GLIBS
01-09-2020
देश में कोरोना के 69921 नए मामले आए, संक्रमितों का आंकड़ा पहुंचा 37 लाख के करीब

नई दिल्ली। देश में कोरोना संक्रमण का प्रकोप लगातार बढ़ता ही जा रहा है। पिछले 24 घंटों में कोविड-19 के 69,921 नए मामले सामने आए और 819 लोगों की मौत हुई। केन्द्रीय स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय की ओर से मंगलवार को जारी आंकड़ों के मुताबिक पिछले 24 घंटों में कोरोना संक्रमण के 69,921 नए मामलों के साथ संक्रमितों का आंकड़ा 36,91,167 हो गया। इससे पहले 25 अगस्त को 67,151 मामले सामने आये थे तथा 26 से 30 अगस्त तक संक्रमितों की दैनिक संख्या 75 हजार से अधिक क्रमश: 75760, 77266, 76472, 78761 और 78512 रही। पिछले 24 घंटों के दौरान 65,081 मरीज स्वस्थ हुए हैं, जिससे कोरोना से मुक्ति पाने वालों की संख्या 28,39,883 हो गई है। स्वस्थ होने वालों की तुलना में संक्रमण के नए मामले अधिक होने से सक्रिय मामले 4,021 बढ़कर 7,85,996 हो गए हैं। देश के 819 और संक्रमितों की मौत होने से मृतकों की संख्या 65,288 हाे गई। देश में सक्रिय मामले 21.29 प्रतिशत और रोगमुक्त होने वालों की दर 76.94 प्रतिशत है जबकि मृतकों की दर 1.77 प्रतिशत है।

20-08-2020
धान खरीदी के लिए डेटा सुधार और नए किसानों का पंजीयन 31 अक्टूबर तक होगा

कोरबा। इस वर्ष धान खरीदी के लिए नए किसानों का पंजीयन 17 अगस्त से शुरू हो गया है। धान ख़रीदी के लिए पिछले साल पंजीकृत किसानों का डेटा अद्यतन भी किया जा रहा है,जो 31 अक्टूबर 2020 तक चलेगा। गत खरीफ वर्ष में पंजीकृत किसानों को फिर से पंजीयन के लिए समिति में आने की आवश्यकता नहीं है। यदि पूर्व में पंजीकृत किसान किसी कारण से अपने पंजीयन में संशोधन कराना चाहते हैं तो समिति मॉडयूल के माध्यम से संशोधन की जाएगी। पिछले साल 2019-20 में जिले में धान खरीदी के लिए 27 हज़ार 695 किसानों ने पंजीयन कराया था। गत खरीफ वर्ष 2019-20 में जिन किसानों ने पंजीयन नहीं कराया है, किन्तु इस वर्ष पंजीयन कराना चाहते हैं, ऐसे नवीन किसानों का पंजीयन तहसील मॉडयूल के माध्यम से तहसीलदार द्वारा 17 अगस्त से किया जा रहा है। नए किसानों का पंजीयन 31 अक्टूबर तक किया जाएगा। नए पंजीयन के लिए किसानों को संबंधित दस्तावेजों के साथ आवेदन तहसील कार्यालय में जमा करना जरूरी है। छत्तीसगढ़ सरकार ने इस साल धान और मक्का खरीदी के लिए पिछले साल पंजीकृत किसानों को भी मान्य करने का निर्णय लिया गया है। परन्तु गत खरीफ वर्ष 2019-20 मे पंजीकृत किसानों की दर्ज भूमि एवं धान और मक्का के रकबे और खसरे को राजस्व विभाग के माध्यम से अद्यतन कराया जा रहा है।
प्रदेश के उद्यानिकी तथा धान से पृथक अन्य फसलों के रकबों को किसी भी स्थिति में धान के रकबे के रूप में पंजीयन नहीं होगा। छत्तीसगढ़ में गन्ना, सोयाबीन, मक्का, सब्जियां, फल-फूल आदि अन्य फसलें खरीफ सीजन के दौरान उगाई जाती हैं। इसके अलावा अतिरिक्त खसरे में अंकित रकबे से अनुपयोगी बंजर भूमि, पड़त भूमि, निकटवर्ती नदी-नालों की भूमि, निजी तालाब, डबरी की भूमि, कृषि उपयोग हेतु बनाए गए कच्चे-पक्के शेड आदि की भूमि को पंजीयन में से कम किया जाएगा। किसान पंजीयन का कार्य राजस्व दस्तावेज के अनुसार किया जाता है। अतः गिरदावरी का काम राजस्व विभाग द्वारा समय पर कर पंजीयन के लिए डेटा उपलब्ध कराया जाएगा। गिरदावरी कार्य के समय प्रत्येक कृषक से आधार एवं मोबाइल नंबर प्राप्त किया जाएगा।

06-08-2020
मंत्रालय सहित राजधानी के सभी विभागाध्यक्ष कार्यालय खुलेंगे 7 अगस्त से, लॉकडाउन समाप्त होने पर दिशा-निर्देश जारी

रायपुर। मंत्रालय सहित नवा रायपुर और रायपुर स्थित विभागध्यक्ष कार्यालयों में 7 अगस्त से अब फिर काम शुरु होगा। कलेक्टर रायपुर की ओर से जारी लॉकडाउन 6 अगस्त को समाप्त होने के कारण आज राज्य के सामान्य प्रशासन विभाग से इस आशय का दिशा-निर्देश जारी कर दिया गया है। इसके तहत मंत्रालय तथा नवा रायपुर और रायपुर स्थित विभागाध्यक्ष कार्यालयों के संचालन में 7 अगस्त से तृतीय तथा चतुर्थ श्रेणी के कर्मचारियों की उपस्थिति एक तिहाई होगी। इसके लिए संबंधित विभाग को पृथक से रोस्टर बनाकर ड्यूटी लगाने के निर्देश दिए गए हैं। इनमें अनुभाग अधिकारी तथा उनसे वरिष्ठ अधिकारियों की उपस्थिति शत-प्रतिशत रहेगी। मंत्रालय और विभागाध्यक्ष कार्यालयों में कोविड-19 के संक्रमण को ध्यान में रखते हुए कार्यालय में बाहरी व्यक्तियों के प्रवेश पर पूर्णत: प्रतिबंध रहेगा। सामान्य प्रशासन विभाग की ओर से जारी दिशा-निर्देश में यह स्पष्ट किया गया है कि समस्त अधिकारियों और कर्मचारियों द्वारा कार्यालयों में फेस मास्क के उपयोग और सोशल तथा फिजिकल डिस्टेंस रखने के संबंध में समय-समय पर जारी दिशा-निर्देशों को अनिवार्य रूप से पालन किया जाए। मंत्रालय और विभागाध्यक्ष कार्यालयों के प्रमुख द्वार पर थर्मल स्क्रीनिंग एवं कार्यालयों में सेनिटाइजेशन तथा नियमित साफ-सफाई की व्यवस्था पूर्व में जारी दिशा-निर्देशों के अनुसार की जाए। पूर्व की भांति मंत्रालय के सचिव स्तर के अधिकारी वर्क फ्राम होम अथवा मंत्रालय से कार्य संपादित कर सकेंगे।

 

05-08-2020
7 अगस्त को होने वाली लोक सुनवाई स्थगित, आदेश जारी

रायपुर। कलेक्टर डॉ. एस.भारतीदासन ने नायब तहसीलदार, खरोरा और प्रभारी चिकित्सा अधिकारी, सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र खरोरा के प्रतिवेदन के आधार पर आगामी 7 अगस्त को आयोजित होने वाली लोक सुनवाई को स्थगित कर दिया है। बता दें कि, परियोजना मेसर्स अल्ट्राटेक सीमेंट लिमिटेड (यूनिट बैकुंठ सीमेंट वस), पास्ट बैकुंठ, जिला रायपुर (छ.ग.) की ओर से ग्राम खरोरा और केसला, तहसील तिल्दा, जिला रायपुर में प्रस्तावित केसला लाईम स्टोन माईन ब्लॉक की स्थापना के लिए पर्यावरणीय स्वीकृति के लिए लोक सुनवाई 7 अगस्त को स्पोर्ट्स स्टेडियम, उप तहसील कार्यालय खरोरा के पास होनी थी। इस लोक सुनवाई में लगभग एक हज़ार लोगों के सम्मिलित होने की संभावना व्यक्त की गई थी। कोरोना संक्रमण के रोकथाम और नियंत्रण को ध्यान में रखते हुए आगामी आदेश तक लोक सुनवाई को स्थगित किया गया है।

 

04-08-2020
राजनांदगांव कलेक्टर ने कहा 5 अगस्त के बाद वर्मी कम्पोस्ट बनाने की प्रक्रिया शुरू हो जानी चाहिए


रायपुर/राजनांदगांव। कलेक्टर टोपेश्वर वर्मा ने साप्ताहिक समय-सीमा की बैठक ली। उन्होंने कहा कि 5 अगस्त के बाद वर्मी कम्पोस्ट बनाने की प्रक्रिया आरंभ हो जानी चाहिए। हर गौठान के लिए नोडल अधिकारी नियुक्त किए गए हैं, वे गौठान का निरीक्षण करते रहे। उन्होंने कहा कि इस कार्य में लापरवाही एवं उदासीनता बरतने पर सख्त कार्रवाई की जाएगी। उन्होंने जनपद सीईओ को गौठानों का रखरखाव ठीक तरह रखने के निर्देश दिए। उन्होंने कृषि उपसंचालक से कहा कि वर्मी कम्पोस्ट बनाने के लिए तकनीकी बातों के संबंध में महिला स्वसहायता समूह को अच्छी तरह जानकारी एवं प्रशिक्षण दें। 45 दिनों में वर्मी कम्पोस्ट बनकर तैयार हो जाएगा। मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ.मिथलेश चौधरी ने बताया कि अम्बागढ़ चौकी में 100, मानपुर में 50, छुरिया में 50, डोंगरगांव में 50, डोगरगढ़ में 50, खैरागढ़ में 50 एवं छुईखदान में 50 स्थानों को चिन्हांकित कर लिया गया है। जहां आइसोलेशन सेंटर बनाए जाएंगे और वहां कोरोना के लक्षण विहीन मरीजों को रखा जाएगा। कलेक्टर ने सीएमएचओ को इन स्थानों का निरीक्षण करने के निर्देश दिए।कलेक्टर वर्मा ने कृषि उपसंचालक जीएस धु्व्र से खेती-किसानी के स्थिति के संबंध में जानकारी ली। सिंचाई विभाग के अधिकारी ने बताया कि 40 टैंक से कृषि के लिए पानी दिया जा रहा है। कलेक्टर ने सभी जनपद सीईओ से धान चबूतरा के निर्माण के संबंध में जानकारी ली। उन्होंने सभी को कड़ी हिदायत दी इस हप्ते धान चबूतरे का निर्माण शीघ्र पूर्ण करवाए। अन्यथा वेतन रोकने की कार्रवाई की जाएगी।

उन्होंने राशन कार्ड में आधार सिडिंग के कार्य में प्रगति लाने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि गिरदावरी के कार्य का आरआई, नायब तहसीलदार, तहसीलदार नियमित रूप से  ईमानदारी पूर्वक निरीक्षण करें। अगले साप्ताहिक दौरे के दौरान गिरदावरी के कार्य का निरीक्षण का कार्य मैं स्वयं करूंगा। वन विभाग के डीएफओ बीपी सिंह से पौधरोपण के संबंध में जानकारी दी। कलेक्टर ने स्कूल, आश्रम-छात्रावास, आंगनबाड़ी केन्द्रों में एवं गौठानों में पौधरोपण कराने के निर्देश दिए। उद्योग विभाग के अधिकारी से उन्होंने प्रवासी श्रमिकों को स्थानीय उद्योग में कार्य दिलाने की समीक्षा की और कहा कि इसकी रिपोर्ट प्रस्तुत करें। उप संचालक पशु चिकित्सा को भी निरीक्षण करने के निर्देश दिए। जिला शिक्षा अधिकारी ने इंग्लिश मीडियम स्कूल के संबंध में जानकारी दी। उन्होंने कहा कि स्कूल में शिक्षक नियुक्ति का कार्य शेष है व फर्नीचर की व्यवस्था हो गई है।अपर कलेक्टर हरिकृष्ण शर्मा ने कहा है कि सभी विभाग साप्ताहिक समय-सीमा के लिए प्रकरण दर्ज कर समीक्षा करें और निराकरण करें। इसके लिए पंजियों का संधारण कर और निराकरण की जानकारी दे। इस अवसर पर डीएफओ  बीपी सिंह, अपर कलेक्टर  हरिकृष्ण शर्मा, अपर कलेक्टर  सीएल मारकंडेय, जिला पंचायत सीईओ तनुजा सलाम, मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. मिथलेश चौधरी, एसडीएम मुकेश रावटे एवं अन्य जिला स्तरीय अधिकारी उपस्थित थे।

04-08-2020
चैंबर अध्यक्ष ने कहा, 6 अगस्त के बाद दुकान खोलने की मिले अनुमति

कोरबा। चैंबर ऑफ कामर्स के सदस्यों ने जिला प्रशासन से भेंट कर अपनी समस्याओं को लेकर ज्ञापन सौंपा। इसमें मांग की गई कि सुरक्षा उपायों के साथ जो दुकानें अब तक खुल रही हैं, उसी आधार पर अन्य सभी दुकानों को खोलने की अनुमति प्रशासन को देना चाहिए। कोरबा कलेक्टर को चैंबर ने ज्ञापन सौंपकर आग्रह किया कि दुकान खोलने की अनुमति सबको मिले। व्यापारियों ने कोविड-19 के एडवाइजरी का पालन करने का भरोसा दिलाया। चैंबर ऑफ कॉमर्स के अध्यक्ष रामसिंग अग्रवाल ने कहा कि व्यापारियों की गुहार प्रशासन सुनता है तो स्वागत योग्य है नहीं तो चैंबर के सदस्य ने तय कर लिया है कि 6 अगस्त के बाद सुबह 9 से दोपहर 3 बजे तक कोरबा की दुकानों को खोल दी जाएगी। किसी भी प्रकार के चालानी कार्रवाई का विरोध किया जाएगा।

04-08-2020
अब तक राज्य में 574.1 मिमी. वर्षा रिकार्ड 

रायपुर। राज्य भर में अब तक पिछले महीने में 574.1 मिमी वर्षा दर्ज हुई है। कंट्रोल रूम के मुताबिक 1 जून से अब तक राज्य में 574.1 मिमी औसत वर्षा दर्ज की जा चुकी है। राज्य स्तरीय बाढ़ नियंत्रण कक्ष की ओर से संकलित जानकारी के अनुसार आज 4 अगस्त को सवेरे रिकार्ड की गई वर्षा की जानकारी के अनुसार सरगुजा में 6.9 मिमी, सूरजपुर में 15.8 मिमी., बलरामपुर में 1.0 मिमी, जशपुर में 8.4 मिमी और कोरिया में 11.1 मिमी वर्षा रिकार्ड की गई है। गरियाबंद में 0.4 मिमी, धमतरी में 12.9 मिमी, बिलासपुर में 11.0 मिमी, मुंगेली में 5.7 मिमी, रायगढ़ में 11.6 मिमी, जांजगीर चांपा में 13.7 मिमी तथा कोरबा में 25.2 मिमी औसत वर्षा दर्ज की गई। इसी तरह गौरेला-पेन्ड्रा-मरवाही में 2.2 मिमी, दुर्ग में 2.3 मिमी, कबीरधाम में 18.4 मिमी, राजनांदगांव में 9.4 मिमी, बालोद में 7.1 मिमी, बेमेतरा में 3.0 मिमी, बस्तर में 8.6 मिमी, कोंडागांव में 11.9 मिमी, कांकेर में 9.6 मिमी, दंतेवाड़ा में 7.0 मिमी, सुकमा में 8.9 मिमी तथा बीजापुर में 35.7 मिमी औसत वर्षा आज रिकार्ड की गई।

02-08-2020
जानिए कैसे हुई फ्रेंडशिप डे की शुरुआत, क्या है कहानी...

रायपुर। अमेरिका की सरकार ने साल 1935 में अगस्त के पहले रविवार को एक व्यक्ति को मार दिया था जिसके गम में उस व्यक्ति के दोस्त ने सुसाइड कर लिया था। तभी से उस दिन को अमेरिकी सरकार ने अगस्त के पहले रविवार को फ्रेंडशिप डे के रूप में मनाने का ऐलान किया। हालांकि, परागुआ ऐसा देश है, जिसने साल 1958 में अंतराष्ट्रीय फ्रेंडशिप डे को पहली बार सेलिब्रेट करने का प्रस्ताव पेश किया था। कहा तो ये भी जाता है कि साल 1930 में जॉयस हॉल ने हॉल्मार्क कार्ड्स से फ्रेंडशिप डे की शुरुआत की थी। इन सभी कारणों से ही संयुक्त राष्ट्र ने 30 जुलाई को अंतरराष्ट्रीय फ्रेंडशिप डे के रूप में मनाने का ऐलान किया लेकिन भारत फ्रेंडशिप डे को अगस्त के पहले रविवार को ही सेलिब्रेट करता आ रहा है। दुनियाभर के देशों में फ्रेंडशिप डे अलग-अलग दिन मनाया जाता है जैसे संयुक्त राष्ट्र संघ ने 30 जुलाई को अंतराष्ट्रीय फ्रेंडशिप डे मनाने का ऐलान किया तो वहीं भारत समेत अमेरिका इस दिन को अगस्त के पहले रविवार को मनाती है।

01-08-2020
31 अगस्त तक छत्तीसगढ़ लॉक डाउन रहेगा, ये खबर निकली सरासर झूठी

रायपुर। छत्तीसगढ़ में 31 अगस्त तक लॉक डाउन संबंधी सोशल मीडिया में प्रसारित खबर पूरी तरह गलत और भ्रामक है। राज्य शासन के सामान्य प्रशासन विभाग ने यह स्पष्ट किया है कि, छत्तीसगढ़ में कोरोना वायरस संक्रमण की रोकथाम और बचाव के लिए वर्तमान में कलेक्टरों को जिले की स्थानीय परिस्थिति को देखते हुए लॉक डाउन का अधिकार दिया गया है। वर्तमान में जिला कलेक्टरों ने 6 अगस्त तक ही प्रभावित इलाकों में लॉक डाउन प्रभावशील किया है। सामान्य प्रशासन विभाग की ओर से 30 जुलाई को जारी पत्र में सभी जिला कलेक्टरों को भारत सरकार के अनलॉक-3 का दिशा निर्देश प्रेषित किया गया है।

 

31-07-2020
Breaking : छत्तीसगढ़ विधानसभा का मानसून सत्र 25 से 28 अगस्त तक

रायपुर। छत्तीसगढ़ की पंचम विधानसभा का सातवां सत्र 25 अगस्त 2020 से शुरू होगा। छत्तीसगढ़ विधानसभा के प्रमुख सचिव चन्द्रशेखर गंगराड़े ने इस संबंध में विज्ञप्ति जारी की है। बताया गया कि यह मानसून सत्र चार दिन 25 से 28 अगस्त तक चलेगा। इसमें कुल 4 बैठकें होगी। इस सत्र में वित्तीय कार्य के साथ ही अन्य शासकीय कार्य भी होंगे।

12-06-2020
छत्तीसगढ़ के स्कूल-कालेजों में जुलाई से शुरू होगी प्रवेश प्रक्रिया, अगस्त से कक्षा शुरु करने पर विचार

रायपुर। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल की अध्यक्षता में उच्च स्तरीय बैठक में स्कूलों और कालेजों में दाखिले की प्रक्रिया शुरू करने का निर्णय लिया गया है। कृषि एवं जल संसाधन मंत्री रविन्द्र चौबे और वन मंत्री मो.अकबर ने बैठक में लिए गए निर्णयों की जानकारी दी। उन्होंने बताया कि राज्य के शैक्षणिक संस्थानों, स्कूलों और कॉलेजों में जुलाई माह में दाखिले की प्रक्रिया प्रांरभ करने का निर्णय लिया गया है। केन्द्र सरकार की एडवाइजरी के अनुसार परिस्थितियों को देखकर अगस्त से कक्षाएं प्रारंभ करने के बारे में विचार किया जाएगा। बैठक में मंत्री परिषद के सभी सदस्य, मुख्य सचिव, अतिरिक्त मुख्य सचिव एवं अन्य विभागों के  सचिव उपस्थित थे।बैठक में लिए अन्य निर्णयों पर उन्होंने कहा कि कोरोना संक्रमण से बचाव के लिए प्रदेश में हर नागरिक के लिए मास्क लगाना अनिवार्य कर दिया गया है। बिना मास्क लगाए पाए जाने पर सौ रुपए का जुर्माना लगाया जाएगा। फिजिकल डिस्टेंसिंग का पालन किया जाएगा। पूर्व की भांति सभा और समारोह का आयोजन स्थगित रहेगा। कृषि मंत्री ने बताया कि प्रदेश में आर्थिक गतिविधियां प्रारंभ हो गई हैं लेकिन राजस्व की आवक नहीं हो पा रही है। केन्द्र से पिछले वर्ष की 1400 करोड़ रुपए की राशि नहीं मिली है। राज्य सरकार इसके लिए और हर माह राज्यों को मिलने वाले टैक्स के हिस्से के लिए केन्द्र सरकार से लगातार आग्रह कर रही है। इन परिस्थितियों में सरकार के अनुपयोगी खर्च में कटौती करने का निर्णय लिया गया है।बैठक में प्रदेश में कोरोना संक्रमण की रोकथाम और बचाव के प्रयासों की समीक्षा, क्वारंटाइन सेन्टरों और आइसोलेशन केन्द्रों की व्यवस्थाओं के बारे में भी चर्चा की गई। लॉक डाउन के संबंध में उन्होंने बताया कि बस ट्रांसपोर्ट अभी बंद हैं और फिलहाल बंद रहेगा। राज्य और केन्द्र सरकार की एडवाइजरी के अनुसार जो गतिविधियां शुरू हो चुकी हैं उन्हें रोका नहीं जाएगा।

 

02-03-2020
घरेलू गैस सिलिंडर के दाम हुए कम, उपभोक्ताओं को मिली बड़ी राहत

नई दिल्ली। घरेलू गैस सिलिंडर के दाम से हर कोई परेशान थे। लेकिन अब उपभोक्ताओं के लिए राहत देने वाली खबर सामने आई है। आठ महीने में पहली बार सब्सिडी वाले घरेलू गैस सिलिंडर पर दाम गिरे हैं। अब सिलिंडर 816.50 रुपये का मिलेगा, खाते में सब्सिडी अलग पहुंचेगी। इससे पहले पिछले साल अगस्त में कीमत कम हुई थी। पिछले साल जुलाई में 649 रुपये घरेलू सिलिंडर की कीमत थी। इसमें 157.41 रुपये बतौर सब्सिडी ग्राहक के खाते में पहुंचते थे। अगस्त में 62.50 रुपये कम करते हुए सिलिंडर के दाम 586.50 रुपये कर दिए। इसके बाद हर महीने सिलिंडर के दाम बढ़ाए गए।  

 

Advertise, Call Now - +91 76111 07804