GLIBS
18-02-2020
मंत्री अकबर ने शहीद जवान पूर्णानंद साहू के परिजनों से की मुलाकात

राजनांदगांव। मंत्री तथा जिले के प्रभारी मोहम्मद अकबर ने आज शाम डोंगरगांव विकासखंड के जंगलपुर पहुंचकर नक्सली हिंसा में शहीद जवान पूर्णानंद साहू के परिजनों से मुलाकात की और उन्हें सांत्वना दी साथ ही अकबर ने शहीद जवान के चित्र पर पुष्प अर्पित कर श्रंद्धाजलि दी।आपको बता दे कि, जवान पूर्णानंद साहू बीते 10 फरवरी को बीजापुर के पामेड़ थाना क्षेत्र में नक्सली हिंसा में शहीद हो गए थे।

15-02-2020
तारीख एक दिन एक मनाने के तरीके अनेक, कोई शहीदों को याद कर रहा है तो कोई मां बाप की पूजा और कोई प्यार का इजहार

रायपुर। 14 फरवरी के दिन को रायपुर के युवाओं ने अलग-अलग तरिकों से सेलिब्रेट किया। युवाओं का एक बड़ा तबका इसे प्यार के त्योहार के रूप में मनाता नजर आया। तो वहीं पारंपरिक ख्याल के लोगों ने इसे प्यार के त्यौहार के मुकाबले मातृ पितृ दिवस के रूप में मनाया। वहीं कुछ लोगों ने इसे 1 साल पहले हुए पुलवामा अटैक में शहीद हुए जवानों को श्रद्धांजलि देते हुए शहीद दिवस के रूप में मनाया। त्यौहार  मनाने के अलग-अलग रंग राजधानी में एक साथ नजर आए राजधानी के मरीन ड्राइव में ही मातृ पितृ दिवस मनाया गया। शहीदों को याद करते हुए रक्तदान शिविर लगाया गया। वहीं एक ओर युवाओं का ही एक बड़ा वर्ग ऐसा था जो वैलेंटाइन डे जैसे विदेशी त्योहार के खिलाफ  मातृ पितृ दिवस मनाकर पश्चिमी सभ्यता को हिंदू रीति-रिवाजों के अनुसार टक्कर दे रहे थे। अपने माता पिता को देव तुल्य मानकर उनकी पूजा कर मातृ पितृ दिवस बनाकर हिंदू संस्कृति का अनुसरण कर रहे थे। वहीं कुछ युवा अपने प्यार का इजहार करने के लये तोहफा देकर वैलेंटाइन डे सेलिब्रेट कर रहे थे।

14-02-2020
कैंडल मार्च निकालकर पुलवामा में शहीद हुए जवानों को दी गई श्रद्धांजलि

बीजापुर। जिला मुख्यालय के जयस्तंभ में सीआरपीएफ जवान, पुलिस जवान और नगरवासियों ने पुलवामा आतंकी हमले में शहीद हुए वीर जवानों को श्रद्धांजलि दी गई। जिलावासियों ने सांस्कृतिक भवन से जयस्तंभ तक कैंडल मार्च निकाला।  रैली जयस्तंभ पंहुची जहां शहीद जवानों को श्रद्धांजलि देने के बाद दो मिनट का मौन रखा गया। सीआरपीएफ डीआईजी कोमल सिंह ने कहा कि इस समाज मे आतंकवाद के लिए कोई जगह नहीं है, धर्म की आड़ में आतंकवाद को बढ़ावा देने वाली ताकतों से हिंदुस्तान के सभी लोग मिल कर मुकाबला करेंगे। पुलिस अधीक्षक दिव्यांग पटेल ने शहीदों को याद करते हए कहा शहीदों का बलिदान व्यर्थ नही जाएगा, हमारे जवानों का मनोबल कम नही हुआ है, हम देश के दुश्मनों से हमारे शहीद भाइयों के मौत का बदला लेंगे। इस कार्यक्रम में सीआरपीएफ कमांडेंट विनय चौधरी,अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक मिर्ज़ा ज़ियारत बेग, भाजपा जिला अध्यक्ष श्रीनिवास मुदलियार, जिला पंचायत अध्यक्ष शंकर कुड़ियाम, नगरपालिका अध्यक्ष बेनहुर रावतिया, बीजापुर तहसीलदार टीपी साहू, कोतवाली प्रभारी चंद्र शेखर बारीक, यातायात प्रभारी अनथ राम पैंकरा, बीजापुर के पत्रकार, नगरवासी, सीआरपीएफ के अधिकारी कर्मचारी एवं भारी संख्या मे पुलिस जवान उपस्थित रहे।

 

14-02-2020
कैंडल जलाकर पुलवामा के शहीदों को दी श्रद्धांजलि

रायपुर। पिछले साल आज ही के दिन पुलवामा में आतंकी हमला हुआ था, जिसमें हमने 40 वीर सैनिकों को खोया था। आज उनकी पुण्यतिथि के अवसर पर शहर जिला काँग्रेस कमेटी ने श्रद्धांजलि सभा का आयोजन किया। शहर के अंतर्गत आने वाले सभी ब्लाकों में यह आयोजन किया गया। श्रद्धांजलि सभा का आयोजन बुनकर सोसायटी, राजातालाब, भगत सिंह चौक टिकरापारा, विजय चौक चंगोराभांटा, कटोरा तालाब गार्डन सहित अन्य स्थानों में किया गया। इस मौके पर शहर जिला काँग्रेस कमेटी के अध्यक्ष गिरीश दुबे ने शहीद हुए सभी वीर सैनिकों को नमन किया। उन्होंने कहा की हम उन बहादुर जवानों की वीरता को सलाम करते हैं,जिन्होंने देश की रक्षा के लिए अपने प्राणों की बलिदानी दिया।

इस अवसर पर ब्लाक अध्यक्ष सुनीता शर्मा, प्रशांत ठेंगड़ी, नवीन चंद्राकर,कामरान अंसारी, देवकुमार साहू, मनीराम साहू, बंशी कन्नौजे, श्रीनिवास, भोजकुमारी यदु, आशा चौहान,विक्रांत शिर्के, सुयश शर्मा, अनिल सेन, मल्लिका प्रजापति, भीम यादव, विजय ठाकुर, भारत ठाकुर, मुन्ना मिश्रा,प्रणव ठाकुर, सुजीत चौहान सहित कांग्रेस के कार्यकर्त्ता उपस्थित थे।

 

 

14-02-2020
शहीदों को श्रद्धा सुमन अर्पित किए कृतज्ञ राजधानीवासियों ने, कहा देश के सपूत सीमा पर चौकस है इसलिए हम सुरक्षित है

रायपुर। राजधानीवासियों ने पुलवामा पर हुए आतंकी हमले की बरसी पर वीर शहीदों का स्मरण किया,उनका नमन किया और उन्हें श्रद्धा सुमन अर्पित किए। संगवारी संघर्ष समिति ने मरीन ड्राइव पर शहीदों की याद में श्रद्धांजलि सभा आयोजित की गई। सभा को विश्व हिंदू परिषद के अंतरराष्ट्रीय कोषाध्यक्ष रमेश मोदी व संगवारी संघर्ष समिति के प्रदेश अध्यक्ष राजकुमार राठी ने संबोधित किया। रमेश मोदी ने कहा कि अब भारत बदल चुका है उसका नेतृत्व बदल चुका है और पुलवामा जैसे कायराना हमले का जवाब समय पर दे दिया गया और आगे भी ऐसी कायराना हरकतों का मुंहतोड़ जवाब दे दिया जाएगा। उन्होंने कहा प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ऐसी कायराना हरकतों का मुंहतोड़ जवाब देना जानते है। राजकुमार राठी ने शहीदों का याद कर उन्हें नमन किया। उन्होंने कहा कि हमारे लिए देश पहले है अगर देश है तभी हम है। सभी भारतीयों में देशप्रेम कूट कूट कर भरा है। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री ने जिस तरह पुलवामा आतंकी हमले का जवाब दिया था। उससे सारी दुनिया मे संदेश चला गया है कि भारत एक मजबूत देश है और वो हर हमले का मुंहतोड़ जवाब देना जानता है।

 

14-02-2020
कांग्रेस भवन में पं.श्यामाचरण शुक्ल को पुण्यतिथि पर किया गया नमन

रायपुर। पूर्व मुख्यमंत्री पंडित श्यामाचरण शुक्ल को उनकी 13वीं पुण्यतिथि पर शुक्रवार को कांग्रेस भवन गांधी मैदान में नमन किया गया। उनकी प्रतिमा पर माल्यार्पण कर श्रद्धांजलि दी गई। इस दौरान प्रमुख रूप से सुनिता शर्मा,प्रशांत ठेंगड़ी, नवीन चंद्राकर,श्रीनिवास, केशव पांडे, मुन्ना मिश्रा सहित कार्यकर्ता उपस्थित थे। शहर जिला कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष गिरीश दुबे ने कहा कि पंडित श्यामाचरण शुक्ल ने मध्यप्रदेश में रहते हुए छत्तीसगढ़ के कृषि विकास के लिए कई नहरें बनवाई। प्रदेश के विकास और तरक्की के लिए उन्होंने हमेशा प्रयास किया। शहर जिला कांग्रेस कमेटी के प्रवक्ता बंशी कन्नौजे ने कहा कि पं.श्यामाचरण शुक्ल छत्तीसगढ़ की माटी के सपूत और सहज-सरल व्यक्तित्व के धनी थे। उनकी पुण्यतिथि पर हम सादर नमन करते हैं। एक कर्मठ राजनेता के रूप में छत्तीसगढ़ सहित समूचे मध्यप्रदेश की प्रगति के लिए उनके योगदान को सदैव याद रखा जाएगा। 

 

14-02-2020
राजधानी के युवाओं ने रक्तदान कर पुलवामा के शहीदों की दी श्रद्धांजलि

रायपुर। पुलवामा आतंकी हमले में शहीद हुए जवानों की याद में राजधानी के युवाओं ने रक्तदान कर उनकी शहादत को श्रद्धांजलि दी। राजधानी के तेलीबांधा तालाब के पास रक्तदान शिविर लगाया गया। रक्तदान शिविर सर्व समाज सेवा समिति की ओर से लगाया गया। इस दौरन समिति के सदस्यों ने सभी को रक्तदान के प्रति जागरूक कर उन्हें रक्तदान के महत्व की जानकारी दी। समिति के सदस्य पवन अग्रवाल ने कहा कि भारतीय सैनिक अपनी जान की परवाह किए बिना हमारी रक्षा करते है। भारत के जाबांज सैनिक हमारी रक्षा की खातिर अपने प्राण भी न्योछावर कर देते है। उन्ही वीर जवानों की याद में रक्तदान शिविर का आयोजन कर उन्हें श्रद्धांजलि दी जा रही है। इस दौरान समिति द्वारा शहीद हुए वीर सैनिकों को श्रद्धासुमन अर्पित किए गए।

14-02-2020
पुलवामा हमले के शहीदों को पीएम मोदी ने किया नमन

नई दिल्ली। पुलवामा हमले की पहली बरसी पर पीएम मोदी ने शहीद जवानों को श्रद्धांजलि दी। पीएम मोदी ने कहा कि भारत अपने बहादुर जवानों की शहादत को कभी नहीं भूलेगा। साथ ही उन्होंने कहा कि पुलवामा हमले में जान गंवाने वाले वे असाधारण व्यक्ति थे, जिन्होंने हमारे राष्ट्र की सेवा और रक्षा के लिए अपना जीवन समर्पित कर दिया। बता दें कि पिछले साल 14 फरवरी को जम्मू-कश्मीर राष्ट्रीय राजमार्ग पर सीआरपीएफ का काफिला गुजर रहा था। सामान्य दिन की तरह ही उस दिन भी सीआरपीएफ के वाहनों का काफिला अपनी धुन में जा रहा था। तभी एक कार ने सड़क की दूसरी तरफ से आकर इस काफिले के साथ चल रहे वाहन में टक्‍कर मार दी। इसके साथ ही एक जबरदस्‍त धमाका हुआ। यह आत्मघाती हमला इतना बड़ा था कि मौके पर ही सीआरपीएफ के करीब 42 जवान शहीद हो गए। 

 

14-02-2020
पुलवामा हमले पर राहुल गांधी ने पूछा- किसको हुआ फायदा, कपिल मिश्रा बोले- शर्म करो

नई दिल्ली। पुलवामा में शहीद हुए सीआरपीएफ के 40 जवानों को देश भावभीनी श्रद्धांजलि दे रहा है। इस आतंकी घटना की पहली बरसी पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, गृहमंत्री अमित शाह, रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह सहित कई नेताओं ने शहीदों को नमन किया है। वहीं कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने इस हमले को लेकर मोदी सरकार से तीन सवाल पूछा है। राहुल गांधी ने ट्वीट कर पुलवामा हमले में शहीद हुए सीआरपीएफ के 40 जवानों को श्रद्धांजलि दी। इसके बाद उन्होंने तीन सवाल किए, राहुल के इस ट्वीट पर भाजपा के कई नेताओं ने आपत्ति जताते हुए कांग्रेस पर जोरदार हमला भी किया है। भाजपा नेता कपिल मिश्रा ने राहुल गांधी के ट्वीट को रिट्वीट करते हुए कहा कि शर्म करो राहुल गांधी। पूछते हो पुलवामा हमले से किसका फायदा हुआ? अगर देश ने पूछ लिया कि इंदिरा राजीव की हत्या से किसका फायदा हुआ, फिर क्या बोलोगे? इतनी घटिया राजनीति मत करो शर्म करो। इस आतंकी घटना की पहली बरसी पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ट्वीट किया कि पिछले साल पुलवामा में हुए भीषण हमले में जान गंवाने वाले बहादुर शहीदों को श्रद्धांजलि। वे असाधारण व्यक्ति थे जिन्होंने हमारे राष्ट्र की सेवा और रक्षा के लिए अपना जीवन समर्पित कर दिया। 

 

14-02-2020
पुलवामा हमले की पहली बरसी पर शहीद जवानों को अमित शाह और राजनाथ सिंह ने दी श्रद्धांजलि

नई दिल्ली। पिछले साल आज के दिन यानी 14 फरवरी को दोपहर तीन बजे आतंकी संगठन जैश-ए-मोहम्मद ने पुलवामा जिले में केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल (सीआरपीएफ) के काफिले पर जम्मू-श्रीनगर राष्ट्रीय राजमार्ग पर आत्मघाती हमला किया था। इसमें 40 जवान शहीद हो गए थे। इस आतंकी घटना की पहली बरसी पर गृह मंत्री अमित शाह, रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह, सीआरपीएफ ने शहीदों को श्रद्धांजलि दी है। अमित शाह ने शहीदों को नमन करते हुए कहा कि भारत हमेशा अपने बहादुरों और उनके परिवारों का आभारी रहेगा जिन्होंने मातृभूमि की संप्रभुता और अखंडता के लिए सर्वोच्च बलिदान दिया। उन्होंने ट्वीट कर कहा, 'मैं पुलवामा हमले के शहीदों को श्रद्धांजलि देता हूं। भारत हमेशा अपने बहादुरों और उनके परिवारों का आभारी रहेगा जिन्होंने मातृभूमि की संप्रभुता और अखंडता के लिए सर्वोच्च बलिदान दिया।'

रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने शहीदों को श्रद्धांजलि देते हुए कहा कि भारत उनके बलिदान को कभी नहीं भूल पाएगा। उन्होंने ट्वीट कर कहा, '2019 में आज के दिन पुलवामा (जम्मू-कश्मीर) में हुए नृशंस हमले के दौरान अपने कर्तव्य पथ पर चलते हुए शहीद जवानों को श्रद्धांजलि। भारत उनके बलिदान को कभी भूल नहीं पाएगा। संपूर्ण राष्ट्र आतंकवाद के खिलाफ एकजुट है और हम इस खतरे के खिलाफ अपनी लड़ाई जारी रखने के लिए प्रतिबद्ध हैं।' अपने वीर जवानों को याद करते हुए सीआरपीएफ ने कहा कि हम न भूले हैं और न ही माफ करेंगे। सीआरपीएफ ने ट्वीट करके कहा, 'तुम्हारे शौर्य के गीत, कर्कश शोर में खोए नहीं। गर्व इतना था कि हम देर तक रोए नहीं। हम भूले नहीं हैं, हम माफ नहीं करेंगे। हम अपने भाइयों को सलाम करते हैं जिन्होंने पुलवामा में राष्ट्र की सेवा करते हुए अपने प्राणों की आहुति दी। हम अपने बहादुर शहीदों के परिवारों के साथ मजबूती से खड़े हैं।'

13-02-2020
पुलवामा के शहीदों को श्रद्धांजलि देने हजारों युवाओं ने लगाई दौड़

गुना। पुलवामा में हुए शहीदों को श्रद्धांजलि देने बमोरी से 45 किलोमीटर की दौड़ लगाकर हजारों युवक युवतियां पहुंचें। गुना की फिजिकली एकेडमी टीम गुरुवार को 20 गांव पार करके बमोरी पहुंची। 14 फरवरी 2 से 5 बजे तक शहादत जयंती मनाई जाएगी। इसमें करीबन 20 से 25 प्रस्तुतियां होगी। इसमें हजारों युवा युवतियां भाग लेंगे। 

राकेश किरार की रिपोर्ट

12-02-2020
शहीदों के प्रति कांग्रेस का अपमानजनक राजनीतिक आचरण: भाजपा

रायपुर। भाजपा के प्रदेश प्रवक्ता श्रीचंद सुंदरानी ने शहीदों को श्रद्धांजलि देने प्रदेश सरकार के गृह मंत्री और किसी भी अन्य मंत्री के न पहुँचने को बेहद शर्मनाक और शहीदों के प्रति कांग्रेस के अपमानजनक राजनीतिक आचरण का प्रतीक बताया है। सुंदरानी ने कहा कि प्रदेश सरकार की शहीदों के प्रति उदासीनता और अवहेलना का परिचय इस घटना से साफ-साफ मिल रहा है। श्रीचंद सुंदरानी ने कहा कि माना बटालियन में मंगलवार को आहूत सीआरपीएफ के दो जवानों की शहादत पर श्रद्धांजलि का कार्यक्रम रखा गया था। इस कार्यक्रम में पुलिस प्रशासन के आला अफसर तो मौजूद थे लेकिन प्रदेश के गृहमंत्री या कोई भी अन्य मंत्री इस कार्यक्रम में शामिल नहीं हुए। सीआरपीएफ के ये जवान इस वर्ष की सबसे बड़ी नक्सली वारदात में 10 फरवरी को बीजापुर के पामेड़ थाना क्षेत्र में शहीद हुए थे। सुंदरानी ने कहा कि शहीदों के प्रति श्रद्धा व्यक्त करने में भी प्रदेश सरकार जिस कृपण और उदासीन राजनीतिक चरित्र का परिचय दे रही है,वह शोचनीय है। विडम्बना तो यह है कि प्रदेश के गृहमंत्री को इस पूरे वाकये की जानकारी तक नहीं थी। प्रदेश के गृहमंत्री जिस तरह इस पूरी घटना के बारे में अपनी अनभिज्ञता का प्रदर्शन कर रहे हैं, वह राजनीतिक मिथ्याचार का एक नया परिचय है। प्रदेश के गृहमंत्री यदि अब भी यह कह रहे हैं कि घटना के संबंध में पूरी जानकारी लेकर जाँच के संबंध में निर्णय लिया जायेगा तो यह प्रदेश सरकार और गृह मंत्रालय के निकम्मेपन का निकृष्ट नमूना है। सुंदरानी ने कहा प्रदेश के गृहमंत्री भी अब मिथ्याचार का परिचय दे रहे हैं। इतनी बड़ी नक्सली वारदात को लेकर वे जिस लापरवाही का प्रदर्शन कर रहे हैं, उसे बेहद गंभीर माना जाना चाहिये। यदि प्रदेश के गृह मंत्री इतने संवेदनशील मामले के बारे में भी पूरा ब्यौरा नहीं ले रहे हैं तो फिर वे किस बात के लिये और किस काम के लिये गृह मंत्री बने बैठे हैं? उन्हें तत्काल अपने पद से इस्तीफा दे देना चाहिये। 

 

Advertise, Call Now - +91 76111 07804