GLIBS
14-12-2018
Ajit Jogi: हार की समीक्षा करने के बाद अजीत जोगी ने सभी प्रकोष्ठ और कमेटियों को किया भंग 

रायपुर | छत्तीसगढ़ जनता कांग्रेस ( जे ) ने अपने सभी प्रकोष्ठ और सभी कमेटियों को अगले आदेश तक के लिए भंग कर दिया गया है | पार्टी के भीतरी सूत्रों की माने तो हार की समीक्षा करने के बाद पार्टी सुप्रीमो और पूर्व मुख्यमंत्री अजीत जोगी ने यह फैसला लिया है | अब नए सिरे से  सभी पार्टियां और कमेटियां गठित की जांयेंगी | 

आपको बता दें कि चुनाव से पहले सियासी गलियारे में खबर थी कि इस बार मुकाबला त्रिकोणी होने वाला है| कहा यह भी जा रहा था कि अजीत जोगी किंग मेकर बनेगे | चुनाव के परिणाम ने सभी सभावनाओं विराम लगा दिया है | प्रदेश की 90 सीटों पर जनता कांग्रेस ने बहुजन समाज पार्टी और सीपीआई से गठबंधन किया है | जिनमें से 55 सीटों पर जनता कांग्रेस 33 सीटों पर बहुजन समाज पार्टी और दो सीटों पर सीपीआई ने गठबंधन किया था | गठबंधन की इस पार्टी ने प्रदेश में  ही सीट हासिल किये हैं | 

11-12-2018
Janta Congress : छत्तीसगढ़ जनता कांग्रेस (जे) गठबंधन मात्र 9 सीटों पर कर रहा लीड 

रायपुर। प्रदेश में क्षेत्रीय पार्टी के रूप में छत्तीसगढ़ जनता कांग्रेस (जे) दल बनाकर पहली बार बहुजन समाज पार्टी और कम्युनिस्ट पार्टी आफ इंडिया के साथ गठबंधन कर छत्तीसगढ़ विधानसभा का चुनाव लड़ रहे पूर्व मुख्यमंत्री अजीत जोगी अपनी परंपरागत सीट मरवाही से आगे चल रहे हैं। उनकी पार्टी 90 सीटों में से मात्र 9 सीटों पर लीड कर रही है। अजीत जोगी के अलावा उनकी पार्टी के देवव्रत सिंह खैरागढ़ से, अजीत जोगी की पत्नी रेणु जोगी कोटा से, उनकी बहू और बहुजन समाज पार्टी की प्रत्याशी ऋचा जोगी अकलतरा से व बलौदा बाजार से प्रमोद कुमार शर्मा लीड कर रहे हैं। शेष 4 सीटों पर उनका गठबंधन आगे चल रहा है। 

03-12-2018
Smartcard : प्राइवेट अस्पतालों में स्मार्टकार्ड से नहीं हो रहा मरीजों का इलाज 
जनता कांग्रेस के नेताओं ने स्वास्थ्य विभाग का किया घेराव
28-10-2018
Janata Congress: सिहावा से संतानु सोम और कवर्धा से अगमदास अनंत होंगे जनता कांग्रेस के प्रत्याशी

रायपुर। छत्तीसगढ़ जनता कांग्रेस ( जे ) ने अपने दो और उम्मीदवारों के नामों की घोषणा कर दी है। सिहावा नगरी से संतानु सोम और कवर्धा से अगमदास अनंत को जनता कांग्रेस ने उम्मीद्वार घोषित किया है। जनता कांग्रेस ने अब तक कुल 50 नामों की घोषणा कर दी है। खबर है बचे हुए पांच सीटों के लिए उम्मीदवारों की घोषणा भी दो से तीन दिन के भीतर कर दी जाएगी।  प्रदेश में कुल 90 विधानसभा सीटों पर जनता कांग्रेस 55, बहुजन समाज पार्टी 33 और सीपीआई दो सीटों पर गठबंधन किया गया है। 

27-10-2018
Ajit Jogi : अजीत जोगी का चुनावी दौरा 28 अक्टूबर से, रविवार को मरवाही में लेंगे आमसभा

रायपुर। अपनी सरकार बनाने के लिए छत्तीसगढ़ जनता कांग्रेस (जोगी) सुप्रीमो व प्रदेश के प्रथम मुख्यमंत्री अजीत जोगी अपनी पार्टी के प्रत्याशियों की जीत के लिए उनके विधानसभा क्षेत्रों में जाकर धुआंधार प्रचार कर रहे हैं। पार्र्टी मुख्यालय द्वारा 28 अक्टूबर से 12 नवंबर तक अजीत जोगी के प्रस्तावित प्रवास की तिथि जारी कर दी गई है। जोगी 28 अक्टूबर को मरवाही, 29 अक्टूबर को कवर्धा, 30 अक्टूबर को खैरागढ़, 31 अक्टूबर को भानुप्रतापपुर, 1 नवंबर को बिलासपुर, 2 नवंबर को मुंगेली, 3 नवंबर को भोपालपटनम, 4 नवंबर को जांजगीर-चांपा, 5 नवंबर को अभनपुर, 6 नवंबर को धरसीवां, 8 नवंबर को रायगढ़, 9 नवंबर को बालोद और डौंडीलोहारा, 10 नवंबर को दुर्ग, 11 नवंबर को कोरबा और 12 नवंबर को बलौदाबाजार के विभिन्न क्षेत्रों में अपनी पार्टी के प्रत्याशियों के लिए प्रचार करेंगे। 

विस्तृत सूची देखें-


22-10-2018
Election Commission: प्रत्याशियों को सार्वजनिक करनी होगी अपनी आपराधिक रिकार्ड की जानकारी 
राजनीतिक दलों को दीं सी-विजिल एप सहित कई महत्वपूर्ण जानकारियां
21-10-2018
Janata Congress: जोगी कांग्रेस के महामंत्री ने थामा कांग्रेस का हाथ

रायपुर। राजनांदगांव के वरिष्ठ नेता व छत्तीसगढ़ जनता कांग्रेस  (जे) के महामंत्री कुतुबुद्दीन सोलंकी ने रविवार को देर शाम प्रदेश कांग्रेस मुख्यालय राजीव भवन में प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष भूपेश बघेल के समक्ष कांग्रेस प्रवेश कर लिया है। कुतुबुद्दीन सोलंकी के साथ जनता कांग्रेस के सैकड़ों कार्यकर्ताओं ने भी कांग्रेस का दामन थाम लिया है।

इस अवसर पर राजनांदगांव के पूर्व महापौर सुदेश देशमुख, आफताब आलम, महिला कांग्रेस की अध्यक्ष हेमा देशमुख, किसान कांग्रेस के प्रदेश महासचिव पदम कोठारी सहित कांग्रेस के अनेक वरिष्ठ नेता मौजूद थे। कुतुबुद्दीन सोलंकी का अपने समर्थकों सहित कांग्रेस में चला जाना जोगी कांग्रेस के लिए बहुत बड़ा झटका माना जा रहा है। 

13-10-2018
Mayawati: जनता कांग्रेस संस्थापक अजीत जोगी व बसपा सुप्रीमो मायावती आज बिलासपुर में

बिलासपुर। छत्तीसगढ़ जनता कांग्रेस जोगी- बहुजन समाज पार्टी गठबंधन के बाद छत्तीसगढ़ में दोनों आला नेताओं की पहली साझा सभा होगी। इनके गठबंधन के बाद प्रदेश में पहली बार चुनाव में त्रिकोणीय संघर्ष के कयास भी लगाये जा रहे हैं। ऐसे में सत्ताधारी दल भाजपा और विपक्ष में बैठे काँग्रेस दोनों ही दलों की निगाहें आज जोगी और माया पर होगी।चुनावी सभा की तैयारी में दोनों ही दलों के दिग्गज बीते एक पखवाड़े से मशक्कत कर रहे हैं। मायावती व जोगी की सभा को प्रभावी बनाने बहुजन समाज पार्टी के छत्तीसगढ़ प्रभारी व राज्य सभा सदस्य अशोक सिद्घार्थ,यूपी के पूर्व मंत्री लालजी वर्मा,प्रदेश अध्यक्ष ओमप्रकाश वाजपेयी सहित दिग्गज पदाधिकारियों ने यहां एक पखवाड़े से कैंप किया हुआ है।

बहुजन समाज पार्टी के अलावा छत्तीसगढ़ जनता कांग्रेस जोगी के दिग्गज नेता भी लगातार कोशिश करते दिखाई दे रहे हैं। खुद छत्तीसगढ़ जनता कांग्रेस जोगी सुप्रीमो अजित जोगी कार्यक्रम का मोर्चा सम्हाले हुए हैं। छत्तीसगढ़ जनता कांग्रेस जोगी सुप्रीमो अजीत जोगी का कहना है कि ये ऐतिहासिक क्षण है, ऐतिहासिक गठबधन हुआ है। दो समान विचार वाली पार्टियां जो गरीबो के लिए काम करना चाहती है दोनों पार्टियों का मेल हुआ है। कार्यक्रम के जरिये सीधा संदेश होगा कि इस प्रदेश में भाजपा का कुशासन, अकर्मण्यता, अधिकारी शाही भ्रष्टाचार ये सब समाप्त करने के लिए हमारी गठबधन की सरकार बनना जरूरी है। इधर बसपा प्रदेशाध्यक्ष इसे ऐतिहासिक बताते हुए कहते है कि ये प्रदेश की दिशा और दशा दोनों निर्धारित करेगी। गठबंधन की सरकार बनाने की दिशा में ये पहला कदम होगा। बहरहाल सियासी परिदृश्य साफ है, भाजपा और काँग्रेस को टक्कर देने के लिए छत्तीसगढ़ जनता कांग्रेस जोगी और बहुजन समाज पार्टी एक मंच से शक्ति प्रदर्शन कर प्रदेश की राजनीति में अपनी उपस्थिति दर्ज कराने वाले हैं। इसके साथ ही प्रदेश का सियासी पारा भी चढ़ने वाला है।

10-10-2018
Ajit Jogi : धमतरी दौरे के दूसरे दिन अजीत जोगी पहुंचे विंध्यवासिनी मंदिर, पार्टी कार्यालय का किया उद्घाटन

धमतरी। छत्तीसगढ़ जनता कांग्रेस के सुप्रीमो अजीत जोगी का दो दिवसीय धमतरी दौरे का आज बुधवार दुसरा दिन है। दौरे के दूसरे दिन वे नवरात्र के शुभारंभ को देखते हुए धमतरी की आराध्य देवी विंध्यवासिनी माता मंदिर पहुंचे। माता के आशिर्वाद के बाद उन्होंने पार्टी कार्यालय का उद्घाटन किया। इस दौरान पत्रकारों से उन्होंने कहा कि इस बार छत्तीसगढ़ में गठबंधन की सरकार बनाएंगे।

अजीत जोगी ने जानकारी देते हुए बताया कि 13 अक्टूबर को बिलासपुर में बसपा और जनता कांग्रेस की आमसभा रखी गई है। हमने प्रदेश की जनता से पांच प्रमुख वादे किए हैं जिसे सरकार बनने के बाद पूरा करेंगे। उन्होंने कहा कि मेरे स्वस्थ होने में सिर्फ दवा का असर नहीं है बल्की छत्तीसगढ़ की ढाई करोड़ जनता की दुआओं का असर है। उन्हीं के आशीर्वाद से मुझे नया जीवन मिला है।

जोगी ने आगे कहा कि मैं हमेशा छत्तीसगढ़िया लोगों की बात करता हूं और छत्तीसगढ़िया सीएम की भी बात का पुरजोर तरीके से रखता हूं। छत्तीसगढ़ में यदि त्रिशंकु विधानसभा की नौबत आती है तो बसपा और जनता कांग्रेस के समझौते के अनुसार वही मुख्यमंत्री पद के दावेदार रहेंगे और वही मुख्यमंत्री बनेंगे। उन्होंने आगे कहा कि भविष्य में छोटी पार्टियों से भी गठबंधन किया जाएगा। हालांकि गठबंधन से कांग्रेसी कार्यकर्ताओं में नाराजगी है लेकिन सब ठीक हो जाएगा। इस दौरान उम्मीदवार दिग्विजय सिंह, जिला अध्यक्ष शरद रणसिंह, फिरोज खान बसपा के एल साहू भी मौजूद थे।

09-10-2018
Ajit Jogi : जोगी का विजय रथ पहुंचा धमतरी विधानसभा

धमतरी। छत्तीसगढ़ जनता कांग्रेस के प्रमुख अजीत जोगी का विजय रथ धमतरी पहुंच गया है ।दो दिवसीय दौरा करने के बाद अजीत जोगी वापस लौट जाएंगे। इस दौरान कार्यकर्ताओं में उत्साह भरते हुए दिखाई दिए। आचार संहिता लगने के बाद भाजपा और कांग्रेस प्रमुख पार्टी अपने उम्मीदवार को फाइनल करने में लगे हुई है ।वहीं जनता कांग्रेस अपने उम्मीदवार की घोषणा कर चुकी है ।धमतरी से दिग्विजय सिंह कृदत को उम्मीदवार बनाया गया हैं ।जिनका प्रचार अभियान आज से शुरू हो गया ।पार्टी के प्रमुख अजीत जोगी अपनी विजय रथ लेकर धमतरी विधानसभा की ओर कुच कर दिया है। पहली सभा उन्होंने ग्राम छाती में ली।उसके बाद वे धमतरी शहर पहुंचे जहां मकई चौक पर कार्यकर्ताओं ने पटाखे फोड़ कर उनका स्वागत किया। आज काशीराम की पुण्यतिथि मनाई जा रही है और जनता कांग्रेस का बसपा के साथ गठबंधन है इस वजह से अंबेडकर चौक पहुंचे जहां उनके कहने पर बसपा के जिला अध्यक्ष आशीष रात्रे ने माल्यार्पण किया। 5 मिनट बाद ग्राम आमदी और पोटियाडीह की ओर निकल पड़े जहां रोड शो,सभा  करने के बाद वापस धमतरी पहुंचेंगे ।रात्रि विश्राम के बाद कल सुबह 10:00 बजे प्रेस वार्ता लेकर प्रचार कार्यालय का उद्घाटन करने के बाद डूबान क्षेत्र के दौरे पर निकल पड़ेंगे ।उनके साथ विधानसभा के उम्मीदवार दिग्विजय सिंह जिला अध्यक्ष शरद रणसिंह फिरोज खान मौजूद है।

24-09-2018
JCCJ-BSP : जनता कांग्रेस व बसपा के चुनावी प्रचार का शंखनाद, 13 को राजनांदगांव में होगा महासम्मेलन

रायपुर। बहुजन समाज पार्टी और छत्तीसगढ़ जनता कांग्रेस की सोमवार बिलासपुर में पहली बैठक हुई। मिलन समारोह में दोनों ही पार्टी से से भारी संख्या में कार्यकर्ता शामिल हुए। इस दौरान कार्यकर्ताओं में भरपूर जोश देखने को मिला।

बता दें कि दोनों दलों के गठबंधन के बाद बिलासपुर में आज पहली बैठक आयोजित हुई। इस दौरान बैठक में विधायक अमित जोगी, सियाराम कौशिक, धर्मजीत सिंह, योगेश तिवारी, बसपा प्रभारी डॉ. अशोक सिद्धार्थ, भीम राजभर, एमएल भारती, केशव चंद्रा, ओपी बाजपेयी, दाऊराम रत्नाकर सहित प्रदेश व जिला स्तर के पदाधिकारी व उम्मीदवार भी उपस्थित हुए। इस दौरान दोनों दलों के नेता सरकार बनाने के लिए कार्यकर्ताओं को टिप्स देते रहे।

बसपा प्रदेश अध्यक्ष ओपी बाजपेयी ने बताया कि बैठक में रैली की तैयारिओं पर चर्चा की गई। आगामी 13 अक्टूबर को संस्कारधानी राजनांदगांव में आयोजित होने वाले महासम्मेलन में बसपा सुप्रीमों मायावती के साथ जनता कांग्रेस के सुप्रिमों अजीत जोगी की संयुक्त सभा में गठबंधन की शक्ति प्रदर्शन में 5 लाख लोगों की भीड़ जुटाने का टारगेट कार्यकर्ताओं को दिया गया है। वहीं सीटों को लेकर दोनों पार्टियों के नेता ने विचार विमर्श कर रहे है और प्रत्याशियों के नामों का एलान 30 सितंबर तक करेंगे।

18-09-2018
Ajit jogi : कहां है जोगी का उड़न खटोला, जब है ज्यादा जरूरत तब कर रहें हैं सड़कों से दौरा

रायपुर। छत्तीसगढ़ जनता कांग्रेस(जे) के सुप्रीमों की स्वास्थ्यगत परेशानियां किसी से छिपी नहीं हैं। इतने खराब स्वास्थ्य के बावजूद वे सड़क मार्ग से जा-जाकर प्रचार कर रहे हैं।  पार्टी के प्रचार - प्रसार के लिए वे चार चक्के वाले वाहनों से आवागमन कर रहे हैं।  बीते साल दिसम्बर महीने में अजीत जोगी ने तीन महीने के हेलिकॉप्टर मंगाया था।  इस दौरान उन्होंने प्रदेश भर में लगातार आम सभाएं की थीं।  लेकिन अब जब जोगी की तबियत इतनी खराब है और उन्हें हेलीकॉप्टर की जरूरत सबसे ज्यादा है, तब वे चार पहिया वाहनों से यात्रा कर रहे हैं ? ऐसे में सवाल तो यही उठता है कि आखिर कहां गया अजीत जोगी का उड़नखटोला? 

अभी बीते दो महीने पहले ही जोगी मौत के मुंह से बचकर लौटे हैं। उनकी हालत इतनी गंभीर थी कि उनका इलाज दिल्ली में करवाना पड़ा था। लगभग एक महीने के इलाज के बाद अजीत जोगी प्रदेश वापस लौटे उसके बाद से लेकर अब तक वे सड़क मार्गों पर चार पहिया वाहनों पर हिचकोले खा-खाकर प्रचार-प्रसार कर रहे हैं।

हेलीकाप्टर की जरूरत नहीं : अमित जोगी

इस मामले पर अजीत जोगी के सुपुत्र और मरवाही विधायक अमित जोगी ने कहा कि जो विजय रथ बनवाया गया है वह सर्व सुविधा युक्त है। विजय रथ में आईसीयू जैसी सुविधाएं भी मौजूद हैं इस लिए पापा ( अजीत जोगी ) को हेलीकॉप्टर की जरूरत नहीं है। अब सोचने वाली बात यह है कि क्या कोई चार पहिया हेलिकॉप्टर से ज्यादा सुविधाजनक हो सकती है ? ऐसा असलियत में तो नहीं हो सकता लेकिन अजीत जोगी के सुपुत्र अमित जोगी का कहना यही है कि यह ज्यादा सुविधाजनक है?

अजीत जोगी जब प्रदेश में अपना हेलीकॉप्टर लेकर आए थे तब यह सियासत गरमा गई थी कि आखिर यह हेलीकॉप्टर आया कहां से है ? हेलीकॉप्टर के पैसे दे कौन रहा है ? ये सभी प्रश्न लगातार सुर्खियों में थे। प्रश्न इसलिए भी उठ रहा था क्योंकि अजीत जोगी की आर्थिक स्थिति किसी से छिपी नहीं है। लगभग दो साल पहले पूर्व सीएम अजीत जोगी ने कांग्रेस पार्टी का साथ छोड़ अपनी एक नई पार्टी बना ली। ऐसे में उनके पास अचानक इतना पैसा कहां से आ गया कि वो निजी चौपर खरीदने की स्थिति में आ गए?

किसका था चौपर:

जोगी के लिए खरीदा जाने वाला चौपर ओएसएस कंपनी का  बताया गया था। उस 4 सीटर हेलीकॉप्टर की कीमत 7 करोड़ रुपए बताई गई। इसमें से 3.5 करोड़ फायनेंस से तो 3.5 करोड़ रुपए पार्टी कार्यकर्ता चंदे से देने वाले थे। इस  कंपनी का मालिक दुबई में रहता है। वर्तमान में उसी कंपनी का चौपर प्रदेश के मुखिया डॉक्टर रमन सिंह इस्तेमाल कर रहे हैं। 

चंदे का चौपर भी रहा चर्चा में:

चौपर को लेकर चर्चा ये भी रही कि ये चंदे का चौपर होगा। इसके लिए 3.5 करोड़ रुपए का चंदा जुटाया गया। उसके बाद फिर सवाल उठा कि आखिर इतनी मोटी रकम चंदे से कैसे आएगी?
चौपर आया भी और फिर उसके बाद कहां चला गया किसी को भी पता नहीं चला। ऐसे में अब तो सवाल यही उठता है कि आखिर कहां गया अजीत जोगी का चौपर?

Advertise, Call Now - +91 76111 07804