GLIBS
08-09-2020
Breaking: कोरोना के एक्टिव केस के मामले में छत्तीसगढ़ ने मध्यप्रदेश को पछाड़ा, आज मिले 2545 नए मरीज व 12 की मौत

रायपुर। क्षेत्रफल की दृष्टि से तीन गुना और विधानसभा की दृष्टि से ढाई गुना बड़े मध्यप्रदेश को छत्तीसगढ़ ने कोरोना के एक्टिव केस के मामले में पीछे छोड़ दिया है। साथ ही दिनभर में मिलने वाले मरीजों की संख्या भी मध्यप्रदेश से अधिक हो चुकी है। दोनों प्रदेशों की बात करें तो छत्तीसगढ़ में कोरोना के एक्टिव केस 26915 हो चुके हैं, तो मध्यप्रदेश में 17205  एक्टिव केस हैं। मध्यप्रदेश में मंगलवार को 1864 मरीजों की पहचान हुई है, तो छत्तीसगढ़ में 2545 कोरोना पॉजिटिव मरीजों की पहचान हुई है। अब तक कुल संक्रमितों की पहचान होने, मरीजों के स्वस्थ होने और मौत के मामलों में मध्यप्रदेश के आंकड़े जरूर छत्तीसगढ़ से कही अधिक हैं।  बता दें कि छत्तीसगढ़ में मंगलवार को 2545 मरीजों की पहचान हुई है। 615 मरीजों को डिस्चार्ज किया गया है। 12 मरीजों की मौत हुई है। आज हुई 12 मौत में 10 मरीज अन्य गंभीर बीमारियों से भी ग्रसित थे। दो लोग मृत अवस्था में लाए गए थे, जो कोरोना संक्रमित मिले। स्वाथ्य विभाग ने रात 10 बजे की स्थिति में जारी बुलेटिन में यह जानकारी दी है। चौकाने वाली बात है कि, पूर्व के माहों में हुई कुल 57 मौत हुई है, जिसकी जानकारी मंगलवार को मिली है। इनमें बिलासपुर से 26, राजनांदगांव से 16, महासमुंद से 6, बीजापुर से 4, कोरिया व गरियाबंद से 2-2 और सूरजपुर से 1 प्रकरण शामिल है। इन आंकड़ों को बुधवार को जारी होने वाली बुलेटिन के कुल योग में जोड़ा जाएगा। इसी तरह जानकारी मिली है कि, सोमवार देर रात 289 और कोरोना पॉजिटिव मरीजों की पहचान हुई थी। इनमें रायपुर से 159, रायगढ़ से 54, कबीरधाम 47, कोरबा से 11, जांजगीर-चांपा से 9, दुर्ग से 4, धमतरी व बलौदाबाजार से 2-2 और कोरिया से 1 मरीज मिले थे। 

प्रदेश में आज रायपुर जिले से 629 मरीजों की पहचान हुई है। इसी तरह बिलासपुर से 359, राजनांदगांव से 240, दुर्ग से 231, रायगढ़ से 103, बीजापुर से 98, बलौदाबाजार से 92, सरगुजा से 78, जांजगीर-चांपा से 65, मुंगेली से 62, कोरबा से 58, बालोद से 54, महासमुंद व सूरजपुर से 48-48, धमतरी से 47, गरियाबंद से 44, कांकेर से 40, सुकमा से 33, कोण्डागांव से 28, कबीरधाम से 26, बलरामपुर, जशपुर व नारायणपुर से 25-25, कोरिया व दंतेवाड़ा से 21-21, बस्तर से 20, बेमेतरा व गौरेला-पेण्ड्रा-मरवाही से 9-9, अन्य राज्य से 7  मरीज मिले है।प्रदेश में अब तक 50114 मरीजों की पहचान हो चुकी है। इनमें 22792 मरीज स्वस्थ हो चुके हैं। आज दिनांक को दी गई जानकारी में 407 मरीजों की मौत हो चुकी है। प्रदेश में एक्टिव केस 26915 हैं। मेडिकल बुलेटिन देखने के लिए क्लिक करे.  


   

08-09-2020
पुलिस को चकमा देने महिलाओं की आड़ में कर रहे थे गांजा तस्करी, चेकिंग के दौरान धरे गए

कवर्धा। जिले में गांजा तस्करों के विरूद्ध अभियान चलाया जा रहा है। इसके अंतर्गत बीती रात थाना बोडला टीम ने वाहनों की चेकिंग की। इसी दौरान पोड़ी की ओर से दो बाइक एमपी 08 एमआर 4887 एवं बिना नंबर वाली दोपहिया को चेक किया गया। वाहन में रखे बैग में कपड़ों के बीच 16 पैकेट,वजन 23 किलोग्राम गांजा,कीमती 1,15000 पकड़ा। आरोपी देबीलाल मीना उम्र 48 साल,कलीबाई बंजारा उम्र 38 साल,बंसीलाल बंजारा उम्र 25 साल और एक नाबालिक बालिका निवासी जिला गुना को गिरफ्तार किया गया। आरोपियों से पूछताछ पर मादक पदार्थ को रायपुर से मध्यप्रदेश ले जाना बताया गया। थाना बोड़ला में अपराध क्रमांक 192,193/2020 धारा 20ख एनडीपीएस एक्ट के अंतर्गत कार्यवाही कर दो पुरुष,एक महिला और एक नाबालिक बालिका को गिरफ्तार कर न्यायिक अभिरक्षा में भेजा गया।

 

04-09-2020
आईपीएस हिमानी खन्ना की प्रतिनियुक्ति पर आ रहीं छत्तीसगढ़

रायपुर। आईपीएस हिमानी खन्ना प्रतिनियुक्ति पर छत्तीसगढ़ आ रही हैं। केंद्र सरकार ने उनकी प्रतिनियुक्ति को मंजूरी दे दी है। हिमानी खन्ना 2006 बैच की मध्यप्रदेश कैडर की महिला आईपीएस हैं। उनके पति विनीत खन्ना भी आईपीएस हैं, जो मूलतः छत्तीसगढ़ के राजनांदगांव रहने वाले हैं। गृह विभाग के अफसरों के अनुसार हिमानी खन्ना तीन वर्ष के लिए इंटर स्टेट प्रतिनियुक्ति आ रहीं हैं। बताया जा रहा है कि उन्होंने व्यक्तिगत कारणों का हवाला देते हुए इंटर स्टेट प्रतिनियुक्ति के लिए आवेदन लगाया था।

02-09-2020
शिवसेना नेता की गोली मारकर हत्या, मध्यप्रदेश इकाई के थे पूर्व प्रमुख

इंदौर। शिवसेना की मध्यप्रदेश इकाई के पूर्व प्रमुख की अज्ञात बदमाश ने मंगलवार देर रात यहां गोली मारकर हत्या कर दी। एक अधिकारी ने यह जानकारी दी। तेजाजी नगर के थाना प्रभारी आरएनएस भदौरिया ने बुधवार को बताया कि शिवसेना की प्रदेश इकाई के पूर्व प्रमुख 70 वर्षीय रमेश साहू इंदौर-खंडवा रोड पर उमड़ी खेड़ा गांव में ढाबा चलाते थे। इसी ढाबे में मंगलवार देर रात अज्ञात बदमाश ने उनके सीने पर गोली मारकर उनकी जान ले ली। उन्होंने बताया कि हत्या की वजह का अब तक पता नहीं चल सका है। हम मामले की जांच चल रही है।

भदौरिया ने बताया कि साहू इन दिनों शिवसेना में सक्रिय नहीं थे। हत्याकांड को लेकर उनके परिजन और करीबी लोगों से पूछताछ की जा रही है, ताकि वारदात के संबंध में सुराग मिल सके। सियासी जानकारों ने बताया कि साहू 1990 के दशक में शिवसेना के प्रदेश प्रमुख रहे थे और उस वक्त उन्होंने कई आंदोलनों की अगुवाई की थी।

31-08-2020
बाढ़ ग्रस्त क्षेत्रों का नाव से किया सीएम शिवराज सिंह ने दौरा, पीड़ितों की सुनी समस्या

भोपाल। प्रदेश के कई जिले बाढ़ से जूझ रहे हैं। एक दिन पहले ही मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने बाढ़ क्षेत्र का हेलीकाप्टर से दौरा किया था। सोमवार को शिवराज ने हेलीकाप्टर की बजाय नाव से इलाकों का दौरा किया। वे एनडीआरएफ की टीम के साथ नाव से होशंगाबाद के कई इलाकों में पहुंचे, जो बाढ़ से प्रभावित हैं। इस दौरान उन्होंने लोगों की समस्याएं सुनीं और राहत सामग्री भी वितरित की। सीएम ने लोगों से कहा कि परेशानी के बीच उनकी हरसंभव मदद की जाएगी।एक दिन पहले ही सीएम ने मध्यप्रदेश के छह जिलों का हेलीकाप्टर से दौरा किया था। 

 

30-08-2020
मध्यप्रदेश: आष्टा में बारिश के कारण बिल्डिंग गिरी,एक की मौत, 3 घायल

भोपाल। प्रदेश के आष्टा में शनिवार की रात एक इमारत गिरने से एक शख्स की मौत और तीन घायल हो गए। हादसे में घायल हुए लोगों को अस्पताल में स्थानांतरित कर दिया गया है,जहां उनका इलाज चल रहा है। घटना के बाद तुरंत स्थानीय लोगों और पुलिस समेत बचावकर्मियों ने मलबे में फंसे लोगों को जल्दी निकाल लिया।बता दें कि इसी महीने देवास में लाल गेट इलाके के पास दो मंजिला इमारत धराशायी हो गई थी। इस हादसे में 10 लोग घायल हुए थे। लेकिन इलाज के दौरान इसमें से लोगों की मौत हो गई थी। इसके बाद राज्य की सरकार ने मृतकों के परिजनों को 8 लाख 95 हजार रुपये की आर्थिक मदद देने का ऐलान किया था। गौरतलब हो कि पिछले दो दिन से जारी मूसलाधार बारिश के कारण होशंगाबाद सहित मध्यप्रदेश के कई जिलों में बाढ़ आ गई है। स्थिति इतनी विकराल हो गई है कि जलमग्न क्षेत्रों से लोगों को बचाने के लिए शनिवार को सेना और एनडीआरएफ को उतारा गया। होशंगाबाद में लगभग 3,500 लोगों को सुरक्षित स्थानों पर पहुंचाया गया है जबकि छिंदवाड़ा में वायुसेना के एक हेलीकाप्टर से बाढ़ में फंसे पांच लोगों को सुरक्षित निकला गया है।

 

 

26-08-2020
5 पेटी व्हिस्की के साथ पकड़ाए दो शराब तस्कर

राजनांदगांव/डोंगरगांव। मध्यप्रदेश में निर्मित शराब के अवैध परिवहन में लिप्त दो तस्करों को पकडऩे में डोंगरगांव पुलिस को सफलता मिली है। इनके पास से लगभग 28,800 रुपए की अवैध गोवा शराब तथा तस्करी में प्रयुक्त एक मोटरसाइकिल को जब्त की गई। पुलिस से मिली जानकारी अनुसार मुखबिर के जरिये सूचना मिली थी कि ग्राम आसरा–कोकपुर मार्ग की ओर से एक पीले रंग के मोटरसायकल में दो व्यक्ति अवैध शराब लेकर आ रहे हैं। सूचना प्राप्त होते ही आरोपियों को पकडऩे के लिए पुलिस बल रवाना किया गया। पुलिस द्वारा मौके पर जाकर नाकाबंदी कर आने जाने वाले वाहनों पर नजर रखी जा रही थी। इसी बीच एक मोटर सायकल में दो व्यक्ति आते दिखे, जो पुलिस को देखकर भागने लगे। इस पर पुलिस ने दोनों को पीछा कर पकड़ा। पुलिस द्वारा दोनों व्यक्तियों से जानकारी लेने पर एक आरोपी ने अपना नाम भूपेन्द्र देवांगन उम्र 29 साल निवासी दीनदयाल कॉलोनी,कमला कॉलेज रोड राजनांदगांव तथा दूसरे ने अपना नाम राजा गोस्वामी उम्र 39 साल निवासी राजनांदगांव बताया। दोनों के पास से मध्यप्रदेश निर्मित 5 पेटी गोवा व्हीस्की शराब, प्रत्येक पेटी में 48 नग पौवा जब्त किया। इसकी अनुमानित कीमत 28,800 रूपया आंकी गई है। इसके अलावा अवैध तस्करी में लिप्त मोटर सायकल कीमती 40 हजार रुपए को भी जब्त किया गया हैं। दोनों के विरुद्ध आबकारी अधिनियम के तहत कार्यवाही की गई।

 

23-08-2020
मध्यप्रदेश के स्वास्थ्य मंत्री हुए कोरोना संक्रमित,ट्वीट कर दी जानकारी

नई दिल्ली। मध्यप्रदेश के स्वास्थ्य मंत्री डॉ.प्रभुराम चौधरी कोरोना वायरस से संक्रमित पाए गए हैं। चौधरी ने खुद ट्वीट कर अपने कोरोना पॉजिटिव होने की जानकारी दी है। हेल्थ मिनिस्टर ने ट्वीट कर दी जानकारी और लिखा ‘मेरी कोविड की रिपोर्ट टेस्ट के बाद पॉजिटिव आई है। मेरा सभी से निवेदन है,जो भी मेरे संपर्क में आए हैं, वह कोरोना टेस्ट करवा लें। मेरे निकट संपर्क वाले लोग क्वारनटीन में चले जाएं। आप सभी की प्रार्थना एवं आशीर्वाद से जल्द आप सभी के बीच उपस्थित होकर फिर जन सेवा के कार्यों में लगेंगे।’

 

 

07-08-2020
यूपीएससी के नए चेयरमैन बने डॉ.प्रदीप कुमार जोशी, छत्तीसगढ़ और मध्यप्रदेश के लोक सेवा आयोगों के रह चुके अध्यक्ष  

नई दिल्ली। डॉ.प्रदीप कुमार जोशी को संघ लोक सेवा आयोग (यूपीएससी) का अध्यक्ष नियुक्त किया गया। शुक्रवार को उन्होंने अपने पद की शपथ ली। यूपीएससी के अध्यक्ष के तौर पर जोशी का कार्यकाल 12 मई 2021 तक होगा। डॉ.जोशी अभी तक आयोग के सदस्य थे। छत्तीसगढ़ एवं मध्यप्रदेश के लोक सेवा आयोगों के अध्यक्ष रह चुके प्रदीप कुमार जोशी मई 2015 में यूपीएससी के सदस्य बने थे। यूपीएससी चेयरमैन के तौर पर प्रदीप कुमार जोशी अरविंद सक्सेना की जगह लेंगे, जिनका कार्यकाल आज खत्म हो गया है। इस समय भीम सेन बस्सी, एयर मार्शल एएस भोंसले (सेवानिवृत्त), सुजाता मेहता, मनोज सोनी, स्मिता नागराज, एम.सत्यवती, भारत भूषण व्यास, टीसीए आनंद और राजीव नयन चौबे यूपीएससी के अन्य सदस्य हैं। जोशी की नियुक्ति अध्यक्ष के तौर पर हो जान के बाद यूपीएससी में एक सदस्य की जगह खाली हो गई है।  गृह मंत्रालय ने भी की कई अहम नियुक्तियां आज ही गृह मंत्रालय ने भी कई अहम नियुक्तियां की है। आईपीएस अधिकारी अरविंद दीप को सीआईएसएफ का एडीजी बनाया गया है। वहीं सीबीआई के संयुक्त डायरेक्टर अमित मोहन प्रसाद को अब आईटीबीपी का एडीजी बना दिया गया है। सीआईएसएफ के डीआईजी दयाक गंगवार को सीआईएसएफ का आईजी बनाया गया है। वहीं आईपीएस पीएस रानीपसे सीआरपीएफ के नए आईजी होंगे।

 

06-08-2020
बासमती चावल जीआई टैगिंग को लेकर मध्यप्रदेश और पंजाब आमने-सामने

भोपाल। मध्यप्रदेश के बासमती चावल को जीआई टैगिंग देने के विरोध में पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह के द्वारा प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी को पत्र लिखने पर, मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान और पंजाब के मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह आमने-सामने आ गए हैं। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने पंजाब सरकार द्वारा किए गए विरोध पर आपत्ति और नाराजगी जताई है। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने ट्वीट कर कहा कि मैं पंजाब सरकार द्वारा मध्यप्रदेश के बासमती चावल को जीआई टैगिंग देने के मामले में प्रधानमंत्री को लिखे पत्र की निंदा करता हूं और इसे राजनीति से प्रेरित मानता हूं। मुख्यमंत्री शिवराज ने ट्वीट के जरिए पंजाब के मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह से पूछा है कि आखिर उनकी मध्यप्रदेश के किसान बंधुओं से क्या दुश्मनी है? ये मध्यप्रदेश या पंजाब का मामला नहीं, पूरे देश के किसान और उनकी आजीविका का विषय है।

उन्होंने ट्वीट कर कहा कि मध्य प्रदेश को मिलने वाले जीआई टैगिंग से अंतरराष्ट्रीय बाजारों में भारत के  समती चावल की कीमतों को स्टेबिलिटी मिलेगी और देश के निर्यात को बढ़ावा मिलेगा। उन्होंने यह भी जिक्र किया कि मध्यप्रदेश के 13 जिलों में साल 1908 से बासमती चावल का उत्पादन हो रहा है, इसका लिखित इतिहास भी है। सिंधिया स्टेट के रिकार्ड में अंकित है कि साल 1944 में प्रदेश के किसानों को बीज की आपूर्ति की गई थी। उन्होंने कहा कि पंजाब और हरियाणा के बासमती निर्यातक मध्यप्रदेश से बासमती चावल खरीद रहे हैं। भारत सरकार के निर्यात के आंकड़े इस बात की पुष्टि करते हैं। भारत सरकार वर्ष 1999 से मध्यप्रदेश को बासमती चावल के ब्रीडर बीज की आपूर्ति कर रही है।  मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने ट्वीट कर कहा कि मैं मध्यप्रदेश के अपने बासमती उत्पादन करने वाले किसानों की लड़ाई लड़ रहा हूं। उनके पसीने की पूरी कीमत उन्हें दिलाकर ही चैन की सांस लूंगा। जी आई टैगिंग के संबंध में प्रधानमंत्री कार्यालय को पत्र लिखकर अवगत करा दिया है। मुझे विश्वास है कि प्रदेश के किसानों को न्याय अवश्य मिलेगा। चौहान ने एक और ट्वीट में कहा कि मैं भारत सरकार से अनुरोध करता हूं कि मध्यप्रदेश के किसानों के हितों की रक्षा के लिए आवश्यक कदम उठायें।

 

 

Advertise, Call Now - +91 76111 07804