GLIBS
21-06-2020
एकात्म परिसर में हुआ योग कार्यक्रम, बीजेपी नेताओं, कार्यकर्ताओं ने किया जागरूक

रायपुर। अंतरराष्ट्रीय योग दिवस पर भारतीय जनता पार्टी प्रदेश इकाई ने रविवार को एकात्म परिसर में सुबह योग कार्यक्रम किया। भाजपा प्रदेश अध्यक्ष विष्णु देव साय के साथ संगठन महामंत्री पवन साय, बृजमोहन अग्रवाल, राजीव अग्रवाल, सचिदानंद उपासने, संजय श्रीवास्तव, छगन मूंदड़ा और अन्य वरिष्ठ नेता उपस्थित थे। साथ ही भाजपा ने अपने पदाधिकारियों और कार्यकर्ताओं से घर पर भी योग करने की अपील की थी। इस क्रम में पूर्व मुख्यमंत्री डॉ रमन सिंह, धरमलाल कौशिक, राजेश मूणत व भूपेंद्र सवन्नी ने योग किया। भाजपा कार्यकर्ता बृजेश पाण्डेय ने घर पर योग किया। भाजपा के पदाधिकारियों व कार्यकर्ताओं ने सोशल मीडिया में अपना वीडियो और फ़ोटो भी शेयर किया है। भाजपा ने सभी लोगों से जागरुकता के लिए ऐसा करने की अपील की थी।

06-06-2020
कोरोना वायरस को लेकर जनता को और अधिक जागरूक करने की अत्यधिक आवश्यकता है : प्रकाशपुंज पांडेय 

समाजसेवी और राजनीतिक विश्लेषक प्रकाशपुन्ज पाण्डेय ने मीडिया के माध्यम से प्रशासन, छत्तीसगढ़ शासन और छत्तीसगढ़ की जनता को एक संदेश देते हुए कहा है कि आज जब कोरोना वायरस के पॉजिटिव आंकड़े दो लाख से ऊपर पहुंच गए हैं तथा छत्तीसगढ़ में भी रोज़ ही ये आंकड़े तेजी से बढ़ रहे हैं तो ऐसी सूरत में जब लगभग पूरा लॉकडाउन, अनलॉक हो गया है तब जनता को और अधिक जागरूक तथा आत्मनिर्भर बनाने के लिए सरकार व प्रशासन को राजधानी रायपुर के गली मोहल्लों, चौक चौपाटी और छत्तीसगढ़ अन्य शहरों में जन जागरूकता अभियान चलाना चाहिए जिसके अंतर्गत बहुत से नए-नए कार्य किए जा सकते हैं। जैसे जगह जगह पर नुक्कड़ नाटकों के द्वारा कोरोना वायरस से बचाव और सतर्कता हेतु संदेश दिया जाए, बैनर पोस्टर होर्डिंग के जरिए संदेश दिया जाए, पुलिस प्रशासन की मदद करने के लिए जगह-जगह एनजीओ और वॉलिंटियर्स के माध्यम से कोरोनावायरस से बचाव के लिए उचित संसाधन उपलब्ध करवाकर जनता में जागरूकता फैलाने का काम करना चाहिए, साथ ही सब्जी मार्केट, किराना की दुकान, मिठाई की दुकान, व्यापारिक संस्थानों में जहां भीड़ ज्यादा तादाद में आती है, वहां पर दुकानदारों और आम जनों में भी जागरूकता अभियान चलाने की जरूरत है क्योंकि आज भी अगर प्रशासन या शासन का कोई भी व्यक्ति अगर चाहे तो सुबह सब्जी बाजार चला जाए और मैं जो कहना चाहता हूं वह वो स्वयं ही अनुभव कर सकता है। 

स्थिति यह है कि न सब्जी वालों ने मास्क पहना होता है, ना ही वहां पर जो लोग सब्जी खरीदने के लिए गए हैं, उन्होंने मास्क पहना होता है। कहीं ना कहीं यह सीधे तौर पर प्रशासन की चूक है और इस पर त्वरित प्रभाव से उचित दिशा में बिना किसी को तकलीफ़ पहुंचाते हुए कार्य करने की जरूरत है क्योंकि अनुशासन दबाव में या डरा धमका के नहीं लाया जा सकता है। यह तभी आएगा जब प्रत्येक व्यक्ति के अंतर्मन से यह आवाज़ उठे की समाज में प्रत्येक व्यक्ति की उतनी ही ज़िम्मेदारी बनती है, जितनी प्रशासन और सरकार की।

01-06-2020
हिंसा और अपराध के ग्राफ में हो रही वृद्धि को लेकर जागरूक और संवेदनशील होने की जरूरत : अनिला भेड़िया

रायपुर। महिला एवं बाल विकास मंत्री अनिला भेंड़िया ने एक जून विश्व बाल सुरक्षा दिवस के अवसर पर बच्चों के स्वस्थ और सुखी जीवन की कामना की। मंत्री भेंड़िया ने कहा है कि बच्चों से संबंधित बढ़ते हिंसा और आपराधिक मामलों को देखते हुए हमें उनके प्रति और अधिक जागरूक और संवेदनशील होने की जरूरत है। वर्तमान समय में हम सबकी जिम्मेदारी है कि बच्चों से संबंधित किसी भी तरह के शोषण को रोकने के लिए मामलो को सामने लाए। हमें बच्चों के मानसिक और मनोवैज्ञानिक पहलुओं को जानने और समझने की भी जरूरत है। आज हमारी सतर्कता और व्यवहार ही भावी पीढ़ी का भविष्य है।

 

01-06-2020
इंस्टैंनट मैसेजिंग ऍप ईएमओ बना रही है कोविड-19 महामारी के दौर में लोगों को जागरूक

नई दिल्ली। मुफ्त वीडियो कॉलिंग एवं इंस्टैंंट मैसेजिंग ऍप ईएमओ ने कोविड-19 के महामारी के बारे में फैली भ्रामक सूचनाओं को दूर करने तथा इस पूरे विषय में लोगों को अधिक जागरूक बनाने के मकसद से कई कदम उठाए हैं। ईएमओ ने वैश्विक स्तर पर इन प्रयासों को अंजाम दिया है। ऍप अपने विस्तृहत डैशबोर्ड के जरिए सत्यापित सूचनाओं को शेयर करती है और भारत के अलावा सऊदी अरब तथा बांग्ला देश जैसे देशों में करीब 20 मिलियन लोगों को यह ऍप लगातार जागरूक बना रही है।

कोविड-19 महामारी शुरू होते ही ऍप ने अपनी सीएसआर पहल के तहत् अपने यूज़र्स के लिए इस संकटकाल को कुछ आसान बनाने की शुरुआत की थी। ऍप ने महामारी से प्रभावित देशों के रियल टाइम डेटा को एकत्र कर इसे डैशबोर्ड के जरिए प्रचारित किया। इसके अलावा, ऍप ने इस रोग से बचाव और इस पर नियंत्रण, इस संबंध में सरकारी घोषणाओं, सत्यापित रिपोर्टों तथा अन्य उपयोगी कन्टेंट को भी प्रचारित करना शुरू किया। ऍप की लगातार यही कोशिश रही कि महामारी के विषय में आमजन के बीच फैल रही भ्रामक बातों तथा सोशल मीडिया प्लेटफार्मों के जरिए प्रचारित हो रही अपुष्ट सूचनाओं को दूर किया जाए।

महामारी से संबंधित कन्टेंमट का औसत दैनिक एक्सचपोज़र 10 मिलियन से भी अधिक पाया गया। ऍप द्वारा बड़े पैमाने पर ग्लो्बल स्तपर पर सही जानकारी पहुंचाने और गलतफहमियों को दूर करने की गतिविधियों के मद्देनज़र कुछ सरकारी एजेंसियों ने भी इसके द्वारा किए जा रहे प्रयासों पर ध्यान दिया। बांग्ला देश सरकार की इंफॉरमेशन कम्युनिकेशन टैक्नोलॉजी (आईसीटी) डिवीज़न ने 29 अप्रैल को ईएमओ पर एक हैल्थ केयर कॉल सेंटर शुरू किया ताकि सऊदी अरब में फंसे बांग्ला देशी नागरिकों तक चिकित्सा सहायता पहुंचायी जा सके। इस प्रोग्राम में ईएमओ के पांच नंबरों को भी जोड़ा गया,जिसके जरिए बांग्ला देशी प्रवासी निर्धारित डॉक्टरों के साथ सलाह-मश्विरा कर सकते थे।

ऍप की ग्लोबल स्तर पर लोकप्रियता के बारे में ईएमओ प्रवक्ता‍ ने कहा,'अधिक लोगों द्वारा ईएमओ के इस्तेमाल की एक बड़ी वजह है अस्थिर या कमजोर नेटवर्क वाले क्षेत्रों में भी स्थिर कॉल्स की सुविधा उपलब्ध कराने की इसकी क्षमता। मार्केट में मौजूद अन्य् आईएम एप्लीकेशनों के मुकाबले, यूज़र्स ईएमओ की मदद से वीडियो कॉल्स तथा मैसेजिंग करने पर 20 प्रतिशत से अधिक मोबाइल डेटा की बचत कर सकते हैं। हमें खुशी है कि हमारी टैक आधारित इनोवेशंस से आम जनता को मदद मिल रही है।'उपर्युक्त इनीशिएटिव्सल के अलावा, ऍप ने अपने फंक्शन में कई अन्य प्रमुख बदलाव भी किए हैं ताकि पर्सनल और प्रोफेशनल प्रयोग के मद्देनज़र पूरी प्रक्रिया को आसान बनाया जा सके। कोविड-19 के हालातों को देखते हुए, ऍप ने अपने मल्टीपर्सन ऑडियो तथा वीडियो कॉल प्रणालियों को भी अपग्रेड किया है। ऍप पर एक बार में अधिकतम 20 लोग ऑडियो कॉल पर तथा 9 लोग वीडियो कॉल पर कनेक्ट हो सकते हैं। इस प्रकार, ईएमओ वर्क-फ्रॉम-होम परिस्थितियों में ऑफिस मीटिंग्स आयोजित करने के लिए खासतौर से उपयोगी साबित होगी। साथ ही, यह उन लोगों के लिए भी फायदेमंद है, जो इस कठिन समय में अपने प्रियजनों के संपर्क में आना चाहते हैं।
 

ईएमओ के बारे में
ईएमओ ग्लोबल इंस्टैंट कम्युनिकेशन प्लेमटफार्म है,जो ऑडियो एवं वीडियो कम्यु्निकेशन सर्विस, इंस्टैंमट मैसेजिंग तथा पब्लिक सर्विस फंक्शन मुहैया कराती है। इस ऍप की मदद से यूज़र्स अपने परिवारों तथ मित्रों के संपर्क में बने रह सकते हैं और कहीं भी तथा कभी भी उनके साथ अपने जीवन के खास अवसरों को शेयर कर सकते हैं। इसी तरह, यूज़र्स को वैश्विक स्तार पर खबरें, जानकारियों और ऍप के जरिए उपलब्धी करायी जा रही अन्यव कमर्शियल सेवाएं भी उपलब्धे होंगी। ग्लोरबल स्तजर पर अग्रणी सोशल प्लेटफार्म के तौर पर, ईएमओ ने 200 मिलियन से अधिक यूज़र्स को अपने परिजनों और मित्रों के साथ सार्थक संपर्क बनाए रखने में मदद दी है।

30-05-2020
विश्व धूम्रपान निषेध दिवस पर जानलेवा तम्बाखू से दूर रखने लोगो को जागरूक करेगा स्वास्थ्य विभाग

रायपुर। जिस नशा को शान और लत के लिए लोग इस्तेमाल करते हैं,कब लोगों के लिए जिंदगी भर की सजा बन जाए, लोग अंदाजा भी नहीं लगा सकते। तंबाकू और धूम्रपान के दुष्परिणामों को देखते हुए 31 मई को अंतर्राष्ट्रीय धूम्रपान निषेध दिवस के रूप में मनाया जाता है। हर साल तरह  इस वर्ष भी 31 मई को अंतर्राष्ट्रीय धूम्रपान निषेध दिवस पर प्रदेश में धूम्रपान से होने वाले दुष्परिणामों के प्रति समाज में जन चेतना विकसित करने का प्रयास किया जाएगा। संचालक समाज कल्याण ने सभी जिला कलेक्टरों को पत्र लिखकर अंतर्राष्ट्रीय धूम्रपान निषेध दिवस के अवसर पर धूम्रपान की रोकथाम के बारे में व्यापक प्रचार और जन जागृति के प्रयास करने के निर्देश दिए हैं। इस दौरान कोरोना संक्रमण की रोकथाम और इसके बचाव के लिए भारत सरकार एवं छत्तीसगढ़ शासन के स्वास्थ्य विभाग से जारी दिशा-निर्देशों का पालन सुनिश्चित करने को कहा गया है। जन जागरूकता के उद्देश्य से 31 मई अंतर्राष्ट्रीय धूम्रपान निषेध दिवस के मौके पर जन समुदाय को तम्बाखू के सेवन से होने वाले दुष्प्रभाव के बारे जानकारी देने के साथ नशा मुक्ति पर आधारित साहित्य का वितरण भी करने कहा गया है।

14-05-2020
गर्ल्स बटालियन एनसीसी कोविड वारियर्स के रूप में लोगों को कर रही जागरूक

रायपुर/जगदलपुर। कोरोना के संक्रमण से बचाव के लिए कोविड वारियर्स लगातार लोगों को जागरूक कर रहे हैं। ऐसे ही छत्तीसगढ़ गर्ल्स बटालियन एनसीसी परचनपाल की 10 कैंडेट, 2 एएनओ ले. हेमपुष्पलता ध्रुव और ले. हीरा साहू और 9 छत्तीसगढ़ स्व कम्पनी एनसीसी जगदलपुर के 6 कैडेट व 10 छत्तीसगढ़ स्व कम्पनी जगदलपुर के एएनओ ले. डीपी सिंह की ओर से तहसील कार्यालय जगदलपुर में कोविड वारियर्स के रूप में कोरोना वायरस के बचाव संबंधित विषयों पर लोगों को सामाजिक दूरी बनाये रहने की अपील की गई। एनएसीसी कैडेटों के जनजागरूकता कार्यक्रम को तहसील कार्यालय के अधिकारियों ने प्रशंसा की। इस अवसर पर 1 छत्तीसगढ़ गर्ल्स बटालियन एनसीसी के सूबेदार मेजर संतोष कुमार सीनियर जेसीओ और एनसीओ उपस्थित थे।

07-05-2020
दुर्ग पुलिस ने शुरू किया चलते-चलते अभियान

दुर्ग। दुर्ग पुलिस ने आज मानवता की मिसाल पेश की। एक गरीब सब्जी वाली को पैसे देकर उसकी मदद करने के साथ ही उसे मास्क देकर लगाने की हिदायत भी दी। दुर्ग पुलिस द्वारा आज चलते-चलते आपके द्वार तक अभियान की शुरुआत की गई। थाना दुर्ग से इस अभियान की शुरुआत कर जिला दुर्ग के वरिष्ठ अधिकारी, जिसमें अंकित आनंद जिलाधीश दुर्ग, अजय कुमार यादव वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक शहर ग्रामीण एवं आईयूसीएडब्ल्यू एवं 8 डीएसपी 10 टीआई और 100 से अधिक जवानों ने अभियान को सफल बनाया। दुर्ग शहर की तंग गलियों में जहां अधिकतम भीड़-भाड़ रहती हो वहां पुलिस पहुंच कर नागरिकों को मास्क एवं सोशल डिस्टेंसिंग के प्रति जागरूक किया गया। चलते-चलते अभियान के पैदल मार्च के बीच में ही एक गरीब महिला,जो सड़क पर भाजी बेच रही थी। रैली को रोककर कलेक्टर दुर्ग एवं वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक दुर्ग ने गरीब महिला जब पूछा कि तुम अभी तक घर क्यों नहीं गई हो। महिला ने बताया कि अभी तक उसकी सामान नहीं बिका है, क्या खाऊंगी। इस पर कलेक्टर एवं वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक ने सारा सामान खरीदा और गरीब महिला को रुपए देकर कहा कि आप यह रुपए और सामान दोनों अपने घर ले जाइए और एक मास्क भी देकर उन्हें मास्क लगाने की हिदायत दी।

02-05-2020
कोरोना संक्रमण से बचाओ के लिए एनसीसी कैडिट्स संभालेंगे मोर्चा

रायपुर/जगदलपुर। कोरोना रोकथाम और लोगों को जागरूक करने अब एनसीसी कैडिट्स मोर्चा संभालेंगे। मैदानी स्तर पर सेवा देने से पहले इन एनसीसी कैडिट्स की मेडिकल जांच कराई गई। बस्तर ब्लाक मुख्यालय में 1 सीजी गर्ल्स बटालियन एनसीसी और 9 सीजी इंडिपेंडेंट कम्पनी जगदलपुर की ओर से 4 मई को जगदलपुर शहर में कोरोना संक्रमण के रोकथाम के लिए लोगों को जागरूक करेंगें। सीजी गर्ल्स परचनपाल बटालियन के ऑफिसर मेजर अनुजा चतुर्वेदी और सूबेदार मेजर संतोष कुमार वर्मा ने बताया की सीजी गर्ल्स बटालियन एनसीसी परचनपाल और 9 सीजीइंडिपेंडेंट कंपनी जगदलपुर के कैडिट्स ने कोरोना से लड़ने की प्रतिज्ञा ली है। लगातार कैडिट्स एक्सरसाइज में भाग ले रहें है, ये कैडिट्स ट्रेनिंग लेने के बाद सिविल प्रशासन की मदद करेंगे और कोरोना के बारे में लोगों को जागरूक करेंगे। कैडिट्स को फिल्ड में जाने से पहले उनका मेडिकल चेकअप करवाया गया, जो बस्तर बीएमओ की देखरेख में हुआ। इसके अलावा इन्हे भौगोलिक रूप से भी क्षेत्रों के बारे में जानकारी दी जा रही। 4 मई को शहर के विभिन्न इलाकों में कैडिट्स लोगों को कोरोना से बचाव व रोकथाम संबंधी जानकारी देंगे।

28-04-2020
Video : लोक गायिका बबिता ने गीत के माध्यम से लोगों को कोरोना वायरस के प्रति किया जागरूक

अंबिकापुर। पूरे देश में कोरोना वायरस से बचाव के लिए अनेको प्रयास किए जा रहे हैं। कोरोना से बचने के लिए सरकार ने कमर कस ली है। वहीं कोरोना से निपटने के लिए छत्तीसगढ़ में सरकार के साथ स्वयंसेवी संगठन और आम लोग भी अपना अपना योगदान दे रहे हैं। ऐसे में अंबिकापुर की लोक गायिका बबीता विश्वास ने भी लोगों को जागरूक करने के लिए गीत गाया है। बबीता ने बताया कि इस गाने का उद्देश्य लोगों को कोरोना महामारी के संक्रमण से बचाव के लिए जागरूक करना है। साथ ही इसमें वायरस से बचाव के लिए विभिन्न सुरक्षा उपायों के बारे में भी जिक्र किया गया है।

यह गीत बबीता विश्वास ने छत्तीसगढ़ के प्रसिद्ध गायन शैली पंडवानी भरथरी पद्धति में गाया है। इस गीत में उन्होंने दिन रात एक कर इस खतरनाक वायरस से बचाव में लगे हमारे डॉक्टर, स्वास्थ्य कर्मी, पुलिसकर्मी, मीडियाकर्मी, सफाई कर्मचारी के लिए भी संदेश दिया है। कोरोना का यह गाना बबिता ने खुद ही लिखा है और गाने के धुन बबिता के पति ने दी है। बबिता घरेलू महिला होने के साथ गायन में भी रुचि रखती है, और घर के लोग भी बबिता का पूरा समर्थन करते हैं।

21-04-2020
ड्यूटी के बाद भी अपनी पेंटिंग से लोगों को जागरूक कर रहे अशोक

कांकेर। वैश्विक महामारी कोविड- 19 के इस संक्रमण काल चक्र में स्वास्थ्य विभाग प्रथम पंक्ति पर खड़ा है। विदेशों व देश के कई राज्यों से चिकित्सकों एवं स्वास्थ्य कर्मियों के संक्रमित होने की खबरें आ रहीं हैं। कुछ मामलों में तो उन्होंने अपने प्राणों की बलि भी दे दी है, पीड़ित मानवता की रक्षा के लिए। ऐसे ही एक कर्मवीर अशोक कुमार नाग कांकेर शहर के उप स्वास्थ्य केंद्र कंकालीनपारा में, स्वास्थ्य विभाग में बतौर स्वास्थ्य संयोजक के रूप में सेवारत हैं, जिनका गृह ग्राम सरोना है। स्कूल के दिनों में सीखे पेंटिंग का बखूबी इस्तेमाल कर लोगों को जागरूक करने में लगे हैं। ड्यूटी के बाद बचे समय एवं छुट्टी के दिन भी वाल पेंटिंग से लोगों को कोरोना के बारे में जानकारी दें रहे। किसी प्रोफेशनल पेंटर की तरह उनकी वाल राइटिंग दीवारों को भी बोलना सिखा रही है। गंदी नालियों की बदबू, 35 से 40 डिग्री की गर्मी, चिलचिलाती धूप भी उनके हौसले को परास्त करने में नाकाम होते हैं।

हाल ही उन्होंने एक पेंटिंग बनाई है,जिसमें मैदानी क्षेत्रों में तैनात नर्स (ग्रामीण स्वास्थ्य संयोजक) को अष्टभुजा दुर्गा की तरह दिखाया है। जो अपने सभी हाथों में ग्लब्स, चेहरे पर मास्क पहने, गले में स्टेथोस्कोप लगाये हुए हैं। आठों हाथ में क्रमशः सेनिटाइजर, झाड़ू (स्वच्छता का प्रतीक), घर में रहने, सोशल डिस्टेंस का पालन करने के प्रतीक के साथ है पुलिस, मीडिया के सहयोग से शेर की तरह जाबांजी का प्रर्दशन करते हुए कोरोना का संसार करते हुए चित्रित किया है। नारी शक्ति के इस शौर्य का प्रर्दशन पर उनका कहना है कि छत्तीसगढ़ की स्वास्थ्य संयोजिका बहनें आज कोरोना वायरस के विरुद्ध जंग में अन्तर्विभागीय समन्वय स्थापित कर "संघ शक्ति कलयुगे" की भावना को चरितार्थ कर रहे हैं।

20-04-2020
कोरोना के संक्रमण से बचने रेडक्रास की टीम बाजारों में जाकर लोगों को कर रहे जागरूक

कांकेर। कोविड महामारी के संक्रमण से बचने के लिए ग्रामीण क्षेत्रों में लोगों ने गांव को सुरक्षित रखने के लिए आने-जाने के मार्गों को बंद कर रखा है, लेकिन ग्रामीण क्षेत्रों में लगने वाले हाट बाजारों में सोशल डिस्टेंस के प्रति जागरूकता में कमी दिखाई पड़ती है। जिला संगठक पवन सेन ने कहा कि कलेक्टर एवं अध्यक्ष केएल चौहान, सचिव डॉ. जेएल उइके, जिला शिक्षा अधिकारी एवं अध्यक्ष राकेश पांडे जूनियर रेडक्रास के दिशा निर्देशानुसार ग्रामीण हाट बाजारों में सोशल डिस्पेंसिंग शारीरिक दूरी को कम से कम 1 मीटर बनाए रखने एवं कोरोना वायरस के संक्रमण के लक्षण, उपाय एवं सावधानी को ग्रामीण जनों तक पहुंचाने के लिए इंडियन रेडक्रास सोसायटी जिला शाखा ने ग्राम लखनपुरी के साप्ताहिक बाजार में जागरूकता अभियान छेड़ा। राज्य शासन द्वारा मास्क को अनिवार्य करने के उपरांत भी लोग स्वयंमेव उसका पूर्णता पालन नहीं करते पाये गये।

ऐसे में रेडक्रास वालिंटियर्स ने बाजार में आए हुए ग्रामीणों को मास्क के रूप में गमछा, रुमाल, दुपट्टा आदि लगाकर रहने की हिदायत दी। हाट बाजारो में पसरा एवं दुकानों को बहुत ही नजदीक-नजदीक लगाकर समान का विक्रय किया जाता है। ऐसे में सोशल डिस्टेंसिंग बनाए रखने रेडक्रास वालिंटियर्स ने पसरा वालों एवं दुकानदारों को दूरी बनाकर समान बेचने को कहा। हाथों को भी 20 सेकंड तक धोने की समझाइश दी। बाजार एवं भीड़भाड़ वाले इलाकों में सपरिवार या एक से अधिक लोगों के घर से बाहर ना जाने हेतु कहा गया। विभिन्न जागरूकता गीत-गानों के माध्यम से भी लोगों को जागरूक किया जा रहा है। भानुप्रतापदेव स्नातकोत्तर महाविद्यालय के यूथ रेडक्रास वालिंटियर्स द्वारा भी ग्रामीण क्षेत्रों में पहुंच बनाकर लगातार ग्रामीणों को जागरूक किया जा रहा है। लखनपुरी साप्ताहिक बाजार में रेडक्रास वालिंटियर्स पवन सेन जिला संगठक, अनुपम जोफर, मोहन सेनापति, ओमप्रकाश सेन, राहुल साहू, उत्तम मिश्रा, केवी राव, प्रवीण गुप्ता, पीपी सोनेल ने भागीदारी कर जागरूक किया।

Advertise, Call Now - +91 76111 07804