GLIBS
30-06-2020
कलेक्टर ने किया नाला-नालियों और पुल-पुलियों का औचक निरीक्षण

दुर्ग। अपर कलेक्टर व निगम आयुक्त प्रकाश कुमार सर्वे ने निगम के नोडल अधिकारी रमाकांत साहू के साथ सुबह वार्ड क्रमांक 60 रिसाली व वार्ड क्रमांक 61 प्रगति नगर क्षेत्रों के संभावित जलभराव वाले नाला-नालियों एवं पुल-पुलियों का सघन निरीक्षण कर निगम के c व उपअभियंता को उचित दिशा निर्देश दिये। इस दौरान निगम आयुक्त द्वारा मातहतों के साथ उल्लेखित वार्डों के आशीष नगर, मैत्री नगर, व्ही.आई.पी. नगर, शक्ति विहार, आजाद मार्केट रिसाली व प्रगति नगर वार्ड के पुल-पुलियों का जायजा लिया गया। हालांकि मानसून की पहली बारिश में रिसाली निगम क्षेत्रों में भयावह जलभराव की स्थिति कहीं नहीं दिखी।

लेकिन पुल-पुलियों में फंसे कचरों झिल्ली, पन्नी, बोरी व पानी के बहाव के साथ पुलियों में फंसे पेड़ पौधों की टहनियों को हटाकर नालियों में पानी के बहाव में उत्पन्न गतिरोध को दूर किया गया। निरीक्षण के दौरान निगम आयुक्त ने स्वास्थ्य अधिकारी को संभावित जलभराव वाले चिन्हांकित पुल-पुलियों व नाला-नालियों का युद्ध स्तर पर सफाई करने के निर्देश दिये है। निरीक्षण के दौरान वाणिज्यिक क्षेत्रों के नालियों में व्यसायियों द्वारा कचरा फेके जाने व अतिक्रमण किये जाने की जानकारी के बीच संबंधितों के विरूद्ध दण्डिनीय कार्यवाही किये जाने के निर्देश निगम आयुक्त ने मातहतों को दिये है। साथ ही साथ बारिश में निगम क्षेत्रों के निचली बस्तियों में जलभराव की आशंका को देखते हुए विशेष सफाई अभियान चलाने के भी निर्देश निगम आयुक्त ने स्वास्थ्य अधिकारी को दिये है। निरीक्षण के दौरान निगम के नोडल अधिकारी रमाकांत साहू, प्रभारी स्वास्थ्य अधिकारी जगरन्नाथ कुश्वाहा व स्वास्थ्य विभाग के जोनल सतीश देवांगन उपस्थित थे।

22-06-2020
जलभराव से मुक्त हुआ राजातालाब : लता सुनील चौधरी

रायपुर। पं.रविशंकर शुक्ल वार्ड राजातालाब में जलभराव से मुक्ति मिली है। वार्ड की पूर्व पार्षद लता सुनील चौधरी ने बताया कि 2015 में इंद्रावती कॉलोनी नाला जर्जर अवस्था में था। इसके कारण लोगों के घरों में 2 से 3 फीट तक पानी व उसके साथ गंदगी भी भर जाती थी। उन्होंने कहा कि वार्डवासियों को इससे निजात दिलाने के लिए इंद्रावती कॉलोनी नाले का निर्माण करवाया गया। इसके कारण विगत 2 वर्षों से जलभराव की समस्या से पूर्णता मुक्ति मिल गई है।
उन्होंने बताया कि रवि नगर से लेकर के.रेड्डी बाड़ा का क्षेत्र भी जलभराव की समस्या ग्रसित था। उस नाले का भी निर्माण मेरे कार्यकाल में हुआ,जिसके कारण वहां पर भी विगत 2 वर्षों से जलभराव नहीं हो रहा है। उन्होंने कहा कि वार्ड में जगह जगह गलियों में सड़कों में नालियों का निर्माण किया गया था,जिसके कारण पानी आसानी से निकल जा रहा है। लता सुनील चौधरी ने कहा कि केवल नालों और नालियों की सफाई नियमित रूप से और मॉनिटरिंग हो तो जलभराव की समस्या भविष्य में भी कभी नहीं होगी। 

 

18-06-2020
महापौर ने ज़ोन कमिश्नरों के दिए निर्देश, सप्ताहभर में जलभराव की समस्या दूर करें

रायपुर/बिलासपुर। शहर में जलभराव को देखते हुए महापौर रामशरण यादव और सभापति शेख नजीरुद्दीन ने नगर निगम के आठों जोन के कमीश्नर इंजिनियर, नगर निगम आयुक्त सहित अन्य अफसरों की बैठक बुलाई। मानसून के दौरान शहर के 20 स्थानों पर पानी भरता है, उसकी जानकारी दी। वहीं शहर से लेकर परिसीमन में आए ग्रामीण क्षेत्र में  जहां-जहां सड़कों पर रास्ते में गड्ढे हैं, उसमें मुरुम पाटने का निर्देश देते हुए इन सभी कार्यो को 7 दिन के भीतर पूरा करने की बात कही है।।दो दिन पहले हुई बारिश में शहर कुछ हिस्सों में पानी भर गया था। इन क्षेत्रों के निरीक्षण के बाद महापौर ने गुरुवार को नगर निगम के विकास भवन में नगर निगम आयुक्त प्रभाकर पांडे, सहित आठों जोन के कमिश्नर की बैठक बुलाई।

इस दौरान महापौर ने जोन कमिश्श्नरों को जानकारी दी कि शहर के विद्यानगर, विनोबा नगर, डीपूपारा, भारतीय नगर, व्यापार विहार, तालापारा, मगरपारा, इंदू चौक, अग्रेसेन चौक, जरहाभाठा, सिटी कोतवाली, हटरी चौक, दयालबंद, तोरवा, सरकंड़ा कपिल नगर और बंगालीपारा सहित अन्य जगहों पर बारिश होते ही जलभराव हो जाता है। उन्होंने जोन कमिश्नर को  रेस्कयू टीम को फावड़ा, गैती, जेसीबी, डंफर, कर्मचारी और ज्यादा पानी भरने पर मड पंप आदि के साथ तैयार रखने के निर्देश दिए। इससे जलभराव की सूचना होते साथ तुरंत वहां जाकर हालात ठीक किए जा सके। महापौर ने सभी जोन कमिश्नरों और इंजीनियरों से कहा परिसीमन में तिफर, सिरगिट्टी और सकरी के अलावा नगर निगम में जुड़े 15 गांव में जहां-जहां गढ्ढे है। वहां रेती, मुरुम और गिट्टी डाल कर उसे तुरंत भरें। ताकि बारिश के बाद इन जगहों पर सड़क दुर्घटनाओं की आशंका पर अंकुश लग सके।

 

16-01-2020
सभी कराए मलेरिया का परीक्षण : पोषण लाल चंद्राकर

बीजापुर। बीजापुर को मलेरिया मुक्त बनाए जाने के लिए जिले में जारी अभियान की कड़ी में स्वास्थ विभाग की टीम गुरुवार को जिला पंचायत कार्यालय पहुंची। जिला पंचायत मुख्य कार्यपालन अधिकारी पोषण लाल चंद्राकर ने स्वयं का मलेरिया परीक्षण कराकर सभी कर्मचारियों को प्रेरित किया। सीईओ ने अपने अधीनस्थ अधिकारी व कर्मचारियों को जानकारी देते हुए कहा कि 15 जनवरी से 14 फरवरी तक मलेरिया माॅस स्क्रीनिंग कार्यक्रम चलाया जा रहा है। मलेरिया मुक्त बीजापुर बनाने के लिए यह आवश्यक है कि जिले के प्रत्येक व्यक्ति को मलेरिया परीक्षण कराना आवश्यक है। इसलिए प्राथमिकता के साथ सभी अधिकारी कर्मचारी अभिायान में अपनी सहभागिता निभाए और अपने आसपास के लोगों को भी जागरूक करें। स्वास्थ अमलों की तरफ से सभी अधिकारी-कर्मचारियों को मलेरिया परीक्षण संपन्न होने के बाद  परिसर में साफ-सफाई व गंदे जलभराव का निरीक्षण करना है।

 

29-09-2019
प्रशासन की लचर रवैये से परेशान नगर वासियों ने किया चक्का जाम

जांजगीर चाम्पा। नैला नगर वासियों ने रविवार को भारी बरसात में हांथ में छाता लिए प्रशासन के लचर रवैये के खिलाफ जम कर नारेबाजी करते हुए चक्का जाम कर दिया। मोहल्लेवासियों ने नाली की गंदगी और जलभराव की समस्या से परेशान होकर, नैला में स्टेशन रोड के मुख्य मार्ग पर चक्का जाम किया। दरसअल मोहल्लेवासियों का कहना है कि गली में व्याप्त गंदगी को लेकर कई बार समस्या से अवगत कराया गया है, लेकिन कोई पहल नहीं होती। गंदगी और जल भराव के कारण मोहल्ले के लोगों का जीना दूभर हो गया है। यही वजह रही कि समस्या के निराकरण नहीं होने से त्रस्त स्थायीय लोगों ने सड़क पर उतरकर अपना गुस्सा जाहिर किया। मुख्यमार्ग में घण्टो चक्काजाम के बाद भी कोई भी जिम्मेदार अधिकारी नहीं पहुंचे।

28-08-2019
नाली को ग्रामीण ने किया अवरुद्ध, घर, स्कूल में हुआ जलभराव, तहसीलदार, पुलिस ने किया हस्तेक्षप

जांजगीर-चापा। नवागढ़ ब्लॉक अंतर्गत ग्राम पंचायत कनस्दा में पीडब्ल्यूडी की ओर से बनाई गई नाली को जाम करने का मामला सामने आया है। यहां खेत में गंदा पानी जाने में करना नाली को जाम कर दिया गया और ग्रामीणों ने जमकर हंगामा किया। मिली जानकारी के अनुसार पीडब्ल्यूडी के द्वारा नाली का निर्माण किया गया था। उचित बहाव न होने से नाली का गंदा पानी कृषक शिवकुमार कश्यप के खेत में गिर रहा था। इसके कारण खेत की फसल को नुकसान हो रहा था। इसे देखकर शिवकुमार ने ना्ली का पानी अपने खेतो मे जाने से रोक दिया। इसके चलते गांव के घरों एवं स्कूल में भारी मात्र मे जल भर गया। इसे देखकर ग्राम पंचायत के सरपंच एवं ग्रामवासी द्वारा नाली के पानी को खेतों मे गिराने की बात कही। इसको शिवकुमार कश्यप ने अस्वीकार किया। इसके कारण सरपंच एवं ग्रामवासी द्वारा उक्त समस्या को लेकर शिवरीनारायण थाना मे सूचना दी गई। थाना प्रभारी एवम तहसीलदार और पटवारी साथ ही साथ समस्त ग्रामवासी भारी संख्या में उपस्थित होकर जाम नाली को खुलवाकर नाली निकासी की उचित व्यवस्था की गई।

27-06-2019
मुंबई में जलभराव से ट्रेनों को आवाजाही में व्यवधान का मुद्दा उठा लोकसभा में 

नई दिल्ली। लोकसभा में गुरुवार को शून्यकाल के दौरान सांसदों ने अपने क्षेत्र की समस्याओं को उठाया।  शिवसेना के श्रीकांत शिंदे ने मुंबई में कई स्थानों पर जलभराव के कारण ट्रेनों की आवाजाही बाधित होने का मुद्दा उठाया और कहा कि जलनिकासी के लिए उचित व्यवस्था की जानी चाहिए। भाजपा की दर्शना जारदोस ने सूरत से दुबई और दूसरे अंतरराष्ट्रीय शहरों के लिए उड़ानों का संचालन शुरू करने की मांग की। 

भाजपा सांसद अपराजिता सारंगी ने स्वास्थ्य सूचकांक से जुड़ी नीति आयोग की रिपोर्ट में ओडिशा की स्थिति खराब होने का मुद्दा लोकसभा उठाया और कहा कि केंद्र सरकार को इसका संज्ञान लेना चाहिए। सदन में शून्यकाल के दौरान भुवनेश्वर से सांसद अपराजिता ने कहा कि हाल ही में स्वास्थ्य सूचकांक से जुड़ी नीति आयोग की रिपोर्ट आई है उसमें ओडिशा सबसे निचले पायदान वाले राज्यों में शामिल है। 
उन्होंने कहा कि राज्य में स्वास्थ्य सेवाओं की स्थिति बहुत दयनीय है और केंद्र को भी इस पर संज्ञान लेना चाहिए तथा स्थिति सुधारने का प्रयास होना चाहिए। भाजपा सांसद ने कहा कि वह केरल और तमिलनाडु जैसे राज्यों की तारीफ करना चाहती हैं जो स्वास्थ्य सूचकांक में सबसे ऊपर है।

 

01-05-2019
कलेक्टर बंसल ने जलाशयों के जलभराव की ली जानकारी

 धमतरी। कलेक्टर रजत बंसल ने आज दोपहर तीन बजे कलेक्टोरेट सभाकक्ष में आयोजित बैठक में जिले के अंतर्गत आने वाले सभी बांधों के जलभराव की जानकारी ली। जलप्रबंध संभाग रूद्री के कार्यपालन अभियंता अजय ठाकुर ने बताया कि रविशंकर जलाशय परियोजना गंगरेल में आज की स्थिति में 20.88 प्रतिशत जलभराव है। इसी प्रकार मुरूमसिल्ली जलाशय में 75.8, दुधावा में 10.6 तथा सोंढूर जलाशय में 17 प्रतिशत पानी उपलब्ध है। उन्होंने बताया कि वर्तमान में गंगरेल जलाशय से 3400 क्यूसेक पानी तथा सोंढूर जलाशय से 326 क्यूसेक पानी रबी फसल और निस्तारी तालाबों को भरने के लिए नहरों के माध्यम से छोड़ा जा रहा है। कार्यपालन अभियंता ने बताया कि धमतरी और बालोद जिले के खेतों एवं 239 तालाबों को भरने के अलावा रायपुर और बलौदाबाजार जिले के लगभग 25 हजार हेक्टेयर क्षेत्र में रबी फसल के लिए गंगरेल जलाशय से पानी दिया जा रहा है। बैठक में कलेक्टर ने विभागीय कार्यों एवं भू-अर्जन प्रकरणों की गहन समीक्षा करते हुए नहर लाइनिंग, स्टॉपडैम निर्माण और पूर्व में स्वीकृत निर्माण कार्यों की जानकारी ली। कुरुद विकासखण्ड में मुख्य नहर के कमांड एरिया से बाहर के सात ग्रामों को लाभान्वित करने के उद्देश्य से बनाई गई सूक्ष्म सिंचाई योजना की समीक्षा करते हुए कलेक्टर ने स्थानीय किसानों को फसल-चक्र परिवर्तन और नगदी फसल लेने के संबंध में प्रोत्साहित कर प्रशिक्षण देने पर जोर दिया। साथ ही जिला स्तर पर विषय विशेषज्ञों की समिति गठित कर ग्रामीणों को समझाइश देने की भी बात कही। बैठक में जल संसाधन विभाग के सभी अनुविभागीय अधिकारी, सहायक अभियंता एवं उप अभियंता उपस्थित थे।

Advertise, Call Now - +91 76111 07804