GLIBS
16-08-2020
22 जिला मुख्यालयों में राजीव भवन का शिलान्यास 20 अगस्त को, कार्यक्रम में शामिल होंगे सोनिया और राहुल गांधी 

रायपुर। 20 अगस्त को राजीव गांधी की जयंती पर 22 जिला कांग्रेस भवनों का एक साथ शिलान्यास किया जाएगा। कार्यक्रम में कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी, वरिष्ठ  कांग्रेस नेता राहुल गांधी, प्रदेश प्रभारी पीएल पुनिया, प्रभारी सचिव डॉ. चंदन यादव, मुख्यमंत्री भूपेश बघेल और प्रदेश अध्यक्ष मोहन मरकाम उपस्थित रहेंगे। अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी के प्रदेश प्रभारी पीएल पुनिया ने वेब मीडिया के माध्यम से शिलान्यास की तैयारी के संबंध में रविवार को कार्यकारणी और जिला अध्यक्षों की महत्वपूर्ण बैठक ली। 

बैठक में पुनिया ने कहा है कि, प्रदेश कांग्रेस मुख्यालय राजीव भवन निर्माण के बाद अब हर जिले में कांग्रेस के जिला मुख्यालय के लिए राजीव भवन निर्माण होने जा रहा है। इसके बाद ब्लॉक में भी कांग्रेस भवन बनाए जाएंगे। इस वर्ष 20 अगस्त से शुरू  होकर सभी जिलों में 20 अगस्त 2021 तक जिला कांग्रेस कार्यालयों राजीव भवन का निर्माण पूर्ण करने का लक्ष्य रखा गया है। युद्ध स्तर पर निर्माण होगा। पुनिया ने जिला कार्यकारणी गठन और ब्लॉक अध्यक्षों की नियुक्ति पर बैठक में महत्वपूर्ण मार्गदर्शन दिया। पुनिया ने कहा है कि, छत्तीसगढ़ सरकार ने विगत डेढ़ वर्षों में बहुत अच्छा काम किया। राज्य का हर वर्ग लाभांवित हुआ है। प्रदेश के स्वाभिमान, परंपराओं और लोक संस्कृति का मुख्यमंत्री भूपेश बघेल की सरकार ने सम्मान किया है। देश में कहीं भी ऐसा काम नहीं हो रहा है। छत्तीसगढ़ में कांग्रेस सरकार के अच्छे  कार्यों से बहुत बेहतर स्थिति बनी है। 

प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष मोहन मरकाम ने सभी जिला अध्यक्षों को बैठक में 20 अगस्त के आयोजन के संबंध में महत्वपूर्ण दिशा-निर्देश दिए। मरकाम ने कहा है कि, कांग्रेस ने विपक्ष में रहते हुए भूपेश बघेल की अगुवाई में प्रदेश कांग्रेस के मुख्यालय राजीव भवन के निर्माण का महत्वपूर्ण कार्य किया है। प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष मोहन मरकाम ने सभी जिला प्रभारियों और जिला कांग्रेस अध्यक्षों से चर्चा करके संगठन की अद्यतन स्थिति की जानकारी ली और महत्वपूर्ण निर्देश दिए।
प्रदेश कांग्रेस के कोषाध्यक्ष रामगोपाल अग्रवाल और उपाध्यक्ष गिरीश देवांगन, जिला कांग्रेस भवनों के निर्माण में महत्वपूर्ण भूमिका निभा रहे हैं। कोषाध्यक्ष रामगोपाल अग्रवाल ने बैठक में जिला कांग्रेस भवनों के निर्माण के नक्शे और एलिवेशन की जानकारी दी। उन्होंने बताया कि, रायुपर में पुराने ऐतिहासिक कांग्रेस भवन को यथावत रखते हुए दोनों तरफ नया निर्माण किया जा रहा है। उपाध्यक्ष गिरीश देवांगन ने सभी जिलों में राजीव भवन की भूमि की अद्यतन स्थिति से अवगत कराया। 

बैठक में प्रभारी सचिव चंदन यादव, प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष मोहन मरकाम के साथ-साथ प्रदेश कांग्रेस कमेटी के कोषाध्यक्ष रामगोपाल अग्रवाल, उपाध्यक्ष गिरीश देवांगन, संचार विभाग के अध्यक्ष शैलेश नितिन त्रिवेदी, महामंत्री कार्यालय एवं प्रशासन रवि घोष, महामंत्री संगठन चंद्रशेखर शुक्ला, प्रदेश कांग्रेस के उपाध्यक्ष, महामंत्री, कार्यकारणी सदस्य, जिले के प्रभारी तथा सभी जिला कांग्रेस अध्यक्ष उपस्थित थे। बैठक का संचालन महामंत्री संगठन चंद्रशेखर शुक्ला ने किया। सोशल मीडिया प्रभारी जयवर्धन बिस्सा ने धन्यवाद ज्ञापन किया।

15-08-2020
भूपेश बघेल ने विधानसभा भवन के भूमिपूजन समारोह में शामिल होने सोनिया और राहुल गांधी से किया आग्रह 

रायपुर। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने नवा रायपुर में बनने वाले छत्तीसगढ़ विधानसभा के नए भवन के भूमिपूजन और शिलान्यास समारोह में शामिल होने के लिए सोनिया गांधी और राहुल गांधी को न्यौता भेजा है। मुख्यमंत्री बघेल ने पत्र लिख कर सोनिया गांधी से इस समारोह में मुख्य अतिथि के रुप में और राहुल गांधी को अतिविशिष्ट अतिथि के रुप में वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए शामिल होने का आग्रह किया है। समारोह 28 अगस्त को दोपहर 12 बजे आयोजित किया जा रहा है।

मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने सोनिया गांधी और राहुल गांधी को लिखे पत्र में कहा है कि, इस समारोह में आपकी उपस्थिति हमें आनंदित करने के साथ प्रोत्साहन भी देगी। उन्होंने पत्र में यह भी लिखा है कि, 1 नवंबर 2000 को राज्य निर्माण के साथ ही सर्व सुविधायुक्त नए विधानसभा भवन की लगातार आवश्यकता महसूस की जा रही है, जो राज्य की प्रगति और आकांक्षाओं के अनुरूप हो। इस आवश्यकता को पूरा करने के उद्देश्य से छत्तीसगढ़ सरकार ने नवा रायपुर में छत्तीसगढ़ विधानसभा के नए भवन के निर्माण का निर्णय लिया है। मुख्यमंत्री ने पत्र में लिखा है कि, इस नए भवन में छत्तीसगढ़ की समृद्ध संस्कृति और परंपरा की झलक दिखेगी। यह भवन स्टेट आफ दी आर्ट तकनीक से सुसज्जित होगा। इस भवन को विधानसभा और उसके सदस्यों की वर्तमान और भविष्य की प्रशासनिक आवश्यकता को देखते हुए डिजाइन किया गया है।

20-05-2020
भूपेश बघेल ने राजीव गांधी किसान न्याय योजना के तैयारियों की ली जानकारी, दिल्ली से जुड़ेंगे सोनिया और राहुल गांधी

रायपुर। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल बुधवार को अपने निवास कार्यालय में राजीव गांधी किसान न्याय योजना के शुभारंभ के लिए की जा रही तैयारियों के संबंध में वरिष्ठ अधिकारियों के साथ समीक्षा की। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल देश के पूर्व प्रधानमंत्री स्व.राजीव गांधी की पुण्यतिथि 21 मई के दिन वीडियो कांफ्रेसिंग के जरिए प्रदेश में इस योजना का विधिवत शुभारंभ करेंगे। दिल्ली से सोनिया गांधी और राहुल गांधी भी वीडियो कांफ्रेसिंग के जरिए इस योजना के शुभारंभ कार्यक्रम में शामिल होंगे। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल और मंत्रिमंडल के सदस्य मुख्यमंत्री निवास कार्यालय में आयोजित कार्यक्रम में दोपहर 12 बजे स्व.राजीव गांधी के तैल चित्र पर पुष्पांजलि अर्पित करेंगे। इसके बाद किसानों को दी जाने वाली 5700 करोड़ रुपए की राशि में से प्रथम किश्त के रूप में 1500 करोड़ रुपए की राशि के कृषकों के खातों में ऑनलाइन अंतरण की जाएगी। कार्यक्रम में जिलों से सांसद,विधायक,अन्य जनप्रतिनिधि, किसान और विभिन्न योजनाओं के हितग्राही भी वीडियो कांफ्रेसिंग से जुड़ेंगे। इस योजना के तहत प्रदेश के 19 लाख किसानों को 5700 करोड़ रुपए की राशि चार किश्तों में सीधे उनके खातों में हस्तांतरित की जाएगी। राजीव गांधी किसान न्याय योजना किसानों को खेती-किसानी के लिए प्रोत्साहित करने की देश में अपने तरह की एक बड़ी योजना है। मुख्यमंत्री बघेल कार्यक्रम के शुरुआत में राजीव गांधी किसान न्याय योजना के संबंध में संक्षिप्त उद्बोधन देंगे। कृषकों के खातों में राशि अंतरित करने के बाद जिला मुख्यालयों में उपस्थित योजना के हितग्राहियों के साथ ही महिला स्व-सहायता समूहों के सदस्यों,महात्मा गांधी राष्ट्रीय ग्रामीण रोजगार गारंटी योजना और लघु वनोपज के हितग्राही और गन्ना और मक्का उत्पादक किसानों से वीडियो कांफ्रेसिंग से जरिए चर्चा भी की जाएगी।

 

23-07-2019
सोनिया ने सूचना के अधिकार संशोधन विधेयक पर की केंद्र की आलोचना

नई दिल्ली। कांग्रेस संसदीय दल की नेता सोनिया गांधी ने सूचना के अधिकार कानून में संसोधन को लेकर केंद्र सरकार पर लोगो के अधिकार छीनने का आरोप लगते हुए कहा कि भारतीय जनता पार्टी की सरकार संसद में मिले भारी बहुमत का दुरूपयोग कर रही है।
सोनिया गांधी ने मंगलवार को यहां जारी एक बयान में कहा कि सरकार संसद में 2005 में सर्वसम्मति से पारित सूचना के अधिकार कानून में केंद्रीय सूचना आयुक्त को दी गए शक्तियो को काम करना चाहती है। इस आयोग को सत्ता में पारदर्शिता के लिए चुनाव आयोग तथा केंद्रीय सतर्कता आयोग की तरह स्वतन्त्र बनाया गया था। उन्होंने कहा इस कानून को विचार-विमर्श के बाद पारित किया गया था। इस कानून का इस्तेमाल अब तक पांच लाख से अधिक देशवासी कर चुके हैं और हर स्तर पर प्रशासन में पारदर्शिता और जवाबदेही की नई संस्कृति को बल मिला है। इससे लोकतंत्र मजबूत हुआ है और समाज की कमजोर वर्गों को लाभ मिला है
सोनिया गांधी ने कहा कि स्पष्ट हो गया है कि केंद्र सरकार सूचना के अधिकार अधिनियम को कमजोर करना चाहती है। उन्होंने यह भी कहा कि केंद्र सरकार संसद में मिले भारी बहुमत के बल पर इस तरह के कानूनों को कमजोर कर मनमानी करना चाहती है और इससे देश का हर नागरिक अपने अधिकारों से वंचित हो जाएगा।

02-07-2019
पूंजीपतियों के हित में सार्वजनिक कंपनियों को संकट में डाल रही सरकार : सोनिया

नई दिल्ली। संयुक्त प्रगतिशील गठबंधन (संपग्र) की अध्यक्ष सोनिया गाँधी ने लोकसभा में सोमवार को रायबरेली की रेल कोच फैक्टरी के कंपनीकरण का मुद्दा उठाते हुये सरकार पर चुनिंदा पूंजीपतियों को लाभ पहुंचाने के लिए सरकारी कंपनियों को संकट में डालने का आरोप लगाया।

शून्यकाल में यह मुद्दा उठाते हुए गांधी ने कहा कि सरकार ने रेलवे की छह उत्पादक इकाइयों का कंपनीकरण करने का फैसला किया है। इसमें रायबरेली की मॉडर्न रेल कोच फैक्टरी भी शामिल है। उन्होंने कहा, कंपनीकरण निजीकरण की शुरूआत होती है। यह देश की अमूल्य संपत्ति कौड़ियों के भाव निजी कंपनियों को बेचने की शुरूआत है। हजारों लोग बेरोजगार हो जाते हैं। संप्रग प्रमुख ने कहा कि रायबरेली की रेल कोच फैक्टरी भारतीय रेल का सबसे आधुनिक कारखाना है जहां सबसे सस्ते और अच्छे कोच बनते हैं। वहां क्षमता से ज्यादा उत्पादन हो रहा है। कंपनीकरण से दो हजार से ज्यादा मजदूरों, कर्मचारियों और उनके परिवारों का भविष्य संकट में है। सोनिया गांधी ने कहा कि यह समझना मुश्किल है कि सरकार क्यों निजीकरण करना चाहती है। उन्होंने कहा, कुछ खास पूंजीपतियों को लाभ पहुंचाने के लिए सार्वजनिक कंपनियों को खतरे में डाला जा रहा है। हिंदुस्तान एयरोनॉटिक्स लिमिटेड और बीएसएनएल के साथ क्या हुआ यह किसी से छिपा नहीं है।
उन्होंने आरोप लगाया कि रेल कंपनियों के कंपनीकरण को सरकार ने गहरा राज बनाकर रखा। यह फैसला करने से पहले मंजदूर संघ तथा मजदूरों को भी विश्वास में नहीं लिया गया। उन्होंने रेल बजट को आम बजट में मिलाने पर भी सवाल उठाया तथा कहा कि इन सब मामलों की संसदीय छान-बीन की जानी चाहिये।

18-06-2019
अधीर रंजन चौधरी होंगे लोकसभा में कांग्रेस के नेता, सोनिया और राहुल गांधी ने दी सहमति

 

नई दिल्ली। कांग्रेस के वरिष्ठ नेता अधीर रंजन चौधरी लोकसभा में कांग्रेस के नेता होंगे। राहुल गांधी द्वारा यह पद ग्रहण करने से इनकार करने के बाद मंगलवार को लंबी रणनीतिक चर्चा के बाद यह फैसला किया गया। इस दौरान राहुल गांधी और उनकी मां और यूपीए अध्यक्ष सोनिया गांधी भी उपस्थित थीं। अधीर चौधरी का उल्लेख करते हुए लोकसभा को एक पत्र लिखा गया कि वे सबसे बड़ी विपक्षी पार्टी के नेता होंगे। पत्र में यह भी लिखा गया कि वे सभी महत्वपूर्ण चयन समितियों में पार्टी का प्रतिनिधित्व भी करेंगे। कांग्रेस के सूत्रों के अनुसार पार्टी बुधवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा बुलाई गई बैठक पर भी फोकस करेगी। बता दें कि पीएम मोदी ने 'वन नेशन वन इलेक्शन' पर चर्चा के लिए बैठक बुलाई है। 

21-05-2019
सोनिया, राहुल और प्रियंका सहित कई नेताओं ने दी राजीव गांधी को श्रद्धांजलि

नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, पूर्व राष्ट्रपति प्रणव मुखर्जी, संयुक्त प्रगतिशील गठबंधन (यूपीए) अध्यक्ष सोनिया गांधी और कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गांधी की 28वीं पुण्यतिथि पर श्रद्धांजलि अर्पित की है।
पीएम मोदी ने मंगलवार को ट्विटर पर स्वर्गीय राजीव गांधी को श्रद्धांजलि दी। मुखर्जी, सोनिया गांधी, राहुल गांधी, पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह और कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा ने स्वर्गीय गांधी की समाधि 'वीर भूमि' पर मंगलवार सुबह जाकर श्रद्धांजलि अर्पित की।
देश के छठे प्रधानमंत्री राजीव गांधी की 21 मई 1991 को तमिलनाडु के श्रीपेरम्बदूर में हत्या कर दी गयी। वह 1984 में अपनी मां एवं प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी की अंगरक्षकों द्वारा हत्या कर देने के बाद प्रधानमंत्री बने। उन्होंने महज 40 वर्ष की आयु में देश के सबसे कम उम्र के प्रधानमंत्री के रूप में पद ग्रहण किया।

 

20-05-2019
मायावती ने सोनिया से मिलने से किया इनकार,  कमलनाथ सरकार मुसीबत में

 

नई दिल्ली। एक्जिट पोल के नतीजों का सबसे ज्यादा असर मध्यप्रदेश में देखने को मिल रहा है। एग्जिट पोल के नतीजे से उत्साहित भाजपा ने प्रदेश सरकार को फ्लोर टेस्ट  के लिए चुनौती दी है। भाजपा का मानना है कि मौजूदा सरकार अल्पमत में है, क्योंकि कांग्रेस के पास कुल 114 विधायक हैं और बहुमत के लिए 116 का अंकाड़ा चाहिए। इसे पूरा करने के लिए कांग्रेस ने दो बसपा विधायकों से समर्थन लिया है। कांग्रेस की मुसीबत अब मायावती ने और बढ़ा दी है। दरअसल मायावती और सोनिया गांधी के बीच मुलाकात के कयास लगाए जा रहे थे। लेकिन मायावती राहुल गांधी और सोनिया गांधी से नहीं मिल रही हैं। बसपा नेता सतीश चंद्र मिश्रा ने मीडिया से कहा है कि मायावती  सोनिया गांधी और राहुल गांधी से नहीं मिलने वाली हैं। वह आज लखनऊ में ही रहेंगी। मायावती की नाराजगी का एक कारण यह भी है कि कांग्रेस ने गुना से बसपा के लोकसभा उम्मीदवार को अपनी पार्टी में शामिल कर लिया था। बसपा सुप्रीमो ने इस पर बेहद तल्ख टिप्पणी की थी। वैसे पूरे लोकसभा चुनाव प्रचार के दौरान मायावती ने सीधे तौर पर कभी गांधी परिवार पर हमला नहीं किया, लेकिन उन्होंने कांग्रेस को घेरने का कोई मौका नहीं छोड़ा। अब कमलनाथ सपा और बसपा के विधायकों को मंत्रिमंडल में शामिल कर सकते हैं। कहा यह भी जा रहा है कि एक दो निर्दलीय विधायकों को भी मंत्री पद मिल सकता है। 

08-05-2019
कांग्रेस के 3 जी राहुल, सोनिया और प्रियंका...बीजेपी के गांव, गौ और गंगा...

जमशेदपुर। भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह ने जमशेदपुर के एग्रीको मैदान में एक जनसभा को संबोधित कर कांग्रेस पर जमकर निशाना साधा। उन्होंने कहा कि कांग्रेस के तीन जी हैं राहुल, सोनिया और प्रियंका, जबकि बीजेपी के तीन जी गांव, गौ माता और गंगा हैं। भाजपा अध्यक्ष ने कहा कि भाजपा दोबारा सत्ता में आई, तो कश्मीर से धारा 370 को हटाएंगे। शाह ने बताया कि कांग्रेस के मेनिफेस्टो में राजद्रोह कानून हटाने की बात है, जबकि मोदी राज में राजद्रोह करने वालों की जगह सलाखों के पीछे है। फिर मोदी सरकार बनी तो देश में एक भी घुसपैठिया नहीं रहेगा। अमित शाह ने कहा कि राहुल और हेमंत को बताने आया हूूं कि इनको करना है तो ये आतंकियों से इलू-इलू करें। हम तो पाकिस्तान को उचित जवाब देंगे। रघुवर सरकार की उपलब्धियां गिनाते हुए उन्होंने कहा कि 35 लाख से ज्यादा रोजगार के अवसर सूबे में उत्पन्न किए गए। एक लाख से ज्यादा सरकारी नौकरियां दी गईं। झारखंड में पहले कृषि विकास दर 4.5 प्रतिशत था और अब रघुवर सरकार ने इसे 14 प्रतिशत तक पहुंचाने का काम किया है। यहां अमित शाह ने पार्टी प्रत्याशी विद्युतवरण महतो को जिताने की अपील की। 

 

 

05-05-2019
बसपा सुप्रीमो मायावती ने की सोनिया और राहुल गांधी को जिताने की अपील

लखनऊ। कांग्रेस पार्टी की घोर विरोधी होने के बाद भी बहुजन समाज पार्टी की राष्ट्रीय अध्यक्ष मायावती ने मतदाताओं से अपील की है कि वे 6 मई को रायबरेली और अमेठी में कांग्रेस को ही समर्थन दें और कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी और यूपीए की चेयर पर्सन सोनिया गांधी को जिताएं।  मायावती ने रविवार को जारी एक बयान में कहा कि भाजपा व कांग्रेस दोनों ही पार्टियां एक जैसी हैं. हमने कांग्रेस के साथ कोई समझौता नहीं किया है, लेकिन भाजपा को हराने के लिए रायबरेली और अमेठी सीट पर हमारी पार्टी का वोट कांग्रेस को मिलेगा। मायावती ने कहा कि चार चरणों के चुनाव में जनता ने गठबंधन का समर्थन किया है जिससे भाजपा परेशान है। यह गठबंधन सिर्फ  केंद्र में नया प्रधानमंत्री व नई सरकार बनाने केलिए नहीं है, बल्कि यूपी में भी भाजपा की सरकार को हटाएगा। उन्होंने कहा कि 23 मई को देश को निरंकुश व अहंकारी शासन से मुक्ति मिल जाएगी। बसपा सुप्रीमो मायावती ने चुनाव बाद भाजपा के साथ जाने के कयासों को निराधार बताते हुए कहा कि   सपा-बसपा गठबंधन सिर्फ  वर्तमान के लिए नहीं, बल्कि भविष्य के लिए भी है। उन्होंने कहा कि भाजपा का शीर्ष नेतृत्व इसके सामने लाचार नजर आ रहा है इसलिए वह दोनों पार्टियों को लेकर भ्रम फैला रहा है। बसपा प्रमुख ने कहा कि चार चरणों के चुनाव में जनता ने गठबंधन का समर्थन किया है जिससे कि भाजपा परेशान है। 

 

Advertise, Call Now - +91 76111 07804