 लोगों से 3480 रुपए जुर्माना वसूला। जोन 10 की टीम ने अपने क्षेत्र के विभिन्न चौकों में अभियान चलाकर आज दिनभर में 66 लोगों पर मास्क न पहनने के कारण 6550 रुपए जुर्माना किया। जोन 3 ने पुलिस बल की उपस्थिति में तेलीबांधा चौक, पंडरी मार्केट, अनुपम नगर चौक में मास्क न पहनने पर 334 लोगों से 28070 रुपए जुर्माना वसूला। जोन 4 ने पुलिस बल की उपस्थिति में खजाना चौक  और कालीबाड़ी चौक में अभियान चलाकर 149 लोगों से मास्क न लगाने पर 14900 रुपए  और 20 लोगों से सामाजिक दूरी का नियम तोडने पर 4000 रुपए कुल 169 लोगों से 18900 रुपए  जुर्माना वसूला। फाफाडीह चौक, कपड़ा मार्केट पंडरी, अनुपम नगर चौक, पचपेड़ी नाका चौक, संतोषी नगर चौक, भाठागांव, शारदा चौक, शास्त्री चौक,तेलीबांधा चौक, महिला पुलिस थाना चौक सहित विभिन्न प्रमुख चौराहों में मास्क न पहनने पर संबंधित लोगों से जुमार्ना वसूला गया। साथ ही मास्क लगाकर ही निकलने की सख्त हिदायत दी गई।

04-07-2020
रायपुरा के 3 स्थानों पर निगम ने रोकी अवैध प्लाटिंग, तहसीलदार से मांगी गई भूमि मालिकों की जानकारी

रायपुर। नगर निगम आयुक्त सौरभ कुमार के आदेश पर जोन 8 नगर निवेश विभाग की टीम ने शनिवार को माधवराव सप्रे वार्ड क्रमांक 69 के 3 स्थानों में अवैध प्लाटिंग रोकने कार्यवाही की। टीम ने रायपुरा में इंद्रप्रस्थ कॉलोनी के पीछे लगभग 50 हजार वर्गफीट क्षेत्र की निजी भूमि पर की जा रही अवैध प्लाटिंग पर रोक लगाई। जोन 8 कमिश्नर अरूण ध्रुव के नेतृत्व व जोन कार्यपालन अभियंता राकेश गुप्ता, जोन नगर निवेश उपअभियंता अजीत सिंह राठौर, रूचिका मिश्रा की उपस्थिति में कार्यवाही की गई।इसी तरह माधवराव सप्रे वार्ड के रायपुरा में कोलता समाज सामुदायिक भवन के पास तालाब के किनारे लगभग 15 हजार वर्गफीट क्षेत्र की निजी भूमि में की जा रही अवैध प्लाटिंग को रोका गया। जोन 8 नगर निवेश विभाग की टीम ने जोन कमिश्नर के नेतृत्व में कार्यवाही की।

इसी क्रम में जोन 8 नगर निवेश विभाग ने रायपुरा के गोकुलधाम के पास लगभग 40 हजार वर्गफीट क्षेत्र की निजी भूमि पर की गई अवैध प्लाटिंग पर कार्यवाही की।जोन कमिश्नर अरूण ध्रुव ने कहा कि निगम आयुक्त आदेशानुसार जनशिकायते सही मिलने पर अवैध प्लाटिंग के खिलाफ कार्यवाही की गई है। अज्ञात अवैध प्लाटिंग कर्ता की ओर से बनाई गई मुरम रोड और अवैध प्लाट विक्रय करने के नाम पर बनाई गई नींव और प्लाट को थ्रीडी की सहायता से काटकर आवागमन बाधित किया गया। निजी भूमि के वास्तविक भूमि स्वामी के बारे में जानकारी शीघ्र देने निगम जोन 8 नगर निवेश विभाग ने तहसीलदार को पत्र लिखकर अनुरोध किया है। तहसीलदार कार्यालय से वास्तविक भूमि स्वामी की जानकारी मिलते ही निगम अधिनियम के प्रावधान के तहत संबंधित भूमि स्वामी अवैध प्लाटिंगकर्ता पर नियमानुसार कड़ी कानूनी कार्यवाही करने संबंधित पुलिस थाना में नामजद एफआईआर दर्ज करवाई जाएगी।

30-06-2020
अवैध प्लाटिंग पर चला निगम का बुलडोजर, कुरूद क्षेत्र में हुई कार्यवाही

भिलाई। नगर पालिक निगम भिलाई के वार्ड 16 कुरूद क्षेत्र में बड़े पैमाने पर किए जा रहे अवैध प्लाटिंग एवं रास्ता निर्माण के विरूद्ध मंगलवार को कार्यवाही की गई। जोन क्रमांक 2 क्षेत्र अंतर्गत अवैध प्लाटिंग व अनाधिकृत रूप से रास्ता निर्माण, प्लाटिंग के लिए लगाए गए खुटे व मुरूम से बनाए गए मार्ग संरचना को जेसीबी से हटाया गया। मौके से 01 ट्रिप मुरम जब्त किया गया। निगम भिलाई द्वारा अवैध रूप से प्लाटिंग पर लगाम कसने के लिए लगातार कार्यवाही की जा रही है। इसके पूर्व भी कुरूद क्षेत्र में इसी प्रकार की अवैध प्लाटिंग करने वालों पर कार्यवाही की गई थी। निगम भिलाई द्वारा वार्ड 16 कुरूद क्षेत्र में वृहद स्तर पर अवैध रूप से प्लाटिंग व रास्ता निर्माण करने वालों पर सख्त कार्यवाही करने 1 जेसीबी, 1 हाइवा के साथ निगम के राजस्व विभाग की टीम स्थल पर पहुंची, टीम ने बिजली आफिस के समीप लोहिया रोड के पास के क्षेत्र में मुरूम से बनाए जा रहे मार्ग संरचना को जगह जगह से हटाने की कार्यवाही की तथा एक डंपर मुरूम जब्त किया गया।

निगमायुक्त ऋतुराज रघुवंशी ने अवैध प्लाटिंग, अवैध कब्जा एवं अवैध निर्माण के खिलाफ सख्त कार्रवाई करने के निर्देश समस्त जोन आयुक्तों को दिए हैं, आयुक्त के निर्देश के पालन में जोन आयुक्त जोन क्रमांक दो पूजा पिल्ले द्वारा आज लोहिया रोड कुरूद क्षेत्र में अवैध रूप से किए गए मार्ग संरचना तथा बगैर परमिशन बनाए जा रहे अवैध प्लाटिंग को हटाने की कार्यवाही की गई है। निगम के अधिकारी/कर्मचारी के साथ मौके पर पहुंची टीम ने मुरूम से बनाए गए मार्ग संरचना को तीन स्थानों पर जेसीबी के माध्यम से हटाया ताकि आवागमन न हो सके।सीएम कॉलेज रोड में भी हुई कार्यवाही कुरूद क्षेत्र के ही सीएम कॉलेज रोड में 15 स्थानों पर अवैध प्लाटिंग किया जा रहा था, जिनमें 90 खुटे लगे हुए थे, इन सभी को निगम की जेसीबी ने तोड़ने की कार्यवाही की और मार्ग संरचना को जगह-जगह से हटाया ताकि आवागमन न हो सके!अवैध रूप से किए गए प्लाटिंग में बेदखली की कार्यवाही के दौरान जोन आयुक्त, जोन क्रमांक 2 पूजा पिल्ले, भवन अनुज्ञा अधिकारी हिमांशु देशमुख, उपअभियंता पुरूषोत्तम सिन्हा, सहायक राजस्व अधिकारी संजय वर्मा, जोन 2 स्वा.प्रभारी अनिल मिश्रा मौके पर मौजूद रहे।

Advertise, Call Now - +91 76111 07804