GLIBS
03-09-2020
नक्सलियों ने पटवारी की ताबड़तोड़ पिटाई कर थमाया पर्चा...

रायपुर/सुकमा। जिले के पोलमपल्ली थाना क्षेत्र अंतर्गत पालामडग़ु का हल्का पटवारी समुनलाल बघेल फसल गिरदावरी कार्य के लिए बुधवार को ग्राम कोर्रापाठ पहुंचा था। इसकी सूचना मिलते ही पांच नक्सली गांव में पहुंचे और पटवारी को घेर लिया। उससे पूछताछ के बाद उसकी बेदम पिटाई की। साथ ही गांव में नहीं आने की चेतावनी भी दी। इसके अलावा रेंजर पटवारी जैसे कर्मचारियों को गांव में आने पर जन अदालत लगाकर मौत की सजा सुनाने की चेतावनी का पर्चा कोंटा एरिया कमेंटी द्वारा जारी किया है।

दोरनापाल एसडीओपी अखिलेश कौशिक ने बताया कि पालामडग़ु का पटवारी समुनलाल बघेल सरकारी काम से ग्राम कोर्रापाठ गया था, जहां नक्सलियों ने उसके साथ मारपीट की। पटवारी के पास पर्चा मिला है, जिसमें सरकारी कर्मियों के दोबारा गांव में आने पर जान से मारने की धमकी दी गई है। घायल पटवारी को प्राथमिक उपचार के बाद जिला अस्पताल भेजा गया, जहां उसका इलाज चल रहा है।

25-08-2020
Video: तेज बहाव में चट्टान के बीच मछली पकड़ने गया 10 वर्षीय बालक फंसा, रेस्क्यू कर 8 घंटे बाद निकाला गया बाहर

राजनांदगांव। जिले के गंडई थाना क्षेत्र के ठंढार में शाम करीब 4 बजे दस वर्षीय अनिल पारधी मछली पकड़ने के लिए नर्मदा नाला गया था। नाले में चट्टान के बीच में पैर फंसने की सूचना पर थाना गंडई पुलिस तत्काल मौके पर पहुँची। नाले के तेज बहाव को कम करने के लिए ग्राम नर्मदा से नाले का गेट बंद करवाया गया। तब कहीं जाकर 8 घंटे बाद बच्चे को रेस्क्यू कर स्थानीय लोगों की मदद से किया गया। बता दें कि जेसीबी द्वारा भी चट्टान को हटाने का प्रयास किया गया था। एसडीओपी गंडई ने कहा कि बच्चे की सुरक्षा के लिए प्लास्टिक बोरियों में मिट्टी भरकर बच्चे के चारो तरफ घेरा तैयार किया गया। रेस्क्यू दौरान बच्चे को स्वास्थ सुविधा के लिए चिकित्सकों की टीम भी बुलाई गई। एनडीआर​एफ की टीम के आने बाद थाना गंडई पुलिस ने चट्टान को तोड़कर बच्चे को सकुशल बचा लिया।

10-07-2020
यातायात प्रभारी ने अधीनस्थ स्टाफ के साथ चर्चा कर सुनी समस्याएं,निराकरण के लिए किया आश्वस्त

धमतरी। स्पंदन अभियान के तहत पुलिस अधीक्षक धमतरी बीपी राजभानू ने जिले के एसडीओपी, डीएसपी एवं प्रभारियों को निर्देशित किया गया है कि वे अपने अधीनस्थ जवानों से रूबरू होकर उनकी समस्या के बारे में पूछते हुए आवश्यक निराकरण करें। यदि कोई समस्या उनके स्तर पर निराकरण योग्य न हो, तो मुझे अवगत कराए, साथ ही जवानों की इम्युनिटी पावर बढ़ाने के लिए समय-समय पर योगाभ्यास, स्पोर्ट्स आदि का आयोजन करने के लिए निर्देशित किया गया। इस पर उप पुलिस अधीक्षक अजाक सारिका वैद्य के मार्गदर्शन में यातायात प्रभारी सत्यकला रामटेके ने अधीनस्थ स्टाफ के साथ चर्चा कर उन्हें प्रसन्नचित्त होकर अपने कर्तव्यों का निर्वहन करने के साथ-साथ पारिवारिक एवं सामाजिक दायित्वों के मध्य सामंजस्य स्थापित कर दिनचर्या व स्वास्थ्य के प्रति ध्यान देने सहित स्वयं के तनाव को दूर करने समझाइश दी गई। उनकी समस्याओं को सुनकर वरिष्ठ अधिकारियों को अवगत करा कर यथासंभव निराकरण के लिए उन्हें आश्वस्त भी किया।

26-06-2020
पार्षदों ने पुलिस अधिकारियों पर लगाएं दुर्व्यवहार के आरोप, विधायक से की गई शिकायत, उचित कार्यवाही की मांग

कांकेर। शहर के एक पार्षद के साथ कांकेर कोतवाली थाना प्रभारी व उपनिरीक्षक द्वारा दुर्व्यवहार किये जाने से नाराज कांग्रेस के सभी पार्षदगण कांकेर थाना पहुँचे। इसका सभी ने एक स्वर से विरोध किया। पूर्व अध्यक्ष भी वहाँ पहुँच गये मामला गर्म होते देख एसडीओपी भी थाना पहुँचे।आरोप प्रत्यारोप का दौर चला कुछ घण्टे बाद पूर्व अध्यक्ष के आश्वासन के बाद की उक्त दोनों थाना प्रभारी व उपनिरीक्षक पर उचित कार्यवाही करने की बात पर पार्षद थाना से बाहर आये। इसके बाद यह मामला कांकेर विधायक तक भी पहुँच गया।सूत्रों से मिली जानकारी अनुसार महादेव वार्ड के पार्षद अपने वार्ड के कुछ मामले के संबंध में थाना जानकारी लेने गये थे। उपनिरीक्षक से मामले के सबंध में चर्चा हुई,जिसमें पार्षद से पैसे की मांग की गई। यह मामला थाना प्रभारी के पास पहुँचा तो थाना प्रभारी द्वारा भी पार्षद से दुर्व्यवहार करते हुए थाना में घुसने नहीं देने की बात कही गई। पार्षद का कहना था कि मैं एक जनप्रतिनिधि हूँ और यदि मेरे वार्ड से संबंधित किसी प्रकार की समस्या है तो मुझे वहाँ खड़ा होना ही है चाहे थाना हो, चाहे कलेक्ट्रेट। इस पर थाना प्रभारी द्वारा दुर्व्यवहार करते हुए उन्हें थाना से बाहर निकलने की बात कही। इसकी जानकारी कांग्रेस पार्षदों को होने के बाद सभी एक के बाद एक थाना पहुँचने लगे और मामले गर्मा गया। मामले की शिकायत कांकेर विधायक से भी गई है।वहीँ इस सबंध में पूर्व नपा अध्यक्ष जितेंद्र सिंह ठाकुर ने बताया कि इस सबंध में कांकेर विधायक से शिकायत की गई है। विभागीय जांच के बाद उचित कार्यवाही की जायेगी और यदि इस प्रकार कांकेर के किसी आम नागरिकों व जनप्रतिनिधियों से दुर्व्यवहार किया जाता है तो कतई बर्दाश्त नहीं की जाएगा।

 

17-05-2020
एसडीओपी अजित ओगरे पर महिला सरपंच और युवा नेता से गाली गलौज करने का आरोप, हुई शिकायत

कवर्धा। कबीरधाम जिले के एक युवक शोएब खान ने एसडीओपी अजित ओगरे के खिलाफ एसपी से लिखित शिकायत की है। ग्राम पंचायत चौरा के महिला सरपंच की तबियत खराब थी। इसी कड़ी में वे अपने बेटे के साथ इलाज करा कर अस्पताल से वापस घर आ रहे थे। इस दौरान रास्ते पर एसडीओपी ने सरपंच और उनके साथियों को अभद्र गन्दी गाली दी। जिसे लेकर युवक ने लिखित शिकायत की है। ग्राम पंचायत चौरा के महिला सरपंच व एनएसयूआई पूर्व जिला अध्यक्ष शोएब खान अस्पताल से वापस ग्राम चौरा आ रहे थे। तभी एसडीओपी द्वारा राजानांवागांव के पास गाड़ी रुकवा कर गंदी और अभद्र गाली देने लगे जिस लेकर प्रार्थी ने जिले के विधायक, मंत्री व पुलिस अधीक्षक से लिखित शिकायत की है।

इस संबंध में प्राथी ने बताया की स्वास्थ्य सम्बंधित सभी दस्तवेज दिखाने के बाद भी एसडीओपी लगातार बतमीजी करते रहे। इस बीच उन्होंने जान से मारने की धमकी भी दी। हम पुलिस अधीक्षक से कार्रवाई की मांग करते हैं। वही इस संबंध में कबीरधाम पुलिस अधीक्षक के एल धुर्व ने बताया कि अवेदन प्राप्त हुआ है। जाचं के लिए एडीशनल एसपी को दिया गया है। वहीं जब इस मामले में एसडीओपी अजित ओगरे से बात की गई तो उन्होंने कहा कि किसी प्रकार से महिला व अन्य के साथ विवाद व गाली गलौज नहीं हुई है। मेरे खिलाफ गलत शिकायत की जा रही है।

12-05-2020
तीन महीने बाद सुलझी अंधे कत्ल की गुत्थी, पुलिस ने आरोपी को किया गिरफ्तार

बेमेतरा। कवर्धा मार्ग पर स्थित ग्राम बहेरा में तीन महीने पूर्व हुए अंधे कत्ल की गुत्थी बेमेतरा पुलिस ने सुलझा ली है। मिली जानकारी के अनुसार 23 जनवरी 2020 को प्रार्थी टेकराम साहू निवासी बहेरा की रिपोर्ट पर गुमशुदगी का मामला दर्ज कर जांच में लिया गया था। इसी दौरान 24 जनवरी को लगभग 11 बजे शिवमंदिर तालाब के पास हुलास राम साहू का शव तालाब पार किनारे पानी में तैरता हुआ मिला। जिस पर थाना बेमेतरा में रिपोर्ट पर मर्ग धारा 174 कायम कर शव को देखने पर जांच के दौरान शव पंचनामा, घटना स्थल निरीक्षण एवं साक्ष्यो के अधार पर पाया गया। किसी अज्ञात व्यक्ति द्वारा मृतक हुलास राम साहू उम्र 42 वर्ष ग्राम बहेरा को धारदार हथियार से उसके सिर में कई बार मारकर हत्या कर साक्ष्य छुपाने के नियत से पानी में फेक दिया है। जो मौके पर प्रार्थी टेकराम साहू की रिपोर्ट पर शून्य पर अज्ञात आरोपी के विरूद्ध धारा 302, 201 भादवि का अपराध पंजीबद्ध कर विवेचना में लिया गया था।

पुलिस अधीक्षक दिव्यांग कुमार पटेल, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक विमल बैस के निर्देशन पर पुलिस अनुविभागीय अधिकारी बेमेतरा राजीव शर्मा के नेतृत्व में जो टीम गठित हुई थी उनका मौके पर लगातार बने रहने और मौके को ना छोड़ते हुए लगातार उक्त संबंध में पूछताछ करते रहना और आरोपी पता साजी के लिए उसके रिश्तेदार परिवार आदि के यहां लगातार पुलिस पुछताछ करती रही। संदेही धनेश्वर निषाद पिता शत्रुहन निषाद उम्र 25 वर्ष निवासी बहेरा घिवरी से पूछताछ किए जाने पर पता चला कि मृतक हूलास राम साहू एवं उसके परिवार के साथ आपस में पुराने झगड़े थे। इसलिए वह हुलास राम साहू की हत्या करने मौके की ताक में था। 21 जनवरी की शाम को आरोपी धनेश्वर गांव के तालाब के पास बैठा था तभी 4 से 4.30 बजे के करीबन मृतक हुलास राम साहू को अकेले खेत की ओर जाते देखा तो मौका पाकर तुरंत अपने घर जाकर टंगिया लेकर आया और तालाब पार के पास सुनसान जगह में उसके वापस आने का इंतजार करने लगा। शाम को लगभग 6 से 6.30 बजे खेत से लौटते वक्त उसकी हत्या कर शव को तालाब में फेक दिया। आरोपी धनेश्वर निषाद को गिरफ्तार कर न्यायालय पेश किया गया। उक्त कार्यवाही में एसडीओपी बेमेतरा राजीव शर्मा के नेतृत्व में थाना प्रभारी निरीक्षक राजेश मिश्रा, सउनि कवल नेताम, प्र.आर. अनुपम शर्मा, आर. विनोद पात्रे, आर. भोलाराम मेरावी, आर. नागेश सिंह, आर. मुकेश सिंह, आर. जितेन्द्र वर्मा, आर. पुरूषोत्तम कुम्भकार एवं अन्य स्टाफ शामिल थे। निरीक्षक से लेकर आरक्षक को उचित पारीतोषिक से सम्मानित करने का निर्णय पुलिस अधीक्षक द्वारा लिया गया है।

28-04-2020
लॉक डाउन में प्रतिबंधित दुकान खोलने वालों पर कार्रवाई की मांग, व्यापारियों ने प्रशासन को सौंपा ज्ञापन

कोंडागांव। लॉक डाउन में अपनी दुकान बंद रखने वाले केशकाल के लघु व्यापारियों ने 27अप्रैल को कलेक्टर, एसडीएम, एसडीओपी और मुख्य नगरपंचायत अधिकारी सहित थाना प्रभारी केशकाल को एक ज्ञापन सौंपा है। पत्र सौंपने वाले कृष्ण दत्त उपाध्याय ने कहा कि ज्ञापन में लिखा गया है केंद्र सरकार और राज्य सरकार की ओर से प्रतिबंधित घोषित कुछ दुकानें केशकाल के मेन रोड में प्रतिदिन खुल रही हैं, जिन पर संबंधित अधिकारियों की ओर से अभी तक कोई प्रभावशाली कार्यवाही नहीं की गई। इससे शासन प्रशासन के आदेश का और उसके संकर्षण अधिकारियों के निर्देश का पालन करने वाले अपने आप को ठगा महसूस कर रहे हैं। ज्ञापन देने वालों ने कहा कि अगर यही स्थिति निरंतर बनी रही तो वे अपनी बंद दुकानों के सामने भूख हड़ताल पर बैठने को लाचार हो जायेंगे।

23-04-2020
एसडीएम ने ली व्यवसायियों की बैठक, प्रशासन के निर्देशों का पालन करने का दिया निर्देश

कोंडागांव। कोरोना वायरस के संक्रमण के कारण लॉक डाउन के नियमों का सख्ती से पालन कराने के लिए पूरे जिले में पुलिस सक्रिय है। लेकिन केसकाल नगर की स्थिति भिन्न है। यह देखने मे आ रहा है यहाँ जारी दिशा निर्देशों, नियमों का लगातार उलंघन किया जा रहा है। यहां लोगों को सड़कों पर अनावश्यक रूप से घूमते देखा जा सकता है। साथ ही जिला प्रशासन द्वारा जारी आदेश में स्पष्ट रूप से जिन दुकानों के खुलने पर प्रतिबंध है, वह भी खुल रही है।

इन सब बातों को ध्यान में रखते हुए केशकाल थाना परिसर में एसडीएम दीनदयाल मंडावी के द्वारा अति आवश्यक बैठक आयोजित की गई थी। इसमें एसडीओपी अमित पटेल, खंड चिकित्सा अधिकारी डॉक्टर डी के बिसेन, थाना प्रभारी देवेंद्र दर्रो, नगर के व्यवसायी और जनप्रतिनिधि उपस्थित थे। बैठक में व्यवसायियों, पत्रकारों और जनप्रतिनिधियों ने शासन प्रशासन और नगर पंचायत द्वारा जारी किए गए आदेश निर्देश का खुला उल्लंघन करने वालों पर कोई कार्यवाही न किए जाने पर नाराजगी जाहिर की गई। इस पर एसडीएम और एसडीओपी ने आश्वस्त किया कि शासन और जिला प्रशासन द्वारा जारी आदेश का पूरी निष्पक्षता से पालन कराया जाएगा।

07-04-2020
उड़ीसा की 6 लीटर अंग्रेजी शराब के साथ आरोपी गिरफ्तार

महासमुन्द। पिथौरा थाना प्रभारी कमला पुसाम ने अपनी टीम के साथ अवैध रूप से शराब बेचने वाले आरोपी को गिरफ्तार किया है। पुलिस ने युवक के कब्जे से 6 लीटर अंग्रेजी शराब जब्त कर आरोपी के खिलाफ आबकारी एक्ट की धारा 34 (2) की कार्रवाई की है। पिथौरा पुलिस से मिली जानकारी अनुसार पिथौरा निवासी अनिल बंसल पिता श्याम बंसल सीमावर्ती क्षेत्र उड़ीसा प्रांत से अंग्रेजी शराब लाकर बेच रहा था। मुखबीर की सूचना पर पिथौरा थाना प्रभारी कमला पुसाम ने एसडीओपी पुपलेश्वर पात्रे के मार्ग दर्शन में शराब बेचने वाले आरोपी को गिरफ्ताए कर लिया है। आरोपी युवक को आबकारी एक्ट के तहत जेल भेज दिया गया है।

26-03-2020
लॉक डाउन उल्लंघन पर पुलिस सख्त, बेवजह घूमने वालों पर बरसाए डंडे

रायपुर/बिलासपुर। कोरोना के संक्रमण से बचाव के लिए लॉक डाउन का महत्व ज्यादातर लोगों को समझ नहीं आ रहा है। लॉक डाउन के बावजूद आदेशों का उल्लंघन करने वालों पर पुलिस की सख्ती देखी जा रही है। ऐसा ही नजारा बिलासपुर के तखतपुर में देखने को मिला। सड़क पर बेवजह घूमने वालों पर एसडीओपी रश्मित कौर चावला ने डंडे भी बरसाए। एसडीओपी की सख्ती के बाद इलाके में लोगों का बाहर निकलना कम हुआ है। वहीं एक मोटरसाइकिल सवार को संदेह के आधार पर जब रोका गया तो उसकी जेब से शराब की बोतल निकली। आरोपी युवक को आबकारी एक्ट के तहत गिरफ्तार कर लिया गया। एसडीओपी रश्मित कौर चावला का कहना है कि लोगों को लॉक डाउन का महत्व समझना होगा। शासन ने आदेश जनता की सुरक्षा और सेहत को ध्यान में रखकर ही दिया है।

23-03-2020
कलेक्टर की अध्यक्षता में कोर कमेटी की हुई बैठक, अन्य राज्यों से लौट रहे कामगारों का हो रहा परीक्षण

कोंडागांव। विश्व में व्यापक स्तर पर फैल रही महामारी को ध्यान में रखते हुए जिले में कलेक्टर द्वारा कोर कमेटी का गठन किया गया है। जिसमें जिले स्तर के वरिष्ठ अधिकारी एवं कर्मचारी शामिल हैं। रविवार को इन सभी कोर कमेटी के सदस्यों की बैठक बुलाई गई। जिसमें कलेक्टर नीलकंठ टीकाम ने जिले की तैयारियों का ब्यौरा लिया साथ ही जिले में पड़ोसी राज्यों तेलंगाना, आंध्रप्रदेश, कर्नाटक में कार्य करने गए मजदूरों  के वापसी के संबंध में जानकारी ली। इस अवसर पर जिला पंचायत सीईओ डीएन कश्यप ने बताया की विभिन्न ग्राम पंचायतों के अंतर्गत कुल 175 लोगों के पड़ोसी राज्यों से वापस आने की सूचना मिली है, जिसमें से अब तक कुल 50 लोगों की जांच की गई है, जिनमें किसी में भी संक्रमण होने की बात सामने नहीं आई है तथा पंचायतों द्वारा बचे हुए सभी लोगों की जांच आगामी दिनों में पूर्ण कर ली जाएगी।

साथ ही प्रशासन द्वारा ग्रामों में मुनादी के द्वारा अन्य राज्य से आए किसी भी व्यक्ति के संबंध में सूचना प्राप्त होने की स्थिति में प्रशासन को सूचित किए जाने के लिए जागरूकता प्रसारित की जा रही है। ऐसे व्यक्तियों की सूची तैयार की गई है एवं दीवारों पर लेखन, पोस्टरं, बैनरों के माध्यम से भी लोगों में जागरूकता लाने का प्रयास किया जा रहा है। बैठक में सीईओ जिला पंचायत डी एन कश्यप, एसडीएम पवन कुमार प्रेमी, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक अनन्त साहू, मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डाॅ. एस.के. कनवर, एसडीओपी कोण्डागांव कपिल चंद्रा सहित सभी विभागीय अधिकारी मौजूद थे।

12-03-2020
बस स्टैंड में हुए उठाईगिरी का मामला सुलझा, एक आरोपी मध्यप्रदेश में पकड़ा गया, दूसरा फरार

कटघोरा। कटघोरा थाना क्षेत्र के बस स्टैंड से एक किसान के बाइक से रकम की उठाईगिरी के मामले को पुलिस ने सुलझाने में बडी सफलता पाई है। इस वारदात को अंजाम देने वाले दो आरोपी में से एक ओमप्रकाश उर्फ बच्चा को पुलिस ने एमपी के अनूपपुर जिले के भोलगढ़ से हिरासत में लिया गया है। जबकि दूसरा आरोपी अरुण सिसोदिया उर्फ लदहा फरार होने में कामयाब रहा। इस वारदात के बाद एसपी जेएस मीणा के निर्देशन व एएसपी के मार्गदर्शन में एसडीओपी कटघोरा पंकज पटेल के अगुवाई में एक विशेष टीम गठित की गई थी। लगातार पड़ताल के बाद करीब एक पखवाड़े के बाद इनकी धरपकड़ सुनिश्चित की गई। पुलिस के लिए इस वारदात को सुलझाने में जो सबसे बड़ी मददगार चीज साबित हुई वह हैं निजी दुकानों में लगी सीसीटीवी। एसडीओपी पटेल ने बताया कि लगातार फुटेज खंगालने के बाद दोनों आरोपी और उनका चेहरा सामने आ गया।

पुलिस के मुताबिक आरोपी वारदात को अंजाम देने के बाद कटघोरा से सीधे जटगा होते हुए मरवाही और लरगिनी के बाद प्रदेश की सीमापार कर मध्यप्रदेश के अनूपपुर पहुँच गए। उन्होंने लूट की रकम की लेनदेन जटगा के एक ढाबे में की थी। यहां उन्होंने किसान के पासबुक और दूसरे कागजात को वही फेंक दिया। बताया गया कि आरोपी पेशेवर अपराधी है,जिन पर पहले भी एमपी के अलग अलग जगहों पर दर्जनों मामले दर्ज है। वे कई प्रकरण में जेल की हवा भी खा चुके है। वे घूम-घूमकर वारदातों को संगठित तौर पर अंजाम देते थे। इस बार भी उन्होंने पूरी प्लानिंग के साथ कटघोरा में एक किसान को अपना शिकार बनाया था। लेकिन पुलिस की तत्परता और सूक्ष्मता से की गई पड़ताल में आरोपियों के मंसूबे धरे के धरे रह गए। एसडीओपी ने बताया कि आरोपी कटघोरा वारदात के ठीक पहले ही पहुंचे थे। कटघोरा उनके टारगेट पर था। यहाँ पहुंचते ही उन्होंने सबसे पहले बैंक का पता पूछा और फिर वह तहसील के पास मौजूद कोऑपरेटिव बैंक पहुंचे। जहां रामलाल नामक किसान पर उनकी नजर ठहर गई। वह बैंक में रकम गिन रहा था। इसके बाद वह बस स्टैंड पहुंचा और फिर बाइक को छोड़ एक दुकान चला गया। इसी दौरान मौका पाते ही दोनो ने बाइक की डिग्गी से रकम समेत दूसरे कागजात को पार कर दिया। पुलिस का दावा है कि अपराध में प्रयुक्त बाइक, पार किये गए दूसरे कागजात जब्त कर लिए गए है जबकि जल्द ही रकम की रिकवरी भी कर ली जाएगी।

 

Advertise, Call Now - +91 76111 07804