GLIBS
15-01-2021
नगर निगम जांच दल ने माना पार्किंग घोटाला पूरे 1 वर्ष चला : अजय वर्मा

दुर्ग। दुर्ग नगर निगम बाजार विभाग प्रभारी ऋषभ जैन बाबू से इस्तीफा की मांग भाजपा पार्षद दल आज की है। गौरतलब है कि नगर निगम दुर्ग के दो प्रमुख पार्किंग स्थलों से मुख्य आय होती है। इन दोनों पार्किंग को  बिना ठेका दिए पिछले 1 वर्ष से दुर्ग शहर की जनता से अवैध वसूली होती रही है। इस विषय की जांच की मांग भाजपा पार्षद दल ने आयुक्त से की थी। आयुक्त  ने पार्किंग घोटाले की जांच के लिए जांच दल बनाकर 15 दिन में रिपोर्ट मांगी थी।
नेता प्रतिपक्ष अजय वर्मा ने आगे बताया कि जांच अधिकारी राजेश पांडे कार्यपालन अभियंता एवं प्रकाश थवानी भवन अधिकारी ने जांच पूर्ण कर जो रिपोर्ट जमा की है उसके अनुसार पिछले वर्ष भर तक दुर्ग शहर की जनता से इंदिरा मार्केट एवं बस स्टैंड में पार्किंग की अवैध वसूली हुई है किंतु जांच दल अवैध वसूली करने वाले ठेकेदार का नाम नहीं बता पाए । निगम को हुए नुकसान के लिए दोनों बाजार अधिकारी दुर्गेश गुप्ता एवं थान सिंह यादव को जिम्मेदार बताते हुए प्रकरण को पुलिस विभाग को प्रेषित करने की अनुशंसा की है।

भाजपा पार्षद दल के नेता प्रतिपक्ष अजय वर्मा सहित पार्षद गण गायत्री साहू, काशीराम कोसरे,चंद्रशेखर चंद्राकर, नरेंद्र बंजारे, देवनारायण चंद्राकर, चमेली साहू, लीना देवांगन, मनीष साहू,नरेश तेजवानी, ओम प्रकाश राकेश सेन, पुष्पा वर्मा, शशि साहू, कुमारी साहू एवं हेमा शर्मा ने महापौर से कहा है कि शहर की जनता से हुई अवैध पार्किंग वसूली आपके एक वर्षीय कार्यकाल की सबसे बड़ी उपलब्धि है। भाजपा पार्षद दल ने आगे कहा कि महापौर परिषद के सदस्यों की जिम्मेदारी अपने.अपने विभागों की देखरेख एवं नियंत्रण होता है। चूंकि  महापौर की रुचि निगम कार्य में नहीं है, अतः उनके एमआईसी मेंबर भी उदासीन रहते हैं, निगम में बाजार विभाग में इतना बड़ा पार्किंग घोटाला हुआ है, दुर्ग शहर की जनता के साथ अवैध वसूली एवं ठगी हुई है। अतः महापौर को अपने एमआईसी मेंबर एवं बाजार विभाग प्रभारी ऋषभ जैन से तत्काल इस्तीफा मांगना चाहिए और प्रकरण को पुलिस विभाग के हवाले करना चाहिए ताकि दुर्ग शहर की जनता से हुई अवैध वसूली की राशि जब्त हो सके । भाजपा पार्षद दल ने महापौर को चेतावनी देते हुए कहा कि जब तक शहरवासियों से हुई ठगी की राशि वापस निगम में नहीं आएगी एवं बाजार विभाग प्रभारी का इस्तीफा नहीं लेंगे तब तक हम चुप नहीं बैठेंगे।

 

14-01-2021
अतिक्रमण के खिलाफ नगर निगम की कार्रवाई, शासकीय भूमि को किया गया कब्जा मुक्त

रायपुर। नगर निगम जोन 8 के नगर निवेश विभाग की टीम ने गुरुवार को अतिक्रमण के खिलाफ कार्रवाई की। जोन की टीम ने बड़ा अशोक नगर में सामुदायिक भवन के पास शासकीय नजूल भूमि पर किए गए अतिक्रमण को तोड़ा। जोन कमिश्नर अरुण ध्रुव के नेतृत्व में कार्यपालन अभियंता राकेश गुप्ता, नगर निवेश उपअभियंता रुचिका मिश्रा की उपस्थिति में कार्रवाई की गई। थ्री डी मशीन और मजदूरों की सहायता से शासकीय नजूल भूमि पर लगभग 1000 वर्गफीट में अतिक्रमण कर बनाई गई अवैध बाउंड्रीवाल को तोड़ा गया। बताया गया कि पूर्व में अतिक्रमणकर्ता को जोन 8 के नगर निवेश विभाग ने नोटिस जारी किया था। अतिक्रमण करने वाले नागरिक ने कोई जवाब नहीं दिया। नियमानुसार जोन कमिश्नर ध्रुव ने स्मरण पत्र भी जारी किया। नहीं मानने पर टीम ने कार्रवाई की।

06-01-2021
नगर निगम ने सिकोला बस्ती से हटाया अतिक्रमण, वर्षों से काबिज थे कब्जेधारी

दुर्ग। नगर निगम क्षेत्र अंतर्गत सिकोला बस्ती वार्ड 16 शासकीय नवीन स्कूल के पीछे लखन यादव, राजू यादव एव लक्ष्मण यादव द्वारा शासकीय भूमि पर अवैध रूप से कब्जा कर भैस खटाल बनाकर कब्जा किया गया था। इससे सड़क क्षेत्र प्रभावित हो रहा था। इसकी लंबे समय से शिकायत यहां के रहवासियों द्वारा निगम में की जा रही थी। इसके पश्चात निगम आयुक्त इन्द्रजीत बर्मन के निर्देश पर भवन अधिकारी प्रकाश चन्द्र थावनी, सहायक भवन अधिकारी गिरीश दीवान, नायब तहसीलदार प्रीतम चौहान, उपअभियंता विनोद मांझी के अलावा निगम अतिक्रमण टीम समेत मोहन नगर पुलिस सकील खान, ओमप्रकाश देशमुख, शिव प्रसाद दुबे व पुलिस बल की मौजूदगी में कार्रवाही कर अतिक्रमण मुक्त किया गया । इस आशय की जानकारी देते हुए निगम भवन अधिकारी प्रकाशचन्द थवानी ने बताया कि कुछ लोगों द्वारा स्कूल की जमीन पर शेड बना कर डेयरी संचालित की जा रही थी। वही  कुछ लोगों द्वारा सरकारी जमीन पर कब्जा कर व्यवसाय संचालित किया जा रहा था।

इसकी शिकायत मिलने के पश्चात आज निगम ने कब्जे को हटाते हुए कारवाई की। इसमें लगभग 6 सो मीटर के अंतर्गत सरकारी जमीन को खाली कराया गया है। इस कार्रवाई के दौरान वहां पर रहवासियों से निगम अधिकारियों की जबरदस्त बहस की घटना भी हुई। इस पर भवन अधिकारी ने कहा कि वहां के रहवासियों ने काफी विरोध किया लेकिन निगम ने  सरकारी जमीन को अतिक्रमण मुक्त  करा लिया। वहां पर साई नगर उरला रोड, नहर रोड में विभिन्न व्यक्तियों के द्वारा मकान के बाहर गार्डन, फेंसिंग एवं बाउंड्रीवाल के अलावा ठेला, गुमटी कब्जा को जेसीबी की मदद से हटवाया गया। 

 

02-01-2021
नागरिकों की समस्या के निराकरण के लिए नगर निगम में मेयर हेल्प लाइन नम्बर, महापौर ने किया शुभारंभ

राजनांदगांव। नगर निगम राजनांदगांव द्वारा नागरिकों की समस्या के त्वरित निराकरण के लिये मेयर हेल्प लाइन नम्बर प्रारंभ किया गया,। इसका आज महापौर हेमा देशमुख ने विधिवत शुभारंभ किया। मेयर हेल्प लाइन नम्बर 07744 222214 में नागरिक अपनी मूलभूत समस्या जैसे बिजली पानी, सफाई, आदि से अवगत करा सकते है। मेयर हेल्प लाईन नम्बर के संबंध में महापौर हेमा देशमुख ने बताया कि नगर निगम सीमाक्षेत्र के 51 वार्डो के नागरिकों की सुविधा को ध्यान में रखते हुये मेयर हेल्प लाइन नम्बर 07744 222214 प्रारंभ किया जा रहा है। इसमें नागरिक मूलभूत सुविधा बिजली पानी सफाई के अलावा अतिक्रणमए निर्माण के अलावा शासन द्वारा निगम स्तर पर दी जाने वाली सुविधा जैसे पेंशन, राशन कार्ड, जन्म.मृत्यु प्रमाण पत्र आदि से संबंधित समस्याओं का त्वरित निराकरण किया जायेगा। उन्होंने कहा कि इस संबंध में हमारे कार्यकाल के प्रथम बजट में प्रावधान रखा गया था।

इसका आज क्रियान्वयन किया जा रहा है। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल की मंशानुरूप गढबो नवा छत्तीसगढ के तर्ज पर गढबो नवा राजनांदगांव को लेकर शहर विकास में कार्य किया जायेगा। इसमें नागरिकों की इच्छा अनुसार उनकी सुविधा को ध्यान में रखकर कार्य किया जायेगा।  कार्यक्रम में महापौर एवं निगम आयुक्त चंद्रकांत कौशिक द्वारा सभी पार्षदों को निगम अधिनियम की पुस्तक भेंट की गयी। ताकि वे नगर निगम की कार्य प्रणाली से अवगत हो सके। इस अवसर पर नेता प्रतिपक्ष किशुन यदु, महापौर परिषद के प्रभारी सदस्य मुधकर वंजारी, सतीश मसीह, संतोष पिल्ले, भागचंद साहू, राजेश गुप्ता चंपू,गणेश पवार आदि उपस्थित थे।

 

01-01-2021
कौशल बिल्डिंकॉन पर नगर निगम ने की बड़ी कार्रवाई, 4 मंजिला बिल्डिंग की सील

भिलाई। कौशल बिल्डिंकॉन पर शुक्रवार को दूसरी बड़ी कार्रवाई की गई है। रेरा में पंजीयन कराए बिना अवैध प्लाटिंग करने के उद्देश्य से प्रचार करने का मामला सामने आया है। इसकी सूचना मिलने पर कोहका कुरूद रोड स्थित 4 मंजिला बिल्डिंग को सील करने की कार्रवाई की गई है। प्रचार एवं अवैध प्लाटिंग की गतिविधियां कार्यालय से संचालित की जा रही थी। आज जोन आयुक्त सुनील अग्रहरि की टीम ने कोहका कुरूद रोड पहुंचकर कौशल बिल्डिंकॉन के ऑफिस को सील करने की कार्रवाई की। इस दौरान कुछ लोग शासकीय कार्य में अवरोध उत्पन्न करने की कोशिश कर रहे थे, जिन्हें सहायक अभियंता अनिल सिंह ने समझाइश देकर कार्यवाही पूर्ण कराया। जोन क्रमांक 1 के सहायक अभियंता अनिल सिंह ने जानकारी देते हुए बताया कि कौशल बिल्डिंकॉन के संचालक को उनके पते पर दो बार नोटिस भेजा गया, तीसरी बार उनके पते पर नोटिस चस्पा किया गया। परंतु संचालक के द्वारा पत्र का कोई भी जवाब अवैध प्लाटिंग के संबंध में प्रस्तुत नहीं किया गया,जिस पर आज दल बल के साथ पहुंचकर कौशल बिल्डकॉन के दफ्तर को सील करने की कार्यवाही की गई।

सिंह ने बताया कि कौशल कंस्ट्रक्शन के द्वारा ब्रोशर के माध्यम से अवैध प्लाटिंग को लेकर विज्ञापन प्रकाशित कर प्रचार-प्रसार किया जा रहा था। रेरा में भी पंजीयन नहीं कराया गया है, जिससे छग भू राजस्व संहिता 1959, छग नगर पालिक निगम तथा नगरपालिका (कॉलोनाइजर का रजिस्ट्रीकरण निरबंधन तथा शर्तें) नियम 2013, छत्तीसगढ़ नगर तथा ग्राम निवेश अधिनियम 1973 का उल्लंघन है। शासकीय नियमों का उल्लंघन करते हुए अवैध कॉलोनी विकसित करने के उद्देश्य से प्रचार किया जा रहा था। कौशल कंस्ट्रक्शन को पत्र के माध्यम से सूचित कर पर्याप्त अवसर देने के बाद भी जवाब प्रस्तुत नहीं करने के कारण उनके दफ्तर को सील करने की कार्रवाई की गई है। निगम आयुक्त  ऋतुराज रघुवंशी ने अवैध प्लाटिंग एवं अवैध निर्माण पर सख्त कार्रवाई करने के निर्देश जोन आयुक्तों को दिए हुए हैं। गौरतलब है कि कुछ दिन पूर्व जुनवानी रोड में निर्माणाधीन बीएसबीके पेट्रोल पंप के सामने अवैध प्लाटिंग के विक्रय के लिए कौशल बिल्डकॉन द्वारा स्टॉल लगाया था। उपायुक्त अशोक द्विवेदी के निर्देश पर सामग्रियों को निगम ने जब्ती किया था। इसमें लेंस युक्त मशीन जो कि जमीन समतलीकरण के लिए उपयोग की जाती है। स्टॉप मशीन, लेआउट प्लान (ब्रोशर), टोटल स्टेशन, ड्राई पोर्ट जैसी सामग्रियां शामिल थी। अवैध प्लाटिंग पर लगाम कसने के लिए निगम द्वारा लगातार कार्रवाई की जा रही है। कई लोगों पर एफआईआर दर्ज हो चुकी है। आज की कार्यवाही में भवन अनुज्ञा शाखा के उप अभियंता सिद्धार्थ साहू, जोन क्रमांक 1 के सहायक राजस्व अधिकारी शरद दुबे, दिनेश भिंडे एवं पुलिस प्रशासन सहित निगम के अन्य अधिकारी/कर्मचारी मौजूद रहे।

 

25-12-2020
वैक्सीनेशन के लिए गठित टास्क फोर्स समिति की बैठक, टीकाकरण के संबंध में हुई चर्चा

राजनांदगांव। नगर निगम के आयुक्त कक्ष में आयुक्त चंद्रकांत कौशिक की अध्यक्षता में कोविड-19 वैक्सीनेशन के सुचारू रूप से संपादन करने के लिए गठित टास्क फोर्स समिति के सदस्यों की बैठक हुई। बैठक में शासन से प्राप्त मार्गदर्शन के अनुसार वैक्सीनेशन के लिए कार्यवाही करने का निर्णय लिया गया। आयुक्त कौशिक ने कोविड-19 वैक्सीनेशन के संबंध में शासन से प्राप्त मार्गदर्शन-निर्देश अनुसार नगर निगम सीमा क्षेत्र में निवासरत परिवारों को कोविड-19 टीकाकरण लगाए जाने के संबंध में चर्चा की गई। नोडल अधिकारी डॉ. कुमरे ने अवगत कराया कि शासन के निर्देशानुसार कोविड-19 वैक्सीनेशन 3 फेस में लगाया जाना है, जिसमें प्राथमिकता के तौर पर 1. स्वास्थ्यकर्मी, आंगनबाड़ी, मितानित 2. पुलिसकर्मी, नगर निगम कर्मी, होमगार्ड एवं 3. 60 या अधिक उम्र के ब्लड प्रेशर और मधुमेह रोगियों को होगी।

वैक्सीनेशन को-विन वेबसाइट पर पंजीकृत लाभाथिर्यों को लगाया जाना है। इसके तहत 1 दिन में 100 लाभार्थियों को कोविड-19 वैक्सीन लगाया जाएगा। डॉ. कुमरे ने यह जानकारी दी गई है कि शहर स्तर पर वैक्सीन लगाए जाने की समस्त तैयारियां शासन निर्देशानुसार पूर्ण कर ली गई है। आयुक्त कौशिक ने नगर निगम सीमा क्षेत्र के लाभार्थियों के लिए कोविड-19 वैक्सीनेशन के लिए 4 स्थल गांधी सभागृह, पद्म श्री गोविंदराम निर्मलकर आडिटोरियम, सीडीएस लखोली स्कूल और शांतिनगर मंगल भवन शासकीय मुद्रनालय के पीछे का चयन किया गया है। यहां पर कोविड-19 टीकाकरण लगाया जाएगा। बैठक के अंत मेें सदस्यों ने मास्क का उपयोग करने, सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करने, समय समय पर हाथ धोने शपथ लेते हुए लोगों को भी इसके लिए प्रेरित करने का संकल्प लिया गया। बैठक मेें नोडल अधिकारी डॉ. रोशन कुमार, चिकित्सा अधिकरी रीना ठाकुर, सीडीपीओ आईसीडीएस, अनामिका बिश्वास, सीपीएम (एनएचएम) जिला चिकित्सालय, राजनांदगांव सहित नगर निगम के कार्यपालन अभियंता दीपक जोशी व स्वास्थ्य अधिकारी अजय यादव उपस्थित थे।

 

22-12-2020
सेवानिवृत्त होने पर नबी खान और मोतीराम को निगम कार्यालय में दी गई विदाई

राजनांदगांव। नगर निगम के आयुक्त कक्ष में आयोजित एक संक्षिप्त कार्यक्रम में रैनबसेरा में कार्यरत नबी खान व जल विभाग में कार्यरत मोतीराम को सेवानिवृत्त होने पर आयुक्त चंद्रकांत कौशिक की उपस्थिति में विदाई दी गई। कार्यक्रम में आयुक्त कौशिक द्वारा सेवानिवृत्त कर्मचारी नबी खान एवं मोतीराम को माला पहनाकर, शाल, श्रीफल व स्मृति चिन्ह से सम्मानित किया गया। नबी खान को 1,83,859.00 रूपये व मोतीराम को 79,296.00 रूपये  का अवकाश नगदीकरण का चेक दिया गया। आयुक्त कौशिक ने इस अवसर पर कहा कि खान एवं मोतीराम लम्बे समय तक नगर निगम मेें सेवाएं देकर आज सेवानिवृत्त हो रहे हैं। उन्होंने कहा कि इनके द्वारा कुशलता पूर्वक अपने दायित्वों का निर्वहन किया गया, इससे हमें सीख लेकर कार्य करना है और इनके अनुभव का लाभ लेना है। मैं इनके उज्जवल भविष्य की कामना करता हूॅ। उन्होंने इनके पेंशन सहित अन्य प्रकरणों पर अतिशीघ्र कार्यवाही करने संबंधित अधिकारी को निर्देशित किये ताकि समय पर इनको इसका लाभ मिल सके। कार्यक्रम में आभार प्रदर्शन उपायुक्त  सुदेश सिंह ने एवं संचालन विधि लिपिक प्रकाश साहू ने किया। इस अवसर पर कार्यपालन अभियंता  यूके रामटेके, समाज कल्याण अधिकारी भूपेश वाडेकर, स्थापना प्रभारी  आरबी तिवारी, कार्यालय अधीक्षक अशोक चौबे सहित जल व लोककर्म विभाग के प्रमुख उपस्थित थे।

 

17-12-2020
निगम क्षेत्र में 18 और 21 दिसंबर को नहीं बिकेगा मांस-मटन,आदेश के उल्लंघन पर जोन अधिकारियों पर होगी कार्रवाई

रायपुर। छत्तीसगढ शासन के पर्यावरण एवं नगरीय विकास विभाग के आदेश के परिपालन में नगर निगम के स्वास्थ्य विभाग ने सभी 70 वार्डों  के पशुवध गृहों,मांस-मटन विक्रय केन्द्रों को बंद रखने का आदेश दिया है। गुरू घासीदास जयंती 18 दिसंबर और संत तारण तरण जयंती 21 दिसंबर को मांस-मटन की दुकानें बंद रखी जाएगी। आदेश का उल्लघन करने पर निगम स्वास्थ्य विभाग की ओर से तत्काल मांस-मटन जब्त किया जाएगा। संबंधित दुकानदार व व्यक्ति के खिलाफ नियमानुसार कड़ी कानूनी कार्रवाई की जाएगी।
नगर निगम के स्वास्थ्य अधिकारी विजय पाण्डेय ने निगम के समस्त जोन स्वास्थ्य अधिकारियों और जोन स्वच्छता निरीक्षकों को दोनों दिवसों पर अपने-अपने क्षेत्रों में दिनभर निगरानी रखने के निर्देश दिए हैं। नगर निगम आयुक्त सौरभ कुमार ने स्पष्ट चेतावनी दी है कि दोनों दिवसों में निगम क्षेत्र में कही भी प्रतिबंध के बावजूद मांस-मटन की कोई भी दुकान खुली मिली तो उक्त क्षेत्र से संबंधित जोन कमिश्नर और जोन स्वास्थ्य अधिकारी पर कड़ी अनुशासनात्मक कार्रवाई की जाएगी।

 

16-12-2020
अवैध प्लाटिंग पर नगर निगम ने लगाई रोक, मुरुम से बनाए रास्ते को तोड़ा

रायपुर। लगभग ढाई एकड़ निजी भूमि में अवैध प्लाटिंग पर नगर निगम ने रोक लगाईं है।निगम टीम ने भाठागांव काठाडीह मार्ग के समीप 2 स्थानों पर लगभग ढाई एकड़ निजी भूमि में अभियान चलाकर अवैध प्लाटिंग पर कार्रवाई की है। निगम की टीम ने निजी भूमि में बनाए गए मुरम रोड को थ्रीडी से हटाया। जोन 6 कमिश्नर शर्मा ने बताया कि जोन 6 के तहत भाठागांव काठाडीह मार्ग के समीप 2 स्थानों पर निजी भूमि पर अवैध प्लाटिंग पर कार्रवाई की है। निजी भूमि के वास्तविक भूमि स्वामी के बारे में जानकारी के लिए तहसीलदार को पत्र लिखा गया। जोन कमिश्नर ने बताया कि तहसील कार्यालय से वास्तविक भूमि स्वामी की जानकारी मिलते ही निगम अधिनियम के प्रावधान के तहत संबंधित भूमि स्वामी अवैध प्लाटिंगकर्ता पर कानूनी कार्यवाही की जाएगी। संबंधित पुलिस थाना में एफआईआर दर्ज करवाई जाएगी।

 

Advertise, Call Now - +91 76111 07804