GLIBS
पूर्व वित्त मंत्री रामचंद्र सिंहदेव को श्रद्धांजलि देने पहुंचे मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह 

रायपुर। मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह राज्य के पहले वित्त मंत्री रामचंद्र सिंहदेव को श्रद्धांजलि देने वीआईपी रोड स्थित उनके बंगले में पहुंचे। यहां उन्होंने रामचंद्र सिंहदेव को श्रद्धासुमन अर्पित किए। बता दें कि साल 2000 में मध्यप्रदेश से अलग होकर बने छत्तीसगढ़ की पहली सरकार में रामचन्द्र सिंहदेव वित्त मंत्री थे। इससे पहले अविभाजित मध्यप्रदेश में भी वे कैबिनेट मंत्री रह चुके हैं।

रामचंद्र सिंहदेव को कोरिया कुमार के नाम से भी जाना जाता है। डा. सिंह देव  की स्कूली शिक्षा राजकुमार कालेज से हुई है। उसके बाद आगे की शिक्षा के लिए वे इलाहाबाद विश्वविद्यालय गए। जहां पर उनके सहपाठी  विश्वनाथ प्रताप सिंह व नारायण दत्त तिवारी रहे। साथ ही भूतपूर्व मूख्य मंत्री अर्जुन सिंह व पूर्व प्रधानमंत्री  वीपी सिंह उनके जूनियर रहे है। कोरिया राजघराने के रामचंद्र सिंहदेव ने 1967 में विधानसभा का चुनाव लड़ा और जीत हासिल कर सरकार में 16 विभागों के मंत्री बने थे। इसके बाद से वे अब तक 6 बार चुनाव जीतकर अविभाजित मध्यप्रदेश और छत्तीसगढ़ में विभिन्न महत्वपूर्ण मंत्री पदों पर भी रहे। 

1 लाख से ज्यादा शिक्षाकर्मियों का संविलियन राज्य सरकार की एक बड़ी उपलब्धि: सीएम रमन सिंह

रायपुर। मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह ने गुरुवार दोपहर मंत्रालय (महानदी भवन) में प्रदेश के सभी 27 जिलों के प्रभारी सचिवों की बैठक ली बैठक में विभिन्न योजनाओं की समीक्षा की गई। उन्होंने अधिकारियों से प्रधानमंत्री आवास योजना, मनरेगा, सार्वजनिक वितरण प्रणाली, प्रधानमंत्री उज्ज्वला योजना और प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना की प्रगति सहित संचार क्रांति योजना के तहत स्मार्ट फोन वितरण की तैयारी के बारे में जिलेवार जानकारी ली।

डॉ. सिंह ने इस बात पर खुशी जताई कि प्रधानमंत्री उज्ज्वल योजना शुरू होने के लगभग दो वर्ष के भीतर राज्य में अब तक गरीब परिवारों की 22 लाख 77 हजार महिलाओं को सिर्फ 200 रूपए के पंजीयन शुल्क पर रसोई गैस कनेक्शन दिए जा चुकें हैं। उन्होंने एक लाख से ज्यादा शिक्षाकर्मियों के संविलियन की प्रकिया पूर्ण होने पर भी प्रसन्नता व्यक्त की। उन्होंने इसके लिए संबंधित अधिकारियों और विभागों की प्रशंसा करते हुए कहा कि मेरी घोषणा के एक माह के भीतर एक लाख से ज्यादा शिक्षाकर्मियों का संविलियन एक बड़ी उपलब्धि है। अब इन शिक्षाकर्मियों को शिक्षक (एल.बी.) के पद नाम से जाना जाएगा और उन्हें नियमित वेतन चालू जुलाई माह से मिलने लगेगा। उल्लेखनीय है कि मुख्यमंत्री ने विकास यात्रा के प्रथम चरण के समापन के दिन 10 जून को अम्बिकापुर में आयोजित विशाल आम सभा में प्रदेश के शिक्षाकर्मियों के संविलियन की घोषणा की थी। मुख्यमंत्री के निर्देश पर अधिकारियों ने प्रदेश भर में विकासखंड स्तर पर शिविर लगाकर शिक्षाकर्मियों के संविलियन की समस्त औपचारिकताओं को तत्परता से पूर्ण कर लिया।

डॉ. रमन सिंह ने आज की समीक्षा बैठक में वर्तमान खरीफ मौसम को ध्यान में रखते हुए किसानों के लिए खाद और बीज वितरण की व्यवस्था और प्रगति की भी समीक्षा की। उन्होंने  कहा कि विकास यात्रा के दूसरे चरण में तेन्दूपत्ता संग्राहकों को बोनस भी वितरित किया जाएगा। सभी वन विभाग के अधिकारी उसके लिए जिला कलेक्टरों से समन्वय कर आवश्यक तैयारी जल्द पूर्ण करें। उन्होंने आबादी पट्टा वितरण, सामाजिक सुरक्षा पेंशन योजना, राष्ट्रीय स्वास्थ्य बीमा योजना और मुख्यमंत्री स्वास्थ्य बीमा योजना की प्रगति का भी अधिकारियों से ब्यौरा लिया। डॉ. सिंह ने बारिश के मौसम को देखते हुए सभी जिलों में स्वच्छ पेयजल की उपलब्धता और उल्टी-दस्त जैसी संक्रामक बीमारियों की रोकथाम के लिए प्रशासन को मुस्तैद रहने के भी निर्देश दिए।

मुख्यमंत्री ने आज की समीक्षा बैठक में वर्तमान शिक्षा सत्र का उल्लेख करते हुए छात्र-छात्राओं के लिए जाति, निवास और आय प्रमाण पत्र वितरण का कार्य युद्ध स्तर पर पूर्ण करने के भी निर्देश दिए। उन्होंने ऊर्जा विभाग के समीक्षा के दौरान प्रधानमंत्री सहज बिजली हर घर योजना (सौभाग्य) योजना सहित अक्षय ऊर्जा विकास अभिकरण (क्रेडा) के कार्यो के बारे में भी अधिकारियों से जानकारी ली। डॉ. सिंह ने इसके अलावा प्रत्येक जिले में अधोसंरचना विकास के लिए चल रहे प्रमुख कार्यो को भी निर्धारित समय-सीमा में पूर्ण करने के निर्देश दिए। मुख्यमंत्री ने बैठक में लोक सुराज अभियान और विकास यात्रा के दौरान की गयी घोषणाओं के क्रियान्वयन और विभिन्न विभागों में अनुकम्पा नियुक्ति के प्रकरणों के निराकरण की स्थिति का ब्यौरा लिया। उन्होने कहा कि जन संवाद के तहत आम जनता से सरकारी योजनाओं के बारे में महत्वपूर्ण फीड बैक मिल रहा है।

बैठक में मुख्य सचिव अजय सिंह, अपर मुख्य सचिव सर्व सुनील कुजूर, सी.के. खेतान, आरपी मण्डल, मुख्यमंत्री के प्रमुख सचिव अमन कुमार सिंह, वित्त विभाग के प्रमुख सचिव अमिताभ जैन, विधि विभाग के प्रमुख सचिव आर.एस. शर्मा, खाद्य और सामान्य प्रशासन विभाग की प्रमुख सचिव ऋचा शर्मा, जल संसाधन विभाग के सचिव सोनमणि बोरा, स्वास्थ्य विभाग की सचिव निहारिका बारिक सिंह, ऊर्जा विभाग के विशेष सचिव सिद्धार्थ कोमल परदेशी, वाणिज्य एवं उद्योग विभाग के विशेष सचिव डॉ. कमलप्रीत सिंह, नगरीय प्रशासन और विकास विभाग के सचिव डॉ. रोहित यादव, पंचायत और ग्रामीण विकास विभाग के सचिव पी.सी. मिश्रा, सहकारिता विभाग की सचिव रीता शांडिल्य, मुख्यमंत्री के सचिव एम.के. त्यागी, वाणिज्यिक-कर विभाग के सचिव डी.डी. सिंह, स्कूल शिक्षा विभाग के सचिव गौरव द्विवेदी, आदिम जाति और अनुसूचित जाति विकास विभाग की विशेष सचिव रीना बाबा साहेब कंगाले, लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी विभाग के विशेष सचिव अन्बलगन पी., श्रम विभाग की विशेष सचिव आर.शंगीता, खनिज विभाग की संचालक अलरमेल मंगई डी., समाज कल्याण विभाग के सचिव आर. प्रसन्ना, जनसम्पर्क विभाग के संचालक चन्द्रकांत उइके, चिप्स के मुख्य कार्यपालन अधिकारी एलेक्स पाल मेनन, नया रायपुर विकास प्राधिकरण के मुख्य कार्यपालन अधिकारी रजत कुमार सहित अन्य संबंधित विभागों के वरिष्ठ अधिकारी उपस्थित थे।

Video : सीएम रमन सिंह ने सतपाल ढांड के निधन पर गहरा दु:ख जताया
निवास पहुंच कर श्रद्धांजलि अर्पित की, मौके पर मौजूद रहे तमाम बड़े अधिकारी
प्रदेश के 18 सीटों पर सांसद अभिषेक सिंह समेत युवाओं ने ठोकी ताल... पढ़ें पूरी खबर 

रायपुर। अगामी विधानसभा सीटों के लिए इस बार युवाओं ने भी बड़ी संख्या में दावेदारी शुरू कर दी है। हालांकि यह दावा पार्टी फोरम में नहीं की गई है लेकिन जमीन स्तर पर विधानसभा क्षेत्र में इन युवाओं की सक्रियता और लोगों के जुबान पर चढ़ते युवा नेताओं के नाम, उनकी दावेदारी को साबित करते हैं। राजनीतिक गलियारे में बड़ी खबर यह है कि राजनांदगांव के सांसद व मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह के पुत्र अभिषेक सिंह पंडरिया से चुनाव लड़ सकते हैं। 

बता दें कि एक दिन पहले ही स्वयं मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह ने 30 फीसदी युवाओं को टिकट देने पर विचार किए जाने की बात कही है। वहीं कांग्रेस में जब से राहुल गांधी को पार्टी की कमान मिली है, तब से वे युवाओं को आगे लाने की बात कह रहे हैं। वहीं कांग्रेस में पिछले दफा कई वरिष्ठ नेता पराजित हो चुके हैं। ऐसे में युवाओं को इस बार महत्व दिया जा सकता है। हालांकि पीसीसी अध्यक्ष भूपेश बघेल द्वारा संगठन के अध्यक्ष व महापौर को विधानसभा चुनाव नहीं लड़ाए जाने के फैसले को लेकर पार्टी में अंधरुनी कलह पैदा हो गई है। क्योंकि प्रदेश कांग्रेस संगठन में कई युवा चेहरे हैं, जो संगठन की जवाबदारी संभाल रहे हैं।

जिनमें रायपुर शहर अध्यक्ष विकास उपाध्याय,बेमेतरा से आशीष छाबड़ा, राजनांदगांव से नवाज खान वहीं महापौर में रायपुर से प्रमोद दुबे, भिलाई से देवेंद्र यादव और जगदलपुर से महापौर जतिन जायसवाल जैसे युवा चेहरे विधानसभा चुनाव लड़ने की पूरी तैयारी में है। उन्हें सिर्फ  पार्टी से टिकट मिलने का इंतजार है। 

बहरहाल की खास रिपोर्ट में देखिए आखिर किन सीटों पर किस-किस युवा नेताओं ने दावेदारी की है। 

कांग्रेस

रायपुर पश्चिम - विकास उपाध्याय, सुबोध हरितवाल 

रायपुर उत्तर - अजित कुकरेजा 

रायपुर दक्षिण - एजाज ढेबर, सतनाम सिंह पनाग 

भिलाई - देवेन्द्र यादव 

राजनांदगांव - निखिल द्विवेदी, जितेन्द्र मुदलियार 

खल्लारी - अंकित बागबहारा 

धमतरी - आनंद पवार 

बस्तर कांकेर - नरेश ठाकुर 

बिलासपुर मस्तुरी - महेंद्र गंगोत्री 

भाजपा

पंडरिया- अभिषेक सिंह 

बसना -पियूष मिश्रा 

बेलतरा - सुशांत शुक्ला, हर्षिता पाण्डेय, प्रफुल्ल शर्मा 

रायपुर ग्रामीण - अमित साहू 

रायपुर उत्तर - राजेश पाण्डेय, योगी अग्रवाल, अमरजीत छाबड़ा 

कवर्धा - विजय शर्मा 

खैरागढ़ - विक्रांत सिंह 

खरसिया - कमल गर्ग 

डोंगरगढ़ - नीलू शर्मा 

भानुप्रतापपुर - सतीश लाठिया 

कांकेर -किरण उसेंडी 

विधानसभा चुनाव में भाजपा 30 प्रतिशत नए चेहरों को देगी मौका

रायपुर। आगामी विधानसभा चुनाव के भारतीय जनता पार्टी इस बार 30 फीसदी नए चेहरों को मौका देगी। स्वयं मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह ने आज इंडोर स्टेडियम में आयोजित युवा कौशल दिवस पर आयोजित कार्यक्रम के दौरान मीडिया से चर्चा में यह बात कही। 

इस बार भाजपा ने बस्तर और सरगुजा की सीटों पर हर हाल में जीतने का लक्ष्य रखा है। दरअसल यहीं की सीटें भाजपा को मिशन 65 तक पहुंचाएगी। उम्मीद ही है यहां से युवा व नए चेहरों पर इस बार भाजपा दांव लगा सकती है। हाल ही में हुए भाजयुमो के प्रदेश कार्यसमिति की बैठक में भी इस बार विधानसभा में युवाओं को टिकट देने की चर्चा रही। 

 बता दें कि आज छत्तीसगढ़ कौशल विकास प्राधिकरण द्वारा विश्व युवा कौशल दिवस पर आयोजित छत्तीसगढ़ कौशल ओलंपियाड कार्यक्रम में मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह ने ओलंपियाड के विजेताओं को पुरस्कृत किया।  इस मौके पर मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह ने छत्तीसगढ़ के युवाओं का स्वागत करते हुए कहा कि छत्तीसगढ़ हिदुस्तान का यह अकेला राज्य है जो कौशल उन्नयन का कानून बनाया है।

विश्व के जितने भी सक्सेस देश है, उसके पीछे उनका एक स्किल है। प्रदेश ने उस स्किल को डेवलप किया है। उन्होंने कहा कि अब हमारे ही प्रदेश में मेकैनिकल से लेकर हर क्षेत्र में युवा हैं। अलग अलग क्षेत्र में युवाओं ने प्लेसमेंट को बढ़ाया है। जेल के कैदियों के लिए भी कौशल योजना प्रावधान लाया जा चुका है। 

आप ने विधानसभा उम्मीदवारों की सूची की जारी, 6 लोगों के नामों की घोषणा.. पढ़े पूरी खबर

रायपुर। आम आदमी पार्टी ने शनिवार को आगामी विधानसभा चुनाव के लिए तीसरी सूची जारी कर दी है। सूची में छह प्रत्याशियों के नाम घोषित किए गए हैं। सूची के अनुसार राजनांदगांव से मुंख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह के खिलाफ आप से डॉ. सौरभ निर्वाणी चुनाव लड़ेंगे। इसके अलावा बलौदा बाजार से मनहरण लाल वर्मा,

डोंगरगांव से  चंद्र मणि वर्मा, कवर्धा से डॉ भास्कर द्विवेदी, बिलासपुर से डॉ शैलेश आहूजा और  मुंगेली से रामकुमार गन्धर्व विधानसभा चुनाव लड़ेंगे।

यह सूची दिल्ली में आपके विधायक सोमनाथ भारती ने आज जारी की है। इससे पहले आप ने 62 उम्मीदवारों के नामों की घोषणा कर दिया है। प्रदेश में उम्मीदवारों की घोषणा के मामले में आम सबसे आगे चल रही है। आप के बाद जनता कांग्रेस भी अपने उम्मीदवारों की घोषणा करनी शुरू कर दी है। इधर कांग्रेस भी 15 अगस्त तक अपने प्रत्याशियों के घोषणा करने का ऐलान कर चुकी है। इस मामले में अभी भाजपा पीछे है। भाजपा उम्मीदवारों को लेकर अभी तक अपना पत्ता नहीं खोला है।

उम्मीदवारों के ऐलान के दौरान  दिल्ली के पूर्व कानून मंत्री एवम मालवीय नगर के विधायक सोमनाथ भारती,विधायक नितिन त्यागी, विधयाक विजरेंद्र गर्ग , विधयाक प्रवीण देशमुख और प्रदेश पार्टी अध्यक्ष संकेत ठाकुर मौजूद रहे।

 

आज 10 जगहों से निकलेगी भगवान जगन्नाथ की रथयात्रा

रायपुर। राजधानी में आज 10 जगहों से भगवान जगन्नाथ की रथ यात्रा निकलेगी। पुरानी बस्ती टूरी हटरी से सैकड़ों साल पुरानी रथयात्रा में हजारों लोग शामिल होंगे। वहीं गायत्री नगर स्थित जगन्नाथ मंदिर में भी भव्य रथयात्रा का आयोजन किया जाएगा। यहां मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह अपनी पत्नी समेत पहुंचे। उन्होंने पूजा-पाठ किया। बता दें कि रथ में भगवान जगन्नाथ, भाई बलभद्र और बहन सुभद्रा सवार होंगी। उसके बाद वे नगर भ्रमण पर करेंगे। इससे पहले शुक्रवार को शहर के पुरानी बस्ती स्थित टूरी हटरी स्थित जगन्नाथ मंदिर, गायत्री नगर, टूरी हटरी, सदर बाजार स्थित मंदिर में भगवान का नेत्र उत्सव मनाया गया। 14 दिन तक अनसर काल में रहने के बाद भगवान ने स्वस्थ होकर भक्तों को दर्शन दिए। परंपरा के अनुसार उन्हें काजल लगाकर आईना दिखाया गया। इसके साथ ही भगवान के स्वस्थ हो जाने की खुशियां मनाई गई।

16 फीट का होगा रथ

इस बार शहर का सबसे बड़ा रथ अवंति विहार स्थित जगन्नाथ मंदिर से निकाला जाएगा। रथ की ऊंचाई 16 फीट है। यहां ओड़िशा की तर्ज पर भगवान बलभद्र और सुभद्रा के लिए भी रथ बनवाए गए हैं।

राज्यपाल और सीएम पूरी करेंगे छेरा पहरा की रस्म

गायत्री नगर स्थित जगन्नाथ मंदिर में राज्यपाल बलरामजी दास टंडन और मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह छेरा पहरा की रस्म पूरी करेंगे। यह रस्म वे सोने की झाड़ू से करेंगे।  ओडिशा का नृतक, शंखनाद, संकीर्तन और मंडलियों द्वारा पारंपरिक नृत्यों की प्रस्तुति की दी जाएगी।

जहां रहते हैं CM, वहां होती है सर्वाधिक चोरी

रायपुर। प्रदेश में पुलिसिंग व्यवस्था की एक बार फिर पोल खुल गई है। मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह जहां रहते हैं, वहां सर्वाधिक बाइक चोरी की घटनाएं हो रही हैं। पिछले 12 जून से अब तक यानी करीब एक माह के भीतर राजधानी में 34 बाइक चोरी हुई। इनमें सर्वाधिक बाइक चोरी की वारदात सिविल लाइंस थाना अंतर्गत हुई है। यह वह इलाका है जहां मुख्मंत्री ही नहीं बल्कि दर्जनों मंत्री, राज्य के मुख्य सचिव व डीजीपी तक का निवास स्थान है। यानी प्रदेश में शासन-प्रशासन के तमाम बड़ी हस्तियां इसी क्षेत्र में निवास करते हैं। इसके राजधानी के 27 थानों में सिविल लाइंस थानाक्षेत्र में सर्वाधिक चोरी की वारदात पुलिस की कार्यशौली को उजागर कर रहा है। हालांकि इस पूरे मामले में दूसरा पक्ष यह भी है कि सिविल लाइंस क्षेत्र में राजातालाब, नुरानी चौक, ताज नगर, ईरानी डेरा, बस स्टैंड जैसे संवेदनशील जगह भी शामिल हैं, जिसे पुलिस अपराध की दृष्टि से संवेदनशील मानती है। 

बताया जा रहा है कि शहर में औसतन हर महीने 50 से अधिक दो पहिया चोरी हो रहे हैं। इन गाड़ियों को दूसरे राज्यों में खपाया जा रहा है। वहीं इस बात की जानकारी मिली है कि चोरी की बाइक को छुपाने के लिए शहर की पार्किंग स्थलों को सुरक्षित ठौर के रूप में उपयोग किया जा रहा है। वहीं चोरी की गाड़ियों की गाड़ियों के कलपुर्जों अलग-अलग कर वाहनों के पुर्जों को टुकड़ों में बेचने का भी कारोबार शहर में लंबे अरसे से चल रहा है। बता दें कि शहर में प्रतिमाह साइकिल चोरी की घटना भी सैकड़ा पार कर रही है। हालांकि इस मामले में पुलिस में शिकायत की संख्या काफी कम है। इसके पीछे वजह है कि साइकिल चोरी की  रिपोर्ट लिखाने अधिकांश के पास साइकिल खरीदी की रसीद नहीं होती। वहीं कीमत कम होने के कारण पुलिस भी साइकिल चोरी की रिपोर्ट लिखने में सुस्ती बरतती है। जबकि शहर में साइकिल चोरी करने वाले दर्जनों गिरोह सक्रिय हैं।

पिछले एक माह हुई बाइक चोरी की पूरी जानकारी

कालीनगर पंडरी निवासी हेमंत कुमार की मोटरसायकल क्रमांक सीजी 04 सीटी 6247 को चोर ने 7 जून को छत्तीसगढ़ कॉलेज के पार्किंग से गायब कर दिया गया। इसी तरह राजातालाब निवासी साजिद खान की एक्टिवा क्रमांक सीजी 04 एलआर 1875 को नूरानी चौक के पास से 17 जून को अज्ञात चोर ने पार कर दिया। दलदल सिवनी निवासी नीलेश कुमार की एक्टिवा क्रमांक सीजी 04 केएक्स 4895 को शहीद वीरनारायण सिंह के पार्किंग से 15 जून को अज्ञात चोर लेकर रफूचक्कर हो गया। दलदल सिवनी निवासी भगवान दास चावला की एक्टिवा क्रमांक सीजी 05एच 3586 को अज्ञात चोर ने 27 जून को पंडरी स्थित कोटक महेन्द्रा बैंक के पास से अज्ञात चोर लेकर रफू-चक्कर हो गया। इसी तरह मांढर निवासी रघुवीर सरकार की मोटरसाइकिल क्रमांक सीजी 04 एलपी 8953 को चोरों ने 7 जुलाई को डाटा स्टेट सेंटर के सामने से पार कर दिया। इसी तरह अन्य थानों में जैसे गोलबाजार में 3, आमानाका में 3, डीडीनगर में 3, आजाद चौक में 3, देवेन्द्र नगर में 3, तेलीबांधा में 2, मौदहापारा में 2, गंज में 2 सहित अन्य थानों में भी मोटरसाइकिल चोरी का मामला दर्ज हुआ है।

पॉश कॉलोनी के साथ संवेदनशील इलाके भी हैं

सिविल लाइंस पॉश कॉलोनी है, लेकिन इसके साथ ही वहां कई ऐसे इलाके भी हैं जो अपराध की दृष्टि से संवेदनशील हैं, अधिकांश अपराध उन्हीं क्षेत्रों में होती है। जैसे राजातालाब, नुरानी चौक, ईरानी डेरा, ताज नगर क्षेत्रों अपराध घटित होते हैं, चूंकि सिविल लाइंस बोलने से ऐसा लगता है कि यहां सिर्फ पॉश कॉलोनी ही होंगी, जबकि ऐसा नहीं है।

प्रफुल्ल ठाकुर, एएसपी सिटी

 

युवा इंटक के कार्यकर्ताओं को मुख्यमंत्री का पुतला फूंकने से पुलिस ने रोका

जांजगीर-चांपा। शासन-प्रशासन पर दिए गए विभिन्न आवेदनों में कार्रवाई नहीं करने का आरोप लगाते हुए युवा इंटक जिलाध्यक्ष के नेतृत्व में आज परशुराम चौक चांपा में धरना प्रदर्शन किया गया। इस दौरान मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह का पुतला फूंकने भरपूर प्रयास किया गया, लेकिन मौजूद पुलिस ने उन्हें रोक लिया। आखिरकार इंटक ने कलेक्टर के नाम तहसीलदार को ज्ञापन देकर कलेक्टोरेट घेराव की चेतावनी दी।

युवा इंटक जिलाध्यक्ष लाखन सिदार ने बताया कि बीते कुछ समय से क्षेत्र की विभिन्न समस्या और मुद्दे को लेकर शासन-प्रशासन को ज्ञापन दिया गया। यहां तक मड़वा पावर प्लांट में ठेका श्रमिकों का भरपूर शोषण किया जा रहा है। इस मामले में कार्रवाई के लिए ज्ञापन दिया गया। इसी तरह सक्ती विधायक डॉ. खिलावन साहू के खिलाफ भी ज्ञापन दिया गया था।

इसके अलावा कई मामलों में शासन-प्रशासन को ज्ञापन दिया गया, लेकिन अब तक किसी भी मामले में कोई कार्रवाई नहीं की गई। इस वजह से आज आंदोलन किया गया। इधर, सीएम का पुतला फूंकने की खबर से प्रशासन पहले से सजग था। जैसे ही मुख्यमंत्री का पुतला दहन करने प्रयास हुआ, पुलिस ने उन्हें रोक दिया। इसके बाद कलेक्टर के नाम तहसीलदार सरस्वती बंजारे को ज्ञापन सौंपा गया। 

भाजयुमो के प्रदेश कार्यसमिति का धरमलाल कौशिक ने किया शुभारंभ

जगदलपुर। भारतीय जनता पार्टी के अनुवांशिक संगठन भारतीय जनता युवा मोर्चा के प्रदेश कार्यसमिति का भाजपा प्रदेश अध्यक्ष धरमलाल कौशिक ने उद्घाटन किया। उन्होंने इस अवसर पर कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए कहा कि बस्तर हमारे लिए हमेशा महत्वपूर्ण रहा है और रहेगा इस बार हम बारह के बारह सीटों में विजय हासिल करने जा रहे है इस जीत में युवाओं की भूमिका बड़ी अहम होगी।

 भापपा प्रदेश अध्यक्ष ने भाजयुमों कार्यसमिति की बैठक में कांग्रेस पर भी जमकर हल्ला बोला। उन्होंने कहा कि  जब हम 2003 में बस्तर से कार्यसमिति के साथ ही हमें जीत का सिलसिला जारी रखा है और इस बार फिर से चौथी बार जीत के संकल्प के साथ फिर से चुनावी समर में है। कौशिक के मुताबिक कांग्रेस केवल कोरी काल्पनिक और बेतुकी नारों के साथ जनता के बीच जाती रहीं है, इसलिए जनता कांग्रेस को नकारते आ  रही है। हमने विकास का समग्र मॉडल दिया है जिसे जनता लगातार स्वीकार रही हैं । प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी और मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह संकल्प भाव के साथ समाज जीवन के तरक्की के लिए जुटे हुये है। हमारी सरकारे अनुकर्णीय है व आदर्श को स्थापित कर रही है। 

एकरिसोर्ट में आयोजित  कार्यसमिति के पहले दिन शिक्षा मंत्री केदार कश्यप ने भाजयुमों के कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए कहा कि एक समय बस्तर में समस्या की जड़े इतने मजबूत थी जिसे दूर करने की दिशा में कांग्रेस ने कभी ध्यान नहीं दिया। अब हम शिक्षा, स्वास्थ्य, सड़क के माध्यम से बस्तर को बेहतर बस्तर बनाने के लिए संकल्पित है। बस्तर की बदली हुई  तस्वीर अब सबको प्रेरित कर रहा है। भारतीय जनता पार्टी युवा मोर्चा के प्रदेशाध्यक्ष विजय शर्मा ने कहा युवा मोर्चा लगातार संगठनिक आधार पर और मजबूत होती जा रही है साथ ही युवा शक्ति चौथी बार संकल्प के साथ सरकार बनाने की दिशा में जुटी हुयी हैं निश्चित ही विजय उसे मिलता है जिसका लक्ष्य तय होता है। हम एक लक्ष्य के साथ समाज जीवन में काम कर रहें है। 

इस अवसर  पर शहीद वीर गुण्डाधुर परिवार के सदस्य परदेशी धुर मिलेनियम वोटर के तहत नौ मतदाता कार्यक्रम का हिस्सा बने। इस अवसर पर मंत्री महेश गागड़ा, रामप्रताप सिंह, भाजयुमो राष्ट्रीय महामंत्री अभिजात मिश्रा, प्रदेश प्रभारी ठाकुर रंजीत दास, विधायक संतोष बाफना, वन विकास निगम अध्यक्ष श्रीनिवास राव मद्दी, प्रदेश मंत्री किरण देव, जिलाध्यक्ष बैदुराम कश्यप, लच्छूराम कश्यप, शेषनारायण तिवारी, जबीता मण्डावी, संजय पाण्डेय, विक्रांत सिंह, प्रबल प्रतापसिंह जुदेव संजूनारायण सिंह, सुशांत शुक्ला, अनुराग अग्रवाल, कमल गर्ग, टिकेश्वर जैन सहित युवा मोर्चा के कार्यकर्ता मौजूद थे। 

मुख्यमंत्री भी शामिल होंगे 

मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह युवा मोर्चा के कार्यसमिति के दूसरे दिन 13 जुलाई को युवा तरूणाई को संबोधित करेंगे साथ ही वनौषधि बोर्ड के अध्यक्ष रामप्रताप सिंह का उदबोधन होगा साथ ही भाजयुमो के राष्ट्रीय महामंत्री अभिजात मिश्रा का समग्र मार्गदर्शन मिलेगा।

श्रीजगन्नाथ यात्रा की तैयारी जोरों पर, रथों को दिया जा रहा अंतिम रूप

रायपुर। महाप्रभु श्रीजगन्नाथ जी की रथ-यात्रा 14 जूलाई को आरम्भ होगी। जिसकी तैयारी जोरों पर है। मंदिर में रथ का रंग-रोंगन किया जा रहा है। 13 जूलाई को मंदिर पट खोला जाएगा। जिसके बाद भगवन अपने नये रूप में दिखाई देंगे।

बता दें कि परंपरा के मुताबिक महाप्रभु इस दिन स्वस्थ हो जाएगें। स्नान पूर्णिमा के बाद वे ज्वर से पीड़ित हो गए थे। जिसके बाद 13 जूलाई को मंदिर का पट खोला जाएगा व मान्यता के अनुसार इस दिन तुलसी जी का काढ़ा देकर उनकी चिकित्सा की जाएगी। बता दें कि भारत देश का यह सबसे बड़ा महोत्सव है जिसे पारंपरिक रीति के अनुसार धूमधाम से आयोजित किया जाता है। इसमें लगभग दस लाख श्रद्धालुओं के आने का अनुमान है। सेवायतों के अनुसार आषाढ़ शुक्ल पक्ष की द्वितीया से आरंभ महोत्सव शुक्ल एकादशी तक मनाया जाता है।

भगवान जगन्नाथ की रथयात्रा के लिए रथों के निर्माण का कार्य अंतिम दौर में चल रहा है। रथों को तैयार करने के लिए कारीगर दिन-रात जुटे हुए हैं। इन रथों को अंतिम रूप देने के बाद भगवान जगन्नाथ के मंदिर ले जाया जाएगा। जिसके बाद 14 जूलाई को रथयात्रा निकाला जाएगा।

जगन्नाथ मंदिर अध्यक्ष पुरेन्द्र मिश्रा ने बताया कि हर साल की तरह इस साल भी मंदिर से श्रीजगन्नाथ यात्रा धुम-धाम से निकाला जाना है। जिसके लिए मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह, राज्यपाल बलरामदासजी टंडन समेत प्रदेश के सभी नेता, मंत्रीयों को निमंत्रण दिया जा चुका है। उन्होंने बताया कि मंदिर की ओर से इस उत्सव को मनाने भव्य तैयारी की जा रही है।

बता दें कि इस रथयात्रा की काफी मान्यता होने के कारण यहां दूर-दूर से लोेग इस श्रीजगन्नाथ भगवान के दर्शन करने आते हैं।

Advertise, Call Now - +91 76111 07804
Visitor No.