GLIBS
05-07-2020
मध्यप्रदेश के लूट खसोट केंद्रों को कब बंद करेंगे डॉ. रमन सिंह : कांग्रेस

रायपुर। भाजपा के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष व पूर्व मुख्यमंत्री रमन सिंह के बयान पर कांग्रेस ने पलटवार किया है। प्रदेश कांग्रेस संचार विभाग के अध्यक्ष शैलेश नितिन त्रिवेदी ने कहा है कि रमन सिंह को 15 साल मुख्यमंत्री रहते हुए यह क्यों पता नहीं चला कि, बैरियर लूट खसौट केंद्र होते हैं? 15 साल तक इन लूट खसोट केंद्रों से लूट चली है तो उस लूट का कितना हिस्सा किस किसको मिला? यह रमन सिंह को बताना चाहिए। मध्यप्रदेश सहित भाजपा शासित राज्यों में बैरियर संचालित हैं। रमन सिंह को भाजपा शासित राज्यों से बैरियर हटाकर इन लूट खसोट केंद्रों को समाप्त करने की पहल करनी चाहिए। भाजपा के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष के रूप में यह रमन सिंह का कर्तव्य है।

रमन सिंह बताएं कि भाजपा के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष के रूप में अपने प्रभाव का उपयोग वे भाजपा शासित मध्यप्रदेश के लूट खसोट केंद्रों को बंद करने के  बारे में कब करेंगें ? त्रिवेदी ने कहा है कि प्रदेश सरकार बैरियर का उपयोग भाजपा सरकार की तरह लूट खसोट के तंत्र के रूप में नहीं बल्कि टैक्स चोरी रोकने, राज्य की सुरक्षा और ओवरलोडिंग रोकने के लिए इस्तेमाल करेगी। छत्तीसगढ़ एक संवेदनशील राज्य है और सुरक्षा की दृष्टि से राज्य में आने वाली हर गाड़ी की जांच आवश्यक है। आरटीओ बैरियर आरंभ होने से छत्तीसगढ़ की राजस्व आय बढ़ेगी और 200 करोड़ की राजस्व आय का इजाफा अनुमानित है। बैरियर के साथ-साथ वेब्रिज भी लगाया जा रहा है। इन बैरियरों में किसी गाड़ी को रुकना नहीं पड़ेगा।

04-07-2020
मध्यप्रदेश: 10वीं बोर्ड परीक्षा में 15 छात्रों को मिले 300 में से पूरे 300 अंक

भोपाल। माध्यमिक शिक्षा मंडल मध्यप्रदेश ने दसवीं कक्षा के परिणाम जारी किए। प्रदेश में इस बार दसवीं में 62.84 फीसदी छात्र पास हुए हैं। बोर्ड परीक्षा में छात्राओं ने बाजी मारी। कुल 60.59 फीसदी छात्र पास हुए, जबकि छात्राओं के पास होने में ये प्रतिशत 65.87 दर्ज किया गया। इस साल 15 छात्रों ने इस परीक्षा में टॉप किया है, इन सभी को पहला स्थान मिला है। इन सभी छात्रों को 100 फीसदी अंक मिला है। भोपाल के सेमरा कला की रहने वाली कर्णिका मिश्रा ने दसवीं बोर्ड परीक्षा में 300 में से 300 अंक हासिल कर टॉप किया है। वो प्रदेश के उन 15 बच्चों में से एक हैं,जिन्होंने दसवीं बोर्ड की परीक्षा में टॉप किया है। कर्णिका के पिता नहीं हैं और मां प्राइवेट नौकरी करती हैं। इंदौर की महुआ घोष को प्रदेश में तीसरा स्थान मिला है। महुआ को 300 में से 299 अंक मिले हैं। जबलपुर की जिज्ञासा जैन को पांचवा स्थान मिला है।जिज्ञासा ने 300 में से 298 अंक प्राप्त किए हैं।जिलावार प्रदर्शन में नीमच में दसवीं का रिजल्ट 79.13 प्रतिशत रहा, जबकि दूसरे नंबर पर देवास का   रिजल्ट 78 प्रतिशत रहा। मंदसौर 75.53 प्रतिशत के साथ तीसरे, शाजापुर 73.02 फीसदी के साथ चौथे और उज्जैन 71.16 प्रतिशत के साथ पांचवें नंबर पर रहा।

 

 

30-06-2020
Video: मध्यप्रदेश के 102 पेटी शराब के साथ एक आरोपी गिरफ्तार, एक फरार

महासमुन्द। सिटी कोतवाली पुलिस ने अंतरराज्यीय मध्यप्रदेश की शराब की खेप पहुंचाने वाले दो वाहनों में 102 पेटी शराब के साथ एक आरोपी को गिरफ्तार किया है। रात का समय होने की वजह से एक आरोपी मौके का फायदा उठाते हुए वाहन छोड़ कर फरार हो गया है, जिसकी तलाश सिटी कोतवाली पुलिस कर रही है। आज स्थानीय कंट्रोलरूम में पुलिस अधीक्षक प्रफुल्ल ठाकुर ने जानकारी देते हुए बताया कि महासमुन्द पुलिस को सूचना मिली कि दीगर प्रान्त के अवैध शराब की बहुत बड़ी खेप जिले में खपाये जाने के लिये आने वाली है। सूचना पर अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक एवं अनुविभागीय अधिकारी (पुलिस) नारद कुमार सूर्यवंशी के मार्गदर्शन में थाना सिटी कोतवाली प्रभारी शेर सिंह बन्दे के नेतृत्व में टीम गठित कर इस पर कार्यवाही करने के लिये निर्देशित किया गया। 29 जून को मुखबीर से सूचना मिली। रात को अवैध शराब की बड़ी मात्रा महासमुन्द जिले में आने वाली है।

उक्त सूचना पर थाना कोतवाली की टीम ने रात 9 बजे से महासमुन्द आने वाले और जाने वाले सभी रास्तों पर नाकेबंदी कर अवैध शराब के वाहन का इन्तजार करने लगी। लगभग रात 10 बजे घोडारी पुल पर लगे टीम ने सूचना दी की दो वाहन तेज रफ्तार से निकल रही है। सम्भवतः यह वह संदिग्ध वाहन हो सकती है, जिसमें अवैध शराब भरा हो। कोतवाली पुलिस की टीम ने उक्त वाहन को रोकने के लिए बेलसोण्डा रेलवे क्रासिंग को नाकेबंदी का स्थल बनाया क्योंकि पूर्व में भी अवैध शराब से भरी हुई वाहन को चलाने वाले पुलिस पार्टी पर वाहन को चढाने से नहीं हिचकते बेलसोण्डा रेलवे क्रासिंग के पहले व बाद में तीक्ष्ण मोड है जहां पर वाहनों को धीमा करना पड़ता है, जिससे वाहनों को रोकवाना असान होता है, संदिग्ध वाहन जैसे ही बेलसोण्डा रेलवे क्रासिंग के मोड में पहुंचती है वैसी कोतवाली पुलिस की टीम रेलवे क्राॅसिंग के पास एक वाहन को रोक लिया। फाॅर्चुनर वाहन क्रमांक सीजी 04 एच ई 0003 के चालक से पूछताछ करने लगी। उसी समय एक और वाहन पिछले से पहुंची जिसका चालक घुमाकर भागने का प्रयास करता है लेकिन पुलिस की नाकेबंदी देखकर उसका वाहन चालक वाहन को छोडकर अंधेरे का फयादा उठाकर भाग निकला।

फाॅर्चुनर वाहन पे सवार ने अपना नाम जयंत बंजारे निवासी कैम्प 1 मेहमान कोलाडीपों के सामने शास्त्रीनगर भिलाई जिला दुर्ग बताया। पुलिस को उक्त वाहन से 62 पेटी मध्यप्रदेश निर्मित गोवा ब्राड, दूसरे वाहन एम एच 14 बी सी 1151 से 40 पेटी मध्यप्रदेश निर्मित गोवा ब्राड शराब बरामद किया गया। पुलिस को दोनों वाहन और एक आरोपी सहित 102 पेटी शराब को जब्त कर पूछताछ की तो पुलिस को शराब भिलाई के एक व्यक्ति से लाना बताया गया है। उक्त मामले में महासमुन्द पुलिस भिलाई पुलिस से संपर्क कर मामले की जांच कर रही है। आरोपी से बरामद की कीमत 5 लाख, 2 वाहन कीमत 15 लाख और गिरफ्तार आरोपी से 10 हजार नगद जब्त कर धारा 34(2) आबकारी अधिनियम के तहत सिटी कोतवाली कार्रवाई कर रही है। उक्त कार्रवाई में  पुलिस अधीक्षक प्रफुल्ल कुमार ठाकुर के मार्गदर्शन में अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक मेघा टेम्भुरकर साहू एवं अनु.अधिकारी नारद सूर्यवंशी के निर्देशन में थाना सिटी कोतवाली प्रभारी शेर सिंह बन्दे, सायबर सेल प्रभारी उप निरीक्षक संजय सिंह राजपूत, उप निरीक्षक हर्ष कुमार धूरंधर, सउनि. विकास शर्मा, नवधाराम खाण्डेकर, प्रआर. प्रकाश नंद, मिनेश ध्रुव, आर. रवि यादव, अजय जांगडे, दिनेश साहू, विरेन्द्र नेताम, शैलेन्द्र ठाकुर, चम्पलेश ठाकुर, शुभम पाण्डेय, छत्रपाल सिन्हा, कामता आवडे, लालाराम कुर्रे शामिल थे।

29-06-2020
शिवराज में हिम्मत है तो मध्यप्रदेश के किसानों का कर्ज माफ करें : राजेन्द्र साहू

दुर्ग। भाजपा की वर्चुअल रैली में छत्तीसगढ़ सरकार पर मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के आरोपों को झूठ का पुलिंदा बताते हुए कांग्रेस ने करारा जवाब दिया है। प्रदेश कांग्रेस कमेटी के महामंत्री राजेंद्र साहू ने तीखे लहजे में कहा कि भूपेश सरकार पर झूठे आरोप लगाने से पहले शिवराज सिंह चौहान अपने राज्य की बदहाल व्यवस्था सुधारें। शिवराज सिंह चौहान में हिम्मत है तो मप्र के कर्ज से पीड़ित और शोषित किसानों का कर्ज माफ करके बताएं।रविवार को भाजपा की वर्चुअल रैली में शिवराज के आरोपों का जवाब देते हुए राजेंद्र ने कहा कि खेती-किसानी के समय मध्यप्रदेश में डीजल की कीमत 90 रुपए ज्यादा है। शिवराज सिंह चौहान अगर वास्तव में किसानों और मजदूरों के लिए फिक्रमंद हैं तो उनके प्रदेश में छत्तीसगढ़ से 10 रुपए ज्यादा कीमत पर डीजल की बिक्री कैसे हो रही है। वे मध्यप्रदेश में डीजल की कीमतें घटाकर किसानों को राहत देने की संवेदनशीलता क्यों नहीं दिखा रहे।

राजेंद्र ने कहा कि शिवराज सिंह के पिछले 15 साल के कार्यकाल में हजारों किसान आत्महत्या कर चुके हैं। भूपेश सरकार पर झूठे आरोप लगाने से पहले शिवराज को अपने पिछले कार्यकाल में व्यापमं घोटाला, हजारों किसानों की आत्महत्या, माइनिंग माफिया के गुंडाराज और किसानों पर गोलीकांड जैसे कलंक को याद कर लेना चाहिए।राजेंद्र ने कहा कि प्रवासी श्रमिकों को मनरेगा के तहत रोजगार उपलब्ध कराने में पूरे देश में छत्तीसगढ़ टॉप पर है। आदिवासियों को तेंदूपत्ता सहित अन्य 31 वनोपजों की सबसे ज्यादा कीमत छत्तीसगढ़ में मिल रही है। भूपेश सरकार ने हर वर्ग के लोगों को राहत देने का काम किया है।

29-06-2020
आनंदीबेन पटेल को सौंपा मध्यप्रदेश का अतिरिक्त प्रभार,राज्यपाल लालजी टंडन अवकाश पर

भोपाल। मध्यप्रदेश के राज्यपाल लालजी टंडन के अवकाश पर होने के कारण उत्तरप्रदेश की राज्यपाल आनंदी बेन पटेल को राज्य का अतिरिक्त प्रभार सौंपा गया है। टंडन पिछले कुछ दिनों से बीमार है और उनका लखनऊ में इलाज चल रहा है। राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने रविवार को संविधान के अनुच्छेद 185 और 160 के तहत मिली शक्तियों का उपयोग करते हुए उत्तर प्रदेश की राज्यपाल आनंदीबेन पटेल को राज्यपाल लालजी टंडन के अवकाश पर होने के कारण उनकी अनुपस्थिति में मध्यप्रदेश के राज्यपाल के पद के दायित्वों का निर्वहन करने की जिम्मेदारी सौंपी है। राज्य में सियासी गतिविधियों के बीच उत्तर प्रदेश की राज्यपाल को मध्यप्रदेश का प्रभार सौंपे जाने को काफी अहम माना जा रहा है, क्योंकि आगामी एक-दो दिन में राज्य के मंत्रिमंडल के विस्तार की चर्चा है। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान दिल्ली में हैं।

29-06-2020
आत्म निर्भर अभियान से शक्तिशाली बनेगा भारत : शिवराज सिंह चौहान

कोरिया। भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष एवं मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चैहान द्वारा छत्तीसगढ़ के प्रदेश स्तरीय वर्चअल रैली को संबोधित किया गया। प्रदेशभर के भाजपा कार्यकर्ता, समर्थक और आमजनों ने सिस्को वेबेक्स, फेसबुक, यूट्यूब व ट्वीटर लाईव के माध्यम से वक्ताओं का संबोधन को सुना। कोरिया जिला मुख्यालय में भाजपा जिला कार्यालय में पार्टी नेतागण पदाधिकारियों द्वारा कार्यक्रम को लाईव स्क्रीन के माध्यम से देखा गया। अपने संबोधन में मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री ने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व में राष्ट्र के सर्वांगीण विकास को युग युग परिवर्तनकारी बताया। उन्होंने कहा भारत आर्थिक, सांस्कृतिक व भौगोलिक दृष्टि से मजबूती के साथ खड़ा है। दूसरे कार्यकाल के पहले एक वर्ष में लिए गए ऐतिहासिक निर्णयों पर चर्चा करते हुए उन्होंने कहा भारतीय जनता पार्टी अपने विचारों एवं नीतियों को लेकर स्पष्ट है। कोरोना वैश्विक महामारी से संघर्ष करते हुए आत्मनिर्भर भारत अभियान की शुरूआत से देश शक्तिशाली बनेगा।

इससे पूर्व छ.ग.भाजपा कार्यालय से पूर्व मुख्यमंत्री डाॅ.रमन सिंह, राष्ट्रीय महामंत्री सरोज पाण्डेय, अजजा मोर्चा के राष्ट्रीय अध्यक्ष रामविचार नेताम, प्रदेश अध्यक्ष विष्णुदेव साय ने प्रदेश के कार्यकर्ताओं को संबोधित किया। कार्यक्रम का संचालन संयोजक व पूर्व मंत्री राजेश मूणत ने किया तथा आभार प्रदर्शन नेता प्रतिपक्ष धरमलाल कौशिक ने किया। जिला कार्यालय कोरिया के कार्यक्रम में मुख्य रूप् से पूर्व मंत्री भईयालाल राजवाड़े, जिलाध्यक्ष कृष्णबिहारी जायसवाल, पूर्व विधायक श्यामबिहारी जायसवाल, पूर्व जिलाध्यक्ष तीरथ गुप्ता, जिला महामंत्री देवेन्द्र तिवारी, पूर्व नपाध्यक्ष शैलेष शिवहरे, जिला कार्यालय मंत्री पंकज गुप्ता, जिला पंचायत सदस्य सुनीता कुर्रे, आईटी सेल के जिला संयोजक तीरथ राजवाड़े, मंडल अध्यक्ष भानू पाल, धीरेन्द्र साहू, कपिल जायसवाल, गोपाल राजवाड़े, राजेन्द्र चक्रधारी, नरेश्वर रजक, बिजेन्द्र जायसवाल, धरमवती राजवाड़े, गुलाब गुप्ता, विमलचंद चेरवा, ईशरारखान, सतेन्द्र राजवाड़े, रेखा सिंह, सत्यनारायण मोदी, संदीप गुप्ता, तरूण पैकरा, शिव राजवाड़े, व रमेश राजवाड़े सहित भारी संख्या में पार्टी कार्यकर्ता शामिल हुए।

27-06-2020
हत्या करके रायपुर पहुंचे और खोज रहे थे किराए का मकान, अब पुलिस की गिरफ्त में

रायपुर। मध्यप्रदेश के मंडला में एनएसयूआई कार्यकर्ता की हत्या के मामले में मुख्य आरोपी समेत दो अन्य आरोपियों को पुलिस ने गिरफ्तार किया है। बता दें कि हत्या करके दोनों आरोपी मयूर यादव और एक नाबालिग भागकर रायपुर आ गए थे। संदिग्ध हालत में दोनों आरोपियों को पुलिस ने गिरफ्तार किया है। पूछताछ के बाद मामले का खुलासा हुआ। रायपुर पुलिस ने मंडला पुलिस को मामले की सूचना दे दी है। घटना के बाद से ही आरोपी फरार थे। वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक रायपुर के निर्देश पर जिले के सभी थाना क्षेत्रों में संदिग्ध व्यक्तियों की पहचान कर धर पकड़ का अभियान पुलिस द्वारा चालाया जा रहा है। इसी तारतम्य में गुढ़ियारी थाना एवं साइबर सेल रायपुर को मुखबिर से जानकारी मिली थी कि मंडला से आए हुए दो संदिग्ध व्यक्ति कमरा किराया में लेने के लिए घूम रहे हैं। जानकारी मिलते ही संदिग्धों को हिरासत में लेकर पूछताछ शुरू कर दिया।शुरूआत में पुलिस को पूछताछ के दौरान गुमराह करने का प्रयास दोनों ने किया था लेकिन कठोरता से पूछताछ करने पर आरोपियों ने बताया कि वे मूलतः मंडला जिले के निवासी है। 26 जून को मंडला में सोनू पचोरिया की गोली मारकर हत्या कर दी थी। हत्या के बाद वे भागकर रायपुर आ गए थे। छुपने के लिए कमरे की तलाश कर रहे थे। आरोपियों से प्राप्त जानकारी के आधार पर मंडला पुलिस से संपर्क करके उन्हें आरोपियों की गिरफ्तारी के संबंध में जानकारी दी। मंडला पुलिस आरोपियों को लेने के लिए मंडला से रायपुर रवाना हो गई है।

 

25-06-2020
2 लाख के इनामी माओवादी दम्पत्ति ने किया आत्मसमर्पण

बीजापुर। बस्तर रेंज मे चलाए जा रहे माओवादी उन्मूलन अभियान के तहत  महाराष्ट्र-मध्यप्रदेश-छत्तीसगढ़ जोन अन्तर्गत विस्तार प्लाटून नम्बर 3 के माओवादी राजे हेमला उम्र 23 वर्ष ग्राम पेद्दागेलुर हेमलापारा थाना बासागुड़ा और मंगलू वेका उम्र 26 वर्ष साकिन केशकुतुल नयापारा थाना भैरमगढ ने गुरुवार को उप महानिरीक्षक केरिपु ऑप्स कोमल सिंह, पुलिस अधीक्षक बीजापुर, कमलोचन कश्यप के समक्ष माओवादियों की खोखली विचारधारा, जीवन शैली, भेदभाव पूर्ण व्यवहार एवं प्रताड़ना से तंग आकर तथा छत्तीसगढ़ शासन के पुनर्वास नीति से प्रभावित होकर आत्मसमर्पण किया। आत्मसमर्पित दोनों माओवादियों के धारित पद पर छत्तीसगढ़ शासन की इनाम नीति के तहत् दो-दो लाख रुपए का इनाम घोषित था। उपरोक्त माओवादियों द्वारा आत्मसमर्पण करने पर इन्हें उत्साहवर्धन के लिए शासन की आत्मसमर्पण एवं पुनर्वास नीति के तहत् 10000-10000 हजार रूपये (दस हजार रूपये) नगद प्रोत्साहन राशि प्रदान की गई।

 

22-06-2020
मध्यप्रदेश: शिवराज सरकार का बड़ा फैसला, महाविद्यालय के छात्रों को मिलेगा जनरल प्रमोशन

भोपाल। कोरोना संकट काल में प्रदेश में शिवराज सरकार ने एक बड़ा फैसला किया है। मध्यप्रदेश में स्नातक पहले और दूसरे वर्ष के साथ स्नातकोत्तर द्वितीय सेमेस्टर के छात्रों को जनरल प्रमोशन दिया जाएगा। स्टूडेंट को पिछले साल या सेमेस्टर में प्राप्त अंकों के आधार पर होगा मूल्यांकन होगा। इसके साथ ही स्नातक अंतिम वर्ष एवं स्नातकोत्तर चतुर्थ सेमेस्टर के परीक्षार्थियों के पूर्व वर्षों/ सेमेस्टर्स में से सर्वाधिक अंक प्राप्त परीक्षा परिणाम को प्राप्तांक मानकर अंतिम वर्ष/सेमेस्टर के परीक्षा परिणाम घोषित किए जाएंगे। ऐसे परीक्षार्थी जो परीक्षा देकर अपने अंकों में सुधार चाहते हैं, उनके पास परीक्षा देने का विकल्प भी रहेगा वे आगामी घोषित तिथि पर ऑफलाइन परीक्षा दे सकेंगे।
कोरोना संकट के मद्देनजर अब तक प्रदेश के उच्च शिक्षा एवं तकनीकी शिक्षा महाविद्यालयीन की परीक्षा नहीं हो पाई थी, जिसके बाद सोमवार को सरकार ने बड़ा निर्णय लेते हुए स्नातक प्रथम एवं द्वितीय वर्ष तथा स्नातकोत्तर द्वितीय सेमेस्टर के परीक्षार्थियों को बिना परीक्षा दिए, उनके गत वर्ष/सेमेस्टर के अंकों/आंतरिक मूल्यांकन के आधार पर अगली कक्षा/सेमेस्टर में प्रवेश देने के फैसले पर अपनी मोहर लगा दी। प्रदेश में वर्तमान शैक्षणिक सत्र में स्नातक एवं स्नातकोत्तर स्तर पर कुल 17 लाख 77 हजार परीक्षार्थी हैं। इनमें स्नातक प्रथम वर्ष में 5 लाख 25 हजार 200, स्नातक द्वितीय वर्ष में 5 लाख 7 हजार 269, स्नातक तृतीय वर्ष में 4 लाख 30 हजार 298, स्नातकोत्तर द्वितीय सेमेस्टर में 01 लाख 72 हजार 634, स्नातकोत्तर चतुर्थ सेमेस्टर में 01 लाख 41 हजार 599 परीक्षार्थी हैं।

22-06-2020
मध्यप्रदेश में 39 आईपीएस अधिकारियों के हुए ट्रांसफर

भोपाल। मध्यप्रदेश में सोमवार को आईपीएस ​अधिकारियों के तबादले किए है। मंत्रालय वल्लभ भवन से 39 आईपीएस अधिकारियों के आदेश की सूची जारी की गई हैं। आदेश के अनुसार कई जिलों के पुलिस अधीक्षकों को बदला गया है। देखें सूची..

Advertise, Call Now - +91 76111 07804