GLIBS
20-08-2019
चंद्रयान-2 चंद्रमा की कक्षा में स्थापित, अंतरिक्ष में भारत की एक और बड़ी उपलब्धि

नई दिल्ली। चंद्रयान-2 मंगलवार सुबह चंद्रमा की कक्षा में स्थापित हो गया और इसके साथ ही भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन (इसरो) के नाम एक और बड़ी उपलब्धि हो गई। चंद्रयान-2 आंध्र प्रदेश के श्रीहरिकोटा स्थित प्रक्षेपण केंद्र से 22 जुलाई को प्रक्षेपित किया गया था। इसरो वैज्ञानिकों ने सुबह 8.30 से 9.30 बजे के बीच चंद्रयान-2 को चांद की कक्षा LBN#1 में प्रवेश कराया। अब चंद्रयान-2, 118 किमी की एपोजी (चांद से कम दूरी) और 18078 किमी की पेरीजी (चांद से ज्यादा दूरी) वाली अंडाकार कक्षा में अगले 24 घंटे तक चक्कर लगाएगा। इस दौरान चंद्रयान की गति को 10.98 किमी प्रति सेकंड से घटाकर करीब 1.98 किमी प्रति सेकंड किया गया।  20 अगस्त यानी मंगलवार को चांद की कक्षा में चंद्रयान-2 का प्रवेश कराना इसरो वैज्ञानिकों के लिए बेहद चुनौतीपूर्ण था। लेकिन, हमारे वैज्ञानिकों ने इसे बेहद कुशलता और सटीकता के साथ पूरा किया। 7 सितंबर को चंद्रयान-2 चांद के दक्षिणी ध्रुव पर लैंड करेगा। चंद्रयान-2 को 22 जुलाई को श्रीहरिकोटा प्रक्षेपण केंद्र से रॉकेट बाहुबली के जरिए प्र‍क्षेपित किया गया था।

18-08-2019
यूनेस्को की संभावित धरोहरों की सूची में भारत के 42 धरोहर स्थल

नई दिल्ली। भारत के 42 धरोहर स्थल काफी लंबे समय से यूनेस्को की  धरोहर सूची में शामिल किए जाने का इंतजार कर रहे हैं। इस प्रक्रिया में तेजी लाने के लिए अब सरकार यूनेस्को के मापदंडों सहित इन धरोहरों का तुलनात्मक अध्ययन करायेगी ताकि इन्हें जल्द वैश्विक सूची में शामिल करने का मार्ग प्रशस्त हो सके। इन धरोहर स्थलों को यूनेस्को की संभावित धरोहरों की सूची में तो शामिल किया गया है लेकिन पूर्ण रूप से वैश्विक धरोहर के रूप में मान्यता अभी तक नहीं मिली है। संयुक्त राष्ट्र शैक्षिक, वैज्ञानिक और सांस्कृतिक संगठन, यूनेस्को के भारत में संभावित धरोहरों की सूची में पश्चिम बंगाल का विष्णुपुर मंदिर, केरल के कोच्चि स्थित मात्तानचेरी पैलेस, मध्यप्रदेश के मांडू स्थित ग्रुप ऑफ मॉन्यूमेंट और उत्तर प्रदेश के वाराणसी के सारनाथ स्थित प्रचीन बौद्ध स्थल साल 1998 से यूनेस्को की संभावित विश्व धरोहर सूची में शामिल हैं हालांकि अब तक पूर्ण रूप से विश्व धरोहर की मान्यता नहीं मिली है। यूनेस्को के विश्व धरोहर की संभावित सूची के बारे में पूछे जाने पर संस्कृति एवं पर्यटन मंत्री प्रह्लाद पटेल ने कहा कि यह सही है कि यूनेस्को की संभावित या अस्थायी धरोहरों की सूची में करीब 50 धरोहर हैं। ये यूनेस्को के मानदंडों को पूरा करते हैं। हमने भारतीय पुरातत्व सर्वेक्षण एएसआई से कहा है कि इन मानदंडों के तहत इन स्थलों का तुलनात्मक अध्ययन करें। यूनेस्को के संभावित धरोहरों की सूची में भारतीय धरोहरों में पंजाब के अमृतसर स्थित हरमंदिर साहिब और असम में ब्रह्मपुत्र नदी की मुख्यधारा से लगे माजुली द्वीप साल 2004 से ही शामिल है। वहीं नामदाफा राष्ट्रीय उद्यान और लिटिल रन आफ  कच्छ का वाइल्ड एस सैंचुरी साल 2006 से संभावित सूची में तथा नेउरा वैली नेशनल पार्क और डेजर्ट नेशनल पार्क साल 2009 से यूनेस्को की संभावित सूची में शामिल है। सिल्क रोड साइट्स इन इंडिया, शांति निकेतन, चारमिनार, कुतुबशाही मकबरा, गोलकोंडा किला तथा कश्मीर का मुगल गार्डन 2010 से यूनेस्को की संभावित धरोहरों में शामिल है। दिल्ली हेरिटेज सिटी साल 2012 से संभावित विश्व धरोहर में शामिल है। 

17-08-2019
भूटान के विकास में सहयोग करता रहेगा भारत: मोदी

थिम्पू। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने भूटान में विकास कार्यक्रमों में महत्वपूर्ण योगदान की प्रतिबद्धता व्यक्त करते हुए आज कहा कि भारत वहां की पंचवर्षीय योजनाओं में निरंतर सहयोग करता रहेगा। भूटान की दो दिन की यात्रा पर आज यहां पहुंचे मोदी ने भूटान के प्रधानमंत्री लोतेय शेरिंग के साथ शिष्टमंडल स्तर की वार्ता की। दोनों पक्षों ने विभिन्न क्षेत्रों में भागीदारी और सहयोग बढ़ाने के विभिन्न करारों पर विस्तार से चर्चा की। इसके बाद दोनों प्रधानमंत्रियों की मौजूदगी में विज्ञान, प्रौद्योगिकी, इंजीनियरिंग, गणित और न्यायिक क्षेत्रों में सहयोग के करारों पर हस्ताक्षर किये गये। उन्होंने शेरिंग के साथ मिलकर 7200 मेगावाट की मेंगदेछू पनबिजली परियोजना का भी उद्घाटन किया। दोनों नेताओं ने भारत के नेशनल नोलिज नेटवर्क और भूटान के ड्रक रिसर्च और एज्युकेशन नेटवर्क के बीच संपर्क कार्यक्रम का भी उद्घाटन किया। मोदी ने भारत के रूपे कार्ड को भी लांच किया। सिंगापुर के बाद भूटान दूसरा देश है जहां रूपे कार्ड लांच किया गया है। बाद में शेरिंग के साथ संयुक्त रूप से मीडिया को संबोधित करते हुए मोदी ने कहा कि 130 करोड़ भारतीयों के दिलों में भूटान एक विशेष स्थान रखता है। उन्होंने कहा, यह भारत का सौभाग्य है कि हम भूटान के विकास में प्रमुख भागीदार हैं। भूटान की पंचवर्षीय योजनाओं में भारत का सहयोग आपकी इच्छाओं और प्राथमिकताओं के आधार पर आगे भी जारी रहेगा।

16-08-2019
अब भारत ने भी जोधपुर से रद्द की थार एक्सप्रेस

नई दिल्ली। भारत ने भी अब जोधपुर से मुनाबाव के बीच चलने वाली साप्ताहिक थार लिंक एक्सप्रेस को रद्द कर दिया है। जम्मू कश्मीर का विशेष दर्जा वापस ले लेने और राज्य को दो केंद्र शासित प्रदेशों में विभाजित करने के सरकार के फैसले के बाद पाकिस्तान ने समझौता एक्सप्रेस और थार एक्सप्रेस ट्रेन का परिचालन बंद कर दिया था। थार एक्सप्रेस 18 फरवरी 2006 से जोधपुर के भगत की कोठी स्टेशन से कराची के बीच हर शुक्रवार रात को चलती थी। उससे पहले यह सेवा 41 वर्षों तक स्थगित रही थी। पाकिस्तान ने अनुच्छेद 370 के तहत जम्मू कश्मीर के विशेष दर्जें को हटाने के भारत के फैसले के बाद द्विपक्षीय संबंधों का दर्जा कम करने का निर्णय लिया था। इसके बाद उसने थार एक्सप्रेस और समझौता एक्सप्रेस ट्रेन सेवा को रद्द करने की घोषणा की थी। इस्लामाबाद में रेल मंत्री ने कहा था कि जब तक मैं रेल मंत्री हूं, थार और समझौता एक्सप्रेस की सेवाएं रद्द रहेंगी।

 

13-08-2019
भारत - वेस्टइंडीज वन डे सीरीज: 14 अगस्त को रोहित शर्मा के पास होगा रिकार्ड बनाने का अवसर 

नई दिल्ली। भारत और वेस्टइंडीज के बीच तीन मैचों की वनडे शृंखला का तीसरा और निर्णायक मुकाबला 14 अगस्त बुधवार को पोर्ट ऑफ स्पेन में खेला जाएगा। इस मुकाबले में भारतीय सलामी बल्लेबाज रोहित शर्मा के पास एक उपलब्धि हासिल करने का मौका होगा। अगर इस मैच में रोहित शर्मा शतकीय पारी खेल देते है तो वह वन डे में श्रीलंका के पूर्व दिग्गज बल्लेबाज सनथ जयसूर्या के रिकॉर्ड की बराबरी कर लेंगे। सनथ जयसूर्या के एक दिवसीय क्रिकेट में 28 शतक है। जबकि रोहित शर्मा के नाम 27 शतक दर्ज हो चुके हैं। एक शतक बनाते हुए रोहित शर्मा दक्षिण अफ्रीका के पूर्व क्रिकेटर हाशिम अमला को पीछे छोड़ देंगे। हाशिम अमला के भी वनडे में 25 शतक है। हाल ही में हाशिम अमला ने इंटरनेशनल क्रिकेट से संन्यास लिया था। एक दिवसीय क्रिकेट में सबसे ज्यादा शतक लगाने का रिकॉर्ड भारत के पूर्व महान बल्लेबाज सचिन तेंदुलकर के नाम दर्ज है। उन्होंने वनडे में 49 शतक लगाए हैं। 42 शतकों के साथ इस मामले में दूसरे स्थान पर भारतीय कप्तान विराट कोहली है। 

 

12-08-2019
पं. नेहरू अंग्रेजों के अपराधी थे, भारत की जनता के नहीं : कांग्रेस

रायपुर। कश्मीर मामले में भाजपा नेताओं द्वारा लगातार स्तरहीन, गैरजिम्मेदाराना एवं अवसरवादी बयानबाजी पर कांग्रेस ने तीखी प्रतिक्रिया व्यक्त की है। प्रदेश कांग्रेस के महामंत्री एवं संचार विभाग के अध्यक्ष शैलेश नितिन त्रिवेदी ने कहा है कि कश्मीर के मामले में आज देश हित को सर्वोपरि रखते हुये संजीदा एवं जिम्मेदार राजनीति की आवश्यकता है। पं. नेहरू जैसे आजादी की लड़ाई के नेता को गलतियां निकालने वाले पहले अपने गरेबां में झांक कर तो देखे। 370 लागू करने के संविधान के मसौदे पर स्वयं जनसंघ के संस्थापक श्यामा प्रसाद मुखर्जी ने हस्ताक्षर किये थे। अपनी गलतियों के लिये पं. नेहरू को दोषी ठहराना भाजपा की देश के साथ प्रवचना है, धोखाधड़ी है। आज यदि कश्मीर भारत का हिस्सा है तो पं. नेहरू के ही कारण है। शिवराज सिंह चौहान द्वारा की गई टिप्पणी पर कड़ी निंदा करते हुये शैलेश नितिन त्रिवेदी ने कहा कि जो जिस मानसिकता का होता है उसे वैसी ही मानसिकता नजर आती है। पं. नेहरू ने अंग्रेजों की जेलों में 10 साल काटे, निश्चित रूप से पं. नेहरू अपराधी थे लेकिन वे भारत की जनता के नहीं अंग्रेजी साम्राज्य के अपराधी थे। पं. नेहरू तो भारत के हीरो थे। शिवराज सिंह चौहान की टिप्पणी बेहद आपत्तिजनक है। पं. नेहरू को अपराधी कहने वाले शिवराज सिंह चौहान  बताएं कि वे अपने भाजपा के नेता पूर्व राष्ट्रीय अध्यक्ष अमितशाह के बारे में क्या सोचते हैं? ये शिवराज सिंह चौहान को देश को बताना चाहिए।

पं. नेहरू की गलती मोदी-शाह द्वारा सुधारने की शिवराज सिंह चौहान की बयानबाजी पर पलटवार करते हुए शैलेश नितिन त्रिवेदी ने पूछा है कि शिवराज बताएं कि देश की आजादी की लड़ाई में भाग न लेने की आरएसएस की भूल कौन सुधारेगा और कैसे सुधरेगा?  त्रिवेदी ने कहा है कि पं. नेहरू चाहते तो शाही जिंदगी व्यतीत कर सकते थे लेकिन देश की आजादी की खातिर अपनी जवानी के लंबे दस साल अंग्रेजी हूकूमत की जेलों में बिताए। पं. नेहरू इतने विद्वान थे कि जेल के दौरान अपनी बेटी को लिखे उनके पत्र तक विश्व साहित्य की धरोहर हो गए। पं. नेहरू वह शख्स थे जिन्हें इस देश की जनता ने तीन-तीन बार अपना भाग्य निर्माता चुना था। गुट निरपेक्षता और शांति के लिये पं. नेहरू की विश्व नेता की भूमिका रही है जिसे इतिहास स्वीकारता है।

नदी पार करने और जंगल में तफरीह करने के मोदी के कार्यक्रम बेयर ग्रिल्स के मेन वर्सेस वाइल्ड  के आज रात 9 बजे प्रसारित होने वाले मेगा शो पर  शैलेश नितिन त्रिवेदी ने कहा है कि पुलवामा हमले एवं 42 सैनिकों की शहादत की खबर मिलने के बाद भी मोदी घंटों तक जिम कार्बेट में इसी विज्ञापन के लिये फोटोशूट करवाते रहे। पालम एयरपोर्ट में शहीदों का शव और कांग्रेस के पूर्व राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी सहित शहीदों के परिजन इंतजार करते रहे। प्रधानमंत्री चुनावी रैली को संबोधित करके दो घंटे बाद पहुंचे। यह भूलाया नहीं जा सकता कि मोदी राज में पठानकोट, उरी, गुरूदासपुर और पुलवामा जैसे भीषण आतंकवादी हमले हुए।  

 

11-08-2019
पाक ने थार एक्सप्रेस रोकी तो भारत ने बंद की समझौता एक्सप्रेस

नई दिल्ली। भारतीय रेलवे ने रविवार को घोषणा की है कि उसने अपनी अंतरराष्ट्रीय सीमा तक समझौता एक्सप्रेस ट्रेन का परिचालन बंद कर दिया है। इससे कुछ ही दिन पहले पाकिस्तान ने अपने क्षेत्र में ट्रेन की सेवाएं रोक दी थी। भारतीय रेलवे दिल्ली से अटारी और अटारी से दिल्ली के बीच इस ट्रेन का परिचालन करती थी जबकि पाकिस्तान में यह ट्रेन लाहौर से अटारी के बीच चलाई जाती थी। यात्री अटारी स्टेशन पर ट्रेन बदलते थे। उत्तर रेलवे के मुख्य जनसंपर्क अधिकारी दीपक कुमार ने कहा कि लाहौर और अटारी के बीच चलने वाली समझौता एक्सप्रेस 14607/ 14608 को रद्द किए जाने के पाकिस्तान के फैसले के परिणामस्वरूप दिल्ली से अटारी के बीच चलने वाली लिंक एक्सप्रेस ट्रेन संख्या 14001/14002 भी रद्द की जाती है। अधिकारियों ने बताया कि रविवार की सेवा के लिए दो यात्रियों ने टिकट बुक कराये थे। बता दें कि इससे पहले पाकिस्तानी ड्राइवर और गाइड ट्रेन को अटारी रेलवे स्टेशन पर छोड़कर वापस लौट गए थे। भारत की तरफ  से ट्रेन को वाघा बॉर्डर से अटारी बॉर्डर तक लाने के लिए अपना इंजन, क्रू मेंबर और सिक्योरिटी गाड्र्स भेजने पड़े। पाकिस्तानी प्राधिकारियों ने सुरक्षा के चलते गुरुवार को वाघा सीमा पर ट्रेन रोक दी थी और यात्री वहां फंसे रहे। भारत के साथ पाकिस्तान के राजनयिक संबंधों का दर्जा घटाने की घोषणा के एक दिन बाद पाकिस्तान के रेल मंत्री ने इस्लामाबाद में गुरुवार को मीडिया से कहा था कि उनके देश ने समझौता एक्सप्रेस ट्रेन सेवा बंद कर दी है। हालांकि भारतीय रेलवे अधिकारियों ने कहा था कि ट्रेन सेवा निलंबित नहीं की गई है और उन्हें पड़ोसी देश से इस संबंध में कोई सूचना नहीं मिली है। जम्मू और कश्मीर से आर्टिकल 370 और आर्टिकल 35ए  हटाए जाने और राज्य को दो केंद्र शासित प्रदेशों में विभाजित करने के सरकार के फैसले के बाद पाकिस्तान लगातार भारत  के खिलाफ  चाल चलने में कोई कसर नहीं छोड़ रहा है। इससे पहले पाकिस्तान ने  कराची से जोधपुर तक चलने वाली थार एक्सप्रेस का संचालन भी बंद कर दिया। भारत-पाकिस्तान के बीच चलने वाली थार एक्सप्रेस दोनों देशों के बीच चलने वाली यह सबसे पुरानी रेल सेवा है। ये ट्रेन आजादी से पहले अविभाज्य हिंदुस्तान के समय से चल रही थी। पहले इसका नाम सिंध मेल हुआ करता था। साल 1892 में हैदराबाद-जोधपुर रेलवे के तहत इसे शुरू किया गया था। हैदराबाद-जोधपुर रेलवे लाइन पाकिस्तान के कराची-पेशावर रेलवे लाइन से जोड़ती है।

 

 

07-08-2019
भारत—वेस्टइंडीज के बीच 8 अगस्त से वनडे सीरीज, जीत की लय बरकरार रखने उतरेगी टीम इंडिया

नई दिल्ली। ट्वंटी-20 सीरीज को 3-0 से क्लीन स्वीप करने के बाद विराट कोहली की कप्तानी वाली टीम इंडिया वेस्टइंडीज के खिलाफ 8 अगस्त से शुरू हो रही 3 मैचों की वनडे सीरीज में इसी लय को कायम रखने उतरेगी। भारतीय टीम ने ट्वंटी-20 सीरीज में शानदार प्रदर्शन किया और तीनों मैच आसानी से जीते। इस सीरीज में युवा खिलाड़ियों का प्रदर्शन काबिलेतारीफ रहा, जिसके बाद उम्मीद की जा रही है कि भारतीय टीम वनडे सीरीज में भी जीत हासिल करेगी। भारत के पास अब वनडे सीरीज में भी इसी प्रदर्शन को दोहराने की बारी है। सीरीज में भारत के दोनों अनुभवी स्पिनर युजवेंद्र चहल और कुलदीप यादव खेलने उतरेंगे, जो ट्वंटी-20 टीम का हिस्सा नहीं थे। युवा बल्लेबाज श्रेयस अय्यर को ट्वंटी-20 सीरीज में एक भी मैच खेलने का मौका नहीं मिल पाया था और लोकेश राहुल ओपनर रोहित शर्मा को विश्राम दिए जाने के बाद आखिरी मैच में खेले थे। वनडे सीरीज में तेज गेंदबाज मोहम्मद शमी और ऑलराउंडर केदार जाधव भी खेलने उतरेंगे। ये दोनों खिलाड़ी भी ट्वंटी-20 सीरीज में नहीं खेले थे। वनडे में रोहित शर्मा और शिखर धवन ओपनिंग की जिम्मेदारी संभालेंगे जबकि विराट तीसरे नंबर पर रहेंगे। चौथे नंबर के लिए पंत ने पिछले मैच में नाबाद अर्द्धशतक बनाकर अपना दावा पुख्ता कर लिया है। 5वें और 6ठे नंबर के लिए केदार जाधव, श्रेयस अय्यर, लोकेश राहुल और मनीष पांडे के बीच मुकाबला रहेगा। भारत ने वेस्टइंडीज से अब तक 127 वनडे खेले हैं जिनमें से उसने 60 जीते हैं, 62 हारे हैं, 2 टाई रहे हैं और 3 में कोई परिणाम नहीं निकला है। दोनों के बीच हार-जीत का आंकड़ा लगभग बराबर है और भारत वनडे सीरीज को क्लीन स्वीप कर जीत के मामले में विंडीज से आगे निकलना चाहेगा।

 

06-08-2019
पाकिस्तान के विदेश मंत्री की भारत को धमकी, जंग थोपी गई तो जवाब देंगे

 

नई दिल्ली। जम्मू-कश्मीर में धारा-370 को निष्क्रिय किए जाने को लेकर पाकिस्तान बौखला गया है। पाकिस्तान ने भारत सरकार को युद्ध की धमकी दी है। पाकिस्तान ने कहा है कि भारत, पाकिस्तान को फिलिस्तीन बनाने की कोशिश कर रहा है। इमरान खान सरकार के मंत्री फवाद चौधरी ने कहा कि संसद में अलग-अलग विषयों पर उलझने के बजाय हमें भारत का जवाब खून, आंसू और पसीने से देना होगा। हमें जंग के लिए तैयार रहना होगा। वहीं लोकसभा में बोलते हुए केन्द्रीय अमित शाह ने कहा कि जम्मू-कश्मीर के लिए जान भी देनी पड़ी तो तैयार हूं।

04-08-2019
भारत की फिर बढ़ी ताकत : क्विक रिएक्शन सरफेस टू एयर मिसाइल का सफल परीक्षण

भुवनेश्वर। ओडिशा में रक्षा अनुसंधान और विकास संगठन (डीआरडीओ) ने आज बालासोर उड़ान परीक्षण रेंज में जमीन से हवा में मार करने वाली क्विक रिएक्शन सरफेस टू एयर मिसाइल का सफलतापूर्वक परीक्षण किया है। इस मिसाइल का परीक्षण ओडिशा तट से किया गया। इस मिसाइल ने सफलतापूर्वक अपने लक्ष्य को भेद दिया है। बता दें कि क्विक रिएक्शन मिसाइल को डीआरडीओ ने ही विकसित किया है। इस मिसाइल के सफल परीक्षण को डीआरडीओ की बड़ी कामयाबी के तौर पर देखा जा रहा है। 

 

02-08-2019
भारत ने प्रस्ताव ठुकराकर कहा- पाक जाधव को बिना शर्त दें कांसुलर एक्सेस

नई दिल्ली। भारत ने पाकिस्तान के उन शर्तों को ठुकरा दिया है जिसके तहत कुलभूषण जाधव को कांसुलर एक्सेस दी जानी थी। पाकिस्तान ने कल कुलभूषण जाधव को कांसुलर एक्सेस देने की बात कही थी, लेकिन इसके लिए उसने तीन शर्तें रख दी थी। अब भारत ने उन शर्तों को मानने से साफ-साफ  इनकार कर दिया है। पाकिस्तान का कहना है कि जिस कमरे में जाधव और भारतीय अधिकारियों की मुलाकात होगी वहां एक पाकिस्तान अधिकारी भी मौजूद रहेगा। जिस कमरे में मुलाकात होगी वहां सीसीटीवी लगे होंगे। पाक ने कहा है कि कमरे में हो रही बातचीत को भी रिकॉर्ड किया जाएगा। पाकिस्तान की ये भी शर्त है कि भारत की ओर से सिर्फ एक ही अधिकारी को मुलाकात की इजाजत मिलेगी। पाकिस्तान का कहना है कि उसके कदम वैश्विक मानक और भारतीय कानूनों के अनुसार सही हैं। पिछले महीने इंटरनेशनल कोर्ट ने कहा था कि कुलभूषण जाधव की मौत की सजा पर रोक बरकरार रहेगी। पाकिस्तान की सैन्य अदालत में उन्हें दोषी ठहराने और उन्हें दी गई सजा पर पुनर्विचार करने की जरूरत है। साथ ही  कोर्ट ने जाधव को बिना किसी देरी के  कांसुलर एक्सेस देने का आदेश भी दिया था। अपने 42 पन्नों के फैसले में फैसला सुनाया था कि पाकिस्तान ने राजनयिक संबंधों पर वियना कन्वेंशन को तोड़ा, जो देशों को उनके नागरिकों को विदेश में गिरफ्तार किए जाने पर कांसुलर एक्सेस का अधिकार देता है। पाकिस्तान का दावा है कि उसके सुरक्षा बलों ने जाधव को 3 मार्च, 2016 को ईरान से कथित तौर पर घुसने के बाद बलूचिस्तान प्रांत से गिरफ्तार किया था। हालांकि भारत का कहना है कि जाधव को ईरान से अगवा किया गया था, जहां नौसेना से सेवानिवृत्त होने के बाद वह व्यापार कर रहे थे।

31-07-2019
मारवाह स्टूडियोज ने रायपुर में खोला भारत का पहला मीडिया एंड आर्ट्स यूनिवर्सिटी 

रायपुर। अभी हाल ही में रायपुर में मारवाह स्टूडियोज द्वारा भारत का पहली मीडिया एंड आर्ट्स यूनिवर्सिटी खोला गया है। मारवाह स्टूडियो एक ऐसा पहला संस्थान है जहां से फिल्म, मीडिया और कला के क्षेत्र में कई बड़े रचनात्मक व्यक्तित्व गढ़े गए हैं। संस्थान का उद्देश्य रहा है कि कैसे प्रोफेशनल शिक्षा के द्वारा आज के युवाओं को तराशकर भविष्य का निर्माता बनाया जाए। 28 एकड़ में फैला रायपुर यूनिवर्सिटी का प्रांगण अत्याधुनिक प्रोफेशनल साजो-सामान और उपकरणों से सुसज्जित है। साथ ही पूरे भारत वर्ष से चुने गए अनुभवी प्रोफेशनल्स भी यहां शिक्षा प्रदान करेंगे। यूनिवर्सिटी अलग अलग क्षेत्रों में डिग्री और डिप्लोमा प्रदान कर रहा है जिनमें सिनेमा, मास कम्युनिकेशन, परफार्मिंग आर्ट, एडवरटाइजिंग पीआर एंड इवेंट , फैशन एंड डिजाइन, फोटोग्राफी, एनीमेशन, हॉस्पिटैलिटी एंड मैनेजमेंट शामिल है।

रायपुर में शुरू यह यूनिवर्सिटी एशियन एडुकेशन ग्रुप द्वारा स्थापित किया गया है जो कि  मारवाह स्टूडियोज का एक घटक है जिसे फिल्म सिटी नोएडा में साल 1993 में शुरू किया गया था। यह एक विशिष्ठ संस्थान है जिसने प्रशिक्षण के द्वारा मीडिया के क्षेत्र में देश को बहुत बड़े नाम दिए हैं। यह संस्थान उच्च शिक्षा में महारत के चलते अब तक पूरी दुनिया से 17000 मीडिया छात्रों को प्रशिक्षण दे चुका है और तमाम प्रशस्ति पत्रों और अवार्डस से सम्मानित हो चुका है। एएएफटी यूनिवर्सिटी ऑफ  मीडिया एंड आट्र्स के संस्थापक और कुलपति डॉ संदीप मारवाह हैं। अनिल कपूर , बोनी कपूर, संजय कपूर और मोहित मारवाह बोर्ड ऑफ  डायरेक्टर हैं और पुनीत जिंदल सीईओ हैं। यूनिवर्सिटी की रूपरेखा और सोच अक्षय मारवाह के दिमाग की उपज है। इन तमाम हस्तियों के अलावा इस यूनिवर्सिटी के साथ देश के प्रख्यात अकादमिक जगत के लोग और विद्वान भी जुड़े हुए हैं। इस नए प्रयास के बारे में अक्षय मारवाह ने कहा कि इस यूनिवर्सिटी की स्थापना का प्रभाव यह पड़ेगा कि पूरे छत्तीसगढ़ में रोजगार के अवसर पैदा होंगे जिसका लोगों के दैनिक जीवन पर सकारात्मक प्रभाव होगा। जहां एक ओर युवा विश्वस्तरीय शिक्षा और नवीन तकनीक से जुडेंग़े वहीं यूनिवर्सिटी से देश और दुनिया से आने वाले छात्रों में रचनात्मक संस्कृति को बढ़ावा मिलेगा।

Advertise, Call Now - +91 76111 07804