GLIBS
29-07-2020
70 साल बाद रक्षाबंधन के दिन ही आखिरी सावन सोमवार, रक्षा सूत्र बांधते समय इन बातों का रखे विशेष ध्यान...

रायपुर। सावन के आखिरी दिन सोमवार और रक्षाबंधन दोनों है। ज्योतिषाचार्यों की माने तो 70 साल बाद ऐसा संयोग बन रहा है। जब सोमवार को शुरू हुआ सावन महीना रक्षाबंधन के दिन सोमवार को ही समाप्त हो रहा है। साथ ही रक्षा बंधन के दिन ही करीब 30 साल बाद सात योग यानी समसप्तक योग का संयोग भी बन रहा है। इतना ही नहीं इसी दिन 35 साल बाद त्रियोग यानी तीन अन्य योगों का भी संयोग है। इन योगों के कारण इस बार का रक्षा बंधन विशेष फलदायी है। ऐसे योग में बहनें अपने भाइयों की कलाई पर रक्षा सूत्र बांधकर दुआ मांगें तो भाई के सौभाग्य में वृद्धि होगी।

रक्षाबंधन के एक दिन पहले रात में भद्रा नक्षत्र शुरू होगी जो कि दूसरे दिन पूर्णिमा तिथि पर सुबह 9.28 बजे तक रहेगी। इस काल में रक्षाबंधन का पर्व मनाना शुभ नहीं माना गया है। चूंकि इस बार भद्रा पाताल लोक में है, इसलिए इसका असर नहीं पड़ेगा। फिर भी भद्रा काल का त्याज्य करके दिन भर शुभ मुहूर्त में बहनें अपने भाई की कलाई पर राखी बांध सकती हैं। शुभ मुहूर्त की बात करे तो सुबह 9.28 से 10.30 बजे, चर - दोपहर 1.30 से 3 बजे, लाभ - दोपहर 3 से 4.30 बजे, अमृत - शाम 4.30 से 6 बजे, चर- शाम 6 से 7.30 बजे तक है। 
राखी बांधते समय बहने अपने भाई के हाथ में गीला नारियल पकड़ाकर राखी बांधे यदि नारियल नहीं है तो कुछ रुपये और साबूत चावल हाथ में देकर राखी बांध सकती है। इसके बाद श्रीफल वापस बहन को लौटा दें।

06-07-2020
शिवालय में महाभिषेक कर मेयर ने की भिलाईवासियों के हित-विकास और सुख-शांति की कामना

भिलाई। सावन सोमवार के पावन अवसर पर सोमवार को भिलाई नगर विधायक व महापौर  देेवेंद्र यादव खुर्सीपार वार्ड 37 के शिवालय में महाभिषेक किया। भगवान शंकर की आराधना की। शिवलिंग पर यादव ने दूध,दही, बेल पत्ती, जल, श्रीफल चढ़ाए। पूरे विधि विधान से महादेव की पूजा अर्चना कर मेयर यादव ने भिलाईवासियों के हित और विकास व सुख-समृद्धि की दिल से कामना की।  इसके बाद महापौर यादव शासकीय उ.मा. विद्यालय पहुंचे। जहां पौधरोपण महाअभियान के तहत महापौर ने स्कूल के बच्चों के साथ मिलकर पौधरोपण किया। साथ ही स्कूल के सभी टॉपर बच्चों का महापौर से सम्मान किया और उनका आत्मविश्वास बढ़ाया। महापौर ने टॉपर छात्राओं को संबाेधित करते हुए कहा कि मेहनत करने वालों की कभी हार नहीं होती। आप सभी जितना ज्यादा मेहनत करेंगे उतना ही अच्छा उसका परिणाम मिलेगा। हालाकि कई बार हमें लगता है कि हम जी तोड़ मेहनत कर रहे हैं। पूरी कोशिश कर रहे हैं। लेकिन परिणाम हमारे उम्मीद के मुताबिक नहीं आता। ऐसा होता है। लेकिन इससे घबराना नहीं है। बल्कि अगली बार दोबार फिर से दोगुने जोश और हिम्मत के साथ फिर लक्ष्य को पाने में जुट जाना है। क्योंकि जिंदगी में हार जीत लगा है। लेकिन हार के बाद खुद काे हारा मान कर चुप बैठना या गलत कमद उठाना ही सबसे बड़ी हार है। जबतक आप हार नहीं मानेंगे और मेहनत करते तब तक आप हारे नहीं है। सम्मान समारोह के बाद महापौर यादव ने स्कूल की जरूरमंद छात्राओं को सस्वती साइकिल योजना के तहत साइकिल दिए। सभी ने इसके लिए महापौर का आभार जताया और महापौर यादव के साथ स्कूल में पौधरोपण कर सभी छात्रा-छात्राओं ने पौधों की सुरक्षा की शपथ ली।

Advertise, Call Now - +91 76111 07804