GLIBS
14-11-2019
2020 में एक बार फिर चांद पर जाएगा भारत, इसरो ने शुरू किया कार्य

नई दिल्ली। भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन (इसरो) सितंबर 2019 में पहली बार में चांद के दक्षिणी ध्रुव पर लैंड करने में असफल रहा। अब जल्द ही इसरो चंद्रयान 3 को चंद्रमा की तरफ रवाना कर सकता है। सूत्रों का कहना है कि इसके लिए नवंबर 2020 तक की समयसीमा तय की गई है। इसरो ने कई समितियां बनाई हैं। इसके लिए इसरो ने पैनल के साथ तीन सब समितियों की अक्टूबर से लेकर अब तक तीन उच्च स्तरीय बैठक हो चुकी है। इस नए मिशन में केवल लैंडर और रोवर शामिल होगा क्योंकि चंद्रयान-2 का ऑर्बिटर ठीक तरह से कार्य कर रहा है। बीते दिनों ओवरव्यू (समीक्षा) कमिटी की बैठक हुई। जिसमें विभिन्न सब समितियों की सिफारिशों पर चर्चा की गई। समितियों ने संचालन शक्ति, सेंसर, इंजिनियरिंग और नेविगेशन को लेकर अपने प्रस्ताव दिए हैं।

एक वैज्ञानिक ने कहा कि कार्य तेज गति से चल रहा है। इसरो ने अब तक 10 महत्वपूर्ण बिंदुओं का खाका खींच लिया है। जिसमें लैंडिंग साइट, नेविगेशन और लोकल नेविगेशन शामिल हैं। सूत्रों का कहना है कि पांच अक्टूबर को एक आधिकारिक नोटिस जारी किया गया है। इस नोटिस में कहा गया है, 'यह जरूरी है कि चंद्रयान-2 की विशेषज्ञ समिति द्वारा लैंडर सिस्टम को बेहतर बनाने के लिए की गई सिफारिशों पर ध्यान दिया जाए। जिन सिफारिशों को चंद्रयान-2 के एडवांस फ्लाइट प्रिपरेशन की वजह से लागू नहीं किया गया था।' दूसरे वैज्ञानिक ने कहा कि नए मिशन की प्राथमिकता लैंडर के लेग्स को मजबूत करना है। ताकि वह चांद की सतह पर तेज गति से उतरने पर क्रैश न हो। सूत्रों का कहना है कि इसरो एक नया लैंडर और रोवर बना रहा है। लैंडर पर पेलोड की संख्या को लेकर कोई अंतिम निर्णय नहीं लिया गया है। बात दें कि सितंबर में इसरो ने चंद्रयान-2 को चंद्रमा के दक्षिणी ध्रुव पर सॉफ्ट लैंडिंग कराने की कोशिश की थी जिसमें उसे सफलता नहीं मिल पाई। हालांकि ऑर्बिटर ठीक तरह से काम कर रहा है और वैज्ञानिकों का कहना है कि वह सात सालों तक अपना काम करता रहेगा।

 

05-10-2019
विक्रम में आ सकती है जान, आज से शुरू होगी संपर्क साधने की कोशिश

नई दिल्ली। चंद्रयान-2 इसरो के लिए एक बहुत बड़ा सपना था जो पूरा होते-होते अंत में टूट गया, लेकिन इसरो फिर से अपने उस टूटे सपने को पूरा करने की कोशिश में लग गया है। दरअसल इसरो ने चंद्रयान-2 के ऑर्बिटर के हाई रिजोल्यूशन कैमरे से चांद की खींची तस्वीरें जारी की है। इस हाई रिजोल्यूशन कैमरे ने चंद्रमा के सतह की तस्वीर भेजी है। इस तस्वीर में चंद्रमा के सतह पर बड़े और छोटे गड्ढे नजर आ रहे हैं। इसरो ने कहा, आर्बिटर में मौजूद आठ पेलोड ने चांद की सतह पर मौजूद तत्वों को लेकर कई सूचनाएं भेजी हैं। आर्बिटर चांद की सतह पर मौजूद आवेशित कणों का पता लगा रहा है। ऑर्बिटर के पेलोड क्लास ने अपनी जांच में चांद की मिट्टी में मौजूद कणों के बारे में पता लगाया है। यह तब संभव हुआ है, जब सूरज की तेज रोशनी में मौजूद एक्स किरणों की वजह से चांद की सतह चमक उठी।

 आज से चांद पर होगा दिन, सौर पैनलों से विक्रम में आ सकती है जान

चांद की अंधेरी सतह पर बेसुध पड़े चंद्रयान-2 के लैंडर विक्रम को लेकर फिर उम्मीद जगी है। वैज्ञानिकों का कहना है कि अपने सौर पैनलों की मदद से विक्रम फिर काम शुरू कर सकता है। दरअसल, चांद पर शनिवार से दिन की शुरुआत हो रही है। ऐसे में विक्रम को लेकर कोई अच्छी खबर आने की उम्मीद बढ़ गई है। वहीं, भारतीय अंतरिक्ष एजेंसी इसरो ने कहा है कि चांद के आसमान में चक्कर लगा रहा चंद्रयान-2 का ऑर्बिटर सोडियम, कैल्शियम, एल्युमीनियम, सिलिकॉन, टाइटेनियम और लोहे जैसे महत्वपूर्ण खनिज तत्वों का पता लगाने के लिए काम कर रहा है। इसरो के मुताबिक, ऑर्बिटर का पेलोड अपने तय मकसद के लिए बेहतर तरीके से काम कर रहा है। वहीं, विक्रम की तलाश और उससे संपर्क करने की कोशिशों में जुटी अमेरिकी अंतरिक्ष एजेंसी नासा ने कहा है कि अब तक विक्रम से कोई आंकड़ा नहीं मिला है। खगोलविद् स्कॉट टायली ने ट्वीट कर विक्रम से संपर्क की प्रबल संभावना जताई है। उन्होंने कहा है कि विक्रम को खोजने में कामयाबी जरूर मिलेगी। बताया जा रहा है कि दिन होने के साथ ही विक्रम से संपर्क करने की कोशिशें तेज होंगी।

इसरो के एक वैज्ञानिक ने बताया कि हालांकि अब विक्रम से संपर्क करना बेहद मुश्किल होगा, लेकिन कोशिश करने में कोई हर्ज नहीं है। उनसे जब यह पूछा गया कि क्या चांद पर रात के समय बहुत ज्यादा ठंड में विक्रम सही सलामत रह सकता है, तो उन्होंने कहा, सिर्फ ठंड ही नहीं, बल्कि झटके से हुआ असर भी चिंता की बात है। हार्ड लैंडिंग के चलते विक्रम तेज गति से चांद की सतह पर गिरा होगा। इस झटके के चलते विक्रम के भीतर मौजूद उपकरणों को नुकसान पहुंच सकता है। चांद के चक्कर लगा रहे नासा के लुनर रिकॉनिएसेंस ऑर्बिटर ने जो तस्वीरें भेजी थीं, चांद पर रात होने के चलते उससे तस्वीरें साफ नहीं आ पाई थीं।

27-09-2019
नासा ने जारी की चंद्रयान-2 की तस्वीरें, किया ये बड़ा खुलासा

नई दिल्ली। चंद्रयान-2 के विक्रम लैंडर को लेकर नासा ने एक बड़ा खुलासा किया है। अमेरिकी अंतरिक्ष एजेंसी नासा ने शुक्रवार को चंद्रयान-2 के विक्रम लैंडर की लैंडिंग वाली जगह की तस्वीरें जारी की है, जिसमें कहा गया है कि चांद की सतह पर विक्रम लैंडर की हार्ड लैंडिंग हुई। नासा ने चंद्रमा की परिक्रमा कर रहे अपने लूनर रिकॉनिस्सेंस ऑर्बिटर को विक्रम लैंडर के लैंडिंग साइट के ऊपर से गुजारा था, उसके ऑर्बिटर से कैद तस्वीरों को जारी किया है। नासा ने उस जगह की तस्वीरें भी जारी कीं हैं, जहां साउथ पोल पर विक्रम की लैंडिंग होनी थी। तस्वीर में धुल दिखी है। हालांकि, विक्रम कहां गिरा इस बारे में पता नहीं चला पाया है। नासा ने कहा कि विक्रम लैंडर की काफी हार्ड लैंडिंग हुई थी और चंद्रमा की सतह पर विक्रम लैंडर की लैंडिंग का सटीक स्थान अभी तक नहीं पता चल पाया है। गौरतलब है कि भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन (इसरो) ने 7 सितंबर को चंद्रमा की सतह पर लैंड करने से कुछ मिनट पहले देश के दूसरे चंद्र मिशन चंद्रयान -2 के विक्रम लैंडर से संपर्क खो दिया था।

नासा ने अपने आधिकारिक ट्विटर अकाउंट से ट्वीट किया, 'चंद्रमा की सतह पर नासा की हार्ड लैंडिंग हुई, यह स्पष्ट है। स्पेसक्राफ्ट किस लोकेशन पर लैंड हुआ यह अभी निश्चित तौर पर नहीं कहा जा सकता। तस्वीरें केंद्र से 150 किलोमीटर दूरी से ली गई हैं। अक्टूबर में  लूनर रिकॉनिस्सेंस ऑर्बिटर दोबारा प्रयास करेगा।' 'गोडार्ड स्पेस फ्लाइट सेंटर के एलआरओ मिशन के डिप्टी प्रोजेक्ट साइंटिस्ट जॉन कैलर ने एक बयान में कहा कि एलआरओ 14 अक्टूबर को दोबारा उस समय संबंधित स्थल के ऊपर से उड़ान भरेगा जब वहां रोशनी बेहतर होगी। भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन (इसरो) के चंद्रयान-2 के विक्रम मॉड्यूल का सात सितंबर को चंद्रमा की सतह पर सॉफ्ट लैंडिंग कराने का प्रयास तय योजना के मुताबिक पूरा नहीं हो पाया था। लैंडर का आखिरी क्षण में जमीनी केंद्रों से संपर्क टूट गया था। नासा अब 14 अक्टूबर को चंद्रमा के दक्षिणी ध्रुव से अंधेरा छंटने के बाद एक बार फिर अपने लूनर रिकॉनेसा ऑर्बिटर (एलआरओ) के कैमरे से विक्रम लैंडर की लोकेशन जानने और उसकी तस्वीर लेने की कोशिश करेगा। बता दें कि पहले भी एजेंसी ऐसी कोशिशें कर चुकी है, लेकिन उसे सफलता नहीं मिली।

07-09-2019
मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने कुछ इस अंदाज में इसरो के वैज्ञानिकों को दी बधाई, पढ़ें क्या कहा...

रायपुर। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने इसरो के वैज्ञानिकों को अलग ही अंदाज में बधाई दी है। उन्होंने महाभारत के एक प्रसंग का उल्लेख करते हुए ट्वीट किया है- हो सकता है कि चक्रव्यूह का सातवां चरण भेदने में थोड़ा विलम्ब हो जाए लेकिन 6 चरणों को भेदकर विश्व भर में अपना इतिहास गढ़ना ही किसी को 'अभिमन्यु' बनाता है। इसरो ने विश्व को संदेश दे दिया है कि 21वीं सदी भारत की ही होने वाली है। सभी के कठिन परिश्रम और लगन को मेरा सलाम। बता दें कि शुक्रवार रात चंद्रयान-2 के लैंडर विक्रम से चंद्रमा की सतह से महज दो किलोमीटर पहले इसरो का संपर्क टूट गया था।

इसरो के टेलीमेट्री, ट्रैकिंग एंड कमांड नेटवर्क केंद्र के स्क्रीन पर देखा गया कि विक्रम अपने तय रास्ते से थोड़ा हट गया और उसके बाद संपर्क टूट गया। इसके बाद इसरो के सभी वैज्ञानिकों के चेहरे पर मायूसी साफ देखी जा रही थी तो इधर भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन (इसरो)के अध्यक्ष के. शिवन मिशन में आई बाधा के बाद भावुक हो गए, उनकी आंखों में आंसू आ गए थे, प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने उन्हें गले लगाकर ढांढ़स बंधाया। मिशन में आई बाधा के बावजूद भी सभी इसरो के साथ है, इसरो के वैज्ञानिकों के परिश्रम की सर्वत्र सराहना हो रही है। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने वैज्ञानिकों का मनोबल और हौसला बढ़ाते हुए कहा कि वे निराशा के पलों को पीछे छोड़कर देश के अंतरिक्ष कार्यक्रम को नए संकल्प और दृढ इच्छा शक्ति के साथ निरंतर जारी रखेें। इसी तरह छत्तीसगढ़ के पूर्व मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह ने ट्वीट कर कहा है- आज पूरा देश इसरो के आप सभी वैज्ञानिकों के साथ खड़ा है। बाधाओं से आगे बढ़कर आप सभी को देश के लिए आगे अनेक कार्य करने हैं, हिम्मत रखें हम सभी साथ मिलकर ऐसे अनेकों-अनेक नये मिशन पर कार्य करेंगे।

 

07-09-2019
मिशन चंद्रयान-2: इसरो प्रमुख हुए भावुक,पीएम मोदी से लिपटकर रो पड़े

बेंगलुरु। भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन (इसरो)के अध्यक्ष के शिवन देश के महत्वाकांक्षी मिशन चंद्रयान-2 में आई बाधा के बाद भावुक हो गए, जिससे उनकी आंखों में आंसू आ गए और प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने उन्हें गले लगाकर ढांढ़स बंधाया। चंद्रयान-2 मिशन के लैंडर विक्रम के चंद्रमा पर उतरने के ऐतिहासिक क्षण में शामिल होने के लिए इसरो मुख्यालय गए प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने शनिवार को राष्ट्र को सम्बोधित किया। उन्होंने वैज्ञानिकों का मनोबल और हौसला बढ़ाते हुए कहा कि वे निशारा के पलों को पीछे छोड़कर देश के अंतरिक्ष कार्यक्रम को नए संकल्प और दृढ इच्छा शक्ति के साथ निरंतर जारी रखने। 

प्रधानमंत्री ने कहा कि जल्द ही नया सवेरा होगा और देश अपने अंतरिक्ष कार्यक्रमों में पूरी तरह सफल रहेगा। संबोधन के बाद मोदी वहां मौजूद सभी वैज्ञानिकों से व्यक्तिगत रुप से मिले और उनका हौसला बढ़ाया। जब मोदी वैज्ञानिकों से मिलकर लौट रहे थे। तो शिवन ने उनका अभिनंदन किया और वह भावुक हो गए। इस पर मोदी ने आगे बढ़कर उन्हें गले लगाया। शिवन की आंखों में आंसू देख प्रधानमंत्री ने उनकी पीठ थपथपाते हुए उन्हें ढ़ांढ़स बधाया और अपने प्रयायों को जारी रखने को कहा। मोदी चंद्रयान 2 के सफर के अंतिम क्षणों का गवाह बनने के लिए शुक्रवार शाम इसरो मुख्यालय पहुंचे थे। चन्द्रयान-2 के लैंडर विक्रम के चंद्रमा के दक्षिण ध्रुव पर उतरने के समय रात डेढ़ बजे मोदी इसरो वैज्ञानिकों के साथ मौजूद थे। उनके साथ देशभर के स्कूलों के चुनिंदा 70 छात्र भी थे। 

 

20-08-2019
चंद्रयान-2 चंद्रमा की कक्षा में स्थापित, अंतरिक्ष में भारत की एक और बड़ी उपलब्धि

नई दिल्ली। चंद्रयान-2 मंगलवार सुबह चंद्रमा की कक्षा में स्थापित हो गया और इसके साथ ही भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन (इसरो) के नाम एक और बड़ी उपलब्धि हो गई। चंद्रयान-2 आंध्र प्रदेश के श्रीहरिकोटा स्थित प्रक्षेपण केंद्र से 22 जुलाई को प्रक्षेपित किया गया था। इसरो वैज्ञानिकों ने सुबह 8.30 से 9.30 बजे के बीच चंद्रयान-2 को चांद की कक्षा LBN#1 में प्रवेश कराया। अब चंद्रयान-2, 118 किमी की एपोजी (चांद से कम दूरी) और 18078 किमी की पेरीजी (चांद से ज्यादा दूरी) वाली अंडाकार कक्षा में अगले 24 घंटे तक चक्कर लगाएगा। इस दौरान चंद्रयान की गति को 10.98 किमी प्रति सेकंड से घटाकर करीब 1.98 किमी प्रति सेकंड किया गया।  20 अगस्त यानी मंगलवार को चांद की कक्षा में चंद्रयान-2 का प्रवेश कराना इसरो वैज्ञानिकों के लिए बेहद चुनौतीपूर्ण था। लेकिन, हमारे वैज्ञानिकों ने इसे बेहद कुशलता और सटीकता के साथ पूरा किया। 7 सितंबर को चंद्रयान-2 चांद के दक्षिणी ध्रुव पर लैंड करेगा। चंद्रयान-2 को 22 जुलाई को श्रीहरिकोटा प्रक्षेपण केंद्र से रॉकेट बाहुबली के जरिए प्र‍क्षेपित किया गया था।

19-08-2019
चंद्रमा के बहुत नजदीक पहुंचा चंद्रयान-2, कल कक्षा में करेगा प्रवेश

नई दिल्ली। इसरो द्वारा 22 जुलाई को लॉन्च महत्वाकांक्षी मिशन चंद्रयान-2 मंगलवार को चंद्रमा की कक्षा में प्रवेश करेगा। 14 अगस्त को चंद्रयान को चंद्र स्थानांतरण प्रक्षेपवक्र में प्रवेश कराया गया था। अब यान के तरल ईंधन वाले इंजन को शुरू किया जाएगा ताकि इसे चंद्रमा की कक्षा के अंदर प्रवेश दिलाया जा सके। चंद्रयान-2 मिशन की निगरानी इसरो के टेलीमेट्री, ट्रैकिंग एंड कमांड नेटवर्क में स्थित मिशन ऑपरेशंस कॉम्प्लेक्स द्वारा किया जा रहा है। इसमें बेंगलुरु में स्थित भारतीय डीप स्पेस नेटवर्क का भी सहयोग लिया जा रहा है। इसरो ने 14 अगस्त को कहा था कि चंद्रयान-2 अंतरिक्ष यान पर सभी प्रणालियां सामान्य प्रदर्शन कर रही हैं। चंद्रयान-2 भारत का दूसरा चंद्र अभियान है जो चंद्रमा के दक्षिणपूर्वी क्षेत्र में खोजबीन करेगा।  यान के चांद की  कक्षा में प्रवेश कर जाने के बाद 2 सितंबर को यह अपने साथ ले जाए गए लैंडर विक्रम को छोड़ देगा। इसके बाद विक्रम लैंडर चांद के दो चक्कर काटने के बाद 7 सितंबर को चंद्रमा की सतह पर लैंड करेगा।

12-08-2019
20 अगस्त को पहुंचेगा चंद्रमा की कक्षा में चंद्रयान-2

अहमदाबाद। भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन के अध्यक्ष के. सिवन ने सोमवार को कहा कि भारत के दूसरे चंद्र अभियान चंद्रयान-2  के 20 अगस्त को चंद्रमा की कक्षा में पहुंचने की संभावना है और सात सितंबर को यह चंद्रमा की सतह पर उतरेगा। उन्होंने अहमदाबाद  में संवाददाताओं से कहा कि अंतरिक्ष यान दो दिनों बाद पृथ्वी की कक्षा से बाहर निकलना शुरू करेगा। भारत के अंतरिक्ष कार्यक्रम के जनक समझे जाने वाले डॉ. विक्रम साराभाई की जन्मशती समारोह में हिस्सा लेने सिवन अहमदाबाद पहुंचे थे। इसरो प्रमुख ने कहा कि 3850 किलोग्राम के चंद्रयान-2 में तीन हिस्से हैं जिसमें एक ऑर्बिटर, लैंडर और रोवर है। अभियान के तहत 22 जुलाई को प्रक्षेपण कार्यक्रम के बाद सात सितंबर को यह चंद्रमा की सतह पर पहुंचेगा। उन्होंने कहा कि 22 जुलाई को चंद्रयान-2 के प्रक्षेपण के बाद हमने पांच बार प्रक्रिया को अंजाम दिया। चंद्रयान-2 का समग्र हिस्सा फिलहाल धरती के इर्द गिर्द घूम रहा है। अगली सबसे महत्वपूर्ण प्रक्रिया बुधवार सुबह में शुरू होगी। उन्होंने कहा कि 14 अगस्त को तड़के साढ़े तीन बजे हम ट्रांस लूनर इंजेक्शन नामक प्रक्रिया शुरू करेंगे। इस प्रक्रिया में चंद्रयान-2 पृथ्वी की कक्षा से बाहर होकर चंद्रमा की ओर बढ़ेगा। इसके बाद 20 अगस्त को हम चंद्रमा  की कक्षा में पहुंचेंगे। सिवन ने कहा कि फिलहाल अंतरिक्ष यान बहुत अच्छा कर रहा है और इसकी सभी प्रणाली सही से काम कर रही है। उन्होंने कहा कि इसरो में वैज्ञानिक आगामी दिनों में खासकर दिसंबर में काफी व्यस्त होंगे जब अंतरिक्ष एजेंसी छोटे उपग्रहों को प्रक्षेपित करने का अभियान शुरू करेगी।

 

 

06-08-2019
चंद्रयान-2 पहुंचा चंद्रमा के पास, पांचवी बार पृथ्वी की कक्षा सफलतापूर्वक बदली

नई दिल्ली। चंद्रयान-2 ने मंगलवार को दोपहर बाद पृथ्वी की कक्षा पांचवी बार सफलतापूर्वक बदली। इसके साथ ही अब यह चंद्रमा के और पास पहुंच गया है। भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संस्थान (इसरो) ने ट्वीट करके कहा,“आज चंद्रयान-2 ने पांचवीं बार पृथ्वी की कक्षा बदली। चंद्रयान-2 ने मंगलवार को अपराह्न तीन बजकर चार मिनट पर पांचवीं बार सफलतापूर्व कक्षा बदली। उन्होंने कहा कि चंद्रयान सभी मापदंड़ों पर सही ढ़ंग से काम कर रहा है। इससे पहले 24 जुलाई को अपराह्न 2.52 बजे पहली बार चंदयान ने कक्षा बदली थी। इसके बाद 26 जुलाई को दूसरी बार,29 जुलाई को तीसरी बार और दो अगस्त को चौथी बार चंद्रयान ने पृथ्वी की कक्षा बदली थी। चंद्रयान-2 का 22 जुलाई को दोपहर 2.43 बजे श्रीहरिकोटा (आंध्रप्रदेश) के सतीश धवन अंतरिक्ष केंद्र से प्रक्षेपण हुआ था, जिसके 16 मिनट बाद ही यान सफलतापूर्वक पृथ्वी की कक्षा में पहुंच गया था। चंद्रयान-2 में ऑर्बिटर, लैंडर (विक्रम) और रोवर (प्रज्ञान) शामिल हैं, जो 48 दिन में तीन लाख 844 किमी की यात्रा पूरी करके चांद के दक्षिणी ध्रुव पर लैंड करेगा। स्वदेशी तकनीक से निर्मित चंद्रयान-2 में कुल 13 पेलोड हैं। आठ ऑर्बिटर में, तीन पेलोड लैंडर ‘विक्रम’ और दो पेलोड रोवर ‘प्रज्ञान’ में हैं। पांच पेलोड भारत के, तीन यूरोप, दो अमेरिका और एक बुल्गारिया के हैं। चंद्रयान-2 के 20 सितंबर को चांद की सतह पर उतरने की संभावना है और चांद की कक्षा में पहुंचने के बाद ऑर्बिटर एक साल तक काम करेगा। इसका मुख्य उद्देश्य पृथ्वी और लैंडर के बीच संपर्क स्थापित करना है।

 

05-08-2019
आज का राशिफल, आज दिन किसी के लिए चुनौतियों भरा तो किसी शुभ संकेतों से

रायपुर। हर दिन एक जैसा नहीं होता। कभी कोई दिन आपके लिए किसी शुभ समाचार की सौगात लेकर आता है तो कोई दिन कई चुनौतियां भरा होता है। कोई दिन ऐसा होता है, जब मन भीतर से बहुत खुशी होती है तो कोई दिन ऐसा भी गुजरता है। जब पूरे दिन उदासी घेरे रहे। हमारी राशि और ग्रहों की स्थिति का मूड से लेकर रोजमर्रा की घटनाओं तक पर असर पड़ता है। 

मेष : आज चंद्रमा आपकी राशि से छठे भाव में रहेगा। चंद्रमा का बुध के साथ राशि परिवर्तन भी है और उस पर शनि की वक्र दृष्टि भी है। आज सुबह से ही आपके मन में असुरक्षा की भावना बहुत हावी रहेगी। आप चाहेंगे कि कोई आपसे प्रेम और सहानुभूति जताए और खास तौर पर आपकी नौकरी आदि के मामलों में आपको सुरक्षा की गारंटी दे। लेकिन इसके ठीक विपरीत आज हो सकता है कि आप ऐसे किसी व्यक्ति की मित्रता और समर्थन से हाथ धो बैठें, जो आपके लिए बहुत महत्वपूर्ण है। लेकिन जैसे ही आप अपना आत्मविश्वास वापस प्राप्त कर लेंगे, वैसे ही आपके तेवर बदलने लगेंगे और वास्तव में आज आप उसी व्यक्ति को अपना शत्रु बना लेंगे, जिस पर आप अपने नौकरी या व्यवसाय के क्षेत्र में आगे बढ़ने के लिए निर्भर रहे हैं। आपको चाहते रहे हैं कि वह व्यक्ति आपकी पदोन्नति में आपका मददगार रहे। सिर्फ मददगार ही नहीं, वास्तव में आप उसी पर पूरी तरह निर्भर भी हैं। लेकिन आज आप अपने व्यवहार से उसी व्यक्ति को स्वयं से शायद हमेशा के लिए दूर कर देंगे। जहां तक हो सके, संयम रखें, विनम्रता से काम लें। समझदारी और चतुराई ही आज आपके लिए मददगार रहेगी। यहां तक कि आपको अपने परिवार के सदस्यों और रिश्तेदारों से भी समझदारी से ही बात करनी होगी।


वृष : आज चंद्रमा आपकी राशि से पांचवे भाव में रहेगा। आज आप अपना आत्मविश्वास बनाए रखें। आज का दिन आपके लिए बोरियत भरा और थका देने वाला साबित होगा। आज अपने आप को बाहर के ऐसे मामलों से हर हालत में दूर बनाए रखें, जो आपके मन को या आपकी भावनाओं को प्रभावित कर सकते हैं और जिनके कारण आपका अपने कार्यों से ध्यान बंट सकता है। ऐसी बातों और सूचनाओं से भी दूर रहें, जो आपके लिए आवश्यक नहीं हैं। किसी गैर-जरूरी व्यक्ति से मिलने-जुलने का प्रस्ताव भी टाल दें। आपका फोन लगातार व्यस्त बना रहेगा। किसी के साथ बातचीत या बहस में उलझेंगे, जो बहुत लंबी चलेगी। कोई लंबी दूरी की यात्रा भी हो सकती है। यात्रा में परेशानी भी होगी। लंबी यात्रा में वाहन स्वयं न चलाएं। चलने पर अगर आप की कोई महत्वपूर्ण चीज या महत्वपूर्ण कार्य पीछे छूट गया हो, तो यह न समझें कि आपका काम चल जाएगा। आज आप अपने महत्वपूर्ण कार्यों में या अपनी गतिविधियों में थोड़ी बहुत परेशानी और उलझन महसूस करेंगे।

मिथुन : आज चंद्रमा आपकी राशि से चौथे भाव में है, चंद्रमा का आज आपके राशिस्वामी बुध के साथ राशि परिवर्तन भी है। आज परिवार में आपकी किसी ऐसे सदस्य के साथ तीखी बहस हो सकती है, जो अभी पिछले कुछ समय से आपके स्वभाव व्यवहार से झुंझलाने लगा है। आज आपको अपने परिवार की की ऐसी बात पता चल सकती है, जो अभी तक आपके लिए रहस्य ही थी। हो सकता है कि यह वही मामला हो, जिसके बारे में आप काफी समय से बार-बार प्रश्न पूछते रहे थे। आपको इसका जवाब मिलने के बाद आपका जीवन पहले जैसा ही रहे, यह आसान नहीं होगा। वास्तव में अपने कार्यक्षेत्र में आपको अपनी किसी पिछली त्रुटि या लापरवाही के परिणामों का सामना करना पड़ सकता है। आपको भविष्य में बेहतर ध्यान देने के लिए थोड़े कठोर तरीके से मजबूर किया जा सकता है। आज आपको अपने सहकर्मियों के साथ संवाद और संचार में भी कठिनाई महसूस होगी। आप अपने काम से काम रखें, और अपनी व्यक्तिगत स्थितियों या व्यक्तिगत योजनाओं के बारे में उनसे बात न करें। अपने आप में सहज रहें, न ज्यादा जल्दबाजी करें, न सुस्त हों। छोटी-छोटी बातों में प्रसन्नता महसूस करें। विश्वास रखें कि अंतत: सब ठीक होगा।

कर्क : आज चंद्रमा आपकी राशि से तीसरे भाव में रहेगा। चंद्रमा का बुध के साथ राशि परिवर्तन है और आपकी राशि में चार ग्रह मौजूद हैं। जिस बात पर आपका व्यक्तिगत या नौकरीपेशे का भविष्य निर्भर करता है, आज आप वह बात शुरू करने से, कहने से जरा भी संकोच न करें। बस बातचीत करते समय व्यावहारिक और संयमित रहें, जरा भी भावुक न हों। इस तरह बात करना आपके लिए ज्यादा उपयोगी साबित होगा। आज आप किसी न किसी घटना या कारण से प्रेरित होकर बहुत सकारात्मक महसूस करेंगे। आप दूसरों के लिए रहेंगे और आपको अपनी शक्तियों में एक उद्देश्यपरकता और विश्वास महसूस होगा। आज का दिन कहीं घूमने फिरने जाने के लिहाज से अच्छा है। लेकिन ऐसे स्थान पर ही जाने की योजना बनाएं, जहां आपको अच्छा लगता हो। अपरिचित क्षेत्रों में आप भटकते रह जाएंगे। इसी तरह आज आप बहुत मिलनसार मूड में भी रहेगे, लेकिन आज नए और अनजान लोगों से दोस्ती करना या अपने नए पड़ोसियों के साथ नजदीकी व्यवहार करना भी ठीक नहीं रहेगा।

सिंह : आज चंद्रमा आपकी राशि से वाणी भाव में रहेगा। आज आपका आत्मविश्वास, गर्व की भावना और थोड़ा बहुत अहंकार भी आपके सिर चढ़कर बोलेगा। आप अपना अधिकार बहुत दृढ़ता से जताने में सफल रहेंगे। अपने कार्यक्षेत्र में आपका दबदबा रहेगा और आप बहुत सकारात्मक ढंग से प्रगति करेंगे। हो सकता है कि किसी काम में आपको बड़ी सफलता मिली हो, आपके दिमाग में कोई नया विचार कौंधा हो, या अपने किसी अधिकारी के साथ आपके संबंध आज बहुत प्रगाढ़ हों। लेकिन जो भी आपकी गुप्त इच्छाएं हैं, उनके पूरे होने में कोई चमत्कार होने की अपेक्षा न रखें। जरूरत से ज्यादा कल्पनाएं न करें। अगर आप अपने कार्यक्षेत्र में प्रबंधन की भूमिका में हैं, तो आज अपने मातहतों की आलोचना करते समय स्वयं पर नियंत्रण रखना आपके लिए महत्वपूर्ण होगा। आज लापरवाही मे बोले गए शब्दों से आप किसी को बहुच ज्यादा ही अपमानित कर सकते हैं, सावधान रहें। ऊर्जा के अतिरेक में आज आप की सकारात्मकता बार-बार झुंझलाहट में भी परिवर्तित होती रहेगी। आपसे कोई मूल्यवान वस्तु खो सकती है, टूट सकती है या आप अनावश्यक खरीदारी करने में अपने पैसे फूंक सकते हैं।

कन्या : आज चंद्रमा आपकी राशि में रहेगा। आपका राशिस्वामी चंद्रमा की राशि में है, हालांकि लगभग स्तंभी स्थिति में बना हुआ है। आज आपको कुछ परेशान करने वाली और शायद संकटपूर्ण स्थिति का सामना करना पड़ सकता है। आप जिन योजनाओं के संबंध में काफी समय से सोचते आ रहे हैं, आज आप को उन पर कार्य करने का मौका मिल सकता है। कामकाज से जुड़े कम से कम कुछ मामले आज पूरे भी हो सकते हैं और समाप्त भी हो सकते हैं। अगर ऐसा नहीं होता है, तो आज आप अपने काम से दूर बने रहने या छुट्टी मनाने की कोशिश करेंगे। आज आप अपनी कही गई बात, अपने कर्मों को लेकर भी संदेह करते रहेंगे। आपको अपने जीवन के तमाम अलग-अलग पहलुओं पर ध्यान केंद्रित करना होगा, कुछ जरूरी बदलाव करने होंगे और यह सब कुल मिलाकर सकारात्मक रहेगा। मन थोड़ा विचलित महसूस करेगा। आप अपना सारा गुस्सा अपने प्रियजनों पर उतार सकते हैं, उनके साथ अपने संबंधों को कम कर लेंगे और निरर्थक या क्षुद्र मुद्दों पर कुछ संबंधों को समाप्त कर लेंगे।

तुला : आज चंद्रमा आपकी राशि से बारहवें भाव में रहेगा। आज आपका आकर्षण, आपका प्राकृतिक लावण्य चरम पर है, जो सभी को आपकी ओर आकर्षित करेगा। आज आपको अपने व्यक्तिगत और व्यावसायिक मामलों में सरलता से सफलता मिलती जाएगी। सकारात्मक बने रहें और सुखद और प्रसन्नतादायक बातों पर ध्यान दें। आप किसी से भी मुस्कुराकर बात करें। इससे आपकी सकारात्मक ऊर्जा और बढ़ेगी। व्यापार-व्यवसाय में आपको अपनी सकारात्मकता के बूते आसानी से सफलता मिलेगी। आपका बिजनेस पार्टनर आपका सम्मान करेगा। आज आपके सभी महत्वपूर्ण और अधूरे काम पूरे हो जाएंगे, लेकिन अगर आप नौकरी बदलने का सोच रहे हैं, तो अपनी चलती नौकरी छोड़ने के लिहाज से आज का दिन अच्छा नहीं है। आज किसी तरह के तनाव और संघर्ष से बचें।

वृश्चिक : आज चंद्रमा आपकी राशि से लाभ भाव में है। आज किसी की कही गई कोई बात आपको गहरे चुभ सकती है। हो सकता है आपके अधिकारी आपकी आलोचना करें। आपका जीवनसाथी या प्रेमी आपसे कोई ऐसी बात कह सकता है, जिससे विवाद भी होगा और आपका मूड भी खराब हो जाएगा। हर बात का उलट कर जवाब न दें। यदि आप तैश में आकर कोई भावनात्मक प्रतिक्रिया करने से समय रहते स्वयं को नहीं रोक पाते हैं, तो आपको बाद में इसका बहुत पछतावा होगा। यदि आप आज इन स्थितियों से बच सकते हैं तो आपका आज का दिन बहुत लाभदायक और अच्छे परिणाम देने वाला होगा। अगर आपके साथ कोई कानूनी परेशानी है, तो आज आप पेशेवर वकील से सलाह करने में संकोच न करें।

धनु : आज चंद्रमा आपकी राशि से कर्म भाव में रहेगा। आज आप सबसे पहले तो यह ध्यान रखें कि इंटरनेट पर सामाजिक नेटवर्कों आदि पर ज्यादा समय खराब न करें। आपके कामकाज में अड़चनें आती रहेंगी, और सबसे बड़ी और आपका समय बर्बाद करने वाली अड़चन खुद आपका मन होगा। अपने नौकरी, व्यापार और व्यवसाय के मामलों में अपनी महत्वाकांक्षाओं पर ध्यान दें। कड़ी मेहनत करें, कुछ नया करने का प्रयास करें और कम से कम अपने दायरे के बाकी लोगों से अपनी श्रेष्ठता साबित करने की कोशिश करें। लेकिन इसका अर्थ यह नहीं है कि आप दूसरों की प्रगति में अड़चनें पैदा करने की कोशिश करें। अपने स्तर पर आगे बढ़ें। आज आपकी विचार प्रक्रिया बहुत स्पष्ट और सकारात्मक रहेगी और चुनौतीपूर्ण या परीक्षा लेने वाली परिस्थितियों में भी उसे वैसा ही बनाए रखें। हालांकि आज आप आमतौर पर काल्पनिकता में रहना पसंद करेंगे।

मकर : आज चंद्रमा आपकी राशि से भाग्य भाव में रहेगा। आज आपके लिए अपना मूड प्रसन्न बने रखना, स्वयं को सकारात्मक बनाए रखना कठिन महसूस होगा। खास तौर पर आज आप अपनी पैसों की स्थिति और अपने जीवन में सामान्य तौर पर किसी न किसी तरह की अपर्याप्तता या खालीपन को लेकर नकारात्मक विचारों में फंस सकते हैं। काम में मन न लगने के कारण आपको आज थोड़ी और उदासी हो सकती है। आपका दफ्तर में भी किसी सहकर्मी के साथ विवाद हो सकता है और परिवार के भी बुजुर्ग सदस्य आज आपको खरी-खोटी सुना सकते हैं। हालांकि आप अपने आत्मविश्वास से, अपने आत्मचिंतन से सकारात्मक ऊर्जा पैदा कर सकते हैं। स्वयं को किसी भी विवाद-टकराव से दूर रखने का प्रयास करें। अपने काम पर ध्यान केंद्रित करें, और बहस में पड़े बिना बातचीत और संवाद करने की कोशिश करें तो आपका आज का दिन बहुत अच्छा साबित होगा। लेकिन उन लोगों के साथ बहुत अधिक गपशप न करें, जिन्हें आप वास्तव में अच्छी तरह नहीं जानते हैं। वरना आपकी बात का बतंगड़ बना दिया जाएगा। यदि आज आप लंबी यात्रा करने जा रहे हैं, तो थोड़ी सावधानी रखें।

कुंभ : आज चंद्रमा आपकी राशि से अष्टम भाव में है। आज का दिन आपके लिए बहुत सकारात्मक रहेगा। आप जहां भी काम करते हैं, वहां आज आपको पहचान, प्रशंसा और सम्मान मिलेगा। नौकरी या पदोन्नति के लिए प्रयास कर रहे लोगों को, राजनीतिज्ञों को कोई बड़ा और सार्वजनिक पद मिल सकता है, जिसके साथ बहुत सारे अधिकार जुड़े होंगे। नौकरी में आपके अधिकारों में वृद्धि हो सकती है। ब्लॉग लिखने वालों की आॅनलाइन लोकप्रियता में वृद्धि होगी। आज आप बहुत उत्साहित रहेंगे। लेकिन साथ ही आप लगातर अपनी बात की रट लगाए रहेंगे। जरूरी नहीं कि सारे लोग आपकी बात सुनने के लिए तैयार हों। वाणी के बजाए कर्मों से काम लें। आज आप किसी छोटे बच्चे, बूढ़े या बीमार लोगों के साथ व्यवहार में यथासंभव दया और उदारता का प्रदर्शन करें।

मीन: आज चंद्रमा आपकी राशि से सातवें भाव में है। आज आप खुद को नियंत्रण में और संयम में रखें। आज आप जो कुछ भी कहते हैं या करते हैं, उसका आपके जीवन पर बहुत गहरा प्रभाव पड़ने जा रहे है। हो सकता है कि आपको कोई महत्वपूर्ण परिणाम न मिले, लेकिन अगर बात फिसली, तो आपको महत्वपूर्ण सबक जरूर मिल सकता है। इसलिए आज आप कोई अनावश्यक जोखिम न लें। आज खुद को बढ़ा-चढ़ा कर जताने की कोशिश आपके लिए नुकसानदेह साबित हो सकती है। यहां तक कि अपनी वास्तविक उपलब्धियों को लेकर भी चुप बने रहें, लोगों को स्वयं ही बात करने दें। वास्तव में अगर आप जरूरत से ज्यादा आत्म-प्रशंसा करेंगे, तो लोग आपकी हर बात को संदेह की नजर से देखेंगे, और आपकी हर बात को खोखला साबित कर देंगे। इसके बजाए आप अपने आत्म-विकास और निर्माण पर ध्यान दें।

03-08-2019
राशिफल : चंद्रमा का सिंह में संचार, कैसा गुजरेगा आज आपका

12 राशियों में से हर व्यक्ति की अलग राशि होती है, जिसकी मदद से व्यक्ति यह जान सकता है कि उसका आज का दिन कैसा होगा? ज्योतिष में ग्रहों की चाल से शुभ और अशुभ घड़ियां बनती हैं, जो हमारे जीवन को प्रभावित करती हैं। अगर आपकी राशि के बारे में आज का दिन अच्छा है, तो आप उसे सेलिब्रेट कर सकते हैं, वहीं अगर आज का दिन आपके लिए खराब है तो आप पंडित जी के दिए गए सुझावों को अपनाकर कुछ अच्छा कर सकते हैं। 

मेष: आज श्रावण मास के शुक्ल पक्ष की तृतीया तिथि है, जिसे सुहागिन महिलाएं हरियाली तीज के नाम से मनाती हैं। महिलाओं के लिए आज का दिन शुभ है। वहीं चंद्रमा का दिन रात सिंह राशि में संचार हो रहा है। इसका आपकी राशि पर क्?या होगा असर, देखें सबसे पहले मेष राशि कारोबार सामान्य रहेगा। मनोरंजन कार्य पर खर्च होगा। आज आपको अपनी प्रतिभा का लाभ मिलेगा और आपकी पहचान बनेगी। नई योजनाएं लाभ देंगी। भाग्य 78 % साथ देगा।
वृषभ: आज के दिन कोई नया कार्य न शुरू करें। जोखिमपूर्ण निवेश करने से बचें। पूरे दिन किसी से वाद-विवाद में न पड़ें। क्रोध पर नियंत्रण रखें। भाग्य 59 % साथ देगा।
मिथुन: पराक्रम में वृद्धि होगी। आज आपका मनोबल बढ़ेगा। कारोबार में बढ़ोत्तरी होगी। नए संपर्क बनेंगे जिनके होने से आपको लाभ होगा। भाग्य 87 % साथ देगा।
कर्क: लेन-देन के कार्यों में सावधान रहें। धन निवेश करते समय विशेष सावधानी बरतें। आज किसी को उधार न दें, क्योंकि आज दिए हुए धन के वापस आने की संभावना कम है। आज स्वास्थ्य के प्रति सावधान रहने की जरूरत है। भाग्य 48 % साथ देगा।
सिंह: प्रत्येक कार्य के लिए आज खुद से प्रयास अथवा स्वयं कोशिश करने से ही सफलता मिलेगी। व्यापार-व्यवसाय में उन्नति के अवसर दिखाई दे रहे हैं।  भाग्य 71 % साथ देगा।
कन्या: खर्च की अधिकता रहेगी। किसी न किसी कारण से अनावश्यक खर्च होने के संकेत मिल रहे हैं। व्यर्थ की यात्रा भी करनी पड़ सकती है। फिजूलखर्च से बचने की जरूरत है। धन संचय पर ध्यान केंद्रित करने की जरूरत है। भाग्य 62 % साथ देगा।
तुला: आपकी आमदनी में बढ़ोत्तरी होगी। धन लाभ होगा। जोखिमपूर्ण निवेश करें तो लाभ अवश्य मिलेगा। आज शिक्षा के क्षेत्र में संतोषजनक परिणाम मिलने की संभावना है। भाग्य 90 % साथ देगा।
वृश्चिक: आपका सितारा अनुकूल है। आपको हर क्षेत्र में लाभ के साथ सफलता प्राप्त होगी। कामकाज में आ रहीं बाधाएं दूर होंगी। परिजनों का सहयोग मिलेगा। भाग्य 95 % साथ देगा।
धनु: आपकी धार्मिक प्रवृत्ति में बढ़ोत्तरी होगी। समाज में मान-प्रतिष्ठा बढ़ेगी। आपके विरोधी परास्त होंगे और यात्रा लाभकारी रहेगी। भाग्य 80 % साथ देगा।
मकर: आज परिश्रम अधिक और लाभ कम रहेगा। कार्यों में बाधाएं आने की आशंका है। आज यात्रा करने से बचें। वाहन सावधानीपूर्वक चलाएं, वाहन चलाते समय चोट-चपेट लगने की संभावना है। भाग्य 60 % साथ देगा।
कुंभ: अगर कोई नया रोजगार शुरू करने की सोच रहे हैं, तो यह समय बहुत शुभ है इसलिए अवश्य प्रारंभ कर सकते हैं। आपको इसमें सफलता अवश्य मिलेगी। अविवाहितों के विवाह की बात आगे बढ़ेगी। भाग्य 89 % साथ देगा।
मीन: आज संघर्ष के बाद सफलता अवश्य मिलेगी। कोई नया आॅर्डर अथवा अनुबंध मिलने की संभावना है। शत्रु बलहीन रहेंगे। भाग्य 50 % साथ देगा।

27-06-2019
चंद्रमा पर जीवन की संभावनाएं तलाशेगा चंद्रयान-2, इस दिन होगा प्रक्षेपण

नई दिल्ली। सरकार ने चंद्रमा पर जीवन की संभावनाएं तलाशने के लिए विशेष अंतरिक्ष यान  चंद्रयान-2 के 15 जुलाई 2019 को प्रक्षेपण की तैयारी पूरी कर ली है। प्रधानमंत्री कार्यालय में राज्यमंत्री जितेंद्र सिंह ने बताया कि संसद सदस्यों को भी इस ऐतिहासिक पल का गवाह बनाने के बारे में इसरो के वैज्ञानिकों से विचार विमर्श किया जाएगा। सिंह ने गुरुवार को राज्यसभा में प्रश्नकाल के दौरान यह जानकारी दी। कांग्रेस के रिपुन बोरा ने चंद्रयान 2 अभियान की तैयारियों की जानकारी मांगते हुए इसके प्रक्षेपण के दौरान उच्च सदन के सदस्यों को भी इस पल का दीदार करने की मांग की।  सिंह ने बताया कि चंद्रयान अभियान हम सभी के लिए गर्व का विषय है और मैं सभापति से अनुरोध करूंगा कि सभी दलों के सांसदों का प्रतिनिधिमंडल भी चंद्रयान 2 के आगामी 15 जुलाई को होने वाले प्रक्षेपण के पल का गवाह बन सके। सिंह ने इस अभियान का महत्व बताते हुए कहा कि चांद की सतह पर 1969 में मनुष्य को भेजने वाला अमेरिका पहला देश था। इसके बाद भारत पहला देश है जिसने चंद्रयान-1 अभियान के तहत चांद की सतह पर पानी की मौजूदगी की खोज की। इसके बाद दुनिया को पहली बार चांद पर मानव जीवन की संभावनाओं के पुष्ट संकेत मिले। उन्होंने बताया कि भारत चंद्रयान के दूसरे चरण में चांद पर मानव जीवन की संभावनाओं को तलाशने के अगले चरण में चंद्रयान-2 का श्रीहरिकोटा से प्रक्षेपण करने जा रहा है। सिंह ने बताया कि 59 दिन की अंतरिक्ष यात्रा के बाद यह अंतरिक्ष यान स्वदेशी ऑर्बिटर, लैंडर और रोवर के साथ एक सितंबर को चांद की सतह पर उतरेगा। 

 

 

Advertise, Call Now - +91 76111 07804