GLIBS
22-10-2020
रिलायंस इंडस्ट्रीज में एफआईआई का निवेश नई ऊंचाई पर, हिस्सेदारी 25.2 फीसदी तक बढ़ी

नई दिल्ली। विदेशी संस्थागत निवेशकों (एफआईआई) ने धनकुबेर मुकेश अंबानी की कंपनी रिलायंस इंडस्ट्रीज में अपनी हिस्सेदारी 25.2 फीसदी तक बढ़ा दी है। एफआईआई ने 30 सितंबर को समाप्त तिमाही में अपनी हिस्सेदारी बढ़ाई। कंपनी की रेगुलेटरी फाइलिंग में यह बात सामने आई है। सितंबर तिमाही में विदेशी संस्थागत निवेशकों ने रिलायंस इंडस्ट्रीज में करीब 2.73 करोड़ की शेयरों की खरीददारी की। शेयर बाजार में गुरुवार को रिलायंस इंडस्ट्रीज का शेयर 2107 रुपये पर बंद हुआ है। मार्केट प्राइज के हिसाब से यह खरीददारी लगभग 5750 करोड़ रुपये की बैठती है। रिलायंस की रेगुलेटरी फाइलिंग के मुताबिक सितंबर तिमाही के अंत तक विदेशी संस्थागत निवेशकों (एफआईआई) के पास 165.8 करोड़ शेयर थे। जो कुल शेयर होल्डिंग का 25.2 फीसदी है। जून तिमाही में 30 विदेशी संस्थागत निवेशकों के पास कुल 163.07 करोड़ शेयर ही थे।
ब्रोकरेज हाउस जेपी मॉर्गन ने रिलायंस में एफआईआई के निवेश पर एक नोट जारी कर कहा है कि रिलायंस में एफआईआई का निवेश नई ऊंचाई पर पहुंच गया है। उधर म्युचुअल फंड्स ने रिलायंस में अपनी हिस्सेदारी घटाई है। जून तिमाही में घरेलू म्यूचुअल फंडों की आरआईएल में हिस्सेदारी 5.37 फीसदी थी, जो सितंबर में घटकर 5.12 फीसदी रह गई। प्रमोटर्स ने भी अपनी हिस्सेदारी मे ईजाफा किया है। प्रमोटरों ने भी अपनी हिस्सेदारी 50.37 फीसदी से बढ़ाकर 50.49 फीसदी कर ली है।

29-09-2020
मुकेश अंबानी ने रुतबा रखा बरकरार,लगातार 9वें वर्ष बने सबसे अमीर भारतीय

नई दिल्ली। हुरुन इंडिया की सूची में मुकेश अंबानी लगातार 9वें साल सबसे अमीर भारतीय बने। उनकी निजी संपत्ति 6,58,400 करोड़ रुपये है। उनकी यह संपत्ति रिलायंस इंडस्ट्रीज में उनकी हिस्सेदारी के कारण बनी है। मुकेश अंबानी ग्लोबल रिच लिस्ट की में टॉप 5 में शामिल होने वाले एकमात्र भारतीय हैं। हुरुन इंडिया के एमडी अनस रहमान जुनैद ने कहा कि मुकेश अंबानी की संपत्ति लिस्ट में शामिल अगले पांच की कुल संपत्ति से अधिक है। मुकेश अंबानी के बाद लंदन स्थित हिंदुजा बंधुओं की कुल संयुक्त संपत्ति 1,43,700 करोड़ रुपये रही। एचसीएल के संस्थापक शिव नाडर 1,41,700 करोड़ रुपये की संपत्ति के साथ तीसरे स्थान पर रहे। 1,40,200 करोड़ रुपये की संपत्ति के साथ गौतम अडानी एंड फैमिली चौथे स्थान पर और अजीम प्रेमजी पांचवें स्थान पर हैं। हुरुन इंडिया सूची में 31 अगस्त, 2020 तक 1,000 करोड़ रुपये या उससे अधिक की संपत्ति वाले देश के सबसे अमीर व्यक्तियों का नाम है। 2020 के एडिशन में 828 भारतीय शामिल थे।

 

 

09-09-2020
रिलायंस रिटेल में 7,500 करोड़ रुपए निवेश करेगी प्रौद्योगिकी क्षेत्र की कंपनी सिल्वर लेक

मुंबई। रिलायंस रिटेल वेंचर्स लिमिटेड (आरआरवीएल) में निवेश का सिलसिला शुरु हो गया। इस क्रम में बुधवार को विश्व के प्रौद्योगिकी क्षेत्र में अग्रणी निवेशक सिल्वर लेक ने साढ़े सात हजार करोड़ रुपए निवेश का ऐलान किया। निवेश के लिये सिल्वर लेक को आरआरवीएल में 1.75 प्रतिशत इक्विटी मिलेगी।सिल्वर लेक इससे पहले जियो प्लेटफॉर्म्स में 1.35 अरब डालर अर्थात 10200 करोड़ रुपये का निवेश कर चुकी है। सिल्वर लेक दुनिया में प्रौद्योगिकी क्षेत्र के सबसे बड़े निवेशकों में शुमार है।देश के विभिन्न शहरों में फैले रिलायंस रिटेल के 12 हजार से अधिक स्टोर्स में करीब 64 करोड़ खरीदार प्रतिवर्ष आते हैं। आरआरवीएल में सिल्वर लेक सौदे पर प्रसन्नता जाहिर करते हुए आरआईएल अध्यक्ष एवं प्रबंध निदेशक मुकेश अंबानी ने कहा, “हमें खुशी है कि लाखों छोटे व्यापारियों के साथ साझेदारी करने के हमारे परिवर्तनकारी विचार से सिल्वर लेक अपने निवेश के माध्यम से जुड़ा है। भारतीय खुदरा क्षेत्र में भारतीय उपभोक्ताओं को मूल्य आधारित सेवा मिले, यही हमारा प्रयास है।

हमारा मानना है कि प्रौद्योगिकी खुदरा क्षेत्र में जरूरी बदलाव लाने में महत्वपूर्ण साबित होगी और रिटेल इको सिस्टम से जुड़े सभी घटक एक बेहतर विकास प्लेटफार्मों का निर्माण कर सकेंगे। भारतीय खुदरा क्षेत्र में हमारे विजन को आगे बढ़ाने में सिल्वर लेक महत्वपूर्ण भागीदार होगा।"निवेश पर टिप्पणी करते हुए, सिल्वर लेक के सह-मुख्य कार्यकारी अधिकारी और प्रबंध साझेदार एगॉन डरबन ने कहा, “मुकेश अंबानी और रिलायंस की टीम ने अपने प्रयासों से खुदरा और प्रौद्योगिकी क्षेत्र में लीडरशिप हासिल की है। इतने कम समय में जियोमार्ट की सफलता, विशेषकर तब जबकि भारत बाकी दुनिया के साथ कोविड-19 महामारी से जूझ रहा है, वास्तव में अभूतपूर्व है।" इससे पहले जियो प्लेटफॉर्म्स में कोरोना के इस चुनौतीपूर्ण समय में फेसबुक और गूगल समेत 13 निवेशकों ने 14 निवेश प्रस्तावों के जरिये डेढ़ लाख करोड़ रुपये से अधिक का निवेश जुटाया था।

 

19-08-2020
रिलायंस की बड़ी डील, डिजिटल फार्मा कंपनी नेटमेट्स की खरीदी बड़ी हिस्सेदारी

नई दिल्ली। मुकेश अंबानी की रिलायंस इंडस्ट्रीज लिमिटेड ने एक बड़ी डील की जानकारी दी है। इसके मुताबिक मुकेश अंबानी ने अपने रिटेल कारोबार के लिए एक बड़ा सौदा किया है। रिलायंस इंडस्ट्रीज लिमिटेड के मुताबिक उसकी सहायक रिलायंस रिटेल वेंचर्स लिमिटेड ने डिजिटल फार्मा मार्केट प्लेस नेटमेड्स के मेजॉरिटी शेयर का अधिग्रहण कर लिया है। रिलायंस इंडस्ट्रीज ने ऑनलाइन फार्मेसी कंपनी नेटमेड्स में 620 करोड़ रुपए का निवेश किया है। रिलायंस ने विटालिक हेल्थ और उसकी सब्सिडियरी कंपनियों में करीब 60 फीसदी हिस्सेदारी ली है,जिन्हें सामूहिक रूप से नेटमेड्स के रूप में जाना जाता है। रिलायंस ने सहायक कंपनियों त्रिसारा हेल्थ प्राइवेट लिमिटेड, नेटमेड्स मार्केट प्लेस लिमिटेड और दाधा फार्मा डिस्ट्रिब्यूशन प्राइवेट लिमिटेड में 100 फीसदी हिस्सेदारी खरीदी है। रिलायंस की रिटेल डायरेक्टर ईशा अंबानी ने एक बयान में कहा कि यह निवेश हमारी उस प्रतिबद्धता के अनुरूप ही है,जिसमें हमने भारत में हर व्यक्ति तक डिजिटल पहुंच की बात की है। नेटमेड्स के अधिग्रहण से अब रिलायंस रिटेल लोगों को अच्छी क्वालिटी और किफायती हेल्थ केयर प्रोडक्ट और सेवाएं मुहैया करा सकेगा। नेटमेड्स ने जिस तरह से बहुत कम समय में देशव्यापी डिजिटल फ्रेंचाइजी विकसित की है उससे हम प्रभावित हुए हैं।

 

08-08-2020
दुनिया के चौथे सबसे अमीर व्यक्ति बने मुकेश अंबानी, कुल संपत्ति हुई 6.03 लाख करोड़

मुंबई। रिलायंस इंडस्ट्रीज के चेयरमैन मुकेश अंबानी फ्रांस के बर्नार्ड अर्नाल्ट को पछाड़ कर अब दुनिया के चौथे सबसे रईस शख्स बन गए हैं। इस सूची में मुकेश अंबानी से ऊपर केवल फेसबुक के संस्थापक मार्क जुकरबर्ग, माइक्रोसॉफ्ट के बिल गेट्स और अमेजन के सीईओ जेफ बेजोस हैं। हाल ही में उद्योगपति मुकेश अंबानी के नेतृत्व वाली रिलायंस इंडस्ट्रीज 'फ्यूचरब्रांड सूचकांक 2020' में एपल के बाद दुनिया का दूसरा सबसे ब्रांड बना था। इतना ही नहीं, उनकी कंपनी रिलायंस बाजार पूंजीकरण (बाजार हैसियत) के लिहाज से देश की सबसे बड़ी कंपनी भी है। पिछले कारोबारी दिन रिलायंस का शेयर 2146 रुपये पर बंद हुआ। 27 जुलाई को इसने 2198 रुपये के उच्चतम स्तर को छुआ था।ब्लूमबर्ग बिलेनियर इंडेक्स की रियल टाइम नेटवर्थ के अनुसार, अंबानी की संपत्ति 80.6 अरब डॉलर यानी करीब 6.03 लाख करोड़ रुपये हो गई है।

इस साल उनकी संपत्ति में 22 अरब डॉलर का इजाफा हुआ है। उन्होंने जियो प्लेटफॉर्म्स में विनिवेश की प्रक्रिया शुरू की और 1.5 लाख करोड़ से ज्यादा का फंड एकत्रित किया। जियो को वैश्विक स्तर पर लगातार निवेश मिलने से इनकी संपत्ति में इजाफा हुआ है। इसके साथ ही रिलायंस इंडस्ट्रीज कर्जमुक्त भी हो चुकी है। इन कारकों की वजह से उनकी दौलत बढ़ी है।

22-07-2020
दुनिया के 5वें सबसे अमीर आदमी बने मुकेश अंबानी, अमेरिकी निवेशक वॉरेन बफेट को पछाड़ा

मुंबई। मुकेश अंबानी अब वॉरेन बफेट को पछाड़कर दुनिया के 5वें सबसे अमीर आदमी बन गए हैं। बिजनेस मैगजीन फोर्ब्स की ताजा सूची के अनुसार अरबपतियों की सूची में मुकेश अंबानी ने 75 अरब डॉलर यानी 5.57 लाख करोड़ रुपये के साथ अमेरिकी निवेशक वारेन बफेट को पीछे छोड़ दिया। इस सूची में 72.7 अरब डॉलर के साथ बफेट छठे नंबर पर पहुंच गए हैं। फोर्ब्स पत्रिका के अनुसार, मुकेश अंबानी 75 अरब डॉलर की संपत्ति के साथ धनाढ्यों की सूची में 5वें स्थान पर आ गये हैं। सूची में पहले स्थान पर 185.8 अरब डॉलर के साथ अमेजन के जेफ बेजोस हैं। वहीं बिल गेट्स (113.1 अरब डॉलर), एलवीएमएच के बर्नार्ड अर्नोल्ट एंड फैमिली (112.0 अरब डॉलर), फेसबुक के मार्क जुकरबर्ग (89 अरब डॉलर) के साथ क्रमश: दूसरे, तीसरे और चौथे स्थान पर हैं। बर्कशायर हैथवे के वॉरेन बफेट 72.7 अरब डॉलर की संपत्ति के साथ छठे स्थान पर हैं।बता दें कि रिलायंस इंडस्ट्रीज का मार्केट कैप पिछले 6 साल में 10 लाख करोड़ रुपये बढ़ा है। इसमें से 4 लाख करोड़ रुपये का इजाफा पिछले 10 महीने में हुआ है। कंपनी की पूर्ण चुकता शेयर नेशनल स्टॉक एक्सचेंज (एनएसई) में बुधवार को 2004.0 रुपये प्रति इक्विटी पर रहा और इसमें 1.65 फीसदी की तेजी आई। इससे कंपनी का मार्केट कैप 12.7 लाख करोड़ रुपये (लगभग 170.2 अरब डॉलर) हो गया।

 

22-07-2020
पांच दिन की तेजी के बाद गिरावट के साथ बंद हुआ शेयर बाजार,रिलायंस के शेयर 2000 रुपए के पार

मुंबई। सप्ताह के तीसरे कारोबारी दिन बुधवार को दिनभर के कारोबार के बाद शेयर बाजार गिरावट पर बंद हुआ। जबकि इससे पहले लगातार पांच कारोबारी दिनों से शेयर बाजार तेजी पर बंद हो रहा था। आज शेयर बाजार की शुरुआत हरे निशान पर हुई थी। सेंसेक्स 25.68 अंक यानी 0.07 फीसदी ऊपर 37956.01 के स्तर पर खुला था। वहीं निफ्टी 0.06 फीसदी यानी 7.10 अंकों की मामूली बढ़त के साथ 11169.40 के स्तर पर खुला था।वही मुकेश अंबानी के नेतृत्व वाली रिलायंस इंडस्ट्रीज का शेयर आज पहली पर 2000 रुपये के स्तर के पार चला गया। घरेलू शेयर बाजार में कमजोरी के बावजूद आरआईएल के शेयर में तेजी आई। यह 32.45 अंक (1.65 फीसदी) बढ़कर 2004 के स्तर पर बंद हुआ। मार्च माह में 867.82 रुपये के निचले स्तर से रिलायंस के शेयरों में 130 फीसदी की तेजी आई है। जबकि शुरुआती कारोबार में यह 1983 के स्तर पर खुला था और पिछले कारोबारी दिन 1971.55 के स्तर पर बंद हुआ था। बाजार पूंजीकरण की बात करें, तो इस लिहाज से यह देश की सबसे बड़ी कंपनी है। 13 लाख करोड़ रुपये के मार्केट कैप को पार करने वाली यह भारत की पहली कंपनी है। अभी कंपनी का मार्केट कैप 13.17 लाख करोड़ रुपये है।

 

15-07-2020
रिलायंस इंडस्ट्रीज की वार्षिक आमसभा में मुकेश अंबानी ने कहा, जियो और गूगल मिलकर भारत को 2जी मुक्त बनाएंगे

मुंबई। मुकेश अंबानी ने रिलायंस इंडस्ट्रीज की वार्षिक आमसभा में कहा में कहा कि अगले साल तक 5जी तकनीक लॉन्च की जा सकती है। मुकेश अंबानी ने कहा कि जियो प्लेटफॉर्म्स में 7.7 प्रतिशत हिस्सेदारी के लिए गूगल 33,737 करोड़ रुपये से अधिक का निवेश करेगी। गूगल के निवेश के साथ ही जियो प्लेटफॉर्म्स के लिए पूंजी जुटाने का काम पूरा हो गया है। जियो देश में संपूर्ण 5 जी समाधान विकसित कर रही है, 5 जी स्पेक्ट्रम उपलब्ध होते ही इसका जल्द से जल्द से परीक्षण शुरू कर दिया जाएगा। देश के सबसे अमीर व्यक्ति मुकेश अंबानी रिलायंस इंडस्ट्रीज (आरआईएल) की वार्षिक आम बैठक (एजीएम) में फेसबुक जैसी प्रौद्योगिकी क्षेत्र की दिग्गज कंपनियों के साथ भागीदारी का ‘लाभ’ उठाने से संबंधित घोषणाएं की। मुकेश अंबानी ने बताया कि गूगल और जियो साथ मिलकर एक ऑपरेटिंग सिस्टम बनाएंगे, जो एंट्री लेवल के 4G/5G स्मार्टफोन के लिए होगा।

जियो और गूगल मिलकर भारत को 2G-मुक्त बनाएंगे। अंबानी ने यह भी बताया कि सर्च इंजन कंपनी गूगल ने जियो के प्लेटफॉर्म में 33,737 करोड़ रुपये का निवेश किया है।रिलायंस इंडस्ट्रीज लिमिटेड (आरआईएल) की 43वीं वार्षिक आम बैठक को संबोधित करते हुए मुकेश अंबानी ने कहा कि जियोमीट को जारी करने के कुछ दिन के भीतर ही 50 लाख से अधिक उपयोगकर्ताओं ने डाउनलोड किया है। कंपनी की वेबसाइट के मुताबिक जियोमीट 100 भागीदारों के साथ एचडी ऑडियो और वीडियो कॉल की सुविधा देती है। इसमें स्क्रीन शेयरिंग और बैठक की समयसारिणी जैसे फीचर भी उपलब्ध हैं।

14-07-2020
दुनिया के टॉप 6 अमीरों की लिस्ट में शामिल हुए मुकेश अंबानी

मुंबई। रिलायंस इंडस्ट्रीज लिमिटेड के चेयरमैन और प्रबंध निदेशक मुकेश अंबानी अब दुनिया के छठे सबसे अमीर आदमी बन गए हैं। ब्लूमबर्ग बिलेनियर्स सूचकांक के ताजा आंकड़ों के मुताबिक, उन्होंने अब गूगल के को-फाउंडर लैरी पेज को भी पीछे छोड़ दिया है। मुकेश अंबानी की कुल संपत्ति अब 72.4 अरब डॉलर हो गई है। इससे पहले जून में मुकेश अंबानी दुनिया के टॉप 10 अमीर व्यक्तियों की सूची में शामिल हुए थे। मुकेश अंबानी पूरे एशिया महाद्वीप से इकलौते ऐसे व्यक्ति हैं, जो दुनिया के टॉप 10 अमीरों की सूची में शामिल हैं। दुनिया के सबसे अमीरों की लिस्ट में पहले स्थान पर अमेजन के सीईओ जेफ बेजोस हैं। उनकी नेटवर्थ 184 अरब डॉलर हैं। इसके बाद छह सबसे अमीर व्यक्तियों में बिल गेट्स (115 अरब डॉलर), बर्नार्ड अरनॉल्ट (94.5 अरब डॉलर), मार्क जुकरबर्ग (90.8 अरब डॉलर), स्टेले बालमर (74.6 अरब डॉलर) और मुकेश अंबानी (72.4 अरब डॉलर) हैं।

24-06-2020
मुकेश अंबानी के वेतन में 12 साल से नहीं हुई वृद्धि, जानिए कितनी है सैलरी....

मुंबई। देश के सबसे अमीर उद्यमी मुकेश अंबानी ने रिलायंस इंडस्ट्रीज में पिछले वित्त वर्ष में अपना वेतन-भत्ता व कमीशन 15 करोड़ रुपये के स्तर पर बनाए रखा। कंपनी से मिलने वाली उनकी सालाना आय लगातार 12वें साल स्थिर रही। 
उन्होंने कोविड-19 महामारी से उत्पन्न संकट को देखते हुए अपनी सैलरी नहीं बढ़ाने का निर्णय लिया है। अंबानी ने अपना वेतन, अन्य सुविाधाएं, भत्ता और कमीशन 2008-09 से 15 करोड़ रुपये पर स्थिर रखा है। उन्होंने इस तरह हर साल अपने पारितोषिक में 24 करोड़ रुपये से अधिक का त्याग किया है। कंपनी की सालाना रिपोर्ट में कहा गया है कि, 'देश में कोविड-19 महामारी और उसके सामाजिक, आर्थिक और उद्योगों पर पड़ने वाले व्यापक असर को देखते हुए कंपनी के चेययरमैन और प्रबंध निदेशक मुकेश अंबानी ने स्वेच्छा से अपना वेतन नहीं लेने का निर्णय किया है।' रिपोर्ट के अनुसार कंपनी के निदेशक मंडल ने कोविड-19 संकट के समाप्त होने तक उनके वेतन नहीं लेने को निर्णय को रेखांकित किया है। अंबानी ने अप्रैल के अंत में अपना वेतन नहीं लेने का निर्णय किया। उसी समय कंपनी ने संकट के चलते कर्मचारियों के वेतन में 10 से 50 फीसदी तक की कटौता का फैसला किया। अपना वेतन 15 करोड़ रुपये पर स्थिर रखकर उन्होंने व्यक्तिगत तौर पर प्रबंधकीय क्षतिपूर्ति स्तर को संतुलित रखने का एक उदाहरण दिया है और तब तक के लिए वेतन नहीं लेने का निर्णय किया जब तक कंपनी अपनी क्षमता अनुसार कमाई के रास्ते पर नहीं लौट आती।अंबानी के पारितोषिक में 4.36 करोड़ रुपये वेतन और भत्ते शामिल हैं। यह 2018-19 में उन्हें मिले 4.45 करोड़ रुपये से थोड़ा कम है। उनका कमीशन 9.53 करोड़ रुपये पर स्थिर है जबकि अन्य सुविधा 40 लाख रुपये से घटकर 31 लाख रुपये पर आ गयी। उनका सेवानिवृत्ति लाभ 71 लाख रुपये था। अंबानी के रिश्तेदार निखिल आर मेसवानी और हितल आर मेसवानी का पारितोषिक बढ़कर सालाना 24 करोड़ रुपये रहा, जो एक साल पहले 20.57 करोड़ रुपये सालाना था।

 

22-06-2020
आरआईएल बनी 150 अरब डॉलर का बाजार पूंजीकरण हासिल करने वाली पहली भारतीय कंपनी

नई दिल्ली। मुकेश अंबानी की कंपनी रिलायंस इंडस्ट्रीज लिमिटेड (आरआईएल) ने 150 अरब डॉलर के आंकड़े को पार किया है। बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज में सोमवार को कारोबार की शुरुआत में रिलायंस इंडस्ट्रीज का बाजार पूंजीकरण 28,248.97 करोड़ रुपए बढ़कर 11,43,667 करोड़ रुपए (150 अरब डालर) पर पहुंच गया। रिलायंस भारत की पहली कंपनी है, जिसने ये उपलब्धि हासिल की है।

सर्वोच्च स्तर पर रिलायंस का शेयर

रिलायंस इंडस्टूीज लिमिटेड सोमवार को शेयर बाजार में कारोबार की शुरुआत तेजी के साथ होने पर 150 अरब डॉलर का बाजार पूंजीकरण हासिल करने वाले पहली भारतीय कंपनी बन गई है।बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज के प्रमुख इंडेक्स सेंसेक्स में बड़ा वजन रखने वाली इस कंपनी का शेयर मूल्य शुरुआती दौर में 2.53 फीसदी बढ़कर 1,804.10 रुपए की रिकार्ड ऊंचाई पर पहुंच गया। वहीं नेशनल स्टॉक एक्सचेंज में भी यह 2.54 फीसदी बढ़कर 1,804.20 रुपए पर अब तक के सर्वोच्च स्तर पर पहुंच गया।
 
कंपनी पूरी तरह से कर्जमुक्त

आरआईएल पूरी तरह से कर्जमुक्त हो गई है। कंपनी के मार्च 2021 के अपने लक्ष्य से आगे शुद्ध ऋण-मुक्त होने की घोषणा के बाद रिलायंस के शेयर में काफी तेजी आई। 31 मार्च, 2020 को रिलायंस का ऋण 161,035 करोड़ रुपए था। इसके बाद 58 दिनों की अवधि में, रिलायंस इंडस्ट्रीज ने 168,818 करोड़ से ज्यादा जुटाया। इसमें 115,693.95 करोड़ आरआईएल की सहायक कंपनी जिओ प्लेटफॉर्म में हिस्सेदारी बिक्री के 11 सौदों के माध्यम से जुटाए गए। रिलायंस इंडस्ट्रीज के शेयरों की कीमत पहली बार 1,700 के आंकड़े को पार कर गई। कंपनी के शेयरों का भाव बीएसई पर 1788.60 रुपए के स्तर तक गया।

 

20-06-2020
मुकेश अंबानी दुनिया के टॉप टेन अमीरों में हुए शामिल

नई दिल्ली। रिलायंस इंडस्ट्रीज के चेयरमैन मुकेश अंबानी 64.6 अरब डॉलर (4926 अरब रुपये) के मालिक हो गए हैं। इसके साथ ही अब वह दुनिया के 9वें सबसे अमीर की लिस्ट में भी शामिल हो गए हैं। बिजनेस इंसाइडर की रिपोर्ट की मानें तो इस समय भारत के मुकेश अंबानी दुनिया के सबसे बड़े 10 अमीरों की लिस्ट में एकलौते एशिया के कारोबारी हैं। बता दें कि लॉक डाउन के बावजूद पिछले तीन माह में आए रिलायंस के शेयरों में तेजी की वजह से मुकेश अंबानी के नेटवर्थ 30 अरब डॉलर जो करीब 2288 अरब रुपये से अधिक बढ़ी है। बता दें कि रिलायंस इंडस्ट्रीज कंपनी ने खुद को अगले साल तक पूरी तरह कर्ज मुक्त करने के लक्ष्य को अभी ही हासिल कर लिया है। इसको लेकर कंपनी के चेयरमैन मुकेश अंबानी ने बयान जारी किया है और कहा कि 31 मार्च 2021 तक कंपनी को कर्ज मुक्त बनाने के वादे को बहुत पहले ही पूरा कर लिया है। मुकेश अंबनी ने बयान जारी करते हुए कहा, "आज मुझे ये एलान करते हुए प्रसन्नता हो रही है कि हमने शेयरहोल्डर्ड के साथ जो वादा था कि रिलायंस को 31 मार्च 2021 तक कर्जमुक्त बनाएंगे, उसे बहुत पहले ही पूरा कर लिया गया है।

 

Advertise, Call Now - +91 76111 07804