GLIBS
02-08-2020
राज्यपाल बहन को मुख्यमंत्री भाई की चिट्ठी : आपका संरक्षण हमारा सौभाग्य

रायपुर। प्रदेश के मुखिया मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने राज्यपाल अनुसुईया उइके की ओर से रक्षाबंधन पर्व पर भेजी गई राखी मिलने पर प्रसन्नता व्यक्त करते हुए कहा है कि रक्षाबंधन और भुजलिया पर्व के अवसर पर आपने मुझे स्नेह, आर्शीवाद तथा राखी भेजकर जो विश्वास व्यक्त किया है, वह मेरे लिए अत्यंत प्रसन्नता तथा सम्मान का विषय है। बघेल ने बहन उइके को रक्षाबंधन पर्व की परंपरा अनुरूप भाई की तरफ से शुभकामनाओं सहित उन्हें नगद राशि और साड़ी उपहार में भेजी है। मुख्यमंत्री बघेल ने बहन उइके को लिखे पत्र में कहा है कि रक्षाबंधन का यह पर्व हमारे पारिवारिक संबंधों को नए शिखर पर पहुंचाने का माध्यम बना है। आपका संरक्षण मेरे और राज्य के लिए सौभाग्य का विषय है। मुख्यमंत्री के रूप में अपने दायित्वों का निर्वहन करने, कोरोना महामारी से निपटने और प्रदेश को प्रगति के पथ पर आगे ले जाने के लिए आपने मेरा जो उत्साहवर्धन किया है, उसके लिए मैं सदैव आपका आभारी रहूूंगा।

मुख्यमंत्री ने कहा है कि यह पावन पर्व हमारी महान संस्कृति के गरिमामय उत्कर्ष का प्रतीक भी है, जो बहनों के प्रति भाईयों के संकल्पों को सुदृढ़ बनाता है। आपने उत्तरदायित्वों के प्रति सजग करते हुए मुझे जो शुभकामनाएं प्रेषित की है, उसके लिए मैं कृतज्ञता व्यक्त करता हूं तथा आपको विश्वास दिलाता हूं कि आपकी भावनाओं के अनुरूप अपनी जिम्मेदारियों का निर्वाह पूरी निष्ठा तथा परिश्रम से करूंगा।

20-07-2020
अमरजीत भगत ने ‘गोधन न्याय योजना’ का किया शुभारंभ, कहा- पशुधन के संरक्षण और संवर्धन को मिलेगा बढ़ावा

रायपुर। खाद्य, संस्कृति एवं बालोद जिले के प्रभारी मंत्री अमरजीत भगत ने सोमवार को हरेली त्यौहार के अवसर पर जिले के गुरूर विकासखण्ड के ग्राम चिरचारी और मिर्रीटोला में गोधन न्याय योजना का शुरूआत किया। उन्होंने ग्रामीणों को हरेली त्यौहार की बधाई और शुभकामनाएं दी। मंत्री भगत ने ग्राम चिरचारी और मिर्रीटोला के गौठान में खेती-किसानी के औजारों की पूजा की। उन्होंने मवेशियों को हरा चारा खिलाया। उन्होंने ग्राम चिरचारी और मिर्रीटोला के गौठान परिसर में बरगद का पौधा लगाया। इस अवसर पर भगत ने कहा कि आज का दिन ऐतिहासिक है। ग्रामीणों, किसानों और पशुपालकों की बेहतरी के लिए गोधन न्याय योजना की शुरूआत की गई है। गोबर की खरीदी से पशुधन के संरक्षण एवं संवर्द्धन को बढ़ावा मिलेगा। पशुपालकों की आय में वृद्धि होगी। स्थानीय स्तर पर जैविक खाद उपलब्ध होगा। खुली चराई पर रोक लगेगी। स्वसहायता समूहों को रोजगार के अवसर प्राप्त होंगे। उन्होंने कहा कि छत्तीसगढ़ के चार चिन्हारी नरवा, गरूवा, घुरूवा और बाड़ी के संवर्धन का कार्य किया जा रहा है, इससे ग्रामीण अर्थव्यवस्था को मजबूती मिलेगी। उन्होंने कहा कि गोधन न्याय योजना के तहत गौठानों में गोबर की खरीदी दो रूपए किलो में की जाएगी। गौठानों में स्व-सहायता समूहों के माध्यम से वर्मी कम्पोस्ट खाद एवं अन्य उत्पाद तैयार किए जाएंगे। वर्मी खाद का विक्रय आठ रूपए प्रति किलो की दर से किया जाएगा। मंत्री भगत ने विभिन्न विभागों तथा स्व-सहायता समूहों द्वारा लगाए गए स्टालों का अवलोकन किया और समूहों द्वारा बनाए गए सामाग्रियों की सराहना की। उन्होंने ग्राम चिरचारी के गौठान में कल्याणी स्व-सहायता समूह द्वारा धान की बाली से बनाए गए ‘‘बालोद बंधन राखी‘‘ तथा अन्य सामग्री की खरीदी की। इस अवसर पर कलेक्टर  जनमेजय महोबे, पुलिस अधीक्षक वनमंडलाधिकारी, जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी सहित जनप्रतिनिधि, नागरिक और ग्रामीण मौजूद थे।


 

17-07-2020
नाकाबंदी में पशु तस्करी करते पकड़ाए दो आरोपी

राजनांदगांव। एक ओर प्रदेश सरकार गोधन न्याय योजना शुरू करने जा रही है ताकि उनका संरक्षण हो सके वहीं दूसरी ओर पशु तस्कर भी अपनी हरकतों से बाज नही आ रहे हैं। शुक्रवार को को चिचोला पुलिस चौकी प्रभारी अजयकांत तिवारी द्वारा सूचना मिलने पर नाकाबंदी कर वाहन क्रमांक MH27BX2108 को रोककर तलाशी ली गई। इसमें गाय 17,बछिया 6, बछड़ा 13 व बैल 1 कुल 37 जानवरों ठूंस-ठूंस कर भरा गया था। इनमें से 5 मृत पाए गए। मामले में 2 आरोपी शहजाद खान निवासी नागपुर, सूरज निवासी नागपुर को गिरफ्तार किया गया तथा विभिन्न धाराओं के तहत कार्यवाही की गई।

 

10-07-2020
प्रियंका गांधी ने किया सवाल, अपराधी का अंत हुआ, अपराध को संरक्षण देने वालों का क्या?

नई दिल्ली। कांगेस महासचिव प्रियंका गांधी ने कानपुर हत्याकांड के मुख्य आरोपित विकास दुबे के एनकाउंटर में मारे जाने पर इसे अपराधी का अंत बताया है। साथ ही उन्होंने सवाल भी उठाया है कि अपराधी का तो अंत हो गया लेकिन अपराध और उसको सरंक्षण देने वाले लोगों का क्या? प्रियंका गांधी ने शुक्रवार को ट्वीट कर कहा,'अपराधी का अंत हो गया, अपराध और उसको संरक्षण देने वाले लोगों का क्या?' उनका इशारा इस ओर था कि उप्र से भागे अपराधी को 8 दिन किसने संरक्षण दिया, इसका भी पता लगाया जाना चाहिए।कांग्रेस नेता ने बीते दिन गुरुवार को भी कहा था कि तीन महीने पुराने पत्र पर 'नो एक्शन' और कुख्यात अपराधियों की सूची में 'विकास' का नाम न होना बताता है कि इस मामले के तार दूर तक जुड़े हैं। ऐसे में योगी सरकार को पूरे मामले की सीबीआई जांच करा सभी तथ्यों और प्रोटेक्शन के ताल्लुकातों को जगज़ाहिर करना चाहिए। उन्होंने यह भी कहा था कि अलर्ट के बावजूद आरोपित का उज्जैन तक पहुंचना, न सिर्फ सुरक्षा के दावों की पोल खोलता है बल्कि मिलीभगत की ओर इशारा करता है।

कांग्रेस प्रवक्ता रणदीप सिंह सुरजेवाला ने कहा कि विकास दुबे एन्काउन्टर में मारा गया। कई लोगों ने पहले ही ये आशंका जताई थी पर कई सवाल छूट गए जैसे- अगर उसे भागना ही था, तो उज्जैन में सरेंडर ही क्यों किया? उस अपराधी के पास क्या राज थे जो सत्ता-शासन से गठजोड़ को उजागर करते? और पिछले 10 दिनों की कॉल डिटेल्ज़ जारी क्यों नहीं किया गया? योगी सरकार को इन सवालों के जवाब भी जगजाहिर करने होंगे। उल्लेखनीय है कि कानपुर के बिकरू गांव में बीते दो जुलाई की रात गैंगस्टर विकास दुबे की गैंग ने 8 पुलिसवालों को गोलियों से भून दिया था। इसके बाद से विकास 3 राज्यों की पुलिस को चकमा देकर यूपी से हरियाणा और फिर राजस्थान होते हुए मध्यप्रदेश पहुंच गया। सरेंडर के अंदाज में उज्जैन के महाकाल मंदिर से गुरुवार को विकास की गिरफ्तारी हुई। यूपी पुलिस उसे कानपुर ले जा रही थी लेकिन रास्ते में विकास ने फिर भागने की कोशिश की, जिस बीच पुलिस ने विकास को एनकाउंटर में मार गिराया।

 

05-07-2020
पर्यावरण संरक्षण के लिए 6 जुलाई को सभी वार्डो में लगाए जाएंगे पौधे

दुर्ग। आइए हम सब मिल कर पर्यावरण का संरक्षण एवं सुरक्षा करें। हर व्यक्ति एक पौधा अपने घर के पास अवश्य लगायें। जिला प्रशासन के मंशा के अनुरूप पूरे जिले में 6 जुलाई को वृहद स्तर पर प्रत्येक व्यक्ति एक पौधा लगाकर शहर को और अपने वार्ड को हरा भरा रखने वृक्षारोपण करने जा रहा है। इस दिशा में शहर के समस्त आम नागरिकों से अपील है कि वे भी अपने घर के सामने व आस-पास एक पौधा अवश्य लगाएं। महापौर धीरज बाकलीवाल एवं आयुक्त इंद्रजीत बर्मन  के मार्गदर्शन में निगम के सभी 60 वार्डों में वार्ड पार्षदों के पास वार्डों में पौधरोपण करने निगम से पौधा दिया जा रहा है। निगम के सुपरवाइजर और कर्मचारी एक एक घर में जाकर पौधों का वितरण करेंगे। सभी वार्ड निवासियों से अनुरोध है कि वे 6 जुलाई को अपने घर के सामने एक पौधा अवश्य लगाएंगे।

21-06-2020
विधायक विक्रम मंडावी के संरक्षण में जिले में फल फूल रहा है भ्रष्टाचार : महेश गागड़ा

बीजापुर। जीले के विभिन्न विभाग में चल रहे गुणवत्ताहीन कार्य के सम्बंध में पूर्व वनमंत्री महेश गागड़ा ने प्रेस कॉन्फ्रेंस का आयोजन कर कहा कि स्थानीय विधायक विक्रम शाह मंडावी के सहयोग से भ्रष्टाचार का खेल अपनी चरम सीमा पर है। कांग्रेस की सरकार में अधिकारी खुले आम भ्रष्टाचार को अंजाम दे रहे हैं। महेश गागड़ा ने सरकार व विधायक पर आरोप लगाते हुए कहा कि जनपद पंचायत भोपालपटनम के ग्राम पंचायत कोत्तापल्ली में एक ही समय में एक केनाल निर्माण और दो नवीन तालाब का निर्माण किया गया। लेकिन गांव के लोगों को ये मालूम नहीं है कि उनके ग्राम पंचायत में ये कार्य किया जा रहा है, जिसमें दो नवीन तालाब और एक नाली कार्य जो कि मनरेगा के तहत करवाया जाना था, लेकिन मजदूरों के स्थान पर पोकलैंड, जेसीबी व डोज़र वाहनों से कार्य करवाना बड़ी विडम्बना है। सरकार रोजगार ग्रामीणों को देने के बजाय वाहनों को रोजगार देने में तुली है।

इस कोरोना काल में पूरे देश में देश वासियों को नरेन्द्र मोदी सरकार मदद कर रही है। लेकिन आज तक भूपेश सरकार ने मुख्यमंत्री राहत कोष के जरिये छत्तीसगढ वासियों को किसी भी तरह की मदद नहीं की है। भाजपा ने लॉक डाउन में ग्रामीण इलाकों में पहुंच कर सघन दौरा किया। स्थानीय श्रमिकों, प्रवासी मजदूरों और गरीब ग्रामीणों मुआवजा देकर श्रमिकों का हालचाल जानने साथ उनकी मदद की। शानिवार को भाजपा कार्यालय में पूर्व वनमंत्री महेश गागड़ा ने प्रेसवार्ता कर कांग्रेस सरकार पर आरोप लगाते हुऐ कहा है कि स्थानीय विधायक विक्रम शाह मंडावी के संरक्षण में जिले भर में भ्रष्टाचार फलफूल रहा है। गागड़ा ने पत्रकारों को जानकारी देते बताया है कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के छः साल के जनसंपर्क अभियान के तहत गांव—गांव जाकर भाजपा कार्यकाल के विकास कार्यों का प्रचार प्रसार कर रहे हैं। लेकिन भूपेश सरकार कंगाली के दौर पर खड़ी है। प्रदेश के मुख्यमंत्री को श्वेत पत्र जारी कर राज्य की सरकार को बताना चाहिए कि हम कंगाली के स्तर पर है। महेश गागड़ा ने आगे कहा की जिले के चारों ब्लॉक में मनरेगा के तहत मजदूरों से होने वाले काम को कांग्रेस की सरकार और अधिकरियों ने बड़ी ही चालाकी से मशीनों से करवा दिया जिससे कि मजदूरों का हक छीन गया। आज कांग्रेस की सरकार और स्थानीय विधायक के संरक्षण में पीएमजीएसवाई, वनविभाग में भ्रष्टाचार अपनी चरम सीमा पर है। पूरे जिले में भ्रष्टाचार को लेकर नए खुलासे हो रहे हैं लेकिन कोई भी कार्यवाही नहीं हो रही।इससे यह सिद्ध होता है कि जनता ने जिस विधायक और पार्टी को चुना था जिले के विकास के लिए वो विकास के कार्य न होकर सिर्फ और सिर्फ भ्रष्टाचार फल फूल रहा है। इस प्रेसवार्ता में भाजपा जिलाध्यक्ष श्रीनिवास मुदलियार, गोपाल सिंह पवार मौजूद रहे।

19-06-2020
ऐतिहासिक दलपत सागर तालाब के संरक्षण की होगी समुचित व्यवस्था, महापौर और कलेक्टर ने किया निरीक्षण

रायपुर/जगदलपुर। जिला प्रशासन और नगर निगम शीघ्र ही जगदलपुर के ऐतिहासिक और प्राचीन दलपत सागर के देखभाल और संरक्षण की व्यवस्था करने जा रहा है। महापौर सफीरा साहू और कलेक्टर रजत बंसल ने अधिकारियों के साथ पूरे दलपत सागर तालाब का भ्रमण कर जायजा लिया। कलेक्टर बंसल ने कहा कि जिला प्रशासन की ओर से इस संबंध में शीघ्र ही जनप्रतिनिधियों के साथ बैठक कर योजना बनाई जाएगी। उन्होंने मौके पर मौजूद एसडीएम जीआर मरकाम और अधिकारियों को तालाब के आस-पास किए गए अतिक्रमण रोकने और अवैध कालोनियों को हटाने कार्रवाई करने के निर्देश भी दिए। बंसल ने कहा कि दलपत सागर की भांति शहर के अन्य तालाबों के संरक्षण और संवर्धन के लिए योजना बनाई जाएगी। इस दौरान अपर कलेक्टर अरविंद एक्का, आयुक्त नगर निगम प्रेम कुमार पटेल और अन्य अधिकारी मौजूद थे।

 

18-06-2020
भूपेश बघेल सरकार बाल अधिकारों के संरक्षण के प्रति सजग : प्रभा दुबे

रायपुर। छत्तीसगढ़ राज्य बाल अधिकार संरक्षण आयोग के स्थापना दिवस पर वीडियो कॉन्फ्रेसिंग के माध्यम से आयोग ने एक परिचर्चा की। परिचर्चा में बाल अधिकारों के संरक्षण में आने वाली चुनौतियों का समाधान और बच्चों को विकास की मुख्यधारा से जोड़ने के संबंध में विचार-विमर्श किया गया। आयोग की अध्यक्ष प्रभा दुबे ने कहा कि राज्य सरकार बाल अधिकारों के संरक्षण के प्रति सजग है। राज्य सरकार ने अन्य राज्यों से आने वाले श्रमिकों के बच्चों को संक्रमण से बचाते हुए भोजन, आवास, चरण पादुका उपलब्ध कराने के साथ ही उन्हें गंतव्य तक पहुंचाने के लिए आवागमन के साधन भी मुहैय्या कराया है। प्रभा दुबे ने बच्चों को विकास की मुख्य धारा से जोड़ने के प्रयासों को सर्वप्रमुखता से अपनाने की अपील की है। प्रभा दुबे ने कहा कि आयोग की भूमिका सकारात्मक है।

बच्चों के अधिकारों की रक्षा के क्षेत्र में सामने आ रही सभी चुनौतियों को राज्य शासन के समक्ष चर्चा कर समाधान किया जाएगा। उन्होंने आयोग के शुरू किए गए नवीन कार्यक्रमों के बारे में बताया। उन्होंने कहा कि आयोग ने पिछले वर्षों में बाल संरक्षण के विषयों पर उल्लेखनीय उपलब्धि हासिल की है। आयोग की इस उपलब्धि में सरकार व शासकीय अमले का बडा़ योगदान है। आयोग के सचिव प्रतीक खरे ने बच्चों के अधिकारों की रक्षा के क्षेत्र में आ रही नवीन चुनौतियों की ओर ध्यान आकर्षित किया। पॉक्सो एक्ट के संदर्भ में भी चर्चा की गई। जिलों से उपस्थित संस्थाओं के अधीक्षकों ने व्यवहारिक कठिनाइयों की ओर ध्यान आकर्षित किया। प्रदेश में बच्चों के लिए नशामुक्ति केन्द्र की आवश्यकता पर भी चर्चा की गई।  परिचर्चा में प्रदेश के जिला बाल संरक्षण अधिकारियों, संस्थाओं के अधीक्षकों ने हिस्सा लिया।

05-06-2020
पर्यावरण सृष्टि का अमूल्य उपहार, संरक्षण का प्रयास करें : राज्यपाल

रायपुर। राज्यपाल अनुसुईया उइके ने विश्व पर्यावरण दिवस के अवसर पर नागरिकों से इसके संरक्षण का आह्वान किया है। राज्यपाल ने कहा कि पर्यावरण को स्वच्छ बनाए रखने के लिए समर्पण भाव से एकजुट होकर प्रयास करें। पर्यावरण सृष्टि का अमूल्य उपहार है। इसे हमें सहेज कर रखना होगा। प्राचीनकाल में हम पर्यावरण के महत्व को समझते थे और प्रकृति के साथ एक संतुलन की स्थिति थी, लेकिन आज आधुनिक विकास की दौड़ में मानव और प्रकृति के बीच असंतुलन की स्थिति उत्पन्न हो गई है। इससे प्रदूषण, जलवायु परिवर्तन, बाढ़, सूखे जैसी प्राकृतिक आपदाओं का सामना करना पड़ रहा है। यह समय आ गया है कि हम सजग रहकर पर्यावरण को बचाने का प्रयास करें। राज्यपाल ने कहा कि पर्यावरण को संरक्षित रखने के लिए अपने आसपास के स्थान में स्वच्छता बनाएं रखें, नदी, तालाब, पोखर को दूषित न करें। प्रदूषण रोकने और पर्यावरण को बचाने के लिए कम से कम एक पौधा लगाएं और उनका संरक्षण भी करें। घर में बच्चों को पर्यावरण का महत्व समझाएं और उन्हें पर्यावरण संरक्षण का संकल्प दिलाएं।

22-05-2020
एजाज ढेबर ने बंधवा-पहलदवा तालाब को संवारने किया भूमिपूजन, मौके पर दी 8 लाख रुपए की स्वीकृति 

रायपुर। महापौर एजाज ढेबर ने नगर निगम जोन 5 के महंत लक्ष्मीनारायण दास वार्ड में बंधवा तालाब और पहलदवा तालाब से जलकुंभी निकालने के कार्य का निरीक्षण किया। उन्होंने जोन कमिश्नर को दोनों तालाबों को शीघ्र जलकुंभी से मुक्त करके सफाई व्यवस्था तय कर तालाब का संवर्धन व संरक्षण प्राथमिकता से करवाने के निर्देश दिए। जोन 5 कमिश्नर ने महापौर को बताया कि पहलदवा और बंधवा तालाब की जलकुंभी सफाई,सौंदर्यीकरण के लिए 8 लाख का प्रस्ताव बनाया गया है। महापौर ने प्रस्ताव अनुरूप कार्य तत्काल शुरू करवाने के निर्देश दिए। उन्होंने 8 लाख रुपए कार्य के लिए प्रस्ताव अनुसार स्थल पर ही स्वीकृत किए। उन्होंने कार्य तेजी से करवाने के निर्देश देते हुए दोनों तालाबों के संरक्षण व संवर्धन का कार्य करने के लिए श्रीफल फोड़कर भूमिपूजन किया। इस दौरान एमआईसी सदस्य व वार्ड पार्षद जितेन्द्र अग्रवाल,लोककर्म विभाग अध्यक्ष ज्ञानेष शर्मा,पार्षद मन्नू यादव,पूर्व पार्षद गोवर्धन शर्मा,जोन 5 कमिश्नर संतोष पाण्डेय की उपस्थित थे।

10-04-2020
राज्यपाल को भूपेश बघेल ने दी जन्मदिन की बधाई, मिला यह जवाब..

रायपुर। राज्यपाल अनुसुइया उइके के जन्मदिन पर मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने उन्हें बधाई दी है। मुख्यमंत्री ने कहा कि राज्यपाल के प्रतिपालकत्व में प्रदेश तरक्की के पथ पर आगे बढ़े, आपके संरक्षण में लोकतांत्रिक मूल्यों की गरिमा और अधिक बढ़े। ऐसी हम सब कामना करते हैं। भूपेश बघेल के ट्वीट का जवाब देते हुए राज्यपाल अनुसुइया उइके ने उन्हें धन्यवाद दिया है।

 

25-03-2020
राज्य आयुक्त ने दिए दिव्यांगजनों को सुरक्षा तथा संरक्षण प्रदान करने के संबंध में निर्देश

रायपुर। राज्य आयुक्त दिव्यांगजन द्वारा राज्य में नोवेल कोरोना वायरस संक्रमण की रोकथाम एवं नियंत्रण की कार्रवाई लॉकडाउन के समय फंसे हुए दिव्यांगजनों को सुरक्षा तथा संरक्षण प्रदान करने के संबंध में संबंधित विभागीय अधिकारियों को आवश्यक निर्देश दिए गए हैं। उन्होंने केंद्र सरकार के दिव्यांगजन सशक्तिकरण विभाग के पत्र का उल्लेख करते हुए राज्य के समस्त संभागायुक्त, संचालक समाज कल्याण संचालनालय, जिला कलेक्टर और जिला कार्यालय समाज कल्याण के विभागीय अधिकारियों को इस संबंध में अवगत कराया है। इस दौरान ऐसे दिव्यांगजनों को जो अंतर्राज्यीय अथवा अंतर्जिला में लॉक डाउन के दौरान फंसे हुए हैं, उन्हें चिन्हांकित कर तत्काल आवश्यक सहायता उपलब्ध करायी जाए। साथ ही उन्हें सुरक्षित जगह पर पहुंचाएं और यह भी सुनिश्चित करें कि वे सब उपयुक्त सुरक्षित जगह पर पहुंच गए हैं। उल्लेखनीय है कि राज्य में नोवेल कोरोना वायरस के संक्रमण को दृष्टिगत रखते हुए 18 मार्च से विभिन्न सार्वजनिक स्थल को बंद अथवा लॉक डाउन किया गया है। इसमें परिवहन विभाग द्वारा अंतर्राज्यीय बसों के परिवहन पर पूर्णतः रोक लगा दी गई है। इसे ध्यान में रखते हुए ऐसे दिव्यांगजनों को सुरक्षा तथा संरक्षण प्रदान करने की कार्रवाई प्राथमिकता से सुनिश्चित करने के निर्देश दिए गए है।

Advertise, Call Now - +91 76111 07804