GLIBS
22-05-2020
एजाज ढेबर ने बंधवा-पहलदवा तालाब को संवारने किया भूमिपूजन, मौके पर दी 8 लाख रुपए की स्वीकृति 

रायपुर। महापौर एजाज ढेबर ने नगर निगम जोन 5 के महंत लक्ष्मीनारायण दास वार्ड में बंधवा तालाब और पहलदवा तालाब से जलकुंभी निकालने के कार्य का निरीक्षण किया। उन्होंने जोन कमिश्नर को दोनों तालाबों को शीघ्र जलकुंभी से मुक्त करके सफाई व्यवस्था तय कर तालाब का संवर्धन व संरक्षण प्राथमिकता से करवाने के निर्देश दिए। जोन 5 कमिश्नर ने महापौर को बताया कि पहलदवा और बंधवा तालाब की जलकुंभी सफाई,सौंदर्यीकरण के लिए 8 लाख का प्रस्ताव बनाया गया है। महापौर ने प्रस्ताव अनुरूप कार्य तत्काल शुरू करवाने के निर्देश दिए। उन्होंने 8 लाख रुपए कार्य के लिए प्रस्ताव अनुसार स्थल पर ही स्वीकृत किए। उन्होंने कार्य तेजी से करवाने के निर्देश देते हुए दोनों तालाबों के संरक्षण व संवर्धन का कार्य करने के लिए श्रीफल फोड़कर भूमिपूजन किया। इस दौरान एमआईसी सदस्य व वार्ड पार्षद जितेन्द्र अग्रवाल,लोककर्म विभाग अध्यक्ष ज्ञानेष शर्मा,पार्षद मन्नू यादव,पूर्व पार्षद गोवर्धन शर्मा,जोन 5 कमिश्नर संतोष पाण्डेय की उपस्थित थे।

10-04-2020
राज्यपाल को भूपेश बघेल ने दी जन्मदिन की बधाई, मिला यह जवाब..

रायपुर। राज्यपाल अनुसुइया उइके के जन्मदिन पर मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने उन्हें बधाई दी है। मुख्यमंत्री ने कहा कि राज्यपाल के प्रतिपालकत्व में प्रदेश तरक्की के पथ पर आगे बढ़े, आपके संरक्षण में लोकतांत्रिक मूल्यों की गरिमा और अधिक बढ़े। ऐसी हम सब कामना करते हैं। भूपेश बघेल के ट्वीट का जवाब देते हुए राज्यपाल अनुसुइया उइके ने उन्हें धन्यवाद दिया है।

 

25-03-2020
राज्य आयुक्त ने दिए दिव्यांगजनों को सुरक्षा तथा संरक्षण प्रदान करने के संबंध में निर्देश

रायपुर। राज्य आयुक्त दिव्यांगजन द्वारा राज्य में नोवेल कोरोना वायरस संक्रमण की रोकथाम एवं नियंत्रण की कार्रवाई लॉकडाउन के समय फंसे हुए दिव्यांगजनों को सुरक्षा तथा संरक्षण प्रदान करने के संबंध में संबंधित विभागीय अधिकारियों को आवश्यक निर्देश दिए गए हैं। उन्होंने केंद्र सरकार के दिव्यांगजन सशक्तिकरण विभाग के पत्र का उल्लेख करते हुए राज्य के समस्त संभागायुक्त, संचालक समाज कल्याण संचालनालय, जिला कलेक्टर और जिला कार्यालय समाज कल्याण के विभागीय अधिकारियों को इस संबंध में अवगत कराया है। इस दौरान ऐसे दिव्यांगजनों को जो अंतर्राज्यीय अथवा अंतर्जिला में लॉक डाउन के दौरान फंसे हुए हैं, उन्हें चिन्हांकित कर तत्काल आवश्यक सहायता उपलब्ध करायी जाए। साथ ही उन्हें सुरक्षित जगह पर पहुंचाएं और यह भी सुनिश्चित करें कि वे सब उपयुक्त सुरक्षित जगह पर पहुंच गए हैं। उल्लेखनीय है कि राज्य में नोवेल कोरोना वायरस के संक्रमण को दृष्टिगत रखते हुए 18 मार्च से विभिन्न सार्वजनिक स्थल को बंद अथवा लॉक डाउन किया गया है। इसमें परिवहन विभाग द्वारा अंतर्राज्यीय बसों के परिवहन पर पूर्णतः रोक लगा दी गई है। इसे ध्यान में रखते हुए ऐसे दिव्यांगजनों को सुरक्षा तथा संरक्षण प्रदान करने की कार्रवाई प्राथमिकता से सुनिश्चित करने के निर्देश दिए गए है।

13-03-2020
जनता की भागीदारी से होगा अरपा का संवर्धन, बनेगा एक्शन प्लान, हर 15 दिन में होगी बैठक 

रायपुर/बिलासपुर। बिलासपुर में अरपा नदी हमेशा बहती रहे इसके लिए 15 दिन के अंदर कोर कमेटी का गठन कर एक्शन प्लान बनाया जाएगा। इसके अंतर्गत हर 15 दिन में बैठक होगी। जन भागीदारी से अरपा नदी के संवर्धन के लिए व्यापक अभियान चलाया जाएगा। इसमें जन-भागीदारी तय की जाएगी। इस सम्बन्ध में गुरुवार को कलेक्टर डॉ. संजय अलंग की अध्यक्षता में बैठक हुई। बैठक में निर्णय लिया गया कि अरपा के संरक्षण के लिए उद्गम स्थल से कार्य शुरू किया जाएगा। मुख्यमंत्री के सलाहकार प्रदीप शर्मा ने कहा कि अरपा नदी के विकास की योजना की जानकारी आपस में साझा करने के लिए वेबसाइट तैयार की जाएगी, जिसमें बिना भेदभाव सबके सुझाव लिए जाएंगे। अरपा का काम तेजी से चले इसके लिए 10 सदस्यों की कोर टीम बनेगी। प्रदीप शर्मा ने सुझाव दिया कि अरपा डायवर्सन के पास जमा होने वाली जलकुंभी को खत्म करने के लिए वहां कमल के पौधे लगाए जाएं। ये पौधे जलकुंभियों से नदी को बचाएंगे।

कलेक्टर डॉ. संजय अलंग आम जनता से अपील की है कि अरपा संवर्धन के व्यापक अभियान को एक नाम दिया जायेगा, जिसके लिए वे अपना सुझाव दें। उन्होंने कहा कि जन भागीदारी से वर्क प्लान तैयार किया जायेगा। इस अभियान के लिए जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी रीतेश अग्रवाल को नोडल अधिकारी नियुक्त किया गया। बैठक में मुख्यमंत्री के सलाहकार प्रदीप शर्मा, बिलासपुर के विधायक शैलेष पांडेय, नगर-निगम के महापौर रामशरण यादव, जिला पंचायत अध्यक्ष अरूण सिंह चौहान सहित उपस्थित लोगों ने सुझाव दिए। वहीं सभापति शेख नजीरूद्दीन, अटल श्रीवास्तव, शैलेन्द्र जायसवाल, डॉ. देवेन्दर सिंह, प्रथमेश मिश्रा, अनिल तिवारी आदि ने भी सुझाव दिए।

07-03-2020
VIDEO: केशकाल में आयोजित हुआ विनाश विहिन विदोहन प्रशिक्षण, 25 वनमंडलों के वैद्यराज और समिति अध्यक्ष हुए शामिल

कोंडागांव। छत्तीसगढ़ राज्य औषधीय पादप बोर्ड द्वारा केशकाल में दो दिवसीय राज्यस्तरीय विनाश विहिन विदोहन समुदाय से समुदाय प्रशिक्षण शिविर आयोजित किया गया। इसमें प्रदेश भर के 32 वनमण्डलों में से लगभग 25 वनमण्डलों के वैद्यराज, समिति अध्यक्ष सम्मिलित हुए। दो दिवसीय विनाश विहीन विदोहन समुदाय से समुदाय प्रशिक्षण शिविर में केशकाल, धमतरी, रायपुर, बालोद, बिलासपुर, कवर्धा, कोरबा, बलरामपुर, सरगुजा, सूरजपुर, मरवाही, कटघोरा आदि वनमंडलो से लगभग 100 की संख्या में वैद्यराज, व समिति के सदस्य उपस्थित होकर शिविर का लाभ लिया। प्रशिक्षण शिविर में पौधों के संरक्षण व उसके दोहन से भविष्य में होने वाले लाभों के बारे में विस्तारपूर्वक समझाया गया, जिससे वन विभाग के साथ साथ सामाजिक रूप से भी पौधों व वनौषधियों का संरक्षण किया जा सके।

वन विभाग द्वारा आयोजित इस शिविर में मुख्य रूप से केशकाल वनमंडलाधिकारी मनिवासगन एस., उप वनमंडलाधिकारी मोना माहेश्वरी, व आर.एन. शर्मा रेंजर उपस्थित थे। शिविर के दौरान प्रशिक्षण देने के लिए रायपुर से वनस्पतिज्ञ संगीता श्रीवास्तव व बेंगलोर से वैज्ञानिक दीपा श्रीवत्स ने शिविर में आये प्रदेश भर के वैद्यराजों व समिति के अध्यक्षो को वनौषधियों के संरक्षण से संबंधित जानकारी दी गयी।

04-03-2020
अरपा नदी से बेजा कब्जा हटाने की याचिका पर शासन और प्राधिकरण नहीं दे पाया विशेषज्ञों का नाम

रायपुर। छत्तीसगढ़ हाईकोर्ट में अरपा के उद्गम स्थल से अतिक्रमण हटाने और नदी के संरक्षण और संवर्धन की मांग को लेकर दायर की गई जनहित याचिका में सुनवाई हुई। राज्य शासन व विधिक सेवा प्राधिकरण को विशेषज्ञों के नाम देने थे। शासन ने नाम नहीं दे पाने के कारण कोर्ट से मोहलत मांग ली। खंडपीठ ने मामले की अगली सुनवाई के लिए एक सप्ताह बाद का समय निर्धारित किया है। चार वकीलों ने जनहित याचिका दायर कर अरपा नदी के उद्गम स्थल से बेजा कब्जा हटाने की मांग की है। चीफ जस्टिस पीआर रामचंद्र मेनन व जस्टिस पीपी साहू की खंडपीठ ने सुनवाई के दौरान राज्य शासन के अलावा विधिक सेवा प्राधिकरण को अरपा के संरक्षण के लिए सुझाव देने विशेषज्ञों के नाम मांगे थे। इसके लिए मंगलवार की तिथि तय की थी। मंगलवार को शासन व प्राधिकरण को अपनी तरफ से विशेषज्ञों की सूची सौंपनी थी। नाम नहीं दे पाने के कारण दोनों ने कोर्ट से मोहलत मांग ली है।

25-02-2020
ख़बर का असर: सटोरियों पर की गई कार्रवाई, बड़े सटोरिया अभी भी बाहर

धमतरी। आखिर कर पुलिस ने नींद से उठकर कुछ छोटे सटोरियों पर कार्रवाई कर ही लिया। ग्लिबस डॉट इन में खबर प्रकाशित करने पर पुलिस हरकत में आई और पुलिस द्वारा छोटे सटोरियों पर कार्रवाई की गई। कोतवाली और अर्जुनी पुलिस ने अवैध सट्टा के खिलाफ कार्रवाई करते हुए तीन सटोरियों को गिरफ्तार किया है। पुलिस ने इनके पास से लाखों के सट्टापट्टी और नगदी रकम बरामद किया है। बताया जा रहा है कि सूचना के आधार पर सिटी कोतवाली और अर्जुनी पुलिस द्वारा शहर के कुछ जगहों के पास आंको का खेल सट्टा खिलाया जा रहा है। पुलिस द्वारा कार्रवाई करते हुए आरोपी शेख रज्जाक पिता शेखजी निवासी आधारी नवागांव वार्ड एवं रामबाग के पास राहुल साहू पिता रोशन साहू हटकेशर शीतला पारा वार्ड धमतरी वहीं अर्जुनी पुलिस के द्वारा खिलावन निषाद पिता महावीर निषाद निवासी ग्राम मुड़पार को गिरफ्तार किया है। बताया गया है कि इन तीनों को रंगे हाथ पकड़ कर उनके कब्जे से नगदी रकम एवं हजारों रुपए के सट्टा पट्टी जब्त कर वैधानिक कार्यवाही किया गया है। उक्त आरोपियों के विरुद्ध पृथक से प्रतिबंधात्मक कार्यवाही भी की गई है। पुलिस द्वारा की गई कार्यवाही जरूर काबिले तारीफ है पर क्या छोटे सटोरियों पर कार्रवाई कर बड़े सटोरियों को छोड़ उनको संरक्षण दिया जा रहा है। क्यों पुलिस शहर के आसपास के ही जगहों में रामबाग,लाल बगीचा,बनियापारा, मठ मंदिर चौक,कचहरी चौक,आमापारा, कोलियारी सहित अन्य जगहों पर कार्रवाई नही कर पा रही है। अब देखना होगा कि इन छोटे सटोरियों को पकड़ पुलिस प्रशासन शान्त बैठ जाती है या पुलिस के हाथ बड़े सटोरियो तक भी पहुंचते हैं।

 

18-01-2020
दिन में शराबबंदी की मांग-रात में संरक्षण, भाजपा और उसकी बी टीम का दोहरा चरित्र उजागर : शैलेश

रायपुर। प्रदेश कांग्रेस के महामंत्री एवं संचार विभाग के अध्यक्ष शैलेश नितिन त्रिवेदी ने कहा कि भाजपा और उसकी बी टीम की मिलीभगत और दोहरा आचरण उजागर हुआ है। त्रिवेदी ने आरोप लगाया है कि नगरीय निकाय चुनाव के बाद भाजपा और भाजपा के सहयोगी दल जनता कांग्रेस पंचायती राज संस्थाओं के चुनाव में भी शराब का दुरुपयोग की साजिश कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि भाजपा में सांसद प्रतिनिधि रहे और भाजपा का जिला कोषाध्यक्ष अनिल गुप्ता स्वयं की गाड़ी के साथ-साथ राज्य विद्युत मंडल की गाड़ियों में अवैध शराब परिवहन तस्करी करते हुए पकड़ा गया। इसे छुड़ाने के लिए बलौदा बाजार के जनता कांग्रेस के विधायक प्रमोद शर्मा स्वयं कवर्धा पहुंचे। भाजपा और भाजपा की बी टीम  जनता कांग्रेस लगातार राज्य में  शराबबंदी के लिए मांग करती रही लेकिन खुद इनके जिम्मेदार पदाधिकारी और जनप्रतिनिध  क्या कर रहे हैं बाहर के राज्य से शराब की तस्करी और शराब का संरक्षण दे रहे हैं।

शैलेश नितिन त्रिवेदी ने कहा कि 2018 के चुनाव में कांग्रेस को  राज्य की जनता ने जनादेश दिया था।  यह जनादेश 5 वर्षों के लिए है। कर्जमाफी, 2500 धान का दाम, 4000 तेंदूपत्ता , छोटे प्लाटों की रजिस्ट्री सहित अनेक वादों को कांग्रेस सरकार ने पूरा भी किया है। छत्तीसगढ़ में विधानसभा  चुनाव में कांग्रेस ने शराबबंदी का वादा भी किया था। त्रिवेदी ने कहा कि शराबबंदी सहित घोषणापत्र में किए गए  वादों को  पूरा करने की दिशा में राज्य सरकार गंभीर और लगातार काम भी कर रही है। समीतियां गठित की गई है,शराब की समस्या का मूल समाधान सामाजिक स्तर पर ही संभव है। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल सरकार ने इस दिशा में दु़ढ़ इच्छाशक्ति के साथ कदम भी उठाए हैं। सरकार ऐसी शराब नीति बनाने के लिए काम कर रही है। ताकि शराबबंदी होने की स्थिति में अवैध शराब और शराब तस्करी जैसी समस्याओं से निपटा जा सके। शराब बंदी हो भी जाये तो शराबतस्करी रोकनी होगी। सरकार ने इस दिशा में कदम उठाए।

त्रिवेदी ने कहा कि पूर्व में रमन सिंह के साथ कवर्धा के शराब कोचिए की फोटो भी उजागर हुई थी। इन दोनों राजनैतिक दलों का चरित्र यही है। भाजपा और भाजपा की बीम टीम की ओर से नगरीय निकाय चुनाव को प्रभावित करने के लिए और अब पंचायती राज संस्थाओं के चुनाव को प्रभावित करने के लिए बड़े पैमाने पर शराब की तस्करी करके अवैध परिवहन कर के बाहर से शराब लाई गई है और यह शराब बलौदा बाजार जिले में कांग्रेस के उम्मीदवारों को हराने के लिए बांटी जा रही हैं। शराब तस्करी की इस बड़ी घटना से भाजपा और जनता कांग्रेस का दोहरा चरित्र उजागर हो गया है। भाजपा के बलौदा बाजार जिला कोषाध्यक्ष स्वयं की गाड़ी में और छत्तीसगढ़ राज्य विद्युत मंडल लिखी गाड़ियों में मध्य प्रदेश से शराब तस्करी करते हुए हुए गिरफ्तार किए गए। जनता कांग्रेस के विधायक जमानत कराने पहुंचे थे। यह भाजपा और भाजपा की बी टीम द्वारा पंचायत चुनाव को प्रभावित करने के लिए अवैध शराब की तस्करी और शराब तस्करों को संरक्षण देने का स्पष्ट मामला है। यह दोनों ही राजनैतिक दल भाजपा और भाजपा की बी टीम लगातार शराबबंदी की मांग को लेकर बात करते रहे हैं और भाजपा और भाजपा की टीम इन्हीं के पदाधिकारियों और जनप्रतिनिधियों का आचरण प्रदेश की जनता के सामने उजागर हुआ है। भाजपा और भाजपा की बी टीम का शराबबंदी के समर्थक होने का मुखौटा पूरी तरह से हट गया है।

05-01-2020
पाकिस्तान में प्रताड़ित गैर मुस्लिम आबादी, भारत मे देंगें संरक्षण : केंद्रीय मंत्री गंगवार

 

रायपुर। भाजपा ने नागरिकता संशोधन कानून के परिप्रेक्ष्य में जागरुकता अभियान की शुरुआत की है। छत्तीसगढ़ में इस अभियान की शुरुआत केंद्रीय राज्य मंत्री स्वतंत्र प्रभार डॉ संतोष गंगवार और डॉ रमन सिंह ने 5 जनवरी रविवार से की। केंद्रीय श्रम एवं रोजगार राज्य मन्त्री (स्वतंत्र प्रभार) डॉ संतोष गंगवार ने कहा कि उत्तर प्रदेश में बरेली जिले का निवासी हूँ जहाँ आज के सन्दर्भ में विपरीत समाचार आप नही सुने होंगे। हम वहाँ मुस्लिम समुदाय को कनवेंस करने में सफल रहे हैं। जो काम आजादी के बाद हो जाने चाहिए थे वो नही हो पाए। हिन्दू समाज को प्रताड़ित किया गया तो समाज को संरक्षण हिंदुस्तान में ही मिलेगा। यह कानून किसी समाज को प्रताड़ित करने के लिए नही है। यह नागरिकता देने का कानून है लेने का नही।

बंटवारे के बाद जो फैसला लेना था वो अब लिया गया है। गैर मुस्लिम आबादी पाकिस्तान में प्रताड़ित है उन्हें भारत मे ही संरक्षण मिलेगा। इसमें किसी को परेशान होने की जरूरत नही है। भाजपा के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष पूर्व मुख्यमंत्री डॉ रमन सिंह ने कहा कि नागरिकता संशोधन कानून के संबंध में जागरूकता के लिए अलग अलग समूहों से समाज से मिलने का कार्यक्रम जारी है। यह लगातर चलेगा। प्रदर्शन, सभा, रैली लगातार होगी। लोगों में जो सीएए के लिए भ्रांति है उसे दूर किया जाएगा। बंटवारे के दौरान पाकिस्तान में हिन्दू, सिक्ख, जैन, बौध्द की बड़ी आबादी थी अब वो कहाँ है। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के छत्तीसगढ़ में एनआरसी नहीं लागू होने देने के सवाल पर केंद्रीय मंत्री ने कहा कि भूपेश बघेल छत्तीसगढ़ की तरक्की के लिए काम करें। राज्य को नागरिकता देने का अधिकार नही है।

30-12-2019
कड़ाके की ठंड में भटकती गौ माता, गौ पालकों पर कोई कार्यवाही नहीं

रायपुर। छत्तीसगढ़ शासन द्वारा गौ माताओं के संरक्षण के लिए आदर्श गौठान सहित नई योजनाएं तैयार किया गया है। बावजूद इसके मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के प्रयास पर पानी फेरते शहर के गौपालक नजर आ रहे है। कड़ाके की ठंड शीतलहर में रात भर सड़कों पर गायो को भटकने के लिए छोड़ दिया जाता है। मामले में सामाजिक कार्यकर्ता शरद जाल ने आपत्ति व्यक्त करते हुए प्रदेश शासन के पशु पालन विभाग के मंत्री से ठंड में गौमाता को सड़कों पर छोडऩे वाले गौपालकों के खिलाफ कानूनी कार्रवाई करने की मांग की है। आपको बता दे कि अनेक गौशाला समितियों द्वारा समय समय पर अखबारों के माध्यम से अपने आप को सबसे बड़ा गौपालक सिद्ध करने की कोशिश की जाती है, लेकिन कथनी और करनी का अंतर देर रात तक सड़कों पर भटकती गौमाताओं को देखकर लगाया जा सकता है। इस संबंध में अब तक कोई ठोस कार्रवाई नहीं होने के कारण गौ पालकों के हौसले बुलंदी पर है। गोवर्धन पूजा के दिन गोवर्धन रैली निकालने वाले समिति के संरक्षक माधव लाल यादव ने भी गौ पालकों द्वारा गौ माताओं को कड़ाके की ठंड में देर रात सड़कों पर छोडऩे के मामले पर कड़ी प्रतिक्रिया जाहिर करते हुए समस्त गौपालकों से गौ माताओं के लिए ठंड में गौशाला में उन्हें ठंड से बचाने के लिए विशेष इंतजाम करने की अपील की है। 

 

10-12-2019
मंत्रालयीन कर्मियों ने ली मानव अधिकारों के संरक्षण की शपथ

रायपुर। विश्व मानव अधिकार दिवस 10 दिसम्बर के अवसर पर मंत्रालयीन अधिकारियों-कर्मचारियों ने मानव अधिकारों के संरक्षण और संवर्धन की शपथ ली। अपर मुख्य सचिव अमिताभ जैन ने मंत्रालयीन कर्मियों को शपथ दिलाया कि वे सभी मानव अधिकारों को पूरे विश्वास और निष्ठा से धारण करेंगे और उनके संरक्षण और संवर्धन के लिए अपने दायित्वों का निर्वाहन करेंगे। किसी भी प्रकार के भेदभाव के बिना सभी के मानव अधिकारों का सम्मान एवं समर्थन करेंगे तथा प्रत्यक्ष अथवा अप्रत्यक्ष रूप से किसी के भी मानव अधिकार का अपने विचार शब्द या कार्यों से नुकसान नहीं पहुंचाएंगे ।  

Advertise, Call Now - +91 76111 07804