GLIBS
18-09-2018
Ajit jogi : कहां है जोगी का उड़न खटोला, जब है ज्यादा जरूरत तब कर रहें हैं सड़कों से दौरा

रायपुर। छत्तीसगढ़ जनता कांग्रेस(जे) के सुप्रीमों की स्वास्थ्यगत परेशानियां किसी से छिपी नहीं हैं। इतने खराब स्वास्थ्य के बावजूद वे सड़क मार्ग से जा-जाकर प्रचार कर रहे हैं।  पार्टी के प्रचार - प्रसार के लिए वे चार चक्के वाले वाहनों से आवागमन कर रहे हैं।  बीते साल दिसम्बर महीने में अजीत जोगी ने तीन महीने के हेलिकॉप्टर मंगाया था।  इस दौरान उन्होंने प्रदेश भर में लगातार आम सभाएं की थीं।  लेकिन अब जब जोगी की तबियत इतनी खराब है और उन्हें हेलीकॉप्टर की जरूरत सबसे ज्यादा है, तब वे चार पहिया वाहनों से यात्रा कर रहे हैं ? ऐसे में सवाल तो यही उठता है कि आखिर कहां गया अजीत जोगी का उड़नखटोला? 

अभी बीते दो महीने पहले ही जोगी मौत के मुंह से बचकर लौटे हैं। उनकी हालत इतनी गंभीर थी कि उनका इलाज दिल्ली में करवाना पड़ा था। लगभग एक महीने के इलाज के बाद अजीत जोगी प्रदेश वापस लौटे उसके बाद से लेकर अब तक वे सड़क मार्गों पर चार पहिया वाहनों पर हिचकोले खा-खाकर प्रचार-प्रसार कर रहे हैं।

हेलीकाप्टर की जरूरत नहीं : अमित जोगी

इस मामले पर अजीत जोगी के सुपुत्र और मरवाही विधायक अमित जोगी ने कहा कि जो विजय रथ बनवाया गया है वह सर्व सुविधा युक्त है। विजय रथ में आईसीयू जैसी सुविधाएं भी मौजूद हैं इस लिए पापा ( अजीत जोगी ) को हेलीकॉप्टर की जरूरत नहीं है। अब सोचने वाली बात यह है कि क्या कोई चार पहिया हेलिकॉप्टर से ज्यादा सुविधाजनक हो सकती है ? ऐसा असलियत में तो नहीं हो सकता लेकिन अजीत जोगी के सुपुत्र अमित जोगी का कहना यही है कि यह ज्यादा सुविधाजनक है?

अजीत जोगी जब प्रदेश में अपना हेलीकॉप्टर लेकर आए थे तब यह सियासत गरमा गई थी कि आखिर यह हेलीकॉप्टर आया कहां से है ? हेलीकॉप्टर के पैसे दे कौन रहा है ? ये सभी प्रश्न लगातार सुर्खियों में थे। प्रश्न इसलिए भी उठ रहा था क्योंकि अजीत जोगी की आर्थिक स्थिति किसी से छिपी नहीं है। लगभग दो साल पहले पूर्व सीएम अजीत जोगी ने कांग्रेस पार्टी का साथ छोड़ अपनी एक नई पार्टी बना ली। ऐसे में उनके पास अचानक इतना पैसा कहां से आ गया कि वो निजी चौपर खरीदने की स्थिति में आ गए?

किसका था चौपर:

जोगी के लिए खरीदा जाने वाला चौपर ओएसएस कंपनी का  बताया गया था। उस 4 सीटर हेलीकॉप्टर की कीमत 7 करोड़ रुपए बताई गई। इसमें से 3.5 करोड़ फायनेंस से तो 3.5 करोड़ रुपए पार्टी कार्यकर्ता चंदे से देने वाले थे। इस  कंपनी का मालिक दुबई में रहता है। वर्तमान में उसी कंपनी का चौपर प्रदेश के मुखिया डॉक्टर रमन सिंह इस्तेमाल कर रहे हैं। 

चंदे का चौपर भी रहा चर्चा में:

चौपर को लेकर चर्चा ये भी रही कि ये चंदे का चौपर होगा। इसके लिए 3.5 करोड़ रुपए का चंदा जुटाया गया। उसके बाद फिर सवाल उठा कि आखिर इतनी मोटी रकम चंदे से कैसे आएगी?
चौपर आया भी और फिर उसके बाद कहां चला गया किसी को भी पता नहीं चला। ऐसे में अब तो सवाल यही उठता है कि आखिर कहां गया अजीत जोगी का चौपर?

17-09-2018
Prakash Ambedkar: डॉ. भीमराव अंबेडकर के पौत्र प्रकाश अंबेडकर करेंगे अजीत जोगी से मुलाकात

रायपुर।  डॉ. भीमराव अंबेडकर के पौत्र प्रकाश अंबेडकर आज रायपुर आ रहे हैं। वे आज 12.30 बजे प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री और छत्तीसगढ़ जनता कांग्रेस जे के संस्थापक अजीत जोगी से मुलाकात करंगे। संभावना है कि उनके बीच आगामी विधानसभा चुनाव के विषयों को लेकर अहम चर्चा होगी। खबर है कि इस मुलाकात के दौरान दलित वोट बैंक को लेकर भी चर्चा चर्चा हो सकती है। सियासी गलियारे में इस मुलाकात के कई राजनीतिक मायने निकाले जा रहे हैं। प्रकाश अंबेडकर आज सागौन बंगले में ही मीडिया से भी रुबरु होंगे। 

06-09-2018
Amit Jogi: भ्रष्टाचार और प्रशासनिक आतंकवाद पर कार्रवाई के बजाय अधिकारियों को टिकट दे रही भाजपा: अमित जोगी

रायपुर। छत्तीसगढ़ जनता कांग्रेस जोगी के मरवाही विधायक अमित जोगी खरसिया पहुंचे। इस दौरान उन्होंने रमन सरकार पर जमकर निशाना साधा। उन्होंने कहा कि छत्तीसगढ़ के किसान, युवा, महिला, व्यापारी, शिक्षक, छात्र, कामगार, सभी वर्ग, प्रशासनिक आतंकवाद और कमीशनखोरी से त्रस्त हैं। आये दिन अधिकारियों के विरुद्ध भ्रष्टाचार के नए नए खुलासे हो रहे हैं। लेकिन अधिकारियों के विरुद्ध कार्यवाही करने के बजाय, उन्हें जवाबदार बनाने के बजाय, भाजपा जनभावनाओं के विरुद्ध जाकर अधिकारियों को टिकट दे रही है। लगता है खरसिया में भाजपा को कोई उम्मीदवार नही मिला जो पार्टी की सेवा वर्षों से कर रहा हो इसलिए अधिकारी को नौकरी छुड़वाकर उतारा गया है।

खरसिया में विभिन्न समाज के लोगों का पर्याप्त जनसंख्या होने के बाद भी उन्हें अब तक प्रतिनिधित्व नही मिला है जोकि उन्हें मिलना चाहिए। अमित जोगी ने खेद प्रकट हुए कहा कि इस बार 2018 में दोनो राष्ट्रीय दलों ने विकासवाद नही बल्कि जातिवाद के आधार पर खरसिया की सीट पर अपने उम्मीदवार उतारे हैं। ये ठीक नही है। खरसिया के लोग इस बार राष्ट्रीय दलों के जातिवाद को चलने नही देंगे। खरसिया में दूसरों को भी मौका मिलना चाहिए। खरसिया विधानसभा के सभी समाज और वर्ग के लोग जागृत हो गए हैं। खरसिया के लोगों के दिल की आवाज़ है कि: ओ.पी-यू.पी एक समान जातिवाद की पुरानी दुकान,चालीस साल से नही मिल रहा दूसरों को स्थान, अब जागेगा खरसिया- अब देगा दूसरे को कमान। ये मुकाबला अधिकारी, उत्तराधिकारी और जनकल्याणकारी के बीच है। और खरसिया की जनता इस बार भेजे गए अधिकारी और थोपे गए उत्तराधिकारी को नही बल्कि एक जमीनी और जनकल्याणकारी नेता को चुनेगी जो किसी जाति विशेष का नहीं बल्कि सभी खरसिया वासियों का कल्याण कर सके।

जनता कांग्रेस छत्तीसगढ़ (जे) जमीन से जुड़ी है। हमें पूरे क्षेत्र में हर वर्ग का भरपूर समर्थन मिल रहा है। खरसिया विधानसभा क्षेत्र की जनता प्रचंड बहुमत से हमारे प्रत्याशी को विजयी बनाएगी।

06-09-2018
Amit Jogi: भ्रष्टाचार और प्रशासनिक आतंकवाद पर कार्रवाई के बजाय अधिकारियों को टिकट दे रही भाजपा: अमित जोगी

रायपुर। छत्तीसगढ़ जनता कांग्रेस जोगी के मरवाही विधायक अमित जोगी खरसिया पहुंचे। इस दौरान उन्होंने रमन सरकार पर जमकर निशाना साधा। उन्होंने कहा कि छत्तीसगढ़ के किसान, युवा, महिला, व्यापारी, शिक्षक, छात्र, कामगार, सभी वर्ग, प्रशासनिक आतंकवाद और कमीशनखोरी से त्रस्त हैं। आये दिन अधिकारियों के विरुद्ध भ्रष्टाचार के नए नए खुलासे हो रहे हैं। लेकिन अधिकारियों के विरुद्ध कार्यवाही करने के बजाय, उन्हें जवाबदार बनाने के बजाय, भाजपा जनभावनाओं के विरुद्ध जाकर अधिकारियों को टिकट दे रही है। लगता है खरसिया में भाजपा को कोई उम्मीदवार नही मिला जो पार्टी की सेवा वर्षों से कर रहा हो इसलिए अधिकारी को नौकरी छुड़वाकर उतारा गया है।

खरसिया में विभिन्न समाज के लोगों का पर्याप्त जनसंख्या होने के बाद भी उन्हें अब तक प्रतिनिधित्व नही मिला है जोकि उन्हें मिलना चाहिए। अमित जोगी ने खेद प्रकट हुए कहा कि इस बार 2018 में दोनो राष्ट्रीय दलों ने विकासवाद नही बल्कि जातिवाद के आधार पर खरसिया की सीट पर अपने उम्मीदवार उतारे हैं। ये ठीक नही है। खरसिया के लोग इस बार राष्ट्रीय दलों के जातिवाद को चलने नही देंगे। खरसिया में दूसरों को भी मौका मिलना चाहिए। खरसिया विधानसभा के सभी समाज और वर्ग के लोग जागृत हो गए हैं। खरसिया के लोगों के दिल की आवाज़ है कि: ओ.पी-यू.पी एक समान जातिवाद की पुरानी दुकान,चालीस साल से नही मिल रहा दूसरों को स्थान, अब जागेगा खरसिया- अब देगा दूसरे को कमान। ये मुकाबला अधिकारी, उत्तराधिकारी और जनकल्याणकारी के बीच है। और खरसिया की जनता इस बार भेजे गए अधिकारी और थोपे गए उत्तराधिकारी को नही बल्कि एक जमीनी और जनकल्याणकारी नेता को चुनेगी जो किसी जाति विशेष का नहीं बल्कि सभी खरसिया वासियों का कल्याण कर सके।

जनता कांग्रेस छत्तीसगढ़ (जे) जमीन से जुड़ी है। हमें पूरे क्षेत्र में हर वर्ग का भरपूर समर्थन मिल रहा है। खरसिया विधानसभा क्षेत्र की जनता प्रचंड बहुमत से हमारे प्रत्याशी को विजयी बनाएगी।

06-09-2018
Janata Congress: युवा संगठन के अध्यक्ष कमलकांत साहू को जोगी ने किया निष्काशित

रायपुर | छत्तीसगढ़ जनता कांग्रेस ( जे ) के कोरिया जिले के युवा संगठन के अध्यक्ष कमलकांत साहू  को उनके पद से हटाया दिया गया है | पार्टी का कहना है कि उन्होंने अपने काम का निर्वहन नहीं किया है | साथ ही वे काफी समय से सक्रीय भी नहीं थे | इन्ही सभी कारणों को ध्यान में रखते हुए पार्टी ने उन्हें पद से हटा दिया है, साथ ही पार्टी से भी निष्काषित कर दिया है | पार्टी प्रवक्ता संजीव अग्रवाल का कहना है कि उन पर कई बार पार्टी विरोधी गतिविधियों में शामिल होने का आरोप लगता आया है, जांच के बाद यह सही भी साबित हुआ है |  उन पर गंभीर आरोप लगते हुए कहा है कि वे पार्टी संबंधित विरोधी गतिविधियों में भी शामिल थे | इन सभी बातों को ध्यान में रखते हुए पार्टी के प्रमुख अजीत जोगी के आदेश पर कमलकान्त साहू को पार्टी से बाहर कर दिया गया है | 

आपको बता दें कि लगभग एक साल पुरानी पार्टी जनता कांग्रेस इस बार प्रदेश के सभी 90 विधानसभा सीटों से चुनाव लड़ने की तैयारी में है | ऐसे में पार्टी पुरे सुझबुझ के साथ एक -एक कदम उठा रही है | इसके आलवा लगातार पार्टी का साथ पार्टी के कार्यकर्त्ता छोड़ते भी जा रहे हैं | 

27-08-2018
Ajit Jogi : ओपी चौधरी ने जो किया वो साहस का काम है: अजीत जोगी

रायपुर। रायपुर कलेक्टर ओमप्रकाश चौधरी के अपने पद से इस्तीफा देने और भाजपा में शामिल होने की बात पर दो दिन बाद अजीत जोगी ने अपनी चुप्पी तोड़ी है। छत्तीसगढ़ जनता कांग्रेस ( जे ) के सुप्रीमो अजीत जोगी ने कहा कि रास्ता कठिन है लेकिन जोखिम लेने लायक है।  ओपी चौधरी ने जो किया है वो साहस का काम है, आईएस की नौकरी छोड़ना कोई छोटी बात नहीं है। वैसे भी उनको पेंशन तो मिलता ही रहेगा। 

आपकों बता दें प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री अजीत जोगी भी पहले रायपुर कलेक्टर रह चुके हैं। श्री जोगी ने कहा कि जनता कांग्रेस अभी अपनी विजय यात्रा पर है। अब तक जनता कांग्रेस ने बलौदा बाजार तक की अपनी विजय यात्रा पूरी कर ली है। इस दौरान अजीत जोगी लगातार रोड शो कर रहे हैं, अजीत जोगी ने रक्षाबंधन के दिन भी अपना रोड शो जारी रखा। इस विजय यात्रा के जरिए जोगी लोगों का मन टटोलने का काम भी कर रहे हैं । 

24-08-2018
Bhupesh Baghel: अब पूर्व विधायक भेड़िया ने की घर वापसी, भूपेश बघेल ने पहनाया कांग्रेस का गमछा

बालोद। छत्तीसगढ़ जनता कांग्रेस को एक और बड़ा झटका मिल गया। डौंडीलोहारा के पूर्व विधायक डोमेन्द्र भेड़िया फिर घर वापसी करते हुए कांग्रेस में शामिल हो गए। पीसीसी चीफ भूपेश बघेल ने कांग्रेस का गमछा पहनाकर उन्हें कांग्रेस में शामिल किया। 

इसे जनता कांग्रेस के लिए बड़ा झटका कहा जा सकता है, क्योंकि डोमेन्द्र भेड़िया पूर्व विधायक होने के साथ-साथ आदिवासी समाज के एक कद्दावर नेता हैं। वह सुलझे हुए और सहज व्यक्तित्व के हैं, उनसे जो मजबूती जनता कांग्रेस को मिली थी वह कहीं ना कहीं कम होती नजर आएगी बहरहाल स्थिति चाहे जो भी हो पर कांग्रेस को अपना एक पुराना साथी मिल चुका है जिससे कांग्रेस में खुशी की लहर लौट आई है। 

23-08-2018
CG Congress : युवा जनता कांग्रेस अध्यक्ष विनोद तिवारी ने थामा कांग्रेस का हाथ

रायपुर। युवा छत्तीसगढ़ जनता कांग्रेस जोगी के प्रदेश अध्यक्ष विनोद तिवारी ने अपने समर्थकों समेत कांग्रेस का हाथ थाम लिया। प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष भूपेश बघेल के जन्म दिन के मौके पर उन्होंने कांग्रेस में शामिल हुए। माना जा रहा है कि इससे जोगी कांग्रेस को बहुत बड़ा झटका लगा है। जो कि युवा कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष विनोद तिवारी  तमाम कार्यकर्ताओं के साथ भूपेश बघेल के जन्म दिवस के उपलक्ष में कांग्रेस में प्रवेश किया।

मंच पर ये लोग रहे मौजूद:

मंच पर नेता प्रतिपक्ष टीएस सिंंहदेव, केंद्रीय मंत्री चरणदास महंत समेत सभी नेताओं ने विनोद तिवारी का कांग्रेस परिवार की ओर से स्वागत किया। तो कुछ कांग्रेस के नेताओं ने इसको उनकी घर वापसी बताया है। इसको लेकर पूरे दिन नाटकीय घटनाक्रम चलता रहा, आखिरकार विनोद तिवारी के कांग्रेस में प्रवेश के साथ ही इसका पटाक्षेप हो गया।

 

13-08-2018
Janta Congress : जनता कांग्रेस के कार्यकर्त्ताओं ने कलेक्टर के दरवाजा को मारा लात धूसा, पुलिस देखते रही

रायपुर। छत्तीसगढ़ जनता कांग्रेस (जे) के कार्यकर्ताओं ने हद तो इतना पार कर दिया कि वे लोग प्रदर्शन करते वक्त रायपुर कलेक्टर ओपी चौधरी के आफिस दरवाजे को लात और धूसे मारा। इस दौरान पुलिस के सिपाही देखते रहे लेकिन कार्यकर्ताओं को रोका तक नहीं।

बता दें कि रायपुर कलेक्टोरट परिसर में धारा 144 लगा हुआ है। यह जनते हुए भी छत्तीसगढ़ जनता कांग्रेस के कार्यकर्ताओं ने प्रदर्शन करते हुए कलेक्टोरेट जनदशर््ान पहुंचे। यहां प्रदर्शन किया और मुख्यमंत्री और प्रशासन के खिलाफ नारेबाजी तक की गई। लेकिन पुलिस को सूचना मिलने के बाद भी वक्त पर नहीं पहुंचे। इस दौरान जोगी कांग्रेस के कार्यकर्त्ताओं ने कलेक्टरो ओपी चौधरी के दरवाजे तक पहुंचे और दरवाजे में खड़े होकर नारेबाजी कर प्रदर्शन किया। कुछ कार्यकर्त्ताओं ने प्रदर्शन के दौरान कलेक्टर के दरवाजे को लात और धूसे से मारकर तोड़ने की कोशिस की।

लेकिन कलेक्टर के नगर सैनिकों ने दरवाजा बंद कर की। प्रदर्शन करने वाले छत्तीसगढ़ जनता कांग्रेस (जे) के ग्रामीण जिला अध्यक्ष ओम प्रकाश देवागंन के नेतृत्तव में सैकड़ों कार्यकर्त्ता पहुंचे और प्रदर्शन किया। छत्तीसगढ़ जनता कांग्रेस (जे) की मांग है कि रजिस्ट्री दफ्तर में बटाकंन और सीमाकंन को लेकर परेशानी आ रही है। वहीं स्मार्ट कार्ड से प्राइवेट अस्पताल में इलाज नहीं किया जा रहा है उन मांगों को लेकर प्रदर्शन किया गया है।

प्रदर्शन करने का तरीका गलत है - यूआर खान 

अपर कलेक्टर यूआर खान ने बताया कि छत्तीसगढ़ जनता कांग्रेस (जे) के ओम प्रकाश देवागंन ने गलत तरीके से प्रदर्शन किया है। कलेक्टोरेट परिसर में धारा 144 लगा हुआ है और यहां नारेबाजी किया जाना गलत है। यह अपराध की श्रेणी में आता है, इस लिए शासन एक्सन लेकर प्रदर्शनकारियों पर एफआईआर दर्ज करेंगे। 

Advertise, Call Now - +91 76111 07804
Visitor No.