GLIBS
23-02-2021
रंग लाई शिक्षकों की मेहनत, प्रदेश सरकार को मिला ई-गवर्नेस अवार्ड

कोरिया। कोरोना संक्रमण काल में भले ही स्कूल बंद रहे लेकिन शिक्षकों ने विभिन्न तरीकों से पढ़ाना जारी रखा था। इसके कारण राज्य शासन को ई-गवर्नेस अवार्ड मिला है। ई-गवर्नेस अवार्ड का मिलना ही शिक्षकों के लगन और सेवाभाव का प्रमाण है। इस आशय को छत्तीसगढ़ प्रदेश शिक्षक फेडरेशन के प्रांताध्यक्ष राजेश चटर्जी ने वार्षिक आमसभा में व्यक्त किया। फेडरेशन के उप प्रांताध्यक्ष राजेन्द्र सिंह एवं कोरिया जिला अध्यक्ष रवींद्रनाथ तिवारी ने बताया कि जेएन पाण्डेय शासकीय उच्चतर माध्यमिक विद्यालय रायपुर के सभागार में आयोजित हुए वार्षिक आमसभा में प्रदेश के लगभग सभी जिलों से शिक्षक शामिल हुए। 28 फरवरी को सेवानिवृत्त हो रहे अशोक रायचा (रायपुर संभाग अध्यक्ष) को प्रांताध्यक्ष राजेश चटर्जी ने प्रांताध्यक्ष का आसंदी एवं दायित्व देकर तथा सेवा सम्मान पदक से सम्मानित किया। उन्होंने बताया कि आमसभा में शिक्षक संवर्ग को समयमान वेतनमान स्वीकृति पर सही विकल्प लेने के तरीकों पर  विशेषज्ञ कुबेर राम देशमुख ने विस्तृत जानकारी उदाहरण सहित दिया। आमसभा में पुराने पेंशन योजना को लागू करने पर जोर दिया गया है।

विगत वर्ष 2020 के वार्षिक प्रतिवेदन का अनुमोदन सर्वसम्मति से किया। फेडरेशन के स्थाई निधि एवं संपत्ति की व्यवस्था के लिए प्रत्येक ब्लॉक/तहसील इकाई में अधिक से अधिक संरक्षक सदस्य एवं आजीवन सदस्य बनाने का संकल्प पारित हुआ। वर्ष 2021 के लिए एकेएएंड कंपनी दुर्ग को लेखा परीक्षक नियुक्ति किया गया। छत्तीसगढ़ सोसाइटी रजिस्ट्रीकरण अधिनियम की धारा 27 एवं 28 के अंतर्गत कार्यवाही के लिए सर्वाधिकार प्रांताध्यक्ष को दिया। नियाय पाती अभियान के फलस्वरूप शासन स्तर पर हुए कार्यवाही की जानकारी एवं आगामी रणनीति तय किया गया। राजेन्द्र सिंह की ओर से प्रांतीय सम्मेलन करने का प्रताव पारित हुआ। सभी वक्ताओं ने सहायक शिक्षकों को तृतीय समयमान/क्रमोन्नत वेतनमान एवं संवर्गीय पदोन्नति पर तार्किक पक्ष रखते हुए तत्सम्बन्धी आदेश जारी का माँग शासन से किया। अरुण ध्रुव अध्यक्ष तकनीकी शिक्षा प्रकोष्ठ एवं रविन्द्र सिंह पोर्ते ने तकनीकी शिक्षा विभाग के शैक्षणिक संवर्ग के भर्ती-पदोन्नति नियम बनाए जाने पर जोर देते हुए, नए नियम बनाए जाने के आवश्यकता पर विस्तृत प्रतिवेदन आमसभा में प्रस्तुत किया। आमसभा को जिला अध्यक्षों ने संबोधित किया। आमसभा में 9 प्रस्तावों को सर्वसम्मति से पारित किया। आमसभा में शिक्षकों ने गीत एवं कविता सुनाकर अपने प्रतिभा का बेहतरीन प्रस्तुति देकर आमसभा में उपस्थित सदस्यों का मनोरंजन किया।आमसभा में सरगुजा, बिलासपुर, रायपुर, दुर्ग एवं बस्तर संभाग के पदाधिकारियों एवं सक्रिय सदस्यों ने भाग लिया।

19-02-2021
निरीक्षण के दौरान नदारद मिले कई शिक्षक, डीईओ ने मांगा जवाब

बेमेतरा/रायपुर। छत्तीसगढ़ में स्कूल खुल गए हैं। अधिकारी स्कूलों में व्यवस्थाओं का जायजा ले रहे हैं। इसी कड़ी में प्रदेश के बेमेतरा जिले में जिला शिक्षा अधिकारी मधुलिका तिवारी स्कूलों का निरीक्षण करने पहुंचीं। इस दौरान कई शिक्षक नदारद मिले। उन्होंने समस्त अनुपस्थित शिक्षकों से स्पष्टीकरण लेकर जिला शिक्षा अधिकारी कार्यालय में प्रस्तुत करने संस्था प्रमुखों को निर्देश दिए हैं। डीईओ ने शासकीय हायर सेकंडरी स्कूल कुसमी, मोहरेंगा, बालसमुंद, भनसुली, शासकीय हाई स्कूल करंजिया का निरीक्षण किया। कुसमी में शिक्षिका संगीता देवी 10:46 बजे स्कूल पहुंची और ताला खोला। डीईओ ने उपस्थिति पंजी में देखा तो पता चला कि संगीता देवी व्याख्याता 16 और 17 फरवरी को बिना सूचना के अनुपस्थित थी। विद्यालय के प्रभारी प्राचार्य पीएल यदु व्याख्याता 15 से 17 फरवरी तक बिना सूचना के अनुपस्थित थे। डॉ. रीता तिवारी व्याख्याता 18 फरवरी को, ओके साहू व्याख्याता 15 से 17 फरवरी तक, कमलेश सिंह व्याख्याता, रेणुका अग्रवाल शिक्षक और संतोष वैष्णव सहायक शिक्षक 18 फरवरी को बिना सूचना के विद्यालय से अनुपस्थित थे।

शासकीय हायर सेकंडरी स्कूल मोहरेंगा के प्रभारी प्राचार्य सीएल शर्मा निर्धारित समय से विलंब से 11:30 बजे विद्यालय में उपस्थित हुए। डीईओ ने समय पर उपस्थिति होने के निर्देश दिए। देव कुमारी साहू व्याख्याता 16 से 18 फरवरी, बिरेन्द्र कुमार पटेल व्यायाम शिक्षक 17 व 18 फरवरी को बिना सूचना के अनुपस्थित थे। शासकीय हायर सेकंडरी स्कूल बालसमुंद पाठकान से पता चला कि 17 फरवरी को विद्यालय के 11 शिक्षक बिना सूचना के अनुपस्थित थे। निरीक्षण के दौरान स्कूल लगने के समय पर 10 शिक्षक अनुपस्थिति मिले।

 

12-02-2021
केंद्रीय शिक्षा मंत्री ने मनेंद्रगढ़ के शिक्षक को प्रेषित किया प्रशस्ति पत्र

कोरिया। कलेक्टर एसएन राठौर ने सहायक विकासखंड शिक्षा अधिकारी मनेंद्रगढ़ मो.इस्माइल खान को केंद्रीय शिक्षा मंत्री रमेश पोखरियाल द्वारा प्रेषित प्रशस्ति पत्र प्रदान किया। इसके साथ ही कलेक्टर ने उन्हें कोरोना काल में भी शिक्षा की अलख जगाए रखने के लिए बधाई दी एवं इसी उत्साह से कार्य करने के लिए प्रोत्साहित किया। इस अवसर पर जिला शिक्षा अधिकारी  संजय गुप्ता, जिला मिशन समन्वयक अजय मिश्रा एवं एपीसी  राजकुमार चाफेकर उपस्थित थे।
उल्लेखनीय है कि पूरे देश से शिक्षा के क्षेत्र में प्रतिबध्दता, समर्पण एवं समाधान उन्मुख दृष्टिकोण से कार्य करने वाले मात्र 27 कोरोनावरियर्स का चयन हुआ। इसमें  छत्तीसगढ़ से दो अधिकारियों का चयन हुआ। इनमें से एक कोरिया जिले के मनेन्द्रगढ़ विकासखंड के सहायक विकास खंड शिक्षा अधिकारी मो.इस्माइल खान थे।
कोरोना काल में विकासखंड मनेन्द्रगढ के सहायक विकास खंड शिक्षा अधिकारी मोहम्मद इस्माइल खान ने कोरोना संकटकाल में वैकल्पिक शिक्षा व्यवस्था की एक नवीन अवधारणा को जन्म दिया। कोरोना संकट काल में जब पूरी तरह से लॉक डाउन की स्थिति थी ऐसी स्थिति में पढ़ई हमर पारा के नाम से मोहल्ला क्लास की शुरुआत की। जो धीरे-धीरे पूरे विकासखंड के साथ ही पूरे जिले और पूरे राज्य में लागू हुआ। इसकी चर्चा राष्ट्रीय स्तर पर हुई। अरविंदो सोसाइटी नामक संस्था जो शिक्षा के क्षेत्र में नवाचारी कार्य करता है के  द्वारा पूरे भारत मे सर्वे करके 27 ऐसे कोरोनावारियर्स की पहचान की गई। इन्होंने कोरोना काल में शिक्षा के क्षेत्र में अपनी एक अलग कार्यशैली में बच्चों की पढाई जारी रखने के लिए व्यापक स्तर पर कार्य किया।

 

06-02-2021
प्रमुख सचिव बने शिक्षक,शिक्षकों को दिए बच्चों को सरल तरीके से अंग्रेजी सिखाने के टिप्स

रायपुर।  प्रमुख सचिव स्कूल शिक्षा डॉ. आलोक शुक्ला शनिवार को अचानक राज्य शैक्षिक अनुसंधान एवं प्रशिक्षण परिषद शंकर नगर पहुंचे। यहां कक्षा 9वीं से 12वीं तक अध्यापन कराने वाले नवाचारी शिक्षकों के गठित अंग्रेजी विषय की प्रोफेशनल लर्निंग कम्युनिटी (पीएलसी) की राज्य स्तरीय बैठक हो रही थी। डॉ. शुक्ला ने शिक्षकों से अंग्रेजी भाषा के अध्ययन-अध्यापन में आने वाली समस्याओं के बारे में पूछा। उन्होंने शिक्षकों को अंग्रेजी को सरल ढंग से बच्चों को  सिखाने छोटे-छोटे टिप्स भी दिए। शिक्षकों के अंग्रेजी भाषा के अध्यापन के अनुभव को सुनकर प्रमुख सचिव अपने आप को रोक नहीं सके। उनके साथ अपना अनुभव शेयर करते हुए शिक्षकों को स्वयं ड़ेढ घंटे बोर्ड पर चाक से लिखकर अंग्रेजी सीखने के नवाचारी उपाय बताएं। उन्होंने शिक्षकों को अंग्रेजी सीखने के लिए बच्चों में ललक उत्पन्न करने के लिए प्रेरित और प्रोत्साहित किया। उन्होंने शिक्षकों से कहा कि अंग्रेजी को बच्चे परीक्षा पास करने के लिए एक विषय न मानकर इसे अपनी साधारण बोल-चाल की भाषा में शामिल करते हुए व्यावहारिक जीवन में अंग्रेजी की उपयोगिता और आवश्यकता को समझ सकें। उन्होंने पीएलसी की आवश्यकता और महत्व पर जानकारी देते हुए कहा कि शिक्षक छोटे-छोटे समूह बनाकर अपनी नवाचारी गतिविधियों को एक-दूसरे से साझा करेंगे तो इसका लाभ राज्य के अन्य बच्चों और शिक्षकों को होगा।
प्राथमिक स्तर पर गठित राज्य स्तरीय सक्रिय पीएलसी दल के सदस्यों ने बीपी पुजारी शासकीय स्वामी आत्मानंद इंग्लिश मीडियम स्कूल रायपुर का अवलोकन किया। राज्य शासन की महत्वाकांक्षी योजना के तहत खुले इस इंग्लिश मीडियम स्कूल की विभिन्न गतिविधियों से परिचित हुए। सदस्यों ने स्कूल विद्यालय के स्टॉफ से चर्चा की। राज्य स्तरीय इस पीएलसी दल में सीतापुर से अनिता तिवारी,अंबिकापुर प्रमिला कुशवाहा, बिलासपुर से सावित्री सेन, बलौदाबाजार से सीमा मिश्रा, दुर्ग से नंदनी देशमुख, बालोद से कौर, अभनपुर से राजश्री साहू, धरसीवां से तस्कीन खान, रायपुर से रीता मंडल शामिल थीं।

02-02-2021
शिक्षक से दिनदहाड़े हुई लूट,बैंक से बाहर निकलते ही चोरों ने पार किया रुपयों से भरा थैला

रायपुर/बालोद। डौंडीलोहारा इलाके से दिनदहाड़े लूट की खबर सामने आई है। एक शिक्षक से उसकी पेंशन की रकम चोरो ने लूट ली। पैसा निकालकर जैसे ही शिक्षक बाहर निकला, घात लगाये चोर ने पैसों से भरा थैला गायब कर दिया और फरार हो गए। जानकारी के मुताबिक बालोद के नाहंदा के रहने वाले पवन ठाकुर 2017 में रिटायर हुए थे। प्रधानपाठक के पद से रिटायर हुए पवन ठाकुर पेंशन की राशि निकालने के लिए एसबीआई की डौंडीलोहारा ब्रांच गये हुए थे। खाते में से 45 हजार रूपये निकालकर पैसे को बैंक अंदर ही गिनकर प्लास्टिक के थैले में नगदी उन्होंने रख ली थी। जैसे ही भारतीय स्टेट बैंक से शिक्षक बाहर निकले घात लगाकर बैठे चोरों ने थैला पार कर दिया।  इस मामले में शिक्षक की शिकायत पर पुलिस ने एफआईआर दर्ज कर जांच शुरू कर दी है।

02-02-2021
महाराष्ट्र : शिक्षा विभाग ने जारी किया अजीब आदेश,स्कूल में जींस पहनकर आने वाले शिक्षकों को कारण बताओ नोटिस,

मुंबई। महाराष्ट्र के शिक्षा विभाग ने चौंकाने वाला आदेश जारी किया है। पालघर में 5 शिक्षकों को स्कूल प्रशासन ने जींस पहनकर आने की वजह से कारण बताओ नोटिस जारी किया है। यह नोटिस विक्रमगढ़ तहसील में शिक्षा विभाग द्वारा जारी किया गया है। सरकार द्वारा जारी नियमों के अनुसार शिक्षकों को शालीन और सभ्य कपड़ों में स्कूल आने के लिए कहा गया है। नोटिस के मुताबिक 2 दिनों के अंदर इन शिक्षकों को अपना जवाब लेकर कार्यालय में हाजिर होना पड़ेगा यदि समय पर जवाब नहीं दिया गया तो आगे की कार्रवाई की जाएगी। शासन के आदेश के अनुसार सभी कर्मचारियों को शोभनीय कपड़े पहनकर कार्यालय में आना अनिवार्य किया गया है। सरकार द्वारा दी गई इस सूची में जींस पैंट पहनकर आने की अनुमति नहीं दी गई है। नोटिस में यह भी पूछा गया है कि जब शासन द्वारा यह आदेश जारी किया गया है।

उसके बाद भी आदेश का अनुपालन क्यों नहीं किया जा रहा है? कुछ दिन पहले से महाराष्ट्र सरकार ने सरकारी अधिकारियों और कर्मचारियों के लिए जींस और टीशर्ट पहनकर कार्यालय आने पर पाबंदी लगाई हुई है। कार्यालय में आने के लिए किस प्रकार का परिधान होना चाहिए। इस बाबत सरकार ने जीआर निकाला है। कुछ दिनों पहले जब सरकार ने यह नियम शुरू किया था। तब इसकी काफी आलोचना भी की गई थी। स्लीपर पहनकर आने पर भी पाबंदी लगाई गई है। इस नियम के पीछे सरकार की मंशा यह थी कि सरकारी कर्मचारियों के प्रति जनता की भावना बदले और वह एक जवाबदार अधिकारी या कर्मचारी लगे।

 

01-02-2021
छत्तीसगढ़ शिक्षक कांग्रेस के जिलाध्यक्ष बने एम.एस.भास्कर

धमतरी। 31 जनवरी को राजधानी रायपुर में छत्तीसगढ़ शिक्षक कांग्रेस की प्रांत स्तरीय बैठक हुई। प्रांतीय बैठक में छत्तीसगढ़ के समस्त जिले के प्रतिनिधि पहुंचे थे। कार्यक्रम की अध्यक्षता छग शिक्षक कांग्रेस के प्रांताध्यक्ष अनिल शुक्ला ने की। कार्यक्रम में धमतरी जिले से शासकीय नवीन कन्या उच्चतर माध्यमिक विद्यालय धमतरी के व्याख्याता एम.एस.भास्कर को सर्वसम्मति से जिलाध्यक्ष बनाया। प्रांताध्यक्ष ने नियुक्ति पत्र सौंपकर उन्हें नई जिम्मेदारी के लिए बधाई दी। एमएस भास्कर लंबे समय से शिक्षक कांग्रेस के कई पदों पर अपनी सेवाएं दे चुके हैं। उनके शिक्षक कांग्रेस को दिए सुदीर्घ सेवा पश्चात उन्हें जिलाध्यक्ष का दायित्व सौंपा गया है। इस अवसर पर कार्यक्रम में उपस्थित धमतरी के पूर्व जिलाध्यक्ष हेमनलाल सोनी, जगदीश राम साहू, सुनील कुमार साव ने उन्हें फूल माला पहनाकर अभिनंदन किया। एमएस भास्कर के जिलाध्यक्ष बनने पर हेमनलाल सोनी, जगदीश राम साहू, सुनील कुमार साव, रवीन्द्र कुमार साहू, महेश कुमार मिश्रा, राजेश्वर शर्मा, शैलेष शर्मा, किरण साहेब आदि ने हर्ष व्यक्त किया है।

23-01-2021
नाबालिग से दुराचार, शिक्षक पर मामला दर्ज

राजनांदगांव। जिले के घुमका थाना क्षेत्र अंतर्गत ग्राम चंवरढाल में शिक्षक पर नाबालिग से दुष्कर्म का आरोप लगा है। आरोपी को पुलिस ने हिरासत में लिया है। इस घटना की खबर ग्रामीणों को जब लगी तो गांववालों ने शिक्षक की पिटाई कर दी। आरोपी शिक्षक के विरुद्ध धारा 376 तथा 4,6 पाक्सो एक्ट के तहत मामला दर्ज किया गया है। इस पूरे मामले को समन्वयक द्वारा दबाए जाने की कोशिशों की भी खबर है। मामले में थाना प्रभारी का कहना है कि कोई दबाव नही था। क्योंकि महिला अधिकारी द्वारा ही रिपोर्ट ली जाती है इसलिए कुछ विलंब हुआ। 

 

15-01-2021
नक्सल प्रभावित जिले में शिक्षक पारा मुहल्ले में जाकर व शहरी क्षेत्र में ऑनलाइन ऑफ़लाइन शिक्षा की अलख जगा रहे

रायपुर दंतेवाड़ा। दंतेवाड़ा जिले के विभिन्न क्षेत्रों में जहाँ विभिन्न पारा मोहल्लों में जाकर शिक्षक बच्चों का भविष्य गढ़ रहे हैं, वहीं शहरी क्षेत्रों के शिक्षक ऑनलाइन व ऑफलाईन दोनों ही प्रकार के कक्षाओं में पढ़ा कर अपने कर्तव्यनिष्ठता का परिचय दे रहें हैं। शाउमावि दंतेवाड़ा की शिक्षिका टी.विजयलक्ष्मी ने भी जून माह से ही पढ़ई तुंहर दुआर वेबसाइट पर ऑनलाइन 10वीं, 11वीं एवं 12वीं के विद्यार्थियों को पढ़ाना प्रारंभ किया व दिसंबर माह के अंत में उन्होंने दसवीं विज्ञान, बारहवीं जीवविज्ञान एवं कृषि विज्ञान के तत्व का पाठ्यक्रम पूर्ण करके रिवीजन भी प्रारंभ कर दिया है। वे अब तक 333 ऑनलाइन कक्षाएं आयोजित कर चुकी हैं। साथ ही साथ वे ऑफलाईन भी पढ़ाती हैं। वे प्रायोगिक एवं प्रायोजना कार्यों को भी करवा रहीं हैं। अब तक उनकी ऑनलाइन एवं ऑफलाईन कक्षाओं में दस हजार बच्चे सम्मिलित एवं लाभान्वित हुए हैं।

उनके मार्गदर्शन में लगातार दूसरे वर्ष बाल विज्ञान कांग्रेस के कनिष्ठ एवं वरिष्ठ वर्ग के विद्यार्थियों का चयन राज्य स्तर के लिए हुआ है। उनके द्वारा हर माह विद्यार्थियों के लिए विद्यालय के अन्य शिक्षिकाओं के सहयोग से ऑनलाइन विभिन्न कार्यक्रमों का आयोजन किया जाता है। टी. विजयलक्ष्मी स्कूल शिक्षा विभाग द्वारा संचालित सी जी स्कूल पोर्टल में पढ़ई तुंहर दुआर की हमारे नायक में जिले को गौरवान्वित भी की है। इस प्रकार के उनके सफलता के लिए शिक्षा विभाग के अधिकारी राजेश कर्मा, सहायक संचालक अहिल्या ठाकुर, जिला मिशन समन्वयक एसएल शोरी, जिला नोडल अधिकारी केशव सिंह, ढलेश आर्य, जिला मीडिया प्रभारी राजेन्द्र पांडे ने उन्हें प्रोत्साहित करते हुए शुभकामनाएं प्रेषित किये।

22-12-2020
फरवरी तक नहीं होंगी सीबीएसई 10वीं, 12वीं की परीक्षाएं : रमेश पोखरियाल निशंक

नई दिल्ली। आगामी 10वीं और 12वीं बोर्ड परीक्षा की तारीखों पर संशय के बीच शिक्षा मंत्री रमेश पोखरियाल ‘निशंक’ ने मंगलवार को देशभर के शिक्षकों और छात्रों के साथ सीधा संवाद स्थापित किया। शिक्षा मंत्री रमेश पोखरियाल ने इस दौरान बताया कि सीबीएसई की बोर्ड परीक्षा जनवरी,फरवरी में आयोजित नहीं करवाई जाएंगी। उन्होंने कहा कि जो वर्तमान परिस्थितियां है जनवरी-फरवरी में परीक्षा संभव नहीं हो पाएंगी, लेकिन फरवरी के बाद परीक्षा कब होगी इस पर विचार कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि फिलहाल फरवरी तक बोर्ड की परीक्षा नहीं होगी। लेकिन इसके बाद परीक्षाओं को लेकर हम विचार-विमर्श करेंगे और बाद में इसकी जानकारी देंगे।निशंक ने कहा कि कोरोना काल में शिक्षकों ने योद्धाओं की तरह बच्चों को पढ़ाया है।

उन्होंने कहा कि महामारी के दौर में भी ऑनलाइन मोड से शिक्षकों ने बच्चों को उन्होंने पढ़ाने में कोई कमी नहीं छोड़ी। शिक्षा मंत्री ने कहा कि नई शिक्षा नीति के तहत स्कूली शिक्षा में ही आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस ला रहे हैं। उन्होंने कहा कि भारत दुनिया का पहला देश बनेगा जहां, स्कूली स्तर पर ही एआई की पढ़ाई शुरू होगी।सीबीएसई के अधिकारियों ने स्पष्ट किया है कि बोर्ड परीक्षाओं को ऑनलाइन करवाने का कोई प्रस्ताव ही नहीं है। ये परीक्षाएं बीते वर्षों की तरह सामान्य लिखित रूप में ली जाएंगी। हालांकि इसकी डेट अभी तय नहीं हुई है।

 

 

18-12-2020
गरियाबंद जिले के शिक्षकों की ऑनलाइन प्राथमिकता क्रम के लिए तिथि निर्धारित

रायपुर/गरियाबंद। गरियाबंद जिले में शिक्षकों के लिए ऑनलाइन प्राथमिकता क्रम के लिए तिथि निर्धारितकी गई हैं। जिले में शिक्षक पद के लिए विगत वर्ष 9 मार्च 2019 को जारी विज्ञापन के तहत शिक्षक पद के लिए संभाग के प्राथमिकता का क्रम तथा सहायक शिक्षक पद के लिए जिले की प्राथमिकता का क्रम अभ्यर्थियों से आमंत्रित किए गए हैं। अभ्यर्थी डब्ल्यू डब्ल्यू डब्ल्यू डाॅट ईडीयूपोर्टल डाॅट सीजी डाॅट एनआईसी डाॅट इन पर ऑनलाइन प्राथमिकता भर सकेंगे। जिला शिक्षा अधिकारी से मिली जानकारी अनुसार शिक्षक (सभी विषय) के लिए 16 से 28 दिसम्बर 2020, सहायक शिक्षक (सभी विषय) हेतु 19 से 31 दिसम्बर 2020 और सहायक शिक्षक विज्ञान (प्रयोगशाला) के लिए 21 दिसम्बर 2020 से 2 जनवरी 2021 तक तिथि निर्धारित की गई है। अभ्यर्थी को डब्ल्यू डब्ल्यू डब्ल्यू डाॅट ईडीयूपोर्टल डाॅट सीजी डाॅट एनआईसी डाॅट इन पर शिक्षक एवं सहायक शिक्षक प्राथमिकता भरने में किसी भी तरह की संशय की स्थिति में हेल्पडेस्क (+917000211667), (+917000860272) से संपर्क कर सकते हैं। इस संबंध में संयुक्त जिला कार्यालय के कक्ष क्रमांक 88 में सुविधा केन्द्र भी स्थापित किया गया है।

Advertise, Call Now - +91 76111 07804